जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते हैं और मज़बूत कैसे रह सकते हैं?...


user

Yash

Engineer

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आपके जीवन में बहुत टाइम बाकी कुछ नहीं हो सकता तो उस टाइम बस यही चाहिए कि कुछ ऐसी चीजें रही होंगी लाइफ में जब सोचा होगा कि नहीं हो सकता और वह हुआ होगा और आपने किया होगा तो वही आपको पर बैठे-बैठे देता है तक आप पूरी तरह से हार मान जाऊंगा सोचोगे ही नहीं उसके बारे में तो पॉजिटिव चीजें सोचो कि उस टाइम भी किया था मैंने जैसे कभी क्रिकेट मैच जीता हुआ लगा होगा तभी नहीं जी सकता जैसे कि कोई सब्जेक्ट में अच्छे नंबर आए होंगे और लगा हुआ कि नहीं आ सकते इसमें लेकिन आए होंगे कि मैं तुमने मेहनत की होगी तूने किया हुआ तो जुनून होना चाहिए और उस पर ही चीजें तुम्हें पोस्ट पर मिली जाती है सोचने लगते हो हां मैंने वह कर दिया था यार तुम्हें यह भी कर सकता हूं तो नहीं हो सकता क्यों नहीं

jab aapke jeevan me bahut time baki kuch nahi ho sakta toh us time bus yahi chahiye ki kuch aisi cheezen rahi hongi life me jab socha hoga ki nahi ho sakta aur vaah hua hoga aur aapne kiya hoga toh wahi aapko par baithe baithe deta hai tak aap puri tarah se haar maan jaunga sochoge hi nahi uske bare me toh positive cheezen socho ki us time bhi kiya tha maine jaise kabhi cricket match jita hua laga hoga tabhi nahi ji sakta jaise ki koi subject me acche number aaye honge aur laga hua ki nahi aa sakte isme lekin aaye honge ki main tumne mehnat ki hogi tune kiya hua toh junun hona chahiye aur us par hi cheezen tumhe post par mili jaati hai sochne lagte ho haan maine vaah kar diya tha yaar tumhe yah bhi kar sakta hoon toh nahi ho sakta kyon nahi

जब आपके जीवन में बहुत टाइम बाकी कुछ नहीं हो सकता तो उस टाइम बस यही चाहिए कि कुछ ऐसी चीजें

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. J.Singh

Financial Expert || Ayurvedic Doctor

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब हमारे जीवन में कठिन समय आता है तो पहली सोच आप कहां वही आता है कि आप सबकी सोच सकारात्मक चाहिए आपकी सोच ही होनी चाहिए कि कुछ भी स्थाई नहीं है जब सुख स्थाई नहीं है कोशिश ही नहीं है तो दुख दुख भी स्थाई नहीं होता कुछ समय के लिए आता है आप उसको जिस तरह आप उसको उस तरीके से ही अब उसका सामना कर सकते हैं जिस तरीके से आपको आता किससे कह का आपके जीवन में कटनी आ रही है उस तरीके से आपको उससे उबरने का समाधान आपको ढूंढा है चिंता नहीं करनी है राष्ट्रीय ढूंढने और हमेशा सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ना है आप उसमें कुछ नहीं कर पाती तो आप अपने अच्छे दोस्तों से अच्छे मित्र से अनूपपुर जाने वाली भक्तों से आप उसके लिए सलाह दे सकते हैं और सकारात्मक सोच के साथ और हमेशा खुश मिजाज आप को रखना है अपना दिमाग में कभी कुछ ऐसे देखनी उस तरीके से आप उससे और पर ऊपर जाएंगे

jab hamare jeevan me kathin samay aata hai toh pehli soch aap kaha wahi aata hai ki aap sabki soch sakaratmak chahiye aapki soch hi honi chahiye ki kuch bhi sthai nahi hai jab sukh sthai nahi hai koshish hi nahi hai toh dukh dukh bhi sthai nahi hota kuch samay ke liye aata hai aap usko jis tarah aap usko us tarike se hi ab uska samana kar sakte hain jis tarike se aapko aata kisse keh ka aapke jeevan me katni aa rahi hai us tarike se aapko usse ubarane ka samadhan aapko dhundha hai chinta nahi karni hai rashtriya dhundhne aur hamesha sakaratmak soch ke saath aage badhana hai aap usme kuch nahi kar pati toh aap apne acche doston se acche mitra se anuppur jaane wali bhakton se aap uske liye salah de sakte hain aur sakaratmak soch ke saath aur hamesha khush mizaaz aap ko rakhna hai apna dimag me kabhi kuch aise dekhni us tarike se aap usse aur par upar jaenge

जब हमारे जीवन में कठिन समय आता है तो पहली सोच आप कहां वही आता है कि आप सबकी सोच सकारात्मक

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user

Madan Nanda Haral patil

Soft Skill Trainer

3:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं मिस्टर मदन साहेब पाटील इंटरनेशनल स्कूल पेंटिंग के शिव नगर वर्कशॉप सारे कठिन से कठिन प्रश्नों को मैं एवं मेरे पास एक मैच्योर गया है इसलिए मैं होटल पर जब भी किसी के सवाल का जवाब देता हूं तो मुझे बहुत बड़ी खुशी होती है आजकल आप का सवाल है तो उसका रेंट इन के प्रोग्राम में जो मैं अनुभव लेता हूं इसके आधार पर से मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सक्रत मुकेश हो सकते हैं मजबूत कैसे रह सकते हैं वह देखिए कि मेरे जीवन में बहुत कठिन समय आया है जब भी कठिन समय आता है तो मुझे तो खुद खुश होती है क्यों कठिन समय मुझे और मजबूत बना देता है जो मुझ में कमी है वह कठिन समय मुझे और बना देता है मेरा जीवन अभी तो कठिन समय से ऐसा हो गया कि मैं गॉड को भी जिम्मेदार नहीं ठहरता मुसीबत को भी जिम्मेदार नहीं छोड़ता उन सारे कड़वाहट संडे मेरा जीवन मजबूत किया है तो मैं हमेशा पॉजिटिव रहता हूं आगरा लोगों को ही पॉजिटिव बनाता हूं तो हमेशा मैं ही पॉजिटिव रहता हूं और कठिन समय नहीं मुझे मजबूत बनाया है तो मैं सारे कठिन समय को धन्यवाद देना चाहता हूं कि अभी तो ऐसा है कि जो भी कठिन प्रसंग है या कोई मुसीबत वह मुझे डरते वह मुझे देखकर डरती है मैं मुसीबत के प्रसंगों को डरता नहीं तो मुसीबत मुझे देखकर डरती है तो आज ऐसा है कि जीवन में कितना भी कठिन समय आया तो मैं बिल्कुल डरता नहीं हूं क्योंकि मेरे पास इतनी शक्ति है अभी तो डर नाम की चीज मेरे पास नहीं है मैं कहीं से भी कठिन पसंद से खेलता नहीं हूं कि उनकी मेरा माल बहुत ही स्ट्रांग होगा है और इसका श्रेय जाता है जिस कठिन प्रसंग ने मुझे उस कठिन प्रश्नों को जाता है शायद किसी व्यक्ति ने मुझे दुख दिया हो तो मैं भी उनको को धन्यवाद देना चाहता हूं क्योंकि उन्होंने मुझे दुख दिया इसलिए मैं सुन नहीं रहा मैं तो सांवरे निगेटिव जो घटनाएं मेरे साथ हुई घटनाएं मजबूत बना दिया है तो उसको सारे दोष देना नहीं चाहता हूं उन्होंने मुझे मजबूत बनाया है आप भी ऐसे इसका मेरी विचारधारा से मजबूत बनाओ और आगे चलने का प्रयास करो धन्यवाद थैंक यू

namaskar main mister madan saheb patil international school painting ke shiv nagar workshop saare kathin se kathin prashnon ko main evam mere paas ek mature gaya hai isliye main hotel par jab bhi kisi ke sawaal ka jawab deta hoon toh mujhe bahut badi khushi hoti hai aajkal aap ka sawaal hai toh uska rent in ke program me jo main anubhav leta hoon iske aadhar par se main aapko yah batana chahta hoon ki jab aapke jeevan me kathin samay aata hai toh aap sakrat mukesh ho sakte hain majboot kaise reh sakte hain vaah dekhiye ki mere jeevan me bahut kathin samay aaya hai jab bhi kathin samay aata hai toh mujhe toh khud khush hoti hai kyon kathin samay mujhe aur majboot bana deta hai jo mujhse me kami hai vaah kathin samay mujhe aur bana deta hai mera jeevan abhi toh kathin samay se aisa ho gaya ki main god ko bhi zimmedar nahi thahrata musibat ko bhi zimmedar nahi chodta un saare kadawahat sunday mera jeevan majboot kiya hai toh main hamesha positive rehta hoon agra logo ko hi positive banata hoon toh hamesha main hi positive rehta hoon aur kathin samay nahi mujhe majboot banaya hai toh main saare kathin samay ko dhanyavad dena chahta hoon ki abhi toh aisa hai ki jo bhi kathin prasang hai ya koi musibat vaah mujhe darte vaah mujhe dekhkar darti hai main musibat ke prasango ko darta nahi toh musibat mujhe dekhkar darti hai toh aaj aisa hai ki jeevan me kitna bhi kathin samay aaya toh main bilkul darta nahi hoon kyonki mere paas itni shakti hai abhi toh dar naam ki cheez mere paas nahi hai main kahin se bhi kathin pasand se khelta nahi hoon ki unki mera maal bahut hi strong hoga hai aur iska shrey jata hai jis kathin prasang ne mujhe us kathin prashnon ko jata hai shayad kisi vyakti ne mujhe dukh diya ho toh main bhi unko ko dhanyavad dena chahta hoon kyonki unhone mujhe dukh diya isliye main sun nahi raha main toh sanvare negative jo ghatnaye mere saath hui ghatnaye majboot bana diya hai toh usko saare dosh dena nahi chahta hoon unhone mujhe majboot banaya hai aap bhi aise iska meri vichardhara se majboot banao aur aage chalne ka prayas karo dhanyavad thank you

नमस्कार मैं मिस्टर मदन साहेब पाटील इंटरनेशनल स्कूल पेंटिंग के शिव नगर वर्कशॉप सारे कठिन से

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
user

Krishna Kumar Gupta

Astrologer And Tantrokt Vastu Consultant

0:26
Play

Likes  88  Dislikes    views  1582
WhatsApp_icon
user
2:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो महेश भाई दूज नेशन पटेल आपके समक्ष प्रस्तुत आपका प्रश्न है जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते हैं और मजबूत कैसे रह सकते हैं कहावत कही गए हैं हारिए ना हिम्मत विषारी अनाराम अर्थात अपने ऊपर विश्वास परमात्मा के ऊपर विश्वास आपका बना रहेगा तृषित ग्रुप से कठिन परिस्थितियों से आप निकल कर ऊपर आएंगे और जब हम आप बाल बना रहता है और हम भगवान ईश्वर को अपना संभल बना लेते हैं ना आधार बना लेते हैं और यह सोच लेते हैं जो भगवान करेगा अच्छा करें पूर्ण विश्वास के साथ में सुधार के साथ तो निश्चित रूप से हमारी सोच सकारात्मक बनी रहेगी जो को जीवन में घटित हो रहा है उसको नकारात्मक मुझे सोचे कि हां हो सकता है परमात्मा हमारे लिए कुछ अच्छा करना चाहता है इसलिए इस समय कठिन प्रश्न हमारे सामने ओपन कर रहा है और उनसे करने के लिए आप हिम्मत के साथ श्रम के साथ लोगों को सहयोग के साथ आगे बढ़ते रहें निश्चित रूप से आप सफल होंगे कि पश्चिम से आगे निकल जाएंगे और एक नया सवेरा आएगा इसमें आप सफल व्यक्ति के रूप में सबके सामने उपस्थित होंगे सकारात्मक सोच बनाए रखना ही यह बहुत बड़ी सफलता है और हमेशा इस बात को हमेशा ध्यान रखें असफलता यह सिद्ध करती है कि सफलता का प्रयास पूरे मन से नहीं हुआ इसलिए सकारात्मक सोच बनाने के लिए अपनों को ईश्वर को समर्पित करना पड़ेगा और ईश्वर को अपना आधार अपना संभल मानकर के आगे बढ़ते रहेंगे जो हमारे पीछे हमारा सहयोग कर रहा हमारा मार्गदर्शन कर रहा है

