स्वतंत्रता के 70 वर्षों के बाद भी भारत एक विकासशील देश क्यों कहलाता है?...


play
user

Rahul Bharat

राजनैतिक विश्लेषक

1:59

Likes  77  Dislikes    views  2524
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shimla Bawri

Indian Politician

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

90 को यह है कि बाहर निकाला जाता है विकास को देखिए जैसे जिस तरीके से हमारे में लीडर जैसे जिस तरीके से हमारे मन में गांधी और मनमोहन सिंह जी प्रधानमंत्री होते राजीव गांधी जी हमारे जियो उन्होंने क्या है कि उनके बताए मार्ग पर चलना ज्यादा विश्वास करती है तू बता तेरे अंदर नीचे अच्छा बदलाव उतार विकास भी होता है

90 ko yah hai ki bahar nikaala jata hai vikas ko dekhiye jaise jis tarike se hamare mein leader jaise jis tarike se hamare man mein gandhi aur manmohan Singh ji pradhanmantri hote rajeev gandhi ji hamare jio unhone kya hai ki unke bataye marg par chalna zyada vishwas karti hai tu bata tere andar niche accha badlav utar vikas bhi hota hai

90 को यह है कि बाहर निकाला जाता है विकास को देखिए जैसे जिस तरीके से हमारे में लीडर जैसे जि

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  480
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स स्वतंत्रता के 70 वर्षों बाद भी भारत एक विकासशील देश क्यों कहलाता है इसका मुख्य कारण यह है कि भारत की जनसंख्या इतनी ज्यादा है कि भारत का जीडीपी का लगभग लगभग 70% से अधिक संख्या है खाने पीने पर ही हो जाता बाकी जो बचता है सेना आर्मी कुछ परसेंट होता है जो पिछले साल से क्रोध कर पाता है यहां पर जैसे यहां पर अपने इंडिया में मैंने देख रहा हूं यहां आदमी ज्यादा खुश हुआ तो पापुलेशन बढ़ा देता है जबकि फॉरेन में विकसित देशों में देखेंगे वह खुश होते हैं तो बताएं देशों में घूमने के लिए जाते हैं दूसरी चीजें यहां पर क्या है यहां के लोग सब चीजें फ्री में प्राप्त करना चाहते हैं इंडिया का 50% बढ़ गया ऐसा जो काम करना नहीं चाहता है एक व्यक्ति कमाने वाला है 10 लोग खाने वाले एक कारण है भारत का विकास न होने के कारण आरक्षण बहुत बड़ा कारण है इसमें सभी जगहों पर योग्य नहीं पहुंच रहे और जब योग्य पहुंचेंगे नहीं तो भारत सरकार द्वारा कई बनाई गई कौन सा सही दिशा में लागू नहीं हो सकती दूसरी कारण क्या है भारत में वन एजुकेशन पॉलिसी नहीं है शिक्षा पर आप देखेंगे कि रमेश टू का शुरू से कब्जा बना हुआ है और भारत के विरोध में ही सारी बातें लिखते हैं और कहते हैं इसका एक मुख्य कारण यह भी रहा कि भारत में नैतिक पतन भी हो रहा है जो भारत गुरु देश काल आता था जो भारत नहीं है इसका मुख्य कारण है जब तक यू व्यक्तियों को यू का स्थान नहीं मिलेगा तब तक विकास

hello friends swatantrata ke 70 varshon baad bhi bharat ek vikasshil desh kyon kehlata hai iska mukhya karan yah hai ki bharat ki jansankhya itni zyada hai ki bharat ka gdp ka lagbhag lagbhag 70 se adhik sankhya hai khane peene par hi ho jata baki jo bachta hai sena army kuch percent hota hai jo pichle saal se krodh kar pata hai yahan par jaise yahan par apne india mein maine dekh raha hoon yahan aadmi zyada khush hua toh population badha deta hai jabki foreign mein viksit deshon mein dekhenge vaah khush hote hain toh bataye deshon mein ghoomne ke liye jaate hain dusri cheezen yahan par kya hai yahan ke log sab cheezen free mein prapt karna chahte hain india ka 50 badh gaya aisa jo kaam karna nahi chahta hai ek vyakti kamane vala hai 10 log khane waale ek karan hai bharat ka vikas na hone ke karan aarakshan bahut bada karan hai isme sabhi jagaho par yogya nahi pohch rahe aur jab yogya pahunchenge nahi toh bharat sarkar dwara kai banai gayi kaun sa sahi disha mein laagu nahi ho sakti dusri karan kya hai bharat mein van education policy nahi hai shiksha par aap dekhenge ki ramesh to ka shuru se kabza bana hua hai aur bharat ke virodh mein hi saree batein likhte hain aur kehte hain iska ek mukhya karan yah bhi raha ki bharat mein naitik patan bhi ho raha hai jo bharat guru desh kaal aata tha jo bharat nahi hai iska mukhya karan hai jab tak you vyaktiyon ko you ka sthan nahi milega tab tak vikas

