आपके अपने शिक्षक के साथ बिताए सबसे शर्मनाक क्षण क्या र है हैं? कोई वाक़या बताएँ?...


user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

0:26
Play

Likes  631  Dislikes    views  4654
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ शिक्षक अपनी मर्यादा भूल जाते हैं और विद्यार्थियों के साथ अभद्र व्यवहार पर बैठते हैं वह गलत है उन्हें प्रशिक्षण दिया जाता है उसके अनुसार उन्हें अपना कार्य करना चाहिए

kuch shikshak apni maryada bhool jaate hain aur vidyarthiyon ke saath abhadra vyavhar par baithate hain vaah galat hai unhe prashikshan diya jata hai uske anusaar unhe apna karya karna chahiye

कुछ शिक्षक अपनी मर्यादा भूल जाते हैं और विद्यार्थियों के साथ अभद्र व्यवहार पर बैठते हैं वह

Romanized Version
Likes  204  Dislikes    views  2362
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपकी अपने शिक्षक के साथ बिताए सबसे शर्म रख कर क्या रहे हैं कोई जी नहीं बिल्कुल नहीं रहे शर्मनाक कोई भी सो नहीं रहा

aapki apne shikshak ke saath bitae sabse sharm rakh kar kya rahe hain koi ji nahi bilkul nahi rahe sharmnaak koi bhi so nahi raha

आपकी अपने शिक्षक के साथ बिताए सबसे शर्म रख कर क्या रहे हैं कोई जी नहीं बिल्कुल नहीं रहे शर

Romanized Version
Likes  447  Dislikes    views  4183
WhatsApp_icon
play
user

Delete

Delete

1:45

Likes  134  Dislikes    views  2235
WhatsApp_icon
user

Vivek Shukla

Life coach

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब कुछ अपने शिक्षक के साथ विचार सबसे शर्मनाक छोड़ के बारे में आप जाना चाहते हैं एक बार कंप्यूटर कोचिंग के लिए एक संस्था में गया था वहां पर माने जब मैं गया तो वहां पर मैडम थी जो पढ़ाती थी बच्चों को या फिर जो भी बच्चों को उच्च शिक्षा देती थी वहां पर उनको माने उनकी भावनाएं मुझे कुछ अच्छी नहीं लगी दो-तीन दिन पढ़ने के बाद एक दिन मुझे थोड़ी देर के लिए रुकने को जम्मू का तुम क्या माने कुछ अलग ही तो भेजा था यह फिर उन्होंने मुझे शरीर को जगह-जगह स्पर्श करने लगी ऐसे में अपने कुछ प्रॉब्लम को लेकर तुरंत ही कहा कि मुझे जल्दी जाना है फिर मुझे कुछ काम है ऐसा कभी प्यार में निकलना चाह रहा था लेकिन उन्होंने मुझे जबरदस्ती चुम्मन करके या फिर मैंने अपने भावनाओं को कुछ उत्तेजित करने लगी जो मुझे सबसे ज्यादा बेकार लगे जो कि मैं लड़की है फिर हर नागरिक को बहुत ही सम्मान देता हूं और मुझे यह बहुत ही गलत लग रहा है कि मैं किसी ऐसी लड़की को पहली बार चुम्मा दे दे रहा हूं क्योंकि मुझे ख्वाब है कि मैं अपनी जिंदगी का सबसे लक्ष्मण अपनी पत्नी या फिर अपनी जीवनशैली को दूं और यह मेरा साथ जो मैंने पहले बात उन्होंने में नहीं कर पाएगी मेरे गाल पर किया था लेकिन मुझे यह काम बहुत ही बुरा लगा इसलिए मेरी जिंदगी का टीचर के साथ मारे कोई भी गुरु के साथ सबसे विचारों सबसे शर्मनाक चर्चा ओके बाय फ्रेंड

ab kuch apne shikshak ke saath vichar sabse sharmnaak chod ke bare mein aap jana chahte hain ek baar computer coaching ke liye ek sanstha mein gaya tha wahan par maane jab main gaya toh wahan par madam thi jo padhati thi baccho ko ya phir jo bhi baccho ko ucch shiksha deti thi wahan par unko maane unki bhaavnaye mujhe kuch achi nahi lagi do teen din padhne ke baad ek din mujhe thodi der ke liye rukne ko jammu ka tum kya maane kuch alag hi toh bheja tha yah phir unhone mujhe sharir ko jagah jagah sparsh karne lagi aise mein apne kuch problem ko lekar turant hi kaha ki mujhe jaldi jana hai phir mujhe kuch kaam hai aisa kabhi pyar mein nikalna chah raha tha lekin unhone mujhe jabardasti chumman karke ya phir maine apne bhavnao ko kuch uttejit karne lagi jo mujhe sabse zyada bekar lage jo ki main ladki hai phir har nagarik ko bahut hi sammaan deta hoon aur mujhe yah bahut hi galat lag raha hai ki main kisi aisi ladki ko pehli baar chumma de de raha hoon kyonki mujhe khwaab hai ki main apni zindagi ka sabse lakshman apni patni ya phir apni jeevan shaili ko doon aur yah mera saath jo maine pehle baat unhone mein nahi kar payegi mere gaal par kiya tha lekin mujhe yah kaam bahut hi bura laga isliye meri zindagi ka teacher ke saath maare koi bhi guru ke saath sabse vicharon sabse sharmnaak charcha ok bye friend

अब कुछ अपने शिक्षक के साथ विचार सबसे शर्मनाक छोड़ के बारे में आप जाना चाहते हैं एक बार कंप

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  503
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जग अतिथि शिक्षक संघ शिक्षा के साथ गलत व्यवहार करेंगे एचडी में कभी सफल नहीं होते जिंदगी में कभी भी अच्छे तरीके जिंदगी बिताएंगे गुरुर ब्रह्मा गुरुर विष्णु गुरुर देवो महेश्वरा गुरु साक्षात तस्मे श्री गुरवे गुरु ही ब्रह्मा गुरुर विष्णु गुरु देवो महेश्वरा गुरु ने हमें उस चोर को पचाने की शक्ति से सुन को पहचान कराना एहसास करें आप ऐसे गुरु को कोटि-कोटि नमन है और वो क्या कोई अच्छा दत्त ने शिक्षक का कभी अपमान करेंगे मुझे नहीं लगता है जो विद्यार्थी ने शिक्षक का अपमान करेंगे हमें ग्रुप का अपमान करेंगे मैं जिंदगी में कभी भी सफल नहीं होंगे गुरु की कृपा किस पर हो गए तो उसका जीवन धन्य गुरु की कृपा कभी ना कोई किसी व्यक्ति का विकास नहीं हो सकता गुरु की कृपा के बिना कोई भी व्यक्ति के जीवन में सफलता की ऊंचाई पर नहीं पहुंच सकता अतः ग्रुप का जिसने अपमान कर लिया वह जिंदगी में सबसे बड़ा पाप कर ले इसलिए किसी भी स्थिति में अपने गुरु का के टीचर्स का अपमान नहीं होना चाहिए यदि कोई ऐसा कोई गलत काम करते हैं तो इससे कभी नहीं माफ करेंगे

