मैं अपने आत्मविश्वास और आत्म-सम्मान को कैसे सुधार सकता हूँ?...


user

Dr. J.Singh

Financial Expert || Ayurvedic Doctor

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको कोई बड़ा कार्य न करके आपको अपने आप विश्वास बनाए रखने के लिए आपको छोटे-छोटे कार्य करने हैं वह सफलतापूर्वक करिए ध्यानपूर्वक करिए इस तरह से आपका आपकी शास्त्री बना रहेगा और आपको अपनी मन में अपने दिमाग में एक ही चीज तो बताना कि हां मैं इस कार्य कर सकता हूं आज ही तो कल कल नहीं तो परसों परसों नहीं तो कल से आपको आपके आपके मन में कभी भी नेगेटिव उठी नहीं आती हम सबको रहना है अगर कोई नुकसान भी हो जाता आपको किसी कार्य करें तो आप यह मानें कि भविष्य में आप का उत्सव करीना के प्रतिफल मिलेगा इसीलिए शायद आप ऐसा करते रहेंगे आपके आत्मविश्वास बढ़ेगा और आपके साथ आप का सम्मान बढ़ेगा आपको महसूस हुआ कि आपका आत्मविश्वास और आत्मसम्मान बहुत ऊंची ऊंचाई पर अब चला गया है धन्यवाद

aapko koi bada karya na karke aapko apne aap vishwas banaye rakhne ke liye aapko chote chote karya karne hain vaah safaltaapurvak kariye dhyanapurvak kariye is tarah se aapka aapki shastri bana rahega aur aapko apni man me apne dimag me ek hi cheez toh batana ki haan main is karya kar sakta hoon aaj hi toh kal kal nahi toh parso parso nahi toh kal se aapko aapke aapke man me kabhi bhi Negative uthi nahi aati hum sabko rehna hai agar koi nuksan bhi ho jata aapko kisi karya kare toh aap yah manen ki bhavishya me aap ka utsav kareena ke pratiphal milega isliye shayad aap aisa karte rahenge aapke aatmvishvaas badhega aur aapke saath aap ka sammaan badhega aapko mehsus hua ki aapka aatmvishvaas aur atmasamman bahut unchi unchai par ab chala gaya hai dhanyavad

आपको कोई बड़ा कार्य न करके आपको अपने आप विश्वास बनाए रखने के लिए आपको छोटे-छोटे कार्य करने

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

ADV. JIVAN LADHI

Advocate, Financial Advisior And Online Bussiness Coach

2:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को अगर हम सुधारना चाहते सब आत्मसम्मान एक ऐसी चीजें कि आप अगर दुनिया में कभी भी जो चीज आपको लगती कि यह गलत है और इस सही है इस कॉमन सेंस यह चीज गलत हो रही है अगर सोचते हम लोग तो वही करो जो सही लगता है तो उससे क्या होगा क्या आपके माइंड में कभी यह थॉट्स नहीं आएगा क्या आपने किसी के साथ गलत किया है या कोई चीज गलत है चाहे वह हमारे नीचे से हो सकता है चाहे वह गलती से जो हो सकता है लेकिन हमें उसी हिसाब से सोचना पड़ेगा कि हमारे माध्यम से किसी का नुकसान ना हो हमारे बातों से किसी को कोई क्षति ना पूछो आप अगर देखो अंदर से आपको कोई फीलिंग है ऐसा आएगा जो आपको हर्ट कर कि नहीं आती मेरे से गलती हो गई तो ही आपका आत्मसम्मान को ठेस पहुंच सकते उससे आपका आत्म सम्मान कम ज्यादा नहीं होता यह भी बात ध्यान में रखें आत्म सम्मान हुआ चीज है कि आपको अपना गिल्टी फील नहीं होना चाहिए कभी तो जिंदगी में कभी भी देखिए आप एक चीज से जाइए कि जो हम जो चीज मतलब सोच है उसके हिसाब से अगर कोई चीज सही है तो सही रूप से ही करी है कि नहीं दूसरी बात अगर आप आत्मविश्वास को बढ़ाना चाहते तो पॉजिटिव सोचा हमेशा अपनी सोच तो हमेशा पॉजिटिव रखें कि किसी भी चीज को जब आप करने के लिए जाते हो तो पॉजिटिव ही है चाहे वह सेल तू चाहे वो आपका एजुकेशन हो चाहे आप का व्यापार होता है आप का प्रोफेशन हो जाए आपकी नौकरी आपकी फैमिली हो हर चीज के लिए आप पॉजिटिव सोचो तो आपका आत्मविश्वास दुगना हो जाता उसके लिए काफी सारे वीडियोस यूट्यूब पर आती है उसके लिए काफी सारी किताबें हमारे इंडिया में है कई सारी किताबें है जैसे आप स्वामी विवेकानंद जी को पढ़ सकते हो तो उसे आत्म सम्मान भी बिल्ड हो जाएगा और आपका कॉन्फिडेंस भी हो जाएगा हो जाएगी सोचना भी एक अच्छी चीज है जो इसे आपने सोचा कि मैं रात में सलमान और मेरा विश्वास करना चाहिए तो यह कि हंड्रेड परसेंट पड़ेगा

aatmvishvaas aur atmasamman ko agar hum sudharna chahte sab atmasamman ek aisi cheezen ki aap agar duniya me kabhi bhi jo cheez aapko lagti ki yah galat hai aur is sahi hai is common sense yah cheez galat ho rahi hai agar sochte hum log toh wahi karo jo sahi lagta hai toh usse kya hoga kya aapke mind me kabhi yah thoughts nahi aayega kya aapne kisi ke saath galat kiya hai ya koi cheez galat hai chahen vaah hamare niche se ho sakta hai chahen vaah galti se jo ho sakta hai lekin hamein usi hisab se sochna padega ki hamare madhyam se kisi ka nuksan na ho hamare baaton se kisi ko koi kshati na pucho aap agar dekho andar se aapko koi feeling hai aisa aayega jo aapko heart kar ki nahi aati mere se galti ho gayi toh hi aapka atmasamman ko thes pohch sakte usse aapka aatm sammaan kam zyada nahi hota yah bhi baat dhyan me rakhen aatm sammaan hua cheez hai ki aapko apna guilty feel nahi hona chahiye kabhi toh zindagi me kabhi bhi dekhiye aap ek cheez se jaiye ki jo hum jo cheez matlab soch hai uske hisab se agar koi cheez sahi hai toh sahi roop se hi kari hai ki nahi dusri baat agar aap aatmvishvaas ko badhana chahte toh positive socha hamesha apni soch toh hamesha positive rakhen ki kisi bhi cheez ko jab aap karne ke liye jaate ho toh positive hi hai chahen vaah cell tu chahen vo aapka education ho chahen aap ka vyapar hota hai aap ka profession ho jaaye aapki naukri aapki family ho har cheez ke liye aap positive socho toh aapka aatmvishvaas dugna ho jata uske liye kaafi saare videos youtube par aati hai uske liye kaafi saari kitaben hamare india me hai kai saari kitaben hai jaise aap swami vivekananda ji ko padh sakte ho toh use aatm sammaan bhi build ho jaega aur aapka confidence bhi ho jaega ho jayegi sochna bhi ek achi cheez hai jo ise aapne socha ki main raat me salman aur mera vishwas karna chahiye toh yah ki hundred percent padega

आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को अगर हम सुधारना चाहते सब आत्मसम्मान एक ऐसी चीजें कि आप अगर दुन

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  98
WhatsApp_icon
user

Ankur Nautiyal

Career & Relationship Counsellor, Motivator

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तो आप का क्वेश्चन है कि मैं अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं तो देखिए आत्मविश्वास एक अलग चीज है और एक आत्म सम्मान एक अलग बात है दोनों अपने में अलग-अलग महत्व रखती है और दोनों अपनी में एक हमारे जीवन में बहुत ही मायने भी रखती है कि आत्मविश्वास यह है कि अगर आपका आत्मविश्वास जो है आप को सुधारना है आपको खुद में ही देखना हुआ कि आपको खुद आपको समझाना पड़ेगा अपने को कि मैं यह सब चीज कर सकता हूं आपको कॉन्फिडेंस अपने में लाना पड़ेगा कोई भी आप काम करते हैं तो खुद से यह जाता है अपने को अपने शीशे के आगे समझाएं कि हां मैं यह सोच कर सकता हूं और मैंने किया है मैं बहुत अच्छे से कर सकता हूं तो ऑटोमेटिक भी आपका धीरे-धीरे आपका और कॉन्फिडेंस आएगा और लोगों के बीच आपकी तारीफ होगी तो आपका कॉन्फिडेंस निश्चित तौर पर बढ़ेगा आत्म सम्मान की तो जब आपका कॉन्फिडेंस आपका काम को दिखाएगा लोगों के सामने और लोग आपकी तारीफ करेंगे तो कहीं ना कहीं आपका उसी से आपको आत्म सम्मान भी मिलेगा तो यह दोनों चाहिए जो है सुधर सकती है और वह सुधर सकती है सुधार आ सकता है अगर आप कोशिश करो कि आप अपने यह सोचा कि हां मैं जो भी काम कर रहा हूं पूरे कॉन्फिडेंट भी बहुत अच्छे से कराओ और आप 10 बार 50 बार अपनी शीशे के सामने बोले कि हां मैं जॉब करता हूं कर रहा हूं बहुत अच्छे से कर रहा हूं और मुझे भरोसा है मेरे घर मेरे घर वाले सब लोग मेरे से भरोसा करते हैं और जब आपका भरोसा अपने पर हो जाएगा तो दुनिया भी आपका आत्म सम्मान करेंगे और आप खुद अच्छा महसूस करें धन्यवाद

