भारत का भविष्य कैसा होगा धार्मिक और भौतिक दृष्टि कौन से?...


user
1:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत पहले समय से इंडिया डायवर्स रहा है दिवस कंट्री रहा है इसमें इतनी डाइवर्सिटी रही है कि यहां पर सभी लोग अलग-अलग कल्चर के अलग अलग विचारधारा ऑडियो जिसके संस्कृति के अलग अलग थिंकिंग के अलग-अलग कपड़े पहनने वाले अलग-अलग लैंग्वेज इज बोलने वाले और हर तरह की का अलग तो यहां पर एक अलग टाइप कर रहा है लेकिन सभी की अलग अलग टाइप के कल्चर रिलीजन के लोग एक दूसरे को एक एक्सेप्टेंस की भावना रही है एक दूसरे को एक्सेप्ट करते रहे हैं उनकी हर एक आदमी दूसरे को स्वीकृति कि उसे देखते देखता रहा है यहां पर यहां पर आज तक लोग रहे हैं तो नास्तिक लोग भी रहे हैं यहां पर टावर का वर्क जो है 89 जी को भी एक्सेप्ट किया जाता है इसीलिए यहां पर चैन चैन सीख जाएं बौद्ध धर्म या इस्लाम धर्म कोई भी हो सभी धर्मों का यहां पर नर्चर हुआ है कैसा भी धर्म यहां पर पले बढ़े हैं प्रसार हुआ है उनका और दुनिया में इसलिए बहुत अच्छा मैसेज गया है कि हम हमारा लोकतांत्रिक भारत डेमोक्रेटिक इंडिया तू जो कि एक बहुत बड़ा मैसेज है तो यह हमारा भविष्य भारत का बहुत अच्छा है इस मामले में इस में चाहे सबका जो भी सबका अलग-अलग धर्मों की जो अच्छी अच्छी बातें वह हमारी दुनिया में फैली है चाहे हिंदू का सनातन धर्म का चाय योग दिवस सुजुकी इंडिया इंटरनेशनल डे बना है अलग-अलग धर्मों की बातें हो क्या जैन की जैन बौद्ध की इस्लाम की सभी बातें पर लेबल पर पहुंची है और यह हमारी ड्यूटी है कंट्री की भौतिक दृष्टि गौर से क्या भौतिक संपदा पूछ रहे हैं तो जोक आफ गली लेवल पर पूछ रहे तो ऐसा कुछ मेजर चेंज नहीं होने वाला लोग इंडिया के साथ ही रहना चाहते हैं इंटीग्रेटर इंडिया चाहते हैं

bahut pehle samay se india dayavars raha hai divas country raha hai isme itni diversity rahi hai ki yahan par sabhi log alag alag culture ke alag alag vichardhara audio jiske sanskriti ke alag alag thinking ke alag alag kapde pahanne waale alag alag language is bolne waale aur har tarah ki ka alag toh yahan par ek alag type kar raha hai lekin sabhi ki alag alag type ke culture religion ke log ek dusre ko ek acceptance ki bhavna rahi hai ek dusre ko except karte rahe hain unki har ek aadmi dusre ko swikriti ki use dekhte dekhta raha hai yahan par yahan par aaj tak log rahe hain toh naastik log bhi rahe hain yahan par tower ka work jo hai 89 ji ko bhi except kiya jata hai isliye yahan par chain chain seekh jayen Baudh dharam ya islam dharam koi bhi ho sabhi dharmon ka yahan par nurture hua hai kaisa bhi dharam yahan par PALAY badhe hain prasaar hua hai unka aur duniya mein isliye bahut accha massage gaya hai ki hum hamara loktantrik bharat democratic india tu jo ki ek bahut bada massage hai toh yah hamara bhavishya bharat ka bahut accha hai is mamle mein is mein chahen sabka jo bhi sabka alag alag dharmon ki jo achi achi batein vaah hamari duniya mein faili hai chahen hindu ka sanatan dharam ka chai yog divas suzuki india international day bana hai alag alag dharmon ki batein ho kya jain ki jain Baudh ki islam ki sabhi batein par lebal par pahunchi hai aur yah hamari duty hai country ki bhautik drishti gaur se kya bhautik sampada poochh rahe hain toh joke of gali level par poochh rahe toh aisa kuch major change nahi hone vala log india ke saath hi rehna chahte hain integrator india chahte hain

बहुत पहले समय से इंडिया डायवर्स रहा है दिवस कंट्री रहा है इसमें इतनी डाइवर्सिटी रही है कि

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  451
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
nithya bhavishya ; nitya bavishya ; nitya bhavishya ; nitya bhavisya ; भारत का भविष्य ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!