बच्चे कैसे पैदा होते हैं?...


play
user
1:48

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जी बगीचा पुरुष और स्त्री तत्वों का सहयोग होता है तो सहयोग के बाद भ्रूण से बच्चे का विकास होता है बच्चे का विकास अलग-अलग जीवो में अलग-अलग तरह से होता है कुछ अंडे देने वाले पक्षी हैं तो कुछ स्तनधारी जंतु है जो बच्चे देते हैं तो जो अंडे देते हैं जो बच्चे देते हैं उनके अपने-अपने माताओं के गर्भ में वह जो है पलते हैं कुछ समय तक जो उनकी डेकोरेशन होती है प्रकृति के अनुसार से वहां पर पलते हैं वहीं पर उनको पेट में खुराक मिलती हैं कुछ विकसित होते हैं उसके बाद जब उनका निकलने का टाइम आता है तो जो है पैदा होते हैं उत्पन्न होते हैं निकल जाते हैं तो वह जब निकलते हैं तो फिर वह समाज में आते हैं खुली हवा में आते हैं प्रकृति में आते हैं उनका जुड़ाव प्रकृति के तंत्र के साथ हो जाता है तो इस प्रकार से बच्चे पैदा होते हैं और यदि आपको मेरी जान कारी से कोई पूरी तरह से संतुष्टि हुई है तो बहुत अच्छा है और नहीं हुई है तो कृपया जीव विज्ञान पर हैं जीव विज्ञान में जंतु विज्ञान है जहां पर बच्चे का पैदा होना भ्रूण का विकास होना बहुत सारी बातें हैं आपको काफी चीजें उसमें से समझ में आ जाएंगी यदि आपको पढ़ना आता है तो कृपया अवश्य पढ़ें

namaskar ji bagicha purush aur stree tatvon ka sahyog hota hai toh sahyog ke baad bharun se bacche ka vikas hota hai bacche ka vikas alag alag jeevo me alag alag tarah se hota hai kuch ande dene waale pakshi hain toh kuch standhari jantu hai jo bacche dete hain toh jo ande dete hain jo bacche dete hain unke apne apne mataon ke garbh me vaah jo hai palate hain kuch samay tak jo unki decoration hoti hai prakriti ke anusaar se wahan par palate hain wahi par unko pet me khurak milti hain kuch viksit hote hain uske baad jab unka nikalne ka time aata hai toh jo hai paida hote hain utpann hote hain nikal jaate hain toh vaah jab nikalte hain toh phir vaah samaj me aate hain khuli hawa me aate hain prakriti me aate hain unka judav prakriti ke tantra ke saath ho jata hai toh is prakar se bacche paida hote hain aur yadi aapko meri jaan kaari se koi puri tarah se santushti hui hai toh bahut accha hai aur nahi hui hai toh kripya jeev vigyan par hain jeev vigyan me jantu vigyan hai jaha par bacche ka paida hona bharun ka vikas hona bahut saari batein hain aapko kaafi cheezen usme se samajh me aa jayegi yadi aapko padhna aata hai toh kripya avashya padhen

नमस्कार जी बगीचा पुरुष और स्त्री तत्वों का सहयोग होता है तो सहयोग के बाद भ्रूण से बच्चे क

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  341
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!