hello mahesh bhai duj nation patel aapke samaksh prastut aapka prashna hai jab aapke jeevan me kathin samay aata hai toh aap sakaratmak kaise ho sakte hain aur majboot kaise reh sakte hain kahaavat kahi gaye hain hariye na himmat vishari anaram arthat apne upar vishwas paramatma ke upar vishwas aapka bana rahega trishit group se kathin paristhitiyon se aap nikal kar upar aayenge aur jab hum aap baal bana rehta hai aur hum bhagwan ishwar ko apna sambhal bana lete hain na aadhar bana lete hain aur yah soch lete hain jo bhagwan karega accha kare purn vishwas ke saath me sudhaar ke saath toh nishchit roop se hamari soch sakaratmak bani rahegi jo ko jeevan me ghatit ho raha hai usko nakaratmak mujhe soche ki haan ho sakta hai paramatma hamare liye kuch accha karna chahta hai isliye is samay kathin prashna hamare saamne open kar raha hai aur unse karne ke liye aap himmat ke saath shram ke saath logo ko sahyog ke saath aage badhte rahein nishchit roop se aap safal honge ki paschim se aage nikal jaenge aur ek naya savera aayega isme aap safal vyakti ke roop me sabke saamne upasthit honge sakaratmak soch banaye rakhna hi yah bahut badi safalta hai aur hamesha is baat ko hamesha dhyan rakhen asafaltaa yah siddh karti hai ki safalta ka prayas poore man se nahi hua isliye sakaratmak soch banane ke liye apnon ko ishwar ko samarpit karna padega aur ishwar ko apna aadhar apna sambhal maankar ke aage badhte rahenge jo hamare peeche hamara sahyog kar raha hamara margdarshan kar raha hai

हेलो महेश भाई दूज नेशन पटेल आपके समक्ष प्रस्तुत आपका प्रश्न है जब आपके जीवन में कठिन समय आ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  87
WhatsApp_icon
user

Bk Arun Kaushik

Youth Counselor Motivational Speaker

3:40
Play

Likes  8  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user

Anand Kumar Tiwari

Yoga Instructor

4:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जीवन में हर किसी के साथ मुश्किलें आती हैं और उस समय जो सकारात्मक बना रहता है स्वयं पर आत्म नियंत्रण रख पाता है वही उन मुश्किलों से ऊपर पड़ता है मुश्किलों के वक्त कठिन समय के वक्त सकारात्मक रहने के लिए आवश्यक है कि उस कठिन समय को स्किल समय को हम एक चुनौती के रूप में लें उसे अपनी परीक्षा के रूप में लें और यह 98 इस चुनौती का मुझे सामना करना है इस परीक्षा में मुझे उत्तीर्ण होना है अपने आप पर विश्वास रखें ईश्वर पर विश्वास रखें अपने मित्रों रिश्तेदारों अपने संगी साथियों पर विश्वास रखें विश्वास नहीं बहुत बड़ी शक्ति होती है आपका अपना जो विश्वास है वह आपके मार के कंठ को को दूर कर देता है आपने ऊर्जा और स्फूर्ति से भर जाते हैं आपके लिए यह आवश्यक है कुछ कठिन समय को अत्यंत धैर्य ता के साथ उस मुश्किल समय को अपने विश्वास के साथ उस कठिन परिस्थिति को अपनी सर्वोत्तम क्षमता के अनुसार चुनौती के रूप में देखें और इस चुनौती से निकलने का उस चुनौती का सामना करने का समाज के समक्ष एक उदाहरण रखने का कार्य करें हमारे लिए समस्या हो जाती है जब हम किसी कठिन परिस्थिति को इस रूप में देखते हैं कि हां केवल हमारे ही सामने आई है जब क्या सच्चाई नहीं है इस जीवन में हर एक व्यक्ति के सामने कठिन परिस्थिति आती रहती है कठिन समय आता रहता है उस कठिन समय को जब वह एक विपदा के रूप में देखता है तो टूट जाता है बिखर जाता है और जब वह उस कठिन समय को एक चुनौती के रूप में देखता है तो वह सवार जाता है अपने जीवन को सुधार लेता है स्वयं को सुधार लेता है जीवन में ना ऊर्जा नई स्फूर्ति प्राप्त करता है आपके जीवन में भी यदि कोई कठिन समय आता है आपको ऐसा लगता है क्या मुश्किल की घड़ी है तो ऐसे समय में धैर्य रखें विश्वास रखें इस तरह की मुश्किल घड़ी सबके जीवन में आती है यह जीवन मुश्किल से भरा हुआ है और मनुष्य एक मनुष्य के रूप में उन मुश्किलों का सामना करना उन मुश्किलों से उबरना उस मुश्किल घड़ी से आगे बढ़ जाना कि आपका पुरुषार्थ है मुश्किलें आई है आपको आजमाने के लिए आपको यह साबित कर देना है क्या आप उन मुश्किलों का सामना करने के लिए उनका नितिन परिस्थितियों का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार फिर आप देखेंगे जब आप इस तरह की घोषणा करते हैं जब आप उसे उस कठिन परिस्थिति को चुनौती के रूप में लेते हैं तो आप देखेंगे कि बहुत सारी परेशानियां जिसे आप कठिन समस्या या कठिन परिस्थिति समझ रहे थे वह कठिन परिस्थिति नहीं है बल्कि जीवन का एक अंग है जीवन का एक भाग मैं विश्वास करता हूं कि आप अपने जीवन में एक नई ऊर्जा और स्फूर्ति के साथ आगे बढ़ेंगे मुश्किल परिस्थितियों को मुश्किल वक्त को अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से राष्ट्रपति सकेंगे और दुख हो या सुख हो हमेशा मुस्कुराते रहना दूसरों को सहयोग करने दूसरों के साथ मेलजोल के भाव से रहने की कोशिश करेंगे धन्यवाद आपका दिन शुभ

namaskar jeevan me har kisi ke saath mushkilen aati hain aur us samay jo sakaratmak bana rehta hai swayam par aatm niyantran rakh pata hai wahi un mushkilon se upar padta hai mushkilon ke waqt kathin samay ke waqt sakaratmak rehne ke liye aavashyak hai ki us kathin samay ko skill samay ko hum ek chunauti ke roop me le use apni pariksha ke roop me le aur yah 98 is chunauti ka mujhe samana karna hai is pariksha me mujhe uttirna hona hai apne aap par vishwas rakhen ishwar par vishwas rakhen apne mitron rishtedaron apne sangi sathiyo par vishwas rakhen vishwas nahi bahut badi shakti hoti hai aapka apna jo vishwas hai vaah aapke maar ke kanth ko ko dur kar deta hai aapne urja aur sfurti se bhar jaate hain aapke liye yah aavashyak hai kuch kathin samay ko atyant dhairya ta ke saath us mushkil samay ko apne vishwas ke saath us kathin paristhiti ko apni sarvottam kshamta ke anusaar chunauti ke roop me dekhen aur is chunauti se nikalne ka us chunauti ka samana karne ka samaj ke samaksh ek udaharan rakhne ka karya kare hamare liye samasya ho jaati hai jab hum kisi kathin paristhiti ko is roop me dekhte hain ki haan keval hamare hi saamne I hai jab kya sacchai nahi hai is jeevan me har ek vyakti ke saamne kathin paristhiti aati rehti hai kathin samay aata rehta hai us kathin samay ko jab vaah ek vipada ke roop me dekhta hai toh toot jata hai bikhar jata hai aur jab vaah us kathin samay ko ek chunauti ke roop me dekhta hai toh vaah savar jata hai apne jeevan ko sudhaar leta hai swayam ko sudhaar leta hai jeevan me na urja nayi sfurti prapt karta hai aapke jeevan me bhi yadi koi kathin samay aata hai aapko aisa lagta hai kya mushkil ki ghadi hai toh aise samay me dhairya rakhen vishwas rakhen is tarah ki mushkil ghadi sabke jeevan me aati hai yah jeevan mushkil se bhara hua hai aur manushya ek manushya ke roop me un mushkilon ka samana karna un mushkilon se ubarana us mushkil ghadi se aage badh jana ki aapka purusharth hai mushkilen I hai aapko ajamane ke liye aapko yah saabit kar dena hai kya aap un mushkilon ka samana karne ke liye unka nitin paristhitiyon ka samana karne ke liye puri tarah se taiyar phir aap dekhenge jab aap is tarah ki ghoshana karte hain jab aap use us kathin paristhiti ko chunauti ke roop me lete hain toh aap dekhenge ki bahut saari pareshaniya jise aap kathin samasya ya kathin paristhiti samajh rahe the vaah kathin paristhiti nahi hai balki jeevan ka ek ang hai jeevan ka ek bhag main vishwas karta hoon ki aap apne jeevan me ek nayi urja aur sfurti ke saath aage badhenge mushkil paristhitiyon ko mushkil waqt ko apni dridh ichchhaashakti se rashtrapati sakenge aur dukh ho ya sukh ho hamesha muskurate rehna dusro ko sahyog karne dusro ke saath meljol ke bhav se rehne ki koshish karenge dhanyavad aapka din shubha

नमस्कार जीवन में हर किसी के साथ मुश्किलें आती हैं और उस समय जो सकारात्मक बना रहता है स्वय

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  313
WhatsApp_icon
user

Ankur Nautiyal

Career & Relationship Counsellor, Motivator

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आप आपका क्वेश्चन है कि जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते हो और मजबूत कैसे रह सकते हैं यह तो मैं आपको यही सुझाव दूंगी कि देखिए जीवन में कठिन समय आता ही अच्छा वह थोड़ा सा कठिन होता है वह बड़ा कठिन समस्या सभी के जीवन की एक घटना की एक आधार है क्या एक भी सकते हैं कि ऐसा कोई भी बंदा एक कोई व्यक्ति नहीं होगा कि उसके साथ उसके जीवन में कठिन समय में आया हूं तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते हो और चकराता क्योंकि आप पर निर्भर करता है कि आप किस समय आया है और आपको क्या जीना है उसमें भी आप अगर पॉजिटिव कि अगर आप ढूंढ लेते हैं कि इसमें क्या पॉजिटिव चीज है अगर आपने मुझे समझ ली तो आप खुद ही ऑटोमेटिक लिए आप मजबूत और बन जाओगे आप से सॉन्ग बन जाओगे अगर आप मुश्किल में भी हो कोई भी मुश्किल में हो पर आप भी उसी मुश्किल में आपने अपना ढूंढ लिया है और उस मुश्किल परेशानी परेशानी का हल ढूंढ रहे हो और उसमें एक पॉजिटिव थी आपने ढूंढ ले कि यहां पर यह जो भी है परेशानी उसका तो मैं समाधान करके रहूंगा ढूंढ रहा हूं पर मुझे इस परेशानी में भी सोच अपनी सकारात्मक सोच रखनी है तो आप ही खुद ही आपको एक अलग से एनर्जी महसूस होगी एक अलग ही पॉजिटिव पाइप के अंदर आएगी और आपको लगे कि नहीं मेरे स्ट्रांग्ली फील कर रहा हूं आप मजबूत रह पाओगे धन्यवाद

dekhiye aap aapka question hai ki jab aapke jeevan me kathin samay aata hai toh aap sakaratmak kaise ho sakte ho aur majboot kaise reh sakte hain yah toh main aapko yahi sujhaav dungi ki dekhiye jeevan me kathin samay aata hi accha vaah thoda sa kathin hota hai vaah bada kathin samasya sabhi ke jeevan ki ek ghatna ki ek aadhar hai kya ek bhi sakte hain ki aisa koi bhi banda ek koi vyakti nahi hoga ki uske saath uske jeevan me kathin samay me aaya hoon toh aap sakaratmak kaise ho sakte ho aur chakrata kyonki aap par nirbhar karta hai ki aap kis samay aaya hai aur aapko kya jeena hai usme bhi aap agar positive ki agar aap dhundh lete hain ki isme kya positive cheez hai agar aapne mujhe samajh li toh aap khud hi Automatic liye aap majboot aur ban jaoge aap se song ban jaoge agar aap mushkil me bhi ho koi bhi mushkil me ho par aap bhi usi mushkil me aapne apna dhundh liya hai aur us mushkil pareshani pareshani ka hal dhundh rahe ho aur usme ek positive thi aapne dhundh le ki yahan par yah jo bhi hai pareshani uska toh main samadhan karke rahunga dhundh raha hoon par mujhe is pareshani me bhi soch apni sakaratmak soch rakhni hai toh aap hi khud hi aapko ek alag se energy mehsus hogi ek alag hi positive pipe ke andar aayegi aur aapko lage ki nahi mere strangli feel kar raha hoon aap majboot reh paoge dhanyavad

