जब कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है, तो उसे कुछ नहीं पता रहता है कि उसके क्या साथ हो रहा है भगवान ही जाने कि मैं कैसे से डिप्रेशन बाहर आया हूँ, पर अब क्या करूँ और कैसे करूँ मेरा तो सब कुछ बर्बाद हो गया है, मैं क्या करूँ?...


user

Yogendra Sharma

Motivational Speaker | Career Coach | Business Coach | Marketing & Management Expert's

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ताकि उसके सारा हो रहा है भगवान की चाहिए कैसे डिप्रेशन क्या करूं कहना चाहते हैं तो जिंदगी जीना चाहते थे कुछ करना चाहती थी कर सकते

taki uske saara ho raha hai bhagwan ki chahiye kaise depression kya karu kehna chahte hain toh zindagi jeena chahte the kuch karna chahti thi kar sakte

ताकि उसके सारा हो रहा है भगवान की चाहिए कैसे डिप्रेशन क्या करूं कहना चाहते हैं तो जिंदगी ज

Romanized Version
Likes  457  Dislikes    views  2479
WhatsApp_icon
20 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Mansukh Aachlia

Psychiatrist

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसे कुछ नहीं पता रहता है कि उसके साथ क्या हो रहा है भगवान ही जाने कि मैं कैसे डिप्रेशन से बाहर आ सकता हूं और अब क्या करूं डिप्रेशन कैसे ऑपरेशन करते हैं उसमें चिंता का जो भाग है वह वोट पड़ा रहता है इसको बोलते हैं कि वह हर दिन उसकी चिंता बढ़ते बढ़ते बढ़ते बढ़ते जाती है और एक चिंता इतनी बढ़ जाती है कि वह कंट्रोल नहीं कर पाता और हमेशा वह और स्वस्थ रहता है पहचान लेता है उसे नींद नहीं आती है हमेशा नेगेटिव थॉट्स उसके दिमाग 9929 आज उसका अच्छा नहीं जाता है फिर चिड़चिड़ापन बढ़ता है बढ़ जाता है गुस्सा बढ़ जाता है तो मुझे ऐसा लगता है कि डिप्रेशन के लिए आपको इतनी ज्यादा तकलीफ है कि आप ऐसा बता रहे कि मेरे साथ ऐसा क्यों भगवान कर रहा है मुझे समझ में नहीं आ रहा है इसका मतलब है कि आप को बहुत बड़ा बहुत बड़ी डिप्रेशन की बीमारी है अब डब्ल्यूएचओ ने ऐसा कहा है कि डिप्रेशन लिए पूरे दुनिया में 25% तक जा चुका है तुम मेरा ऐसा मानना है कि इसके लिए आपको ऐसा लग रहा है कि

jab koi bhi insaan depression me rehta hai toh use kuch nahi pata rehta hai ki uske saath kya ho raha hai bhagwan hi jaane ki main kaise depression se bahar aa sakta hoon aur ab kya karu depression kaise operation karte hain usme chinta ka jo bhag hai vaah vote pada rehta hai isko bolte hain ki vaah har din uski chinta badhte badhte badhte badhte jaati hai aur ek chinta itni badh jaati hai ki vaah control nahi kar pata aur hamesha vaah aur swasth rehta hai pehchaan leta hai use neend nahi aati hai hamesha Negative thoughts uske dimag 9929 aaj uska accha nahi jata hai phir chidchidapan badhta hai badh jata hai gussa badh jata hai toh mujhe aisa lagta hai ki depression ke liye aapko itni zyada takleef hai ki aap aisa bata rahe ki mere saath aisa kyon bhagwan kar raha hai mujhe samajh me nahi aa raha hai iska matlab hai ki aap ko bahut bada bahut badi depression ki bimari hai ab WHO ne aisa kaha hai ki depression liye poore duniya me 25 tak ja chuka hai tum mera aisa manana hai ki iske liye aapko aisa lag raha hai ki

