आपके व्यक्तित्व में ऐसी कौन सी चीज़ ें हैं जो आपको अन्य लोगों से अलग बनाती हैं?...


user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे ऐसा लगता है कि मुझ में तो हजारों ऐसी चीजें हैं जो मुझे औरों से अलग करती है इंसान मेरी हर चीज औरों से अलग है क्योंकि मेरी अपनी एक अलग पहचान है मैं एक अलग करो कि जैसा कुछ भी नहीं है लेकिन फिर भी एक जो सबसे इंपॉर्टेंट चीज मुझे लगती है वह मैं जरूर आपके साथ शेयर करना चाहूंगी और वह यह है कि मैं अपनी बात के अलावा सामने वाले इंसान की बात को भी बहुत अच्छे से समझने की कोशिश करती हूं और यह बात मुझे अपनी बहुत अच्छी लगती है जो मुझे औरों से अलग होने की पहचान देती है कि सामने वाला इंसान क्या सोच रहे हैं उसने ऐसा कुछ किया तो उसका क्या वेतन होगा क्यों वह ऐसे भेज कर रहा है या ऐसे ही याद कर रहे हैं मुझे यह बातें बहुत अच्छे से समझ में आती है

mujhe aisa lagta hai ki mujhse mein toh hazaro aisi cheezen hain jo mujhe auron se alag karti hai insaan meri har cheez auron se alag hai kyonki meri apni ek alag pehchaan hai ek alag karo ki jaisa kuch bhi nahi hai lekin phir bhi ek jo sabse important cheez mujhe lagti hai vaah main zaroor aapke saath share karna chahungi aur vaah yah hai ki main apni baat ke alava saamne waale insaan ki baat ko bhi bahut acche se samjhne ki koshish karti hoon aur yah baat mujhe apni bahut achi lagti hai jo mujhe auron se alag hone ki pehchaan deti hai ki saamne vala insaan kya soch rahe hain usne aisa kuch kiya toh uska kya vetan hoga kyon vaah aise bhej kar raha hai ya aise hi yaad kar rahe hain mujhe yah batein bahut acche se samajh mein aati hai

मुझे ऐसा लगता है कि मुझ में तो हजारों ऐसी चीजें हैं जो मुझे औरों से अलग करती है इंसान मेरी

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  344
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Bhavin J. Shah

Life Coach

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खुद के साथ साथ रहना आज गति इस दुनिया में किसी एक व्यक्ति को सबसे ज्यादा चल करता है तो खुद को करता है हमको यह लगता है कि मेरा रूप बाहर वाले को नहीं दिखेगा लेकिन हम जैसे हैं वैसे बार कहीं ना कहीं पता चल ही जाता है मैं मेरी बात करूं तो मेरी स्थिति में ऐसी कौन सी चीज है जिसे मुझे अन्य लोगों से अलग करती है तो पहली चीज है मैं खुद के साथ वफादार हूं दूसरी चीज है समय पालन तकरीबन हमारी कंपनी ने 800 से ज्यादा से संस्कृत किए हैं छोटे ग्रुप से लेकर पब्लिक से 100 तक आज तक एक भी शोषण में हमारे लीडर प्लेट नहीं पहुंचे ऑर्गेनाइजेशन ऑर्गेनाइजर्स के कारण लेट हुआ होगा ऐसा हो सकता है लेकिन हमने कभी बिल्डिंग लेट चालू नहीं किया है वह तीसरा रीजन है हमेशा बड़ी गेम में उतरना हम सोच सकते हैं कि हम इतना ही कर सकते हैं उससे बड़ी गेम में जब हम उतरते हैं तब फेलियर की गेम में जब उतरते हैं तब हमारा विकास होता है सो मेरे व्यक्तित्व को अगर कौन सी चीज अलग करती है तो यह तीन चीज है जो अन्य लोगों से अलग करती है थैंक यू

khud ke saath saath rehna aaj gati is duniya mein kisi ek vyakti ko sabse zyada chal karta hai toh khud ko karta hai hamko yah lagta hai ki mera roop bahar waale ko nahi dikhega lekin hum jaise hain waise baar kahin na kahin pata chal hi jata hai meri baat karu toh meri sthiti mein aisi kaun si cheez hai jise mujhe anya logo se alag karti hai toh pehli cheez hai khud ke saath vafaadar hoon dusri cheez hai samay palan takareeban hamari company ne 800 se zyada se sanskrit kiye hain chote group se lekar public se 100 tak aaj tak ek bhi shoshan mein hamare leader plate nahi pahuche organization argenaijars ke karan late hua hoga aisa ho sakta hai lekin humne kabhi building late chaalu nahi kiya hai vaah teesra reason hai hamesha badi game mein utarna hum soch sakte hain ki hum itna hi kar sakte hain usse badi game mein jab hum utarate hain tab failure ki game mein jab utarate hain tab hamara vikas hota hai so mere vyaktitva ko agar kaun si cheez alag karti hai toh yah teen cheez hai jo anya logo se alag karti hai thank you

