शरीर की भाषा यानी बॉडी लैंग्विज की मूल बातें क्या हैं? मैं अपनी बॉडी लैंग्विज का उपयोग करके एक कॉन्फ़िडेंट और आत्मविश्वासी व्यक्ति की तरह कैसे प्रतीत हो सकता हूँ?...


user

Dr. Priya Shatanjib Jha

Psychologist|Counselor|Dentist

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते दोस्तों मेरे आणि डॉ प्रिया झा के तरफ से आप सबको दिन की शुभकामनाएं अभी यह जो क्वेश्चन है यह जो सवाल है कि अपने बॉडी लैंग्वेज का उपयोग करके कैसे कॉन्फिडेंट और आत्म विश्वासी व्यक्ति प्रतीत हो सके हम सो मैंने ना पॉइंट जो डाउन कर लिया है जिसकी बीवी वाला आईडिया पोर्ट नो फर्स्ट अकॉर्डिंग टू मी बुद्धि आप जब भी जिन से भी घर के लोगों से या बाहर के लोगों से बात करते हो प्लीज मेंटेन एन आई कॉन्टैक्ट डीटेल्स सी फर्स्ट नाइट गुड शो रिस्पेक्ट ऑल स्वीट शॉप्स अट अंडरकॉन्फिडेंट शो ऑफिस को यू एस अक्षर ई विल हेल्प यू टो बिल्ड कॉन्फिडेंस टो फर्स्ट कॉन्टैक्ट सेकंड ऑलवेज ट्री ट्री ट्री पोस्टर इज वेरी इंपॉर्टेंट विनोद अवेंजर्स सेटिंग शो यू आर माइन व्हाट इस गोइंग इंसाइड वर्मा एंड फॉर सीनियर सेकेंडरी स्टेट्स थर्ड देखिए हम सब घर बाहर निकलते हैं तो हम कोई ना कोई परपस से निकलते हैं शो द परपस योर इंटेंशन एंड एयरपोर्ट शूट सोनी और फिर 24 इंच और विद्युत दिन आप अगर नवरत्न डोंट रिटर्न टू बी समथिंग यू आर नॉट शो दैट इज द फूड पॉइंट एंड लास्ट गुड इंटेंशंस गुड्डा तू सोने ऑफिस शो ए गुड इंटेंशंस लो एंड द सिटी जो आपके मन में है उसको बाहर रखी है जो आप नहीं हो वह बनने की कोशिश भी मत कीजिए तो दिख जाता है हमें सबको लगता है कि किसी को पता नहीं चल रहा है पर सब सब कुछ जानते हैं और जो सबसे चुप बैठे रहते हैं वह सबसे ज्यादा अफसोस करते हैं सो नेवर ट्राय टू फुल एनीबडी भी ऑनेस्ट विद योर इंटेंशन एंड फाइंड यू सोनियो फिर और यह छोटी-छोटी बातें ही आपके पर्सनालिटी को बिल्ड करेंगी एंड यू विल बिकम कौन फ्रेंड भी टाइम टाइम ओके ऑल द बेस्ट

namaste doston mere aani Dr. priya jha ke taraf se aap sabko din ki subhkamnaayain abhi yah jo question hai yah jo sawaal hai ki apne body language ka upyog karke kaise confident aur aatm vishwasi vyakti pratit ho sake hum so maine na point jo down kar liya hai jiski biwi vala idea port no first according to me buddhi aap jab bhi jin se bhi ghar ke logo se ya bahar ke logo se baat karte ho please maintain N I contract details si first night good show respect all sweet Shops attack andarakanfident show office ko you s akshar ee will help you toe build confidence toe first contract second always tree tree tree poster is very important vinod avengers setting show you R mine what is going inside verma and for senior secondary states third dekhiye hum sab ghar bahar nikalte hain toh hum koi na koi parpas se nikalte hain show the parpas your intention and airport choot sony aur phir 24 inch aur vidhyut din aap agar navratna dont return to be something you R not show that is the food point and last good intenshans gudda tu sone office show a good intenshans lo and the city jo aapke man mein hai usko bahar rakhi hai jo aap nahi ho vaah banne ki koshish bhi mat kijiye toh dikh jata hai hamein sabko lagta hai ki kisi ko pata nahi chal raha hai par sab sab kuch jante hain aur jo sabse chup baithe rehte hain vaah sabse zyada afasos karte hain so never try to full anybody bhi honest with your intention and find you soniyo phir aur yah choti choti batein hi aapke personality ko build karengi and you will become kaun friend bhi time time ok all the best

