क्यों अरविंद केजरीवाल आजकल चुप है?...


user

Pankaj Sharma

Journalist | Advocate

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां सही बात तो यही है कि केजरीवाल आजकल चुप हैं और उनकी छुट्टी कारण यह है कि उनका बहुत बड़ा पीलिया और जिस धर्म को सबसे का समर्थन करते हैं उसी के तबलीगी जमात के बड़ी मात्रा में लोग एक मरकज में शामिल रहे और उनके ही लापरवाही और कुत्तों के कारण देश में मरीजों की संख्या दुगनी हो गई संख्या कितनी भी हो सकती है अपने स्कूल भी ली और के लिए वहीं केजरीवाल है जिनकी वजह से पूरे देश का 10 लाख से अधिक आदमी दिल्ली से निकल के भागा था केजरीवाल उनकी व्यवस्था नहीं कर पाए इसके साथ-साथ लोगों को केजरीवाल पर भरोसा नहीं था कि केजरीवाल उनको खाना दे पाएंगे अपने स्त्रियों के कारण के चोप

ji haan sahi baat toh yahi hai ki kejriwal aajkal chup hain aur unki chhutti karan yah hai ki unka bahut bada peeliya aur jis dharm ko sabse ka samarthan karte hain usi ke tabaligi jamaat ke badi matra me log ek markaj me shaamil rahe aur unke hi laparwahi aur kutto ke karan desh me marizon ki sankhya dugni ho gayi sankhya kitni bhi ho sakti hai apne school bhi li aur ke liye wahi kejriwal hai jinki wajah se poore desh ka 10 lakh se adhik aadmi delhi se nikal ke bhaagaa tha kejriwal unki vyavastha nahi kar paye iske saath saath logo ko kejriwal par bharosa nahi tha ki kejriwal unko khana de payenge apne sthreeyon ke karan ke chop

जी हां सही बात तो यही है कि केजरीवाल आजकल चुप हैं और उनकी छुट्टी कारण यह है कि उनका बहुत ब

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  1348
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sunil Kumar Pandey

Editor & Writer

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सट्टा सत्य है दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आजकल चुप हैं क्योंकि वर्तमान समय में वैश्विक आपदा से संपूर्ण भारत गुजर रहा है पता उससे दिल्ली भी अछूती नहीं है इस वर्ष भी आपदा से निपटने के लिए सभी राज्य के मुख्यमंत्री लगे हुए हैं केजरीवाल में भी इसी तरह से कार्य कर रहे हैं अतः पूर्ण संस्करण से निपटने के लिए अनेक योजनाएं लांच कर रहे हैं तथा साथ ही साथ वर्तमान परिवेश में भारतीय राजनीति में एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने का समय नहीं है बल्कि विपदा के इस समय में नम्रता पूर्वक इस विस्तार से निपटने का विचार करने की आवश्यकता है अरविंद केजरीवाल भी समोसा ही कर रहे हैं धन्यवाद

yah satta satya hai delhi ke mukhyamantri arvind kejriwal aajkal chup hain kyonki vartaman samay me vaishvik aapda se sampurna bharat gujar raha hai pata usse delhi bhi achhuti nahi hai is varsh bhi aapda se nipatane ke liye sabhi rajya ke mukhyamantri lage hue hain kejriwal me bhi isi tarah se karya kar rahe hain atah purn sanskaran se nipatane ke liye anek yojanaye launch kar rahe hain tatha saath hi saath vartaman parivesh me bharatiya raajneeti me ek dusre par aarop pratyarop lagane ka samay nahi hai balki vipada ke is samay me namrata purvak is vistaar se nipatane ka vichar karne ki avashyakta hai arvind kejriwal bhi samosa hi kar rahe hain dhanyavad

यह सट्टा सत्य है दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आजकल चुप हैं क्योंकि वर्तमान समय मे

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  589
WhatsApp_icon
user

Satish gambre

Journalist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरविंद केजरीवाल के बारे में ठीक कर रहे हैं क्योंकि वह जो आज कार्य कर रहे हैं अभी जो जो पार्टियों को सपोर्ट कर रहे हैं

arvind kejriwal ke bare mein theek kar rahe hain kyonki vaah jo aaj karya kar rahe hain abhi jo jo partiyon ko support kar rahe hain

अरविंद केजरीवाल के बारे में ठीक कर रहे हैं क्योंकि वह जो आज कार्य कर रहे हैं अभी जो जो पार

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  186
WhatsApp_icon
user

Devendra Roy

Regional Editor

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरविंद केजरीवाल के संबंध में अगर आप कहेंगे तो मैं यह मानता हूं कि अरविंद केजरीवाल के पास एक बहुत बड़ा अवसर आया था जिसमें उन्होंने तो दिया और धीरे-धीरे उन्होंने अपने को इस तरीके से साबित किया कि मैं आज अगर मैं अपनी परसनल बात करूं व्यक्तिगत रूप से मैं कहूं तो मैं उन्हें एक सीरियसली नहीं मानता वह कैसी लीडर है जो यह तो बताते हैं कि यह खराब है वह खराब है ऐसा नहीं है वैसा नहीं है लेकिन वह यह नहीं बताते हैं कि ठीक है ना क्या चाहिए और लीडर का मतलब है कि सलूशन बताएं प्रॉब्लम की नाना लीडर का काम नहीं है प्रॉब्लम था आपको बताना होगा और मुझे अरविंद केजरीवाल को सीरियसली अभी आ भी जा रहा है