देखिए आप आपका क्वेश्चन है कि जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  111
WhatsApp_icon
user

Hemant Priyadarshi

Writer | Philospher| Teacher |

2:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वास्तविक परीक्षा तो आपकी वही है जब आप और कठिनाइयों में हूं जब आप अत्यधिक संघर्ष में जीवन हो उसी समय तो आपकी परीक्षा होती है इस पर उसी समय तो आपकी परीक्षा लेता है हमारा कर्म हमारा भविष्य उसी समय तो हमारी परीक्षा लेता है इस समय आप अगर डट गए इस समय अगर आप सकारात्मक रह गए इस समय अगर आप सही उतरे तो आप परीक्षा में खरे उतरे तब आप जब आप हर्ष में हो जब आप उल्लास में हैं जब आपको सारी सुख सुविधा उपलब्ध है तब आप क्या कर रहे हैं इससे कहां मना जीवन साबित होता है इससे कहां हमारी छवि बनती है हमारी छवि हमारा इमेज निर्माण उसी समय होता है जब हम कठिनाई में कुछ कर रहे होते हैं कठिनाई में भी जब हम मुस्कुराते हुए हर कार्य बिना फल की चिंता किए कर रहे होते हैं तभी हम सही आदमी हैं और आपने पूछा कि कैसे ऐसा हो सकता है तो आपको याद करना चाहिए उन महापुरुषों को उन स्वरों को उन लोगों को अपने आसपास के महान लोगों को अपने बड़े बुजुर्गों का कहानी को याद करना चाहिए क्योंकि आपने कहानियां तो बहुत सुनी होगी बहुत पढ़ी होंगी बहुत जानते होंगे आपको और हर एक महान लोग हर एक बड़े लोग कठिनाई के दौर से अवश्य गुजरे हैं मनुष्य का जीवन निसंदेह ऐसा कोई मनुष्य नहीं हुआ धरती पर जिसने कभी कष्ट नाम होगा हो बिना कष्ट के कोई महान हो ही नहीं सकता और कष्ट हर एक के जीवन में आता है तो आप कष्ट से क्यों घबराते हैं उसे आने दीजिए बिना कांटो के तलाक भी नहीं खेल सकता क्योंकि वह उसकी सुरक्षा है वही उसकी सा वही उसको सौंदर्य देता है कहां के ना हो तो उन्हें तो कोई चल जाए कोई तो वह थोड़ा अजीब हो जाएगा दुख को तो आने दीजिए करना हो तो प्रकाश को आप समझ ही ना पाएंगे हमेशा अगर प्रकाश ही हो तो आप सोचे कि आप सो पाएंगे ठीक नहीं उसे तो वह तो हमारे जीवन का एक अंग है सिक्के का दूसरा पहलू है बिना हेड के तेल नहीं हो सकता और बिना तेल के हिट नहीं हो सकता दोनों एक साथ हो तभी वह सिक्का बन सकता है बस इसे ऐसे ही समझें और जब भी कठिनाई आए तो आप उन महापुरुषों को याद करें आप उन बड़े बुजुर्गों की कहानियों को याद करें और उससे अपने आपको संभल में सब कुछ होगा ईश्वर हमारी परीक्षा ले रहा है

vastavik pariksha toh aapki wahi hai jab aap aur kathinaiyon me hoon jab aap atyadhik sangharsh me jeevan ho usi samay toh aapki pariksha hoti hai is par usi samay toh aapki pariksha leta hai hamara karm hamara bhavishya usi samay toh hamari pariksha leta hai is samay aap agar dat gaye is samay agar aap sakaratmak reh gaye is samay agar aap sahi utare toh aap pariksha me khare utare tab aap jab aap harsh me ho jab aap ullas me hain jab aapko saari sukh suvidha uplabdh hai tab aap kya kar rahe hain isse kaha mana jeevan saabit hota hai isse kaha hamari chhavi banti hai hamari chhavi hamara image nirmaan usi samay hota hai jab hum kathinai me kuch kar rahe hote hain kathinai me bhi jab hum muskurate hue har karya bina fal ki chinta kiye kar rahe hote hain tabhi hum sahi aadmi hain aur aapne poocha ki kaise aisa ho sakta hai toh aapko yaad karna chahiye un mahapurushon ko un swaron ko un logo ko apne aaspass ke mahaan logo ko apne bade bujurgon ka kahani ko yaad karna chahiye kyonki aapne kahaniya toh bahut suni hogi bahut padhi hongi bahut jante honge aapko aur har ek mahaan log har ek bade log kathinai ke daur se avashya gujare hain manushya ka jeevan nisandeh aisa koi manushya nahi hua dharti par jisne kabhi kasht naam hoga ho bina kasht ke koi mahaan ho hi nahi sakta aur kasht har ek ke jeevan me aata hai toh aap kasht se kyon ghabarate hain use aane dijiye bina kanton ke talak bhi nahi khel sakta kyonki vaah uski suraksha hai wahi uski sa wahi usko saundarya deta hai kaha ke na ho toh unhe toh koi chal jaaye koi toh vaah thoda ajib ho jaega dukh ko toh aane dijiye karna ho toh prakash ko aap samajh hi na payenge hamesha agar prakash hi ho toh aap soche ki aap so payenge theek nahi use toh vaah toh hamare jeevan ka ek ang hai sikke ka doosra pahaloo hai bina head ke tel nahi ho sakta aur bina tel ke hit nahi ho sakta dono ek saath ho tabhi vaah sikka ban sakta hai bus ise aise hi samajhe aur jab bhi kathinai aaye toh aap un mahapurushon ko yaad kare aap un bade bujurgon ki kahaniyan ko yaad kare aur usse apne aapko sambhal me sab kuch hoga ishwar hamari pariksha le raha hai

वास्तविक परीक्षा तो आपकी वही है जब आप और कठिनाइयों में हूं जब आप अत्यधिक संघर्ष में जीवन ह

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  146
WhatsApp_icon
user

Ritesh Sah

Engineer

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब भी जीवन में कोई प्रॉब्लम आए तो आप यह सोचिए कि इससे भी ज्यादा बुरा हो सकता था पर मेरे साथ इतना ही हुआ तो इस तरह से आप सकारात्मक बने रह सकते हैं दूसरी बात कि वैसे लोगों की जीवनी आप पढ़े हैं जिनके जिनके लाइफ में बहुत प्रॉब्लम रही है या जिन्होंने अपने जिंदगी में बहुत उतार-चढ़ाव देखे हैं या उनके साथ बहुत ध्यान रख हादसा हो गया हो लेकिन फिर भी इन सारी चीजों के बावजूद वह उस चीज से बाहर निकल कर के आए तो उनकी जीवनी आप को मोटिवेट करें कि आपको भी सकारात्मक रखने में सहयोग करें

jab bhi jeevan me koi problem aaye toh aap yah sochiye ki isse bhi zyada bura ho sakta tha par mere saath itna hi hua toh is tarah se aap sakaratmak bane reh sakte hain dusri baat ki waise logo ki jeevni aap padhe hain jinke jinke life me bahut problem rahi hai ya jinhone apne zindagi me bahut utar chadhav dekhe hain ya unke saath bahut dhyan rakh hadsa ho gaya ho lekin phir bhi in saari chijon ke bawajud vaah us cheez se bahar nikal kar ke aaye toh unki jeevni aap ko motivate kare ki aapko bhi sakaratmak rakhne me sahyog kare

जब भी जीवन में कोई प्रॉब्लम आए तो आप यह सोचिए कि इससे भी ज्यादा बुरा हो सकता था पर मेरे सा

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जो समस्याएं हैं अगर आप उनकी ओर ज्यादा ध्यान देंगे या उनके बारे में सोचने लगेंगे तो आपके अंदर नकारात्मक नकारात्मकता है यदि आप कितनी भी बड़ी समस्या हो उसके समाधान के प्रयास शुरू कर देंगे तो नकारात्मकता खत्म हो जाएगी और

likhe jo samasyaen hain agar aap unki aur zyada dhyan denge ya unke bare me sochne lagenge toh aapke andar nakaratmak nakaratmakta hai yadi aap kitni bhi badi samasya ho uske samadhan ke prayas shuru kar denge toh nakaratmakta khatam ho jayegi aur

लिखे जो समस्याएं हैं अगर आप उनकी ओर ज्यादा ध्यान देंगे या उनके बारे में सोचने लगेंगे तो आप

Romanized Version
Likes  317  Dislikes    views  2335
WhatsApp_icon
user

Dr J B Tiwari

Chairman and Managing Director

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब कभी आपको लगे कि मैं प्रॉब्लम में हूं टूट गया हूं तो आप उसको याद करिए हर समय का एक साइकिल होता है और साइकिल हमेशा चला जाता है भगवान राम को भी अब रामायण देख रहे होंगे अभी 14 साल तक कठिन तपस्या से गुजरना पड़ा लेकिन उस तपस्या को उन्होंने एक मिसाल बना दिया और राम उस तपस्या से नहीं गुजरता 14 साल तो साधु राम ना होते इस मौके पर जो भी परेशानियां हैं वह परेशानियों से निकाल कर के आप बड़े बनेंगे इसलिए पसंद है भगवान आपको देता है

jab kabhi aapko lage ki main problem me hoon toot gaya hoon toh aap usko yaad kariye har samay ka ek cycle hota hai aur cycle hamesha chala jata hai bhagwan ram ko bhi ab ramayana dekh rahe honge abhi 14 saal tak kathin tapasya se gujarana pada lekin us tapasya ko unhone ek misal bana diya aur ram us tapasya se nahi guzarta 14 saal toh sadhu ram na hote is mauke par jo bhi pareshaniya hain vaah pareshaniyo se nikaal kar ke aap bade banenge isliye pasand hai bhagwan aapko deta hai

जब कभी आपको लगे कि मैं प्रॉब्लम में हूं टूट गया हूं तो आप उसको याद करिए हर समय का एक साइकि

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी जो कठिन समय आया है वह दो प्रकार से आता है या तो आपके द्वारा निर्मित किया हुआ है या परिस्थितियों व आ चुका है और इसमें पॉजिटिव बात यह है कि जो चीजें आपके जीवन में घटनाएं घटित हो रही है वह घटित होना ही है तो उसके लिए पश्चाताप करके भी क्या उसके लिए रो कर भी क्या तू जो चीजें घटनाएं हो रही है उन घटनाओं को कैसे संभाला जा सकता है कैसे सुधारा जा सकता है कहां गलतियां हुई है उनको सुधार ली जाए कितना संभाला जा सकता है इस पर वर्क किया जाए ना कि जो हो चुका है उस पर रोया जाए तू जो हो रहा है जो होने वाला है उसके बारे में सोचा जाए ना कि जो हो चुका है उस बारे में सोचा जाए और यही पॉजिटिव बात है कि आप एक अलग तरीके सोच रहे हैं दुनिया की भीड़ में नहीं है आप अलग है थोड़ा और चीजों को सुधारने के बारे में सोच रहे हैं

dekhi jo kathin samay aaya hai vaah do prakar se aata hai ya toh aapke dwara nirmit kiya hua hai ya paristhitiyon va aa chuka hai aur isme positive baat yah hai ki jo cheezen aapke jeevan me ghatnaye ghatit ho rahi hai vaah ghatit hona hi hai toh uske liye pashchaataap karke bhi kya uske liye ro kar bhi kya tu jo cheezen ghatnaye ho rahi hai un ghatnaon ko kaise sambhala ja sakta hai kaise sudhara ja sakta hai kaha galtiya hui hai unko sudhaar li jaaye kitna sambhala ja sakta hai is par work kiya jaaye na ki jo ho chuka hai us par roya jaaye tu jo ho raha hai jo hone vala hai uske bare me socha jaaye na ki jo ho chuka hai us bare me socha jaaye aur yahi positive baat hai ki aap ek alag tarike soch rahe hain duniya ki bheed me nahi hai aap alag hai thoda aur chijon ko sudhaarne ke bare me soch rahe hain