toh aap ka question hai ki main apne aatmvishvaas aur atmasamman ko kaise sudhaar sakta hoon toh dekhiye aatmvishvaas ek alag cheez hai aur ek aatm sammaan ek alag baat hai dono apne me alag alag mahatva rakhti hai aur dono apni me ek hamare jeevan me bahut hi maayne bhi rakhti hai ki aatmvishvaas yah hai ki agar aapka aatmvishvaas jo hai aap ko sudharna hai aapko khud me hi dekhna hua ki aapko khud aapko samajhana padega apne ko ki main yah sab cheez kar sakta hoon aapko confidence apne me lana padega koi bhi aap kaam karte hain toh khud se yah jata hai apne ko apne shishe ke aage samjhaye ki haan main yah soch kar sakta hoon aur maine kiya hai main bahut acche se kar sakta hoon toh Automatic bhi aapka dhire dhire aapka aur confidence aayega aur logo ke beech aapki tareef hogi toh aapka confidence nishchit taur par badhega aatm sammaan ki toh jab aapka confidence aapka kaam ko dikhaega logo ke saamne aur log aapki tareef karenge toh kahin na kahin aapka usi se aapko aatm sammaan bhi milega toh yah dono chahiye jo hai sudhar sakti hai aur vaah sudhar sakti hai sudhaar aa sakta hai agar aap koshish karo ki aap apne yah socha ki haan main jo bhi kaam kar raha hoon poore confident bhi bahut acche se karao aur aap 10 baar 50 baar apni shishe ke saamne bole ki haan main job karta hoon kar raha hoon bahut acche se kar raha hoon aur mujhe bharosa hai mere ghar mere ghar waale sab log mere se bharosa karte hain aur jab aapka bharosa apne par ho jaega toh duniya bhi aapka aatm sammaan karenge aur aap khud accha mehsus kare dhanyavad

तो आप का क्वेश्चन है कि मैं अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं तो देखिए

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user

UMESH KUMAR YADAV

Business Owner

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे जा सकते हो भाई आप निस्वार्थ हो जाओ बिल्कुल किसी भी बात ना स्वार्थ मत देखो आपका आत्मविश्वास आत्मसम्मान रखना बढ़ता चला जाएगा जब आप स्वार्थ देखना बंद कर देंगे किसी में भी हम कहते कि मेरे स्वार्थ हो निस्वार्थ कोई नहीं है हर एक बात में हमारे सर छुपा होता है हमारे भाई कह रहे हैं तो उसमें स्वार्थ है मां कह रहे तो उसने सार्थक पिता के साथ हैं आप जल्दी स्वस्थ हो जाएंगे तभी आपका आत्मसम्मान विशाल पड़ेगा

aap apne aatmvishvaas aur atmasamman ko kaise ja sakte ho bhai aap niswarth ho jao bilkul kisi bhi baat na swarth mat dekho aapka aatmvishvaas atmasamman rakhna badhta chala jaega jab aap swarth dekhna band kar denge kisi me bhi hum kehte ki mere swarth ho niswarth koi nahi hai har ek baat me hamare sir chupa hota hai hamare bhai keh rahe hain toh usme swarth hai maa keh rahe toh usne sarthak pita ke saath hain aap jaldi swasth ho jaenge tabhi aapka atmasamman vishal padega

आप अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे जा सकते हो भाई आप निस्वार्थ हो जाओ बिल्कुल किसी

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
user

Bk Arun Kaushik

Youth Counselor Motivational Speaker

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार अपने बारे में सकारात्मक सोच कर सब को सम्मान देने लग जाए दिन भर खुश रहने की कोशिश करते रहे दूसरों को सहयोग देना शुरू कर दें अपनी अच्छी यादों को सगाई याद करते रहे अपने भोजन का विशेष ध्यान रखें क्योंकि कहा जाता है जैसा अन्न वैसा मन अपने पॉजिटिव नेचर के सेंड बनाएं तथा उनसे अपने अनुभव शेयर करें बी गुड टू गुड हमारे में आत्मसम्मान बढ़ाता है नकारात्मक लोगों से दूर रहना सीख शब्दों द्वारा लोचना भेजती करना किसी को झुकाना अहम भाग दिखाना आत्मसम्मान बनाने में जहर का काम करता है थैंक यू

namaskar apne bare me sakaratmak soch kar sab ko sammaan dene lag jaaye din bhar khush rehne ki koshish karte rahe dusro ko sahyog dena shuru kar de apni achi yaadon ko sagaai yaad karte rahe apne bhojan ka vishesh dhyan rakhen kyonki kaha jata hai jaisa ann waisa man apne positive nature ke send banaye tatha unse apne anubhav share kare be good to good hamare me atmasamman badhata hai nakaratmak logo se dur rehna seekh shabdon dwara lochna bhejti karna kisi ko jhukana aham bhag dikhana atmasamman banane me zehar ka kaam karta hai thank you

नमस्कार अपने बारे में सकारात्मक सोच कर सब को सम्मान देने लग जाए दिन भर खुश रहने की कोशिश क

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  89
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आत्मविश्वास और आत्मसम्मान दोनों ही संभालना आसान है जब आप किसी और व्यक्ति को सम्मान देंगे आपको सम्मान मिलेगा और आपको आत्म सम्मान की अनुभूति हो और रही बात सुधारने की तो लोगों को रिस्पेक्ट करो इज्जत दो और अपने गुण पहचानो लोगों के गुण अवगुण पहचानो और उसी तरह से उनके साथ प्रेम संबंध रखो अब दोस्ताना संबंध रखो आप लोगों की रिस्पेक्ट करोगे तो लोग आपको रिस्पेक्ट देंगे आपको आपका आत्म सम्मान बढ़ेगा और जब आपका आत्मसम्मान बनेगा तो आपका आत्मविश्वास वैसे ही बढ़ जाएगा किसी भी व्यक्ति का आत्मविश्वास तभी डगमग आता है जब उसका आत्मसम्मान बिखरता है तू जब आप लोगों को एप्लीकेट करेंगे लोग आपको प्रेषित करना शुरू कर देंगे और जब आपको अप्रिशिएट शुरू कर करना शुरू कर देंगे तो आप का आत्मविश्वास बढ़ेगा और आपको आत्म सम्मान की अनुभूति होगी क्योंकि जो जब आप अच्छा काम करते हो इज्जत वाला काम करते हो तो सब आपको इज्जत की नजर से देखते हैं और वही कोई ऐसा काम मत कीजिए जिससे कोई आपकी बेइज्जती करें या आपको गलत वे में बोले या अपने परिवार के साथ भी कोई ऐसा व्यवहार ना करें जो आपको आत्म सम्मान की गिरावट का सम्मान कीजिए तो आपका आत्म सम्मान बढ़ेगा

dekhiye aatmvishvaas aur atmasamman dono hi sambhaalna aasaan hai jab aap kisi aur vyakti ko sammaan denge aapko sammaan milega aur aapko aatm sammaan ki anubhuti ho aur rahi baat sudhaarne ki toh logo ko respect karo izzat do aur apne gun pehchano logo ke gun avgun pehchano aur usi tarah se unke saath prem sambandh rakho ab dostana sambandh rakho aap logo ki respect karoge toh log aapko respect denge aapko aapka aatm sammaan badhega aur jab aapka atmasamman banega toh aapka aatmvishvaas waise hi badh jaega kisi bhi vyakti ka aatmvishvaas tabhi dagmag aata hai jab uska atmasamman bikharata hai tu jab aap logo ko epliket karenge log aapko preshit karna shuru kar denge aur jab aapko aprishiet shuru kar karna shuru kar denge toh aap ka aatmvishvaas badhega aur aapko aatm sammaan ki anubhuti hogi kyonki jo jab aap accha kaam karte ho izzat vala kaam karte ho toh sab aapko izzat ki nazar se dekhte hain aur wahi koi aisa kaam mat kijiye jisse koi aapki beijjati kare ya aapko galat ve me bole ya apne parivar ke saath bhi koi aisa vyavhar na kare jo aapko aatm sammaan ki giraavat ka sammaan kijiye toh aapka aatm sammaan badhega

