क्या यह सच है कि कुछ लोग आपसे नफरत सिर्फ़ इसलिए करते हैं क्योंकि बाक़ी लोग आपको बहुत पसंद करते हैं?...


user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

0:30
Play

Likes  85  Dislikes    views  2531
WhatsApp_icon
26 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कहा कि क्या यह सच है कि कुछ लोग आपसे नफरत सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग आपको बहुत पसंद करते हैं देखिए हम सबके लिए एक समान अपने सिद्धांतों पर चलने वाले सब की सेवा करने वाली शक्ति आधी रात 4:00 एम यानी मन से धन से सेवा से जैसे संभव हम हमेशा तत्पर रहते हैं किसी के भी काम को यह सोचकर करते हैं अपना काम है और बेहतर तरीके से करें बिना किसी लोग के बिना किसी लालच के बिना किसी स्वार्थ के निष्काम भाव से कुछ लोगों का हमारी सेवा भाव से या सहयोग से काम बन जाता है वह स्वार्थ परक निकल जाती वह लालची निकल जाते हैं दगाबाज निकल जाते तो बताइए कि हमारा क्या दोष है अपनी सीमा शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग के क्षेत्र में जैसे लेकिन झूठा आश्वासन नदिया ना देंगे संभावना जताते के प्रयासों से किसी का जीवन बन जाए ऐसे हालात में अगर कोई हमारे से स्वार्थ सिद्धि करने की कामना करता है जो से लगता कि हम नहीं करेंगे तो वह धोखा देना शुरू कर देते हैं दगा दे देते हैं उनकी निगाह में हम बुरे हो जाते हैं इसलिए उनसे ईर्ष्या करते हैं नफरत करते हैं घृणा करते हैं आलोचना करते बुराई करते हैं हम क्या कर सकते हैं हम अच्छा कर रहे थे अच्छा कर रहे हैं अच्छा करेंगे यह अलग बात है कि कुछ लोग अच्छा मानते हैं कि उनका बड़प्पन है यह उनकी सब जनता है यह उनकी महानता की जो वह हमारी कृतियों को छा समझते हैं या इस लायक मानते हैं और हमें सम्मान देते हैं जो नहीं मानते हैं हम उनको भी करना कि निगाह से नहीं देखते कि उनके अपने कर्मों में क्यों ऐसा मानती

aapne kaha ki kya yah sach hai ki kuch log aapse nafrat sirf isliye karte hain kyonki baki log aapko bahut pasand karte hain dekhiye hum sabke liye ek saman apne siddhanto par chalne waale sab ki seva karne wali shakti aadhi raat 4 00 M yani man se dhan se seva se jaise sambhav hum hamesha tatpar rehte hain kisi ke bhi kaam ko yah sochkar karte hain apna kaam hai aur behtar tarike se kare bina kisi log ke bina kisi lalach ke bina kisi swarth ke nishkam bhav se kuch logo ka hamari seva bhav se ya sahyog se kaam ban jata hai vaah swarth parak nikal jaati vaah lalchi nikal jaate hain dagabaaz nikal jaate toh bataiye ki hamara kya dosh hai apni seema shiksha ke kshetra me sahyog ke kshetra me jaise lekin jhutha ashwasan nadiya na denge sambhavna jatate ke prayaso se kisi ka jeevan ban jaaye aise haalaat me agar koi hamare se swarth siddhi karne ki kamna karta hai jo se lagta ki hum nahi karenge toh vaah dhokha dena shuru kar dete hain daga de dete hain unki nigah me hum bure ho jaate hain isliye unse irshya karte hain nafrat karte hain ghrina karte hain aalochana karte burayi karte hain hum kya kar sakte hain hum accha kar rahe the accha kar rahe hain accha karenge yah alag baat hai ki kuch log accha maante hain ki unka badappan hai yah unki sab janta hai yah unki mahanata ki jo vaah hamari kritiyon ko cha samajhte hain ya is layak maante hain aur hamein sammaan dete hain jo nahi maante hain hum unko bhi karna ki nigah se nahi dekhte ki unke apne karmon me kyon aisa maanati

आपने कहा कि क्या यह सच है कि कुछ लोग आपसे नफरत सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग आपको

Romanized Version
Likes  462  Dislikes    views  8413
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:55
Play

Likes  149  Dislikes    views  4957
WhatsApp_icon
user

DR. MANISH

MULTI TASKER & DR.M.D (A.M.), B-PHARMA, PGDM-M

0:29
Play

Likes  77  Dislikes    views  725
WhatsApp_icon
user

Ankitaa17

Fitness Coach

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे जिंदगी में जब भी आप आगे बढ़ेंगे बहुत से लोग होंगे जो आपको पीछे खींचना चाहेंगे या आपकी तरक्की को देखना नहीं चाहेंगे आप के आस पास के ही लोग होंगे आपको पता भी नहीं होगा यह तो सच है कि किसी को आगे बढ़ता हुआ देख लोग जलते हैं और उस जलन की भावना की वजह से ही वह आपसे अंदर ही अंदर नफरत करने लगते हैं तो इस चीज में कोई शक नहीं है जहां पर आप आगे बढ़ते हैं अपनी जिंदगी में कुछ अच्छा करते हैं वहीं पर आपके आसपास के लोग हैं आपसे जलते हैं जलन की भावना अपने अंदर पनपने देते हैं वह इस चीज को नहीं रोक सकते क्योंकि यह जो है यह एक नॉर्मल भेजा है यह है जिसमें एक दूसरे से आगे बढ़ने की होड़ लगी रहती है और यदि कोई आगे निकल जाए तो तकलीफ होती है

dekhe zindagi me jab bhi aap aage badhenge bahut se log honge jo aapko peeche khinchana chahenge ya aapki tarakki ko dekhna nahi chahenge aap ke aas paas ke hi log honge aapko pata bhi nahi hoga yah toh sach hai ki kisi ko aage badhta hua dekh log jalte hain aur us jalan ki bhavna ki wajah se hi vaah aapse andar hi andar nafrat karne lagte hain toh is cheez me koi shak nahi hai jaha par aap aage badhte hain apni zindagi me kuch accha karte hain wahi par aapke aaspass ke log hain aapse jalte hain jalan ki bhavna apne andar panapne dete hain vaah is cheez ko nahi rok sakte kyonki yah jo hai yah ek normal bheja hai yah hai jisme ek dusre se aage badhne ki hod lagi rehti hai aur yadi koi aage nikal jaaye toh takleef hoti hai

देखे जिंदगी में जब भी आप आगे बढ़ेंगे बहुत से लोग होंगे जो आपको पीछे खींचना चाहेंगे या आपकी

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  129  Dislikes    views  3497
WhatsApp_icon
user

Pramod Kushwaha

famous Motivational Guru N Painter

0:55
Play

Likes  22  Dislikes    views  340
WhatsApp_icon
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां मेरे हिसाब से यह बात बिल्कुल सही है कि कुछ लोग हमसे नफरत इसीलिए करते हैं क्योंकि हमें बाकी लोग बहुत प्यार करते हैं तो कोई दिक्कत नहीं है इसमें आप भी जो लोग आपको प्यार करते हैं उन पर फोकस करें और जो नफरत करते हो ना जानू देखकर कि यह तो इंसान का नीचे है जैसे प्रकृति में दिन और रात है अच्छा बुरा है वैसे हर इंसान के अंदर भी कुछ अच्छाइयां हैं कुछ बुराइयां हैं जो लोग अपने पास जो है उसको देख कर खुश होते हैं कि मुझे इतने सारे लोग प्यार करते हैं वह खुश रहते हैं और जो दूसरों के लिए नफरत पालते हैं जो यह देखते हैं कि दूसरों के पास इतना कुछ और मेरे पास नहीं जाते हैं

ji haan mere hisab se yah baat bilkul sahi hai ki kuch log humse nafrat isliye karte hain kyonki hamein baki log bahut pyar karte hain toh koi dikkat nahi hai isme aap bhi jo log aapko pyar karte hain un par focus kare aur jo nafrat karte ho na janu dekhkar ki yah toh insaan ka niche hai jaise prakriti mein din aur raat hai accha bura hai waise har insaan ke andar bhi kuch achaiya hain kuch buraiyan hain jo log apne paas jo hai usko dekh kar khush hote hain ki mujhe itne saare log pyar karte hain vaah khush rehte hain aur jo dusro ke liye nafrat palate hain jo yah dekhte hain ki dusro ke paas itna kuch aur mere paas nahi jaate hain

