जीवन को आनन्दमय बनाने के लिए कुछ सरल सुझाव दीजिएँ?...


user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

2:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है जीवन को आनंदमय बनाने के लिए कुछ सरल सुझाव दीजिए हां जी सबसे पहले तो मैं आपको यह कहना चाहूंगा कि जीवन को अगर आनंद में बनाना है तो पहला रूल अपनाई है कि आपको मेडिटेशन करना है और योगा करना है दिमाग शांत रहेगा दूसरी बात यह करना है कि आपके जो भी रिश्ते में लोग हैं चाहे आपकी पत्नी हो पति हो बेटे हो बच्चे हो मां बाप को जो भी व्यक्ति जो जैसा है उसे उसे रुक रुक ना करें अगर रुक तो करनी है तो कुछ ऐसा समझा कर करें कि वह चीज हमको भी समझ में आए अर्थात कि जो व्यक्ति जैसा है जैसा उसका बिहेवियर है जैसी उसकी प्रवृत्ति है उसके साथ उसे स्वीकार करें आपका जीवन आनंद में होगा क्योंकि जब आप किसी को उस प्रकार स्वीकार करते हैं तो आप जो चाहते हैं उसी प्रकार लोग भी आपको स्वीकार करेंगे और आपका जीवन आनंद में रहे तू जीतू तीन चीजें हैं जिससे आपका जीवन आनंद में रहेगा और परोपकार की भावना रखें शिष्टाचार रखें लोगों को सुख कैसे देना है मोदी के लोगों का ध्यान रखें इस प्रकृति का ध्यान रखिए पेड़ पौधे भी बात करते हैं आप अगर अपनी श्वास को पिक महसूस करेंगे आपकी दिल की धड़कन को महसूस करेंगे पूरी बॉडी में कहां-कहां क्या-क्या प्रतिक्रियाएं हो रही है अब सब महसूस करेंगे आप आनंद में रहे और आनंद में रहने के लिए सबसे पहले अब आपको अपने आपको पहचानना होगा आप क्या है आपकी योग्यता है क्या है आपके नेगेटिव प्वाइंट क्या है आपके पॉजिटिव प्वाइंट क्या है आप को समझाना पड़ेगा उसके बाद जो मैंने बताया सारी चीजें कर पाएंगे तो सबसे पहले अपने आप को जानी है धन्यवाद

aapka sawaal hai jeevan ko anandamay banane ke liye kuch saral sujhaav dijiye haan ji sabse pehle toh main aapko yah kehna chahunga ki jeevan ko agar anand me banana hai toh pehla rule apnai hai ki aapko meditation karna hai aur yoga karna hai dimag shaant rahega dusri baat yah karna hai ki aapke jo bhi rishte me log hain chahen aapki patni ho pati ho bete ho bacche ho maa baap ko jo bhi vyakti jo jaisa hai use use ruk ruk na kare agar ruk toh karni hai toh kuch aisa samjha kar kare ki vaah cheez hamko bhi samajh me aaye arthat ki jo vyakti jaisa hai jaisa uska behaviour hai jaisi uski pravritti hai uske saath use sweekar kare aapka jeevan anand me hoga kyonki jab aap kisi ko us prakar sweekar karte hain toh aap jo chahte hain usi prakar log bhi aapko sweekar karenge aur aapka jeevan anand me rahe tu jeetu teen cheezen hain jisse aapka jeevan anand me rahega aur paropkaar ki bhavna rakhen shishtachar rakhen logo ko sukh kaise dena hai modi ke logo ka dhyan rakhen is prakriti ka dhyan rakhiye ped paudhe bhi baat karte hain aap agar apni swas ko pic mehsus karenge aapki dil ki dhadkan ko mehsus karenge puri body me kaha kaha kya kya pratikriyaen ho rahi hai ab sab mehsus karenge aap anand me rahe aur anand me rehne ke liye sabse pehle ab aapko apne aapko pahachanana hoga aap kya hai aapki yogyata hai kya hai aapke Negative point kya hai aapke positive point kya hai aap ko samajhana padega uske baad jo maine bataya saari cheezen kar payenge toh sabse pehle apne aap ko jani hai dhanyavad

आपका सवाल है जीवन को आनंदमय बनाने के लिए कुछ सरल सुझाव दीजिए हां जी सबसे पहले तो मैं आपको

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  33
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!