जब कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसे कुछ नहीं पता रहता है कि उसके साथ क्या हो रहा

Romanized Version
Likes  451  Dislikes    views  5289
WhatsApp_icon
play
user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

4:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है कि जब कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसे कुछ नहीं पता रहता कि उसके साथ क्या होगा लेकिन अब मेरा सब कुछ बर्बाद हो गया मैं क्या करूं आपको पहले तो बहुत बहुत बधाई कि आप डिप्रेशन से बाहर आ गए हो आजा अब नॉर्मल जिंदगी जी सकते हो आप सब कुछ बर्बाद हो गया अब क्या करें अभी डिप्रेशन से बाहर है अभी फिर आप यह नेगेटिव मत सोचिए कुछ नॉर्मल रूटीन में मान लीजिए स्वीकार कर लीजिए पता नहीं आप कितने साल से डिप्रेशन में थे अब बाहर आए हो जो जो कुछ भी हुआ है जो कुछ बर्बाद हो गया वह 16 संभावित का आप डिप्रेशन में थे आपका कोई बस नहीं था आप कुछ कर नहीं सकते थे उसको मांग लीजिए मान कुछ नहीं कर सकती कोई भी नहीं है कि आप नहीं कर सकते थे कोई भी डिप्रेशन में जब चला जाता है तो उससे उसको समझ में नहीं आती मेरे साथ क्या हो रहा है जैसे आपके साथ हुआ और वह कुछ कर ही नहीं सकता है इसलिए कृपया कृपया कृपया अपने लिए अपने परिवार के लिए अपने के दुश्मन बुधवार आशिक हो सकता है मेरा बिगड़ गया मेरा टिकट के बारे में सोचते रहोगे तो फिर से कोई आपको नौकरी कब छोटी से छोटी नौकरी करनी पड़ेगी छोटी सी छोटी दुकान कोई छोटा काम कुछ भी करना शुरू कर दूंगा यह मत देखो कि वही राम बिजुरिया बिजुरिया मैं क्या करूं पर पश्चाताप मत करते रहो क्योंकि आपके बस का नहीं था आपका कोई दोस्त नहीं है जो बिगड़ा है रेशम होगा कि आप और अगर दोगे तो अभी डिप्रेशन से बाहर आए हो तो कुछ मेहरबानी करके अपने ऊपर मेहरबानी करके छोटे से छोटा काम शुरू कर दो मुझे नहीं पता आप की क्या इंटरेस्ट है आपकी क्या हुनर है क्या चीज है जो भी आप किसके ऊपर जो भी हो न हो जो भी आपकी पसंद हो उसको शुरू कर दीजिए शुरू कर दी और नीचे फिर बताएंगे तो हम आपको बता सकता है कि आप सुनकर आपके पास लैंड है कुछ तो बात तो कर सकते हो बहुत संभावना है आप करो कमर्शियल प्लॉट गेहूं चावल और ऑर्गेनिक सब्जियों का यह बहुत लोगों को क्रेज है आजकल उनके नहीं करते तो आप ईमानदारी से छोटे से जमीन का टुकड़ा भी आपके पास अगर है 500 गज जमीन का टुकड़ा है तो उसमें भी आप एकदम हो सकती हैं आप उसको जो वह लाइन में लगा सकते हो तो मंजिल में लगा सकते हो लेकिन आपका इंटरेस्ट है या नहीं अपने आप पर हो तभी होगा जब आप कुछ भी काम शुरू कर देंगे कुछ अच्छा पड़ेंगे कुछ टिप्स आपके साथ अच्छा ही अच्छा हो इसके साथ