जी हां मेरे हिसाब से यह बात बिल्कुल सही है कि कुछ लोग हमसे नफरत इसीलिए करते हैं क्योंकि हम

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  393
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या यह सच है कि कुछ लोग आपसे नफरत से इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग को पसंद करते हैं आपको पसंद करते हैं कैसे सब लोग पसंद करते क्यों पसंद करें इसमें ऐसा क्या है जो उससे ज्यादा पसंद कर रहे हैं उनको खुद को पसंद करें या ना करें लेकिन सामने वाले से लगता है कि नशे से दूर भी रहना चाहिए और अपनी बात हो सके तब तक पता नहीं चलना चाहिए यह ज्यादा बेटर है और उनसे दूरी ही बनाए रखें क्योंकि ऐसे इंसान लाइफ में अगर टपक टपक टपक दादा करता है आपका दिन शुभ हो धन्यवाद

kya yah sach hai ki kuch log aapse nafrat se isliye karte hain kyonki baki log ko pasand karte hain aapko pasand karte hain kaise sab log pasand karte kyon pasand kare isme aisa kya hai jo usse zyada pasand kar rahe hain unko khud ko pasand kare ya na kare lekin saamne waale se lagta hai ki nashe se dur bhi rehna chahiye aur apni baat ho sake tab tak pata nahi chalna chahiye yah zyada better hai aur unse doori hi banaye rakhen kyonki aise insaan life mein agar tapak tapak tapak dada karta hai aapka din shubha ho dhanyavad

क्या यह सच है कि कुछ लोग आपसे नफरत से इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग को पसंद करते हैं आपक

Romanized Version
Likes  260  Dislikes    views  4319
WhatsApp_icon
user

Loveleena Singh

Rehabilitation Psychologist

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं आप ऐसे नहीं बोल सकते हो क्योंकि बच्चे अपने अपनी पर्सनल बात नहीं कर सकते कि मैं ठीक है नहीं तो आप कुछ मत उनको कि आप उनको आना चाहो या ना चाहो या पर बढ़ाना

nahi aap aise nahi bol sakte ho kyonki bacche apne apni personal baat nahi kar sakte ki main theek hai nahi toh aap kuch mat unko ki aap unko aana chaho ya na chaho ya par badhana

नहीं आप ऐसे नहीं बोल सकते हो क्योंकि बच्चे अपने अपनी पर्सनल बात नहीं कर सकते कि मैं ठीक है

Romanized Version
Likes  39  Dislikes    views  420
WhatsApp_icon
user

Akshat Chowdhury

Clinical Psychologist

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मतलब क्या हो सकते कई लोग भी होते हैं उनको यह ऊपर जाना है

matlab kya ho sakte kai log bhi hote hain unko yah upar jana hai

मतलब क्या हो सकते कई लोग भी होते हैं उनको यह ऊपर जाना है

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  525
WhatsApp_icon
user

Virendra Singh

Public figure

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल आपका कहना सही है कुछ लोग हमसे इसलिए नफरत करने लगते हैं कि दूसरे कई लोग हमें प्यार करने लगते हैं तो जिन लोगों में एक ही जगह भावना होती हमसे चेक नहीं लगते हैं क्योंकि दूसरे लोग हमें पसंद करते हैं तो बिल्कुल सही कहना है

bilkul aapka kehna sahi hai kuch log humse isliye nafrat karne lagte hain ki dusre kai log hamein pyar karne lagte hain toh jin logo mein ek hi jagah bhavna hoti humse check nahi lagte hain kyonki dusre log hamein pasand karte hain toh bilkul sahi kehna hai

बिल्कुल आपका कहना सही है कुछ लोग हमसे इसलिए नफरत करने लगते हैं कि दूसरे कई लोग हमें प्यार

Romanized Version
Likes  124  Dislikes    views  746
WhatsApp_icon
user

Indu Nara

Psychologist and Research scholar

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो हां बिल्कुल आपका अंदाजा बिल्कुल सही है कि आज की दुनिया में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिनका अपनी जिंदगी में ध्यान कम होता है वह हमेशा उन लोगों से अपनी खुशियों से कम खुश होते हैं अपने दुखों से कम दुखी होते हैं लेकिन दूसरे के सुखों से ज्यादा दुखी होते हैं कि आज की दुनिया में जो लोग बहुत आकर्षक हैं उनको बहुत तारीफ करते हैं उनको पसंद करते हैं तो बाकी के लोग सिर्फ और सिर्फ क्वालिटी की वजह से उनसे चढ़ना शुरू कर देते हैं बिल्कुल सही बात है लेकिन हमें अगर आप उन लोगों में से एक हैं जिनसे दुनिया अगर ऐसे चल रही है बिल्कुल भी आप परेशान ना हो क्योंकि ऐसे लोगों के चढ़ने से कोई फर्क नहीं पड़ता और जो लोग आपके पीछे होते हैं वही ऐसे चढ़ते हैं जिनमें हीन भावना होती है ऐसे लोगों से आप कभी भी दोस्ती या कुछ अच्छा तक मत करिए आप उनसे दूर रहिए और अपनी जिंदगी में जैसे हैं वैसे ही रही है क्योंकि हमारी जिंदगी में इन सब चीजों से कुछ खास फर्क नहीं पड़ता अगर कोई चल रहा है तो उसे छोड़ने दीजिए आप अपनी जिंदगी में बेहतर करते रहिए आपको घमंड करने की भी जरूरत नहीं है इस बात से कि अगर आपको सब लोग पसंद कर रहे हैं या आपकी तारीफ कर रहे हैं तो इन चीजों से कभी घमंड भी ना करें आप डाउन टू अर्थ ही रहे बाकी जो लोग आपसे बिना आपको जाने पहचाने आप से चल रहे हैं ऐसा भी होगा कि आपकी अच्छाइयों को समझेंगे आपकी अगली 30 को समझेंगे और शायद आपको पसंद भी करेंगे

hello haan bilkul aapka andaja bilkul sahi hai ki aaj ki duniya mein bahut saare aise log hain jinka apni zindagi mein dhyan kam hota hai vaah hamesha un logo se apni khushiyon se kam khush hote hain apne dukhon se kam dukhi hote hain lekin dusre ke sukho se zyada dukhi hote hain ki aaj ki duniya mein jo log bahut aakarshak hain unko bahut tareef karte hain unko pasand karte hain toh baki ke log sirf aur sirf quality ki wajah se unse chadhna shuru kar dete hain bilkul sahi baat hai lekin hamein agar aap un logo mein se ek hain jinse duniya agar aise chal rahi hai bilkul bhi aap pareshan na ho kyonki aise logo ke chadhne se koi fark nahi padta aur jo log aapke peeche hote hain wahi aise chadhte hain jinmein heen bhavna hoti hai aise logo se aap kabhi bhi dosti ya kuch accha tak mat kariye aap unse dur rahiye aur apni zindagi mein jaise hain waise hi rahi hai kyonki hamari zindagi mein in sab chijon se kuch khaas fark nahi padta agar koi chal raha hai toh use chodne dijiye aap apni zindagi mein behtar karte rahiye aapko ghamand karne ki bhi zarurat nahi hai is baat se ki agar aapko sab log pasand kar rahe hain ya aapki tareef kar rahe hain toh in chijon se kabhi ghamand bhi na kare aap down to arth hi rahe baki jo log aapse bina aapko jaane pehchane aap se chal rahe hain aisa bhi hoga ki aapki acchhaiyon ko samjhenge aapki agli 30 ko samjhenge aur shayad aapko pasand bhi karenge

हेलो हां बिल्कुल आपका अंदाजा बिल्कुल सही है कि आज की दुनिया में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिनक

Romanized Version
Likes  151  Dislikes    views  983
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

4:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सब का बिल्कुल सोचना बिल्कुल राइट है कि आज का इंसान अपने दुखों से दुखी नहीं है विशेष तौर से भारतीयों मिजाज उल्लंघन आदेश नहीं होती तो तुम सोचो आज देश के हालात ऐसे होते तुम देखो इस देश में कोरोनावायरस महा विपत्ति का रूप लेकर आ रहा है महा संकट का रूप उपस्थित हो रहा है और आज के इस समय में भी लोग धर्म की आड़ लेकर जातिगत भेदभाव को लेकर राजनीतिक देश को लेकर केवी इस महा विपत्ति के समय में भी एकता में नहीं है लोग जबकि ब्लॉक डाउन किया गया प्रधानमंत्री जी के द्वारा की जनता में यह कोरोनावायरस पहले इस समय हम सब देशवासियों का कर्तव्य बनता है कि जाति धर्म राजनीतिक भेदभाव को भूले और स्मार्ट विपत्ति के समय में एकजुट होकर के इस कोरोनावायरस को हराकर यहां से बताएं जिससे कि देश में सन तमन्ना पहले और महाविनाशनी देश बचाए लेकिन आज भी लोग एकमत नहीं है कुछ लोग राजनीतिक द्वेष के कारण से उल्टा संक्रमण फैलाने की कोशिश कर रहे हैं कि लोगों को यत्र तत्र भड़का रहे हैं डिसिप्लिन को भंग करने की कोशिश कर रहे हैं यह उनकी स्वार्थपरता है वह अभी तक इस वायरस को हल्का ही आंख रहे क्योंकि वह इस देश पर पड़े हुए हैं कि यदि यह लोग डाउन सफल हो गया तो इस मोदी की जीत हो जाएगी इस मोदी की जीत हार नहीं है यह मोदी जी तो हम सबके लिए कर रहे हैं हम सब की सुरक्षा के लिए कर रहे हैं मोदी जी का निजी नहीं है मोदी जी के लिए तो तुम सोचो कितनी अधिक मेड आई होंगी उनके पास जो देश के प्रधानमंत्री हैं इनके लिए नहीं कर रही है हम सब देशवासियों के लिए कर रहे हैं लेकिन वे राजनीतिक देश के कारण से नेतागण इस को सफल नहीं होने दे रहे हैं चला चला करके बिगाड़ने का प्रयास कर रहे हैं बाहर निकल रहे हैं पुलिस के झगड़ा कर रहे हैं ऐसी गंदी मानसिकता वाले लोगों के लिए क्या पूरे भारत देश हमारा स्वार्थ खुदगर्जी लालच ईर्ष्या जलन आदि मांगे दुर्गुणों से भरा हुआ है विदेशों में देखिए आप स्पेन में इटली में ईरान में जापान में अमेरिका में फ्रांस में इन देशों में इन देशों के नागरिक अपनी सरकार के लिए जान दे सकते हैं अपने देश के हितों के लिए जान दे सकते हैं अपने देश की रक्षा के लिए जान दे सकते हैं जबकि हमारे लाल हमारे यहां पर सिर्फ राजनीतिक स्वार्थों के कारण से सिर्फ राजनीतिक द्वेष का होने के कारण से ही धर्मांधता को बढ़ावा देने के कारण से ही अपनी खुदगर्जी को स्वार्थ को सिद्ध करने के लिए ही वे यह नहीं चाहते कि मोदी जी द्वारा दिया हुआ लॉक डाउन सफल हो जाए जबकि यह नहीं जानते कि यह वायरस नहीं जानता क्या बीजेपी के हैं कि कांग्रेस के हैं कि आपके हैं कि सपा के हैं कि बसपा के हैं अरे इसके लपेटे में जो आ गया आ गया देख लो जो लोग धर्म की आड़ लेकर के इसका विरोध कर रहे थे जगह-जगह आज भी लोग देखो आप दिल्ली में किस कदर हॉस्पिटल में भाग भाग में भर्ती है और अब मोदी जी से प्रार्थना कर रहे हैं कि कैसे भी मोदी जी प्राण बचाई है यह तुम देखो स्वार्थपरता यही बात यह मेरे दोस्त लोग अपने दुख से दुखी नहीं है अपितु दूसरों के सुख से दुखी हैं यह वर्मा की कसम है हमारी अशिक्षा है हमारी बोलता है कि हमारी एबिलिटी क्वेश्चन मार्क है हमारी क्वालिफिकेशन पर क्वेश्चन मार्क है यह हमारे घटिया संस्कारों का सूचक है

yah sab ka bilkul sochna bilkul right hai ki aaj ka insaan apne dukhon se dukhi nahi hai vishesh taur se bharatiyon mizaaz ullanghan aadesh nahi hoti toh tum socho aaj desh ke haalaat aise hote tum dekho is desh me coronavirus maha vipatti ka roop lekar aa raha hai maha sankat ka roop upasthit ho raha hai aur aaj ke is samay me bhi log dharm ki aad lekar jaatigat bhedbhav ko lekar raajnitik desh ko lekar kv is maha vipatti ke samay me bhi ekta me nahi hai log jabki block down kiya gaya pradhanmantri ji ke dwara ki janta me yah coronavirus pehle is samay hum sab deshvasiyon ka kartavya banta hai ki jati dharm raajnitik bhedbhav ko bhule aur smart vipatti ke samay me ekjut hokar ke is coronavirus ko harakar yahan se bataye jisse ki desh me san tamanna pehle aur mahavinashni desh bachaye lekin aaj bhi log ekamat nahi hai kuch log raajnitik dvesh ke karan se ulta sankraman felane ki koshish kar rahe hain ki logo ko yatarr tatra bhadaka rahe hain discipline ko bhang karne ki koshish kar rahe hain yah unki swarthaparata hai vaah abhi tak is virus ko halka hi aankh rahe kyonki vaah is desh par pade hue hain ki yadi yah log down safal ho gaya toh is modi ki jeet ho jayegi is modi ki jeet haar nahi hai yah modi ji toh hum sabke liye kar rahe hain hum sab ki suraksha ke liye kar rahe hain modi ji ka niji nahi hai modi ji ke liye toh tum socho kitni adhik made I hongi unke paas jo desh ke pradhanmantri hain inke liye nahi kar rahi hai hum sab deshvasiyon ke liye kar rahe hain lekin ve raajnitik desh ke karan se netagan is ko safal nahi hone de rahe hain chala chala karke bigadne ka prayas kar rahe hain bahar nikal rahe hain police ke jhagda kar rahe hain aisi gandi mansikta waale logo ke liye kya poore bharat desh hamara swarth khudagarji lalach irshya jalan aadi mange durgunon se bhara hua hai videshon me dekhiye aap Spain me italy me iran me japan me america me france me in deshon me in deshon ke nagarik apni sarkar ke liye jaan de sakte hain apne desh ke hiton ke liye jaan de sakte hain apne desh ki raksha ke liye jaan de sakte hain jabki hamare laal hamare yahan par sirf raajnitik swarthon ke karan se sirf raajnitik dvesh ka hone ke karan se hi dharmandhata ko badhawa dene ke karan se hi apni khudagarji ko swarth ko siddh karne ke liye hi ve yah nahi chahte ki modi ji dwara diya hua lock down safal ho jaaye jabki yah nahi jante ki yah virus nahi jaanta kya bjp ke hain ki congress ke hain ki aapke hain ki sapa ke hain ki BSP ke hain are iske lapete me jo aa gaya aa gaya dekh lo jo log dharm ki aad lekar ke iska virodh kar rahe the jagah jagah aaj bhi log dekho aap delhi me kis kadar hospital me bhag bhag me bharti hai aur ab modi ji se prarthna kar rahe hain ki kaise bhi modi ji praan bachai hai yah tum dekho swarthaparata yahi baat yah mere dost log apne dukh se dukhi nahi hai apitu dusro ke sukh se dukhi hain yah verma ki kasam hai hamari asiksha hai hamari bolta hai ki hamari ability question mark hai hamari qualification par question mark hai yah hamare ghatiya sanskaron ka suchak hai

यह सब का बिल्कुल सोचना बिल्कुल राइट है कि आज का इंसान अपने दुखों से दुखी नहीं है विशेष तौर