jag atithi shikshak sangh shiksha ke saath galat vyavhar karenge hd mein kabhi safal nahi hote zindagi mein kabhi bhi acche tarike zindagi bitaenge guroor brahma guroor vishnu guroor devo maheshwara guru sakshat tasme shri gurve guru hi brahma guroor vishnu guru devo maheshwara guru ne hamein us chor ko pachane ki shakti se sun ko pehchaan krana ehsaas kare aap aise guru ko koti koti naman hai aur vo kya koi accha dutt ne shikshak ka kabhi apman karenge mujhe nahi lagta hai jo vidyarthi ne shikshak ka apman karenge hamein group ka apman karenge main zindagi mein kabhi bhi safal nahi honge guru ki kripa kis par ho gaye toh uska jeevan dhanya guru ki kripa kabhi na koi kisi vyakti ka vikas nahi ho sakta guru ki kripa ke bina koi bhi vyakti ke jeevan mein safalta ki uchai par nahi pohch sakta atah group ka jisne apman kar liya vaah zindagi mein sabse bada paap kar le isliye kisi bhi sthiti mein apne guru ka ke teachers ka apman nahi hona chahiye yadi koi aisa koi galat kaam karte hain toh isse kabhi nahi maaf karenge

जग अतिथि शिक्षक संघ शिक्षा के साथ गलत व्यवहार करेंगे एचडी में कभी सफल नहीं होते जिंदगी में

Romanized Version
Likes  124  Dislikes    views  950
WhatsApp_icon
user

Raja

Youtuber

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने शिक्षक के साथ बिताएंगे सबसे शर्मनाक क्षण कौन है जगजीत के कर आते हैं और एक फार्मूला पूछते हैं और हम नहीं बता पाते हैं उस वक्त बहुत शर्मनाक पीली होती है

apne shikshak ke saath bitaenge sabse sharmnaak kshan kaun hai jagjeet ke kar aate hain aur ek formula poochhte hain aur hum nahi bata paate hain us waqt bahut sharmnaak pili hoti hai

अपने शिक्षक के साथ बिताएंगे सबसे शर्मनाक क्षण कौन है जगजीत के कर आते हैं और एक फार्मूला पू

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  26
WhatsApp_icon
user

Sirjan Sharma

Youtuber

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां बिल्कुल मेरे साथ एक ऐसा इंसिडेंट हुआ था जो मतलब अभी अपूर्व में सोचता हूं तो बहुत हंसी आती है लेकिन उस वक्त मतलब दिल निकल गया था उतना डर लगा था क्योंकि टीचर्स कम एक देनी चाहिए और यह मैटर है कुछ साल पहले कि जब मैं शेडूल स्टैंडर्ड में था शायद नहीं कंफर्म तुलसी था तो उस पर में क्या हो रहा था तो बहुत हल्ला हो रहे थे क्लास में बहुत हल्ला नॉइस करें तो सब लड़के लोग तो मैंने सुन लिया तो मैंने बोला कि ठीक है मैं तुम लोगों 5 मिनट का टाइम देता हूं तब तक हल्ला करो उसके बाद तुम लोग पढ़ाई करना तो मैंने मजाक ले ले लिया था मैंने सीरियसली ले लिया था ठीक है मैं अलग नहीं कर रहा था मैंने उल्लू को बोल दिया कि तुम लोग मैंने 5 मिनट का टाइम दिया है तब तक तुम लोग चला कर सकते हो तो ऐसे ही से मैंने हम लोग बात सुन लिया तो उस लड़की को मैं रखा गया और बोला तुम लोगों को शर्म नहीं आ रहा है मजाक की बात कर रहे हो तो उस लड़के ने बोल दिया कि नहीं मैं इसने मुझे बात करने का बोला था तुम मेरे तो मतलब मैंने तो बना ही सोचा था उसके लिए मैंने 5 मिनट दिया है इससे बात कर लो क्लास में डिस्टर्ब मत करो लेकिन मैम को बुरा लगा उसके बाद मैंने मुझे उठाया प्रिंसिपल के पास लेकर गया मैं पूरा स्कूल दौड़ा भागा और मेरे प्रिंसिपल ने मुझे लेकर गया और मुझे निकालने का बात हो रहा था सबके सामने तो मैं बहुत डर गया था उसके अंदर गया अंडरस्टैंड थे प्रिंसिपल ने सिखाया बताया कि वह लड़का वह चाहिए मिनट तक दोस्ती मत करो ऐसा मत करो मुझे अपने इतना शर्म कितना वोट पड़ा था कि हकीकत में कितने अच्छे होते हैं सबके सामने ने मुझे डांटा था कि सबके सामने मैं वह सब लेकिन अंदर जाकर उन्हें मुझे एक बात भी नहीं डांटा वाक्य मुझे सॉरी बोला उन्होंने कि मैंने तुमसे किया ताकि वह बुरा था ताकि अबू तुमसे दोस्ती ना करें और आज के बाद वह मुझसे नाम दोस्ती कर रहा है ना बात कर रहा है आज मैं किधर से पढ़ रहा हूं यह बजा है मेरे मेरे प्रिंसिपल की वजह से मतलब

haan bilkul mere saath ek aisa incident hua tha jo matlab abhi apoorva mein sochta hoon toh bahut hansi aati hai lekin us waqt matlab dil nikal gaya tha utana dar laga tha kyonki teachers kam ek deni chahiye aur yah matter hai kuch saal pehle ki jab main shedul standard mein tha shayad nahi confirm tulsi tha toh us par mein kya ho raha tha toh bahut halla ho rahe the class mein bahut halla noise kare toh sab ladke log toh maine sun liya toh maine bola ki theek hai tum logo 5 minute ka time deta hoon tab tak halla karo uske baad tum log padhai karna toh maine mazak le le liya tha maine seriously le liya tha theek hai alag nahi kar raha tha maine ullu ko bol diya ki tum log maine 5 minute ka time diya hai tab tak tum log chala kar sakte ho toh aise hi se maine hum log baat sun liya toh us ladki ko main rakha gaya aur bola tum logo ko sharm nahi aa raha hai mazak ki baat kar rahe ho toh us ladke ne bol diya ki nahi main isne mujhe baat karne ka bola tha tum mere toh matlab maine toh bana hi socha tha uske liye maine 5 minute diya hai isse baat kar lo class mein disturb mat karo lekin maam ko bura laga uske baad maine mujhe uthaya principal ke paas lekar gaya main pura school dauda bhaagaa aur mere principal ne mujhe lekar gaya aur mujhe nikalne ka baat ho raha tha sabke saamne toh main bahut dar gaya tha uske andar gaya understand the principal ne sikhaya bataya ki vaah ladka vaah chahiye minute tak dosti mat karo aisa mat karo mujhe apne itna sharm kitna vote pada tha ki haqiqat mein kitne acche hote hain sabke saamne ne mujhe danta tha ki sabke saamne main vaah sab lekin andar jaakar unhe mujhe ek baat bhi nahi danta vakya mujhe sorry bola unhone ki maine tumse kiya taki vaah bura tha taki abu tumse dosti na kare aur aaj ke baad vaah mujhse naam dosti kar raha hai na baat kar raha hai aaj main kidhar se padh raha hoon yah baja hai mere mere principal ki wajah se matlab