नमस्ते दोस्तों मेरे आणि डॉ प्रिया झा के तरफ से आप सबको दिन की शुभकामनाएं अभी यह जो क्वेश्च

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  333
WhatsApp_icon
12 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी इंसान की बॉडी लैंग्वेज दो चीजों पर निर्धारित होती है पहला कि वह अपने मन में क्या महसूस कर रहा है उसकी फीलिंग कैसी है उस वक्त और दूसरा उसके दिमाग में कैसे बात चल रहे हैं तो मैं आपको यह सलाह दूंगी कि आपने जो डायरेक्शन चुना है आपका जो सवाल है कि आप बॉडी लैंग्वेज को चेंज करके कॉन्फिडेंट कैसे फील कर सकते हैं दूसरों को अगर आप इसको थोड़ा सा करले और आप अपने कॉन्फिडेंस पर काम करें अपने आप को अंदर से आत्मविश्वास ही और अपने आपको बहुत ज्यादा कॉन्फिडेंट फील करेंगे तो बॉडी लैंग्वेज चेंज हो जाएगी उसमें आपको कुछ करने की जरूरत ही नहीं है और अपनी कॉन्फिडेंस को बढ़ाने के लिए आप अपने मन में ज्यादा से ज्यादा समय अपनी खुद की तारीफ करें आपने जो अच्छे काम किए हैं आप जो कुछ कर सकते हैं आप अपने आप को बेहतर बनाने की कोशिश करेंगे तो कॉन्फिडेंस अपने आप बढ़ेगा कॉन्फिडेंस बढ़ेगा तो बॉडी लैंग्वेज अपने आप चेंज हो जाएगी

kisi bhi insaan ki body language do chijon par nirdharit hoti hai pehla ki vaah apne man mein kya mehsus kar raha hai uski feeling kaisi hai us waqt aur doosra uske dimag mein kaise baat chal rahe hain toh main aapko yah salah dungi ki aapne jo direction chuna hai aapka jo sawaal hai ki aap body language ko change karke confident kaise feel kar sakte hain dusro ko agar aap isko thoda sa karle aur aap apne confidence par kaam kare apne aap ko andar se aatmvishvaas hi aur apne aapko bahut zyada confident feel karenge toh body language change ho jayegi usme aapko kuch karne ki zarurat hi nahi hai aur apni confidence ko badhane ke liye aap apne man mein zyada se zyada samay apni khud ki tareef kare aapne jo acche kaam kiye hain aap jo kuch kar sakte hain aap apne aap ko behtar banane ki koshish karenge toh confidence apne aap badhega confidence badhega toh body language apne aap change ho jayegi

किसी भी इंसान की बॉडी लैंग्वेज दो चीजों पर निर्धारित होती है पहला कि वह अपने मन में क्या म