खुद के साथ साथ रहना आज गति इस दुनिया में किसी एक व्यक्ति को सबसे ज्यादा चल करता है तो खुद

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  319
WhatsApp_icon
user

Mr. RUDRA JANI

Rehabilitation Psychologist

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साइकोलॉजी मैच खेलने का बहुत ही कम माना जाता है वह हमारी टैक्सी ड्राइवर को दूसरी एक्टिविटी के साथ भी प्रेग्नेंट हो जाती है जब हमारे को तो सामान्य रूप से समाज में प्रगट हो जाती है तो उसके लिए हमारी पर्सनल अच्छा नेता कौन था कि कोई भी पर्सन इंटेलिजेंट कम हो ज्यादा हो परान खाए हो लेकिन खुद को एक्सेंट करना वही एक अलग चीज है गम थोड़ा-थोड़ा करके लोगों के सामने लाना मेरा काम टाइम पर ना होता हम को देता हूं ऐसा ही रिटर्न कर देना कुछ तो अच्छा ही होगी तो वो पसंद करेंगे लेकिन उसके लिए वेट करना पड़ेगा और कुछ करना पड़ेगा

psychology match khelne ka bahut hi kam mana jata hai wah hamari taxi driver ko dusri activity ke saath bhi pregnant ho jati hai jab hamare ko toh samanya roop se samaj mein pragat ho jati hai toh uske liye hamari personal accha neta kaun tha ki koi bhi person Intelligent kam ho zyada ho paran khaye ho lekin khud ko accent karna wahi ek alag cheez hai gum thoda thoda karke logo ke saamne lana mera kaam time par na hota hum ko deta hoon aisa hi return kar dena kuch toh accha hi hogi toh vo pasand karenge lekin uske liye wait karna padega aur kuch karna padega

साइकोलॉजी मैच खेलने का बहुत ही कम माना जाता है वह हमारी टैक्सी ड्राइवर को दूसरी एक्टिविटी

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  213
WhatsApp_icon
user

vedprakash singh

Psychologist

2:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है आपके व्यक्तित्व में ऐसी कौन सी चीज है जो आपको अन्य लोगों से अलग बनाती है तो मेरे व्यक्तित्व में एक चीज है वह समय और शक्ति को बचाना समय और शक्ति को बचाना सबसे ज्यादा जरूरी है क्योंकि मुझे जहां पर आज ही बात बोलने होते मैं वहां नहीं बोलता हूं तो पूरे होते वह पूरा बोलता हूं कभी कभी तो ऐसा होता है जो बोलता ही नहीं कभी तो सुनता ही रहता हूं मतलब शक्ति बचाना और वीर के पास कब जाना क्योंकि भीड़ बहुत ही झूठ बोलते हैं कोर्ट में सही फैसला नहीं हुआ भीड़ के कारण नहीं हो पाता है यदि 10 हिंदू खड़े हो जाए तो वहां हिंदुस्तान में जाते 10 मुस्लिम खड़े हो जाए तो पाकिस्तान में जाते हैं इस तरीके के बाद से होती है सभी धर्म के लोग आपस में झूठ बोलते हैं वहां सही फैसला नहीं हो सकता कोई सा भी मुस्लिम का भी रो हिंदू का हो या 10 बैल का हो या कोई सा भी भी रोया तो फिर अलग-अलग चीजों का भी धीरे-धीरे झूठ बोलता है इसलिए भीड़ से बचना चाहिए और प्रेम सीखना चाहिए क्योंकि प्रेम में कोई दूसरा नेओमा ही खुद होता इस तरीके से सोचना चाहिए कि अपने हाथ को घुमा के किसी के शरीर में टच करे तो वह व्यक्ति वह मैं इस तरीके से प्रेम को जानना चाहिए क्योंकि हम एक दूसरे की बुराई करते हैं तो यदि हमारा काम यह बोले कि जो हम सुनने हैं वह उनकी गलती हमारी है जो हम बोल रहे हैं वह उनकी गलती नहीं है इनकी गलती हमारी है जो हम बोले उसके बारे में हमें क्या फायदा है क्या नुकसान इस तरीके से भी कुछ सूचना चाहिए प्रेम का मतलब होता है विपरीत यदि सामने वाला उड़ा लो हम भोले-भाले तभी प्रेम होगा उसके किसी के प्रति आकर्षित होता जीव जंतु हो या लड़का लड़की के माता-पिता हर में ही होते हैं उनके प्रति आकर्षित होता है तो भोले भाले से प्यार करते हैं भोले भाले उधार करते हैं हमारे पास गद्दा नहीं है तो ए खुदा हो जाए तो गड्ढा से प्यार करेंगे क्योंकि हमारे पास गद्दा नहीं है नहीं है तो गधे से प्यार करें सजीव शिकारी किसी भी चीज से कर्तव्य परिभाषा करते जब प्रेम करके के शादी हो जाए तो फिर आप हद होती क्योंकि अब तो गुण तो अलग होता है इसीलिए प्रेम के बाद जनजाति खड़ी होती है इसलिए प्रेम को जानना अन्य लोगों से अलग बनाते हैं