हेलो फ्रेंड्स स्वतंत्रता के 70 वर्षों बाद भी भारत एक विकासशील देश क्यों कहलाता है इसका मुख

Romanized Version
Likes  78  Dislikes    views  1576
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्वतंत्रता के 70 साल के बाद भी आज भी हमारे हिंदुस्तान को विकासशील देश बोला जाता है मैं आपको बताना चाहता हूं कि 70 साल में कांग्रेस पार्टी ने 60 साल हमारे देश में शासन किया है अगर कांग्रेस पार्टी हमारे देश में अच्छा काम की होती तो हमारे देश को एक विकसित देश बोला जाता है लेकिन आज भी हमें विकासशील देश बोला जाता है गरीब देश बोला जाता है भुखमरी वाला देश बोला जाता है लेकिन जब से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार बनी है तब से हमारे देश में इतना तेजी से विकास हुआ है कि आज के डेट में हम लोग इकोनॉमिकल ग्रोथ में सबसे आगे हैं और हमारे देश का जो डेवलपमेंट है वह बहुत तेजी से हो रहा है हमारे देश की स्थिति नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर 5 साल में इतना ज्यादा सुधरी है जो 70 सालों में नहीं सुधरी थी तो अगर अपने देश का विकास करना है तो आप अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी एक बार फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे हमारे देश के जब एक बार फिर से वो प्रधानमंत्री बनेंगे तो हमारे देश को आने वाले 5 साल 10 साल में विकसित देश बोला जाने लगेगा और हमारा देश दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश बन जाएगा धन्यवाद

swatatrata ke 70 saal ke baad bhi aaj bhi hamare Hindustan ko vikasshil desh bola jata hai aapko bataana chahta hoon ki 70 saal mein congress party ne 60 saal hamare desh mein shasan kiya hai agar congress party hamare desh mein accha kaam ki hoti toh hamare desh ko ek viksit desh bola jata hai lekin aaj bhi hamein vikasshil desh bola jata hai garib desh bola jata hai bhukhmari vala desh bola jata hai lekin jab se pradhanmantri shri narendra modi ji ki sarkar bani hai tab se hamare desh mein itna teji se vikas hua hai ki aaj ke date mein hum log economical growth mein sabse aage hain aur hamare desh ka jo development hai vaah bahut teji se ho raha hai hamare desh ki sthiti national aur international level par 5 saal mein itna zyada sudhari hai jo 70 salon mein nahi sudhari thi toh agar apne desh ka vikas karna hai toh aap apna mahatvapurna vote bharatiya janta party ko de pradhanmantri narendra modi ji ek baar phir se pradhanmantri banenge hamare desh ke jab ek baar phir se vo pradhanmantri banenge toh hamare desh ko aane waale 5 saal 10 saal mein viksit desh bola jaane lagega aur hamara desh duniya ka sabse shaktishali desh ban jaega dhanyavad

स्वतंत्रता के 70 साल के बाद भी आज भी हमारे हिंदुस्तान को विकासशील देश बोला जाता है मैं आपक