prashna hai ki jab koi bhi insaan depression me rehta hai toh use kuch nahi pata rehta ki uske saath kya hoga lekin ab mera sab kuch barbad ho gaya main kya karu aapko pehle toh bahut bahut badhai ki aap depression se bahar aa gaye ho aajad ab normal zindagi ji sakte ho aap sab kuch barbad ho gaya ab kya kare abhi depression se bahar hai abhi phir aap yah Negative mat sochiye kuch normal routine me maan lijiye sweekar kar lijiye pata nahi aap kitne saal se depression me the ab bahar aaye ho jo jo kuch bhi hua hai jo kuch barbad ho gaya vaah 16 sambhavit ka aap depression me the aapka koi bus nahi tha aap kuch kar nahi sakte the usko maang lijiye maan kuch nahi kar sakti koi bhi nahi hai ki aap nahi kar sakte the koi bhi depression me jab chala jata hai toh usse usko samajh me nahi aati mere saath kya ho raha hai jaise aapke saath hua aur vaah kuch kar hi nahi sakta hai isliye kripya kripya kripya apne liye apne parivar ke liye apne ke dushman budhavar aashik ho sakta hai mera bigad gaya mera ticket ke bare me sochte rahoge toh phir se koi aapko naukri kab choti se choti naukri karni padegi choti si choti dukaan koi chota kaam kuch bhi karna shuru kar dunga yah mat dekho ki wahi ram bijuriya bijuriya main kya karu par pashchaataap mat karte raho kyonki aapke bus ka nahi tha aapka koi dost nahi hai jo bigda hai resham hoga ki aap aur agar doge toh abhi depression se bahar aaye ho toh kuch meharbani karke apne upar meharbani karke chote se chota kaam shuru kar do mujhe nahi pata aap ki kya interest hai aapki kya hunar hai kya cheez hai jo bhi aap kiske upar jo bhi ho na ho jo bhi aapki pasand ho usko shuru kar dijiye shuru kar di aur niche phir batayenge toh hum aapko bata sakta hai ki aap sunkar aapke paas land hai kuch toh baat toh kar sakte ho bahut sambhavna hai aap karo commercial plot gehun chawal aur organic sabjiyon ka yah bahut logo ko craze hai aajkal unke nahi karte toh aap imaandaari se chote se jameen ka tukda bhi aapke paas agar hai 500 gaj jameen ka tukda hai toh usme bhi aap ekdam ho sakti hain aap usko jo vaah line me laga sakte ho toh manjil me laga sakte ho lekin aapka interest hai ya nahi apne aap par ho tabhi hoga jab aap kuch bhi kaam shuru kar denge kuch accha padenge kuch tips aapke saath accha hi accha ho iske saath

प्रश्न है कि जब कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसे कुछ नहीं पता रहता कि उसके साथ क्य

Romanized Version
Likes  671  Dislikes    views  5955
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसकी कुछ नहीं पता रहता कि क्या साथ और अब भगवान ही जाने में कैसी थी पर अब क्या करूं और कैसे कैसे भी उनका सामना करो और बेहतरीन ढंग से सामना करो निश्चित तौर पर आगे बढ़ जाएंगे और आगे भी अपने कारोबार को कृपया जैसे भी इस्तेमाल करते हैं और सावधानियां बरतें

jab koi bhi insaan depression me rehta hai toh uski kuch nahi pata rehta ki kya saath aur ab bhagwan hi jaane me kaisi thi par ab kya karu aur kaise kaise bhi unka samana karo aur behtareen dhang se samana karo nishchit taur par aage badh jaenge aur aage bhi apne karobaar ko kripya jaise bhi istemal karte hain aur savdhaniya barte

जब कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसकी कुछ नहीं पता रहता कि क्या साथ और अब भगवान ही

