पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाएं?...


user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

0:41
Play

Likes  69  Dislikes    views  2301
WhatsApp_icon
24 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Somit Yoga Varanasi

Yoga Trainer and Astrologer

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाया जाए अगर आपको किसी और से मतलब किसी किसी भी आदमी से बात करने में अगर हिचकिचाहट अगर हो रहा है तू उसके चार्ट को आप सबसे पहले दूर कीजिए इसके लिए सबसे पहले अपने घर से ही शुरुआत कीजिए घर पर ही बात कीजिए आप जो है उसके बाद फिर अपने पड़ोस में अपने सोसाइटी में पंछी लोगों के बीच में किसी टॉपिक पर किसी मुद्दे पर अपनी बात को रखी है इससे क्या होगा आपका स्पीकिंग लेवल तो बड़े कॉन्फिडेंस काफी हाई हो जाएगा और ओवरऑल आपको पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंट दिलाएगा

dekhiye public speaking confidence kaise laya jaaye agar aapko kisi aur se matlab kisi kisi bhi aadmi se baat karne me agar hichakichahat agar ho raha hai tu uske chart ko aap sabse pehle dur kijiye iske liye sabse pehle apne ghar se hi shuruat kijiye ghar par hi baat kijiye aap jo hai uske baad phir apne pados me apne society me panchhi logo ke beech me kisi topic par kisi mudde par apni baat ko rakhi hai isse kya hoga aapka speaking level toh bade confidence kaafi high ho jaega aur overall aapko public speaking confident dilaega

देखिए पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाया जाए अगर आपको किसी और से मतलब किसी किसी भी आदमी

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
user

अशोक गुप्ता

Founder of Vision Commercial Services.

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कॉन्फिडेंस को हिंदी में अगर कहेंगे तो यह आत्मविश्वास शब्द है तो मनुष्य को अपनी आत्मा के बारे में धूमिल सा एहसास है बस जिसे हम प्राण चाहते हैं वही आत्मा के रूप में भी जाने जाती है देर से आत्मा निकल गई देह मिट्टी हो गई कॉन्फिडेंस के लिए हमें अपनी आत्मा को एक्टिवेट करना पड़ता है वह ध्यान साधना से प्राणायाम से तपस्या दूसरों के दुख में अपना श्रम दूर करने के लिए लगाने से ऐसे तमाम हमारी जितने सैनिक सीमा पर लड़ रहे हैं उनके अंदर कॉन्फिडेंस दर्शाता है कि मुझे देश की रक्षा करनी है आप भी अपने भीतर अंतर्मुखी होकर देखेगा तो भी चले शक्ति का स्रोत बह रहा है जो जो देश को चला रहा है उसी को जागृत कर लेंगे तो आप शिवाजी जैसे महाराणा प्रताप जैसे अब्दुल हमीद जैसे आपके अंदर से भी वह सब क्षमता विकसित होगी इसलिए कॉन्फिडेंस कोई बाहर से नहीं थोड़ा प्रतिक्षा हो सकता है बाप से क्या आप निराश मत हो आप थोड़ा सा ही चेंज कर असली आत्मविश्वास आत्मा का गुण है जितना आपको अपनी आत्मा में ऐसा हुआ कि आत्मा भीतर है और शक्तिमान है उतनी ही आपका आत्मविश्वास आपका मित्र बनकर आपका साथ देखा बहुत-बहुत प्यार में

confidence ko hindi me agar kahenge toh yah aatmvishvaas shabd hai toh manushya ko apni aatma ke bare me dhumil sa ehsaas hai bus jise hum praan chahte hain wahi aatma ke roop me bhi jaane jaati hai der se aatma nikal gayi deh mitti ho gayi confidence ke liye hamein apni aatma ko activate karna padta hai vaah dhyan sadhna se pranayaam se tapasya dusro ke dukh me apna shram dur karne ke liye lagane se aise tamaam hamari jitne sainik seema par lad rahe hain unke andar confidence darshata hai ki mujhe desh ki raksha karni hai aap bhi apne bheetar antarmukhi hokar dekhega toh bhi chale shakti ka srot wah raha hai jo jo desh ko chala raha hai usi ko jagrit kar lenge toh aap shivaji jaise maharana pratap jaise abdul hameed jaise aapke andar se bhi vaah sab kshamta viksit hogi isliye confidence koi bahar se nahi thoda pratiksha ho sakta hai baap se kya aap nirash mat ho aap thoda sa hi change kar asli aatmvishvaas aatma ka gun hai jitna aapko apni aatma me aisa hua ki aatma bheetar hai aur shaktiman hai utani hi aapka aatmvishvaas aapka mitra bankar aapka saath dekha bahut bahut pyar me

कॉन्फिडेंस को हिंदी में अगर कहेंगे तो यह आत्मविश्वास शब्द है तो मनुष्य को अपनी आत्मा के बा

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  195
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी कचरे की कॉन्फिडेंस कैसे लाए अपने देखो पढ़ना बोलना समझना पहले शब्द पढ़ना है समझना है लिखना है फिर बोलना जब पिंकी नाम से गुजरता है तो वह में चूर हो जाता प्रकट हो जाता है फिर अपनी मां को वह रिकॉर्ड करें वॉइस रिकॉर्ड करें अटेंड अचको रिकॉर्ड करें अपने लक्ष्य को रिकॉर्ड करें और से सुने और जहां-जहां सुधार की है उसे सुधार अपने लक्ष्य को रिकॉर्ड की बातों को दूसरों को भेजें आगरा से हटाने की रिकॉर्ड की बातों को और उसके ऊपर भेज सकते मैसेज ग्रुप में जब लोगों को तरफ से आपको मोटिवेशन का वचन मिले उसे लाइक मिले और लोग आपके विचारों को पसंद करें आपके संवादों को पसंद कर लीजिए हमको पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस आफ कर्नाटका

apni kachre ki confidence kaise laye apne dekho padhna bolna samajhna pehle shabd padhna hai samajhna hai likhna hai phir bolna jab pinki naam se guzarta hai toh vaah me chur ho jata prakat ho jata hai phir apni maa ko vaah record kare voice record kare attend achako record kare apne lakshya ko record kare aur se sune aur jaha jaha sudhaar ki hai use sudhaar apne lakshya ko record ki baaton ko dusro ko bheje agra se hatane ki record ki baaton ko aur uske upar bhej sakte massage group me jab logo ko taraf se aapko motivation ka vachan mile use like mile aur log aapke vicharon ko pasand kare aapke sanvadon ko pasand kar lijiye hamko public speaking confidence of karnataka

अपनी कचरे की कॉन्फिडेंस कैसे लाए अपने देखो पढ़ना बोलना समझना पहले शब्द पढ़ना है समझना है