Romanized Version
Likes  290  Dislikes    views  4645
WhatsApp_icon
user

Abhishek Kumar

मनोविज्ञान

4:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों मैं अभिषेक और आपका आशा क्वेश्चन है क्या यह सच है कि लोग आपसे नफरत सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग आपको बहुत पसंद करते हैं जी मैं आपको बताना चाहूंगा ध्यान दीजिएगा मैं आपको बताना चाहूंगा आप से नफरत वही लोग करते हैं जो आपके अपने होते हैं जो आपके अपने टच में होते हैं और आप मेरी बात सुनकर शौक तो गए होंगे कि अपने नफरत कैसे करेंगे तो मैं बताना आपको यह चाहूंगा अगर एक क्लास में 80 बच्चे हैं तो उन 80 बच्चों से कंपटीशन तो रहता है कि मुझे इस क्लास को टॉप करना है लेकिन एक सीट पर बैठने वाले जो फ्रेंड होते हैं जो अपने क्लोज फ्रेंड होते हैं शायद वह आगे बैठी है पीछे बैठे हैं लेकिन जो अपने क्लोज फ्रेंड फ्रेंड होते हैं उन्हें जरूर होता है वह हर तरह से आपकी हेल्प करेंगे एग्जाम में भी आपकी हेल्प करेंगे लेकिन उनके मन में एक भाव जरूर आता है एक बार कि मैं अपनी फ्रेंड सीमा पूजा अभिषेक आलोक अर्चना अशोक राहुल जो भी आपके फ्रेंड है एनीथिंग डॉट डॉट डॉट मैं सिर्फ नाम एग्जांपल के लिए लिया उनसे अच्छा नंबर पा जाऊं पूरी क्लास में मेरी कोई पोजीशन हो वह चल जाएगा लेकिन अपने दोस्तों में अच्छा नंबर आना चाहिए अपने फ्रेंड सर्कल में अच्छा नंबर आना चाहिए और वह जब नंबर नहीं आता है तो ऑटोमेटिक कहीं ना कहीं दिल में खुन्नस का भाव आता है इसलिए आता है क्योंकि वह आपके अपने हैं और आपसे अच्छा नंबर पाते हैं मेरी बात समझ में आया ठीक उसी प्रकार विश्वास है विश्वास हर कोई नहीं तोड़ता है विश्वास वही तोड़ता जो इतने विश्वास किया जाता है और जिस पर हम विश्वास नहीं कि वह तोड़ेगा क्या मतलब जिसको हम कुछ दिए नहीं वह हमको क्या देगा जो विश्वास उस पर किया ही नहीं तो थोड़ी नहीं सकता और इसी विश्वास की वही तोड़ सकता सेम यही चीज है जो हमारे फ्रेंड सर्कल में जो फ्रेंड है जो भाई और इसलिए हम तो जल सकते हैं जब तक उनसे हम छोटे हैं उन से कम हम सक्सेसफुल हुए तब तक वह मुझे बहुत प्यार करेंगे बहुत लाइक करेंगे लेकिन हम उनकी बराबरी के पहुंचे वह प्यार कम हो जाएगा और जहां मुझसे आगे पहुंचे तो फिर उनका लाइक होना भी बंद हो जाएगा ठीक इसी प्रकार है अगर आपको बहुत सारे लोग लाइक करते हैं और किसी को बहुत कम लोग लाइक करते हैं तो यह जलन स्वभाविक है और वह जलन इसलिए है कि आप में कौन सा ऐसा गुण है जिससे आपको बहुत लोग प्यार करते हैं बहुत लोग पसंद करते हैं और उनके अंदर वह कौन सा गुण नहीं है जिसने लोग उन्हें प्यार नहीं करते पसंद नहीं करते बस इसी वजह से लोगों में जलन उत्पन्न हो जाता है अगर आप एक अच्छे वक्ता हैं अच्छे से लोगों की बात तब समझा सकते हैं और समझ सकते हैं तो आपको सभी लोग प्यार करेंगे लाइक करेंगे लेकिन कोई व्यक्ति अगर ऐसा है जिसको कोई नशा मत देना वो किसी को समझा सकता है तो ऑटोमेटिक है वह जलन तो होगी उसे वह आपको पसंद क्यों करें जलन ही होगी उसे वह नफरत ही करेगा आपसे क्योंकि बाकी लोग आपसे प्यार करते हैं बाकी लोग आप को लाइक करते हैं अगर एक एग्जांपल मैंने देना चाहूंगा आपको अगर आप एक टीचर की तरह सोचिए एक कॉलेज में अगर बहुत सारे टीचर है लेकिन कुछ टीचर ऐसे होते हैं जिनको सारे बच्चे लाइक करना चाहते हैं पसंद करते हैं उनकी फेवर लेते हैं उनकी पढ़ाने का तरीका समझाने का बताने का हेल्प करने का उनको पसंद आता है वही कुछ टीचर खडूस टाइप के होते हैं और उन्हें कोई नहीं लाइक करता है कोई नहीं पसंद करता है इसलिए वह जो दूसरे टाइप के टीचर होते हैं वह पहले वाले जलते जलते हैं क्यों नहीं सारे बच्चे लाइक कर रहे हैं क्यों पसंद करते हैं मेरी बात अब मुझे लगता है सभी लोग समझ गए होंगे कि मैं कहना क्या चाहता हूं दोस्तों अगर मेरी बात पसंद है तो सालों और लाइक जरूर करिएगा

hello doston main abhishek aur aapka asha question hai kya yah sach hai ki log aapse nafrat sirf isliye karte hain kyonki baki log aapko bahut pasand karte hain ji main aapko batana chahunga dhyan dijiyega main aapko batana chahunga aap se nafrat wahi log karte hain jo aapke apne hote hain jo aapke apne touch me hote hain aur aap meri baat sunkar shauk toh gaye honge ki apne nafrat kaise karenge toh main batana aapko yah chahunga agar ek class me 80 bacche hain toh un 80 baccho se competition toh rehta hai ki mujhe is class ko top karna hai lekin ek seat par baithne waale jo friend hote hain jo apne close friend hote hain shayad vaah aage baithi hai peeche baithe hain lekin jo apne close friend friend hote hain unhe zaroor hota hai vaah har tarah se aapki help karenge exam me bhi aapki help karenge lekin unke man me ek bhav zaroor aata hai ek baar ki main apni friend seema puja abhishek alok archna ashok rahul jo bhi aapke friend hai anything dot dot dot main sirf naam example ke liye liya unse accha number paa jaaun puri class me meri koi position ho vaah chal jaega lekin apne doston me accha number aana chahiye apne friend circle me accha number aana chahiye aur vaah jab number nahi aata hai toh Automatic kahin na kahin dil me khunnas ka bhav aata hai isliye aata hai kyonki vaah aapke apne hain aur aapse accha number paate hain meri baat samajh me aaya theek usi prakar vishwas hai vishwas har koi nahi todta hai vishwas wahi todta jo itne vishwas kiya jata hai aur jis par hum vishwas nahi ki vaah todega kya matlab jisko hum kuch diye nahi vaah hamko kya dega jo vishwas us par kiya hi nahi toh thodi nahi sakta aur isi vishwas ki wahi tod sakta same yahi cheez hai jo hamare friend circle me jo friend hai jo bhai aur isliye hum toh jal sakte hain jab tak unse hum chote hain un se kam hum successful hue tab tak vaah mujhe bahut pyar karenge bahut like karenge lekin hum unki barabari ke pahuche vaah pyar kam ho jaega aur jaha mujhse aage pahuche toh phir unka like hona bhi band ho jaega theek isi prakar hai agar aapko bahut saare log like karte hain aur kisi ko bahut kam log like karte hain toh yah jalan swabhavik hai aur vaah jalan isliye hai ki aap me kaun sa aisa gun hai jisse aapko bahut log pyar karte hain bahut log pasand karte hain aur unke andar vaah kaun sa gun nahi hai jisne log unhe pyar nahi karte pasand nahi karte bus isi wajah se logo me jalan utpann ho jata hai agar aap ek acche vakta hain acche se logo ki baat tab samjha sakte hain aur samajh sakte hain toh aapko sabhi log pyar karenge like karenge lekin koi vyakti agar aisa hai jisko koi nasha mat dena vo kisi ko samjha sakta hai toh Automatic hai vaah jalan toh hogi use vaah aapko pasand kyon kare jalan hi hogi use vaah nafrat hi karega aapse kyonki baki log aapse pyar karte hain baki log aap ko like karte hain agar ek example maine dena chahunga aapko agar aap ek teacher ki tarah sochiye ek college me agar bahut saare teacher hai lekin kuch teacher aise hote hain jinako saare bacche like karna chahte hain pasand karte hain unki favour lete hain unki padhane ka tarika samjhane ka batane ka help karne ka unko pasand aata hai wahi kuch teacher khadus type ke hote hain aur unhe koi nahi like karta hai koi nahi pasand karta hai isliye vaah jo dusre type ke teacher hote hain vaah pehle waale jalte jalte hain kyon nahi saare bacche like kar rahe hain kyon pasand karte hain meri baat ab mujhe lagta hai sabhi log samajh gaye honge ki main kehna kya chahta hoon doston agar meri baat pasand hai toh salon aur like zaroor kariega