देखिए आत्मविश्वास और आत्मसम्मान दोनों ही संभालना आसान है जब आप किसी और व्यक्ति को सम्मान द

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

vivek sharma

BANK PO| Astrologer | Mutual Fund Advisor। Career Counselor

3:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप ने प्रश्न किया है आत्मविश्वास और आत्मसम्मान आत्मा ही है विश्वास और आदमी ही ऐसा मन तो खरीदना पड़ेगा और खुश करने के क्या करना खुद करने के लिए अपने को कोई ना कोई ध्यान पिकनिक या मेडिटेशन टेक्निक यूज करनी है घर में ध्यान करना है और जिन लोगों से आत्म सम्मान और आत्मविश्वास में कमी आती है ऐसे दोस्त जो आपको बोलते हैं कि नहीं कर सकता ऐसे ऐसे रिश्तेदार जो कुछ लायक नहीं है तू तो कुछ कर ही नहीं सकता तू तो वहां से भाग गया था तू तो ऐसे तैसे कट जाएगी अपने जो भी मित्र हैं जो आपको हमेशा प्रेस करते हैं जो आपको प्रेम करते हैं माता-पिता बहन भाई जो भी आपकी मित्र अच्छे हैं उनसे संपर्क करें उनसे सुनिए आप जाओ उसके बाद में तो आपने ऐसा किया था आप जब उस कक्षा में थे तब आपने ऐसा किया था हमेशा उन चीजों को याद करिए जब भी आप परेशानी में थे या दूसरे परेशानी में थे जब आपने आउट ऑफ द में काम किया आपके माता-पिता आपके बारे में या फिर आपके घरवाले आपके बारे में एक समय बहुत ही अच्छा बोलते थे उन समय को याद करिए और अपने आत्मविश्वास को बढ़ा है यह ध्यान करिए प्राणायाम करिए थोड़ा सा आक्सीजन अंदर लीजिए थोड़ा तेज तेज चलना शुरू करिए तेज चलने से आक्सीजन अंदर आती है गुरु गुरु ग्रह का प्रभाव अंदर बढ़ता है ग्रुप होता है और गुरु आपको आप विश्वास दिलाता है आपको मेरी से बाहर निकल कर आता है आपको पैसा दिलाता है आप को सफल बनाता है आपका कैरियर बनाता है जितना ऑक्सीडेंट करके उसको लीजिए आत्मविश्वास भी बढ़ेगा आत्मविश्वास बढ़ेगा तो आत्म सम्मान खुद जो अपना सम्मान करता है उसका आत्मसम्मान होता है यहां मैं बिल्कुल भी एरोगेंट होने की बात नहीं कर रहा हूं एरोगेंट वही होता है जो इस तरह का क्वेश्चन लिखता आपने अगर जो प्रश्न पूछा है और नवाब नहीं है आप एक्सेल में आत्म सम्मान और आत्मविश्वास के बीच में जुड़ रहे हैं जो कि सिर्फ आपका प्रश्न है अफजल में आपका आत्मविश्वास भी है और आत्मसम्मान भी है थोड़ा सा डिस्टरबेंस आ गया है थोड़ा सा चलिए थोड़ा पसीना निकाली है पसीना तभी निकलता है जब हमारी सांसें तेज हो सांसे तेज भूमि ऑक्सीजन डर जाएगी गुरु ग्रह का गुरु का इंटेक बढ़ेगा अपने गुरु का ध्यान करिए और थोड़ा सा जब करिए गुरु का जो भी आपको ग्रुप में अवधि हो चमत्कार होगा निश्चित पड़ेगा और आपको जिस चीज के लिए यह सवाल पूछने की जरूरत पड़ेगा सर करेगा

aap ne prashna kiya hai aatmvishvaas aur atmasamman aatma hi hai vishwas aur aadmi hi aisa man toh kharidna padega aur khush karne ke kya karna khud karne ke liye apne ko koi na koi dhyan picnic ya meditation technique use karni hai ghar me dhyan karna hai aur jin logo se aatm sammaan aur aatmvishvaas me kami aati hai aise dost jo aapko bolte hain ki nahi kar sakta aise aise rishtedar jo kuch layak nahi hai tu toh kuch kar hi nahi sakta tu toh wahan se bhag gaya tha tu toh aise taise cut jayegi apne jo bhi mitra hain jo aapko hamesha press karte hain jo aapko prem karte hain mata pita behen bhai jo bhi aapki mitra acche hain unse sampark kare unse suniye aap jao uske baad me toh aapne aisa kiya tha aap jab us kaksha me the tab aapne aisa kiya tha hamesha un chijon ko yaad kariye jab bhi aap pareshani me the ya dusre pareshani me the jab aapne out of the me kaam kiya aapke mata pita aapke bare me ya phir aapke gharwale aapke bare me ek samay bahut hi accha bolte the un samay ko yaad kariye aur apne aatmvishvaas ko badha hai yah dhyan kariye pranayaam kariye thoda sa oxygen andar lijiye thoda tez tez chalna shuru kariye tez chalne se oxygen andar aati hai guru guru grah ka prabhav andar badhta hai group hota hai aur guru aapko aap vishwas dilata hai aapko meri se bahar nikal kar aata hai aapko paisa dilata hai aap ko safal banata hai aapka carrier banata hai jitna aksident karke usko lijiye aatmvishvaas bhi badhega aatmvishvaas badhega toh aatm sammaan khud jo apna sammaan karta hai uska atmasamman hota hai yahan main bilkul bhi arrogant hone ki baat nahi kar raha hoon arrogant wahi hota hai jo is tarah ka question likhta aapne agar jo prashna poocha hai aur nawab nahi hai aap excel me aatm sammaan aur aatmvishvaas ke beech me jud rahe hain jo ki sirf aapka prashna hai afzal me aapka aatmvishvaas bhi hai aur atmasamman bhi hai thoda sa distarabens aa gaya hai thoda sa chaliye thoda paseena nikali hai paseena tabhi nikalta hai jab hamari sansen tez ho sanse tez bhoomi oxygen dar jayegi guru grah ka guru ka intake badhega apne guru ka dhyan kariye aur thoda sa jab kariye guru ka jo bhi aapko group me awadhi ho chamatkar hoga nishchit padega aur aapko jis cheez ke liye yah sawaal poochne ki zarurat padega sir karega

आप ने प्रश्न किया है आत्मविश्वास और आत्मसम्मान आत्मा ही है विश्वास और आदमी ही ऐसा मन तो खर

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
user
2:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है मैं अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकते हैं इसके बारे में मैं जिसमें से पटेल आपके साथ प्रस्तुत हो उसका समाधान हम अपने हिसाब से बता रहे हैं आत्मविश्वास अभी तक ही बढ़ सकता है व्यक्तिगत अभी बढ़ सकता है जब वह ईश्वर में विश्वास करता है ईश्वर को अपना सब कुछ माल लेता है ईश्वर संभल आधार जब मिल जाता है अपने आप ही स्वास्थ्य आत्मविश्वास बढ़ जाता है इसलिए यदि हम हाल समाज छोड़ कर के अपने नियमित दिनचर्या के माध्यम से ईश्वर की उपासना करते हैं मनन चिंतन करते हैं ध्यान साधना करते हैं और अपने लक्ष्य को निर्धारित करके उस पर श्रम करते हैं और जब हम अपने श्रम में अपने लक्ष्य में सफल हो जाते हैं तो हमारा आत्मविश्वास अपने आप ही बढ़ जाता है तब हमें आत्मसम्मान आप गौरव का अनुभव होता है इस प्रकार यदि हम अपने जीवन में आलस प्रभात छोड़कर न्यू थिंग्स अखियां अपनाएं समय संयम अर्थ चयन इंद्रिय संयम इन सब चीजों को अपनाकर के जीवन में हम आप विश्वास बढ़ा सकते हैं और सफलता की तरफ उत्तर उत्तर बढ़ते जाएंगे जैसे-जैसे में सफलता मिलती है कि हमें आपकी गौरव आत्मसम्मान महसूस होगा और हमारे जीवन से दूसरों की प्रेरणा लेंगे और उनको भी जीवन में सफलता मिलेगी धन्यवाद

prashna hai main apne aatmvishvaas aur atmasamman ko kaise sudhaar sakte hain iske bare me main jisme se patel aapke saath prastut ho uska samadhan hum apne hisab se bata rahe hain aatmvishvaas abhi tak hi badh sakta hai vyaktigat abhi badh sakta hai jab vaah ishwar me vishwas karta hai ishwar ko apna sab kuch maal leta hai ishwar sambhal aadhar jab mil jata hai apne aap hi swasthya aatmvishvaas badh jata hai isliye yadi hum haal samaj chhod kar ke apne niyamit dincharya ke madhyam se ishwar ki upasana karte hain manan chintan karte hain dhyan sadhna karte hain aur apne lakshya ko nirdharit karke us par shram karte hain aur jab hum apne shram me apne lakshya me safal ho jaate hain toh hamara aatmvishvaas apne aap hi badh jata hai tab hamein atmasamman aap gaurav ka anubhav hota hai is prakar yadi hum apne jeevan me aalas prabhat chhodkar new things akhiyan apanaen samay sanyam arth chayan indriya sanyam in sab chijon ko apnakar ke jeevan me hum aap vishwas badha sakte hain aur safalta ki taraf uttar uttar badhte jaenge jaise jaise me safalta milti hai ki hamein aapki gaurav atmasamman mehsus hoga aur hamare jeevan se dusro ki prerna lenge aur unko bhi jeevan me safalta milegi dhanyavad