Romanized Version
Likes  456  Dislikes    views  5566
WhatsApp_icon
user

Santosh Singh indrwar

Business Consultant & Life Couch

0:24
Play

Likes  9  Dislikes    views  152
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस आएगा आपको ग्रुप डिस्कशन से जिसे आप की फैमिली हो वह ग्रुप डिस्कशन चल रहा हो तो आप उस में पार्टिसिपेट कीजिए लीड कि आपके दोस्तों का कुछ वाद विवाद चल रहा है तू वहां लीड कीजिए जब जब लिख करना शुरू कर देंगे आप लोगों से बातें करना शुरू कर देंगे तो आपको एक आदत सी हो जाएगी और वहां पर पब्लिक स्पीकिंग आपको ईविली आ जाएगा क्योंकि आपको प्रेक्टिस बाहर से नहीं अपने घर से शुरू करना पड़ेगी थैंक यू

dekhiye public speaking confidence aayega aapko group discussion se jise aap ki family ho vaah group discussion chal raha ho toh aap us me participate kijiye lead ki aapke doston ka kuch vad vivaad chal raha hai tu wahan lead kijiye jab jab likh karna shuru kar denge aap logo se batein karna shuru kar denge toh aapko ek aadat si ho jayegi aur wahan par public speaking aapko ivili aa jaega kyonki aapko practice bahar se nahi apne ghar se shuru karna padegi thank you

देखिए पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस आएगा आपको ग्रुप डिस्कशन से जिसे आप की फैमिली हो वह ग्रुप

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  178
WhatsApp_icon
play
user

Kankan Sarmah

Psychologist

1:10

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस अगर बढ़ानी हो तो पहले आपका कम्युनिकेशन स्किल चाहिए ना जरूरी होता है फिर उसके बाद आप अपने दोस्तों से बात कीजिए अपने रिश्तेदारों से बातें कीजिए और जब भी आप को मौका मिलते हैं आपके कमरे में हो या बाथरूम में और किसी भी रूम पर हैं आप एक आईना के सामने खड़ा होकर नॉनस्टॉप 1 या 2 मिनट के लिए कुछ भी बोलिए लेकिन जो भी आप बोलेंगे वहां पर कोई भी ब्रेकप्वाइंट होना जरूरी नहीं है वह कंटिन्यूटी रखना उसको जरूरी है तो आप पहले छोटा-मोटा टॉपिक लीजिए इजी टू इजी वाला टॉपिक ले लीजिए जैसे 5 मिनट के लिए आप अपने बारे में बोलिए क्या अपने स्कूल के बारे में बोलिए या आपने कॉलेज के बारे में बोलिए या अपने शहर के बारे में बोले तो ऐसे छोटे-छोटे कीजिए फिर आप आईने के सामने प्रैक्टिस कीजिए फिर उसके बाद आप अपने दोस्तों के साथ अपने रिश्तेदारों के साथ सबको इकट्ठा बुलाकर आप बोलना शुरू कीजिए कि अब दिखेगा धीरे-धीरे वह आपका कंप्लेंट भरते जाएगा

public speaking confidence agar badhani ho toh pehle aapka communication skill chahiye na zaroori hota hai phir uske baad aap apne doston se baat kijiye apne rishtedaron se batein kijiye aur jab bhi aap ko mauka milte hain aapke kamre mein ho ya bathroom mein aur kisi bhi room par hain aap ek aaina ke saamne khada hokar nonstop 1 ya 2 minute ke liye kuch bhi bolie lekin jo bhi aap bolenge wahan par koi bhi brekapwaint hona zaroori nahi hai vaah kantinyuti rakhna usko zaroori hai toh aap pehle chota mota topic lijiye easy to easy vala topic le lijiye jaise 5 minute ke liye aap apne bare mein bolie kya apne school ke bare mein bolie ya aapne college ke bare mein bolie ya apne shehar ke bare mein bole toh aise chhote chhote kijiye phir aap aaine ke saamne practice kijiye phir uske baad aap apne doston ke saath apne rishtedaron ke saath sabko ikattha bulakar aap bolna shuru kijiye ki ab dikhega dhire dhire vaah aapka complaint bharte jaega

पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस अगर बढ़ानी हो तो पहले आपका कम्युनिकेशन स्किल चाहिए ना जरूरी होत

Romanized Version
Likes  164  Dislikes    views  2022
WhatsApp_icon
user

Neelam Kumar

Best-selling Author

0:60
Play

Likes  119  Dislikes    views  1367
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए अगर आपको पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस लाना है तो पहले आपको आईने के सामने प्रेक्टिस करने होंगे फिर आपको अपनी फैमिली के सामने प्रैक्टिस करनी होगी फिर आपको अपने दोस्तों के सामने प्रैक्टिस करनी होगी और फिर आपको अपनी रिलेटेड के सामने प्रेक्टिस करने की जिनको आप जानते पहचानते हो और एक बार इन सबको इकट्ठा बैठक की प्रैक्टिस करनी होगी आंसर पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस लेवल जरूर बढ़ जाएगा तब तक और हर रोज प्रैक्टिस करनी होगी फिर अननोन पर्सन के संविदा के जवाब पब्लिक स्पीकिंग प्रैक्टिस करोगे तो जरूर आपका कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ेगा और साथ ही साथ में हर रोज सुबह उठकर मेडिटेशन करना है और रात को सोने से पहले भी मेडिटेशन करना कि आपका कॉन्फिडेंस लेवल बना रहे आपका दिन शुभ हो धन्यवाद

aapka prashna public speaking confidence kaise laye agar aapko public speaking confidence lana hai toh pehle aapko aaine ke saamne practice karne honge phir aapko apni family ke saamne practice karni hogi phir aapko apne doston ke saamne practice karni hogi aur phir aapko apni related ke saamne practice karne ki jinako aap jante pehchante ho aur ek baar in sabko ikattha baithak ki practice karni hogi answer public speaking confidence level zaroor badh jaega tab tak aur har roj practice karni hogi phir unknown person ke samvida ke jawab public speaking practice karoge toh zaroor aapka confidence level badhega aur saath hi saath mein har roj subah uthakar meditation karna hai aur raat ko sone se pehle bhi meditation karna ki aapka confidence level bana rahe aapka din shubha ho dhanyavad

आपका प्रश्न पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए अगर आपको पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस लाना ह

Romanized Version
Likes  259  Dislikes    views  4158
WhatsApp_icon
user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप ने प्रश्न किया है कि पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे इसके लिए बहुत जरूरी है कि किस फील्ड में आपको बोलना है किस क्षेत्र में बोलना है उसका निर्धारण करें और उस क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा जानकारी इकट्ठा करने की कोशिश करें और यह बहुत जरूरी है कि आपको अगर स्टेज पर बोलना है पब्लिक स्पीकिंग करना है उसके लिए बहुत जरूरी है कि आप लोगों के सामने अपने विचार को रखने की कोशिश करें ध्यान रखेंगे अगर आप सबसे पहले किसी बड़े स्टेज पर जाकर कई लाज ऑडियंस के सामने कर बोलने का प्रयास करेंगे तो हो सकता है कि आपको थोड़ी दिक्कत आए परेशानी है इसके लिए बहुत जरूरी है कि पहले अपने विचारों को अपने आसपास के दोस्त जिन पर विश्वास करते उनके सामने बोलने का प्रयास करें धीरे-धीरे जब आपका एजुकेशन खत्म होगा आपके अंदर थोड़ा कॉन्फिडेंस आएगा तो फिर उससे बड़े लोगों ज्यादा ज्यादा लोगों के सामने आप बोलने का प्रयास करें फिर धीरे-धीरे जैसे आप कंफर्टेबल होते जाएं उसी तरीके से लोगों के बीच अपने विचारों को तरसते जाएं इस तरीके से जवाब करेंगे तो उसे 2 फायदे होते हैं एक तो आपके अंदर का जो डर है वह धीरे-धीरे खत्म होता है और दूसरा जो फायदा होता है कि आपके अंदर जो हॉट है जो विचार हैं जो जानकारी हैं वह कहीं न कहीं ऑर्गेनाइज्ड होती हैं और फिर कहीं ना कहीं आपको बोलने में बहुत आसानी होती है इसलिए ध्यान रखेंगे कि जो पब्लिक स्पीकिंग है वह 1 दिन में आप पर शक नहीं हो सकते लेकिन धीरे-धीरे अगर कोशिश करेंगे तो निश्चित तौर से आप एक अच्छे पब्लिक स्पीकर बन सकते हैं लेकिन उसके लिए जरूरी है कि अब धीरे-धीरे पहले प्रयास करना शुरू करिए और धीरे-धीरे जवाब करने की कोशिश करेंगे तो आपके अंदर कॉन्फिडेंस अपने आप आता चला जाएगा क्योंकि जब आपको कार्य करेंगे तो उसमें जो अच्छा करेंगे तो अपने आप आपका कॉन्फिडेंस बढ़ता चला जाएगा इसलिए मैं इसके लिए यही कहूंगा कि आप कोशिश करना शुरू कर दीजिए आपको कामयाबी जरूर मिलेगी मेरी शुभकामनाएं आपके साथ धन्यवाद