हां बिल्कुल मेरे साथ एक ऐसा इंसिडेंट हुआ था जो मतलब अभी अपूर्व में सोचता हूं तो बहुत हंसी

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  34
WhatsApp_icon
user

Deepak Gour

Politician

1:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों आप का सवाल है आपके अपने शिक्षक के साथ बिताए सबसे सफल बना कर क्या रहे कोई भाग्य बताएं मैं आपको बताना चाहूंगा मैं शिक्षक का बहुत सम्मान करता हूं एक बहुत ही उम्दा नजरिए से देखता हूं मेरा कोई इस तरह का उनको जलील करना है या फिर किसी दूसरे के सामने उनकी बुराई करना है यह सब बातें मुझे नहीं आती है हम इतना ही कहूंगा कहना जो शिक्षक होता है अगर आप शिक्षा ग्रहण करने के इच्छुक हैं तो आपको शिक्षक अच्छा ही लगेगा और कभी आप उसके साथ कोई बदतमीजी से पेश नहीं आई अभी तक बदतमीजी करेंगे तभी मैंने कभी उनको पराठे जवाब नहीं दिया ना ही कभी किसी तरह के बुरी या कुछ भी पीछे उनकी कोई बुराई की है और हमेशा ही मुझे हर समय अपनी लाइफ में अच्छे शिक्षक मिले बचपन से लेके यूं कहो तो जितने मुझे शिक्षक मिले स्कूल कॉलेज कोचिंग हर जगह हर शिक्षक ने जो मैंने पूछा है जो मैंने समझना चाहे वह सब उन्होंने मुझे समझाया तो मेरे साथ ऐसा कोई बात नहीं है हम इतना ही कहूंगा कि हां आप लोग भी शिक्षक का सम्मान करें और जो भी छोटे बड़े जो भी व्यक्ति हैं जो भी उनको शिक्षा देने के उद्देश्य उन को पढ़ाते हैं या फिर अदर वाइज कोई और चीजें हैं अगर आप उनके साथ कोई दूसरा क्या ले रहे हैं उनका सम्मान करें ना कि उनकी बेज्जती धन्यवाद

hello doston aap ka sawaal hai aapke apne shikshak ke saath bitae sabse safal bana kar kya rahe koi bhagya bataye main aapko batana chahunga main shikshak ka bahut sammaan karta hoon ek bahut hi umda nazariye se dekhta hoon mera koi is tarah ka unko jalil karna hai ya phir kisi dusre ke saamne unki burayi karna hai yah sab batein mujhe nahi aati hai hum itna hi kahunga kehna jo shikshak hota hai agar aap shiksha grahan karne ke icchhuk hain toh aapko shikshak accha hi lagega aur kabhi aap uske saath koi badatamiji se pesh nahi I abhi tak badatamiji karenge tabhi maine kabhi unko parathe jawab nahi diya na hi kabhi kisi tarah ke buri ya kuch bhi peeche unki koi burayi ki hai aur hamesha hi mujhe har samay apni life me acche shikshak mile bachpan se leke yun kaho toh jitne mujhe shikshak mile school college coaching har jagah har shikshak ne jo maine poocha hai jo maine samajhna chahen vaah sab unhone mujhe samjhaya toh mere saath aisa koi baat nahi hai hum itna hi kahunga ki haan aap log bhi shikshak ka sammaan kare aur jo bhi chote bade jo bhi vyakti hain jo bhi unko shiksha dene ke uddeshya un ko padhate hain ya phir other wise koi aur cheezen hain agar aap unke saath koi doosra kya le rahe hain unka sammaan kare na ki unki beijjati dhanyavad

हेलो दोस्तों आप का सवाल है आपके अपने शिक्षक के साथ बिताए सबसे सफल बना कर क्या रहे कोई भाग्

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  87
WhatsApp_icon
user

Divya

Digital media journalist

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्कूल के दिन होते ही ऐसे हैं जिसमें ऐसे बहुत से बात किया और इन तुम से सोते हैं जो कि बाद में उनके बारे में हम उन्हें याद करते हैं तो हमें हंसी आती है लेकिन उस टाइम पर जब वह चोरी हो रहे होते हैं तो काफी डर भी लगता है और जैसे के सवाल है शर्मनाक चीज होते हैं उस टाइम पर तू मेरे साथ भी ऐसे बहुत से इंश्योरेंस हो चुके हैं जिनमें से एक जो मुझे अब याद आ रहा है वह यह है कि जब इलेवंथ क्लास में थे तो हमारी क्लास स्कूल के ग्राउंड फ्लोर पर होती थी और हमारी क्लास प्रिंसिपल के ऑफिस के बहुत पास थी तो ऐसी थर्ड पीरियड स्टार्ट होने वाला था जो कि हमारे केमिस्ट्री का पीरियड था सुनाई जो केमिस्ट्री की टीचर थी वह नहीं आई थी और हमें वह बिल्कुल भी पसंद नहीं थी तो मैंने और मेरे मेरी दो फ्रेंड्स ने यह प्लान बनाया कि हम क्लास बंद करेंगे और अपना बैग लेकर हम पूरा दिन अपने स्कूल के ग्राउंड के पीछे बैक साइट पर बताएंगे तो हमने पहले अपने बैग्स खिड़की से बाहर से आंखे सिर्फ खुद खिड़की के बाहर चढ़कर हम नीचे जप करें ऐसे ही हमने नजम करा हमने देखा कि वही केमिस्ट्री टीचर वहां खड़ी हुई है उनके एक हाथ उनके सिर के ऊपर था और दूसरा हाथ उन्होंने नीचे से रखा हुआ था जैसे उन्होंने हम तीनों को नीचे काम करते हुए देखा तो उनको यह पता चल गया कि हम तीनों क्लास बंद करने वाले थे और पता नहीं हमको हमारे भाई जोर से लगा होगा थैंक गॉड नहीं होते थे तो इस हिसाब से शायद बच गई प्रिंस स्कूल का ऑफिस पर कमाई क्लास के साथ था तो ग्राउंड में टाइम बताने की बजाय हमने बाकी का पूरा दिन संक्षिप्त नाम के ऑफिस में बिताया और हमको 2 दिन के लिए स्कूल से मतलब भी किया गया था हमको बोला गया कि नहीं आना स्कूल तो वह काफी अब तो हमसे मिलते हैं दोस्तों हंसते हैं उसके बारे में उस टाइम पर है वो काफी ज्यादा शर्मनाक इन सरिता दी उसके बाद सारी केमिस्ट्री क्लासेस में बैठना बहुत मुश्किल हो गया था

