आपने मानवता में विश्वास कैसे और क्यों खो दिया?...


user

VC. Speaks

Soft Skill Trainer

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने मानवता में विश्वास कैसे और क्यों खो दिया यह सवाल आप मुझसे पूछने अगर यह सवाल आप मुझसे पूछ रहे हैं तो मैं बिल्कुल साफ-साफ बता दूं कि मैंने मानवता में विश्वास बिल्कुल नहीं खोया है और मुझे लगता भी नहीं मैं खूंगा क्यों क्योंकि कोई कोई इंसान बुरा मिल सकता है मानवता में विश्वास करने लायक बुरी मानवता यह नहीं है ऐसा कुछ नहीं हुआ आज तक की मानवता से विश्वास हट जाए अच्छे और बुरे लोग जरूर होते हैं हम सबके जिंदगी में होते हैं हमारे आसपास होते हैं लेकिन अच्छे लोग बुरे लोगों से ज्यादा है इस दुनिया में अगर ऐसा ना होता तो शायद यह मानवता यह दुनिया खत्म हो गई होती इस बारे में सोच कर देखिए गा आपको जरूर ऐसे लोग मिलेंगे आपको जरूर ऐसे मौके दिखेंगे आपको जरूर ऐसी चीज में सुनने को देखने को मिलेंगी जिससे आपकी यह दिमाग में आए कि क्या हो गया है मानवता को मेरा मानवता में विश्वास डोल रहा है खो रहा है लेकिन यह भी सोच कर देखेगा कि अगर 246 गलत चीजें सुनने को मिलती हैं तो 10 20 50 अच्छी चीजें भी सुनने को मिलती हैं तो मैं यह कहूंगा कि इस तरह बिल्कुल ना सोचें मानवता है और हमेशा रहेगी इस बारे में इस तरह पॉजिटिव सोच के दिखेगा सुनने के लिए थैंक यू

aapne manavta mein vishwas kaise aur kyon kho diya yah sawaal aap mujhse poochne agar yah sawaal aap mujhse puch rahe hai toh main bilkul saaf saaf bata doon ki maine manavta mein vishwas bilkul nahi khoya hai aur mujhe lagta bhi nahi main chahiye kyon kyonki koi koi insaan bura mil sakta hai manavta mein vishwas karne layak buri manavta yah nahi hai aisa kuch nahi hua aaj tak ki manavta se vishwas hut jaaye acche aur bure log zaroor hote hai hum sabke zindagi mein hote hai hamare aaspass hote hai lekin acche log bure logo se zyada hai is duniya mein agar aisa na hota toh shayad yah manavta yah duniya khatam ho gayi hoti is bare mein soch kar dekhiye jaayega aapko zaroor aise log milenge aapko zaroor aise mauke dikhenge aapko zaroor aisi cheez mein sunne ko dekhne ko milegi jisse aapki yah dimag mein aaye ki kya ho gaya hai manavta ko mera manavta mein vishwas dol raha hai kho raha hai lekin yah bhi soch kar dekhega ki agar 246 galat cheezen sunne ko milti hai toh 10 20 50 achi cheezen bhi sunne ko milti hai toh main yah kahunga ki is tarah bilkul na sochen manavta hai aur hamesha rahegi is bare mein is tarah positive soch ke dikhega sunne ke liye thank you

आपने मानवता में विश्वास कैसे और क्यों खो दिया यह सवाल आप मुझसे पूछने अगर यह सवाल आप मुझसे

Romanized Version
Likes  85  Dislikes    views  974
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!