भारत का विभाजन क्यों हुआ?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का विभाजन क्यों हुआ इसकी वजह से उन्होंने अपने देश को फूट डालो राज करो की नीति अपनाई उसमें हिंदू और मुस्लिम का अलग-अलग बांटने का काम करते हैं लेकिन उसके बाद धीरे-धीरे प्रोग्राम देश का बंटवारा कैसे मोहम्मद जिन्ना नहीं देना चाहते हैं उसके साथ साथ जिसमें लड़की मुस्लिम समाज के लोग उसके मित्रं के कारण ही भारत का विभाजन

bharat ka vibhajan kyon hua iski wajah se unhone apne desh ko foot dalo raj karo ki niti apnai usme hindu aur muslim ka alag alag baantne ka kaam karte hai lekin uske baad dhire dhire program desh ka batwara kaise muhammad jinnah nahi dena chahte hai uske saath saath jisme ladki muslim samaj ke log uske mitran ke karan hi bharat ka vibhajan

भारत का विभाजन क्यों हुआ इसकी वजह से उन्होंने अपने देश को फूट डालो राज करो की नीति अपनाई उ

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  219
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

सुरेन्द्र पाल गुप्ता

रिटायर्ड प्रधानाचार्य

2:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत के विभाजन के समय में पूछा गया है कि भारत का विभाजन क्यों हुआ विभाजन के अनेक कारण हैं पहला कारण वह मेरा घर तक पसंद है और मेरा मानना यह है कि सांप्रदायिक दंगे हमारे देश में हिंदू मुस्लिम दंगे होने लगे जिसके कारण भी भारत के नेताओं ने सोचा कि भारत का विभाजन जो है वह एक आवश्यक बुराई की है और शक करना जरूरी है दूसरा कारण यह रहा है कि भारत का विभाजन जो है और जिन्ना की हठधर्मिता भी थी जिन्होंने दी राष्ट्र सिद्धांत दिया उसने उन्हें कहा था रोटी बेटी का संबंध नहीं हो सकता है हिंदू और मुस्लिम दो अलग-अलग लोग हैं उन्हें रोटी बेटी का किसी प्रकार का सिद्धांत किसी प्रकार सिद्धार्थनगर देश में नेताओं की भी नीतियां रही है नेता भी चाहते थे कि सत्ता जल्दी से जल्दी हासिल होता उन्होंने दिल शास्त्र सिद्धांत को मान लिया था इसके अलावा इंग्लैंड की भी नीति रही है फूट डालो राज करो की नीति उस नीति के तहत भी उन्होंने भारत के दो टुकड़े किए उनका यह मानना था कि यह दोनों राष्ट्रपति कमजोर होंगे और सहायता के लिए वापस हमारे पास आएंगे आतंकी फूट डालो राज करो की नीति में भी भारत को विभाजन के लिए मजबूर कर दिया था हमारे नेताओं की बर्बादी लाल सभी रही है कुछ ऐसे नेता देश में आ गए थे जो कि सत्ता जल्दी से जल्दी हासिल करना चाहते थे इसने भी भारत विभाजन का कारण माना जाता है इसके अलावा हमारे देश के इंग्लैंड है यह सब ऐसे कारण है जो कि भारत विभाजन के कारण हो सकते और भी कारण हो सकते हैं मेरी भारत विभाजन का मुख्य कारण है

bharat ke vibhajan ke samay mein poocha gaya hai ki bharat ka vibhajan kyon hua vibhajan ke anek karan hain pehla karan vaah mera ghar tak pasand hai aur mera manana yah hai ki sampradayik dange hamare desh mein hindu muslim dange hone lage jiske karan bhi bharat ke netaon ne socha ki bharat ka vibhajan jo hai vaah ek aavashyak burayi ki hai aur shak karna zaroori hai doosra karan yah raha hai ki bharat ka vibhajan jo hai aur jinnah ki hathadharmita bhi thi jinhone di rashtra siddhant diya usne unhe kaha tha roti beti ka sambandh nahi ho sakta hai hindu aur muslim do alag alag log hain unhe roti beti ka kisi prakar ka siddhant kisi prakar Siddharthnagar desh mein netaon ki bhi nitiyan rahi hai neta bhi chahte the ki satta jaldi se jaldi hasil hota unhone dil shastra siddhant ko maan liya tha iske alava england ki bhi niti rahi hai feet dalo raj karo ki niti us niti ke tahat bhi unhone bharat ke do tukde kiye unka yah manana tha ki yah dono rashtrapati kamjor honge aur sahayta ke liye wapas hamare paas aayenge aatanki feet dalo raj karo ki niti mein bhi bharat ko vibhajan ke liye majboor kar diya tha hamare netaon ki barbadi laal sabhi rahi hai kuch aise neta desh mein aa gaye the jo ki satta jaldi se jaldi hasil karna chahte the isne bhi bharat vibhajan ka karan mana jata hai iske alava hamare desh ke england hai yah sab aise karan hai jo ki bharat vibhajan ke karan ho sakte aur bhi karan ho sakte hain meri bharat vibhajan ka mukhya karan hai