school ke din hote hi aise hain jisme aise bahut se baat kiya aur in tum se sote hain jo ki baad mein unke bare mein hum unhe yaad karte hain toh hamein hansi aati hai lekin us time par jab vaah chori ho rahe hote hain toh kaafi dar bhi lagta hai aur jaise ke sawaal hai sharmnaak cheez hote hain us time par tu mere saath bhi aise bahut se insurance ho chuke hain jinmein se ek jo mujhe ab yaad aa raha hai vaah yah hai ki jab eleventh class mein the toh hamari class school ke ground floor par hoti thi aur hamari class principal ke office ke bahut paas thi toh aisi third period start hone vala tha jo ki hamare chemistry ka period tha sunayi jo chemistry ki teacher thi vaah nahi I thi aur hamein vaah bilkul bhi pasand nahi thi toh maine aur mere meri do friends ne yah plan banaya ki hum class band karenge aur apna bag lekar hum pura din apne school ke ground ke peeche back site par batayenge toh humne pehle apne bags khidki se bahar se aankhen sirf khud khidki ke bahar chadhakar hum niche jap kare aise hi humne najam kara humne dekha ki wahi chemistry teacher wahan khadi hui hai unke ek hath unke sir ke upar tha aur doosra hath unhone niche se rakha hua tha jaise unhone hum tatvo ko niche kaam karte hue dekha toh unko yah pata chal gaya ki hum tatvo class band karne waale the aur pata nahi hamko hamare bhai jor se laga hoga thank god nahi hote the toh is hisab se shayad bach gayi prince school ka office par kamai class ke saath tha toh ground mein time batane ki bajay humne baki ka pura din sanshipta naam ke office mein bitaya aur hamko 2 din ke liye school se matlab bhi kiya gaya tha hamko bola gaya ki nahi aana school toh vaah kaafi ab toh humse milte hain doston hansate hain uske bare mein us time par hai vo kaafi zyada sharmnaak in sarita di uske baad saree chemistry classes mein baithana bahut mushkil ho gaya tha

स्कूल के दिन होते ही ऐसे हैं जिसमें ऐसे बहुत से बात किया और इन तुम से सोते हैं जो कि बाद म

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  590
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी नहीं शर्मनाक संतो कोई था नहीं लेकिन हां जितने भी टीचर्स दुखते हो सब बहुत ही अच्छे थे और वह टीचर थे और उन्होंने उनकी पूरी भूमिकाएं निभाई है तो आई लव माय ऑल टीचर किसी ने मुझे सब कुछ सीखा है और मैं उनके ही टीचिंग से उनके ही मार्गदर्शन से आगे बढ़ा हूं

ji nahi sharmnaak santo koi tha nahi lekin haan jitne bhi teachers dukhate ho sab bahut hi acche the aur wah teacher the aur unhone unki puri bhumikayen nibhaai hai toh I love my all teacher kisi ne mujhe sab kuch seekha hai aur main unke hi teaching se unke hi margdarshan se aage badha hoon

जी नहीं शर्मनाक संतो कोई था नहीं लेकिन हां जितने भी टीचर्स दुखते हो सब बहुत ही अच्छे थे और

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  202
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षक और स्टूडेंट के बीच उस समय पर होते हैं जब कोई क्लास के स्टूडेंट को क्वेश्चन पूछता है और स्टूडेंट क्वेश्चन पेपर नहीं आता राहु स्टूडेंट पेपर दसवीं क्लास सीता मुझे लगता है कि वह शर्मा शो

shikshak aur student ke beech us samay par hote hain jab koi class ke student ko question poochta hai aur student question paper nahi aata rahu student paper dasavi class sita mujhe lagta hai ki wah sharma show

शिक्षक और स्टूडेंट के बीच उस समय पर होते हैं जब कोई क्लास के स्टूडेंट को क्वेश्चन पूछता है

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  575
WhatsApp_icon
user

Raimani Munda

social work

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने शिक्षक के साथ बिताए हुए शर्मनाक चांद जिस समय मुझे हिंदी भाषा नहीं आती थी तब की बात है मैं सिस्टर को सर बोलती थी उस घड़ी को मुझे याद है कि भाषा के अभाव में मैंने मिस्क जगह सर बोलती थी

apne shikshak ke saath bitae hue sharmnaak chand jis samay mujhe hindi bhasha nahi aati thi tab ki baat hai sister ko sar bolti thi us ghadi ko mujhe yaad hai ki bhasha ke abhaav mein maine misk jagah sar bolti thi

अपने शिक्षक के साथ बिताए हुए शर्मनाक चांद जिस समय मुझे हिंदी भाषा नहीं आती थी तब की बात है

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  745
WhatsApp_icon
play
user
0:30

Likes  7  Dislikes    views  173
WhatsApp_icon
user

Mujahid

Expert Advisor

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं शर्मा पलता मेरे जीवन में दो चाहिए जैसे कि आपने कहा है कि आप अपने शिक्षक के साथ बिताए सबसे शर्मा चमका रहे है कोई वाक्य बताइए मैंने नरेश शिक्षा के नए रसिया टीचर गई है सरकार और एक मखदूम कमल तुमको प्यार से ना बंटी बंटी मिलाकर को और लड़की छेड़ने और वह सर ने इतना पीटा था मेरे सभी दोस्तों को और साथ में मुझे भी खड़ा किया था फिर भी मेरा रोजा होने के कारण मुझे उसने कुछ नहीं चाहता है मतलब मसला यह कहा कि उन्होंने जो मूंगफली आती है उसके जो खाने के बाद ऊपर का तो चलता रहता है ना वह छलका उन्होंने ऐसा एक दूसरे पर फेंक कर मार डाला के मारे मेरा तक मैंने खाया नहीं इतना बता मैंने खाया नहीं है उस वजह से सर ने मुझे माफ कर दो बस बाकी सब को इतना मारा इतना मारा पूछिए गाना

main sharma palta mere jeevan mein do chahiye jaise ki aapne kaha hai ki aap apne shikshak ke saath bitae sabse sharma chamaka rahe hai koi vakya bataiye maine naresh shiksha ke naye rasiya teacher gayi hai sarkar aur ek makhdoom kamal tumko pyar se na bunty bunty milakar ko aur ladki chedne aur vaah sir ne itna pita tha mere sabhi doston ko aur saath mein mujhe bhi khada kiya tha phir bhi mera roza hone ke karan mujhe usne kuch nahi chahta hai matlab masala yah kaha ki unhone jo mungfaali aati hai uske jo khane ke baad upar ka toh chalta rehta hai na vaah chalaka unhone aisa ek dusre par fenk kar maar dala ke maare mera tak maine khaya nahi itna bata maine khaya nahi hai us wajah se sir ne mujhe maaf kar do bus baki sab ko itna mara itna mara puchiye gaana