प्रश्न है मैं अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकते हैं इसके बारे में मैं जिस

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
user

विजय कुमार

Experiential Counsellor

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मातम और विश्वास दोनों अलग-अलग अगर आप का आतंक सुंदर होगा सरल होगा तो आपका अपने पे किया गया विश्वास अजीब होगा और आप सब कुछ कर सकते हैं आत्मसम्मान अगर आप स्वयं अपनी इज्जत करते हैं कि आप अपने आत्मसम्मान को पर करें जो इंसान सेन की इज्जत नहीं करता यह समाज इसका सम्मान कभी नहीं होता है इसलिए पहले आप अपनी इज्जत करना सीखो

maatam aur vishwas dono alag alag agar aap ka aatank sundar hoga saral hoga toh aapka apne pe kiya gaya vishwas ajib hoga aur aap sab kuch kar sakte hain atmasamman agar aap swayam apni izzat karte hain ki aap apne atmasamman ko par kare jo insaan sen ki izzat nahi karta yah samaj iska sammaan kabhi nahi hota hai isliye pehle aap apni izzat karna sikho

मातम और विश्वास दोनों अलग-अलग अगर आप का आतंक सुंदर होगा सरल होगा तो आपका अपने पे किया गया

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  64
WhatsApp_icon
user

Manish Dev

Motivational Speaker, Yoga-Meditation Guide, Spiritualist, Psycho-analyst, Astrologer, Spiritual Healer, Life Coach

2:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं स्वयं को जानो यही तो चक्कर है आप बात करते आत्मविश्वास आप बात करते हैं आत्म सम्मान की लेकिन आप आत्मज्ञान की बात नहीं कर रहा किसी का सम्मान कब करोगे किसी पर विश्वास कब करोगे जब उसको जानो के रात के 12:00 बजे अंधेरी रात में अगर कोई घर के द्वार खटखटाया और कहे कि भाई मैं भटका हुआ आदमी मुझे अपने घर में रख लो रख लोगे उसके जानते नहीं हो तो आज के जमाने में चोली रखेगा जब अनजान है अनजान व्यक्ति जानते नहीं जब स्वयं को जानोगे तो आत्मविश्वास बढ़ेगा आत्म सम्मान बढ़ेगा और स्वयं को जानने के लिए करना क्या पड़ेगा योग करना पड़ेगा योगश्चित्त वृत्ति निरोधा अपने चित्त वृत्तियों का निरोध करो यही योग है महर्षि पतंजलि का योग सूत्र हमें यही विद्या सिखाता है कि स्वयं को जाना कैसे जाय तो स्वयं को जानोगे तो आत्म सम्मान विश्वास विश्वास हर परिस्थिति में जीवन जीने की शक्ति आपको प्रदान करें हर परिस्थिति में तापमान मिल रहा हो सम्मान मिल रहा हो धन का नुकसान हो रहा हो गरीबी आ गया होता है अमीर यादव जैसे भी आ जाए आपका आत्मविश्वास और आत्मसम्मान बना रहे उस पर योगी बनो समझो स्वयं को जानो बिना स्पेन को जाने आत्मविश्वास आत्म सम्मान नहीं संभव है फैन को जानना जरूरी है तब जाकर सेंड के प्रति सम्मान भी बढ़ेगा स्पेन के प्रति विश्वास भी बढ़ेगा यही तो आत्मविश्वास व आत्म सम्मान और आत्मविश्वास का यह मतलब नहीं होता कि हम दुनिया जीत लेंगे यह कंपटीशन पास कर जाएंगे या जीत लेंगे हम इतना धन इकट्ठा कर लेंगे या विश्वास नहीं होता आत्मविश्वास होता है कि आप अपने कर्म में अपनी तपस्या में सर्वदा लगे रहेंगे अपने कर्तव्य निष्ठा को पूर्ण करते रहेंगे हर परिस्थिति में बाहर कितना भी परिवर्तन आ जाए लेकिन आपकी मन की जो अखंडता है वह कभी खंडित नहीं होगी तब समझो कि आपने आत्मविश्वास रात में सम्मान को अपने अंदर स्थापित किया है योग जरूरी है योग क्या है इसको जाने समझे हमारे चैनल पर दिव्यांशु रीजन स्पेशल टॉप प्रोफाइल के साथ आपको लिंक मिल जाएगा अवश्य जाएं और उसने वहां बहुत सारे व्याख्यान इस विषय पर

atmavishwas aur atmasamman ko kaise sudhar saketa hoon cvan ko JAANO yhy to chakkar hai aap baat karte atmavishwas aap baat karte hain atm sammaan ki lekin aap atmagyan ki baat nahin kar raha kisi ka sammaan kab karoge kisi per vishwas kab karoge jab usko JAANO k raat k 12 00 baje andheri raat mein agar koi ghar k dwar khatakhataya aur kahe ki bhai main bhatka hua aadmi mujhe apne ghar mein rakh lo rakh loge uske jante nahin ho to aj k jamane mein choli rakhega jab anjaan hai anjaan vyakti jante nahin jab cvan ko janoge to atmavishwas badhega atm sammaan badhega aur cvan ko janne k liye karna kya padega yog karna padega yogashchitt vritti nirodha apne chitt vrittiyon ka nirodh karo yhy yog hai maharshi patanjli ka yog sutra humein yhy vidya sikhata hai ki cvan ko jana kaise jay to cvan ko janoge to atm sammaan vishwas vishwas her paristhiti mein jeevan jine ki shakti aapko pradan karen her paristhiti mein tapman mil raha ho sammaan mil raha ho dhan ka nuksan ho raha ho garibi au gaya hota hai ameer yadav jaise bhi au jaye aapka atmavishwas aur atmasamman bana rahe usa per yogi bno samjho cvan ko JAANO binna spain ko jaane atmavishwas atm sammaan nahin sambhav hai fan ko janna jaruri hai teb jakar send k prati sammaan bhi badhega spain k prati vishwas bhi badhega yhy to atmavishwas va atm sammaan aur atmavishwas ka yeh matlab nahin hota ki hum duniya jeet lenge yeh kampatishan pass kar jaenge ya jeet lenge hum itna dhan ikattha kar lenge ya vishwas nahin hota atmavishwas hota hai ki aap apne karma mein apni tapasya mein sarvada lage rahenge apne kartavya nishtha ko purn karte rahenge her paristhiti mein baahar kitna bhi PARIVARTAN au jaye lekin aapki mann ki jo akhandata hai weh kabhi khandit nahin hogi teb samjho ki aapne atmavishwas raat mein sammaan ko apne andore sthapit kiya hai yog jaruri hai yog kya hai isko jaane samjhe hamare channel per divyanshu rijan special top profile k saath aapko link mil jaega avashya jaen aur usne vahan bahut saare vyakhyan is vishy per

आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं स्वयं को जानो यही तो चक्कर है आप बात करते