Romanized Version
Likes  449  Dislikes    views  4426
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न बड़ा स्पष्ट या तो तो ठीक है कि नहीं लगता है उसके साथ क्या होगा वापी कि नहीं बताया है आपने लिखा भगवान ही लाली मैं कैसे मैं डिप्रेशन से बाहर आया हूं आप ने यह नहीं बताया कि आप डिप्रेशन से कैसे बाहर आए क्या आपने डॉक्टर से शिपमेंट करवाया क्या आपने मनोवैज्ञानिक पर अब मैं क्या करूं और कैसे करूं यह अपने आप में अपनी लड़ाई की थी और कुछ भी बर्बाद नहीं हुआ है लेकिन आगे बढ़ने के लिए कोई उम्र सीमा नहीं है आप यदि आप की भी अधूरी रह गई है तो आप भी पढ़ाई करें और इसी वक्त आप की सरकारी नौकरी क्यों बंद चल जाए पढ़ाई पूरी करने में प्राइवेट जॉब शेयर करें और यदि आप इसी लाइफ में नहीं है तो कम से कम मेहनत तो कर सकते हैं किसी भी व्यवसाय से जुड़े जाए या कोई भी छोटी-मोटी नौकरी में हमेशा सकारात्मक परेशान हो रहा कल्याण

aapka prashna bada spasht ya toh toh theek hai ki nahi lagta hai uske saath kya hoga vaapee ki nahi bataya hai aapne likha bhagwan hi laali main kaise main depression se bahar aaya hoon aap ne yah nahi bataya ki aap depression se kaise bahar aaye kya aapne doctor se shipment karvaya kya aapne manovaigyanik par ab main kya karu aur kaise karu yah apne aap me apni ladai ki thi aur kuch bhi barbad nahi hua hai lekin aage badhne ke liye koi umar seema nahi hai aap yadi aap ki bhi adhuri reh gayi hai toh aap bhi padhai kare aur isi waqt aap ki sarkari naukri kyon band chal jaaye padhai puri karne me private job share kare aur yadi aap isi life me nahi hai toh kam se kam mehnat toh kar sakte hain kisi bhi vyavasaya se jude jaaye ya koi bhi choti moti naukri me hamesha sakaratmak pareshan ho raha kalyan

आपका प्रश्न बड़ा स्पष्ट या तो तो ठीक है कि नहीं लगता है उसके साथ क्या होगा वापी कि नहीं

Romanized Version
Likes  414  Dislikes    views  4139
WhatsApp_icon
user

Amit Kumar Ranjan

Psychologist

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या बर्बाद हो गया आपकी जीवन बची यह बहुत बड़ी बात है इस जीवन का मूल नहीं है अगर आप डिप्रेशन में थे डिप्रेशन से बाहर आ चुके हैं तो फिर से यह दुनिया खड़ी कर सकते आप में ताकत है आप किस से एक नई दुनिया बना बना सकते हैं बस खुद पर विश्वास रखे अपने ईश्वर पर विश्वास रखें जो व्यक्ति डिप्रेशन से निकल सकता है उसके लिए और चीजें क्या मायने रखती है अपने मोरल को चेक कीजिए आप हर क्षेत्र में कामयाब होंगे आप कर सकते हैं और कीजिएगा जो भी आप काम करना चाहते हैं मन लगाकर कीजिए एक लांडे के तहत कीजिए आप उसमें सक्सेस हो जाएगा या नहीं सोची है कि मेरा सब कुछ बर्बाद हो गया क्या बर्बाद हुआ आपने मेहनत से खड़ा किया होगा आपके डिप्रेशन में जाने के बाद बिना रखरखाव के वह खराब हो गया होगा अपना उसको खड़ा कर सकते हैं या कम बड़ी बात है कि आप डिप्रेशन से बाहर निकले हुए हैं बहुत बड़ी बात है व्यक्ति ठान ले तो उसकी विजय निश्चित है

kya barbad ho gaya aapki jeevan bachi yah bahut badi baat hai is jeevan ka mul nahi hai agar aap depression me the depression se bahar aa chuke hain toh phir se yah duniya khadi kar sakte aap me takat hai aap kis se ek nayi duniya bana bana sakte hain bus khud par vishwas rakhe apne ishwar par vishwas rakhen jo vyakti depression se nikal sakta hai uske liye aur cheezen kya maayne rakhti hai apne moral ko check kijiye aap har kshetra me kamyab honge aap kar sakte hain aur kijiega jo bhi aap kaam karna chahte hain man lagakar kijiye ek lande ke tahat kijiye aap usme success ho jaega ya nahi sochi hai ki mera sab kuch barbad ho gaya kya barbad hua aapne mehnat se khada kiya hoga aapke depression me jaane ke baad bina rakharakhav ke vaah kharab ho gaya hoga apna usko khada kar sakte hain ya kam badi baat hai ki aap depression se bahar nikle hue hain bahut badi baat hai vyakti than le toh uski vijay nishchit hai