मैं शर्मा पलता मेरे जीवन में दो चाहिए जैसे कि आपने कहा है कि आप अपने शिक्षक के साथ बिताए स

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  40
WhatsApp_icon
user

Rihan Shah

I want to become An IAS Officer (Love Realationship Full Experience)

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं तो यही कहूंगा कि उनके साथ बिता के साथ चलना चाहिए पत्नी अगर आप उन रिस्पेक्ट नहीं करते उनकी नजरों में बुरे हैं और दुनिया की नजरों में बुरे हैं दूसरी बात यह है कि अगर आप अपने शिक्षक की बताई बातों को फॉलो नहीं करेंगे या उनका अपमान करेंगे तो आप लाइफ में कभी भी शिक्षक चीज नहीं हो सकते और तीसरी बात नहीं कहूंगा कि कर आप अपने शिक्षक का रिस्पेक्ट नहीं करते हैं तो यह समझ ले कि रेंट समान करना हो

main toh yahi kahunga ki unke saath bita ke saath chalna chahiye patni agar aap un respect nahi karte unki nazro mein bure hain aur duniya ki nazro mein bure hain dusri baat yeh hai ki agar aap apne shikshak ki batai baaton ko follow nahi karenge ya unka apman karenge toh aap life mein kabhi bhi shikshak cheez nahi ho sakte aur teesri baat nahi kahunga ki kar aap apne shikshak ka respect nahi karte hain toh yeh samajh le ki rent saman karna ho

मैं तो यही कहूंगा कि उनके साथ बिता के साथ चलना चाहिए पत्नी अगर आप उन रिस्पेक्ट नहीं करते उ

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  592
WhatsApp_icon
user

GURU Govind Singh Rana

YouTube , Blogging

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन में सभी के जीवन में कुछ ना कुछ जानना क्षण होते हैं और संरक्षण होते हैं जब आपको किसी आपकी कोई गलती हो उसको आपका कुछ कार्य सही ढंग से कर ना पाए वापी शिक्षक में आपको दिया ओ रब्बा कार्य एकदम से ना कर पाए हो तो आपके जीवन के संरक्षण में गिने जाते हैं तुम मेरे साथ जो वाकया हुआ था मैथमेटिक्स की में टीचर थी उन्होंने कुछ पूरी क्लास को कुछ दिया था करने को हम लोग नहीं कर पाए थे उनमें से कुछ लोग तो ₹15 के हम लोगों के हाथ पर उन्होंने मारी थी हम लोगों के लिए सबसे आसान एक्वाकेयर रहा था जो मैं सेंड सेंड में था

jeevan mein sabhi ke jeevan mein kuch na kuch janana kshan hote hain aur sanrakshan hote hain jab aapko kisi aapki koi galti ho usko aapka kuch karya sahi dhang se kar na paye vaapee shikshak mein aapko diya o rabba karya ekdam se na kar paye ho toh aapke jeevan ke sanrakshan mein gine jaate hain tum mere saath jo vakaya hua tha mathematics ki mein teacher thi unhone kuch puri class ko kuch diya tha karne ko hum log nahi kar paye the unmen se kuch log toh Rs ke hum logo ke hath par unhone mari thi hum logo ke liye sabse aasaan ekwakeyar raha tha jo main send send mein tha

जीवन में सभी के जीवन में कुछ ना कुछ जानना क्षण होते हैं और संरक्षण होते हैं जब आपको किसी आ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
user

Girish Billore Mukul

Government Officer

2:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

केमिस्ट्री का रिजल्ट लिखकर सर ने कमरे में प्रवेश किया नाइंथ क्लास के केमिस्ट्री के पेपर में 18 नंबर मिलना जरूरी मुझे उत्तर तो पूरे आते थे लेकिन एक समस्या मेरे सामने थी और वह थी कि मैं कुल 2 सवाल हल कर पाया था आत्मविश्वास की कमी थी क्योंकि 2 सवाल में मुझे 16 नंबर मिल गए थे जबकि पासिंग मार्क्स होने चाहिए अट्ठारह नंबर लेकिन मुझे अचानक ध्यान आया की उस उत्तर पुस्तिका के तीन पन्ने और शेष है खाली है तो मैंने उत्तर प्रमाण के एक और दो के भारतीय पन्ना छोड़ते हुए बहुत जल्दी में उत्तर नंबर 5 लिख दिया जो मुझे कल फिडेन से मालूम था उत्तर प्रमाण पांच लिखने के बाद मैंने कल्पना की कि सर से अब मैं आठ नंबर और वसूल लूंगा इस तरह आरतियां 24 मार्च मुझे मिल जाएंगे और मैं पास हो जाऊंगा लेकिन कहते हैं ना कि चोर की बुद्धि बहुत छोटी होती है मैंने प्रथम और द्वितीय प्रश्न के उत्तर देते समय प्रश्न को लाल स्याही से लिखा था लेकिन पांचवी उत्तर को जो मैंने कॉपी प्राप्त होने के बाद लिखा था उसमें केवल नीली स्याही का प्रयोग किया था प्रश्न में भी और उसके उत्तर में भी और सर ने जब यह बात पकड़ी तो मुझे बहुत शर्म आई और मैंने उनसे हाथ जोड़कर ऊंचे स्वर में क्षमा याचना की ताकि सभी बच्चों को यह महसूस हो कि हां मैंने भी गलती की और मैं उसके लिए माफी मांग रहा हूं और ऐसी स्थिति में मुझे शर्म का सामना भी करना पड़ा था