देखी जो कठिन समय आया है वह दो प्रकार से आता है या तो आपके द्वारा निर्मित किया हुआ है या पर

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  79
WhatsApp_icon
user

ALI MON

income tax and sales tax, financial work

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिक की जीवन में कठिन समय आना जरूरी है हर आदमी की जिंदगी में कठिन समय आता है ऐसा नहीं है कि किसी आदमी के दिन में कठिन समय नहीं आता है अगर आप सोचते हैं कि बहुत रहिस आदमी है हम किसी भी समय नहीं है तो जीवन एक संपूर्ण मदन सकती है आप उसको माननीय की मैया में जब तक जिंदगी है मेरी पता मैं दुख और सुख लगा रहेगा कटिंग और नॉर्मल भी लगा रहेगा क्योंकि अगर नहीं रहता तो आपको जीवन जवाब कठिन समय तक जीवन का महत्व समझते हैं तभी आप उसको सही तरीके से समझने की कोशिश करता है आप ग्रुप में जा रहे हैं इतनी समय आता है तो आप अपने आपको फील करते हैं आप आपको बहुत संवेदनशील फील करते हैं बहुत सी चीजें आती है तो आप उसको दूर भी कर सकते हैं ऐसा नहीं है कि नहीं हो सकता मजबूती के लिए यह कि आप आज अभी अपने काम के लोगों को देखिए किन लोगों को देखेंगे तो आपको लगेगा कि नहीं यार मुझसे ज्यादा तो यह पता है तुझे मालूम चीजों में जब डालेंगे तो आपको अपनी दिक्कत नहीं है वह खत्म हो जाएंगी जब आप अपने दूसरे को लोगों को देखना स्टार्ट करें उनकी जीवनशैली को जानेंगे तो आप की कठिनाइयां बिल्कुल कम हो जाएंगे एक बार कोशिश करके देखिए

lick ki jeevan me kathin samay aana zaroori hai har aadmi ki zindagi me kathin samay aata hai aisa nahi hai ki kisi aadmi ke din me kathin samay nahi aata hai agar aap sochte hain ki bahut rahis aadmi hai hum kisi bhi samay nahi hai toh jeevan ek sampurna madan sakti hai aap usko mananiya ki maiya me jab tak zindagi hai meri pata main dukh aur sukh laga rahega cutting aur normal bhi laga rahega kyonki agar nahi rehta toh aapko jeevan jawab kathin samay tak jeevan ka mahatva samajhte hain tabhi aap usko sahi tarike se samjhne ki koshish karta hai aap group me ja rahe hain itni samay aata hai toh aap apne aapko feel karte hain aap aapko bahut samvedansheel feel karte hain bahut si cheezen aati hai toh aap usko dur bhi kar sakte hain aisa nahi hai ki nahi ho sakta majbuti ke liye yah ki aap aaj abhi apne kaam ke logo ko dekhiye kin logo ko dekhenge toh aapko lagega ki nahi yaar mujhse zyada toh yah pata hai tujhe maloom chijon me jab daalenge toh aapko apni dikkat nahi hai vaah khatam ho jayegi jab aap apne dusre ko logo ko dekhna start kare unki jeevan shaili ko jaanege toh aap ki kathinaiyaan bilkul kam ho jaenge ek baar koshish karke dekhiye

लिक की जीवन में कठिन समय आना जरूरी है हर आदमी की जिंदगी में कठिन समय आता है ऐसा नहीं है कि

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user

Sri Hariom Oum Ji

Spiritual guide

2:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से जीवन का सबसे कठिन समय दवाई है जब हम नकारात्मकता से भरे होते हैं नकारात्मक जीवन जीना ही जीवन का सबसे कठिन समय है और जीवन कितना ही संघर्षपूर्ण क्यों ना हो अगर जीवन जीवन में उन पक्ष में सकारात्मकता का ढूंढ ली जाती है तो जीवन कठिनता से सरल बनना आसान हो जाता है कठिन जीवन जूही लगता है जब हम हार मान जाते हैं कायर बन जाते हैं और संघर्ष को छोड़कर के सपने जीवन जीने के सपने देखने लगते हैं दलितों के और जल सकारात्मक होते हैं पुरुषार्थी बनकर देहरी से और एक वीर बनकर जब हम आगे बढ़ते जाओ कठिनता के बादल जो संघर्ष के बादल दिख रहे थे वह धीरे-धीरे बिखर जाते हैं और एक सुनहरा देना मानचित्र मानचित्र सुबह प्राप्त होती है एक नई ऊर्जा के साथ हम देखते हैं कि वह परेशानियों के दुख के बादल कहां बिखर गए अपने को मजबूत बनाने के लिए सबसे बड़ी चीज है अपने जीवन में निराशा आरासा को दूर करके सकारात्मक बनाए और कोई दुश्मन नहीं हमारा सृष्टि का सृजन हारा उस परमात्मा ने दुनिया बनाई है और जैसी बनाई है उसमें कोई ना कोई उसने रास्ता भी दिया है बशर्ते हम अपने कर्तव्य को आगे रखकर हम अपने कर्तव्य पद पर भर्ती का है तो देखेंगे जितना कठिन आपका दिखता था वह धीरे-धीरे सरल बनता जाता है जय श्री कृष्णा

mere hisab se jeevan ka sabse kathin samay dawai hai jab hum nakaratmakta se bhare hote hain nakaratmak jeevan jeena hi jeevan ka sabse kathin samay hai aur jeevan kitna hi sangharshapurn kyon na ho agar jeevan jeevan me un paksh me sakaraatmakata ka dhundh li jaati hai toh jeevan kathinata se saral banna aasaan ho jata hai kathin jeevan juhi lagta hai jab hum haar maan jaate hain kayar ban jaate hain aur sangharsh ko chhodkar ke sapne jeevan jeene ke sapne dekhne lagte hain dalito ke aur jal sakaratmak hote hain purusharthi bankar dehri se aur ek veer bankar jab hum aage badhte jao kathinata ke badal jo sangharsh ke badal dikh rahe the vaah dhire dhire bikhar jaate hain aur ek sunehra dena manchitra manchitra subah prapt hoti hai ek nayi urja ke saath hum dekhte hain ki vaah pareshaniyo ke dukh ke badal kaha bikhar gaye apne ko majboot banane ke liye sabse badi cheez hai apne jeevan me nirasha arasa ko dur karke sakaratmak banaye aur koi dushman nahi hamara shrishti ka srijan hara us paramatma ne duniya banai hai aur jaisi banai hai usme koi na koi usne rasta bhi diya hai basharte hum apne kartavya ko aage rakhakar hum apne kartavya pad par bharti ka hai toh dekhenge jitna kathin aapka dikhta tha vaah dhire dhire saral banta jata hai jai shri krishna

मेरे हिसाब से जीवन का सबसे कठिन समय दवाई है जब हम नकारात्मकता से भरे होते हैं नकारात्मक जी

Romanized Version
Likes  76  Dislikes    views  797
WhatsApp_icon
user

Harish Rana

Motivational Speaker

1:55
Play

Likes  4  Dislikes    views  84
WhatsApp_icon
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि आप जवाब भी जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकती हैं वह मजबूत कैसे देखें कठिन समय पूरे जीवन भर की लोहड़ी में नहीं जाता है तो जब आपके जीवन में दुख आता है कठिन समय आता है विपरीत परिस्थितियां की तो आपको हंसते हुए काटना चाहिए अपने धैर्य को बनाए रखना चाहिए अपने हाथ में बंद को बनाए रखना चाहिए अपने आप को टूटने नहीं देना चाहिए और जो कुछ समझ में आया है जो कुछ नहीं आई हैं उनको एक समाधान के प्रयास करें यही एक तरीका है कठिन समय कठिन समस्याओं का समाधान करने की कोशिश करना अपने आत्मबल को अपने धैर्य को झुकने देना और कभी भी निराशा का अनुभव नहीं करना यह आपने निराशा का नोकिया आपका घर छूट गया और आप हमेशा किसानों के बारे में सोचने लगे आप निराशा के सागर में डूब जाएंगे वह डिप्रेशन के समय और उनके समाधान का प्रयास जीवन में मेरे जीवन का यह पूरा सच क्या पकड़ में किस तरह

aapka prashna hai ki aap jawab bhi jeevan me kathin samay aata hai toh aap sakaratmak kaise ho sakti hain vaah majboot kaise dekhen kathin samay poore jeevan bhar ki lohdi me nahi jata hai toh jab aapke jeevan me dukh aata hai kathin samay aata hai viprit paristhiyaann ki toh aapko hansate hue kaatna chahiye apne dhairya ko banaye rakhna chahiye apne hath me band ko banaye rakhna chahiye apne aap ko tutne nahi dena chahiye aur jo kuch samajh me aaya hai jo kuch nahi I hain unko ek samadhan ke prayas kare yahi ek tarika hai kathin samay kathin samasyaon ka samadhan karne ki koshish karna apne atmabal ko apne dhairya ko jhukane dena aur kabhi bhi nirasha ka anubhav nahi karna yah aapne nirasha ka nokia aapka ghar chhut gaya aur aap hamesha kisano ke bare me sochne lage aap nirasha ke sagar me doob jaenge vaah depression ke samay aur unke samadhan ka prayas jeevan me mere jeevan ka yah pura sach kya pakad me kis tarah

आपका प्रश्न है कि आप जवाब भी जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकती हैं वह

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  560
WhatsApp_icon
user

मीनाक्षी शर्मा

Enterpreneur, Author, Teacher, Motivational Speaker, Career Counsellor.

3:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे जीवन में कठिन समय आता है तो हम सकारात्मक रहने में बड़ी कठिनाई पाते हैं नकारात्मक होना बहुत ही आसान होता है सबसे पहले आपको यह समझना होगा कि पूरे काम को सीखने के लिए मेहनत नहीं करनी पड़ती थी अच्छी आदत को सीखने के लिए आपको वास्तव में मेहनत करनी पड़ती है और लगातार सीखना होता है यह भी सत्य है कि कहना बहुत आसान होता है किंतु जब मुश्किल घड़ी आती है कठिन समय आता है तब हम बहुत ज्यादा परेशान हो जाते हैं टूट जाते हैं और उस समय पर हमें कुछ भी अच्छा नहीं लगता है और जो सबसे पहली चीज हम करते हैं वह भगवान को भूल जाना होता है कि हमारा विश्वास सबसे पहले भगवान से उठता है और हम कहते हैं कि भगवान नहीं होते हैं अगर होते तो मेरे साथ ऐसा नहीं होता लेकिन ऐसा नहीं है आप को समझना होगा कि वह कठिन घड़ी या मुश्किल समय आपके जीवन में जो आया है परीक्षा का समय है जो नहीं आएगा तो आप कभी नहीं जान पाएंगे कि वास्तव में आप कैसे हैं और अभी आपने कौन-कौन सी कमियां बाकी है और जैसे ही आपको यह सोचना शुरु करेंगे आपके दिमाग में यह बात आई थी कि क्या सच में मैं अच्छा हूं जैसा मैं सोचता हूं अपने बारे में क्या सच में आता है क्या जैसा मैं दूसरों को करने के लिए कहता हूं मैं खुद कर पा रहा हूं बहुत आसानी से आप अपने बारे में निर्णय ले सकेंगे और उनको सुधारने का काम करते हैं क्योंकि मेरे अनुभव से आपके जीवन की आखिरी सांस तक आपको अपने आप को और बेहतर बनाने का प्रयास करना चाहिए दूसरा प्रश्न आप मजबूत कैसे रह सकते हैं तो हमेशा ध्यान रखें कि इस पृथ्वी पर सिवाय ईश्वर के और ऐसी कोई शक्ति नहीं है जो आपको सकारात्मक बना सकती है और आप को मजबूत कर सकती है आपके कठिन समय तो पहले आप इस बात के लिए मजबूत बन जाइए कि हां सच में ऐसा है हम जो भी कुछ सोच पा रहे हैं हम जो भी कुछ कर पा रहे हैं उसके पीछे तुम्हें और सिर्फ और सिर्फ ईश्वर की ही आप किस बात के लिए पूरी तरह कानून सो जाइए आपको बहुत ज्यादा शक्ति आ गई है और अब आप किसी की परेशानी नहीं रहे हैं और देखते ही देखते और आप फिर से पहले की तरह और विश्वास और