क्या बर्बाद हो गया आपकी जीवन बची यह बहुत बड़ी बात है इस जीवन का मूल नहीं है अगर आप डिप्रेश

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  94
WhatsApp_icon
user

Janki Soori Gour

Counselling Psychologist

1:09
Play

Likes  46  Dislikes    views  592
WhatsApp_icon
user

रवि प्रकाश सिंह"रमण"

Industrialist/Businessman/Poet/Writer

2:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अभी आप अभी अभी डिप्रेशन से निकले हैं और फिर आपके दिमाग में जो चल रहा है वह फिर आपको डिप्रेशन की हालात में पहुंचा देगा आपने जो प्रश्न किया है उसको अनुसार फिर आपका जो दिमाग है तो फिर नेगेटिव साइड में दौड़ना और डिप्रेशन का यही कारण होता है तो मान लिया कि आप सालों डिप्रेशन में रहे जिसके कारण आपके शरीर सभी काम जो है वह डिलीट हो गया है पटरी से उतर गया है खत्म हो गए तबाह हो गया वह दूसरी स्थिति थी वह आपके बीमारी की स्थिति थी बीमारी कभी पूछ कर आता नहीं है तो बीमार होने के बाद यदि आप आप स्वस्थ हो गए हैं तो आप सोचिए कि आप फिर नए सिरे से अपनी नई जिंदगी शुरू कर रहे हैं आपके हाथ में कुछ नहीं है जब कोई शुरुआत करने जाता है तो उसके पास कुछ नहीं होता है लेकिन वह रास्ता पकड़ कर उस पर चलना शुरू करता है और अपनी मंजिल पर पहुंच जाता है यही सोचकर नए जीवन की शुरुआत करनी चाहिए आपको ही सोच कर चलना चाहिए कि आप फिर से नई जिंदगी शुरू कर रहे हैं पिछले सभी बात सभी कार्य व्यवहार सब कुछ भूल जाए आप सोचिए कि आप एक नया एक जिंदगी की दौड़ में उत्तर एक नए खिलाड़ी यह सोचकर आप नई शुरुआत के लिए सोच के साथ में उत्साह व उमंग के साथ धन्यवाद

dekhiye abhi aap abhi abhi depression se nikle hain aur phir aapke dimag me jo chal raha hai vaah phir aapko depression ki haalaat me pohcha dega aapne jo prashna kiya hai usko anusaar phir aapka jo dimag hai toh phir Negative side me daudana aur depression ka yahi karan hota hai toh maan liya ki aap salon depression me rahe jiske karan aapke sharir sabhi kaam jo hai vaah delete ho gaya hai patri se utar gaya hai khatam ho gaye tabah ho gaya vaah dusri sthiti thi vaah aapke bimari ki sthiti thi bimari kabhi puch kar aata nahi hai toh bimar hone ke baad yadi aap aap swasth ho gaye hain toh aap sochiye ki aap phir naye sire se apni nayi zindagi shuru kar rahe hain aapke hath me kuch nahi hai jab koi shuruat karne jata hai toh uske paas kuch nahi hota hai lekin vaah rasta pakad kar us par chalna shuru karta hai aur apni manjil par pohch jata hai yahi sochkar naye jeevan ki shuruat karni chahiye aapko hi soch kar chalna chahiye ki aap phir se nayi zindagi shuru kar rahe hain pichle sabhi baat sabhi karya vyavhar sab kuch bhool jaaye aap sochiye ki aap ek naya ek zindagi ki daudh me uttar ek naye khiladi yah sochkar aap nayi shuruat ke liye soch ke saath me utsaah va umang ke saath dhanyavad

