पढ़ाई में मन लगता है तो बार बार विघ्न पड़ता है और वो विचलित हो उठता है, इसका क्या कारण है, और इस से कैसे निजात पाए, पढ़ाई में मन कैसे लगाए?...


play
user

Meena Varma

Professor/Career Advice

1:12

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पढ़ाई में मन लगता है तो बार-बार विद पड़ता है और वह विचलित होता है इसका क्या कारण है और इस से कैसे निजात पाया पढ़ाई में मन कैसे लगाएं सवाल बहुत ही अच्छा है अगर आपका पढ़ाई में मन लगता है यह तो बहुत ही अच्छी है लेकिन अगर आपको बार-बार इंटरेक्शन होते हैं बार-बार विघ्न पड़ता है तो जो विघ्न डालता है उसको आप समझाइए कि यह मेरा पढ़ाई का समय है इस समय आप मुझे परेशान मत कीजिए कारण ढूंढिए वह आपको क्यों आपको क्यों बार-बार परेशान कर रहा है क्या कारण है कोई काम बोल रहा है आप उनको बोलिए क्या बाद में करेंगे इस तरह से अगर आप कोशिश करेंगे आने के सामने वाले को तो आपसे आपको समस्या है क्या आपको बार-बार आकर कोई इंटरेस्ट करता है परेशान करता है तो वह भी समझ जाएगा और आपको इस तकलीफ से छुटकारा मिल जाएगा अगर अगर आपको बार-बार कोई परेशान नहीं करेगा तो ऑटोमेटेकली अपने आपसे आपका पढ़ाई में मन लग जाएगा मुझे लगता है कि आप आपको पढ़ने की बहुत ही अच्छा है और आप पढ़ाई में अच्छे भी है तो आप बस आपके आसपास से जो लोग जो कि आपको बार-बार करते हैं बार-बार आपको परेशान करते हैं विघ्न डालते हैं उनको आप समझाइए कि आपको आपको परेशान ना करें

padhai me man lagta hai toh baar baar with padta hai aur vaah vichalit hota hai iska kya karan hai aur is se kaise nijat paya padhai me man kaise lagaye sawaal bahut hi accha hai agar aapka padhai me man lagta hai yah toh bahut hi achi hai lekin agar aapko baar baar interaction hote hain baar baar vighn padta hai toh jo vighn dalta hai usko aap samjhaiye ki yah mera padhai ka samay hai is samay aap mujhe pareshan mat kijiye karan dhundhiye vaah aapko kyon aapko kyon baar baar pareshan kar raha hai kya karan hai koi kaam bol raha hai aap unko bolie kya baad me karenge is tarah se agar aap koshish karenge aane ke saamne waale ko toh aapse aapko samasya hai kya aapko baar baar aakar koi interest karta hai pareshan karta hai toh vaah bhi samajh jaega aur aapko is takleef se chhutkara mil jaega agar agar aapko baar baar koi pareshan nahi karega toh atometekli apne aapse aapka padhai me man lag jaega mujhe lagta hai ki aap aapko padhne ki bahut hi accha hai aur aap padhai me acche bhi hai toh aap bus aapke aaspass se jo log jo ki aapko baar baar karte hain baar baar aapko pareshan karte hain vighn daalte hain unko aap samjhaiye ki aapko aapko pareshan na kare

पढ़ाई में मन लगता है तो बार-बार विद पड़ता है और वह विचलित होता है इसका क्या कारण है और इस

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  274
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!