aap ne prashna kiya hai ki public speaking confidence kaise iske liye bahut zaroori hai ki kis field mein aapko bolna hai kis kshetra mein bolna hai uska nirdharan kare aur us kshetra mein zyada se zyada jaankari ikattha karne ki koshish kare aur yah bahut zaroori hai ki aapko agar stage par bolna hai public speaking karna hai uske liye bahut zaroori hai ki aap logo ke saamne apne vichar ko rakhne ki koshish kare dhyan rakhenge agar aap sabse pehle kisi bade stage par jaakar kai laj adiyans ke saamne kar bolne ka prayas karenge toh ho sakta hai ki aapko thodi dikkat aaye pareshani hai iske liye bahut zaroori hai ki pehle apne vicharon ko apne aaspass ke dost jin par vishwas karte unke saamne bolne ka prayas kare dhire dhire jab aapka education khatam hoga aapke andar thoda confidence aayega toh phir usse bade logo zyada zyada logo ke saamne aap bolne ka prayas kare phir dhire dhire jaise aap Comfortable hote jayen usi tarike se logo ke beech apne vicharon ko taraste jayen is tarike se jawab karenge toh use 2 fayde hote hain ek toh aapke andar ka jo dar hai vaah dhire dhire khatam hota hai aur doosra jo fayda hota hai ki aapke andar jo hot hai jo vichar hain jo jaankari hain vaah kahin na kahin argenaijd hoti hain aur phir kahin na kahin aapko bolne mein bahut aasani hoti hai isliye dhyan rakhenge ki jo public speaking hai vaah 1 din mein aap par shak nahi ho sakte lekin dhire dhire agar koshish karenge toh nishchit taur se aap ek acche public speaker ban sakte hain lekin uske liye zaroori hai ki ab dhire dhire pehle prayas karna shuru kariye aur dhire dhire jawab karne ki koshish karenge toh aapke andar confidence apne aap aata chala jaega kyonki jab aapko karya karenge toh usme jo accha karenge toh apne aap aapka confidence badhta chala jaega isliye main iske liye yahi kahunga ki aap koshish karna shuru kar dijiye aapko kamyabi zaroor milegi meri subhkamnaayain aapke saath dhanyavad

आप ने प्रश्न किया है कि पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे इसके लिए बहुत जरूरी है कि किस फील्

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  667
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मिस्टर आपका प्रश्न है पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए देखिए आपको समूह में पब्लिक में या लोगों के ग्रुप में जब बात करनी होती है तो उसके लिए आप एक कुशल वक्ता अवश्य होने चाहिए जब तक आप अपनी बात को कहने में सक्षम नहीं होंगे आपके अंदर आत्मविश्वास की भरपूर मात्रा नहीं होगी तो आप अपनी बात को कभी भी लोगों के सामने स्पष्ट रूप से नहीं कह पाएंगे इसलिए आपके अंदर आत्मविश्वास और वक्ता का गुण होना चाहिए धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

mister aapka prashna hai public speaking confidence kaise laye dekhiye aapko samuh me public me ya logo ke group me jab baat karni hoti hai toh uske liye aap ek kushal vakta avashya hone chahiye jab tak aap apni baat ko kehne me saksham nahi honge aapke andar aatmvishvaas ki bharpur matra nahi hogi toh aap apni baat ko kabhi bhi logo ke saamne spasht roop se nahi keh payenge isliye aapke andar aatmvishvaas aur vakta ka gun hona chahiye dhanyavad aapka din shubha ho

मिस्टर आपका प्रश्न है पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए देखिए आपको समूह में पब्लिक में य

Romanized Version
Likes  207  Dislikes    views  3087
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपको पब्लिक के बीच में स्पीच करना है कॉन्फिडेंट लाना है ना तो आप एक बात बताओ आप कभी भी यह तैयारी करना है अगर आपको तो आप शीशे के सामने बोलना स्टार्ट करें अगर नशा केंद्र के अधिकारी डांस आएंगी कि आप हजारों के नहीं लाखों के बीच में बोलोगे कॉन्फिडेंस के साथ बोलोगे

agar aapko public ke beech me speech karna hai confident lana hai na toh aap ek baat batao aap kabhi bhi yah taiyari karna hai agar aapko toh aap shishe ke saamne bolna start kare agar nasha kendra ke adhikari dance aayengi ki aap hazaro ke nahi laakhon ke beech me bologe confidence ke saath bologe

अगर आपको पब्लिक के बीच में स्पीच करना है कॉन्फिडेंट लाना है ना तो आप एक बात बताओ आप कभी भी

Romanized Version
Likes  257  Dislikes    views  3210
WhatsApp_icon
user

Mohit Kumar Kakkar(Armaan)

Personality Development Trainer

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पब्लिक स्पीकिंग में कॉन्फिडेंस लाने के लिए डेली मिरर प्रैक्टिस कीजिए कहते हैं ना प्रैक्टिस मैन परफेक्ट बैटरी एक तरीका जिससे आप अपने पब्लिक स्पीकिंग में कॉन्फिडेंस ला सकते हैं और पब्लिक स्पीकिंग के ऊपर बहुत सारी बुक्स आती है वह ऐड कीजिए जिससे आपको आइडिया और नई-नई टेक्निक्स मिलेंगे अपनी पब्लिक स्पीकिंग को दूर करने के लिए

public speaking mein confidence lane ke liye daily mirror practice kijiye kehte hain na practice man perfect battery ek tarika jisse aap apne public speaking mein confidence la sakte hain aur public speaking ke upar bahut saari books aati hai vaah aid kijiye jisse aapko idea aur nayi nayi techniques milenge apni public speaking ko dur karne ke liye

पब्लिक स्पीकिंग में कॉन्फिडेंस लाने के लिए डेली मिरर प्रैक्टिस कीजिए कहते हैं ना प्रैक्टिस