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  385
WhatsApp_icon
user

Vipin Giri

Journalist

2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसका जवाब आपको बहुत आसानी से मिल जाएगा ऐसा भी नहीं है कि स्वतंत्रता के बाद से भारत में कोई विकास कार्य नहीं हुए मेरी राय में भारत में बहुत विकास हुआ है और विकासशील देशों को कहा जाता है जो पूर्णतया विकसित नहीं हुए हैं विकासशील है विकास की दौड़ में लगातार दौड़ रहे हैं और भारत ने भी देश आजाद होने के बाद बहुत से काम ऐसी किए हैं कि हम विकासशील देशों की श्रेणी में आए और आने वाला समय जो 10 से 20 वर्षों का होगा मुझे लगता है कि उस समय में भारत एक विकसित राष्ट्र के रूप में उभर कर सामने आएगा दो चीजें बहुत इंपोर्टेंट है कि आखिर अब तक 70 साल बाद भी भारत विकसित देश की श्रेणी में क्यों नहीं आया सबसे पहला कारण हमारे देश की लगातार बढ़ती जनसंख्या है क्योंकि जब आप की जनसंख्या लगातार बढ़ेगी तो आपके संसाधन सीमित होते चले जाएंगे बेरोजगारी बढ़ेगी लोगों को नौकरियां नहीं मिलेंगी मकान नहीं मिलेंगे जमीन सिम अर्थी चली जाए उनकी इंसान की जो मांग है अगर आप नए घर बनाते हैं उसमें तमाम पत्थर कंक्रीट सीमेंट उसके लिए फर्नीचर तो तमाम जो जंगल जल पर्वत पहाड़ सभी धीरे-धीरे कम होते चले जाएंगे तो यही चीज इस पर भी लागू होती है जब हमारे देश की जनसंख्या ज्यादा है और संसाधन कम है टैक्सपेयर्स कम है तो विकसित देश होने के लिए आपको बहुत कड़े कदम उठाने पड़ेंगे मुझे लगता है कि जो वर्तमान सरकारें हैं हमारे देश की सरकार है और आगे बढ़ भी रही है

iska jawab aapko bahut aasani se mil jaega aisa bhi nahi hai ki swatantrata ke baad se bharat mein koi vikas karya nahi hue meri rai mein bharat mein bahut vikas hua hai aur vikasshil deshon ko kaha jata hai jo purnataya viksit nahi hue hai vikasshil hai vikas ki daudh mein lagatar daudh rahe hai aur bharat ne bhi desh azad hone ke baad bahut se kaam aisi kiye hai ki hum vikasshil deshon ki shreni mein aaye aur aane vala samay jo 10 se 20 varshon ka hoga mujhe lagta hai ki us samay mein bharat ek viksit rashtra ke roop mein ubhar kar saamne aayega do cheezen bahut important hai ki aakhir ab tak 70 saal baad bhi bharat viksit desh ki shreni mein kyon nahi aaya sabse pehla karan hamare desh ki lagatar badhti jansankhya hai kyonki jab aap ki jansankhya lagatar badhegi toh aapke sansadhan simit hote chale jaenge berojgari badhegi logo ko naukriyan nahi milegi makan nahi milenge jameen sim arthi chali jaaye unki insaan ki jo maang hai agar aap naye ghar banate hai usme tamaam patthar kankrit cement uske liye furniture toh tamaam jo jungle jal parvat pahad sabhi dhire dhire kam hote chale jaenge toh yahi cheez is par bhi laagu hoti hai jab hamare desh ki jansankhya zyada hai aur sansadhan kam hai taiksapeyars kam hai toh viksit desh hone ke liye aapko bahut kade kadam uthane padenge mujhe lagta hai ki jo vartaman sarkaren hai hamare desh ki sarkar hai aur aage badh bhi rahi hai

इसका जवाब आपको बहुत आसानी से मिल जाएगा ऐसा भी नहीं है कि स्वतंत्रता के बाद से भारत में को

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Kinnari Raval

Singer-Artist

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उत्तर गुजरात डेवलपिंग कंट्री पहले नहीं था इतना अभी चार-पांच साल से ही डर लगती हो रहा है लोकतंत्र का काम करने की पेमेंट होने के बाद इसीलिए हमारा देश पत्नी की वजह से थोड़ा आगे बढ़ा है पहले इतना तकनीकी उसके अंदर इतना नहीं कभी आगे बढ़ा है

uttar gujarat developing country pehle nahi tha itna abhi char paanch saal se hi dar lagti ho raha hai loktantra ka kaam karne ki payment hone ke baad isliye hamara desh patni ki wajah se thoda aage badha hai pehle itna takniki uske andar itna nahi kabhi aage badha hai

उत्तर गुजरात डेवलपिंग कंट्री पहले नहीं था इतना अभी चार-पांच साल से ही डर लगती हो रहा है लो

Romanized Version
Likes  258  Dislikes    views  3629
WhatsApp_icon
user

Amit Chamaria

Journalist/Professor

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में जब तक समाज के निचले पायदान पर रहने वाले लोग हैं जब तक ऊपर नहीं आएंगे तब तक देश विकासशील की श्रेणी में देगा अब उनको लाने के लिए जो ऊपर के लोग हैं उनको मेहनत करनी होगी उनका साथ देना होगा वह मिनिस्ट्री में आए तो तक भारत एक डेवलप कंट्री के रूप में आ सकता है उसके बहुत सारी होगी मेहनत कर सब लोग आएंगे काम करेंगे लोग उनको अपॉर्चुनिटी दी गई और भी ज्यादा है वह अच्छा काम कर रहे हैं अच्छा काम कर रहे थे नाटक कब खत्म होगा

bharat mein jab tak samaj ke nichle payadan par rehne wale log hain jab tak upar nahi aayenge tab tak desh vikasshil ki shreni mein dega ab unko lane ke liye jo upar ke log hain unko mehnat karni hogi unka saath dena hoga wah ministry mein aaye toh tak bharat ek develop country ke roop mein aa sakta hai uske bahut saree hogi mehnat kar sab log aayenge kaam karenge log unko opportunity di gayi aur bhi zyada hai wah accha kaam kar rahe hain accha kaam kar rahe the natak kab khatam hoga