हेलो दोस्तों मैं अभिषेक और आपका आशा क्वेश्चन है क्या यह सच है कि लोग आपसे नफरत सिर्फ इसलिए

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
user

Subrata Sarkar

Bank Manager

2:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके सवाल क्या यह सच है कि कुछ लोग आपसे नफरत सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग आपको बहुत पसंद करते हैं यह बात कुछ हद तक ठीक है यह सच है कि कुछ लोग आपको अगर काफी लोग पसंद करते हैं तो सोच को जिले की होती है जिसके चलते वह आपको पसंद नहीं करते हैं लेकिन यह गुण ज्यादातर लड़कियों में पाया जाता है पुरुषों में बहुत ही कम होता है उसकी वजह यह है कि जो लोग आपको पसंद नहीं करते उसे इस बात की इच्छा होती है कि देखो हमें लोग पसंद नहीं कर रहे हैं उसको पसंद करना है तो यह इसलिए होता है कि जो यह नफरत करते हैं उसे आप ना बहुत सारे गुणों की कमी होती है उसकी पर्सनैलिटी उसके जैसा नहीं होती है जिसके चलते लोग पसंद नहीं करते कि कोई भी जब किसी को पसंद करता है तो यूं ही नहीं पसंद करता है उसमें बहुत सारे गुण होना चाहिए उसमें और अगर वह बहुत टैलेंटेड है आप बहुत इंटेलिजेंट है एक्स्ट्राऑर्डिनरी है या अगर आप इस्त्री है बहुत सुंदर है साथी आपका प्रश्न टीवी है आप बहुत गुणवती हैं तब लोग उसे पसंद करते हैं तो उसी जगह में उसी के रिश्तेदार मित्र जो होते हैं वह सोचते हैं कि भाई हमको लोग क्यों नहीं पसंद करते हैं उसको ज्यादा करते किस वजह से उसे चाहती है और इस वजह से वह से नफरत करते हैं इस आवश्यकता है लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए लोगों को लेकिन यह अक्सर समाज में हमारा देखा जाता है यह इस साल लोगों का स्वभाव होता है ऐसे लोगों से हमें दूर रहना चाहिए तो यह समस्या नहीं आएगी उसका वेट करना चाहिए जो अगर आप से नफरत करना है उसके बातों पर ध्यान नहीं दीजिए आप अपना काम अच्छी तरह से करते रहिए और आपमें टैलेंट अपने गुणों को बढ़ाते रहिए सभी आपको पसंद करेंगे धन्यवाद

aapke sawaal kya yah sach hai ki kuch log aapse nafrat sirf isliye karte hain kyonki baki log aapko bahut pasand karte hain yah baat kuch had tak theek hai yah sach hai ki kuch log aapko agar kaafi log pasand karte hain toh soch ko jile ki hoti hai jiske chalte vaah aapko pasand nahi karte hain lekin yah gun jyadatar ladkiyon me paya jata hai purushon me bahut hi kam hota hai uski wajah yah hai ki jo log aapko pasand nahi karte use is baat ki iccha hoti hai ki dekho hamein log pasand nahi kar rahe hain usko pasand karna hai toh yah isliye hota hai ki jo yah nafrat karte hain use aap na bahut saare gunon ki kami hoti hai uski personality uske jaisa nahi hoti hai jiske chalte log pasand nahi karte ki koi bhi jab kisi ko pasand karta hai toh yun hi nahi pasand karta hai usme bahut saare gun hona chahiye usme aur agar vaah bahut talented hai aap bahut Intelligent hai extraordinary hai ya agar aap istree hai bahut sundar hai sathi aapka prashna TV hai aap bahut gunvati hain tab log use pasand karte hain toh usi jagah me usi ke rishtedar mitra jo hote hain vaah sochte hain ki bhai hamko log kyon nahi pasand karte hain usko zyada karte kis wajah se use chahti hai aur is wajah se vaah se nafrat karte hain is avashyakta hai lekin aisa nahi karna chahiye logo ko lekin yah aksar samaj me hamara dekha jata hai yah is saal logo ka swabhav hota hai aise logo se hamein dur rehna chahiye toh yah samasya nahi aayegi uska wait karna chahiye jo agar aap se nafrat karna hai uske baaton par dhyan nahi dijiye aap apna kaam achi tarah se karte rahiye aur apamen talent apne gunon ko badhate rahiye sabhi aapko pasand karenge dhanyavad

आपके सवाल क्या यह सच है कि कुछ लोग आपसे नफरत सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग आपको बह

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  50
WhatsApp_icon
user

Rishi Raj

Astrologer

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं लोगों का नजरिया कुछ और हो सकता है किसी के चाहने या न जाने से लोग किसी को ना पसंद नहीं करते हैं ऐसा 20 परसेंटेज 30 पर्सेंट होते हुए देखा गया है ज्यादातर लोग इंसानों के अवगुणों से ही नफरत करते हैं क्योंकि उनको गुण देखने की आदत नहीं होती

nahi logo ka najariya kuch aur ho sakta hai kisi ke chahne ya na jaane se log kisi ko na pasand nahi karte hain aisa 20 percentage 30 percent hote hue dekha gaya hai jyadatar log insano ke avagunon se hi nafrat karte hain kyonki unko gun dekhne ki aadat nahi hoti

नहीं लोगों का नजरिया कुछ और हो सकता है किसी के चाहने या न जाने से लोग किसी को ना पसंद नहीं

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  51
WhatsApp_icon
user

Nighat Bi

Founder Of Kamred Montessori School Samiti

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बिल्कुल सच है जब कुछ लोग जो है उसमें लोगों को बहुत ज्यादा महत्व देते हैं बहुत ज्यादा इज्जत देते सम्मान देते हैं तो वहीं कुछ लोग जो हैं उसी व्यक्ति को नापसंद करने लगते हैं इसका कारण यह है कि जो लोग नापसंद करते हैं या नफरत करने लगते हो तो वह लोग भी उन लोगों को अपनी तरफ चाहते हैं उन लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करना चाहते हैं वह भी उनकी भी इच्छा यही रहेगी यह रहती है कि वह लोग भी उनको पसंद करें उनकी इज्जत करें सम्मान करना जब वह लोग उन लोगों को इज्जत नहीं देते क्या पसंद नहीं करते तो यह चीज मुझसे बर्दाश्त नहीं होती है इसलिए वह उस व्यक्ति से नफरत करने लगते हैं जिसको लोग जो हैं बहुत पसंद करते हैं यह सम्मान यही वह उसी वक्त है उस व्यक्ति से इच्छा हो लोग करने लगते हैं क्योंकि लोगों का रुझान है जब उसे लोगों के ऊपर जाता है जिनको लोग बहुत ही महकते हैं पसंद करते हैं तो कुछ लोगों से यह चीज बर्दाश्त नहीं होती उनके हृदय अनीशा जन्म ले लेती है यही कारण है कि वह हमसे नफरत करने लगते हैं

yah bilkul sach hai jab kuch log jo hai usme logo ko bahut zyada mahatva dete hain bahut zyada izzat dete sammaan dete hain toh wahi kuch log jo hain usi vyakti ko napasand karne lagte hain iska karan yah hai ki jo log napasand karte hain ya nafrat karne lagte ho toh vaah log bhi un logo ko apni taraf chahte hain un logo ko apni taraf aakarshit karna chahte hain vaah bhi unki bhi iccha yahi rahegi yah rehti hai ki vaah log bhi unko pasand kare unki izzat kare sammaan karna jab vaah log un logo ko izzat nahi dete kya pasand nahi karte toh yah cheez mujhse bardaasht nahi hoti hai isliye vaah us vyakti se nafrat karne lagte hain jisko log jo hain bahut pasand karte hain yah sammaan yahi vaah usi waqt hai us vyakti se iccha ho log karne lagte hain kyonki logo ka rujhan hai jab use logo ke upar jata hai jinako log bahut hi mahkate hain pasand karte hain toh kuch logo se yah cheez bardaasht nahi hoti unke hriday anisha janam le leti hai yahi karan hai ki vaah humse nafrat karne lagte hain