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  111
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंसान को शहर में लिख कुत्ते लानी होगी जब आप कहीं जा रहे आपको किसी सब के पूरे बहुत बड़ी सजा में बात करनी है बोलो तो आप पहले से अपने आपने यह व्हाट्सएप पर जाना है क्या क्या बोल सकता हूं आप बोल सकते हैं तो जब आ जाए तो आप क्या सोचते हैं कि मैं क्या बोलूंगा मुस्कुराते हुए अपनी तरफ से आपको खड़े खड़े खड़े हो कर मुस्कुराते हो पहले तो हंसना है या कोई छोटा को एकदम परफेक्ट कुत्ते रखना कि नहीं यार कोई मुझे मारेगा थोड़ी ना कर मैं नहीं पता मालूम से कुछ बात गलत बोल गया कुछ बात नहीं बोलता है ना तुमसे कोई मारेगा थोड़ी ना डरने कुमारी

insaan ko shehar me likh kutte lani hogi jab aap kahin ja rahe aapko kisi sab ke poore bahut badi saza me baat karni hai bolo toh aap pehle se apne aapne yah whatsapp par jana hai kya kya bol sakta hoon aap bol sakte hain toh jab aa jaaye toh aap kya sochte hain ki main kya boloonga muskurate hue apni taraf se aapko khade khade khade ho kar muskurate ho pehle toh hansana hai ya koi chota ko ekdam perfect kutte rakhna ki nahi yaar koi mujhe marenge thodi na kar main nahi pata maloom se kuch baat galat bol gaya kuch baat nahi bolta hai na tumse koi marenge thodi na darane kumari

इंसान को शहर में लिख कुत्ते लानी होगी जब आप कहीं जा रहे आपको किसी सब के पूरे बहुत बड़ी सजा

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  188
WhatsApp_icon
user

sumit india

Sports Coach

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैन दोस्तों यह बहुत अच्छे सवाल है कि पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए तो भाई मैं यह कहना चाहता हूं कि पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंट हम सबसे पहले अपने घर में किसी भी टॉपिक को लेकर बात करें अपने भाई अपने पेरेंट्स है उसके बाद अपने परिवार के साथ बात करें अपने दोस्तों के साथ बात करें जैसे ही वह गैदरिंग बढ़ती जाती है मालूम ra5 दोस्त से 10 बार दोस्त हो गए और थोड़ा सा उनमें कोई ऐसा कोई अच्छा सा टॉपिक छोड़ दिया तो मैं तो कहता हूं अगर आपके पास कोई टॉपिक है और उस टॉपिक ऊपर अगर आप कोई स्पीच देना जा रहे हो उसके बारे में बताना चाह रहे हो तो बेझिझक होके बताओ एक दो बार में थोड़ा सा इसको चुना होगा नहीं होगा क्योंकि ना भाई पब्लिक कॉन्फिडेंस स्पीकिंग बहुत अच्छी चीज है और उसको पब्लिक के अंदर तभी बोला जाएगा जब आपके अंदर नॉलेज होगी और आप उस चीज को नॉलेज को लेकर क्यों किया ना अगर हम पब्लिक के बीच में कोई भी बात बोल रहे तो उसमें सवाल बहुत होंगे वह मैं काटने कोशिश करेंगे तो आप उसी टॉपिक कॉलेजेस टॉपिक किया पूरी अच्छी तरह नॉलेज है कोई बात नहीं है कभी भी आप बोलते हैं ना तो कोशिश करो आंखों में आंखें डाल कर बोलो आंखों में आंखें डाल कर आप बोलेंगे ना तो आपको कॉन्फिडेंस और बढ़िया होगा उससे आपको डर खुलेगा

jain doston yah bahut acche sawaal hai ki public speaking confidence kaise laye toh bhai main yah kehna chahta hoon ki public speaking confident hum sabse pehle apne ghar me kisi bhi topic ko lekar baat kare apne bhai apne parents hai uske baad apne parivar ke saath baat kare apne doston ke saath baat kare jaise hi vaah gathering badhti jaati hai maloom ra5 dost se 10 baar dost ho gaye aur thoda sa unmen koi aisa koi accha sa topic chhod diya toh main toh kahata hoon agar aapke paas koi topic hai aur us topic upar agar aap koi speech dena ja rahe ho uske bare me batana chah rahe ho toh bejhijhak hoke batao ek do baar me thoda sa isko chuna hoga nahi hoga kyonki na bhai public confidence speaking bahut achi cheez hai aur usko public ke andar tabhi bola jaega jab aapke andar knowledge hogi aur aap us cheez ko knowledge ko lekar kyon kiya na agar hum public ke beech me koi bhi baat bol rahe toh usme sawaal bahut honge vaah main katne koshish karenge toh aap usi topic colleges topic kiya puri achi tarah knowledge hai koi baat nahi hai kabhi bhi aap bolte hain na toh koshish karo aakhon me aankhen daal kar bolo aakhon me aankhen daal kar aap bolenge na toh aapko confidence aur badhiya hoga usse aapko dar khulega

जैन दोस्तों यह बहुत अच्छे सवाल है कि पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए तो भाई मैं यह कहन

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon
user

Purushottam Choudhary

ब्राह्मण Next IAS institute गार्ड

0:57
Play

Likes  55  Dislikes    views  414
WhatsApp_icon
user

Ritika

Teacher,life Coach,motivational Speaker

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों आज का प्रश्न है पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए पब्लिक में स्पीक करने के लिए आपको सबसे पहले जो भी चीज आपको बोलना है या जब भी टॉपिक को कवर करना है या जिस भी टॉपिक के बारे में आपको बोलना है उसको आपको बहुत ही अच्छे तरीके से तैयार करना होगा एंड उसकी आपको बहुत ही सही ढंग से प्राप्त करनी होगी उसको आप मेरठ के सामने प्राप्त करिए दिल्ली जो कि मिरर के सामने आप जितना ज्यादा प्राप्त करेंगे आप की जितनी भी हाइड्रेशन है जितना भी डर या घबराहट है वह दूर होगा और आपके अंदर कॉन्फिडेंस बिल्डअप होगा उसी के साथ साथ आप अपने पेरेंट्स या अपने फैमिली मेंबर के सामने उस टॉपिक को सुना सकते हैं जिसकी वजह से आपका वह टॉपिक रहे वाइज हो जाएगा और आपको कोई प्रॉब्लम नहीं होगी धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

namaskar doston aaj ka prashna hai public speaking confidence kaise laye public me speak karne ke liye aapko sabse pehle jo bhi cheez aapko bolna hai ya jab bhi topic ko cover karna hai ya jis bhi topic ke bare me aapko bolna hai usko aapko bahut hi acche tarike se taiyar karna hoga and uski aapko bahut hi sahi dhang se prapt karni hogi usko aap meerut ke saamne prapt kariye delhi jo ki mirror ke saamne aap jitna zyada prapt karenge aap ki jitni bhi haidreshan hai jitna bhi dar ya ghabarahat hai vaah dur hoga aur aapke andar confidence buildup hoga usi ke saath saath aap apne parents ya apne family member ke saamne us topic ko suna sakte hain jiski wajah se aapka vaah topic rahe wise ho jaega aur aapko koi problem nahi hogi dhanyavad aapka din shubha ho

नमस्कार दोस्तों आज का प्रश्न है पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस कैसे लाए पब्लिक में स्पीक करने