aapka sawaal hai aapke vyaktitva mein aisi kaun si cheez hai jo aapko anya logo se alag banati hai toh mere vyaktitva mein ek cheez hai vaah samay aur shakti ko bachaana samay aur shakti ko bachaana sabse zyada zaroori hai kyonki mujhe jaha par aaj hi baat bolne hote main wahan nahi bolta hoon toh poore hote vaah pura bolta hoon kabhi kabhi toh aisa hota hai jo bolta hi nahi kabhi toh sunta hi rehta hoon matlab shakti bachaana aur veer ke paas kab jana kyonki bheed bahut hi jhuth bolte hain court mein sahi faisla nahi hua bheed ke karan nahi ho pata hai yadi 10 hindu khade ho jaaye toh wahan Hindustan mein jaate 10 muslim khade ho jaaye toh pakistan mein jaate hain is tarike ke baad se hoti hai sabhi dharm ke log aapas mein jhuth bolte hain wahan sahi faisla nahi ho sakta koi sa bhi muslim ka bhi ro hindu ka ho ya 10 bail ka ho ya koi sa bhi bhi roya toh phir alag alag chijon ka bhi dhire dhire jhuth bolta hai isliye bheed se bachna chahiye aur prem sikhna chahiye kyonki prem mein koi doosra neoma hi khud hota is tarike se sochna chahiye ki apne hath ko ghuma ke kisi ke sharir mein touch kare toh vaah vyakti vaah main is tarike se prem ko janana chahiye kyonki hum ek dusre ki burayi karte hain toh yadi hamara kaam yah bole ki jo hum sunne hain vaah unki galti hamari hai jo hum bol rahe hain vaah unki galti nahi hai inki galti hamari hai jo hum bole uske bare mein hamein kya fayda hai kya nuksan is tarike se bhi kuch soochna chahiye prem ka matlab hota hai viprit yadi saamne vala uda lo hum bhole bhalle tabhi prem hoga uske kisi ke prati aakarshit hota jeev jantu ho ya ladka ladki ke mata pita har mein hi hote hain unke prati aakarshit hota hai toh bhole bhalle se pyar karte hain bhole bhalle udhaar karte hain hamare paas gadda nahi hai toh a khuda ho jaaye toh gaddha se pyar karenge kyonki hamare paas gadda nahi hai nahi hai toh gadhe se pyar kare sajeev shikaaree kisi bhi cheez se kartavya paribhasha karte jab prem karke ke shadi ho jaaye toh phir aap had hoti kyonki ab toh gun toh alag hota hai isliye prem ke baad janjaati khadi hoti hai isliye prem ko janana anya logo se alag banate hain

आपका सवाल है आपके व्यक्तित्व में ऐसी कौन सी चीज है जो आपको अन्य लोगों से अलग बनाती है तो म

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  657
WhatsApp_icon
user

Jp Sharma

lerner,Thinker,

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी सबसे बड़ी ताकत है मेरी कल्पना शक्ति मेरी इमैजिनरी पावर ही है जो मुझे सबसे अलग बनाती है वह सोचने की शक्ति जो मुझे अन्य लोगों से अलग बनाती है कि मुझे हमेशा एक नई दुनिया का एहसास कराती है तो जब भी मैं किसी उलझन में होता हूं चला जाता हूं अपनी अंतरात्मा में झांकने के लिए जहां मिलते हैं मुझे हजारों जवाब एक ही प्रश्न के जहां में किसी अच्छे जवाब को चुनने की स्वतंत्रता और आजादी लिए बेखौफ घूमता रहता हूं यही है मेरी व्यक्तित्व का सबसे बड़ा और नायाब तोहफा ईश्वर प्रदत्त जो है मुझे मेरी कल्पना करने की शक्ति काफी पावरफुल है मैं अलग से अलग और यूनिक चीजों के बारे में अपनी एक राय रखता हूं उन चीजों के बारे में नसों इसके अलावा कल्पनाशील और जादुई चीजों में के बारे में सूचना मुझे बहुत ही अच्छा लगता है मैं अपने आप में एक अलग काल्पनिक दुनिया में रहता हूं इसका एहसास ही मुझे रोमांच से भर देता है धन्यवाद

