क्या भारत और पाकिस्तान एक नहीं हो सकता?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:60

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तुम्हारा पोस्ट बहुत अच्छा है तुम समन्वय वादी हो बहुत सार्थक प्रस्तुत किया है किंतु इसके लिए हम को पीछे इतिहास पर जाना पड़ेगा हमारे विपक्षी नेताओं ने राज्य प्राप्त करने के लिए इस भारत के दो टुकड़े कर डाले अंग्रेजों की तो चलती फूट डालो राज करो किंतु बेबी उस भावना में बह गए तो जिन्ना ने तो उधर पाकिस्तान ले लिया इधर नेहरू जी नहीं है मार्क ले लिया अब यदि उस समय में थोड़ा देश की जनता ने सपोर्ट किया होता सरदार वल्लभ भाई पटेल को देश का प्रधानमंत्री बनाया होता जवाहरलाल महोदय ने भी जब अंदर नेहरू जी ने भी अपना त्याग करके सरदार वल्लभभाई पटेल को प्रधानमंत्री पद दे दिया होता तो निश्चित रूप से आज मैं ना तो पाकिस्तान होता ना यह कश्मीर की समस्या उत्पन्न होती क्योंकि भाई पटेल एक बहुत ही समझदार गंभीर और तेजस्वी नेता थे उनकी ही देन है कि आज हम इस बार संगठित भारत को देख रहे हैं वरना यदि वह नहीं होते तो भारत दिया टुकड़ों टुकड़ों में बटा हुआ होता तो हमें उनकी उस त्याग को उनकी औसत कारी को भूलना नहीं चाहिए तो भारतीय जनता को यदि उनका पारिश्रमिक देना था उनको पारितोषिक देना था तो सरदार वल्लभ भाई पटेल को जला दिया गया होता तो आज ही पाकिस्तान और कश्मीर आदमी नहीं होते ना बांग्लादेश होता यह सब मिला हुआ एक बार होता अब भविष्य में कभी कल्पना नहीं कर सकते कि भारत पाकिस्तान एक हो सकेंगी क्योंकि दोनों की शासन करता हूं मैं कभी नहीं बनती है पाकिस्तान एक कट्टर देश है धार्मिक संकीर्णता से भरा हुआ देश है

tumhara post bahut accha hai tum samanvay wadi ho bahut sarthak prastut kiya hai kintu iske liye hum ko peeche itihas par jana padega hamare vipakshi netaon ne rajya prapt karne ke liye is bharat ke do tukde kar dale angrejo ki toh chalti foot dalo raaj karo kintu baby us bhavna mein buh gaye toh jinnah ne toh udhar pakistan le liya idhar nehru ji nahi hai mark le liya ab yadi us samay mein thoda desh ki janta ne support kiya hota sardar vallabh bhai patel ko desh ka Pradhanmantri banaya hota jawaharlal mahoday ne bhi jab andar nehru ji ne bhi apna tyag karke sardar vallabhbhai patel ko Pradhanmantri pad de diya hota toh nishchit roop se aaj main na toh pakistan hota na yeh kashmir ki samasya utpann hoti kyonki bhai patel ek bahut hi samajhdar gambhir aur tejaswi neta the unki hi then hai ki aaj hum is baar sangathit bharat ko dekh rahe hai varna yadi wah nahi hote toh bharat diya tukadon tukadon mein bata hua hota toh humein unki us tyag ko unki ausat kaari ko bhoolna nahi chahiye toh bharatiya janta ko yadi unka parishramik dena tha unko paaritoshik dena tha toh sardar vallabh bhai patel ko jala diya gaya hota toh aaj hi pakistan aur kashmir aadmi nahi hote na bangladesh hota yeh sab mila hua ek baar hota ab bhavishya mein kabhi kalpana nahi kar sakte ki bharat pakistan ek ho sakengi kyonki dono ki shasan karta hoon main kabhi nahi banti hai pakistan ek kattar desh hai dharmik sankirnata se bhara hua desh hai

तुम्हारा पोस्ट बहुत अच्छा है तुम समन्वय वादी हो बहुत सार्थक प्रस्तुत किया है किंतु इसके लि

