हिंदू और मुस्लिम एक साथ क्यों नहीं रहना चाहते हैं?...


play
user

Hemant rajbale

शिक्षा सेवा, लेखक, विचारक

2:12

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह देखकर मुझे मोहम्मद इकबाल का लोकगीत याद आ गया जिसे तराने तराना ए हिंद कहा जाता था सारे जहां से अच्छा हिंदुस्ता हमारा हम बुलबुले हैं इसकी यह गुलसिता हमारा मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना हिंदी है हम वतन है हिंदुस्तान हमारा यूनान मिस्र रोमा मिट गए सारे जहां से अब तक मगर है बाकी नामों निशां हमारा कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी सदियों रहा है दुश्मन दौरे जहां हमारा सारे जहां से अच्छा हिंदुस्ता हमारा हम बुलबुले हैं इसकी यह गुलसिता हमारा हम रह सकते हैं एक साथ जरूर रह सकते हैं किंतु हमें कोई रहने नहीं देता यह नेता विभाजन करता यह लोग जो नफरत फैलाते हैं वह हमें ना रहने देंगे मैं खुद चैन से रहेंगे यह दरार इसी प्रकार डालते रहेंगे और इसी प्रकार यह नफरत का जहर बोलता रहेगा और देखना यह नफरत कैसे हैं पता नहीं किस रूप में हमारे सामने आएगा और इस हलाल को कौन पिएगा कोई नहीं जानता धन्यवाद

yah dekhkar mujhe muhammad iqbal ka lokgeet yaad aa gaya jise tarane tarana a hind kaha jata tha saare jaha se accha hindusta hamara hum bulbule hain iski yah gulsita hamara majhab nahi sikhata aapas me bair rakhna hindi hai hum vatan hai Hindustan hamara yunaan mistra Roma mit gaye saare jaha se ab tak magar hai baki namon nishan hamara kuch baat hai ki hasti mitati nahi hamari sadiyon raha hai dushman daure jaha hamara saare jaha se accha hindusta hamara hum bulbule hain iski yah gulsita hamara hum reh sakte hain ek saath zaroor reh sakte hain kintu hamein koi rehne nahi deta yah neta vibhajan karta yah log jo nafrat failate hain vaah hamein na rehne denge main khud chain se rahenge yah daraar isi prakar daalte rahenge aur isi prakar yah nafrat ka zehar bolta rahega aur dekhna yah nafrat kaise hain pata nahi kis roop me hamare saamne aayega aur is halal ko kaun piega koi nahi jaanta dhanyavad

यह देखकर मुझे मोहम्मद इकबाल का लोकगीत याद आ गया जिसे तराने तराना ए हिंद कहा जाता था सारे

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  169
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!