दिल्ली में ए०ए०पी की वास्तविकता क्या है?...


user

साकेत कुमार

Senior Software Developer

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी जमाने में जब आम आदमी पार्टी से राजनीति में आई थी तो मैं उनके लिए रोड पर गया था मैंने भी अन्ना के आंदोलन में मोमबत्तियां जलाई है और काफी सम्मान तो मैं अरविंद केजरीवाल को देखता था वह अलग बात है कि जब सत्ता में आए तो 70 आदमी को अंदरसे खा जाती है और अरविंद केजरीवाल के भी मोरल को और मौन के मॉडल को सत्ता ने खा लिया धीरे धीरे व लोकतांत्रिक भी ज्यादा सेट पर पूरा का पूरा कौमी एजेंडे वाले लेटेस्ट बन गए हैं उनके अंदर डिक्टेटरशिप के सारे लक्षण पाए जाते हैं और किसी की नहीं सुनते बड़े बड़े अफसरों को मीटिंग में बुलाकर पिटवा दे रहे अब शब्दों की तो भरमार लगा रखी है दिल्ली की जनता के लिए उन्हें कुछ अच्छे काम में बिजली पानी हेल्थकेयर शिक्षा इन विवादों में उन्होंने अच्छा काम चाली सासरे में होने नहीं देता मैं मनीष सिसोदिया को देता हूं अरविंद केजरीवाल के चलते सिर्फ आपको घाटा ही हो रहा है अब देखिए कि सारे लोग भाग्य शांति भूषण हो चाहे योगेंद्र यादव हो क्या फुल काजी हो तो एक-एक करके सारे लोग जा रहे हैं तो अगर आप इस तरह से अपना आउटलुक मेंटेन रखेंगे जिससे का उपयोग अभी आपका है कुमार विश्वास जी चले गए तो अब आपके एक भी तो साथ ही नहीं रखेंगे तो राजनीति आपसे नहीं होगी तो यह एक टंकी गवर्नमेंट तो ठीक थी लेकिन अगर आपको किसी राज्य में मिलना नहीं है तो उनकी वास्तविक हकीकत है कि पहले उन्हें राजनीति में थोड़ा संयम बरतना पड़ेगा जबान पर संयम बरतना पड़ेगा और सही चीजों को सही और गलत चीजों को गलत कहना पड़ेगा क्योंकि वह पार्टी विद डिफरेंस थे अगर वह भाजपा और कांग्रेस वाली राजनीति करने लगेंगे तो पहले से भाजपा कांग्रेस है उन्हें कोई वोट नहीं देने वाला

kisi jamaane mein jab aam aadmi party se raajneeti mein I thi toh main unke liye road par gaya tha maine bhi anna ke aandolan mein momabattiyan jalai hai aur kafi sammaan toh main arvind kejriwal ko dekhta tha vaah alag baat hai ki jab satta mein aaye toh 70 aadmi ko andarase kha jaati hai aur arvind kejriwal ke bhi moral ko aur maun ke model ko satta ne kha liya dhire dhire v loktantrik bhi zyada set par pura ka pura kaumi agent waale latest ban gaye hain unke andar dictatorship ke saare lakshan paye jaate hain aur kisi ki nahi sunte bade bade afsaron ko meeting mein bulakar pitva de rahe ab shabdon ki toh bharamar laga rakhi hai delhi ki janta ke liye unhe kuch acche kaam mein bijli paani healthcare shiksha in vivadon mein unhone accha kaam challi sasre mein hone nahi deta main manish sisodiya ko deta hoon arvind kejriwal ke chalte sirf aapko ghata hi ho raha hai ab dekhiye ki saare log bhagya shanti bhushan ho chahen yogendra yadav ho kya full kaji ho toh ek ek karke saare log ja rahe hain toh agar aap is tarah se apna outlook maintain rakhenge jisse ka upyog abhi aapka hai kumar vishwas ji chale gaye toh ab aapke ek bhi toh saath hi nahi rakhenge toh raajneeti aapse nahi hogi toh yah ek tanki government toh theek thi lekin agar aapko kisi rajya mein milna nahi hai toh unki vastavik haqiqat hai ki pehle unhe raajneeti mein thoda sanyam bartana padega jaban par sanyam bartana padega aur sahi chijon ko sahi aur galat chijon ko galat kehna padega kyonki vaah party with difference the agar vaah bhajpa aur congress waali raajneeti karne lagenge toh pehle se bhajpa congress hai unhe koi vote nahi dene vala

किसी जमाने में जब आम आदमी पार्टी से राजनीति में आई थी तो मैं उनके लिए रोड पर गया था मैंने

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1255
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!