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user

Sri Dhiru G

Spiritual Guru, Engineer

5:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने आत्मविश्वास और अपने आत्मसम्मान को सुधार करना बेहद आवश्यक है आपने अपने आत्मसम्मान और आत्मविश्वास को बढ़ाने संबंधित सवाल बहुत ही उचित तरीके से किया है और इसका समाधान यह है आत्मसम्मान पहले हम बात करते हैं और आत्मविश्वास का फिर हम बात करेंगे आत्म सम्मान की जो बात है या आपके कर्मों कर्तव्यों से आती है ठीक है और आत्मविश्वास होता बढ़ जाती है कहने का मतलब जब आपकी आत्मविश्वास बढ़ेगी तो आत्मसम्मान सोता बढ़ जाएगा जब आपका आत्मसम्मान बढ़ेगा तो आत्मविश्वास भी शतावर जाएगा या एक ही सिक्के के दो पहलू है ऐसा हम कह सकते हैं आपको आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए कर्मों के सिद्धांत को सुधारना होगा जो आपके कर्तव्य हैं कर्म है व्यवहार हैं आपकी वचन जो बोलते हैं उसमें मिठास लानी होगी लोगों के प्रति स्नेह भाव लाना होगा क्रोध की अवस्था में आपको शांत रहना होगा अपने रूटिंग को प्रॉपर यूटिलाइज करना होगा अगर आप विद्यार्थी गन है या आप शिक्षक है या आप किसी भी क्षेत्र के वर्क करते हैं वह भी आपका आत्मसम्मान इस पर बढ़ेगा इस शर्त पर कि आप अपने कर्तव्यों का निर्वाहन सुचारू रूप से करें बेइज्जत इसमें निसंदेह हम कह सकते हैं जब आप के कर्तव्य अच्छे होंगे आत्मविश्वास बढ़ जाएगा और आत्मसम्मान भी आपकी वाणी में मिठास है कि स्वता आपके आत्मविश्वास बढ़ेंगे लोग आपको कहेंगे कि सर बहुत बढ़िया बोलते हैं तो आत्म सम्मान बढ़ता जाएगा क्योंकि आत्मसम्मान जो है दूसरों से मिलता है तो वह कहा जाता है कि आत्मसम्मान बड़ा और जब दूसरों से सम्मान मिलता है तो वह आपको आत्मसम्मान हुआ और वही आत्मसम्मान आपके आत्मविश्वास में तब्दील हो जाता है और आपकी विश्वास बढ़ जाती है तो हम आपको सिखाना चाहेंगे और बताना चाहेंगे कि अपने आत्मसम्मान को बढ़ाने के लिए बार-बार मैं कह रहा हूं कि अपने विधि व्यवहार कर्तव्य और लोगों से व्यवहार धोखाधड़ी से बचें और अपने व्यवहार को अच्छा बनाए किसी के साथ धोखा ना करे किसी के साथ बुरा ना करे किसी के प्रति अहित न सोचे सबका भला हो सर्वे भवंतु सुखिन सर्वे संतु निरामया सबों का अच्छा व्यवहार रखे सबों के प्रति सबों के सम्मान के प्रति आप का भी सम्मान होगा मीठा बोलेंगे मीठा पानी मिलेगा कुछ ऐसे भी विभाग होते हैं जहां पर आप मीठा बोल कर काम नहीं चला सकते तो वहां शांत रहें कलम की ताकत को दिखाएं और आप इशारों में शांति सही बात करें बोलने दे बोलकर जब वह शांत हो जाए तो दो ही शब्द बोले सटीक बोले बढ़िया बोले सोच विचार कर बोले क्या आप बोल रहे हैं इस बोलने के जवाब पर अगले के ऊपर क्या प्रभाव पड़ने वाला है इस चीज का भी विचार रखे इस वाक्य को बोलने से पहले किसी शब्द को अपने मुख से निकालने से पहले उसकी प्रभाव शक्ति को बढ़ाएं वह प्रभाव शक्ति कैसे बढ़ेगी आपके विचार विचार कैसे अच्छे होंगे आपके सोचने की शक्ति से मस्तिष्क की सोच शुद्धता से है ना तो ऑटोमेटिक है कि आपका आत्मविश्वास और आत्मसम्मान दोनों बढ़ जाएगा जब आपने मिठास आएगी आपकी वाणी में मिठास आएगी और आपका कर्तव्य अच्छा रहेगा आप सहयोगी रहेंगे अपने पद का उचित उपयोग करते हुए कर्तव्यों का निर्वहन करेंगे और सात्विक भोजन भी बहुत ही महत्वपूर्ण है आत्मसम्मान आत्मविश्वास के लिए क्योंकि जैसा हम भोजन करेंगे हमारे विचार और ऐसे ही बनेंगे जिस चीज को हम बोलते हैं वह पेड़ वृक्ष वैसा ही फल देता है जैसे हम आम की गुठली का अगर धरती में रोपण करेंगे तो आने वाले वर्षों में वह फल पेज आम्ही साधना की कटहल बाजार या अन्य फल को देगा खेला को देगा अगर हम गेहूं के बीज को डालते हैं तो खेत से गेहूं का ही पौधा निकलता है इसी प्रकार हम जैसा भोजन करेंगे सात्विक भोजन करेंगे सात्विक विचार आएंगे यह मत भूलिए कि भोजन और रहन-सहन का प्रभाव हमारे जीवन मस्तिष्क का भार पर पड़ता है तो अपने इन चीजों को सुधार कर हम आत्मसम्मान आत्मविश्वास को बढ़ा सकते हैं और पूरे समाज में प्रतिष्ठित बन सकते हैं थैंक यू धन्यवाद

apne aatmvishvaas aur apne atmasamman ko sudhaar karna behad aavashyak hai aapne apne atmasamman aur aatmvishvaas ko badhane sambandhit sawaal bahut hi uchit tarike se kiya hai aur iska samadhan yah hai atmasamman pehle hum baat karte hain aur aatmvishvaas ka phir hum baat karenge aatm sammaan ki jo baat hai ya aapke karmon kartavyon se aati hai theek hai aur aatmvishvaas hota badh jaati hai kehne ka matlab jab aapki aatmvishvaas badhegi toh atmasamman sota badh jaega jab aapka atmasamman badhega toh aatmvishvaas bhi shatavar jaega ya ek hi sikke ke do pahaloo hai aisa hum keh sakte hain aapko aatmvishvaas badhane ke liye karmon ke siddhant ko sudharna hoga jo aapke kartavya hain karm hai vyavhar hain aapki vachan jo bolte hain usme mithaas lani hogi logo ke prati sneh bhav lana hoga krodh ki avastha me aapko shaant rehna hoga apne routing ko proper utilize karna hoga agar aap vidyarthi gun hai ya aap shikshak hai ya aap kisi bhi kshetra ke work karte hain vaah bhi aapka atmasamman is par badhega is sart par ki aap apne kartavyon ka nirvahan sucharu roop se kare beijjat isme nisandeh hum keh sakte hain jab aap ke kartavya acche honge aatmvishvaas badh jaega aur atmasamman bhi aapki vani me mithaas hai ki swata aapke aatmvishvaas badhenge log aapko kahenge ki sir bahut badhiya bolte hain toh aatm sammaan badhta jaega kyonki atmasamman jo hai dusro se milta hai toh vaah kaha jata hai ki atmasamman bada aur jab dusro se sammaan milta hai toh vaah aapko atmasamman hua aur wahi atmasamman aapke aatmvishvaas me tabdil ho jata hai aur aapki vishwas badh jaati hai toh hum aapko sikhaana chahenge aur batana chahenge ki apne atmasamman ko badhane ke liye baar baar main keh raha hoon ki apne vidhi vyavhar kartavya aur logo se vyavhar dhokhadhari se bache aur apne vyavhar ko accha banaye kisi ke saath dhokha na kare kisi ke saath bura na kare kisi ke prati ahit na soche sabka bhala ho survey bhavantu sukhin survey santu niramaya sabon ka accha vyavhar rakhe sabon ke prati sabon ke sammaan ke prati aap ka bhi sammaan hoga meetha bolenge meetha paani milega kuch aise bhi vibhag hote hain jaha par aap meetha bol kar kaam nahi chala sakte toh wahan shaant rahein kalam ki takat ko dikhaen aur aap ishaaron me shanti sahi baat kare bolne de bolkar jab vaah shaant ho jaaye toh do hi shabd bole sateek bole badhiya bole soch vichar kar bole kya aap bol rahe hain is bolne ke jawab par agle ke upar kya prabhav padane vala hai is cheez ka bhi vichar rakhe is vakya ko bolne se pehle kisi shabd ko apne mukh se nikalne se pehle uski prabhav shakti ko badhaye vaah prabhav shakti kaise badhegi aapke vichar vichar kaise acche honge aapke sochne ki shakti se mastishk ki soch shuddhta se hai na toh Automatic hai ki aapka aatmvishvaas aur atmasamman dono badh jaega jab aapne mithaas aayegi aapki vani me mithaas aayegi aur aapka kartavya accha rahega aap sahyogi rahenge apne pad ka uchit upyog karte hue kartavyon ka nirvahan karenge aur Satvik bhojan bhi bahut hi mahatvapurna hai atmasamman aatmvishvaas ke liye kyonki jaisa hum bhojan karenge hamare vichar aur aise hi banenge jis cheez ko hum bolte hain vaah ped vriksh waisa hi fal deta hai jaise hum aam ki ghutli ka agar dharti me ropan karenge toh aane waale varshon me vaah fal page aamhi sadhna ki kathal bazaar ya anya fal ko dega khela ko dega agar hum gehun ke beej ko daalte hain toh khet se gehun ka hi paudha nikalta hai isi prakar hum jaisa bhojan karenge Satvik bhojan karenge Satvik vichar aayenge yah mat bhuliye ki bhojan aur rahan sahan ka prabhav hamare jeevan mastishk ka bhar par padta hai toh apne in chijon ko sudhaar kar hum atmasamman aatmvishvaas ko badha sakte hain aur poore samaj me pratishthit ban sakte hain thank you dhanyavad

अपने आत्मविश्वास और अपने आत्मसम्मान को सुधार करना बेहद आवश्यक है आपने अपने आत्मसम्मान और आ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