भारत के विभाजन के समय में पूछा गया है कि भारत का विभाजन क्यों हुआ विभाजन के अनेक कारण हैं

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  94
WhatsApp_icon
user

Mehmood Alum

Law Student

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे भारत का विभाजन क्यों हुआ यह चीज जानने के लिए हमें सबसे पहले उस वक्त शासन कर रहे अंग्रेजों की नीति को जानना होगा अंग्रेजों की यह हमेशा से पार्टी रही है कि फूट डालो और राज करो यानी डिवाइड एंड रूल अंग्रेजों की सोच के तहत भारत का विभाजन किया गया था अंग्रेजों ने देखा कि 18 सो 57 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में हिंदू और मुसलमानों ने एक साथ मिलकर अंग्रेजों पर हमला बोला था और अंग्रेजों को भारी नुकसान पहुंचाया था हालांकि यह क्रांति विफल रही थी लेकिन फिर भी अंग्रेजों को लगा कि अगर ऐसे ही फिर क्रांति हुई तो शायद उनके पांव भारत से उखड़ गए हिंदुओं और मुसलमानों के बीच फूट डालना अंग्रेजों की नीति का एक अनिवार्य हिस्सा बन गया जो कि आगे चलकर बढ़ता ही गया और देश में सांप्रदायिक तनाव बढ़ता ही गया जिसकी वजह से अंग्रेजों ने मुसलमानों के लिए अलग स्टेट बनाने का प्रस्ताव रखा जिस को पारित भी कर दिया और अंग्रेजो ने पाकिस्तान के नाम से अलग स्टेट बना दिया तो इसीलिए भारत भजन

likhe bharat ka vibhajan kyon hua yeh cheez jaanne ke liye humein sabse pehle us waqt shasan kar rahe angrejo ki niti ko janana hoga angrejo ki yeh hamesha se party rahi hai ki feet dalo aur raaj karo yani divide end rule angrejo ki soch ke tahat bharat ka vibhajan kiya gaya tha angrejo ne dekha ki 18 so 57 ke pratham swatantrata sangram mein hindu aur musalmanon ne ek saath milkar angrejo par hamla bola tha aur angrejo ko bhari nuksan pahunchaya tha halaki yeh kranti vifal rahi thi lekin phir bhi angrejo ko laga ki agar aise hi phir kranti hui toh shayad unke paav bharat se ukhar gaye hinduon aur musalmanon ke beech feet dalna angrejo ki niti ka ek anivarya hissa ban gaya jo ki aage chalkar badhta hi gaya aur desh mein sampradayik tanaav badhta hi gaya jiski wajah se angrejo ne musalmanon ke liye alag state banane ka prastav rakha jis ko paarit bhi kar diya aur angrejo ne pakistan ke naam se alag state bana diya toh isliye bharat bhajan

लिखे भारत का विभाजन क्यों हुआ यह चीज जानने के लिए हमें सबसे पहले उस वक्त शासन कर रहे अंग्र