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  327
WhatsApp_icon
user

Maulin Pandya

Life Coach and Entrepreneur

1:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए बॉडी लैंग्वेज फिजिकली हर इंसान एक्चुली अपने नॉलेज के हिसाब से उसे संभालता है जो इंसान के पास कोई चीज का नॉलेज ज्यादा है या तो फिर अगर उसके अंदर कोई चीज के में ज्यादा कॉन्फिडेंस है तो डेफिनिटी उसका खड़े रहने का पोस्टर बिल्कुल उस पर ही डिपेंड करता है इससे आगे मैं आपको यह कहना चाहता हूं कि जब कि आपका एक सवाल ऐसा भी है कि किस तरीके से हम अपना कॉन्फिडेंस बढ़ाए आत्मा विश्वास बढ़ाइए देखिए आपका आत्मविश्वास डिपेंड करता है आपके नॉलेज पर आपके ज्ञान से कोई भी इंसान अगर किसी चीज पर नॉलेज नहीं पाता है या फिर उसका नहीं होता है तो उस वक्त उसका आत्मविश्वास कम होता है और अगर आपका कहीं पर कोई नॉलेज लेवल थोड़ा सा ज्यादा होगा तो आपका बट हो गया से वहां पर उस टॉपिक पर डिस्कस करने के लिए यह बातें करने के लिए डेफिनटली एक अच्छा स्टैंडर्ड होता है एक अच्छा प्लेटफॉर्म होता है सोम इंर्पोटेंट चीज यह है बॉडी लैंग्वेज अपने आप संभल नहीं शुरू हो जाती है एक बार इंसान ज्ञान के क्षेत्र में प्रवेश करता नॉलेज में आगे बढ़ता है तो उस टाइम इट्स कि आप अपने नॉलेज को बढ़ाइए और अपने आप के हिसाब से ही वह एक बॉडी लैंग्वेज डेवलप कर दी जाती है जैसे कोई टैक्सी ड्राइवर है तो उसका एक खड़े रहने का पोषण अलग होता है लेकिन जब आप गाड़ियों की बातें करते हैं तो नीचे है उसका एक बॉडी लैंग्वेज चेंज हो जाता है अगर आप किसी मैकेनिक के पास जाइए और उनके पास में पॉलिटिक्स की बातें करो या फिर फुटबॉल की बातें करो तो उन्हें शायद यह सुनकर कमजोरी फील होने लगती क्योंकि शायद वो नॉलेज का क्षेत्र नहीं है लेकिन अगर वह मैकेनिक के पास मशीनों की बातें करो तो डेफिनिटी आप देखोगी उसका पोस्टर चेंज हो जाता है उसका स्पाइनेट हो जाता है यानी कि खड़े रहने का पोस्टर जो है या फिर जो खबर है वह सीधी हो जाती है आपस में दम निकलने लगता है कि सारी चीजें जो है वह इंसान की नॉलेज पर डिपेंड करता है

dekhiye body language physically har insaan ekchuli apne knowledge ke hisab se use sambhalata hai jo insaan ke paas koi cheez ka knowledge zyada hai ya toh phir agar uske andar koi cheez ke mein zyada confidence hai toh definiti uska khade rehne ka poster bilkul us par hi depend karta hai isse aage main aapko yah kehna chahta hoon ki jab ki aapka ek sawaal aisa bhi hai ki kis tarike se hum apna confidence badhae aatma vishwas badhaiye dekhiye aapka aatmvishvaas depend karta hai aapke knowledge par aapke gyaan se koi bhi insaan agar kisi cheez par knowledge nahi pata hai ya phir uska nahi hota hai toh us waqt uska aatmvishvaas kam hota hai aur agar aapka kahin par koi knowledge level thoda sa zyada hoga toh aapka but ho gaya se wahan par us topic par discs karne ke liye yah batein karne ke liye definatali ek accha standard hota hai ek accha platform hota hai Som important cheez yah hai body language apne aap sambhal nahi shuru ho jaati hai ek baar insaan gyaan ke kshetra mein pravesh karta knowledge mein aage badhta hai toh us time its ki aap apne knowledge ko badhaiye aur apne aap ke hisab se hi vaah ek body language develop kar di jaati hai jaise koi taxi driver hai toh uska ek khade rehne ka poshan alag hota hai lekin jab aap gadiyon ki batein karte hain toh niche hai uska ek body language change ho jata hai agar aap kisi mechanic ke paas jaiye aur unke paas mein politics ki batein karo ya phir football ki batein karo toh unhe shayad yah sunkar kamzori feel hone lagti kyonki shayad vo knowledge ka kshetra nahi hai lekin agar vaah mechanic ke paas machino ki batein karo toh definiti aap dekhogi uska poster change ho jata hai uska spainet ho jata hai yani ki khade rehne ka poster jo hai ya phir jo khabar hai vaah seedhi ho jaati hai aapas mein dum nikalne lagta hai ki saree cheezen jo hai vaah insaan ki knowledge par depend karta hai

देखिए बॉडी लैंग्वेज फिजिकली हर इंसान एक्चुली अपने नॉलेज के हिसाब से उसे संभालता है जो इंसा

