अशोक सम्राट कौन थे?...


play
user
0:15

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्त आपने मुझसे पूछा अशोक सम्राट कौन थे तुम्हें बताना चाहता हूं अशोक सम्राट जो है वह मगध के सम्राट थे और वह भी तुषार के पुत्र थे उन्होंने बाद में बौद्ध धर्म अपना लिया था तथा राज्यों से अपना निक छोड़ दिया था अपने आपको धन्यवाद

dost aapne mujhse poocha ashok samrat kaun the tumhe batana chahta hoon ashok samrat jo hai vaah magadh ke samrat the aur vaah bhi tushaar ke putra the unhone baad me Baudh dharm apna liya tha tatha rajyo se apna nick chhod diya tha apne aapko dhanyavad

दोस्त आपने मुझसे पूछा अशोक सम्राट कौन थे तुम्हें बताना चाहता हूं अशोक सम्राट जो है वह मगध

Romanized Version
Likes  43  Dislikes    views  574
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अशोक सम्राट मौर्य वंश के प्रतापी शासक थे अशोक सम्राट भारत की ही नहीं बल्कि दुनिया के सबसे शक्तिशाली शासकों में से एक थे सम्राट अशोक ने थम नामक एक नया धर्म चलाया था सम्राट अशोक भारत का पहला शासक था जो कि अपने अभिलेखों के माध्यम से अपनी प्रजा को संबोधित करता था सम्राट अशोक भारत का पहला जनकल्याणकारी शासक सम्राट अशोक अपनी प्रजा को पुत्र की तरह मानता था सम्राट अशोक दुनिया का प्रथम शासक था जिसने अभिलेख में खुलवाया था कि राजा पिता होती है प्रजा उसकी संतान होती है अतः एक अच्छे राजा का कर्तव्य है कि वह अपनी राजा को संतान की भांति देखभाल करें

ashok samrat maurya vansh ke prataapee shasak the ashok samrat bharat ki hi nahi balki duniya ke sabse shaktishali shaasakon me se ek the samrat ashok ne tham namak ek naya dharm chalaya tha samrat ashok bharat ka pehla shasak tha jo ki apne abhilekho ke madhyam se apni praja ko sambodhit karta tha samrat ashok bharat ka pehla janakalyankari shasak samrat ashok apni praja ko putra ki tarah maanta tha samrat ashok duniya ka pratham shasak tha jisne abhilekh me khulvaya tha ki raja pita hoti hai praja uski santan hoti hai atah ek acche raja ka kartavya hai ki vaah apni raja ko santan ki bhanti dekhbhal kare

अशोक सम्राट मौर्य वंश के प्रतापी शासक थे अशोक सम्राट भारत की ही नहीं बल्कि दुनिया के सबसे

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  67
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!