Pawan

Financial Planer

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों से कम बात करके और अपने पर ज्यादा ध्यान देकर आप अपने आत्मविश्वास को बनाए रख सकते हैं किसी का बुरा मत सोचो लेकिन कोई आपको लगता है वो इंसान कल तुमसे दूर हो चाहिए और सदा एक सच्चे इंसान की तरह अपने काम को करें जो भी काम करें पूरे दिल से करें और आप और जितनी ज्यादा हो सके नौटंकी इनकी नॉलेज गेम जिसके पास नॉलेज होती है लोग उसके पास उसके बाद अपने-अपने पानी लगते हैं

logo se kam baat karke aur apne par zyada dhyan dekar aap apne aatmvishvaas ko banaye rakh sakte hain kisi ka bura mat socho lekin koi aapko lagta hai vo insaan kal tumse dur ho chahiye aur sada ek sacche insaan ki tarah apne kaam ko kare jo bhi kaam kare poore dil se kare aur aap aur jitni zyada ho sake nautanki inki knowledge game jiske paas knowledge hoti hai log uske paas uske baad apne apne paani lagte hain

लोगों से कम बात करके और अपने पर ज्यादा ध्यान देकर आप अपने आत्मविश्वास को बनाए रख सकते हैं

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user

योगाचार्य आदित्य कुमार

Yoga And Physical Trainer, Poat, Story Writer,

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका प्रश्न है कि आत्मसम्मान और आत्मविश्वास में कैसे सुधार किया जाए तो मैं आपको बताऊं कि आत्म सम्मान और आत्मविश्वास में सुधार करने के लिए सबसे पहले तो आपको अपनी स्किल्स पर काम करना होगा क्योंकि जैसे आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं तो इंटरव्यू देने जाते हुए क्या होता है कि हम थोड़ा अटपटा हाथ में आ जाते हैं हड़बड़ाहट में हो जाती और हड़बड़ाहट होने से क्या होता है मेरा सब काम खराब हो जाता है तो उससे बचने के लिए क्या करते हैं हम अपने स्कूल को बार बार बार बार बार बार तरसते रहते हैं तो उसके तराशने से क्या होता है कि हमारा मनोबल ऊंचा हो जाता हमारा हमारा दिल टूट जाता है ठीक है ऐसे ही हमारा जो भी इसके लिए जो भी जिस स्कूल में हम निपुण हैं हम उसको तो रास्ते रास्ते रास्ते तो आप प्रॉब्लम को फेस करना सीख जाएंगे आप ही सम्मान के लिए सबसे पहला है कि हम अपना स्किल डेवलप करें दूसरा हम झूठ ना बोल और भी बहुत सारे ऐसे व्यावहारिक चीज हो जाती है जिसकी वजह से मैं अपना अपनी सम्मान को ऊपर उठा सकते हैं किसी की नजरों में गलत काम ना करें तो भी आपका आदमी सम्मान बचा रहेगा आप किसी से कटु वचन ना कई जिसकी वजह से आपको फिर आप तुमको लानी हो तो आप उससे भी आत्मसम्मान जागृत कर सकते हैं अपना

dekhiye aapka prashna hai ki atmasamman aur aatmvishvaas me kaise sudhaar kiya jaaye toh main aapko bataun ki aatm sammaan aur aatmvishvaas me sudhaar karne ke liye sabse pehle toh aapko apni skills par kaam karna hoga kyonki jaise aap interview dene ja rahe hain toh interview dene jaate hue kya hota hai ki hum thoda atpataa hath me aa jaate hain hadabadahat me ho jaati aur hadabadahat hone se kya hota hai mera sab kaam kharab ho jata hai toh usse bachne ke liye kya karte hain hum apne school ko baar baar baar baar baar baar taraste rehte hain toh uske tarashane se kya hota hai ki hamara manobal uncha ho jata hamara hamara dil toot jata hai theek hai aise hi hamara jo bhi iske liye jo bhi jis school me hum nipun hain hum usko toh raste raste raste toh aap problem ko face karna seekh jaenge aap hi sammaan ke liye sabse pehla hai ki hum apna skill develop kare doosra hum jhuth na bol aur bhi bahut saare aise vyavaharik cheez ho jaati hai jiski wajah se main apna apni sammaan ko upar utha sakte hain kisi ki nazro me galat kaam na kare toh bhi aapka aadmi sammaan bacha rahega aap kisi se katu vachan na kai jiski wajah se aapko phir aap tumko lani ho toh aap usse bhi atmasamman jagrit kar sakte hain apna

देखिए आपका प्रश्न है कि आत्मसम्मान और आत्मविश्वास में कैसे सुधार किया जाए तो मैं आपको बताऊ

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user

Shankar

Yogi By Passion .

2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को सुधार कर सकता हूं कैसे आत्मविश्वास सुधार करने के लिए आप एक छोटा छोटा छोटा काम से शुरू कर सकते हैं उसे आप कल क्या करने वालों को ले हो छोटा छोटा काम मैं दुकान में जाकर करूंगा 10:00 बजे करूंगा 11:00 बजे करूंगा 4:00 बजे करुंगा छोटा-छोटा काम आप लिखना शुरु करो अपनी डायरी में जब काम छोटा काम जो भी है इतना छोटा काम दे दो कि वह अब संभाल सके आप कर सके एंटीक करो ऐसा करने से क्या होता है जब हम मन का संकल्प लेकर लिखते हैं लोग करते हैं ना जब वह करते ठीक करते हैं ना तब आत्मविश्वास बढ़ता इतना छोटा सा चीज है बट करना है डेरी एंड सुबह सुबह जब उठते हो पहला चीज पहला चीज से ही हमारा काम ठीक से करना क्या-क्या करते हैं जब हम उठते हैं तो तभी पूरा अपने बिस्तर का तैयार रखना कौन से कया रखने से जब हम नीचे उतरते हैं बिस्तर साफ रहता है और पकने का देखते हैं तो भी वह मैंने कुछ किया वह सबसे छोटा काम बिस्तर को ठीक करना मैंने कुछ किया वह करने किया किया जब हमारे बोलते रहते ना जब मैं मैंने करना चाहता हूं और मैंने किया ऐसा बोलते रहते हो रहते रहते हो फिर अब देखिए टाइम लगता है ना सालों में अब जो भी हम सोचेंगे मैं कर सकता हूं बड़ा बड़ा काम भी ले सकते हो अभी आसपास बढ़ेगा उसका कदम छोटा कदम चेहरे कम अरे कल पर डायरी लिखने शुरू करें 20 छोटा-छोटा काम आप लिखिए एंड काट के उसको ठीक करें फिर करके देखिए ऐसा एक महीना दो महीना करके देखिए दिल्ली फिर आपको पता होगा इसका

namaskar aatmvishvaas aur atmasamman ko sudhaar kar sakta hoon kaise aatmvishvaas sudhaar karne ke liye aap ek chota chota chota kaam se shuru kar sakte hain use aap kal kya karne walon ko le ho chota chota kaam main dukaan me jaakar karunga 10 00 baje karunga 11 00 baje karunga 4 00 baje karunga chota chota kaam aap likhna shuru karo apni diary me jab kaam chota kaam jo bhi hai itna chota kaam de do ki vaah ab sambhaal sake aap kar sake entik karo aisa karne se kya hota hai jab hum man ka sankalp lekar likhte hain log karte hain na jab vaah karte theek karte hain na tab aatmvishvaas badhta itna chota sa cheez hai but karna hai dairy and subah subah jab uthte ho pehla cheez pehla cheez se hi hamara kaam theek se karna kya kya karte hain jab hum uthte hain toh tabhi pura apne bistar ka taiyar rakhna kaun se kya rakhne se jab hum niche utarate hain bistar saaf rehta hai aur pakne ka dekhte hain toh bhi vaah maine kuch kiya vaah sabse chota kaam bistar ko theek karna maine kuch kiya vaah karne kiya kiya jab hamare bolte rehte na jab main maine karna chahta hoon aur maine kiya aisa bolte rehte ho rehte rehte ho phir ab dekhiye time lagta hai na salon me ab jo bhi hum sochenge main kar sakta hoon bada bada kaam bhi le sakte ho abhi aaspass badhega uska kadam chota kadam chehre kam are kal par diary likhne shuru kare 20 chota chota kaam aap likhiye and kaat ke usko theek kare phir karke dekhiye aisa ek mahina do mahina karke dekhiye delhi phir aapko pata hoga iska

नमस्कार आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को सुधार कर सकता हूं कैसे आत्मविश्वास सुधार करने के लिए

Romanized Version
Likes  75  Dislikes    views  662
WhatsApp_icon
user

Vishnu

Yoga trainer

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को सुधारने का सिर्फ एक ही उपाय है वह है सत्य के मार्ग पर चलते हुए योग का अभ्यास करना प्राणायाम का अभ्यास करना अध्यान करना अगर हम मिस को अपने दिनचर्या में उसको जोड़ते हैं और अपने अनुशासित होते हैं अनुशासित जीवन यापन करते हैं तो 100% हम अपने आत्मसम्मान को सुधार सकते हैं

apne aatmvishvaas aur atmasamman ko sudhaarne ka sirf ek hi upay hai vaah hai satya ke marg par chalte hue yog ka abhyas karna pranayaam ka abhyas karna adhyan karna agar hum miss ko apne dincharya me usko jodte hain aur apne anushasit hote hain anushasit jeevan yaapan karte hain toh 100 hum apne atmasamman ko sudhaar sakte hain

अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को सुधारने का सिर्फ एक ही उपाय है वह है सत्य के मार्ग पर च

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  66
WhatsApp_icon
user

Abhishek

Education And Motivation

3:02
Play

Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम राम जी की इतिहास का प्रश्न है मैं अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं देखिए आप अपनी सोच को सकारात्मक रखें अपनी सोच को निर्णय निर्माण में अच्छाई अच्छाई प्राप्त है आपकी परिवेश में आपके आसपास में डूबने अच्छे लोग हैं उन्हें मित्रता की निगाह लिखें किसी औसत भाव से नदी के प्रस्ताव पर काम करने की कोशिश करें कसम से मेरा मतलब है समाज के लिए काम करें किसी दिन दुखी के काम आए दिन दुखी के आंसू पहुंचे आप कोशिश करें कि लोगों की भरपूर सहायता करें इस तरह का प्रस्तुत होगा इस तरह के आपकी तरफ तो आपके अंदर एक सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होगी और इस चिकारा पूजा जी आपके आत्मविश्वास को भाई जी और जवाब का आत्मविश्वास बढ़ेगा तो बाग जीवन में कई क्षेत्रों में सफल होंगे तो आपके मन में आपका आपके सम्मान की भावना कभी उदय होगा जीवन में सकारात्मक सोच और सकारात्मक गतिविधियां को रखते हुए हम अपने आप विश्वास और

ram ram ji ki itihas ka prashna hai main apne aatmvishvaas aur atmasamman ko kaise sudhaar sakta hoon dekhiye aap apni soch ko sakaratmak rakhen apni soch ko nirnay nirmaan me acchai acchai prapt hai aapki parivesh me aapke aaspass me dubne acche log hain unhe mitrata ki nigah likhen kisi ausat bhav se nadi ke prastaav par kaam karne ki koshish kare kasam se mera matlab hai samaj ke liye kaam kare kisi din dukhi ke kaam aaye din dukhi ke aasu pahuche aap koshish kare ki logo ki bharpur sahayta kare is tarah ka prastut hoga is tarah ke aapki taraf toh aapke andar ek sakaratmak urja utpann hogi aur is chikara puja ji aapke aatmvishvaas ko bhai ji aur jawab ka aatmvishvaas badhega toh bagh jeevan me kai kshetro me safal honge toh aapke man me aapka aapke sammaan ki bhavna kabhi uday hoga jeevan me sakaratmak soch aur sakaratmak gatividhiyan ko rakhte hue hum apne aap vishwas aur

राम राम जी की इतिहास का प्रश्न है मैं अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हू

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Saloni Sharma

Soft skill trainer and Counsellor

2:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपना आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए पहले हम जैसे हैं उसे वैसे अपना ना अपनी कमियों के साथ हम हमारी अक्सर आदत होती है कि हम अपनी कमियों की तरफ इतना देखते हैं कि हमें उसको हम अच्छे नहीं लगते या हम अपने आप में कमियां ढूंढते रहते हैं हम पतले हैं मोटे हैं लंबे हैं नाते गोरे है काले हैं हम जैसे भी हैं हमको खुद को अपनाना हमारी जो भी कमियों के साथ पूरी तरह से खुद को एक्सेप्ट करना बहुत जरूरी है जब हम खुद कर लेंगे तो दूसरे भी हमें अपना ने लगेंगे इससे हमारा आत्मविश्वास बढ़ेगा कमियां सब में होती है कोई भी परफेक्ट नहीं होता वह चाहे आप हैं मैं हैं पर आपको अपनी कमियों के साथ अपने आपको जैसे हैं वैसे टाइप करना बहुत जरूरी है अपनी कमियों के पीछे नहीं भागना है बहुत सारे ऐसे कॉलेजेस अलफ्रेड एडलर ने कहा है कि हमें हमेशा कोई ना कोई कंपलेक्स इंफिनिटी कॉन्प्लेक्स हमेशा रहता है कि कभी शायद मैं अच्छे से बोल नहीं पाता है शायद मैं अच्छा कमाता नहीं शायद मैं अच्छा दिखता नहीं कोई ना कोई कंपलेक्स हमारे में हमेशा रहे जिसके ऊपर हम काम हमेशा करेंगे और इंप्रूवमेंट की कोशिश करेंगे तो वही टेंशन ना लेते हुए कि लोग क्या सोचते हैं अगर हम अपने बारे में अच्छा सोचना शुरू करें अपनी कमियों के ऊपर काम करते रहे एक कमी खत्म हो गई दूसरी आ जाएगी तो हम लगातार अपने ऊपर वह करते रहें यह ना सोचते हुए कि मैं कम हूं सिर्फ यह सोचते हुए कि मुझे कितना आगे जाना है कितना आगे बढ़ना है मैं कैसे बेहतर खुद से बेहतर बन सकता हूं अपने आप को दूसरे से बोलना नहीं है आप अपने आप में कंप्लीट हैं आपको किसी से अपने आपको कंपैरिजन नहीं करना है अगर आप यह समझ जाएं तो आपका आत्मविश्वास हमेशा बढ़ेगा

apna aatmvishvaas badhane ke liye pehle hum jaise hain use waise apna na apni kamiyon ke saath hum hamari aksar aadat hoti hai ki hum apni kamiyon ki taraf itna dekhte hain ki hamein usko hum acche nahi lagte ya hum apne aap me kamiyan dhoondhate rehte hain hum patle hain mote hain lambe hain naate gore hai kaale hain hum jaise bhi hain hamko khud ko apnana hamari jo bhi kamiyon ke saath puri tarah se khud ko except karna bahut zaroori hai jab hum khud kar lenge toh dusre bhi hamein apna ne lagenge isse hamara aatmvishvaas badhega kamiyan sab me hoti hai koi bhi perfect nahi hota vaah chahen aap hain main hain par aapko apni kamiyon ke saath apne aapko jaise hain waise type karna bahut zaroori hai apni kamiyon ke peeche nahi bhaagna hai bahut saare aise colleges alafred adler ne kaha hai ki hamein hamesha koi na koi complex infinity kanpleks hamesha rehta hai ki kabhi shayad main acche se bol nahi pata hai shayad main accha kamata nahi shayad main accha dikhta nahi koi na koi complex hamare me hamesha rahe jiske upar hum kaam hamesha karenge aur improvement ki koshish karenge toh wahi tension na lete hue ki log kya sochte hain agar hum apne bare me accha sochna shuru kare apni kamiyon ke upar kaam karte rahe ek kami khatam ho gayi dusri aa jayegi toh hum lagatar apne upar vaah karte rahein yah na sochte hue ki main kam hoon sirf yah sochte hue ki mujhe kitna aage jana hai kitna aage badhana hai main kaise behtar khud se behtar ban sakta hoon apne aap ko dusre se bolna nahi hai aap apne aap me complete hain aapko kisi se apne aapko kampairijan nahi karna hai agar aap yah samajh jayen toh aapka aatmvishvaas hamesha badhega

अपना आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए पहले हम जैसे हैं उसे वैसे अपना ना अपनी कमियों के साथ हम हमा

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  159
WhatsApp_icon
user

Aadhish Raman

Content Writer

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं हूं अध्यक्ष चमन में अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं बहुत ही शानदार क्वेश्चन सबसे पहले आपको अपने आत्मविश्वास की ओर ध्यान देना होगा कि हमारा आत्मविश्वास कैसे सुधर सकता है आपको अपने आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए लोगों की बायोग्राफी पढ़नी चाहिए ऐसी बुक्स पढ़नी चाहिए उसके अलावा अच्छे स्पीकर्स को सुनना चाहिए और आपको मेडिटेशन करना चाहिए यही वह तरीके हैं जिससे आप जल्दी से जल्दी अपना आत्मविश्वास बढ़ा सकते हैं जब आपका आत्मविश्वास बढ़ जाएगा तो आप जो भी काम करोगे उसको नेक्स्ट लेवल तक करोगे उसे अच्छे से कर पाओगे आप उस काम के लिए बिल्कुल कैपेबल हो जाओगे आप उसको नेक्स्ट लेवल तक कर पाओगे जब आप नेक्स्ट लेवल तक कर पाओगे काम को तो आपका आत्म सम्मान ऐसे ही बढ़ जाएगा थैंक यू

namaskar main hoon adhyaksh chaman me apne aatmvishvaas aur atmasamman ko kaise sudhaar sakta hoon bahut hi shandar question sabse pehle aapko apne aatmvishvaas ki aur dhyan dena hoga ki hamara aatmvishvaas kaise sudhar sakta hai aapko apne aatmvishvaas ko badhane ke liye logo ki Biography padhani chahiye aisi books padhani chahiye uske alava acche speakers ko sunana chahiye aur aapko meditation karna chahiye yahi vaah tarike hain jisse aap jaldi se jaldi apna aatmvishvaas badha sakte hain jab aapka aatmvishvaas badh jaega toh aap jo bhi kaam karoge usko next level tak karoge use acche se kar paoge aap us kaam ke liye bilkul capable ho jaoge aap usko next level tak kar paoge jab aap next level tak kar paoge kaam ko toh aapka aatm sammaan aise hi badh jaega thank you

