2018 में दिल्ली के सरकार BS-VI के ऑटो फ्यूल्स को पेश कर रहे हैं। इसके बारे में आपकी क्या राय है?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:50

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2018 में दिल्ली के सरकार में बीएससी के ऑफिस को पेश कर रहे हैं इसके बारे में आपकी क्या हमारी जो वाहन उत्पादक कंपनियां है टू व्हीलर फोर बाय फोर व्हीलर को चाहे जो भी सब मैन्यूफैक्चर कंपनियां हैं वह अपना है जो बीएस-4 इंजन बनाती हैं और डायरेक्ट बीएफ ओर से डायरेक्ट बी एस सिक्स पर जाने के लिए उसको इंजन में चेंज करने पड़ेंगे साइलेंसर बाइक ले फिर करना पड़ सकता है बीएस-4 से दीवाना था और बीएससी के बाद बीएफ सिक्स बनाते हमको जाना चाहिए था लेकिन सरकार ने घोषणा की कि bs4 से डायरेक्ट दिए जाएंगे मात्रा और जो काफी कंट्रोल हो जो 50cm जो आता है सल्फर जो उत्सर्जन होता है उसको 10 पीपीएम की तरफ ले जाने का बीए सिक्स में प्रावधान है अगर शूल bs6 का आया तो उस समय इंजन जो है टू व्हीलर कार फोर व्हीलर फोर व्हीलर का वह भी bs6 वर्जन का होना जरूरी है इसलिए जब भी एस सिक्स पर्वर्जन के आवाहन अब आने लगे हैं अब बनने लगे जैसे मारुति सुजुकी में बीएफ सेक्स वर्जन का जो मानक का कार बनाने और बेचने शुरू कर दी है जो कि 2019 नहीं बंद हो जानी चाहिए थी दो bf4 की कारें और स्कूटर लेकिन उनको छोड़ दी क्योंकि कंपनियों के पास बहुत सारा स्टॉक पड़ा था इसलिए उनको सबको स्टॉप क्लियर करते और 2020 से 2019 से लेकर 2020 की मार्कशीट b.a. सिक्स का वाहन बेचने के लिए बाध्य किया गया है और व्यक्ति द्वारा इसलिए अभी गाड़ियां टू व्हीलर फोर व्हीलर पुस्तक बीए सिक्स माइनस के साथ बनाकर और उनका पालन करने वाले मानक का वाहन बेचे जा इसकी कीमत बढ़ जाती है और जैसा कि हम देख रहे हैं होंडा कंपनी ने एक्टिवा निकाल है बीए सिक्स का इसी तरह मारुति नदी का लंबाई और सब कंपनियों को बीएसएफ के जो मानक तक का इंजन वाला अपना वाहन बेचना पड़ेगा तब जाकर यह बीएफ सिक्स का जो पेट्रोल है यह काम करेगा और सल्फर की मात्रा को उत्सर्जन कंप्यूटर और खास करके दिल्ली के लिए वह बहुत ही अच्छा है क्योंकि अभी हम जैसे वर्तमान में देख रहे हैं कि दिल्ली एक गैस चेंबर में परिवर्तित हो गई है और अब अगर इसने bs662 का वाहन और पेट्रोल दोनों हो तो उसे पुलिस में बहुत राहत मिल सकती है यह लेकिन पराली वाला मामला तो उसकी जगह खड़ा है जो पोलूशन अभी दिल्ली में हो रहा है वह चाहता है उसका कारण पराली जलाना हरियाणा और पंजाब में तब भी अच्छा जोक अच्छा काम है सरकार को यह जरूर करना चाहिए था और वह सरकार कर रही है और हमारी जो उत्पादन करने वाली कंपनियां है भाई कल वह भी इसका पालन करने जा रही है इससे प्रदूषण की मात्रा में कमी आएगी धन्यवाद

2018 mein delhi ke sarkar mein bsc ke office ko pesh kar rahe hain iske bare mein aapki kya hamari jo vaahan utpadak companiya hai to wheeler four bye four wheeler ko chahen jo bhi sab mainyufaikchar companiya hain vaah apna hai jo bs 4 engine banati hain aur direct bf aur se direct be s six par jaane ke liye usko engine mein change karne padenge silencer bike le phir karna pad sakta hai bs 4 se deewana tha aur bsc ke baad bf six banate hamko jana chahiye tha lekin sarkar ne ghoshana ki ki bs4 se direct diye jaenge matra aur jo kaafi control ho jo 50cm jo aata hai sulphur jo utsarjan hota hai usko 10 ppm ki taraf le jaane ka BA six mein pravadhan hai agar shul bs6 ka aaya toh us samay engine jo hai to wheeler car four wheeler four wheeler ka vaah bhi bs6 version ka hona zaroori hai isliye jab bhi s six parvarjan ke avahan ab aane lage hain ab banne lage jaise maaruti suzuki mein bf sex version ka jo maanak ka car banane aur bechne shuru kar di hai jo ki 2019 nahi band ho jani chahiye thi do bf4 ki kare aur scooter lekin unko chod di kyonki companion ke paas bahut saara stock pada tha isliye unko sabko stop clear karte aur 2020 se 2019 se lekar 2020 ki marksheet b a six ka vaahan bechne ke liye badhya kiya gaya hai aur vyakti dwara isliye abhi gadiyan to wheeler four wheeler pustak BA six minus ke saath banakar aur unka palan karne waale maanak ka vaahan beche ja iski kimat badh jaati hai aur jaisa ki hum dekh rahe hain Honda company ne activa nikaal hai BA six ka isi tarah maaruti nadi ka lambai aur sab companion ko bsf ke jo maanak tak ka engine vala apna vaahan bechna padega tab jaakar yah bf six ka jo petrol hai yah kaam karega aur sulphur ki matra ko utsarjan computer aur khaas karke delhi ke liye vaah bahut hi accha hai kyonki abhi hum jaise vartaman mein dekh rahe hain ki delhi ek gas chamber mein parivartit ho gayi hai aur ab agar isne bs662 ka vaahan aur petrol dono ho toh use police mein bahut rahat mil sakti hai yah lekin parali vala maamla toh uski jagah khada hai jo pollution abhi delhi mein ho raha hai vaah chahta hai uska karan parali jalaana haryana aur punjab mein tab bhi accha joke accha kaam hai sarkar ko yah zaroor karna chahiye tha aur vaah sarkar kar rahi hai aur hamari jo utpadan karne wali companiya hai bhai kal vaah bhi iska palan karne ja rahi hai isse pradushan ki matra mein kami aayegi dhanyavad