भारत में जब तक समाज के निचले पायदान पर रहने वाले लोग हैं जब तक ऊपर नहीं आएंगे तब तक देश वि

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  469
WhatsApp_icon
user

Devendra Roy

Regional Editor

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसका रीजन यह है कि भारत विकासशील देश असली है कि हम लोग जहां से चले थे उस समय तो साधन संसाधन तो हमारे पास थे नहीं और फिर हमारी जो सरकारें बनी इन सरकारों में जो एक विकास का मॉडल है वह कहीं ना कहीं गलत मॉडल था और वह करेक्शन में पता चला गया तो हम अपने लोगों को आज भोजन तक पूरा नहीं दे पा रहे हैं तो हम तो धीरे धीरे ही विकास कर पा रहे हैं तो करते रहेंगे इसके लिए तो आपको जब तक सारे हाथों को आप काम नहीं देंगे तब तक विकास कैसे हुआ

iska reason yeh hai ki bharat vikasshil desh asli hai ki hum log jaha se chale the us samay toh sadhan sansadhan toh hamare paas the nahi aur phir hamari jo sarkaren bani in sarkaro mein jo ek vikas ka model hai wah kahin na kahin galat model tha aur wah correction mein pata chala gaya toh hum apne logo ko aaj bhojan tak pura nahi de pa rahe hain toh hum toh dhire dhire hi vikas kar pa rahe hain toh karte rahenge iske liye toh aapko jab tak saare hathon ko aap kaam nahi denge tab tak vikas kaise hua

इसका रीजन यह है कि भारत विकासशील देश असली है कि हम लोग जहां से चले थे उस समय तो साधन संसाध

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  180
WhatsApp_icon
user
2:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लड़की से हम आगे बढ़ रहे हैं पहले प्यार के चल रहा है हम यह नहीं जानते हम यह नहीं सोचते तरफ से मिटाना है लेकिन इन सब के बावजूद हम अब 5 साल का ग्राफ देखेंगे तो हर तरह की टेक्नोलॉजी निर्माण और अन्य चीजों में बहुत तेजी से हमारा विकास कर रहा है और आगे भी उठेगा इस तरह की उम्मीद करते हैं राजीव गांधी कंप्यूटर लाए थे उनके साथ में टेक्निकल घर पहुंच कर दिया था तो उसका विरोध हुआ था कि जब कंप्यूटर भी इतना काम करने लगेंगे तो मानव श्रम कहां जाएगा लाना पड़ेगा राजीव गांधी का पहले और अब हमें एक महत्वपूर्ण बिंदु पर बात करना चाहिए कि हमारी सेना में तकनीकी और वह बाहर से हथियार वगैरा मंगाए जाते हैं टेक्नोलॉजी वाले होते हैं हमारे देश में भी डॉक्टर अब्दुल कलाम अब्दुल कलाम आजाद और इस तरह के लोग हुए हैं और कौन सा बना कर हमें एक ऐसा संदेश दिया था कि हम किसी से कम नहीं है

ladki se hum aage badh rahe hain pehle pyar ke chal raha hai hum yeh nahi jante hum yeh nahi sochte taraf se mitana hai lekin in sab ke bawajud hum ab 5 saal ka graph dekhenge toh har tarah ki technology nirmaan aur anya chijon mein bahut teji se hamara vikas kar raha hai aur aage bhi uthega is tarah ki ummid karte hain rajeev gandhi computer laye the unke saath mein technical ghar pohch kar diya tha toh uska virodh hua tha ki jab computer bhi itna kaam karne lagenge toh manav shram kahaan jayega lana padega rajeev gandhi ka pehle aur ab humein ek mahatvapurna bindu par baat karna chahiye ki hamari sena mein takniki aur wah bahar se hathiyar vagera mangae jaate hain technology wale hote hain hamare desh mein bhi doctor abdul kalam abdul kalam azad aur is tarah ke log hue hain aur kaun sa bana kar humein ek aisa sandesh diya tha ki hum kisi se kam nahi hai