chemistry ka result likhkar sir ne kamre mein pravesh kiya ninth class ke chemistry ke paper mein 18 number milna zaroori mujhe uttar toh poore aate the lekin ek samasya mere saamne thi aur vaah thi ki main kul 2 sawaal hal kar paya tha aatmvishvaas ki kami thi kyonki 2 sawaal mein mujhe 16 number mil gaye the jabki passing marks hone chahiye attharah number lekin mujhe achanak dhyan aaya ki us uttar pustika ke teen panne aur shesh hai khaali hai toh maine uttar pramaan ke ek aur do ke bharatiya panna chodte hue bahut jaldi mein uttar number 5 likh diya jo mujhe kal fiden se maloom tha uttar pramaan paanch likhne ke baad maine kalpana ki ki sir se ab main aath number aur vasool lunga is tarah aratiyan 24 march mujhe mil jaenge aur main paas ho jaunga lekin kehte hain na ki chor ki buddhi bahut choti hoti hai maine pratham aur dwitiya prashna ke uttar dete samay prashna ko laal syahi se likha tha lekin paanchvi uttar ko jo maine copy prapt hone ke baad likha tha usme keval neeli syahi ka prayog kiya tha prashna mein bhi aur uske uttar mein bhi aur sir ne jab yah baat pakadi toh mujhe bahut sharm I aur maine unse hath jodkar unche swar mein kshama yachana ki taki sabhi baccho ko yah mehsus ho ki haan maine bhi galti ki aur main uske liye maafi maang raha hoon aur aisi sthiti mein mujhe sharm ka samana bhi karna pada tha

केमिस्ट्री का रिजल्ट लिखकर सर ने कमरे में प्रवेश किया नाइंथ क्लास के केमिस्ट्री के पेपर मे

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  737
WhatsApp_icon
user

Imran Ansari

Electrician at Treasure Xpart

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए एक वक्त जब स्कूल में पढ़ते थे उस वक्त में जब हम होमवर्क को करके नहीं लाते थे तो जो हमारे टीचर से तुम हमें क्लास में ही खड़ा कर देते थे या कान पकड़ के कान पकड़कर टैक्स को पर खड़ा कर देते तो यह छड़ी से मारते थे मगर एक दिन की बात है कि पेपर करीब थे और जो क्वेश्चन आंसर सर ने हमें याद करने के लिए दिए थे मोहनी आदमी की है तो उन्होंने क्या किया तू कुछ क्लास की जो बच्चे थे उसमें मैं भी शामिल था उन्होंने हमें क्लास में सजाना दे कपीस ग्राउंड के अंदर में बीज ग्राउंड में हमें कुछ ने टिकवा किए थे जब लंच हुआ तो सब बच्चे हमें देख कर हंस रहे थे उस वक्त में यह हमारी एक बड़ी एक बड़ी शर्म महसूस हो रही थी उस वक्त में कि लोग क्या सोच रहे होंगे कि उन्होंने क्या किया है ऐसा कौन सा काम किया जिसकी वजह से बीच ग्राउंड में घुटने टेके यह चीज हमारी हालांकि बहुत अच्छा उदाहरण थी कि हमें पढ़ाई करना हमारे लिए कितना जरूरी है और हमारे जो सारे मालिक क्या सोच रहे हैं उनका को सजा देना गलत नहीं था गलती हमारी थी कि हमने उनकी बात पर अमल नहीं किया उनकी बात भी ध्यान नहीं दिया तो यह कैसा पल था जो हमारे लिए पढ़ाई हमको बीजेपी उस वक्त महसूस हुई शर्मनाक भोपाल गुजरात हमारे लिए

dekhiye ek waqt jab school mein padhte the us waqt mein jab hum homework ko karke nahi laate the toh jo hamare teacher se tum hamein class mein hi khada kar dete the ya kaan pakad ke kaan pakadakar tax ko par khada kar dete toh yah chadi se marte the magar ek din ki baat hai ki paper kareeb the aur jo question answer sir ne hamein yaad karne ke liye diye the mohni aadmi ki hai toh unhone kya kiya tu kuch class ki jo bacche the usme main bhi shaamil tha unhone hamein class mein sajana de kapis ground ke andar mein beej ground mein hamein kuch ne tikva kiye the jab lunch hua toh sab bacche hamein dekh kar hans rahe the us waqt mein yah hamari ek badi ek badi sharm mehsus ho rahi thi us waqt mein ki log kya soch rahe honge ki unhone kya kiya hai aisa kaun sa kaam kiya jiski wajah se beech ground mein ghutne teke yah cheez hamari halaki bahut accha udaharan thi ki hamein padhai karna hamare liye kitna zaroori hai aur hamare jo saare malik kya soch rahe hain unka ko saza dena galat nahi tha galti hamari thi ki humne unki baat par amal nahi kiya unki baat bhi dhyan nahi diya toh yah kaisa pal tha jo hamare liye padhai hamko bjp us waqt mehsus hui sharmnaak bhopal gujarat hamare liye

देखिए एक वक्त जब स्कूल में पढ़ते थे उस वक्त में जब हम होमवर्क को करके नहीं लाते थे तो जो

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  377
WhatsApp_icon
user
2:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी स्कूल लाइफ के दिन होते ही इस प्रकार के हैं कि कभी कबार हमारा जो समय है वह अच्छा जाता है दिन अच्छे जाते हैं और हमें काफी खुशी महसूस होती है लेकिन कभी-कभार ऐसा लगता है जैसे हमारे लिए 3 दिन तक खराब गया क्योंकि उस दिन कुछ ऐसी घटनाएं हो जाती है जो हमें हमेशा याद रहती हैं और फिर बाद में हुई याद करके हमें अफसोस भी उतार कभी कबार हंसी भी आती है तो एक इंस्टेंट जो आप ने सवाल पूछा किस से खराब इंसेंट कौन सा रहा कुल लाइक कर उनके ईद का तो मैं जब ट्वेल्थ क्लास में था और ग्वालियर में रहता था तो मेरे एक जूनियर क्लास में था उसके भाई ने मुझे ए चीटिंग किया था कि वह मुझे मतलब स्कूल में आकर मारेगा तो मुझे जाकर डर लग गया इस बात को लेकर मैंने यह बात अपनी सबसे फेवरेट टीचर से शेर की क्योंकि जो पॉलिटिकल साइंस में पढ़ाती थी वह सबसे मेरी सबसे प्रबल टीचर थी मैंने बहुत तरक्की में स्कूल में किसी को जानता नहीं था तो उनको मैंने बताया और प्रिंसिपल में जब स्कूल में क्लास में राउंडअप लेने आए क्योंकि पल साथ में हमारी पृथ्वी हमारे साथ हमेशा ट्वेल्थ क्लास वालों के लिए के क्रांति के बच्चे कैसे हैं तो मैंने उनको भी यह बात बता दी थी उस इंसान को तो उन बच्चों को दिल से भुला लेकिन साथ में जो हमारी जो टीचर सिंपल साइंस तुमको भुला दिया और नाम को बहुत डांट पड़ी मेरी वजह से तुझ पर नाम से उन्हें काफी क्या आपके सामने आपके साथ में स्टूडेंट के साथ ऐसा इंस्टेंट हो जाता और आप मुझे बताते नहीं हो यह तो बहुत गलत बात ही सलमान ने उन्हें पॉलिटिकल साइंस की पिक्चर और उससे भी ज्यादा आपको पता नहीं कि सामने क्या बोलना चाहिए आपने मुझे पता तो फिर क्यों बता दिया यह हादसा तो मुझे बहुत इंसल्ट फील होता और मुझे इस बात से भी बुरा लगा कि मेरी वजह से किसी तीसरे को डांट खानी पड़ी तो यह आज मुझे जब मैं याद करता हूं तो नाम को मन में मैंने नाम के सामने सॉरी बोलता लेकिन मेरा मन में भी हमेशा आज मैं तुमको सॉरी बोलता हूं तो कभी कम कभी कबार मतलब जो है उसे मिलाने की हिम्मत नहीं हो पाती अपने आप से मुझे भी आपसे बहुत-बहुत रिक्वेस्ट की मांग को मेरी व्हाट्सएप वाला था लेकिन नाम तो भूल गई लेकिन मैं आज तक कभी नहीं भूल पाऊंगा मेरे ख्याल से पूरी लाइफ टाइम में जो मैंने नाम के साथ में मैं कभी भूल नहीं पाऊंगा लेकिन वो टीचर मेरी फिर भी टीचर आज भी और उन्हें उनसे बातचीत होती है तब इनका जब भी मैं बहुत लॉस फॉर बॉल में लाइव