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  229
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पब्लिक स्पीकिंग के लिए कॉन्फिडेंस आपको अपने परिवार के अंदर से आ सकता है यहां परिवार के सभी सदस्यों के बीच में आप बोले और उसके बाद आप अपने परिवार के जो सहयोगी परिवार हैं उनके समक्ष बोले इसके बाद आपको पब्लिक के बीच में बोलने का आभास हो जाएगा और एक कॉन्फिडेंस मिल सकता है

public speaking ke liye confidence aapko apne parivar ke andar se aa sakta hai yahan parivar ke sabhi sadasyon ke beech me aap bole aur uske baad aap apne parivar ke jo sahyogi parivar hain unke samaksh bole iske baad aapko public ke beech me bolne ka aabhas ho jaega aur ek confidence mil sakta hai

पब्लिक स्पीकिंग के लिए कॉन्फिडेंस आपको अपने परिवार के अंदर से आ सकता है यहां परिवार के सभी

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
user

Mohammad Vakeel

Education Consultant and Teacher

9:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड मैं आपका यह क्वेश्चन लेने की कोशिश कर रहा हूं और अगर आपको यह जवाब अच्छा लगे तो आप इसे लाइक जरुर करिएगा और फॉलो भी करिएगा पब्लिक स्पीकिंग में कॉन्फिडेंस लाएं कैसे लाएं और यह बड़ी एक कॉमन प्रॉब्लम है और जो लोग स्पीकिंग का शौक रखते हैं या फिर जिन लोगों का प्रोफेशन ऐसा है जिन्हें पब्लिक स्पीकिंग करनी पड़ती है मीटिंग करनी पड़ती है प्रेजेंटेशन देने पड़ते हैं या फिर इस तरीके से या जो लोगों से हील्स में भी हैं सेल्स और मार्केटिंग का भी काम करते हैं उन्हें भी प्रेजेंटेशन में पब्लिक स्पीकिंग की जरूरत होती है या जिन लोगों को शौक है कि वह पब्लिक स्पीकर बनना चाहते हैं इस तरीके से अब इसमें मैंने जहां तक एक्सपीरियंस किया इस चीज को महसूस किया कि देखिए एक तो चीज आप बिल्कुल फैक्ट आप समझ लीजिए कि जैसे शान तैरना तभी सीखेगा जब वह पानी में उतरेगा आपको कितना ही कोई कितना ही हाथ पैर चलाना आपको बता दें यू कैन नेवर अंटील एंड अनलेस यू नो ई विल नॉट गो इनटू थे वॉटर इफेक्ट है और यह रहेगा कि जब तक पानी में नहीं जाएंगे तब तक आप तैरना नहीं सीखेंगे यह तो प्रेक्टिस एनीहाउ आपको हर हाल में प्रैक्टिस करनी है दशमी इसकी देखिए कॉन्फिडेंस डिवेलप करने के लिए पब्लिक स्पीकिंग में आपको स्टेज पर जाना ही पड़ेगा एनी हाउस नियर होता है वह फिजिकल पियर होता है एक का आप यह समझ गए कि लोगों के सामने जवाब दो चार पांच या फिर एक बहुत ज्यादा ज्यादा ऑडियंस होते उनके सामने जब हम जाते हैं और तो चुप ईयर होता है जो डर होता है जब तक आप जाएंगे नहीं तब तक आपका वह फिर तू नहीं हुआ अच्छा जी इसमें एक चीज हो सकती है कि इससे पहले कि प्री प्लान प्लानिंग हम क्या करें फ्री प्लानिंग में ऐसे क्या क्या चीजे होनी चाहिए कि जिससे कि कम से कम यार को तो अब पूरी प्लानिंग में आप यह प्रिपरेशन में जो चीजें तय होंगी उसमें एक कुछ प्राप्त होती हैं जो आपको हर हाल में करनी पड़ेगी जिसमें की मैं अपने जैसे कि ऐसा जख्म 121 कन्वर्सेशन करते हैं तो हम को किसी भी तरह का अनकंफरटेबल फील नहीं होता है लेकिन हम जब मोड़ 123 मोड़ पर पुल के सामने जो हम बोलने लगते हैं जब उनके आगे जाते हैं व्हेन यू स्पीक 1 टू 300 वैकेंसी लॉर्ड कैटरिंग फिर उसके बाद हम को प्रॉब्लम फेस आने लगती है उसकी वजह क्या होती है कि 121 जब हम गया कम्युनिकेशन करते हैं तो उसमें हमारी तमाम बातों को इन इजी आंसर होता है और हम उसकी वह बातें हमारी फैक्ट्री में है या नहीं है सामने वाले में समझी या नहीं समझे वही रिस्पांस हमको मिल जाता है वह मुझसे पूछ भी लेते हैं आप ही समझ में आया या नहीं आया लेकिन पब्लिक स्पीकिंग में आम पब्लिक स्पीकिंग में क्या होता है कि आपके सामने ज्यादा लोग होते हैं थोड़ा कुछ 24 10 लोगों से लेकर हो सकता है कि आप लोगों के सामने आपको बोलना पड़े और उसमें क्या होता है कि सबसे बड़ी वजह चौक ईयर की यह पैदा होती है उसकी सबसे बड़ी यही कि आप 121 अपनी बात को कंफर्म नहीं कर पाते यानी कि जेटली आपको रिस्पांस में हर एक के साथ आफ रिस्पांस नहीं ले सकते और होता यह है कि जिसकी वजह से आपके अंदर एक पता नहीं सामने वाले के समझ में आई मेरी बात या नहीं आई तो इस वजह से एक शेर पैदा हो जाता है और उसमें आप ही समझिए कि इस अफेयर और उसके बाद भी ऐसा होता है कि कभी-कभी कुछ लोग ऐसे होते हैं कि जो की भीड़ में कमेंट करते हैं कुछ लोग ऐसे होते हैं जो आपकी बात को नहीं सुनते और मोमेंट करते रहते हैं डिस्टर्ब करते हैं जब बातों में लगे हुए होते हैं या कुछ और इस तरह की एक्टिविटी होती है जिससे आपको यह लगता है कि वह सामने वाले सुन रही रहे हैं और मैं इतने लोगों के सामने खड़ा हूं तो इसकी