क्या भारत में सरकारी नौकरी में शामिल होने में देरी के लिए कोई प्रावधान है?...


user

Race academy maneesh

Competitive Exam Expert (Youtube- Race Academy Maneesh)https://www.youtube.com/channel/UCEwGqvTOdzZnbc70zgFiJYQ

2:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल के बाद में सरकारी नौकरी में शामिल होने में देरी के लिए कोई प्रावधान है कोई प्रावधान नहीं भाई अगर हम टैक्स नहीं रहते हैं या देर से देते हैं तो उन्होंने सा जाती है ना बिजली का बिल सही टाइम से नहीं भरा तो नोटिस घर पर आ जाती है ब्याज के ऊपर ब्याज लगता है लेकिन यहां का कानून ऐसा है कि हम लोगों की उम्र बीत जाती रद्द 10 साल भी जाती नौकरी का लेटर पता नहीं कब आता है कभी जाम होता कोई पता नहीं है कि देखा जाए तो हमारे नागरिकों के मूल अधिकारों का हनन है यह जो रोजगार देने का वादा करती सरकार हुकुम बिल्कुल बेकार है लोगों को भ्रमित करती है वह उसका भी कोई कानून बनना चाहिए ना पर हम लोग सब कुछ देते हैं टैक्स देते समझ में पानी टैक्स हाउस टैक्स उसमें समय अगर नहीं देते हैं उसका ब्याज के ऊपर लगता है इनका कोई सिस्टम नहीं है जब निकाले तब निकाले जब कॉपी चेक कर चेक करें उम्र बीत जाती है लोगों की मजबूर हो जाते हैं आत्महत्या करने को केम करी तो क्या करें नौकरी भी नहीं मिले टाइम से जाती प्रधान बनना चाहिए यह कोई भी नेता इसका प्रस्ताव नहीं पारित कर पाता संसद में अगर मेरी बात की जाए अगर मैं किसी का पति नहीं करता तो पिक जरूर लगता है वहां पर जो भी होता है ना इस चीज का वह समझता है क्या होता है इतनी साधु जाति के बिना इसकी अब बताओ की जॉइनिंग नहीं करा पाए सब कुछ करा दिया है जाए नहीं करा पाया क्योंकि उनका पैसा बचा है जितने दिन ज्वाइन नहीं करेंगे उनका वह बेवकूफ समझी जनता को समझते हैं अपने लिए कोई प्रावधान होगा कोई सदस्य कोई प्राइस होगा रिंगटोन बाइक कर देंगे कभी उन्होंने अपने पर टैक्स लगता है उसकी बात ना की हो कि इतना पैसा नहीं मिलता हमको कम किया जाए जिस भागता कम किए जाए इस पर बात नहीं करते हैं वह बनाए जाते हैं जनता के द्वारा काम अपना पेट भरते हैं तो मेरे ख्याल बिहारी सरकार को चाहिए राज सरकार को की नौकरी में भगत देरी हो रही है तो उसका हर्जाना दे या फिर 1 साल के अंदर टाइम पर लिखने पूरा करें क्योंकि हम लोग तो टाइम ही ना पैसा पेंट करते हैं तू क्यों नहीं करते हैं

aapka sawaal ke baad me sarkari naukri me shaamil hone me deri ke liye koi pravadhan hai koi pravadhan nahi bhai agar hum tax nahi rehte hain ya der se dete hain toh unhone sa jaati hai na bijli ka bill sahi time se nahi bhara toh notice ghar par aa jaati hai byaj ke upar byaj lagta hai lekin yahan ka kanoon aisa hai ki hum logo ki umar beet jaati radd 10 saal bhi jaati naukri ka letter pata nahi kab aata hai kabhi jam hota koi pata nahi hai ki dekha jaaye toh hamare nagriko ke mul adhikaaro ka hanan hai yah jo rojgar dene ka vada karti sarkar hukum bilkul bekar hai logo ko bharmit karti hai vaah uska bhi koi kanoon banna chahiye na par hum log sab kuch dete hain tax dete samajh me paani tax house tax usme samay agar nahi dete hain uska byaj ke upar lagta hai inka koi system nahi hai jab nikale tab nikale jab copy check kar check kare umar beet jaati hai logo ki majboor ho jaate hain atmahatya karne ko came kari toh kya kare naukri bhi nahi mile time se jaati pradhan banna chahiye yah koi bhi neta iska prastaav nahi paarit kar pata sansad me agar meri baat ki jaaye agar main kisi ka pati nahi karta toh pic zaroor lagta hai wahan par jo bhi hota hai na is cheez ka vaah samajhata hai kya hota hai itni sadhu jati ke bina iski ab batao ki joining nahi kara paye sab kuch kara diya hai jaaye nahi kara paya kyonki unka paisa bacha hai jitne din join nahi karenge unka vaah bewakoof samjhi janta ko samajhte hain apne liye koi pravadhan hoga koi sadasya koi price hoga ringtone bike kar denge kabhi unhone apne par tax lagta hai uski baat na ki ho ki itna paisa nahi milta hamko kam kiya jaaye jis bhagta kam kiye jaaye is par baat nahi karte hain vaah banaye jaate hain janta ke dwara kaam apna pet bharte hain toh mere khayal bihari sarkar ko chahiye raj sarkar ko ki naukri me bhagat deri ho rahi hai toh uska harjana de ya phir 1 saal ke andar time par likhne pura kare kyonki hum log toh time hi na paisa paint karte hain tu kyon nahi karte hain

आपका सवाल के बाद में सरकारी नौकरी में शामिल होने में देरी के लिए कोई प्रावधान है कोई प्राव

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  929
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!