hamare jeevan me kathin samay aata hai toh hum sakaratmak rehne me badi kathinai paate hain nakaratmak hona bahut hi aasaan hota hai sabse pehle aapko yah samajhna hoga ki poore kaam ko sikhne ke liye mehnat nahi karni padti thi achi aadat ko sikhne ke liye aapko vaastav me mehnat karni padti hai aur lagatar sikhna hota hai yah bhi satya hai ki kehna bahut aasaan hota hai kintu jab mushkil ghadi aati hai kathin samay aata hai tab hum bahut zyada pareshan ho jaate hain toot jaate hain aur us samay par hamein kuch bhi accha nahi lagta hai aur jo sabse pehli cheez hum karte hain vaah bhagwan ko bhool jana hota hai ki hamara vishwas sabse pehle bhagwan se uthata hai aur hum kehte hain ki bhagwan nahi hote hain agar hote toh mere saath aisa nahi hota lekin aisa nahi hai aap ko samajhna hoga ki vaah kathin ghadi ya mushkil samay aapke jeevan me jo aaya hai pariksha ka samay hai jo nahi aayega toh aap kabhi nahi jaan payenge ki vaastav me aap kaise hain aur abhi aapne kaun kaun si kamiyan baki hai aur jaise hi aapko yah sochna shuru karenge aapke dimag me yah baat I thi ki kya sach me main accha hoon jaisa main sochta hoon apne bare me kya sach me aata hai kya jaisa main dusro ko karne ke liye kahata hoon main khud kar paa raha hoon bahut aasani se aap apne bare me nirnay le sakenge aur unko sudhaarne ka kaam karte hain kyonki mere anubhav se aapke jeevan ki aakhiri saans tak aapko apne aap ko aur behtar banane ka prayas karna chahiye doosra prashna aap majboot kaise reh sakte hain toh hamesha dhyan rakhen ki is prithvi par shivaay ishwar ke aur aisi koi shakti nahi hai jo aapko sakaratmak bana sakti hai aur aap ko majboot kar sakti hai aapke kathin samay toh pehle aap is baat ke liye majboot ban jaiye ki haan sach me aisa hai hum jo bhi kuch soch paa rahe hain hum jo bhi kuch kar paa rahe hain uske peeche tumhe aur sirf aur sirf ishwar ki hi aap kis baat ke liye puri tarah kanoon so jaiye aapko bahut zyada shakti aa gayi hai aur ab aap kisi ki pareshani nahi rahe hain aur dekhte hi dekhte aur aap phir se pehle ki tarah aur vishwas aur

हमारे जीवन में कठिन समय आता है तो हम सकारात्मक रहने में बड़ी कठिनाई पाते हैं नकारात्मक होन

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user

Anshu Sarkar

Founder & Director, Sarkar Yog Academy

4:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो मैं आपको धन्यवाद दूंगा कितना सुंदर सवाल जवाब देने के लिए आपने मुझसे अफसर की छाती आपको मेरा नमस्कार आप का सवाल है जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते हैं और मजबूत कैसे रह सकते हैं इस सवाल का एक ही जवाब है वह योग योग और योग योग प्रणाम नमन ध्यान के द्वारा एक मनुष्य में सर्वांगीण विकास शारीरिक मानसिक नैतिक आर्थिक आध्यात्मिक संपूर्ण संपूर्ण दिखा एक इंसान में इतना विकास एक साथ हो सकता है तो उनके जीवन में कोई अच्छा कठिन समय कराया भी उसके लिए कठिन होगा ही नहीं उस कठिन परिस्थितियों का सामना करने के लिए हमेशा तैयार रहेगा उसके पास है हीरो फ्री चिंता मुक्त विश्वास बाजुओं मे ताकत जीवन में कुछ कर गुजरने का चाहा निरोग शरीर पॉजिटिव सोच तू चिंता अगर इतना चीज़ इतना आम सदस्य अगर एक इंसान के पास है तो इसमें आज का दिन में जो युद्ध हो रहा हर पल हर समय हर समय जहां स्वास्थ्य प्रदूषण थाना में मिलावट अवस्था में स्थिति का सामना करने के लिए उस पर विजय पाने के लिए आर यू प्रणाम एवं स्थान पर ही यह संभव है किसी भी परिस्थिति में अपना मन में जो आत्मविश्वास है विल पावर है पॉजिटिव सोच है उसको कभी कभी मत कीजिए वह इंसान का तेल है इतना लंबा समय बिताना है पूरी जिंदगी करना है उस समय एक इंसान कभी पावर के है मानसिक शक्ति आपको विश्वास वही उसका एक कार्य को चलने के लिए होती है मनुष्य को विश्वास इसका तो हम आपसे अनुरोध करेंगे कि आप अपना जीवन में योग प्रबंधन को अपना लें एवं आने वाला समय किसी भी स्थिति में सामना करने के लिए हमेशा तैयार केवल पॉजिटिव चिंता हमें साफ करने के लिए कपड़ा से करके हमें और इस समय देश भारत के साथ पूरा दुनिया का प्रस्ताव देने की कोशिश कर रहा है अपना कोशिश करेंगे आने से पहले हारना नहीं लगने से पहले हारना नहीं मरने से पहले मरना नहीं और कोरोनावायरस से डरना नहीं जो प्रबंधन के माध्यम से हमारा देश के महान प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी के अगुवाई में दिशा निर्देश दिया गया उस पर छलके आप करना पर विजय पा सकते हैं उसको हरा के अब हमारे महान देश भारत को दुनिया का नंबर वन डे स्थापित करा सकते हैं यह संभव है यह संभव है यह सब है धन्यवाद

sabse pehle toh main aapko dhanyavad dunga kitna sundar sawaal jawab dene ke liye aapne mujhse officer ki chhati aapko mera namaskar aap ka sawaal hai jab aapke jeevan me kathin samay aata hai toh aap sakaratmak kaise ho sakte hain aur majboot kaise reh sakte hain is sawaal ka ek hi jawab hai vaah yog yog aur yog yog pranam naman dhyan ke dwara ek manushya me Sarvangiṇa vikas sharirik mansik naitik aarthik aadhyatmik sampurna sampurna dikha ek insaan me itna vikas ek saath ho sakta hai toh unke jeevan me koi accha kathin samay karaya bhi uske liye kathin hoga hi nahi us kathin paristhitiyon ka samana karne ke liye hamesha taiyar rahega uske paas hai hero free chinta mukt vishwas bajuon mein takat jeevan me kuch kar guzarne ka chaha nirog sharir positive soch tu chinta agar itna cheez itna aam sadasya agar ek insaan ke paas hai toh isme aaj ka din me jo yudh ho raha har pal har samay har samay jaha swasthya pradushan thana me milavat avastha me sthiti ka samana karne ke liye us par vijay paane ke liye R you pranam evam sthan par hi yah sambhav hai kisi bhi paristhiti me apna man me jo aatmvishvaas hai will power hai positive soch hai usko kabhi kabhi mat kijiye vaah insaan ka tel hai itna lamba samay bitana hai puri zindagi karna hai us samay ek insaan kabhi power ke hai mansik shakti aapko vishwas wahi uska ek karya ko chalne ke liye hoti hai manushya ko vishwas iska toh hum aapse anurodh karenge ki aap apna jeevan me yog prabandhan ko apna le evam aane vala samay kisi bhi sthiti me samana karne ke liye hamesha taiyar keval positive chinta hamein saaf karne ke liye kapda se karke hamein aur is samay desh bharat ke saath pura duniya ka prastaav dene ki koshish kar raha hai apna koshish karenge aane se pehle harana nahi lagne se pehle harana nahi marne se pehle marna nahi aur coronavirus se darna nahi jo prabandhan ke madhyam se hamara desh ke mahaan pradhanmantri mananiya narendra modi ji ke aguvaii me disha nirdesh diya gaya us par chalke aap karna par vijay paa sakte hain usko hara ke ab hamare mahaan desh bharat ko duniya ka number van day sthapit kara sakte hain yah sambhav hai yah sambhav hai yah sab hai dhanyavad

सबसे पहले तो मैं आपको धन्यवाद दूंगा कितना सुंदर सवाल जवाब देने के लिए आपने मुझसे अफसर की छ

Romanized Version
Likes  273  Dislikes    views  2809
WhatsApp_icon
user

Gyandeep Kkr

Social Activist

0:57
Play

Likes  225  Dislikes    views  1657
WhatsApp_icon
user

Gaurav Sethia

Career & Spiritual Coach

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखे जब भी मेरे जीवन में कठिन समय आता है तो मैं अपने आप को यह याद दिलाता हूं कि टफ टाइम्स दो नॉट लॉस्ट बट पीपल ईट हो यानी जो लोग अपने आप को सख्त बना कर रखते हैं और जो अपने आप को एक पीलिया समझ कर नहीं चलते वह इंसान बुरा वक्त भी अच्छे से निकाल जाते हैं तो यह चीज जो मेरे दिल में रहती है तो मैं अपने कठिन समय को निकाल लेता हूं मैं उस कठिन समय में कोशिश करता हूं यह जानने की कि यह समय जो आया तो यह समय क्यों आया और इससे निकलने के क्या रास्ते हो सकते हैं जो बन पड़ता है वह प्रश्न करता हूं लेकिन हमेशा यह ध्यान में रखता हूं कि यह समय जो अच्छा अगर ज्यादा देर नहीं रहा तो बुरा समय भी ज्यादा दिन नहीं रहेगा तो किसी ना किसी तरह परिस्थितियों से निकला जाता है और जब आप परिस्थितियों से घर जाते हैं तो यह परिस्थितियां ही ऐसी होती हैं जो आपको बहुत कुछ सिखा जाती हैं तो एक ही टफ टाइम्स वाला जो पीरियड है यह एक लर्निंग एक्सपीरियंस भी मैच को लेकर चलता हूं तो उसे वापिस कोई प्लानिंग इसके चलते हैं तो आप इससे कुछ सीख पाते हैं बजाय के अपने आपको एक सीरियल लेने के इसको एक्सिक समझकर आपके लिए तो यह जो बुरा समय है यह भी निकल जाता है

dikhe jab bhi mere jeevan me kathin samay aata hai toh main apne aap ko yah yaad dilata hoon ki tough times do not lost but pipal eat ho yani jo log apne aap ko sakht bana kar rakhte hain aur jo apne aap ko ek peeliya samajh kar nahi chalte vaah insaan bura waqt bhi acche se nikaal jaate hain toh yah cheez jo mere dil me rehti hai toh main apne kathin samay ko nikaal leta hoon main us kathin samay me koshish karta hoon yah jaanne ki ki yah samay jo aaya toh yah samay kyon aaya aur isse nikalne ke kya raste ho sakte hain jo ban padta hai vaah prashna karta hoon lekin hamesha yah dhyan me rakhta hoon ki yah samay jo accha agar zyada der nahi raha toh bura samay bhi zyada din nahi rahega toh kisi na kisi tarah paristhitiyon se nikala jata hai aur jab aap paristhitiyon se ghar jaate hain toh yah paristhiyaann hi aisi hoti hain jo aapko bahut kuch sikha jaati hain toh ek hi tough times vala jo period hai yah ek learning experience bhi match ko lekar chalta hoon toh use vaapas koi planning iske chalte hain toh aap isse kuch seekh paate hain bajay ke apne aapko ek serial lene ke isko eksik samajhkar aapke liye toh yah jo bura samay hai yah bhi nikal jata hai