वजह से एक शेर पैदा होता है अब इसमें क्या ताकि अक्सर लोग सुन रहे होते हैं दो चार परसेंट लोग हमेशा रहते हैं जो कि आपकी बात को नहीं सुनेंगे जोकि जोकि आपकी बात को क्रिटिसाइज भी करेंगे और वोटिंग भी करेंगे और कुछ गलत पर कमेंट भी कर सकते हैं लेकिन अब तक अगर आपके पास कंटेंट है आपके पास मटेरियल अच्छा है आपका आपके पास 51c है स्पीकिंग की तो फिर अब वह आपको जो दूसरे लोग हैं जो आपके पास है मुर्दे 95% से 95% लोग हैं वह आपकी बात को सुनेंगे तो अब यहां पर क्या होता कि हमेशा हमारा कंसंट्रेशन क्या होता है कि दूसरी तरफ चला जाता है जो थोड़े से लोग होते हैं उनकी तरफ जो कि आपको क्रिटरसाइज कर रही इस वजह से आर्डर पैदा होते तो आपको यहां पर यह बात छोड़ो इस बात को बैलून दो चार परसेंट लोगों पर बिल्कुल ध्यान नहीं देना आपको जो 90% 95% लोग हैं उन पर आपको कंसंट्रेट होना है और हमेशा यह ध्यान रखना है कि आप यह लोग बात सुन रहे हैं तीसरी बात तो मैं कहूंगा कि जिसमें कि आपको अपनी बात पर भरोसा होना चाहिए अक्सर ऐसा होता है कि हम जो कुछ कह रहे हैं हम हमें अपनी बात पर कॉन्फिडेंस ना होने की वजह से हम इतने सारे लोगों के सामने हमें यह महसूस होता है कि कहीं हमारी बात गलत तो नहीं है लेकिन आपके पास जो भी कंटेंट है वह बिल्कुल फैक्ट हो रहल होना चाहिए या फिर आपको बिल्कुल भरोसा होना चाहिए कि जो कुछ भी मैं कहने जा रहा हूं दर्ज करें और यह जो अब करेक्टनेस के आपको एक एहसास होगा इसकी वजह से आपके अंदर कॉन्फिडेंस डेवलप होगा अब यह तो वह मैटर को लेकर तमाम चीजें हो गई दूसरी चीज कॉन्फिडेंस को लेकर अगर हम बात करें पब्लिक स्पीकिंग के अंदर तो आपको प्रैक्टिस करनी चाहिए आपको जैसे कि आप अकेले में बोलने की प्रैक्टिस कभी-कभी तो इंसान को अगर कोई सिंगल पर्सन भी उसको सुन रहा हो तो भी उसको अजीब सा महसूस होता है अगर इस तरीके से कनेक्ट है आपको तो पहले आप अकेले में बोलना शुरू करिए अकेले में बोलते बोलते बोलते बोलते और उसके बाद जब भी आपको दो-चार लोगों के बीच में बोलने का मौका मिले वहां पर आप प्रेक्टिस करिए और इस तरीके से और बिल्कुल कभी-कभी आंखें बंद कर कर के प्रैक्टिस करिए कभी आंखें खोलकर प्रेक्टिस करिए और इस तरीके से आप दूसरी चीज आप अपनी जब भी प्रेक्टिस करें आप रिकॉर्डिंग करिए रिकॉर्डिंग करने के बाद आप उसको दोबारा देखिए वॉच करें और उसमें कोई अगर आपको कमी लगती है कुछ प्रॉब्लम आती है तो उसको करेक्ट करने की कोशिश करी तरीके से आपका कॉन्फिडेंस बिल्डअप होगा अब कॉन्फिडेंस धीरे धीरे धीरे धीरे आप पर आप अपना कंटेंट अच्छा कर लेंगे आप अपनी बॉडी लैंग्वेज अच्छी कर लेंगे आपके पास से आपको मेहनत करनी पड़ेगी वह कल कैपेसिटी पर अपनी जो और कौन है वह कल आपकी एजेंसी है और उसका पिक है मालूम कितना ज्यादा है कितना स्पीड है इस तरीके से इन तमाम चीजों को आप को कंट्रोल करना पड़ेगा जिससे कि ऑडियंस पर एक पॉलीटिफैक्ट पड़ेगा और देवी टेक इंटरेस्ट इन यू और इससे आपके अंदर भी कॉन्फिडेंस पैदा होगा और दो चार बार जैसे ही आप लोगों के सामने जाएंगे लिखिए यह चीज को मैंने हमेशा महसूस किया कि तमाम प्रैक्टिस के बाद भी जब हम लोगों के सामने जाते हैं तो भी हमको एक नर्वसनेस महसूस होती है और एक बड़ा क्लियर महसूस होता और यह पियर जब तक आप जाएंगे नहीं तब तक खत्म नहीं होगा आपको रिस्क लेना पड़ेगा आपको रिस्क लेना पड़ेगा जैसे जैसे आप रिस्क लेते चले जाएंगे आपका पीर खत्म होता है आ जाएगा अब आज के वक्त में इसका सबसे आपको एक बहुत अच्छा हालांकि हंड्रेड परसेंट तो नहीं लेकिन एक बहुत अच्छा टूल है यूट्यूब यूट्यूब पर वीडियोस बनाकर किसी टॉपिक पर किसी सब्जेक्ट पर जो सब्जेक्ट और वीडियो ऑफ लाइक पसंद करते हैं उस पर आप बनाकर डालिए और उसको लोगों को शेयर करिए और देखिए और सुनने के लिए तब आपके मन में एक कम से कम इतना फिर जरूर होगा कि मैं वीडियो बना रहा हूं इसे कुछ लोग देखेंगे मेरे दोस्त देखेंगे मेरे जानने वाले रिश्तेदार मां-बाप या कुछ न कुछ लोग देखेंगे तो आपके जेहन में एक क्लियर होगा लेकिन यह बहुत अच्छा टूल है जिससे किया कम से कम आपका पियर को हटाने में शेर को खत्म करने में आपको बहुत बड़ी हेल्प मिलेगी और इस तरीके से देखिए रेगुलर प्रैक्टिस से ही आप और जो आप अपनी कॉन्फिडेंस को इनक्रीस कर सकते हैं अपने अफेयर को भगा सकते हैं आप जो भी प्रैक्टिस करें उसके रिकॉर्डिंग करें और उसको आप दोबारा जरूर देखें अगर आपको यह जवाहर लगे इसके अलावा आपको यूट्यूब पर और तमाम चीजें अवेलेबल है बहुत सारी मैटेरियल्स वाले बहुत सारे चैनल्स अवेलेबल है वह आपको बताएंगे कि आप कैसे बेहतर से बेहतर पब्लिक स्पीकिंग में अपना कॉन्फिडेंस डिवेलप करते हैं कर सकते हैं अगर आपको यह जवाब पसंद आए तो आप इसे लाइक जरुर करिएगा बहुत बहुत शुक्रिया