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  338
WhatsApp_icon
user

Ragini Kshatriya

Lifecoach@Lifezhonour

1:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉडी लैंग्वेज पहले तो आपको ही चीज बहुत क्लियर होनी चाहिए की बॉडी लैंग्वेज इस टोटली कंट्रोल कि आप अंदर क्या महसूस कर रहे हैं मतलब आपके दिल और दिमाग में क्या चल रहा है अगर आपके दिल में कुछ और है दिमाग में कुछ और है तो वह भी आपकी बॉडी लैंग्वेज में दिख जाएगा यदि आपका दिल और दिमाग टू ट्रीस सिंह है टोटली पॉजिटिव है बहुत खुश है वह भी आपके बॉडी लैंग्वेज में दिख जाएगा अपनी बॉडी लैंग्वेज को सही करने के लिए आपको पहले तो अपने दिमाग और मन के संतुलन को सही करना होगा आपको खुद पॉजिटिव रमन को और अपने दिमाग को पॉजिटिव रखना होगा अपने सोच विचार को पॉजिटिव रखना होगा कि वही चीजें बॉडी लैंग्वेज में फिर से तू जैसे कि मैं आपको एक एग्जांपल देती हूं यदि कोई ऐसा बच्चा है जो जिसका रिजल्ट वह इफेक्ट कर रहा था कि मैं दो टाइगर की न्यूज़ बच्चे का रिजल्ट 62 परसेंटेज आ जाए तो अभी बच्चा थोड़ा सा सेट है थोड़ा ज्यादा अपसेट जैसा भी उसका व्यवहार और व्यक्तित्व थे मोशंस एग्जिट करेगा तो उसे मोशन में उसकी बॉडी लैंग्वेज में डांस करना आया लोगों को गले मिलना ही सब कुछ नहीं होगा सब की बॉडी लैंग्वेज आपके पास इससे गवर्नेंस अगर आपका थॉट प्रोसेस कॉन्फिडेंट है आपकी सोच में आपने सोचा है कि आप कौन से दिन है आप निर्भय हैं आप घबरा आएंगे नहीं तो वह सीन चीज आपकी बॉडी लैंग्वेज में आएगी अगर आप सोचेंगे आप नर्वस है आपको डर लग रहा है तो वह भी रख लड़कियों का बॉडी लैंग्वेज में तो पहले अपने माइंड को चंदन कीजिए

body language pehle toh aapko hi cheez bahut clear honi chahiye ki body language is totally control ki aap andar kya mehsus kar rahe hain matlab aapke dil aur dimag mein kya chal raha hai agar aapke dil mein kuch aur hai dimag mein kuch aur hai toh vaah bhi aapki body language mein dikh jaega yadi aapka dil aur dimag to tris Singh hai totally positive hai bahut khush hai vaah bhi aapke body language mein dikh jaega apni body language ko sahi karne ke liye aapko pehle toh apne dimag aur man ke santulan ko sahi karna hoga aapko khud positive raman ko aur apne dimag ko positive rakhna hoga apne soch vichar ko positive rakhna hoga ki wahi cheezen body language mein phir se tu jaise ki main aapko ek example deti hoon yadi koi aisa baccha hai jo jiska result vaah effect kar raha tha ki main do tiger ki news bacche ka result 62 percentage aa jaaye toh abhi baccha thoda sa set hai thoda zyada upset jaisa bhi uska vyavhar aur vyaktitva the moshans exit karega toh use motion mein uski body language mein dance karna aaya logo ko gale milna hi sab kuch nahi hoga sab ki body language aapke paas isse Governance agar aapka thought process confident hai aapki soch mein aapne socha hai ki aap kaunsi din hai aap nirbhay hain aap ghabara aayenge nahi toh vaah seen cheez aapki body language mein aayegi agar aap sochenge aap nervous hai aapko dar lag raha hai toh vaah bhi rakh ladkiyon ka body language mein toh pehle apne mind ko chandan kijiye

बॉडी लैंग्वेज पहले तो आपको ही चीज बहुत क्लियर होनी चाहिए की बॉडी लैंग्वेज इस टोटली कंट्रोल