यह बिल्कुल सच है जब कुछ लोग जो है उसमें लोगों को बहुत ज्यादा महत्व देते हैं बहुत ज्यादा इज

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user

santosh Kumar santosh

College Chairman

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां यह भी रीजन होता है कि जब हमें लोग बहुत ज्यादा पसंद करते हैं जब हम बहुत लोग चाहिए हो जाते हैं बहुत सारे ऐसे लोग होते हैं कि हमसे यह बात सच है

haan yah bhi reason hota hai ki jab hamein log bahut zyada pasand karte hain jab hum bahut log chahiye ho jaate hain bahut saare aise log hote hain ki humse yah baat sach hai

हां यह भी रीजन होता है कि जब हमें लोग बहुत ज्यादा पसंद करते हैं जब हम बहुत लोग चाहिए हो जा

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  175
WhatsApp_icon
user

Rounak Romi

Philosopher & Activist

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां यह सच है कि कुछ लोग हमसे नफरत सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग हमसे बहुत प्यार करते हैं यह हमें पसंद करते हैं हमें लोग क्यों पसंद करते हैं यह हमारी जो खूबी है या जो स्पेशलिटी है वह आंतरिक तौर पर भी हो सकती है और बाहरी तौर पर भी हो सकती है यदि आंतरिक तौर पर यदि हम देखें तुम्हारे वाणी व्यवहार कार्यशैली चिंतन संता हमारे किसी प्रकार के टैलेंट को लेकर हो सकती है और बाहरी तौर पर हम बात करें तो हमारा रहन-सहन खूबसूरती या लाइफ़स्टाइल को लेकर हो सकता है जिस वजह से आपको बहुत सारे लोग पसंद करते हैं लेकिन कुछ लोग आप से नफरत करते हैं और यह नफरत करने वाले आप से नफरत इसलिए करते हैं क्योंकि आप किन खूबियों का सामना वह सीधे तौर पर नहीं कर सकते तो सिर्फ नफरत दर्शा कर वे अपने आप को संतुष्ट करने के लिए ऐसा करते हैं

ji haan yah sach hai ki kuch log humse nafrat sirf isliye karte hain kyonki baki log humse bahut pyar karte hain yah hamein pasand karte hain hamein log kyon pasand karte hain yah hamari jo khoobi hai ya jo speciality hai vaah aantarik taur par bhi ho sakti hai aur bahri taur par bhi ho sakti hai yadi aantarik taur par yadi hum dekhen tumhare vani vyavhar karyashaili chintan santa hamare kisi prakar ke talent ko lekar ho sakti hai aur bahri taur par hum baat kare toh hamara rahan sahan khoobsoorti ya lifestyle ko lekar ho sakta hai jis wajah se aapko bahut saare log pasand karte hain lekin kuch log aap se nafrat karte hain aur yah nafrat karne waale aap se nafrat isliye karte hain kyonki aap kin khubiyon ka samana vaah sidhe taur par nahi kar sakte toh sirf nafrat darsha kar ve apne aap ko santusht karne ke liye aisa karte hain

जी हां यह सच है कि कुछ लोग हमसे नफरत सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि बाकी लोग हमसे बहुत प्यार

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  297
WhatsApp_icon
user

Prakhar Srivastava

IAS Aspirant

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निकी यह नफरत है ना वह बहुत ही तो हमारे मानवीय गुणों में से सबसे बुरा मैं कहूंगा कि अवगुण है यह बहुत ही गलत चीज है किसी से भी नफरत करता और जैसा कि आपका प्रश्न है कि जब आप बहुत फेमस हो जाते हैं या फिर जब आपको कई सारे लोग पसंद करते हैं तो कुछ लोग आप से नफरत करते हैं इसलिए क्योंकि आपको बहुत सारे लोग पसंद कर रहे होते हैं और उनको नहीं पसंद कर रहे होते यानी कि आप लाइमलाइट में आ जाते हो आप फ्री में सो जाते हो और वह आपसे कर पीछे रहे किसी मामले में तो आप से नफरत करना स्टार्ट कर देते हैं तो एक कहावत है आपने सुनी होगी कि जिस वृक्ष पर ज्यादा फल लगते हैं इस पेड़ पर ज्यादा फल लगते हैं सबसे ज्यादा पत्थर उसी उसी पेड़ पर मारे जाते हैं ठीक है तो आप अपने आप को फलदार वृक्ष भेजिए कि आप संपन्न है आप बहुत लकी हैं कि आपको बहुत सारे लोग पसंद करते हैं और कुछ लोग और आप से एक भी करते हैं तो आप उनकी तरफ ध्यान ही क्यों दे रहे हैं क्यों ध्यान दे रहे हैं आप उनकी तरफ ध्यान दीजिए जो आपसे प्यार करते हैं आपको पसंद करते हैं ठीक है तो हमेशा पॉजिटिव और नेगेटिव चीजों का मामला है तो नेगेटिविटी को आप मत देखिए आप उसकी वीडियो देखिए मेरे साथ भी बिल्कुल ऐसा ही है मुझे बहुत सारे लोग मेरी सोसाइटी में है मेरे फ्रेंड्स मैनु पसंद करते हैं और उसकी उसी की वजह से कई सारे लोग ऐसे हैं जो मुझसे नफरत करते हैं कि आप इसको कैसे सब पसंद करते हैं इसमें है क्या यह ठीक है लोग ऐसे बोलते तो मैं उनकी तरह नहीं देता 19 जी जैसे एलिमेंट्स को ऐसे अराजक तत्वों को आप उधर से इंदौर की भी नजरअंदाज किए क्योंकि वह ना तो आपकी लाइफ में आपको कुछ योगदान देंगे आपको हमेशा आगे बढ़ने से रुकते हुए देखना चाहेंगे तो जवाब के लिए पॉजिटिव करता है जो आपको पसंद कर रहा है उनकी तरफ ध्यान रखिए

niki yah nafrat hai na vaah bahut hi toh hamare manviya gunon mein se sabse bura main kahunga ki avgun hai yah bahut hi galat cheez hai kisi se bhi nafrat karta aur jaisa ki aapka prashna hai ki jab aap bahut famous ho jaate hain ya phir jab aapko kai saare log pasand karte hain toh kuch log aap se nafrat karte hain isliye kyonki aapko bahut saare log pasand kar rahe hote hain aur unko nahi pasand kar rahe hote yani ki aap limelight mein aa jaate ho aap free mein so jaate ho aur vaah aapse kar peeche rahe kisi mamle mein toh aap se nafrat karna start kar dete hain toh ek kahaavat hai aapne suni hogi ki jis vriksh par zyada fal lagte hain is ped par zyada fal lagte hain sabse zyada patthar usi usi ped par maare jaate hain theek hai toh aap apne aap ko faldar vriksh bhejiye ki aap sampann hai aap bahut lucky hain ki aapko bahut saare log pasand karte hain aur kuch log aur aap se ek bhi karte hain toh aap unki taraf dhyan hi kyon de rahe hain kyon dhyan de rahe hain aap unki taraf dhyan dijiye jo aapse pyar karte hain aapko pasand karte hain theek hai toh hamesha positive aur Negative chijon ka maamla hai toh negativity ko aap mat dekhiye aap uski video dekhiye mere saath bhi bilkul aisa hi hai mujhe bahut saare log meri society mein hai mere friends mainu pasand karte hain aur uski usi ki wajah se kai saare log aise hain jo mujhse nafrat karte hain ki aap isko kaise sab pasand karte hain isme hai kya yah theek hai log aise bolte toh main unki tarah nahi deta 19 ji jaise elements ko aise arajak tatvon ko aap udhar se indore ki bhi najarandaj kiye kyonki vaah na toh aapki life mein aapko kuch yogdan denge aapko hamesha aage badhne se rukte hue dekhna chahenge toh jawab ke liye positive karta hai jo aapko pasand kar raha hai unki taraf dhyan rakhiye