दिखे जब भी मेरे जीवन में कठिन समय आता है तो मैं अपने आप को यह याद दिलाता हूं कि टफ टाइम्स

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
user

Vijay kotapkar

Mind Trainer

9:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल मुझे बहुत अच्छा लगा इसका मैं जवाब इतना अच्छा देना चाहता हूं कि मुझे खुशी और इसका जवाब इसलिए अपनी छोटी सी कहानी सुना था वह कहानी कुछ ऐसी है कि भगवान एक बार ऊपर से देख लिया आकाश में सियार दुनिया है ना बहुत दुखी है मुझे तो पहले कोई सा रोग फैलाते हैं औरों की वजह से कैंसिल होना शुरू हो जाता है मुझे एक इंसान था वह इंसान की झोपड़ी झोपड़ी में रहता था रोज रोज खाता था कुश्ती गुजर गई उसके बाद में उसे क्रिया कर्म किया उसने उसका कर्म किया और बैठ जाओ शांति से आगे सब लोग रो रहे हैं ऑफिस से उसने तो इतनी हवा का बड़ा धोखा है ना उसी की झोपड़ी ना वो ही उड़ गई उसके लिए घर भी नहीं बचा उसने किया कुछ नहीं अपने बच्चों को लेकर जो अपने बीवी बच्चों को लेकर एक अजीब एक जगह थी उसको मिल गई थी उसे वह बड़े बड़े होते ना जैसे काम में लगे हुए का शोरूम ऑपरेशन के लिए परेशान क्यों नहीं होता है तो भगवान ने उनके मुझे बच्चे थे ना वह भी छीन लिए कोई समझे कोई अच्छा वहां पर हुआ बच्चे बाहर गए होगे और वहां से भी सितारों के बच्चे सब कैसे मर गए तीन बच्चे थे उसके सब मर गए तो उसने देखा यह सब होते हुए कुछ और आकाश के सामने देखा कुछ बोला नहीं उन्होंने उसका भी क्रिया कर्म कर दिया और वापस अपने काम पर लग गया बाहुबली अजीब इंसान है बोले हर कोई इंसान अपने दुख से दुखी रहता है हर कोई चिंता करता है विचार करता है ऐसा बोला कि मेरे से फिर उसका जो काम था उस करवा दिया वह भगवान ने काम छोड़ दिया घर पर आ गया पर काम छोड़ गया है दो-तीन दिन से खाना भी नहीं खाया भूख लगी थी कुछ नहीं किया उसने भी नहीं मांगी बस बेटा चुपचाप काम करने जाते तो काम नहीं मिलता हर कुछ को काम और कोई काम नहीं था ऐसी कमीशन हो गई खाने के लाले पड़ गए और अकेला था फिर भी नहीं कर पाता भी फिर भी बैठे रहते सोते रहो आता थक के सो जाता खाली पेट पानी पी लेता कहीं पर पानी होता तो भी पी लेता पानी पी के सो जाता हूं कि मैंने तुझ पर इतने जुल्म की है इतना रोग लाया बराबर उसके बाद मैं तेरे बच्चे भी मेरे बच्चों को भी मैंने यहां से उठवा लिया या नहीं तेरे को इतनी सारी आपत्तियां डाली शुरू हुआ कि नहीं दुखी क्यों नहीं बोले तो उसने कि जवाब दिया जो होना था हो गया अब रो के क्या फायदा बोले जो मुझे आगे करना मुझे करना है मुझे काम करना है फिर वापस आ की कामनी लेकिन मैं अपना काम की छोड़ो जो मुझे करना जमरा कर्म है उसको मैं क्यों बोलूं मैं मेरा वक्त क्यूबाओ वह मेरा वक्त कि मैं उसके ऊंची जो कि बिना फालतू के कि मुझे गुजार दो कि मेरे साथ ऐसा हुआ मेरे से आप नहीं मानोगे दुख जीवन में एक बार आता है हर किसी के जीवन में दुख होता है 1 सेकंड होगा लेकिन रोना पूरी जिंदगी है समझ लेना मेरे कहानी के माध्यम में क्या बोलना चाहता हूं दुखाता जीवन में एक बार दो बार गंगातीकुरी जिंदगी लोग खाने के बाद में मिला मिला यही सवाल का जवाब दो मानसून कितना खुश हो गए ना तो उसका जितना गया था ना ब्लू जिंदगी में मुझे पहला बंदा तो ऐसा मिला कि अब मैं तुझे वह दूंगा जो जिसकी जो तूने कभी सोचा नहीं होगा तो उसको अच्छा घर मिल गया अच्छा बंगला जिसको दे बंगला मिल गया वापिस की पत्नी को उसको लौटा दिया उसके बच्चों को भी लौटा दिया उसे भगवान ने भगवान के हाथ में है सब कुछ कर सकते क्या बोलना चाहता हूं आपको सब कुछ अपने कि हरिश्चंद्र तारामती की कहानी भी सुनी है क्या सबको आपस में वैसे ही कहानी आज की रोशनी को बंद कर देना चमत्कार रोते रोते रोते ना कभी भगवान शिकार करना बंद कर रोना बंद करो हंसना शुरू करो हर हालत में रहो तो आपने जो बोला है ना कि हर निगडी भारत में पहुंचेगी कैसे रह सकता किसी तरह सकते हो क्या करते ना वही दुखाची के बाद में अच्छे मौला तैनात अभी भी हम बोलते रहते हैं क्योंकि मेरी बीरपुर ब्लूप्रिंट बन जाती है उसी तरह जैसे आपके बुरे हालात हो तो हमेशा सही सोचो अभी मेरी वाइफ ज्योति अवतार पिक्चर देख रही थी का उतर पिक्चर में मान लो उसकी हालत जो उसमें हीरो हीरो है जो अपने राजेश खन्ना जी का राजेश खन्ना की हालत खराब हो गई थी होगी तो उसकी वाइफ ने उसको बोला कि क्या होगा तूने सब कुछ अच्छा होगा इतनी बुरी हालत में भी पिक्चर में डालोगे क्या होगा हमारा बच्चा जो होगा अच्छा होगा उसी वक्त जो हीरो दर्द खुश हो गए जिससे अभी उनके पास बहुत सारा पैसा आने वाला पता नहीं क्या मजा आता है दुख गाने के लिए ऐसा नहीं है कि जो मैं बोल रहा हूं तो मैं उसको फील नहीं किया मैंने भी किया मुझे हॉस्पिटल में एडमिट किया था कि मुझको रुष टाइम पर भी मैं वही बोल रहा था कि सब कुछ अच्छा होगा टीवी देख रहा था टीमें कुकिंग देख रहा था मैं और टीवी देखने की अदा देखो क्या होती है कि टीम में खुद को देख रहा था पहली बात तो की टीवी में रेसिपी बना रही थी मेरे से बाद में भी टीवी चैनल जाकर मेरे को कितना दिन के बाद में योगा टीचर योगा टीचर मुझे P1 इंटरव्यू नहीं है मंत्री मेडिकल हमारे पास देने के लिए तो देखो कितने बुरे हालात होते हैं उसका कितना अच्छा समझने लगी कि जैसा सोचते वैसा होता है जैसा सोचोगे वैसा होगा थैंक यू अगर आपको अच्छा लगता हो ना तुझे फेसबुक भेजे मेरा उधर जा कर देखिए विजय कुताब कर बी आई जी एन आई टी ओ टी ए पी पी आर एस के आर्ट एंड क्राफ्ट विजय कुतुब कर लिखना वह मेरी युटुब चैनल है और मेरी प्रोफाइल में इसने भी मैंने काफी तरह तीन या चार चार दिन मेरे हुए देख लो खाली कितने लोग आगे सुनने के लिए कितने लोगों ने सुना है तो क्या किसी को सुकून नहीं मिला होगा तो किसने शेयर भी किया होगा तब जाकर लोगों को अच्छा लग रहा है तुम लोगों का गुरुद्वारा गुरु नानक देव जी झूठ नहीं बदल सकता है बना सकता है तो आप कर सकते हो आप लोग पावर करोगे ना तो कभी आपको यह में यूं ही लगेगा कि आपने केडी वह आप खराब माहौल भी अच्छे माहौल नहीं बना सकते जैसा सोचोगे ना वही सोच पलट जाएगी चमत्कार भाई शुरू हो जाएगी

aapka sawaal mujhe bahut accha laga iska main jawab itna accha dena chahta hoon ki mujhe khushi aur iska jawab isliye apni choti si kahani suna tha vaah kahani kuch aisi hai ki bhagwan ek baar upar se dekh liya akash me siyar duniya hai na bahut dukhi hai mujhe toh pehle koi sa rog failate hain auron ki wajah se cancel hona shuru ho jata hai mujhe ek insaan tha vaah insaan ki jhopdi jhopdi me rehta tha roj roj khaata tha kushti gujar gayi uske baad me use kriya karm kiya usne uska karm kiya aur baith jao shanti se aage sab log ro rahe hain office se usne toh itni hawa ka bada dhokha hai na usi ki jhopdi na vo hi ud gayi uske liye ghar bhi nahi bacha usne kiya kuch nahi apne baccho ko lekar jo apne biwi baccho ko lekar ek ajib ek jagah thi usko mil gayi thi use vaah bade bade hote na jaise kaam me lage hue ka showroom operation ke liye pareshan kyon nahi hota hai toh bhagwan ne unke mujhe bacche the na vaah bhi cheen liye koi samjhe koi accha wahan par hua bacche bahar gaye hoge aur wahan se bhi sitaron ke bacche sab kaise mar gaye teen bacche the uske sab mar gaye toh usne dekha yah sab hote hue kuch aur akash ke saamne dekha kuch bola nahi unhone uska bhi kriya karm kar diya aur wapas apne kaam par lag gaya bahubali ajib insaan hai bole har koi insaan apne dukh se dukhi rehta hai har koi chinta karta hai vichar karta hai aisa bola ki mere se phir uska jo kaam tha us karva diya vaah bhagwan ne kaam chhod diya ghar par aa gaya par kaam chhod gaya hai do teen din se khana bhi nahi khaya bhukh lagi thi kuch nahi kiya usne bhi nahi maangi bus beta chupchap kaam karne jaate toh kaam nahi milta har kuch ko kaam aur koi kaam nahi tha aisi commision ho gayi khane ke lale pad gaye aur akela tha phir bhi nahi kar pata bhi phir bhi baithe rehte sote raho aata thak ke so jata khaali pet paani p leta kahin par paani hota toh bhi p leta paani p ke so jata hoon ki maine tujhe par itne zulm ki hai itna rog laya barabar uske baad main tere bacche bhi mere baccho ko bhi maine yahan se uthava liya ya nahi tere ko itni saari apattiyan dali shuru hua ki nahi dukhi kyon nahi bole toh usne ki jawab diya jo hona tha ho gaya ab ro ke kya fayda bole jo mujhe aage karna mujhe karna hai mujhe kaam karna hai phir wapas aa ki kamani lekin main apna kaam ki chodo jo mujhe karna jamara karm hai usko main kyon bolu main mera waqt kyubao vaah mera waqt ki main uske unchi jo ki bina faltu ke ki mujhe gujar do ki mere saath aisa hua mere se aap nahi manoge dukh jeevan me ek baar aata hai har kisi ke jeevan me dukh hota hai 1 second hoga lekin rona puri zindagi hai samajh lena mere kahani ke madhyam me kya bolna chahta hoon dukhata jeevan me ek baar do baar gangatikuri zindagi log khane ke baad me mila mila yahi sawaal ka jawab do monsoon kitna khush ho gaye na toh uska jitna gaya tha na blue zindagi me mujhe pehla banda toh aisa mila ki ab main tujhe vaah dunga jo jiski jo tune kabhi socha nahi hoga toh usko accha ghar mil gaya accha bangla jisko de bangla mil gaya vaapas ki patni ko usko lauta diya uske baccho ko bhi lauta diya use bhagwan ne bhagwan ke hath me hai sab kuch kar sakte kya bolna chahta hoon aapko sab kuch apne ki harishchandra taramati ki kahani bhi suni hai kya sabko aapas me waise hi kahani aaj ki roshni ko band kar dena chamatkar rote rote rote na kabhi bhagwan shikaar karna band kar rona band karo hansana shuru karo har halat me raho toh aapne jo bola hai na ki har nigdi bharat me pahunchegi kaise reh sakta kisi tarah sakte ho kya karte na wahi dukhachi ke baad me acche maula tainat abhi bhi hum bolte rehte hain kyonki meri birpur Blue print ban jaati hai usi tarah jaise aapke bure haalaat ho toh hamesha sahi socho abhi meri wife jyoti avatar picture dekh rahi thi ka utar picture me maan lo uski halat jo usme hero hero hai jo apne rajesh khanna ji ka rajesh khanna ki halat kharab ho gayi thi hogi toh uski wife ne usko bola ki kya hoga tune sab kuch accha hoga itni buri halat me bhi picture me daloge kya hoga hamara baccha jo hoga accha hoga usi waqt jo hero dard khush ho gaye jisse abhi unke paas bahut saara paisa aane vala pata nahi kya maza aata hai dukh gaane ke liye aisa nahi hai ki jo main bol raha hoon toh main usko feel nahi kiya maine bhi kiya mujhe hospital me admit kiya tha ki mujhko rush time par bhi main wahi bol raha tha ki sab kuch accha hoga TV dekh raha tha teamen coocking dekh raha tha main aur TV dekhne ki ada dekho kya hoti hai ki team me khud ko dekh raha tha pehli baat toh ki TV me recipe bana rahi thi mere se baad me bhi TV channel jaakar mere ko kitna din ke baad me yoga teacher yoga teacher mujhe P1 interview nahi hai mantri medical hamare paas dene ke liye toh dekho kitne bure haalaat hote hain uska kitna accha samjhne lagi ki jaisa sochte waisa hota hai jaisa sochoge waisa hoga thank you agar aapko accha lagta ho na tujhe facebook bheje mera udhar ja kar dekhiye vijay kutab kar be I ji N I T O T a p p R S ke art and craft vijay qutub kar likhna vaah meri yutub channel hai aur meri profile me isne bhi maine kaafi tarah teen ya char char din mere hue dekh lo khaali kitne log aage sunne ke liye kitne logo ne suna hai toh kya kisi ko sukoon nahi mila hoga toh kisne share bhi kiya hoga tab jaakar logo ko accha lag raha hai tum logo ka gurudwara guru nanak dev ji jhuth nahi badal sakta hai bana sakta hai toh aap kar sakte ho aap log power karoge na toh kabhi aapko yah me yun hi lagega ki aapne kaidi vaah aap kharab maahaul bhi acche maahaul nahi bana sakte jaisa sochoge na wahi soch palat jayegi chamatkar bhai shuru ho jayegi