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  375
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्त मैं राहुल कुमार चौधरी और आपके सवाल के जवाब देने में हमें बहुत खुशी होगी जैसे कि आपका सवाल भारत का विभाजन क्यों हुआ तो मेरा मानना यह है कि भारत का विभाजन इसीलिए हुआ था कि मोहम्मद जिन्ना चाहते थे कि भारत अगर आजाद हुए भारत पाकिस्तान आजाद हो जाए तो आपस में बैठ जाए तो हम वहां का सत्ता पर अधिकार कर सकेंगे और यहां पर अगर एक साथ रितु सत्ता पर अधिकार करना नामुमकिन होगा इसीलिए भारत विभाजन इसीलिए हुआ और भारत विभाजन विभाजन का एक प्रमुख कारण यह भी है कि पाकिस्तान पाकिस्तान चाहते थे कि हम एक स्वतंत्र स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में हो जाए इसीलिए मोहम्मद जिन्ना के नेतृत्व में भारत में भारत विभाजन हो गए

hello dost main rahul kumar choudhary aur aapke sawaal ke jawab dene me hamein bahut khushi hogi jaise ki aapka sawaal bharat ka vibhajan kyon hua toh mera manana yah hai ki bharat ka vibhajan isliye hua tha ki muhammad jinnah chahte the ki bharat agar azad hue bharat pakistan azad ho jaaye toh aapas me baith jaaye toh hum wahan ka satta par adhikaar kar sakenge aur yahan par agar ek saath ritu satta par adhikaar karna namumkin hoga isliye bharat vibhajan isliye hua aur bharat vibhajan vibhajan ka ek pramukh karan yah bhi hai ki pakistan pakistan chahte the ki hum ek swatantra swatantra rashtra ke roop me ho jaaye isliye muhammad jinnah ke netritva me bharat me bharat vibhajan ho gaye

हेलो दोस्त मैं राहुल कुमार चौधरी और आपके सवाल के जवाब देने में हमें बहुत खुशी होगी जैसे कि

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  72
WhatsApp_icon
user

Ajay prakash

Engineer

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का विभाजन जिन्ना भाई थे वह चाहते थे कि भैया हमारा पाकिस्तान अलग बने इसलिए हुआ था गांधीजी के दो बार मनाने के बाद भी जिंदा भाई नहीं मानी थी तभी माने भैया क्या बंटवारा हुआ करेगा तो बटवारा हो गया अब आ गया होगा इसलिए बंटवारा

bharat ka vibhajan jinnah bhai the vaah chahte the ki bhaiya hamara pakistan alag bane isliye hua tha gandhiji ke do baar manane ke baad bhi zinda bhai nahi maani thi tabhi maane bhaiya kya batwara hua karega toh batwara ho gaya ab aa gaya hoga isliye batwara

भारत का विभाजन जिन्ना भाई थे वह चाहते थे कि भैया हमारा पाकिस्तान अलग बने इसलिए हुआ था गांध

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user
0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का विभाजन के मुख्य कारण थे सबसे पहले मुस्लिम लिंग द्वारा 16 अगस्त 1947 16 अगस्त 1946 को प्रत्येक दिवस मनाना उसी समय से भारत में संप्रदायिक दंगे उत्पन्न होने लगे प्रथम भाग कारण ही भारत का विभाजन के संप्रदायिक दंगे दूसरा मोहम्मद अली जिन्ना की हड्डी धर्मी जीत तीसरा अंग्रेजों की फूट डालो राज करो नीति

bharat ka vibhajan ke mukhya karan the sabse pehle muslim ling dwara 16 august 1947 16 august 1946 ko pratyek divas manana usi samay se bharat mein sampradaayik dange utpann hone lage pratham bhag karan hi bharat ka vibhajan ke sampradaayik dange doosra muhammad ali jinnah ki haddi dharami jeet teesra angrejo ki foot dalo raj karo niti

भारत का विभाजन के मुख्य कारण थे सबसे पहले मुस्लिम लिंग द्वारा 16 अगस्त 1947 16 अगस्त 1946

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
user
0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का विभाजन जो है वह शादी के समय 1947 में हुआ था यह दिन ना जो पाकिस्तान में थे और महात्मा गांधी और पंडित जवाहरलाल नेहरु के बीच में हुआ था

bharat ka vibhajan jo hai vaah shadi ke samay 1947 mein hua tha yah din na jo pakistan mein the aur mahatma gandhi aur pandit jawaharlal nehru ke beech mein hua tha

भारत का विभाजन जो है वह शादी के समय 1947 में हुआ था यह दिन ना जो पाकिस्तान में थे और महात्

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
play
user

Dilsh Sheikh

Journalist

1:46

Likes  12  Dislikes    views  334
WhatsApp_icon
play
user

TS Bhanot

Teacher

1:56

Likes  14  Dislikes    views  278
WhatsApp_icon
play
user

Mohini

Voice Artist

1:47

Likes  16  Dislikes    views  453
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!