निकी यह नफरत है ना वह बहुत ही तो हमारे मानवीय गुणों में से सबसे बुरा मैं कहूंगा कि अवगुण ह

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  280
WhatsApp_icon
user

Seema

Phd Student

4:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ लोग आप से नफरत इसलिए करते हैं कि आपको बाकी लोग बहुत पसंद करते हैं जी हां कहीं तक देखते हैं एक चली जो आप से नफरत करने वाले लोग हैं वह आपकी अच्छाई से आपकी पॉपुलर सिटी से बहुत जलते हैं नफरत करते हैं उन लोगों की मानसिकता को बदला नहीं जा सकता क्योंकि ऐसे लोग सिर्फ अपना अच्छा देखते हैं किसी को आगे बढ़ते देखना किसी की कामयाबी उसको अंदर ही अंदर झकझोर दिए कि उससे पहले वह चीजें दूसरे को क्यों रात हो गई या उसने क्यों वाली वह की मेहनत को नहीं देखता लेकिन कुछ चीजें नसीब किस्मत से ही मिलती है कुछ लोगों के पास डिग्री होते हुए भी नौकरियां नहीं होती यार जिनके पास नौकरी तो होती है लेकिन डिग्री नहीं होती किसी के पास दोनों चीजें होती है ऐसे ही रहेगी किसी को तो अपने पूर्वजों की प्रॉपर्टी मिल जाती है और किसी को अपने पूर्वजों का कर्जा किसी को इनमें से कुछ भी नहीं मिलता मैं घर जाना प्रॉपर्टी कुछ तो नसीब से है और नफरत करने वाले वह तो नफरत के लिए कोई मौका नहीं छोड़ते वह हर चीज से नफरत करते हैं आपकी कामयाबी हो तो नफरत करें नफरत या जेलस फील करेंगे अगर आपको कोई परेशानी होती है तो मजाक उड़ाएंगे आपके पास संसाधन नहीं है तो आपको अवॉइड करेंगे और जब उसे लगता है कि उससे ज्यादा आपको अनुभव लोग ज्यादा पसंद करते हैं तो डेफिनेटली वह आपसे नफरत करेगा क्योंकि उस पापुलैरिटी को वह नहीं पा सकता यह नहीं पा रहा है इसलिए नफरत करता है और दूसरा पहलू की जरूरी नहीं है कि लोग या जो लोग नफरत करते हो किसी के पसंद करने की वजह से करते हैं नफरत करने का दूसरा भी रीजन हो सकता है वह यह आप की बुरी आदतें बुरी काम जिनकी वजह से वह नफरत करते हैं अगर कोई भी इंसान बुरा काम करता है किसी को तकलीफ देता है तो हमसे प्यार नहीं करेंगे उसे नफरत करेंगे और नफरत और एशिया में बहुत अंतर होता है नफरत हम उस इंसान से करते हैं जो बहुत बुरा होता है जो गलत काम करता है आशीष या जो बाकी लोग आपको पसंद करते हैं इसलिए होती है नफरत कहना उसे गलत होगा क्योंकि नफरत तो हम सिर्फ गलत लोगों से करते हैं ओके थैंक यू

kuch log aap se nafrat isliye karte hain ki aapko baki log bahut pasand karte hain ji haan kahin tak dekhte hain ek chali jo aap se nafrat karne waale log hain vaah aapki acchai se aapki popular city se bahut jalte hain nafrat karte hain un logo ki mansikta ko badla nahi ja sakta kyonki aise log sirf apna accha dekhte hain kisi ko aage badhte dekhna kisi ki kamyabi usko andar hi andar jhakjhor diye ki usse pehle vaah cheezen dusre ko kyon raat ho gayi ya usne kyon wali vaah ki mehnat ko nahi dekhta lekin kuch cheezen nasib kismat se hi milti hai kuch logo ke paas degree hote hue bhi naukriyan nahi hoti yaar jinke paas naukri toh hoti hai lekin degree nahi hoti kisi ke paas dono cheezen hoti hai aise hi rahegi kisi ko toh apne purvajon ki property mil jaati hai aur kisi ko apne purvajon ka karja kisi ko inmein se kuch bhi nahi milta main ghar jana property kuch toh nasib se hai aur nafrat karne waale vaah toh nafrat ke liye koi mauka nahi chodte vaah har cheez se nafrat karte hain aapki kamyabi ho toh nafrat kare nafrat ya ZALASE feel karenge agar aapko koi pareshani hoti hai toh mazak udaenge aapke paas sansadhan nahi hai toh aapko avoid karenge aur jab use lagta hai ki usse zyada aapko anubhav log zyada pasand karte hain toh definetli vaah aapse nafrat karega kyonki us papulairiti ko vaah nahi paa sakta yah nahi paa raha hai isliye nafrat karta hai aur doosra pahaloo ki zaroori nahi hai ki log ya jo log nafrat karte ho kisi ke pasand karne ki wajah se karte hain nafrat karne ka doosra bhi reason ho sakta hai vaah yah aap ki buri aadatein buri kaam jinki wajah se vaah nafrat karte hain agar koi bhi insaan bura kaam karta hai kisi ko takleef deta hai toh humse pyar nahi karenge use nafrat karenge aur nafrat aur asia me bahut antar hota hai nafrat hum us insaan se karte hain jo bahut bura hota hai jo galat kaam karta hai aashish ya jo baki log aapko pasand karte hain isliye hoti hai nafrat kehna use galat hoga kyonki nafrat toh hum sirf galat logo se karte hain ok thank you

कुछ लोग आप से नफरत इसलिए करते हैं कि आपको बाकी लोग बहुत पसंद करते हैं जी हां कहीं तक देखते