arvind kejriwal ke sambandh mein agar aap kahenge toh main yeh manata hoon ki arvind kejriwal ke paas ek bahut bada avsar aaya tha jisme unhone toh diya aur dhire dhire unhone apne ko is tarike se saabit kiya ki main aaj agar main apni personnel baat karu vyaktigat roop se main kahun toh main unhein ek seriously nahi manata wah kaisi leader hai jo yeh toh batatey hain ki yeh kharab hai wah kharab hai aisa nahi hai waisa nahi hai lekin wah yeh nahi batatey hain ki theek hai na kya chahiye aur leader ka matlab hai ki salution bataye problem ki nana leader ka kaam nahi hai problem tha aapko batana hoga aur mujhe arvind kejriwal ko seriously abhi aa bhi ja raha hai

अरविंद केजरीवाल के संबंध में अगर आप कहेंगे तो मैं यह मानता हूं कि अरविंद केजरीवाल के पास ए

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
play
user

Kinnari Raval

Singer-Artist

0:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी अभी उनके पास हो सकता है कि वह मेरे साथ तुम तो और कुछ प्रॉब्लम हो सकता है या निजी प्रॉब्लम तो सोने की वजह से उन्होंने यह कर लिया है निजी उनका कुछ प्रॉब्लम हो सकता है कि हां मैं करूंगा तो मेरी यह फाइल ओपन होगी या मुझे इस तरीके से प्रदर्शित किया जाएगा मुझे इस तरीके से उनका जो प्रॉब्लम ममता पर्सनल प्रॉब्लम हो सकता है कुछ भी हो

ji abhi unke paas ho sakta hai ki vaah mere saath tum toh aur kuch problem ho sakta hai ya niji problem toh sone ki wajah se unhone yah kar liya hai niji unka kuch problem ho sakta hai ki haan main karunga toh meri yah file open hogi ya mujhe is tarike se pradarshit kiya jaega mujhe is tarike se unka jo problem mamata personal problem ho sakta hai kuch bhi ho

जी अभी उनके पास हो सकता है कि वह मेरे साथ तुम तो और कुछ प्रॉब्लम हो सकता है या निजी प्रॉब्

Romanized Version
Likes  264  Dislikes    views  2733
WhatsApp_icon
user
1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरविंद केजरीवाल को देश की जनता ने बहुत चाह रहा और दिल्ली की जनता खासकर के सबसे बुद्धिजीवी मतदाता माने जाते हैं दिल्ली के लोगों ने काफी उत्साह होना था लेकिन अरविंद केजरीवाल ने अन्ना हजारे से लेकर बड़े बड़े जो नेता थे और उन्होंने जिन्होंने उनको सहयोग किया था उन्हें एक के बाद एक बेहद आते गए थे स्वार्थ सिद्धि के और वे अकेले ही सब कुछ अपने आप को दर्शाना चाहते थे इसीलिए अरविंद केजरीवाल को सब जगह असफलता मिली उन्हें किसी ने यह सलाह दी होगी कि राजनीति में ज्यादा बोलना उचित नहीं और पीवी नरसिंह वाला उसे मतलब सबक लें और टाई कैसे मतलब मा उनकी राजनीति मनमोहन सिंह जी ने की थी और अब अरविंद केजरीवाल भी इसीलिए उनको फॉलो कर रहे हैं और ज्यादा कर चुप रहकर सप्ताह का समय काट रहे हैं

arvind kejriwal ko desh ki janta ne bahut chah raha aur delhi ki janta khaskar ke sabse buddhijeevi matdata maane jaate hain delhi ke logo ne kaafi utsaah hona tha lekin arvind kejriwal ne anna hazare se lekar bade bade jo neta the aur unhone jinhone unko sahyog kiya tha unhe ek ke baad ek behad aate gaye the swarth siddhi ke aur ve akele hi sab kuch apne aap ko darshana chahte the isliye arvind kejriwal ko sab jagah asafaltaa mili unhe kisi ne yah salah di hogi ki raajneeti mein zyada bolna uchit nahi aur pv narsingh vala use matlab sabak le aur tie kaise matlab ma unki raajneeti manmohan Singh ji ne ki thi aur ab arvind kejriwal bhi isliye unko follow kar rahe hain aur zyada kar chup rahkar saptah ka samay kaat rahe hain

अरविंद केजरीवाल को देश की जनता ने बहुत चाह रहा और दिल्ली की जनता खासकर के सबसे बुद्धिजीवी

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  984
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरविंद केजरीवाल आजकल चुप क्यों है तो अरविंद केजरीवाल को पिछले 5 सालों का अनुभव हो गया है कोई समझ गए हैं कि मोदी से पंगा लेना दूसरी बार भारी पड़ सकता है इसलिए चुप रहने में ही भलाई है इसलिए उनका काम कर रहे हैं चुपचाप

arvind kejriwal aajkal chup kyon hai toh arvind kejriwal ko pichle 5 salon ka anubhav ho gaya hai koi samajh gaye hain ki modi se panga lena dusri baar bhari pad sakta hai isliye chup rehne mein hi bhalai hai isliye unka kaam kar rahe hain chupchap

अरविंद केजरीवाल आजकल चुप क्यों है तो अरविंद केजरीवाल को पिछले 5 सालों का अनुभव हो गया है क

Romanized Version
Likes  297  Dislikes    views  3332
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!