लड़की से हम आगे बढ़ रहे हैं पहले प्यार के चल रहा है हम यह नहीं जानते हम यह नहीं सोचते तरफ

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  984
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जो का सवाल है कि आजादी के 70 वर्षों बाद भी आज हमारा भारत एक विकासशील देश के रूप में तो इसका सबसे में मुख्य बाजार मानता हूं स्वतंत्रता के बाद संविधान का जब गठन हुआ इसके बाद इसमें उसमें आरक्षण का जो मांग की गई इसके बाद आज योग्यता के जगह पर आप का जाति प्रमाण पत्र देखा जाता है और उसकी आधार पर आपको नौकरी मिलती है या कोई भी कमेंट है आप आप समझ सकते हैं कि कोई भी देश जहां वहां की टेक्नॉलॉजी वहां की कोई भी साइंटिफिक काम या कोई भी कह दे तो तब जानते हैं कि कोई भी कार्य करने के लिए उसमें जिज्ञासु व्यक्ति और टैलेंटेड की आवश्यकता होती है न कि किसी भी जाति और धर्म की प्रमाण पत्र दिखा दिया और वहां पर जाकर नौकरी मिलेगी तो सब से मुख्य कारण है आरक्षण आरक्षण आज के दिन आज डॉक्टर इंजीनियर ऐसे हैं जो कि कम पढ़े लिखे और फिर भी वह हैं हर एक क्षेत्र में आरक्षण घुस चुका है अब बताइए जो ऐसा होगा जिसमें टैलेंट ही नहीं है और पद पर है वह क्या विकास करेगा किसी भी चीज को करने के लिए आपको एक फिल्म सफर की तरह होनी चाहिए और जिज्ञासु प्रवृत्ति गाने चाहिए सब सब कुछ मैं यहां तक टेक्नोलॉजी साइंटिस्ट और साइंस में भी देख लीजिए आप शहरी क्षेत्र में अभी तक पीछे लेवल विकासशील के रूप में और क्या कोई भी ऊपर से जो यह पार्टी है हमारे देश की जो पार्टी है और सरकार है उनकी तो कहानी इतनी खत्म है कि वह खुद ही पढ़ा लिखा नहीं और क्या देश को बताएगा कि आप को पढ़ना चाहिए या क्या करना चाहिए ज्ञान को यहां पर ज्ञान का अंधकार फैल चुका है और उसे ज्ञान के प्रकाश से ही दूर किया जाए

likhe jo ka sawaal hai ki azadi ke 70 varshon baad bhi aaj hamara bharat ek vikasshil desh ke roop mein toh iska sabse mein mukhya bazaar manata hoon swatantrata ke baad samvidhan ka jab gathan hua iske baad isme usme aarakshan ka jo maang ki gayi iske baad aaj yogyata ke jagah par aap ka jati pramaan patra dekha jata hai aur uski aadhaar par aapko naukri milti hai ya koi bhi comment hai aap aap samajh sakte hain ki koi bhi desh jaha wahan ki technology wahan ki koi bhi scientific kaam ya koi bhi keh de toh tab jante hain ki koi bhi karya karne ke liye usme jigyasu vyakti aur talented ki avashyakta hoti hai na ki kisi bhi jati aur dharm ki pramaan patra dikha diya aur wahan par jaakar naukri milegi toh sab se mukhya karan hai aarakshan aarakshan aaj ke din aaj doctor engineer aise hain jo ki kam padhe likhe aur phir bhi vaah hain har ek kshetra mein aarakshan ghus chuka hai ab bataye jo aisa hoga jisme talent hi nahi hai aur pad par hai vaah kya vikas karega kisi bhi cheez ko karne ke liye aapko ek film safar ki tarah honi chahiye aur jigyasu pravritti gaane chahiye sab sab kuch main yahan tak technology scientist aur science mein bhi dekh lijiye aap shahri kshetra mein abhi tak peeche level vikasshil ke roop mein aur kya koi bhi upar se jo yah party hai hamare desh ki jo party hai aur sarkar hai unki toh kahani itni khatam hai ki vaah khud hi padha likha nahi aur kya desh ko batayega ki aap ko padhna chahiye ya kya karna chahiye gyaan ko yahan par gyaan ka andhakar fail chuka hai aur use gyaan ke prakash se hi dur kiya jaaye

लिखे जो का सवाल है कि आजादी के 70 वर्षों बाद भी आज हमारा भारत एक विकासशील देश के रूप में त

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  501
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!