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user

1C7KPQ0R5JD

RAMSAHAY

2:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग नफरत आपको इसलिए भी कर सकते हैं कि अपनी जिंदगी में कुछ बड़ा करना अगर चाहते हैं अगर आपका कुछ अपना बड़ा है अगर जिंदगी को बहुत कुछ बड़ा करना चाहते हैं तो लोग आप से नफरत करते हैं आपकी जिंदगी में कोई बढ़िया है इंसान है तो आप से नफरत कर सकते हैं लोग आपसे मिलना स्टार्ट करेंगे अगर आप जिंदगी में अगर वाकई में कुछ अगर चमत्कार करना चाहते हैं कि लोगों से हटकर करना चाहते हैं ना तो आज मैं हंड्रेड परसेंट शोर हूं मैं गारंटी देता हूं कि लोग आपकी बुराई करेंगे लोग आपको अवार्ड करेंगे आपसे नेगेटिव कॉमेंट करेंगे आपको लोग बुरा भला बोलेंगे तू ऐसा है वैसा है तो जिंदगी में कुछ नहीं कर सकता ऐसे ऐसे लोग आप पर नेगेटिव कमेंट करेंगे अगर जिंदगी में कुछ बड़ा करना चाहते हैं आपका क्वेश्चन ही है कि कि लोग हमसे नफरत क्यों करते हैं नफरत करने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं नफरत ही थी यह करते हैं क्योंकि जो काम आप कर सकते हैं वह हर कोई नहीं कर सकता जो आपके अंदर जो टैलेंट है वह उनके अंदर नहीं है बहुत लोग हैं ना यह बस लोग यह चाहते हैं कि जैसा हम काम कर रहे हैं ना बस वैसा ही करें हैं लोग कहेंगे कि आप ₹300 के ₹400 की मजदूरी करो अगर उनकी बातों को अगर मान गए तो समझ लो आप जंजाल में फंस गए अगर आपका कोई सपना बड़ा है ₹100000 रोजाना आप कमाना चाहते हैं तो उसकी सूचना और आपकी सोच में कितना डिफरेंट है उसकी सोच छोटी है आपकी सोच बड़ी है अगर आप कुछ बड़ा करने के बारे में सोच रहे हैं आपके पास में कोई ऐसा प्लान है कोई रोडमैप है आपके पास में कि कुछ हब्बड़ा कर सकते हैं आप नौकरी लेने वाले नहीं आप नौकरी अगर देने वाली बनेंगे तो प्रॉब्लम्स आएंगे आपसे बुरा भला बोलेंगे लोग बोली नहीं तू ऐसा कर ही नहीं कर सकता लेकिन एक बार मेरी याद रखना जिस दिन आप नौकरी लेने वाले नहीं नौकरी देने वाले बनेंगे ना तो यह दुनिया से लूट करेगी बस आप लोगों की बातों में पैसे मत रहना लोगों की बातों पर ध्यान मत देना लोग तो आपसे बुरा भला बोलेंगे बस लोग बुरा भला बोल नहीं है बोलने दो जो कुछ कर रहे हैं करने दो लेकिन आपके माइंड में कोई आईडिया है कोई नफरत कर रहा है करने दो बस अपने काम से काम रखो बस करते जाओ करते जाओ करते जाओ एक दिन आपका ऐसा आएगा यह दुनिया सुरूट करेगी वही लोग आपसे कहेंगे यार हमको तो पहले ही पता था कि तू जिंदगी में कुछ बड़ा आदमी बनेगा यार मेरे को भी भरोसा है लोग आपसे इसलिए नफरत करते हैं क्योंकि आप इस दुनिया में कुछ करने के काबिल है आपके पास में ऐसा टैलेंट है जो उनके पास में नहीं है आप इस दुनिया में कुछ करने के काबिल है सो थैंक यू वेरी मच बेस्ट ऑफ लक वेरी-वेरी कांग्रेचुलेशन

log nafrat aapko isliye bhi kar sakte hain ki apni zindagi me kuch bada karna agar chahte hain agar aapka kuch apna bada hai agar zindagi ko bahut kuch bada karna chahte hain toh log aap se nafrat karte hain aapki zindagi me koi badhiya hai insaan hai toh aap se nafrat kar sakte hain log aapse milna start karenge agar aap zindagi me agar vaakai me kuch agar chamatkar karna chahte hain ki logo se hatakar karna chahte hain na toh aaj main hundred percent shor hoon main guarantee deta hoon ki log aapki burayi karenge log aapko award karenge aapse Negative comment karenge aapko log bura bhala bolenge tu aisa hai waisa hai toh zindagi me kuch nahi kar sakta aise aise log aap par Negative comment karenge agar zindagi me kuch bada karna chahte hain aapka question hi hai ki ki log humse nafrat kyon karte hain nafrat karne ke bahut saare karan ho sakte hain nafrat hi thi yah karte hain kyonki jo kaam aap kar sakte hain vaah har koi nahi kar sakta jo aapke andar jo talent hai vaah unke andar nahi hai bahut log hain na yah bus log yah chahte hain ki jaisa hum kaam kar rahe hain na bus waisa hi kare hain log kahenge ki aap Rs ke Rs ki mazdoori karo agar unki baaton ko agar maan gaye toh samajh lo aap janjal me fans gaye agar aapka koi sapna bada hai Rs rojana aap kamana chahte hain toh uski soochna aur aapki soch me kitna different hai uski soch choti hai aapki soch badi hai agar aap kuch bada karne ke bare me soch rahe hain aapke paas me koi aisa plan hai koi roadmap hai aapke paas me ki kuch habbada kar sakte hain aap naukri lene waale nahi aap naukri agar dene wali banenge toh problems aayenge aapse bura bhala bolenge log boli nahi tu aisa kar hi nahi kar sakta lekin ek baar meri yaad rakhna jis din aap naukri lene waale nahi naukri dene waale banenge na toh yah duniya se loot karegi bus aap logo ki baaton me paise mat rehna logo ki baaton par dhyan mat dena log toh aapse bura bhala bolenge bus log bura bhala bol nahi hai bolne do jo kuch kar rahe hain karne do lekin aapke mind me koi idea hai koi nafrat kar raha hai karne do bus apne kaam se kaam rakho bus karte jao karte jao karte jao ek din aapka aisa aayega yah duniya surut karegi wahi log aapse kahenge yaar hamko toh pehle hi pata tha ki tu zindagi me kuch bada aadmi banega yaar mere ko bhi bharosa hai log aapse isliye nafrat karte hain kyonki aap is duniya me kuch karne ke kaabil hai aapke paas me aisa talent hai jo unke paas me nahi hai aap is duniya me kuch karne ke kaabil hai so thank you very match best of luck very very congratulation

लोग नफरत आपको इसलिए भी कर सकते हैं कि अपनी जिंदगी में कुछ बड़ा करना अगर चाहते हैं अगर आपका

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  173
WhatsApp_icon
user

Kavita

Writer

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी मैं बिल्कुल आपकी बात से सहमत हूं कुछ लोग जो हैं अपने आप से आप से क्यों नफरत करते ही की यही वजह हो सकती है कि आप जो है बड़े प्यार के पात्र हैं आप जैसे बड़े पॉपुलर है अभी की अपनी कॉलेज जाती थी आपने ऐसा देखा होगा कि लोग जो है जलते हैं उन्हीं लोगों से जिनकी क्वालिटी हमसे बेहतर होती है इनके टन का टैलेंट से बेहतर और रुक जा नी लेते हैं कि आप जितनी समझ लेते हैं लगता है कि आप अगर क्वालिटी में बेहतर होंगे आप आपके घर बात करने की तरीके अच्छा हो गई आप अगर पढ़ाई में अच्छे होंगे या तो बड़े पॉपुलर होंगे आपकी पर्सनैलिटी ऑफ साइन हो गए सबके सामने तू कोई दूसरा प्रश्न आपसे बिल्कुल जो है जल सकता है और यही कारण है कि आप से नफरत करने लगता है क्योंकि को हजम नहीं होती है आपकी जो पापुलैरिटी आपको जो लोग इतना प्रेम करते हैं उनको पसंद नहीं आता है और मन ही मन वच प्रेस भी करते हैं कभी-कभी कि आपसे को कितना जलते हैं परेशान हैं आप को लेकर

ji main bilkul aapki baat se sahmat hoon kuch log jo hain apne aap se aap se kyon nafrat karte hi ki yahi wajah ho sakti hai ki aap jo hai bade pyar ke patra hain aap jaise bade popular hai abhi ki apni college jaati thi aapne aisa dekha hoga ki log jo hai jalte hain unhi logo se jinki quality humse behtar hoti hai inke ton ka talent se behtar aur ruk ja ni lete hain ki aap jitni samajh lete hain lagta hai ki aap agar quality mein behtar honge aap aapke ghar baat karne ki tarike accha ho gayi aap agar padhai mein acche honge ya toh bade popular honge aapki personality of sign ho gaye sabke saamne tu koi doosra prashna aapse bilkul jo hai jal sakta hai aur yahi karan hai ki aap se nafrat karne lagta hai kyonki ko hajam nahi hoti hai aapki jo papulairiti aapko jo log itna prem karte hain unko pasand nahi aata hai aur man hi man vach press bhi karte hain kabhi kabhi ki aapse ko kitna jalte hain pareshan hain aap ko lekar

जी मैं बिल्कुल आपकी बात से सहमत हूं कुछ लोग जो हैं अपने आप से आप से क्यों नफरत करते ही की

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
play
user

Dilsh Sheikh

Journalist

1:06

Likes  11  Dislikes    views  346
WhatsApp_icon
play
user

Snehasish Gupta

Journalist / Traveller

0:16

Likes  14  Dislikes    views  370
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!