hello friend main aapka yah question lene ki koshish kar raha hoon aur agar aapko yah jawab accha lage toh aap ise like zaroor kariega aur follow bhi kariega public speaking me confidence laye kaise laye aur yah badi ek common problem hai aur jo log speaking ka shauk rakhte hain ya phir jin logo ka profession aisa hai jinhen public speaking karni padti hai meeting karni padti hai presentation dene padate hain ya phir is tarike se ya jo logo se heels me bhi hain sales aur marketing ka bhi kaam karte hain unhe bhi presentation me public speaking ki zarurat hoti hai ya jin logo ko shauk hai ki vaah public speaker banna chahte hain is tarike se ab isme maine jaha tak experience kiya is cheez ko mehsus kiya ki dekhiye ek toh cheez aap bilkul fact aap samajh lijiye ki jaise shan tairna tabhi sikhega jab vaah paani me utrega aapko kitna hi koi kitna hi hath pair chalana aapko bata de you can never antil and unless you no E will not go into the water effect hai aur yah rahega ki jab tak paani me nahi jaenge tab tak aap tairna nahi sikhenge yah toh practice anyhow aapko har haal me practice karni hai dashami iski dekhiye confidence develop karne ke liye public speaking me aapko stage par jana hi padega any house near hota hai vaah physical piyar hota hai ek ka aap yah samajh gaye ki logo ke saamne jawab do char paanch ya phir ek bahut zyada zyada adiyans hote unke saamne jab hum jaate hain aur toh chup year hota hai jo dar hota hai jab tak aap jaenge nahi tab tak aapka vaah phir tu nahi hua accha ji isme ek cheez ho sakti hai ki isse pehle ki pri plan planning hum kya kare free planning me aise kya kya chije honi chahiye ki jisse ki kam se kam yaar ko toh ab puri planning me aap yah preparation me jo cheezen tay hongi usme ek kuch prapt hoti hain jo aapko har haal me karni padegi jisme ki main apne jaise ki aisa jakhm 121 conversation karte hain toh hum ko kisi bhi tarah ka anakamfaratebal feel nahi hota hai lekin hum jab mod 123 mod par pool ke saamne jo hum bolne lagte hain jab unke aage jaate hain when you speak 1 to 300 vacancy lord Catering phir uske baad hum ko problem face aane lagti hai uski wajah kya hoti hai ki 121 jab hum gaya communication karte hain toh usme hamari tamaam baaton ko in easy answer hota hai aur hum uski vaah batein hamari factory me hai ya nahi hai saamne waale me samjhi ya nahi samjhe wahi response hamko mil jata hai vaah mujhse puch bhi lete hain aap hi samajh me aaya ya nahi aaya lekin public speaking me aam public speaking me kya hota hai ki aapke saamne zyada log hote hain thoda kuch 24 10 logo se lekar ho sakta hai ki aap logo ke saamne aapko bolna pade aur usme kya hota hai ki sabse badi wajah chauk year ki yah paida hoti hai uski sabse badi yahi ki aap 121 apni baat ko confirm nahi kar paate yani ki jaitley aapko response me har ek ke saath of response nahi le sakte aur hota yah hai ki jiski wajah se aapke andar ek pata nahi saamne waale ke samajh me I meri baat ya nahi I toh is wajah se ek sher paida ho jata hai aur usme aap hi samjhiye ki is affair aur uske baad bhi aisa hota hai ki kabhi kabhi kuch log aise hote hain ki jo ki bheed me comment karte hain kuch log aise hote hain jo aapki baat ko nahi sunte aur moment karte rehte hain disturb karte hain jab baaton me lage hue hote hain ya kuch aur is tarah ki activity hoti hai jisse aapko yah lagta hai ki vaah saamne waale sun rahi rahe hain aur main itne logo ke saamne khada hoon toh iski wajah se ek sher paida hota hai ab isme kya taki aksar log sun rahe hote hain do char percent log hamesha rehte hain jo ki aapki baat ko nahi sunenge joki joki aapki baat ko criticize bhi karenge aur voting bhi karenge aur kuch galat par comment bhi kar sakte hain lekin ab tak agar aapke paas content hai aapke paas material accha hai aapka aapke paas 51c hai speaking ki toh phir ab vaah aapko jo dusre log hain jo aapke paas hai murde 95 se 95 log hain vaah aapki baat ko sunenge toh ab yahan par kya hota ki hamesha hamara kansantreshan kya hota hai ki dusri taraf chala jata hai jo thode se log hote hain unki taraf jo ki aapko kritarasaij kar rahi is wajah se order paida hote toh aapko yahan par yah baat chodo is baat ko balloon do char percent logo par bilkul dhyan nahi dena aapko jo 90 95 log hain un par aapko concentrate hona hai aur hamesha yah dhyan rakhna hai ki aap yah log baat sun rahe hain teesri baat toh main kahunga ki jisme ki aapko apni baat par bharosa hona chahiye aksar aisa hota hai ki hum jo kuch keh rahe hain hum hamein apni baat par confidence na hone ki wajah se hum itne saare logo ke saamne hamein yah mehsus hota hai ki kahin hamari baat galat toh nahi hai lekin aapke paas jo bhi content hai vaah bilkul fact ho rahal hona chahiye ya phir aapko bilkul bharosa hona chahiye ki jo kuch bhi main kehne ja raha hoon darj kare aur yah jo ab correctness ke aapko ek ehsaas hoga iski wajah se aapke andar confidence develop hoga ab yah toh vaah matter ko lekar tamaam cheezen ho gayi dusri cheez confidence ko lekar agar hum baat kare public speaking ke andar toh aapko practice karni chahiye aapko jaise ki aap akele me bolne ki practice kabhi kabhi toh insaan ko agar koi singles person bhi usko sun raha ho toh bhi usko ajib sa mehsus hota hai agar is tarike se connect hai aapko toh pehle aap akele me bolna shuru kariye akele me bolte bolte bolte bolte aur uske baad jab bhi aapko do char logo ke beech me bolne ka mauka mile wahan par aap practice kariye aur is tarike se aur bilkul kabhi kabhi aankhen band kar kar ke practice kariye kabhi aankhen kholakar practice kariye aur is tarike se aap dusri cheez aap apni jab bhi practice kare aap recording kariye recording karne ke baad aap usko dobara dekhiye watch kare aur usme koi agar aapko kami lagti hai kuch problem aati hai toh usko correct karne ki koshish kari tarike se aapka confidence buildup hoga ab confidence dhire dhire dhire dhire aap par aap apna content accha kar lenge aap apni body language achi kar lenge aapke paas se aapko mehnat karni padegi vaah kal capacity par apni jo aur kaun hai vaah kal aapki agency hai aur uska pic hai maloom kitna zyada hai kitna speed hai is tarike se in tamaam chijon ko aap ko control karna padega jisse ki adiyans par ek palitifaikt padega aur devi take interest in you aur isse aapke andar bhi confidence paida hoga aur do char baar jaise hi aap logo ke saamne jaenge likhiye yah cheez ko maine hamesha mehsus kiya ki tamaam practice ke baad bhi jab hum logo ke saamne jaate hain toh bhi hamko ek nervousness mehsus hoti hai aur ek bada clear mehsus hota aur yah piyar jab tak aap jaenge nahi tab tak khatam nahi hoga aapko risk lena padega aapko risk lena padega jaise jaise aap risk lete chale jaenge aapka pir khatam hota hai aa jaega ab aaj ke waqt me iska sabse aapko ek bahut accha halaki hundred percent toh nahi lekin ek bahut accha tool hai youtube youtube par videos banakar kisi topic par kisi subject par jo subject aur video of like pasand karte hain us par aap banakar daaliye aur usko logo ko share kariye aur dekhiye aur sunne ke liye tab aapke man me ek kam se kam itna phir zaroor hoga ki main video bana raha hoon ise kuch log dekhenge mere dost dekhenge mere jaanne waale rishtedar maa baap ya kuch na kuch log dekhenge toh aapke jehan me ek clear hoga lekin yah bahut accha tool hai jisse kiya kam se kam aapka piyar ko hatane me sher ko khatam karne me aapko bahut badi help milegi aur is tarike se dekhiye regular practice se hi aap aur jo aap apni confidence ko increase kar sakte hain apne affair ko bhaga sakte hain aap jo bhi practice kare uske recording kare aur usko aap dobara zaroor dekhen agar aapko yah jawahar lage iske alava aapko youtube par aur tamaam cheezen available hai bahut saari Materials waale bahut saare channels available hai vaah aapko batayenge ki aap kaise behtar se behtar public speaking me apna confidence develop karte hain kar sakte hain agar aapko yah jawab pasand aaye toh aap ise like zaroor kariega bahut bahut shukriya