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  335
WhatsApp_icon
user

Sahil Davda

Peak Performance Coach

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो सर के पास ज्ञानी बॉडी लैंग्वेज की मूल बातें क्या है मैं अपनी बॉडी लैंग्वेज का मतलब अच्छे से इस्तेमाल कैसे कर सकता हूं दूसरों को इंप्रेस करने के लिए पहली चीज आप कर सकते हैं वह है कि जवाब चल रहे हैं जब कोई भी एक नॉरमल इंसान चलता है वह तो कभी कभी आपने देखा हो जो डिप्रेस्ड पर्सन होते हैं ज्ञान की जो मतलब डिप्रेशन में होते हैं वह अपना सर नीचे तो आ जाना चाहते हैं तो आप अपना सिर ऊंचा कर के सामने देख कर चल सकते हैं वह आपको बहुत ज्यादा फायदेमंद होगा अगला जो हम चेक अकाउंट करते हैं वह है जब कोई भी नॉरमल इंसान चलता है तो वह थोड़े से अच्छी स्पीड में चलता है लेकिन अगर कोई एक अच्छी पर्सनालिटी कोई पब्लिक फिगर जब चलता है या तो कोई यूनिक पब्लिक पर्सनालिटी जब चलता है तो वह थोड़ा सा स्लो चलता है अगर आप जेम्स बॉन्ड की मूवी देखेंगे तो उसमें दिया होगा कि जेम्स बॉन्ड बहुत ही धीरे धीरे चलते हैं उनकी स्पीड नार्मल लोगों से अच्छी होती है उसके बाद तीसरा और आखिरी फॉलो कर सकते हैं वह हुआ कि अब आप अपनी बॉडी को हल्का टचस्क्रीन कर सकते हैं जब आप जेम्स बॉन्ड को चलते हुए देखेंगे जेम्स बॉन्ड दुनिया में बहुत ही ज्यादा फेमस अपनी चलने की चाल को लेकर जब आप चलते हैं तो अपनी बॉडी को थोड़ा सा स्विंग किया कीजिए इससे क्या होगा कि एक अलग ही बात होगी उसके साथ साथ एक और चीज जॉब कर सकते हैं वह आई कांटेक्ट जब किसी को आप देखते हैं तब आप उनकी आंखों में आंखें डालकर हल्का सा स्माइल देंगे तो बहुत ही अच्छा रिस्पॉन्स सामने मिलेगा बॉडी लैंग्वेज ठीक किया जाए

hello sir ke paas gyani body language ki mul batein kya hai apni body language ka matlab acche se istemal kaise kar sakta hoon dusro ko impress karne ke liye pehli cheez aap kar sakte hain vaah hai ki jawab chal rahe hain jab koi bhi ek normal insaan chalta hai vaah toh kabhi kabhi aapne dekha ho jo depressed person hote hain gyaan ki jo matlab depression mein hote hain vaah apna sir niche toh aa jana chahte hain toh aap apna sir uncha kar ke saamne dekh kar chal sakte hain vaah aapko bahut zyada faydemand hoga agla jo hum check account karte hain vaah hai jab koi bhi normal insaan chalta hai toh vaah thode se achi speed mein chalta hai lekin agar koi ek achi personality koi public figure jab chalta hai ya toh koi Unique public personality jab chalta hai toh vaah thoda sa slow chalta hai agar aap gems Bond ki movie dekhenge toh usme diya hoga ki gems Bond bahut hi dhire dhire chalte hain unki speed normal logo se achi hoti hai uske baad teesra aur aakhiri follow kar sakte hain vaah hua ki ab aap apni body ko halka tachaskrin kar sakte hain jab aap gems Bond ko chalte hue dekhenge gems Bond duniya mein bahut hi zyada famous apni chalne ki chaal ko lekar jab aap chalte hain toh apni body ko thoda sa swing kiya kijiye isse kya hoga ki ek alag hi baat hogi uske saath saath ek aur cheez job kar sakte hain vaah I Contact jab kisi ko aap dekhte hain tab aap unki aankho mein aankhen dalkar halka sa smile denge toh bahut hi accha rispans saamne milega body language theek kiya jaaye

हेलो सर के पास ज्ञानी बॉडी लैंग्वेज की मूल बातें क्या है मैं अपनी बॉडी लैंग्वेज का मतलब अच