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  363
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत और पाकिस्तान के बीच में 1947 ही विवाद की स्थिति बनी हुई है जो आज भी कायम है इसके वजह से ही कई बार भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध भी हो चुका है तो मुझे लगता है आने वाले समय में भारत और पाकिस्तान एक हो जाए और मिल-जुलकर अच्छे तरीके से रहें यह हो पाना तो काफी मुश्किल है क्योंकि दोनों ही देशों के बीच में सीमा का विवाद काफी ज्यादा बढ़ चुका है जम्मू कश्मीर में आए दिन पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश की जाती है साथ ही साथ सीजफायर का उल्लंघन भी पाकिस्तान की ओर से होता रहता है तू इस स्थिति में कभी भी दो देशों के बीच में अच्छे संबंध नहीं हो सकते तो दोनों ही देशों के अगर जो नेता हैं वह सही तरीके से बातचीत के माध्यम से जम्मू कश्मीर में जो भी समस्याएं हैं उसका हल निकालने में कामयाबी हासिल करते हैं तो हो सकता है आज से 40 साल बाद 50 साल बाद भारत और पाकिस्तान के रिश्ते सुधर जा और दोनों के रिश्ते में काफी मिठास भी खुल सकती है लेकिन फिलहाल की सिचुएशन में तो यह हो पाना काफी मुश्किल नजर आता है

bharat aur pakistan ke beech mein 1947 hi vivaad ki sthiti bani hui hai jo aaj bhi kayam hai iske wajah se hi kai baar bharat aur pakistan ke beech yudh bhi ho chuka hai toh mujhe lagta hai aane waale samay mein bharat aur pakistan ek ho jaaye aur mil julakar acche tarike se rahein yah ho paana toh kaafi mushkil hai kyonki dono hi deshon ke beech mein seema ka vivaad kaafi zyada badh chuka hai jammu kashmir mein aaye din pakistan ki taraf se ghuspaith ki koshish ki jaati hai saath hi saath ceasefire ka ullanghan bhi pakistan ki aur se hota rehta hai tu is sthiti mein kabhi bhi do deshon ke beech mein acche sambandh nahi ho sakte toh dono hi deshon ke agar jo neta hain vaah sahi tarike se batchit ke madhyam se jammu kashmir mein jo bhi samasyaen hain uska hal nikalne mein kamyabi hasil karte hain toh ho sakta hai aaj se 40 saal baad 50 saal baad bharat aur pakistan ke rishte sudhar ja aur dono ke rishte mein kaafi mithaas bhi khul sakti hai lekin filhal ki situation mein toh yah ho paana kaafi mushkil nazar aata hai

भारत और पाकिस्तान के बीच में 1947 ही विवाद की स्थिति बनी हुई है जो आज भी कायम है इसके वजह

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  11
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो पॉसिबल नहीं है अब के समय में बिल्कुल यह 3D की बातें कि भारत और पाकिस्तान जो है वही फुर्सत नहीं है बिल्कुल भी पॉसिबल नहीं है पाकिस्तान अपना-अपना नहीं कह सकते जो हमारा हिस्सा है कश्मीर का एक छोटा सा हिस्सा नहीं छोड़ा तू अपना पूरा देश भारत को किस कैसे देगा कि बिल्कुल ही पॉसिबल नहीं है कि किसी भी हालत में इंडिया और पाकिस्तान एक हो जाए हां अगर बात करें किसी भी एक्सीडेंट तक जाने की अगर कुछ ऐसा होता है कि इंडिया वर्कर के पूरे पाकिस्तान को जीत लेता तो उसके बाद पाकिस्तान-इंडिया हो सकता लेकिन अपने मतलब से पाकिस्तान कभी भी इंडिया के साथ फिर समझ नहीं होगा

yah toh possible nahi hai ab ke samay mein bilkul yah 3D ki batein ki bharat aur pakistan jo hai wahi phursat nahi hai bilkul bhi possible nahi hai pakistan apna apna nahi keh sakte jo hamara hissa hai kashmir ka ek chota sa hissa nahi choda tu apna pura desh bharat ko kis kaise dega ki bilkul hi possible nahi hai ki kisi bhi halat mein india aur pakistan ek ho jaaye haan agar baat kare kisi bhi accident tak jaane ki agar kuch aisa hota hai ki india worker ke poore pakistan ko jeet leta toh uske baad pakistan india ho sakta lekin apne matlab se pakistan kabhi bhi india ke saath phir samajh nahi hoga

यह तो पॉसिबल नहीं है अब के समय में बिल्कुल यह 3D की बातें कि भारत और पाकिस्तान जो है वही फ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  104
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!