17 साल बाद भारत की मनुषी शिल्लर विश्व सुंदरी बानी हैं,लेकिन इतने साल लगने में कारन क्या हो सकता है?...


play
user

Neha S

UPSC कोच

0:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी बहुत प्राइवेट ऑर्गन डोनेशन का काम किया है मनुष्य चिल्लर नहीं है तो सबसे पहले हमें उन को सेल्यूट करना चाहिए कि उनकी मेहनत से भारत को एक वोट मिला फिर से 70 मिनट के बाद ही सही मिला तो ऑफलाइन क्यों होते हैं की ब्यूटी कॉन्टेस्ट में से बीएससी ब्यूटी नहीं होता है कि आपका फिजिकल अपीयरेंस ऑफ कलयुग कितना मीटर करता है जबकि आपका इसके साथ साथ ही आपका दिन भी मैटर करता है कि आपके पास कितना प्रेम है आपका प्रदेश तापमान कितना अच्छा है आप किस तरीके से आपका बॉडी लैंग्वेज क्या आप किस तरीके से अपने आप को क्या नहीं कर रहे हैं सारी चीजें बहुत महत्व करती है और मनुष्य को एक ही बार नहीं खिलता हुआ था उसने मिस इंडिया का खिताब लेकर आई थी आप उसके पहले वह हरियाणा में हरियाणा का किताब इन को मिला है तो ऐसा नहीं है कि सिर्फ यही ऑफिस पिन जनरेट है मेडिकल कि मेडिकल की पढ़ाई भी कर रही है एजुकेशन को भी अच्छी फैमिली बैकग्राउंड भी उनका महत्व करता है तो सारी चीजें देखी जाती है एक किसी भी कांटेक्ट जैसे आप आईएएस एग्जाम देते हैं तो इसमें अपना क्या जाता है उसे की जाती है

dekhi bahut private organ donation ka kaam kiya hai manushya chillar nahi hai toh sabse pehle hamein un ko salute karna chahiye ki unki mehnat se bharat ko ek vote mila phir se 70 minute ke baad hi sahi mila toh offline kyon hote hain ki beauty contest mein se bsc beauty nahi hota hai ki aapka physical apiyarens of kalyug kitna meter karta hai jabki aapka iske saath saath hi aapka din bhi matter karta hai ki aapke paas kitna prem hai aapka pradesh taapman kitna accha hai aap kis tarike se aapka body language kya aap kis tarike se apne aap ko kya nahi kar rahe hain saree cheezen bahut mahatva karti hai aur manushya ko ek hi baar nahi khilta hua tha usne miss india ka khitaab lekar I thi aap uske pehle vaah haryana mein haryana ka kitab in ko mila hai toh aisa nahi hai ki sirf yahi office pin generate hai medical ki medical ki padhai bhi kar rahi hai education ko bhi achi family background bhi unka mahatva karta hai toh saree cheezen dekhi jaati hai ek kisi bhi Contact jaise aap IAS exam dete hain toh isme apna kya jata hai use ki jaati hai

देखी बहुत प्राइवेट ऑर्गन डोनेशन का काम किया है मनुष्य चिल्लर नहीं है तो सबसे पहले हमें उन

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  18
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो दोस्त मुझे लगता है कि हम लोगों को इस विषय पर कम बात करनी चाहिए कि 17 साल क्यों लग गया दे इंडिया को मिस वर्ल्ड होने के लिए मैं बस इतना कहना चाहूंगा कि इटली इस नेगेटिव क्वेश्चन में हमको एक पॉजिटिव चीज देखनी चाहिए कि कम से कम 17 साल बाद फिर से इंडिया को यह मौका दोबारा मिला बहुत गर्व की बात है इस देश के हर एक व्यक्ति के लिए गर्व की बात है और खास करके मनुष्य के लिए तो बिल्कुल क्योंकि उन्होंने इंडिया का नाम एक विश्व प्लेटफार्म पर लेकर आई है उन्होंने देश को एक नए रिकग्निशन दिया है तो मुझे तो लगता है उसी की तारीख को नहीं चाहिए और रही बात क्यों नहीं हुआ तो हां हो सकता है उनके उज्जवल सेट पैरामीटर साथ होंगे तो उस पर इंडिया के जो भी कंटेस्टेंट्स थे वह फिर नहीं बैठ पाए इस बार आप की मर्जी से लेना अगर यह मुकाम हासिल किया है तो

dekho dost mujhe lagta hai ki hum logon ko is vishay par kam baat karni chahiye ki 17 saal kyon lag gaya de india ko miss world hone ke liye main bus itna kehna chahunga ki italy is Negative question mein hamko ek positive cheez dekhni chahiye ki kam se kam 17 saal baad phir se india ko yah mauka dobara mila bahut garv ki baat hai is desh ke har ek vyakti ke liye garv ki baat hai aur khas karke manushya ke liye toh bilkul kyonki unhone india ka naam ek vishwa platform par lekar I hai unhone desh ko ek naye recognition diya hai toh mujhe toh lagta hai usi ki tarikh ko nahi chahiye aur rahi baat kyon nahi hua toh haan ho sakta hai unke ujjawal set parameter saath honge toh us par india ke jo bhi kantestents the vaah phir nahi baith paye is baar aap ki marji se lena agar yah mukam hasil kiya hai toh

देखो दोस्त मुझे लगता है कि हम लोगों को इस विषय पर कम बात करनी चाहिए कि 17 साल क्यों लग गया

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  24
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!