dekhi school life ke din hote hi is prakar ke hain ki kabhi kabar hamara jo samay hai vaah accha jata hai din acche jaate hain aur hamein kaafi khushi mehsus hoti hai lekin kabhi kabhaar aisa lagta hai jaise hamare liye 3 din tak kharab gaya kyonki us din kuch aisi ghatnaye ho jaati hai jo hamein hamesha yaad rehti hain aur phir baad mein hui yaad karke hamein afasos bhi utar kabhi kabar hansi bhi aati hai toh ek instant jo aap ne sawaal poocha kis se kharab insent kaun sa raha kul like kar unke eid ka toh main jab twelfth class mein tha aur gwalior mein rehta tha toh mere ek junior class mein tha uske bhai ne mujhe a cheating kiya tha ki vaah mujhe matlab school mein aakar marenge toh mujhe jaakar dar lag gaya is baat ko lekar maine yah baat apni sabse favourite teacher se sher ki kyonki jo political science mein padhati thi vaah sabse meri sabse prabal teacher thi maine bahut tarakki mein school mein kisi ko jaanta nahi tha toh unko maine bataya aur principal mein jab school mein class mein roundup lene aaye kyonki pal saath mein hamari prithvi hamare saath hamesha twelfth class walon ke liye ke kranti ke bacche kaise hain toh maine unko bhi yah baat bata di thi us insaan ko toh un baccho ko dil se bhula lekin saath mein jo hamari jo teacher simple science tumko bhula diya aur naam ko bahut dant padi meri wajah se tujhe par naam se unhe kaafi kya aapke saamne aapke saath mein student ke saath aisa instant ho jata aur aap mujhe batatey nahi ho yah toh bahut galat baat hi salman ne unhe political science ki picture aur usse bhi zyada aapko pata nahi ki saamne kya bolna chahiye aapne mujhe pata toh phir kyon bata diya yah hadsa toh mujhe bahut insult feel hota aur mujhe is baat se bhi bura laga ki meri wajah se kisi teesre ko dant khaani padi toh yah aaj mujhe jab main yaad karta hoon toh naam ko man mein maine naam ke saamne sorry bolta lekin mera man mein bhi hamesha aaj main tumko sorry bolta hoon toh kabhi kam kabhi kabar matlab jo hai use milaane ki himmat nahi ho pati apne aap se mujhe bhi aapse bahut bahut request ki maang ko meri whatsapp vala tha lekin naam toh bhool gayi lekin main aaj tak kabhi nahi bhool paunga mere khayal se puri life time mein jo maine naam ke saath mein main kabhi bhool nahi paunga lekin vo teacher meri phir bhi teacher aaj bhi aur unhe unse batchit hoti hai tab inka jab bhi main bahut loss for ball mein live

देखी स्कूल लाइफ के दिन होते ही इस प्रकार के हैं कि कभी कबार हमारा जो समय है वह अच्छा जाता

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  813
WhatsApp_icon
user

दिनेश कुमार

Social Activist/ Electronic And Domestic Appliances Maintenance And Repair

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बात कहूं बार का समय है जब हमारे इंग्लिश के टीचर थे उन्होंने मुझे छोटे वाले अल्फाबेट्स एबीसीडी होते हैं वह लिखना नहीं आता तो उन्होंने मुझे पेड़ से लटका के और काफी नीचे तलवा में उन्होंने मारा मुझे मुझे उसका दुख नहीं क्योंकि मेरे गुरु थे और तब मैंने वह छोटी एबीसीडी सिखा था अपने भाई से एक बड़ा ही मुझे शर्म लगती है पता नहीं इस बात का

ek baat kahun baar ka samay hai jab hamare english ke teacher the unhone mujhe chote waale alphabets ABCD hote hain vaah likhna nahi aata toh unhone mujhe ped se Latka ke aur kaafi niche talava mein unhone mara mujhe mujhe uska dukh nahi kyonki mere guru the aur tab maine vaah choti ABCD sikha tha apne bhai se ek bada hi mujhe sharm lagti hai pata nahi is baat ka

एक बात कहूं बार का समय है जब हमारे इंग्लिश के टीचर थे उन्होंने मुझे छोटे वाले अल्फाबेट्स ए

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Aashik

As a Social Server.