नमस्कार मैं हूं अध्यक्ष चमन में अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं बहुत

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
user

Harish Rana

Motivational Speaker

2:19
Play

Likes  3  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान रसरी आवत जात ते सिल पर परत निशान अभ्यास करते रहिए जो भी जिस कार्य में भी आपको आत्मविश्वास आपके तभी बढ़ेगा जवाब तो दो कई बार कर ले आप आपके अंदर इतनी पास ट्यूटी होनी चाहिए इतना भरोसा होना चाहिए कि मैं जो कार्य करने जा रहा हूं इसे मुझे सफलता मिलेगी असफलता का मिलेगी जब आप अपना एक उद्देश्य मनाएंगे उस उद्देश्य पूरा करने के लिए स्टेप बाय स्टेप उसे पूरा करेंगे और उसके लिए मेहनत करेंगे कर्म करेंगे कार्य करेंगे आगे बढ़ने की कोशिश करेंगे उसके पास 2019 के बाद सोचेंगे मंथन करेंगे कि मुझे कितना फायदा कितना नुकसान का अपना कर लेंगे

dekhiye karat karat abhyas ke jadmati hot sujaan rasari avat jaat te sill par parat nishaan abhyas karte rahiye jo bhi jis karya me bhi aapko aatmvishvaas aapke tabhi badhega jawab toh do kai baar kar le aap aapke andar itni paas tyuti honi chahiye itna bharosa hona chahiye ki main jo karya karne ja raha hoon ise mujhe safalta milegi asafaltaa ka milegi jab aap apna ek uddeshya manayenge us uddeshya pura karne ke liye step bye step use pura karenge aur uske liye mehnat karenge karm karenge karya karenge aage badhne ki koshish karenge uske paas 2019 ke baad sochenge manthan karenge ki mujhe kitna fayda kitna nuksan ka apna kar lenge

देखिए करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान रसरी आवत जात ते सिल पर परत निशान अभ्यास करते रहिए

Romanized Version
Likes  201  Dislikes    views  803
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छा प्रश्न आपका है आत्मविश्वास और आत्मसम्मान सबसे बड़ी नीति है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए आप सकारात्मक दृष्टिकोण रखें रचनात्मक बनी रहे बी पॉजिटिव बी क्रिएटिव जितना आप सकारात्मक सोचेंगे जितना बरसना तक बनेगी लगातार अच्छे कार्यों के लिए कुछ न कुछ प्रयास करते रहेंगे नियमित अपनी दिनचर्या बनाए उस दिनचर्या के हिसाब से चलें और नियमित योगाभ्यास करें आपका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा जब आत्मविश्वास बढ़ता है तो आत्मसम्मान स्वयं हो जाता है तो इसलिए नियमित दिनचर्या नियमित योगाभ्यास अपने कर्म के प्रति पूर्ण पूर्ण श्रद्धा के साथ अपना जो भी आप जिस क्षेत्र से जुड़े हैं वह कार्य करें निश्चित रूप से आप का आत्मबल भी बड़े आत्मविश्वास भी बढ़ेगा और उसके साथ-साथ आत्मसम्मान स्वर्ग हो जाएगा

bahut accha prashna aapka hai aatmvishvaas aur atmasamman sabse badi niti hai aatmvishvaas badhane ke liye aap sakaratmak drishtikon rakhen rachnatmak bani rahe be positive be creative jitna aap sakaratmak sochenge jitna barasna tak banegi lagatar acche karyo ke liye kuch na kuch prayas karte rahenge niyamit apni dincharya banaye us dincharya ke hisab se chalen aur niyamit yogabhayas kare aapka aatmvishvaas bhi badhega jab aatmvishvaas badhta hai toh atmasamman swayam ho jata hai toh isliye niyamit dincharya niyamit yogabhayas apne karm ke prati purn purn shraddha ke saath apna jo bhi aap jis kshetra se jude hain vaah karya kare nishchit roop se aap ka atmabal bhi bade aatmvishvaas bhi badhega aur uske saath saath atmasamman swarg ho jaega

बहुत अच्छा प्रश्न आपका है आत्मविश्वास और आत्मसम्मान सबसे बड़ी नीति है आत्मविश्वास बढ़ाने क

Romanized Version
Likes  208  Dislikes    views  2200
WhatsApp_icon
user

Ritesh Sah

Engineer

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अपने नॉलेज को बढ़ाकर आप अपनी पर्सनालिटी को डेवलप करके अपना कॉन्फिडेंस पढ़ा सकते हैं आप जिस पर फील्ड में इंटरेस्ट है आप उस फील्ड में आप आगे बढ़ सकते हैं इससे आपका कॉन्फिडेंस भी पड़ेगा इससे आपकी पर्सनालिटी डेवलप होगी और इससे आपको सेल्फ सेटिस्फेक्शन भी होगा

aap apne knowledge ko badhakar aap apni personality ko develop karke apna confidence padha sakte hain aap jis par field me interest hai aap us field me aap aage badh sakte hain isse aapka confidence bhi padega isse aapki personality develop hogi aur isse aapko self setisfekshan bhi hoga

आप अपने नॉलेज को बढ़ाकर आप अपनी पर्सनालिटी को डेवलप करके अपना कॉन्फिडेंस पढ़ा सकते हैं आप

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  87
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

1:26
Play

Likes  149  Dislikes    views  4958
WhatsApp_icon
user

Madan Nanda Haral patil

Soft Skill Trainer

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मेरा नाम मिस्टर मदन हर पाटिल है अपने मुझे इस सवाल पूछा अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को कैसे सुधार सकता हूं तो दिखे आत्मविश्वास और अपना सुना एक नन्ही दुसरी बाजू है जो व्यक्ति खुद काट मुसलमान समाज संभालता है उसके साथ आत्मविश्वास आता ही आता है तो पहले आप की नजरों में दूसरों के लोगों के एक बार गिर सकते हो आप लेकिन आपकी नजर में खुद की नजर में मत करो क्योंकि आपकी खुद की नजर में आप गिर जाओगे तो दुनिया की नजर में तो गिर ही जाओगे लेकिन फिर दोबारा कभी आप खड़ा नहीं हो सकेंगे इसलिए दुनिया की नजर में गिर गए तो भी चलेगा लेकिन खुद के नजर में मत करो क्योंकि खुद मैं खुद की नजर में गिर जाएंगे तो कभी जीवन में खड़े नहीं हो सकेंगे तो पहला अपना आत्म सम्मान के लिए विकास पे चला दी बनो मेडिटेशन करो ध्यान करो अच्छा जीवन के बारे में फौजी की विचारधारा लो अच्छी वीडियो सुनाओ अच्छे लोगों के साथ रहो अच्छी किताबें फोटो बेहतर हो सकता है और आप यह पाप सक्सेस के तौर पर चले जा सकते हैं धन्यवाद बेस्ट ऑफ लक

namaskar mera naam mister madan har patil hai apne mujhe is sawaal poocha apne aatmvishvaas aur atmasamman ko kaise sudhaar sakta hoon toh dikhe aatmvishvaas aur apna suna ek nanhi dusri baju hai jo vyakti khud kaat musalman samaj sambhalata hai uske saath aatmvishvaas aata hi aata hai toh pehle aap ki nazro me dusro ke logo ke ek baar gir sakte ho aap lekin aapki nazar me khud ki nazar me mat karo kyonki aapki khud ki nazar me aap gir jaoge toh duniya ki nazar me toh gir hi jaoge lekin phir dobara kabhi aap khada nahi ho sakenge isliye duniya ki nazar me gir gaye toh bhi chalega lekin khud ke nazar me mat karo kyonki khud main khud ki nazar me gir jaenge toh kabhi jeevan me khade nahi ho sakenge toh pehla apna aatm sammaan ke liye vikas pe chala di bano meditation karo dhyan karo accha jeevan ke bare me fauji ki vichardhara lo achi video sunao acche logo ke saath raho achi kitaben photo behtar ho sakta hai aur aap yah paap success ke taur par chale ja sakte hain dhanyavad best of luck

नमस्कार मेरा नाम मिस्टर मदन हर पाटिल है अपने मुझे इस सवाल पूछा अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  98
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
अल्टरकेशन ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!