आपका सवाल मुझे बहुत अच्छा लगा इसका मैं जवाब इतना अच्छा देना चाहता हूं कि मुझे खुशी और इसका

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन नकारात्मक कुछ नहीं करते कठिन समय में भी निकल जाएगा समय आपके जो परेशानियां वह भी दूर हो जाएंगे संघर्ष एक ऐसी चीज है कि जीवन में उन निकल जाता और खुशियां आ जाती हैं इसलिए हमें भी अपने आदत को बदल दिया नहीं और सफेद सोच रखी है

lekin nakaratmak kuch nahi karte kathin samay me bhi nikal jaega samay aapke jo pareshaniya vaah bhi dur ho jaenge sangharsh ek aisi cheez hai ki jeevan me un nikal jata aur khushiya aa jaati hain isliye hamein bhi apne aadat ko badal diya nahi aur safed soch rakhi hai

लेकिन नकारात्मक कुछ नहीं करते कठिन समय में भी निकल जाएगा समय आपके जो परेशानियां वह भी दूर

Romanized Version
Likes  212  Dislikes    views  2146
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:53
Play

Likes  167  Dislikes    views  5550
WhatsApp_icon
user

Rony

Psychologist

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक ऐसे चोचे सकारात्मक सोचने का सबसे बड़ा और सबसे हकीकत एक ही उपाय है किंतु इस दुनिया की सबसे बड़ी रेल होती है आप अगर आप इसको पहचान गए तो आप कभी भी दुखी नहीं होंगे क्योंकि आपको पता है कि आप हमेशा के लिए जिंदा तो होने वाले हैं नहीं तो आपको किस बात की परेशानी जो हो गया सो हो गया उसके लिए आप रोना क्या तो आगे अपना जीवन जियो और खुश रहो और सकारात्मक सोच

jab aapke jeevan me kathin samay aata hai toh aap sakaratmak aise choche sakaratmak sochne ka sabse bada aur sabse haqiqat ek hi upay hai kintu is duniya ki sabse badi rail hoti hai aap agar aap isko pehchaan gaye toh aap kabhi bhi dukhi nahi honge kyonki aapko pata hai ki aap hamesha ke liye zinda toh hone waale hain nahi toh aapko kis baat ki pareshani jo ho gaya so ho gaya uske liye aap rona kya toh aage apna jeevan jio aur khush raho aur sakaratmak soch

जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक ऐसे चोचे सकारात्मक सोचने का सबसे बड़ा और

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Dr.Sachin Pathak

Dietician And Reiki GrandMaster

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हर किसी के जीवन में एक बार या कई बार कठिन समय जरूर आता है तो आपको सकारात्मक कैसे रखनी है अपने अंदर और अपने आप से कैसे मजबूत बनाए रखना है इस बारे में आपसे कहता हूं हमेशा इस बात का ध्यान रखिएगा कि आज जो भी समय है कल वह बदल जाएगा तो आज आपके पास जैसा भी समय हो जैसे खुश रहिए क्योंकि जरूर ध्यान रखिए कि यह समय बदलने वाला है भले ही आज अच्छा समय हो तो कल एक ऐसा समय आएगा जो कि आपको पास करना बहुत ही कठिन हो जाएगा तो बे प्रिपेयर्ड फॉर योरसेल्फ इन डिफिकल्ट टाइम और यदि आज आपका कठिन समय है तो आशा रखे कि आगे आने वाला समय आपके लिए बहुत ही सुंदर होगा आशा करता हूं कि आप तो मेरे दिमाग पसंद आया होगा मैं एक किरण मास्टर सचिन पाठक थैंक यू वेरी मच

dekhiye har kisi ke jeevan me ek baar ya kai baar kathin samay zaroor aata hai toh aapko sakaratmak kaise rakhni hai apne andar aur apne aap se kaise majboot banaye rakhna hai is bare me aapse kahata hoon hamesha is baat ka dhyan rakhiega ki aaj jo bhi samay hai kal vaah badal jaega toh aaj aapke paas jaisa bhi samay ho jaise khush rahiye kyonki zaroor dhyan rakhiye ki yah samay badalne vala hai bhale hi aaj accha samay ho toh kal ek aisa samay aayega jo ki aapko paas karna bahut hi kathin ho jaega toh be pripeyard for yourself in difficult time aur yadi aaj aapka kathin samay hai toh asha rakhe ki aage aane vala samay aapke liye bahut hi sundar hoga asha karta hoon ki aap toh mere dimag pasand aaya hoga main ek kiran master sachin pathak thank you very match

देखिए हर किसी के जीवन में एक बार या कई बार कठिन समय जरूर आता है तो आपको सकारात्मक कैसे रखन

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user

Manish Dev

Motivational Speaker, Yoga-Meditation Guide, Spiritualist, Psycho-analyst, Astrologer, Spiritual Healer, Life Coach

3:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मित्र जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते हो और मजबूत कैसे रह सकते हैं बहुत अच्छा प्रश्न है आपका जब जीवन में देखी जब मेरे जीवन में जब कठिन समय आता है तुम्हें एक बात अपने मन में दृढ़ रखता हूं कि अच्छा समय अच्छे कर्मों के फल रूप में आएगा जो बुरा समय आया है कठिन समय आया है वह किसी न किसी बुरे कर्म के फल के कारण आया है इसलिए सर्वदा स्वयं को कर्म परायण बनाए रखो क्योंकि हमारे अधिकार में कर्म ही है कर्मण्ए वाधिकारस्ते मां फलेषु कदाचन यही श्री कृष्ण का उपदेश अर्जुन को के अर्जुन तेरे अधिकार में मात्र कर्म ही है आप कठिन समय में भी सत्कर्म करते रहें आपके पास जो अच्छा समय है उसमें उसको आप कर्म में लगाते रहे और कठिन समय के समय ज्यादा अच्छे से समय का उपयोग करने का प्रयास करें बुरे कर्मों से बचने का प्रयास करें तो बड़ा अच्छा होगा तू अब समय बदल जाएगा जो कठिन आया है जो अच्छा समय था वह भी बदल गया तो कठिन वाला भी बदल जाएगा चिंता करने की जरूरत नहीं है परिवर्तन संसार का नियम है परिवर्तन संसार का नियम है तो परिवर्तन तो होना ही होना है तो इसलिए हमें कर्म परायण रहना है निरंतर कर्म करते रहना है कर्म का त्याग नहीं करना यह विचारधारा रखकर मैं चलता हूं और कर्मों के कारण अच्छे समय बुरे समय तो जीवन में आते ही रहते हैं उससे कठिन समय से उस बुरे समय से कैसे निपटना है यह कला हमें आनी चाहिए दो तरह की बातें हो सकती हैं ज्ञानी भूखे ज्ञान से अज्ञानी भू के रोए जो अज्ञानी है वह अपनी किस्मत को जो है उलाहना देता हुआ अपनी किस्मत का रोता हुआ पूर्णा गाना करता रहेगा कि हाय मेरा यह नुकसान हाय मेरा वह नुकसान हाय मेरी जिंदगी बर्बाद बता रही है करेगा उसे परेशान नहीं होगा वह मान के चलेगा कि हां भाई यह सब खत्म होने वाला है अच्छा समय नहीं रहा तो अच्छे समय में बहुत अहंकार मत कीजिए और बुरे समय में बिल्कुल अवसाद में मत चले अगर अच्छा वाला समय निकला है तो बुरा वाला समय भी निकल जाएगा यह प्रकृति है यह संसार है एक चक्र है यह कालचक्र है इसी प्रकार से चलता है और कठिन समय में जितना शांत रह सकते हैं उतना स्वयं को शांत रखने का प्रयास कीजिए और जो अपनी अच्छी नियत है उसे बनाए रखें कठिन समय में यह नहीं कि भाई एक हम ज्यादातर लोग सोचने लग जाते हैं करें वह देखो इतना पाप करता है फिर भी भगवान ने उसको चना धन दिया इतना वैभव दिया और हम तो हमेशा अच्छे काम करते फिर भी हम आम गरीब रह गए तो अच्छे काम आप करते ही रहे क्योंकि किसी और कर्मों के कारण आप इस समय विपत्ति में है लेकिन अपने आज के अच्छे कर्मों के कारण अब भविष्य में जरूर ही आपकी विपत्ति दूर हो जाएगी और आप संपत्ति में आ जाएंगे संपत्ति प्राप्त हो जाएगी आपको तो इसलिए कभी भी नकारात्मक समय में कठिन समय में दुखी नहीं होना चाहिए कठिन समय में स्वयं के साथ स्वयं को नकारात्मक भावनाओं के अंदर नहीं रखना चाहिए अपना कर्म करते रहना चाहिए अपने प्रयास करते रहना चाहिए अच्छे कर्मों से ही कर्मों से ही आप अपना भविष्य सुधार सकते हैं अपने संस्कार सुधार सकते हैं तो आप नित्य ही शुभ कर्मों में लगे रहे यही मैं कहना चाहूंगा इस समय कठिन हो जाए अच्छा अच्छा समय आ गया तू भी बहुत अहंकार में नहीं आना चाहिए इस तरह से विचार करना चाहिए धन्यवाद