हेलो फ्रेंड मैं आपका यह क्वेश्चन लेने की कोशिश कर रहा हूं और अगर आपको यह जवाब अच्छा लगे तो

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Abdullah Qureshi

Assistant Professor

2:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जी सवाल आपका बहुत ही उम्दा है आपने कहा कि पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस के चलाए यानी कि जब लोगों के बीच आप जाना चाहे तो वहां पर आपके अंदर कॉन्फिडेंस कैसे पैदा हो आप किस तरह से अपने आपको कॉन्फिडेंट करके लोगों के बीच में अपनी बात रखें यही आप का सवाल है तो सुनिए मेरी बात अभी करीबन चार पांच साल पहले की बात है कि मुझे भी बहुत ज्यादा एजुकेशन जो है वह होता था अपनी बात रखते हुए 4 लोगों के बीच में में जाकर भी बात भी नहीं रख पाता था परंतु आज स्थितियां बिल्कुल बदल रही है तो आखिर ऐसा हुआ कैसे अपने ही एग्जांपल से आपको कुछ बातें समझाना चाहूंगा देखिए हमारे पास कई बार ज्ञान बहुत होता है समझ बहुत होती है हम सबकी जान बावजूद हम लोग की वजह से हम लोग समझ नहीं पाते धीरे-धीरे दर्पण के सामने सामने बचाएं घबराहट होती है वह उर्दू सब्जेक्ट तब भी हमें कॉन्फ्रेंस में आपको काम करना खुद की घबराहट और उस एजुकेशन को खत्म करना है और वह आप ज्यादा ज्यादा अपने परिवार के लोगों अपने खास दोस्तों 245 जो आपके खास दोस्त है जिनके साथ आप बहुत कूल हैं बहुत फ्री हैं ओपन हैं इंडिपेंडेंट है कोई दिक्कत नहीं पर जब आप बोलने जा रहे हो तो उसका दाया बाया ऊपर नीचे सब तैयार करके उसने भी मना रही हो कितनी भी उलझन ने कितनी भी तकलीफ क्यों ना रही हो आप अपने आप को वहां पर मजबूत रख पाएंगे क्योंकि आपके पास उससे जुड़ा ज्ञान है तो मेरे दोस्त बिल्कुल नहीं घबराना है सोशल मीडिया पर आप जाएं वहां बातचीत करें अपनी वीडियो बनाया यूट्यूब पर डाले पहले अपनी बातें रखें लिखकर चित्र वगैरह पर रखे हैं क्यूट करें यह सब चीजें करने के बाद जो है अपने आप को और मजबूत कर सकते हैं ऐसा मेरा मानना है धन्यवाद

namaskar ji sawaal aapka bahut hi umda hai aapne kaha ki public speaking confidence ke chalaye yani ki jab logo ke beech aap jana chahen toh wahan par aapke andar confidence kaise paida ho aap kis tarah se apne aapko confident karke logo ke beech me apni baat rakhen yahi aap ka sawaal hai toh suniye meri baat abhi kariban char paanch saal pehle ki baat hai ki mujhe bhi bahut zyada education jo hai vaah hota tha apni baat rakhte hue 4 logo ke beech me me jaakar bhi baat bhi nahi rakh pata tha parantu aaj sthitiyan bilkul badal rahi hai toh aakhir aisa hua kaise apne hi example se aapko kuch batein samajhana chahunga dekhiye hamare paas kai baar gyaan bahut hota hai samajh bahut hoti hai hum sabki jaan bawajud hum log ki wajah se hum log samajh nahi paate dhire dhire darpan ke saamne saamne bachaen ghabarahat hoti hai vaah urdu subject tab bhi hamein conference me aapko kaam karna khud ki ghabarahat aur us education ko khatam karna hai aur vaah aap zyada zyada apne parivar ke logo apne khas doston 245 jo aapke khas dost hai jinke saath aap bahut cool hain bahut free hain open hain independent hai koi dikkat nahi par jab aap bolne ja rahe ho toh uska daya baya upar niche sab taiyar karke usne bhi mana rahi ho kitni bhi uljhan ne kitni bhi takleef kyon na rahi ho aap apne aap ko wahan par majboot rakh payenge kyonki aapke paas usse juda gyaan hai toh mere dost bilkul nahi ghabrana hai social media par aap jayen wahan batchit kare apni video banaya youtube par dale pehle apni batein rakhen likhkar chitra vagera par rakhe hain cute kare yah sab cheezen karne ke baad jo hai apne aap ko aur majboot kar sakte hain aisa mera manana hai dhanyavad

नमस्कार जी सवाल आपका बहुत ही उम्दा है आपने कहा कि पब्लिक स्पीकिंग कॉन्फिडेंस के चलाए यानी

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  261
WhatsApp_icon
user

vishnupriya

Kavyitri

0:17
Play

Likes  10  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

satyaveer singh

Satya Traders

0:20
Play

Likes  8  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पब्लिक स्पीकिंग में विश्वास और कॉन्फिडेंस लाने के लिए आप सबसे पहले कोई कविता कोई टॉपिक यहां कोई फिल्मी डायलॉग कुछ भी आप एक प्यार कर लो उसके बाद आप शीशे के सामने खड़े होकर उसको बोले और उस दौरान अपने हाव-भाव और बॉडी की लैंग्वेज को नोट करें धीरे-धीरे जो है आप पाएंगे कि आपकी बॉडी लैंग्वेज और आपके हाव-भाव जो हैं बेहतर हो रहे हैं फिर आप दोस्तों के सामने बात कर सकते हैं फिर आप अपनी क्लास रूम में बात कर सकते हैं ऐसे आप में धीरे-धीरे आत्मविश्वास की बढ़ोतरी होगी तो आप जो है पब्लिक स्पीकिंग आराम से कर पाएंगे

public speaking me vishwas aur confidence lane ke liye aap sabse pehle koi kavita koi topic yahan koi filmy dialogue kuch bhi aap ek pyar kar lo uske baad aap shishe ke saamne khade hokar usko bole aur us dauran apne hav bhav aur body ki language ko note kare dhire dhire jo hai aap payenge ki aapki body language aur aapke hav bhav jo hain behtar ho rahe hain phir aap doston ke saamne baat kar sakte hain phir aap apni class room me baat kar sakte hain aise aap me dhire dhire aatmvishvaas ki badhotari hogi toh aap jo hai public speaking aaram se kar payenge

पब्लिक स्पीकिंग में विश्वास और कॉन्फिडेंस लाने के लिए आप सबसे पहले कोई कविता कोई टॉपिक यहा

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी पब्लिक के सामने बात करनी है तो यकीनन आपको जो है अपने पर ज्यादा भरोसा करना चाहिए और आपका जो भी आप अगर आप ऐसे बोलना चाहते हैं अगर आप डिलीट करना चाहते तो अगर आप अपने पंचायत के रखेंगे और जो है अपना कॉन्फिडेंस है वह सबको अपनी बात बोलेंगे तो आपका मैसेज है वह तक जरूर पहुंचेगा

abhi public ke saamne baat karni hai toh yakinan aapko jo hai apne par zyada bharosa karna chahiye aur aapka jo bhi aap agar aap aise bolna chahte hain agar aap delete karna chahte toh agar aap apne panchayat ke rakhenge aur jo hai apna confidence hai vaah sabko apni baat bolenge toh aapka massage hai vaah tak zaroor pahunchaega

अभी पब्लिक के सामने बात करनी है तो यकीनन आपको जो है अपने पर ज्यादा भरोसा करना चाहिए और आपक

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  273
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!