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  335
WhatsApp_icon
user

Anuradha Rakesh

Clinical Psychologist

3:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आसान भाषा में कहें तो बॉडी लैंग्वेज यानी शरीर की भाषा का मतलब यह है अनकहे शब्दों का वार्तालाप इससे हम अपनी सच्ची भावनाएं अपनी इच्छाएं उमंगों को व्यक्त करते हैं इसे समझने के लिए तीन जरूरी बातों को समझना जरूरी है पहला जैसल यानी कि हमारे हावभाव दूसरा पोस्ट जल यानी कि शारीरिक मुद्रा तीसरा प्रश्न एक्सप्रेशन यानी कि चेहरे के हाव-भाव को समझकर जान कर अपने आपको आत्मविश्वास ही बना सकते हैं तो उसके लिए कुछ चीजों को अपने अंदर बदलाव लाने की जरूरत है तब हम किसी से बात करें तो हम अपना पोषण सखी रे शारीरिक पोस्टर जो है बात करें तो तुमसे बात करें जैसे कि अक्सर आपने देखा होती है घबराहट होती है तो अपने को बंद कर कर खड़े होते हैं हाथों को घर के खड़े होते हैं थोड़ा अगर जिसकी बॉडी लैंग्वेज इसका शरीर एकदम नमस्कार करे या हम किसी से हाथ मिलाए जाते वक्त उस लम्हा सोचता है क्या आपने आप को अच्छे मजबूती से पकड़ा है तो जाहिर करता है कि आपके अंदर कितना आत्मविश्वास है तीसरा किसी से भी बात करते वक्त एक आंखों को आंखों में डाल कर बात करना एक दूसरे से आंख मिलाकर बात करना इससे पता चलता है कि आप जो भी बात कहना चाह रहे हैं उस बात में आपको कितना विश्वास है अगर हमें कॉन्फिडेंस नहीं होता है जब हमारे आत्मविश्वास नहीं होता है जो हम कह रहे हो सही है गलत है इधर बात करते हैं बात करते हैं मैग्नेटिक बॉडी लैंग्वेज जाता है कि हम बात करते हैं कभी-कभी कोई हाथ में हाथ डाला हुआ है रिजेक्ट करती है कि हमें किसी न किसी तरह से वह कॉन्फिडेंस नहीं है तो जब किसी से हम बात करें बिना शरीर को हिला दूं कुछ भी बात करें एक फोन पर खड़े होकर बात करें आखिरी चीज जब हम बात करें तो हम आपको दूसरे की तरफ से आंखों में आंखें डालकर बात करनी है यह भी हमारी बॉडी लैंग्वेज इंपॉर्टेंट सकता है अगर हम इन चीजों को ध्यान में रखते हुए बात करें तो अपने आप दिखा सकते हैं इन सबको प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका यही है कि घर में शीशे के सामने खड़े होते हुए अपने आप बात करते हुए किसी चीज को बार-बार दोहरा के प्रैक्टिस करेंगे ऑटोमेटिकली जब हम बाहर से बात करें तो अच्छी तरह से

