मैं एक छात्र हूँ लेकिन मुझे पढ़ना का बहुत मन होता है लेकिन मुझे व्हाट्सएप फेसबुक ,ऑनलाइन शॉपिंग का आदत बन गया है जिससे मैं हमेशा लगा रहता हूँ,क्या करूँँ?...


user
3:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर आप वाकई में से दूर होना चाहते हैं तो सबसे पहले आपकी जो इंटरेस्ट है वह धीरे-धीरे आप मुझसे चीजों में कम कर दीजिए कम करने का कोशिश कीजिए कुछ दिन लगे आप धीरे-धीरे स्कोर कम करते जाएंगे ऐड करने की कोशिश करी थी आपने तो नहीं रूप से धीरे-धीरे आप हमसे दूर होते जाएंगे तो आप एक काम करिए थोड़ा सा स्वाध्याय करके अपने ऊपर अपने ऊपर थोड़ा सा मेडिटेशन थोड़ा सा टाइम विजय आज सुबह के टाइम मेडिटेशन करिए और उस टाइम यह डिसाइड करिए कि आज मैं इतने बजे ही इन सारे चीज लाइक सोशल मीडिया का यूज करूंगा अदर वाइज नहीं करूंगा देखी अपने आपको सिद्धि बनाइए और अगर जिद में आप सफल नहीं होते हैं तो आप अपने आप को दंड दीजिए कि थोड़ा पागलपन करना बहुत ज्यादा जरूरी है समझ गए ना आप अपने आप को दंड दीजिए कहने का यह मतलब है कि अगर आपने इतने टाइम फिक्स किया है कि मुझे इस टाइम जो है फेसबुक व्हाट्सप्प चलानी है तो आप उस टाइम में ही चलाइए अगर कोई पर्टिकुलर टाइम में आपने सजेस्ट किया है कि वह मुझे इसी टाइम इन सारे सोशल मीडिया का यूज़ करिए और अगर आप उससे पहले या बाद में कर लेते हैं बाद में करते हैं तो चलो ठीक है लेकिन पहले कर लेते हैं तो आपने आपको अपराधी समझ और अपने आप को ठंड दीजिए यह ठंड और खुद को भगा देता है इसलिए मैं आपको यही सही समझूंगा कि अपने आप को दंड दीजिए देखिए यह लास्ट गया उसी का जो मार्ग में है आपके शरीर के मार्ग में जो आजकल है उसे भाग जाए थोड़ा सा अपने आप को डर आए कहते हैं ना कि दूसरों के लिए हमेशा और आपने आपके लिए हमेशा कठोर हो इसलिए साहब अपने आप पर बहुत ही कठोरता से प्रहार करें कहने का मतलब यह नहीं है कि आप ट्राई करो यह नाटक दीजिए जितना कि आप के बचपन में आपके टीचर का के पैर देते थे आप होती थी तभी यह सारी डिस्टेंस आफ सकती हैं थोड़ा सा विश्वास ने गीता के भागवत बढ़िया से किताबें पढ़कर आपको हमेशा के बारे में सोचें जिसके कारण यह सब से दूर रहे तो कोशिश करिए कि आप कौन सी ट्रेन है और अगर करते हैं कहने का यह मतलब है उस पर आप रीता डाउनलोड करिए भागवत पढ़िए कुरान पढ़ी से होगा क्या जानते हैं आपके माइंड लिरिक्स आई होंगी आपने अच्छे-अच्छे हॉट्स क्रिएट होंगी आप एक अच्छे मार्ग पर चलोगे ऐसा नहीं है कि विधायक धार्मिक चीज है अभी यह बोला ना कि हमको धार्मिक इंसान साधु महात्मा नहीं बनना ऐसा नहीं है यह हमारा रियल लाइफ से कब गहरा फैट होता है गीता भागवत यह सब किताबें जो है यह हमारे रियल लाइफ में भी बहुत किस का यूज़ है जब आप पड़ेंगे ना तो आप भी क्लियर ठीक है थैंक यू

dekhiye agar aap vaakai me se dur hona chahte hain toh sabse pehle aapki jo interest hai vaah dhire dhire aap mujhse chijon me kam kar dijiye kam karne ka koshish kijiye kuch din lage aap dhire dhire score kam karte jaenge aid karne ki koshish kari thi aapne toh nahi roop se dhire dhire aap humse dur hote jaenge toh aap ek kaam kariye thoda sa swaadhyaay karke apne upar apne upar thoda sa meditation thoda sa time vijay aaj subah ke time meditation kariye aur us time yah decide kariye ki aaj main itne baje hi in saare cheez like social media ka use karunga other wise nahi karunga dekhi apne aapko siddhi banaiye aur agar jid me aap safal nahi hote hain toh aap apne aap ko dand dijiye ki thoda pagalpan karna bahut zyada zaroori hai samajh gaye na aap apne aap ko dand dijiye kehne ka yah matlab hai ki agar aapne itne time fix kiya hai ki mujhe is time jo hai facebook whatsapp chalani hai toh aap us time me hi chalaiye agar koi particular time me aapne suggest kiya hai ki vaah mujhe isi time in saare social media ka use kariye aur agar aap usse pehle ya baad me kar lete hain baad me karte hain toh chalo theek hai lekin pehle kar lete hain toh aapne aapko apradhi samajh aur apne aap ko thand dijiye yah thand aur khud ko bhaga deta hai isliye main aapko yahi sahi samjhunga ki apne aap ko dand dijiye dekhiye yah last gaya usi ka jo marg me hai aapke sharir ke marg me jo aajkal hai use bhag jaaye thoda sa apne aap ko dar aaye kehte hain na ki dusro ke liye hamesha aur aapne aapke liye hamesha kathor ho isliye saheb apne aap par bahut hi kathorata se prahaar kare kehne ka matlab yah nahi hai ki aap try karo yah natak dijiye jitna ki aap ke bachpan me aapke teacher ka ke pair dete the aap hoti thi tabhi yah saari distance of sakti hain thoda sa vishwas ne geeta ke bhagwat badhiya se kitaben padhakar aapko hamesha ke bare me sochen jiske karan yah sab se dur rahe toh koshish kariye ki aap kaun si train hai aur agar karte hain kehne ka yah matlab hai us par aap rita download kariye bhagwat padhiye quraan padhi se hoga kya jante hain aapke mind lyrics I hongi aapne acche acche hats create hongi aap ek acche marg par chaloge aisa nahi hai ki vidhayak dharmik cheez hai abhi yah bola na ki hamko dharmik insaan sadhu mahatma nahi banna aisa nahi hai yah hamara real life se kab gehra fat hota hai geeta bhagwat yah sab kitaben jo hai yah hamare real life me bhi bahut kis ka use hai jab aap padenge na toh aap bhi clear theek hai thank you

देखिए अगर आप वाकई में से दूर होना चाहते हैं तो सबसे पहले आपकी जो इंटरेस्ट है वह धीरे-धीरे

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  187
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!