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे लिए सबसे ज्यादा टीचर और मेरे बीच में जो शर्मनाक टाइम था वह यह था कि जो मस्जिद स्कूल में पढ़ने जाता था जो टीचर थे जो मुझे स्कूल में पढ़ाते थे उन्हीं के पास में ट्यूशन रिपोर्ट नहीं जाता था जब ट्यूशन पढ़ लिया गया 1 साल इसके बाद जब जाने का 10 दिन बचा था तब मैं वहां से छोड़ दिया उसके पश्चात जो जितना भी टाइम ट्यूशन गया था उनका फिक्स में नहीं दिया था सर को नहीं दिया था उस सब का पीस उसके पास 4:00 बजे पढ़ने के लिए स्कूल आया और जो सर के केबिन में जब मैं बैठा उस टाइम मैं नजर नहीं मिला पा रहा था तो लगता है मुझे कि यही मेरा सबसे ऊंची मतलब एट द पॉइंट उस समय का सबसे बड़ा फल टाइम था मेरे लिए

mere liye sabse zyada teacher aur mere beech mein jo sharmnaak time tha wah yeh tha ki jo masjid school mein padhne jata tha jo teacher the jo mujhe school mein padhate the unhi ke paas mein tuition report nahi jata tha jab tuition padh liya gaya 1 saal iske baad jab jaane ka 10 din bacha tha tab main wahan se chod diya uske pashchat jo jitna bhi time tuition gaya tha unka fix mein nahi diya tha sar ko nahi diya tha us sab ka peace uske paas 4:00 baje padhne ke liye school aaya aur jo sar ke cabin mein jab main baitha us time main nazar nahi mila pa raha tha toh lagta hai mujhe ki yahi mera sabse uchi matlab ate the point us samay ka sabse bada fal time tha mere liye

मेरे लिए सबसे ज्यादा टीचर और मेरे बीच में जो शर्मनाक टाइम था वह यह था कि जो मस्जिद स्कूल म

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

Ahana Bhardwaz

Life Coach | Author

2:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत सारे आप हमें शादी क्यों नहीं कर सकती आप हमको मैसेजेस मुझे लगा कि मस्तानी का पढ़ने के लिए बनाई गई समिति

bahut saare aap hamein shadi kyon nahi kar sakti aap hamko messages mujhe laga ki mastani ka padhne ke liye banai gayi samiti

बहुत सारे आप हमें शादी क्यों नहीं कर सकती आप हमको मैसेजेस मुझे लगा कि मस्तानी का पढ़ने के

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  798
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे शिक्षा तो हमारे लिए बहुत बहुत बहुत अच्छे रहते थे और मैं उनका मन से धन्यवाद बोलना चाहूंगा क्योंकि हमारी जो शिक्षक चाहते थे वह में मारपीट के विदेश में प्यार भी करते थे अब वह आगे क्या करें हमें तो नहीं पता लेकिन हमारे लिए तो हमारे भगवान हैं

hamare shiksha toh hamare liye bahut bahut bahut acche rehte the aur main unka man se dhanyavad bolna chahunga kyonki hamari jo shikshak chahte the wah mein maar peet ke videsh mein pyar bhi karte the ab wah aage kya karein humein toh nahi pata lekin hamare liye toh hamare bhagwan hain

हमारे शिक्षा तो हमारे लिए बहुत बहुत बहुत अच्छे रहते थे और मैं उनका मन से धन्यवाद बोलना चाह

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  501
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे शिक्षक थे वह लोगों को मारते बहुत थे पढ़ाते भी नहीं था थोड़ी थोड़ी बाद में हम लोगों को मारते थे रिश्ता मारते थे कि हम लोगों के शरीर से खून तक निकलने लगता था और वह हम लोगों को टिफिन खा जाते थे चीन चीन के हम लोग को टिफिन खा जाते थे यह सब ना करें

mere shikshak the wah logo ko marte bahut the padhate bhi nahi tha thodi thodi baad mein hum logo ko marte the rishta marte the ki hum logo ke sharir se khoon tak nikalne lagta tha aur wah hum logo ko tiffin kha jaate the china china ke hum log ko tiffin kha jaate the yeh sab na karein

मेरे शिक्षक थे वह लोगों को मारते बहुत थे पढ़ाते भी नहीं था थोड़ी थोड़ी बाद में हम लोगों क

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  36
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप कैसे हो विचार हम लोग का कैसा है

aap kaise ho vichar hum log ka kaisa hai

आप कैसे हो विचार हम लोग का कैसा है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  26
WhatsApp_icon
user

Ankush Kumar

priparasation upsc exam

0:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देवेंद्र शर्मा जो हमें इंग्लिश पढ़ाते थे एक बार सेंटेंस याद करके नया सबसे शर्मनाक क्षण मेरा वही था

devendra sharma jo humein english padhate the ek baar sentence yaad karke naya sabse sharmnaak kshan mera wahi tha

देवेंद्र शर्मा जो हमें इंग्लिश पढ़ाते थे एक बार सेंटेंस याद करके नया सबसे शर्मनाक क्षण मेर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  31
WhatsApp_icon
user
0:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने शिक्षक के साथ बिताए सरवन आखिर वह में बहुत मारते थे यही मेरे को बहुत शर्मनाक लगा

apne shikshak ke saath bitae sarvan aakhir wah mein bahut marte the yahi mere ko bahut sharmnaak laga

अपने शिक्षक के साथ बिताए सरवन आखिर वह में बहुत मारते थे यही मेरे को बहुत शर्मनाक लगा

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  457
WhatsApp_icon
user
0:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टीचर का दिया हुआ होमवर्क आकर के ना लाना

teacher ka diya hua homework aakar ke na lana

टीचर का दिया हुआ होमवर्क आकर के ना लाना

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  485
WhatsApp_icon
user
0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने मेरे शिक्षक के साथ बिताए सबसे शर्मनाक जानिए देगी मैं जब 12th में था तो आप ईयरली के प्रैक्टिकल लग रहे थे तो मुझे मेरे शिक्षक ने कहा कि तुम कॉफी में कुछ मत लिखो मैं बता दूंगा उसके बाद तुम कर लेना अपन निकले टैलेंट अपन वह लेकर गए थे रुचि आपूर्ति से जाकर जैसे ही मास्टर बाहर गए लैब से अपने सब कुछ आप दिया आपने एक बार जैसे टीचर आया क्लास में उसने सबकी कॉफी देगी और कॉफी देखी तो अपन तो काम कर के रेडी बैठे थे तो उस दिन मेरी इतनी धुनाई की लात घूसे इतने मर जाए मेरे ऊपर बहुत जबरदस्त यह बात जो मैं मेरी जिंदगी भर नहीं भूल पाऊंगा

maine mere shikshak ke saath bitae sabse sharmnaak janiye degi main jab 12th mein tha toh aap iyarali ke practical lag rahe the toh mujhe mere shikshak ne kaha ki tum coffee mein kuch mat likho main bata dunga uske baad tum kar lena apan nikle talent apan wah lekar gaye the ruchi aapurti se jaakar jaise hi master bahar gaye lab se apne sab kuch aap diya aapne ek baar jaise teacher aaya class mein usne sabaki coffee degi aur coffee dekhi toh apan toh kaam kar ke ready baithe the toh us din meri itni dhunai ki laat ghuse itne mar jaye mere upar bahut jabardast yeh baat jo main meri zindagi bhar nahi bhul paunga

मैंने मेरे शिक्षक के साथ बिताए सबसे शर्मनाक जानिए देगी मैं जब 12th में था तो आप ईयरली के प

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  395
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
school ke bahar jab zindagi ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!