mitra jab aapke jeevan me kathin samay aata hai toh aap sakaratmak kaise ho sakte ho aur majboot kaise reh sakte hain bahut accha prashna hai aapka jab jeevan me dekhi jab mere jeevan me jab kathin samay aata hai tumhe ek baat apne man me dridh rakhta hoon ki accha samay acche karmon ke fal roop me aayega jo bura samay aaya hai kathin samay aaya hai vaah kisi na kisi bure karm ke fal ke karan aaya hai isliye sarvada swayam ko karm parayan banaye rakho kyonki hamare adhikaar me karm hi hai karmanye vadhikaraste maa faleshu kadachan yahi shri krishna ka updesh arjun ko ke arjun tere adhikaar me matra karm hi hai aap kathin samay me bhi satkarm karte rahein aapke paas jo accha samay hai usme usko aap karm me lagate rahe aur kathin samay ke samay zyada acche se samay ka upyog karne ka prayas kare bure karmon se bachne ka prayas kare toh bada accha hoga tu ab samay badal jaega jo kathin aaya hai jo accha samay tha vaah bhi badal gaya toh kathin vala bhi badal jaega chinta karne ki zarurat nahi hai parivartan sansar ka niyam hai parivartan sansar ka niyam hai toh parivartan toh hona hi hona hai toh isliye hamein karm parayan rehna hai nirantar karm karte rehna hai karm ka tyag nahi karna yah vichardhara rakhakar main chalta hoon aur karmon ke karan acche samay bure samay toh jeevan me aate hi rehte hain usse kathin samay se us bure samay se kaise nipatna hai yah kala hamein aani chahiye do tarah ki batein ho sakti hain gyani bhukhe gyaan se agyani bhu ke ROYE jo agyani hai vaah apni kismat ko jo hai ulahana deta hua apni kismat ka rota hua poorna gaana karta rahega ki hi mera yah nuksan hi mera vaah nuksan hi meri zindagi barbad bata rahi hai karega use pareshan nahi hoga vaah maan ke chalega ki haan bhai yah sab khatam hone vala hai accha samay nahi raha toh acche samay me bahut ahankar mat kijiye aur bure samay me bilkul avsad me mat chale agar accha vala samay nikala hai toh bura vala samay bhi nikal jaega yah prakriti hai yah sansar hai ek chakra hai yah kalchakra hai isi prakar se chalta hai aur kathin samay me jitna shaant reh sakte hain utana swayam ko shaant rakhne ka prayas kijiye aur jo apni achi niyat hai use banaye rakhen kathin samay me yah nahi ki bhai ek hum jyadatar log sochne lag jaate hain kare vaah dekho itna paap karta hai phir bhi bhagwan ne usko chana dhan diya itna vaibhav diya aur hum toh hamesha acche kaam karte phir bhi hum aam garib reh gaye toh acche kaam aap karte hi rahe kyonki kisi aur karmon ke karan aap is samay vipatti me hai lekin apne aaj ke acche karmon ke karan ab bhavishya me zaroor hi aapki vipatti dur ho jayegi aur aap sampatti me aa jaenge sampatti prapt ho jayegi aapko toh isliye kabhi bhi nakaratmak samay me kathin samay me dukhi nahi hona chahiye kathin samay me swayam ke saath swayam ko nakaratmak bhavnao ke andar nahi rakhna chahiye apna karm karte rehna chahiye apne prayas karte rehna chahiye acche karmon se hi karmon se hi aap apna bhavishya sudhaar sakte hain apne sanskar sudhaar sakte hain toh aap nitya hi shubha karmon me lage rahe yahi main kehna chahunga is samay kathin ho jaaye accha accha samay aa gaya tu bhi bahut ahankar me nahi aana chahiye is tarah se vichar karna chahiye dhanyavad

मित्र जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप सकारात्मक कैसे हो सकते हो और मजबूत कैसे रह सक

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  103
WhatsApp_icon
user

Emam Idrisi

Director (MBSC Group)

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब किसी भी आदमी के सामने कठिन समय आता है तो उसको हमेशा अपने से नीचे वाले को देखना अगर जिस किसी के ऊपर कोई समस्या आती है और अपने से नीचे देखता है तो उसको दिल में आता है कि मैं नीचे वाले से तो काफी अच्छा हूं मैं इससे बुरा नहीं हूं करके मैं से काफी अच्छा हो तो अपने अंदर एक एक अलग हेनर्जी मिलती है एक पॉजिटिव एनर्जी मिलती है जिससे कि हमें कुछ अच्छा करने के लिए सकारात्मक हो सकते हैं घर के अगर हम ऊपर देखेंगे घर के अपने से अच्छे लोगों को देखेंगे अपने से डिवेलप लोगों को देखेंगे तो हमारे लाइफ में हमेशा नकारात्मक की सोच आएगी और हम कुछ अच्छा करने की वजह डिप्रेशन में जाएंगे और कुछ अच्छा नहीं कर पाएंगे अगर हमें अपने लाइफ में कुछ पॉजिटिव थिंक पैदा करनी है सकारात्मक सोच पैदा करनी है तो हमेशा अपने से नीचे हमसे जो नीचे वालों को देखेंगे तो हम हमेशा सकारात्मक एनर्जी पैदा करेंगे और हमेशा कुछ अच्छी चीजें करेंगे सर थैंक यू

jab kisi bhi aadmi ke saamne kathin samay aata hai toh usko hamesha apne se niche waale ko dekhna agar jis kisi ke upar koi samasya aati hai aur apne se niche dekhta hai toh usko dil me aata hai ki main niche waale se toh kaafi accha hoon main isse bura nahi hoon karke main se kaafi accha ho toh apne andar ek ek alag henarji milti hai ek positive energy milti hai jisse ki hamein kuch accha karne ke liye sakaratmak ho sakte hain ghar ke agar hum upar dekhenge ghar ke apne se acche logo ko dekhenge apne se develop logo ko dekhenge toh hamare life me hamesha nakaratmak ki soch aayegi aur hum kuch accha karne ki wajah depression me jaenge aur kuch accha nahi kar payenge agar hamein apne life me kuch positive think paida karni hai sakaratmak soch paida karni hai toh hamesha apne se niche humse jo niche walon ko dekhenge toh hum hamesha sakaratmak energy paida karenge aur hamesha kuch achi cheezen karenge sir thank you

जब किसी भी आदमी के सामने कठिन समय आता है तो उसको हमेशा अपने से नीचे वाले को देखना अगर जिस

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  46
WhatsApp_icon
user

Dr Motilal Bakshi

Homeopathy Doctor

2:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नंबर वन ध्वज के साथ आत्मविश्वास को बनाए किसी भी प्रकार की सफलता आत्मविश्वास क्या भाव से प्राप्त नहीं की जा सकती है नंबर दो कोई भी अवस्था या विपरीत परिस्थिति फाई नहीं होता है समय के साथ-साथ वही बदलता है तथा उसका अंत भी होता है नंबर थॉट सच्चा सहारा ईश्वर का होता है इसीलिए विपरीत परिस्थिति में हमेशा हमेशा परमात्मा का सरल लेना चाहिए क्योंकि इससे जो भी करता है अच्छाई के लिए करते हैं हमें इसमें से बहुत कुछ सीखने को ही मिलता है नंबर 4 विपरीत परिस्थिति में हमें अपने शुभचिंतक के साथ विचार विमर्श करना चाहिए इस समय हमें अपना या पढ़ाई का पता चल जाता है नंबर ठीक ऐसी स्थिति में हमें कोई सद्गुरु के सरल लेना चाहिए नंबर 6 संगम सादगी और ईमानदारी से मेहनत विपरीत परिस्थिति में आत्मविश्वास बनाए रखने में सहायक होता है नंबर सेवन अपने दिमाग को शांत नहीं रखने से या घबरा जाने से उस परिस्थिति से वरना नामुमकिन हो जाता है नंबर 1 सीरियल होने से घबराना नहीं चाहिए बार-बार कोशिश करते रहना चाहिए एक दिन अवश्य ही सफलता मिलेगी कामयाब आदमी की जीवन कथा को याद करना चाहिए नंबर 9 रोजाना योग व्यायाम तथा मेडिटेशन के सहारे अपने शरीर तथा मन को दुरुस्त रखना चाहिए नंबर 10 सकारात्मक सोच रखने वाले आदमी के साथ रहना चाहिए नंबर इलेवेंथ छोड़कर भागना नहीं चाहिए निरंतर प्रयास करते रहना चाहिए नंबर ट्वेल्थ लीवर के कारण को या उस परिस्थिति के कारण को ढूंढने का प्रयास करना चाहिए तथा जिंदगी में उसे दोबारा नहीं रिपीट करना चाहिए

number van dhwaj ke saath aatmvishvaas ko banaye kisi bhi prakar ki safalta aatmvishvaas kya bhav se prapt nahi ki ja sakti hai number do koi bhi avastha ya viprit paristhiti fai nahi hota hai samay ke saath saath wahi badalta hai tatha uska ant bhi hota hai number thought saccha sahara ishwar ka hota hai isliye viprit paristhiti me hamesha hamesha paramatma ka saral lena chahiye kyonki isse jo bhi karta hai acchai ke liye karte hain hamein isme se bahut kuch sikhne ko hi milta hai number 4 viprit paristhiti me hamein apne shubhchintak ke saath vichar vimarsh karna chahiye is samay hamein apna ya padhai ka pata chal jata hai number theek aisi sthiti me hamein koi sadguru ke saral lena chahiye number 6 sangam saadgi aur imaandaari se mehnat viprit paristhiti me aatmvishvaas banaye rakhne me sahayak hota hai number seven apne dimag ko shaant nahi rakhne se ya ghabara jaane se us paristhiti se varna namumkin ho jata hai number 1 serial hone se ghabrana nahi chahiye baar baar koshish karte rehna chahiye ek din avashya hi safalta milegi kamyab aadmi ki jeevan katha ko yaad karna chahiye number 9 rojana yog vyayam tatha meditation ke sahare apne sharir tatha man ko durast rakhna chahiye number 10 sakaratmak soch rakhne waale aadmi ke saath rehna chahiye number eleventh chhodkar bhaagna nahi chahiye nirantar prayas karte rehna chahiye number twelfth liver ke karan ko ya us paristhiti ke karan ko dhundhne ka prayas karna chahiye tatha zindagi me use dobara nahi repeat karna chahiye

नंबर वन ध्वज के साथ आत्मविश्वास को बनाए किसी भी प्रकार की सफलता आत्मविश्वास क्या भाव से प्

Romanized Version
Likes  48  Dislikes    views  428
WhatsApp_icon
user

Jiten....

Astrologer Trenner and Other Tips

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप पहले तो वह कठिन समय को सच्चाई से इमानदारी से उसके साथ एडजस्टमेंट करें उस से भागे नहीं दूसरा जब भी कठिन समय हो तो गलत कल्पनाएं गलत धारणा है शेख चिल्ली जैसे सपने आलस्य यह सब कुछ छोड़ दीजिए और जो कठिन समय है उसी में ईमानदारी से अपनी सच्चाई से एडजस्टमेंट कीजिए धीरे-धीरे वह समय में अपने आप को डालते जाइए और वह समय धीरे-धीरे कठिनाई से आसान होता जाएगा होता जाएगा आपको पता भी नहीं चलेगा और आप बाहर आते जाएंगे लेकिन दूर नहीं होना है कल्पना ही नहीं करनी है गलत विचार नहीं करनी

jab aapke jeevan me kathin samay aata hai toh aap pehle toh vaah kathin samay ko sacchai se imaandari se uske saath adjustment kare us se bhaage nahi doosra jab bhi kathin samay ho toh galat kalpanaen galat dharana hai shaikh Chilly jaise sapne aalasya yah sab kuch chhod dijiye aur jo kathin samay hai usi me imaandaari se apni sacchai se adjustment kijiye dhire dhire vaah samay me apne aap ko daalte jaiye aur vaah samay dhire dhire kathinai se aasaan hota jaega hota jaega aapko pata bhi nahi chalega aur aap bahar aate jaenge lekin dur nahi hona hai kalpana hi nahi karni hai galat vichar nahi karni

जब आपके जीवन में कठिन समय आता है तो आप पहले तो वह कठिन समय को सच्चाई से इमानदारी से उसके स

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
जब जीवन कठिन चुनौती हो जाता है अपने आप को मजबूत होने के लिए ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!