agar aasaan bhasha mein kahein toh body language yani sharir ki bhasha ka matlab yeh hai annkahe shabdo ka vartalaap isse hum apni sachi bhavanae apni ichhaen umangon ko vyakt karte hain ise samjhne ke liye teen zaroori baaton ko samajhna zaroori hai pehla jaisal yani ki hamare havabhav doosra post jal yani ki sharirik mudra teesra prashna expression yani ki chehre ke hav bhav ko samajhkar jaan kar apne aapko aatmvishvaas hi bana sakte hain toh uske liye kuch chijon ko apne andar badlav lane ki zarurat hai tab hum kisi se baat karein toh hum apna poshan sakhi ray sharirik poster jo hai baat karein toh tumse baat karein jaise ki aksar aapne dekha hoti hai ghabarahat hoti hai toh apne ko band kar kar khade hote hain hathon ko ghar ke khade hote hain thoda agar jiski body language iska sharir ekdam namaskar kare ya hum kisi se hath milae jaate waqt us lamha sochta hai kya aapne aap ko acche majbuti se pakada hai toh jaahir karta hai ki aapke andar kitna aatmvishvaas hai teesra kisi se bhi baat karte waqt ek aankho ko aankho mein daal kar baat karna ek dusre se aankh milakar baat karna isse pata chalta hai ki aap jo bhi baat kehna chah rahe hain us baat mein aapko kitna vishwas hai agar humein confidence nahi hota hai jab hamare aatmvishvaas nahi hota hai jo hum keh rahe ho sahi hai galat hai idhar baat karte hain baat karte hain magnetic body language jata hai ki hum baat karte hain kabhi kabhi koi hath mein hath dala hua hai reject karti hai ki humein kisi na kisi tarah se wah confidence nahi hai toh jab kisi se hum baat karein bina sharir ko hila doon kuch bhi baat karein ek phone par khade hokar baat karein aakhiri cheez jab hum baat karein toh hum aapko dusre ki taraf se aankho mein aankhen dalkar baat karni hai yeh bhi hamari body language important sakta hai agar hum in chijon ko dhyan mein rakhte hue baat karein toh apne aap dikha sakte hain in sabko prapt karne ka sabse accha tarika yahi hai ki ghar mein shishe ke saamne khade hote hue apne aap baat karte hue kisi cheez ko baar baar dohra ke practice karenge automatically jab hum bahar se baat karein toh acchi tarah se

अगर आसान भाषा में कहें तो बॉडी लैंग्वेज यानी शरीर की भाषा का मतलब यह है अनकहे शब्दों का वा

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  488
WhatsApp_icon
user

Garima Dwivedi

Clinical Psychologist

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉडी लैंग्वेज हमारी जान को स्टार्ट करें मोदी की फोटो बहुत ही कम अपने एक्सप्रेशन पर किसी इंसान को यह व्यक्त कर सकते हैं कि हम अभी क्या महसूस कर रहे हैं हमारे के तरीके से हमारे उठने के तरीके से बात करने के तरीके से हमारी चीजों के बारे में एक बहुत ही हम कौन है अच्छा दिखने बात करते हैं तो बात करते हुए एक किसे कहते हैं समझे क्या चीज बात करनी है कि बारे में बात करनी है आपसे बात करना चाहिए तो वह करता है कि थोड़ा खून की कमी है

body language hamari jaan ko start karein modi ki photo bahut hi kam apne expression par kisi insaan ko yeh vyakt kar sakte hain ki hum abhi kya mehsus kar rahe hain hamare ke tarike se hamare uthane ke tarike se baat karne ke tarike se hamari chijon ke bare mein ek bahut hi hum kaun hai accha dikhne baat karte hain toh baat karte hue ek kise kehte hain samjhe kya cheez baat karni hai ki bare mein baat karni hai aapse baat karna chahiye toh wah karta hai ki thoda khoon ki kami hai

बॉडी लैंग्वेज हमारी जान को स्टार्ट करें मोदी की फोटो बहुत ही कम अपने एक्सप्रेशन पर किसी इं

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  339
WhatsApp_icon
user

Kalpana Arora

Executive Coach, Life Coach, Career Coach, NLP Practitioner, Behavioral Assessment

3:08
Play

Likes  37  Dislikes    views  464
WhatsApp_icon
user

Dr. Alpana Rastogi

Psychologist

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक्सपोर्ट स्क्वायर एलसीडी मीनिंग ऑफ फॉर्म ऑफ एन आर एल एक्स आई कांटेक्ट हाई कोर्ट अटेंडेंट यह हमारा बेसिक कॉन्फिडेंट बॉडी लैंग्वेज होता है जब हम किसी से बात करते हैं

export square LCD meaning of form of N R el x I Contact high court attendant yah hamara basic confident body language hota hai jab hum kisi se baat karte hain

एक्सपोर्ट स्क्वायर एलसीडी मीनिंग ऑफ फॉर्म ऑफ एन आर एल एक्स आई कांटेक्ट हाई कोर्ट अटेंडेंट