2018 में दिल्ली के सरकार में बीएससी के ऑफिस को पेश कर रहे हैं इसके बारे में आपकी क्या हमार

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  1212
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह एक का अचार डिसीजन है क्योंकि आज से दिवाली पर आतिशबाजी पर बैन लगाया गया था परंतु आतिशबाजी तो आप साल में एक बार करते हैं दिवाली पर ज्यादा पोलूशन टॉपिक है तो यह अगर नाम 2018 में एयरपोर्ट्स होगा तो पोलूशन ट्राफिक वाला पोलूशन कम होने की काफी गुंजाइश है पर अकेला ही काफी नहीं है इसके साथ दूसरा फैक्ट्री से आने वाला पोलूशन और सामान जो फसल जलाते हैं वह वाले पोलूशन कम करने के लिए भी सरकार को कुछ और काम करने चाहिए

yah ek ka achaar decision hai kyonki aaj se diwali par aatishabaji par ban lagaya gaya tha parantu aatishabaji toh aap saal mein ek baar karte hain diwali par zyada pollution topic hai toh yah agar naam 2018 mein airports hoga toh pollution traffic vala pollution kam hone ki kaafi gunjaiesh hai par akela hi kaafi nahi hai iske saath doosra factory se aane vala pollution aur saamaan jo fasal jalate hain vaah waale pollution kam karne ke liye bhi sarkar ko kuch aur kaam karne chahiye

यह एक का अचार डिसीजन है क्योंकि आज से दिवाली पर आतिशबाजी पर बैन लगाया गया था परंतु आतिशबाज

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  24
WhatsApp_icon
user

Apurva D

Optimistic Coder

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां दिल्ली में प्रदूषण का प्रभाव यशद दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है इस पर उपाय करने के लिए सरकार ने 1 अप्रैल 2018 से राजधानी दिल्ली में बीएससी ग्रेट फेयर अवेलेबल कराने की घोषणा की थी वैसे आज हम आज अगर हम देखें तो हम हमारे वाहनों में बीएस-4 ग्रेड प्यून यूज़ करते हैं तो b.a. सेकंड ग्रेड फिल्म का मतलब यह है कि आप काम पर टू बी एस 4 ग्रेड सी एल के इंजन में सल्फर की मात्रा ज्यादा कम की जा अभी जो बीएस-4 ग्रिड फेल है उस के तहत पेट्रोल और डीजल में सल्फर की मात्रा है ऑफिस के पार्ट्स पर मिलियन पर बीएससी 1 ग्रेड फिल्में सल्फर सल्फर की मात्रा सिर्फ 10 पार्ट्स पर मिलियन होगी अभी अभी 1 ग्रेड फीवर का फायदा मेहंदी यह है कि जो मैं कल था मैं आज यूज़ करते हैं उसमें वह आसानी से यूज कर आ जा सकता है तो अभी दिल्ली सरकार का पोलूशन की को कम करने के लिए यह जो कदम उठा बहुत सही बात है लेकिन अभी बीएस-4 से डायरेक्ट बीएससी ग्रिड फेल के लिए जाना कार में कर्ज और जो लोग हमारी टेक्नोलॉजी है उसके लिए एक चुनौती

haan delhi mein pradushan ka prabhav yashad din bsp din badhta hi ja raha hai is par upay karne ke liye sarkar ne 1 april 2018 se rajdhani delhi mein bsc great fair available karane ki ghoshana ki thi waise aaj hum aaj agar hum dekhen toh hum hamare vahanon mein bs 4 grade pyun use karte hain toh b a second grade film ka matlab yah hai ki aap kaam par to be s 4 grade si el ke engine mein sulphur ki matra zyada kam ki ja abhi jo bs 4 grid fail hai us ke tahat petrol aur diesel mein sulphur ki matra hai office ke parts par million par bsc 1 grade filme sulphur sulfur ki matra sirf 10 parts par million hogi abhi abhi 1 grade fever ka fayda mehendi yah hai ki jo main kal tha main aaj use karte hain usme vaah aasani se use kar aa ja sakta hai toh abhi delhi sarkar ka pollution ki ko kam karne ke liye yah jo kadam utha bahut sahi baat hai lekin abhi bs 4 se direct bsc grid fail ke liye jana car mein karj aur jo log hamari technology hai uske liye ek chunauti

हां दिल्ली में प्रदूषण का प्रभाव यशद दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है इस पर उपाय करने के लिए स

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  7
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!