meri sabse badi takat hai meri kalpana shakti meri imaijinri power hi hai jo mujhe sabse alag banati hai vaah sochne ki shakti jo mujhe anya logo se alag banati hai ki mujhe hamesha ek nayi duniya ka ehsaas karati hai toh jab bhi main kisi uljhan me hota hoon chala jata hoon apni antaraatma me jhankane ke liye jaha milte hain mujhe hazaro jawab ek hi prashna ke jaha me kisi acche jawab ko chunane ki swatantrata aur azadi liye bekhauf ghoomta rehta hoon yahi hai meri vyaktitva ka sabse bada aur naayaab tohfa ishwar pradatt jo hai mujhe meri kalpana karne ki shakti kaafi powerful hai main alag se alag aur Unique chijon ke bare me apni ek rai rakhta hoon un chijon ke bare me nason iske alava kalpanashil aur jaduii chijon me ke bare me soochna mujhe bahut hi accha lagta hai main apne aap me ek alag kalpnik duniya me rehta hoon iska ehsaas hi mujhe romanch se bhar deta hai dhanyavad

मेरी सबसे बड़ी ताकत है मेरी कल्पना शक्ति मेरी इमैजिनरी पावर ही है जो मुझे सबसे अलग बनाती ह

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  54
WhatsApp_icon
user
1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे जहां तक लगता है मेरे अंदर एक तो हैप्पीनेस क्योंकि मैं भले दुखी रहूं कितनी लेकिन अगर बाहर जाओगे तो हमेशा हैप्पीनेस अपने फेस पर रहे थे क्योंकि मैं नहीं चाहती क्यों मेरा मुंह देखकर दूसरों का दिमाग खराब है इसलिए हमेशा स्माइल है ताकि दूसरे आपको देखकर खुश हो सके और सेकंड में कहीं पर भी चाहती हूं मतलब ऐसा नहीं होता कि लोगों को देखकर उनकी तरह रहकर नहीं मैं हमेशा पागलपंती वाली हरकतें करती रहती हूं और वह रोड पर लिखा है तो बहुत से लोग बोलते हो मुझे पागल यहां तक कि मेरे भाई लोग मुझे पागल ही बोलते हैं वही मुझे अच्छा लगता है क्योंकि जैसी लाइफ हम जी रहे हैं उसके हिसाब से यह सब करना तो बंद है टेंशन फ्री

mujhe jaha tak lagta hai mere andar ek toh Happiness kyonki main bhale dukhi rahun kitni lekin agar bahar jaoge toh hamesha Happiness apne face par rahe the kyonki main nahi chahti kyon mera mooh dekhkar dusro ka dimag kharab hai isliye hamesha smile hai taki dusre aapko dekhkar khush ho sake aur second me kahin par bhi chahti hoon matlab aisa nahi hota ki logo ko dekhkar unki tarah rahkar nahi main hamesha pagalpanti wali harakatein karti rehti hoon aur vaah road par likha hai toh bahut se log bolte ho mujhe Pagal yahan tak ki mere bhai log mujhe Pagal hi bolte hain wahi mujhe accha lagta hai kyonki jaisi life hum ji rahe hain uske hisab se yah sab karna toh band hai tension free

मुझे जहां तक लगता है मेरे अंदर एक तो हैप्पीनेस क्योंकि मैं भले दुखी रहूं कितनी लेकिन अगर ब

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
user

Riya

Artist, Traveller

0:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कि आपका पोस्ट पालिटी और आपका नेचर है जो आपको अन्य व्यक्ति से अलग करती है

ki aapka post polity aur aapka nature hai jo aapko anya vyakti se alag karti hai

कि आपका पोस्ट पालिटी और आपका नेचर है जो आपको अन्य व्यक्ति से अलग करती है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  111
WhatsApp_icon
play
user

TS Bhanot

Teacher

1:21

Likes  2  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
play
user

Kavita

Writer

1:59

Likes  10  Dislikes    views  265
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!