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  269
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रिया केसर की भाषा अरदास बॉडी लैंग्वेज अच्छी है तो आप सभी इंटरव्यू में जाएंगे तो आपको तक पहुंचने से थोड़ी लैंग्वेज सही होने से आपको भूलने की चिंता ही कॉन्फिडेंस है क्या के चेहरे पर मुस्कान में सोचो कि मैं तो इंटरव्यू के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स सबसे ज्यादा बॉडी लैंग्वेज से पकड़ लेते हैं आपकी सोच समझ और आपके आचरण को रख लेते हैं बोर्ड बड़ी रंग बरसे होने का आप अनफ्रेंड और आत्मविश्वास व्यक्ति की तरह हो जाते हैं बॉडी लैंग्वेज के लिए जरूरी है क्या आपके इंटरव्यू के जाने से पहले आप अपने इंटरव्यू में क्या क्या प्रश्न पूछे जाते हैं उस चीज पर ध्यान फोकस करें अपने हुनर से उसमें देशों का फोकस करें आप जिस पोस्ट के लिए इंटरव्यू देने जा रहे हैं उस पर ध्यान फोकस करें कॉन्फिडेंस रखें बोर्ड के मेंबर से इंटरव्यू लेने वाले व्यक्ति से आप नजर उठा कर के बात करें बोर्ड मेंबर्स के बीच अनुमति लेकर कांग्रेस करें बनी लैंग्वेज के लिए आपकी बॉडी तंदुरुस्त आना चाहिए सुदृढ़ होना चाहिए और कितना में दिखाई देता ना ऐसा लगे कि आप सचमुच का किसी से कान के झाला चमक-दमक वाले कपड़े नहीं पहने और साफ-सुथरा चरित्र लीला आनी चाहिए बड़ी लैंग्वेज कैसे मनाते हैं अमेरिकन सजना साथ विश्वासघात आप कुछ भी काम कर सकते हैं एक आत्मविश्वास ही बैठते हैं जीवन में कितने सच्चे मार्ग पर चल सकता है वह कठिन परिस्थितियों में भी आगे बढ़ सकते हैं जीवन के समक्ष में अद्भुत चल सकता है और एक ना एक दिन सफलता के मार्ग को जरूर प्राप्त कर लेता है

priya kesar ki bhasha ardas body language achi hai toh aap sabhi interview mein jaenge toh aapko tak pahuchne se thodi language sahi hone se aapko bhulne ki chinta hi confidence hai kya ke chehre par muskaan mein socho ki main toh interview ke board of directors sabse zyada body language se pakad lete hai aapki soch samajh aur aapke aacharan ko rakh lete hai board baadi rang barase hone ka aap anafrend aur aatmvishvaas vyakti ki tarah ho jaate hai body language ke liye zaroori hai kya aapke interview ke jaane se pehle aap apne interview mein kya kya prashna pooche jaate hai us cheez par dhyan focus kare apne hunar se usme deshon ka focus kare aap jis post ke liye interview dene ja rahe hai us par dhyan focus kare confidence rakhen board ke member se interview lene waale vyakti se aap nazar utha kar ke baat kare board members ke beech anumati lekar congress kare bani language ke liye aapki body tandurust aana chahiye sudridh hona chahiye aur kitna mein dikhai deta na aisa lage ki aap sachmuch ka kisi se kaan ke jhala chamak damak waale kapde nahi pehne aur saaf suthara charitra leela aani chahiye baadi language kaise manate hai american sajna saath vishwasghat aap kuch bhi kaam kar sakte hai ek aatmvishvaas hi baithate hai jeevan mein kitne sacche marg par chal sakta hai vaah kathin paristhitiyon mein bhi aage badh sakte hai jeevan ke samaksh mein adbhut chal sakta hai aur ek na ek din safalta ke marg ko zaroor prapt kar leta hai

प्रिया केसर की भाषा अरदास बॉडी लैंग्वेज अच्छी है तो आप सभी इंटरव्यू में जाएंगे तो आपको तक

Romanized Version
Likes  121  Dislikes    views  1094
WhatsApp_icon
play
user

Mohini

Voice Artist

1:50

Likes  13  Dislikes    views  375
WhatsApp_icon
play
user

Neha

Journalist , Writer

1:33

Likes  14  Dislikes    views  375
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
प्लीज चेंज योर लैंग्वेज ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!