देखिए अभी आप अभी अभी डिप्रेशन से निकले हैं और फिर आपके दिमाग में जो चल रहा है वह फिर आपको

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user

Dr Kavita Choudhary

Principal Psychologist Educationist Counselor

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें डिप्रेशन की जो अवस्था होती है वह इसी तरह की होती कि हम उस वक्त हमें नहीं पता लग रहा होता है कि हम क्या-क्या खो रहे हैं क्या-क्या चीजें हमारे से दूर जाती है चलिए यह बहुत अच्छी बात है आपको बताएं कि आप डिप्रेशन से बाहर आ गए हैं लेकिन डिप्रेशन के आने की बाहर आने के बाद भी आपने कि नेगेटिविटी क्योंकि आप कैसे कह सकते हैं कि आपका सब कुछ खत्म हो गया क्या करूं कहां से शुरू करूं दिखा भी बहुत कुछ है आपके पास में जब आप खुद स्वस्थ हैं तो सब कुछ है अगर आप हैं तो आप सब कुछ दोबारा से शुरू कर सकते हैं इतनी हिम्मत रखिए तो यह जो नबी है इसको अपने अंदर से निकालिए और आप आगे बढ़ी है

dekhen depression ki jo avastha hoti hai vaah isi tarah ki hoti ki hum us waqt hamein nahi pata lag raha hota hai ki hum kya kya kho rahe hain kya kya cheezen hamare se dur jaati hai chaliye yah bahut achi baat hai aapko bataye ki aap depression se bahar aa gaye hain lekin depression ke aane ki bahar aane ke baad bhi aapne ki negativity kyonki aap kaise keh sakte hain ki aapka sab kuch khatam ho gaya kya karu kaha se shuru karu dikha bhi bahut kuch hai aapke paas me jab aap khud swasth hain toh sab kuch hai agar aap hain toh aap sab kuch dobara se shuru kar sakte hain itni himmat rakhiye toh yah jo nabi hai isko apne andar se nikaliye aur aap aage badhi hai

देखें डिप्रेशन की जो अवस्था होती है वह इसी तरह की होती कि हम उस वक्त हमें नहीं पता लग रहा

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user

BK Vishal

Rajyoga Trainer

4:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें जो हो गया सो बीत गया बेटी को भी शायरी आगे की सुध ले उस पर बिंदु लगा दीजिए पीछे अपने भूतकाल पर कटे चिंतन मत कीजिए और कदम बढ़ाएंगे जब ईश्वर ने आपको उससे डिप्रेशन से निकाल दिया है आप भी मानते हैं तो वह आगे पत्नी आपका मिसकंडक्ट करेगा परंतु उसके प्रति आपका प्रेम और निश्चय नहीं टूटना चाहिए जितना आप उसके प्रति अपना निश्चय और प्रेम बनाए रखेंगे तो आप पाएंगे कि कहीं ना कि आपके लिए आगे बहुत कुछ करने के लिए मिलेगा जो पीछे छूट गया उससे भी कहीं ज्यादा आप आगे बढ़ सकते हैं बशर्ते आप नियम अनुसार आगे बढ़े परमात्मा के प्रति निष्ठा प्रेम बनाए रखें और इसके साथ-साथ एक अपने भविष्य का अपने आने वाली योजना का एक सुंदर चित्रण करना अपने भीतर यह मान लें कि आने वाला समय आपके लिए बहुत ही अच्छा है आप बहुत उन्नति करने वाले आपका जो भी बिजनेस था आज ऑफिस जॉब में थे जो आप चाहते हैं यह मान लीजिए कि वह हो गया और दिन में उसका एक बहुत ही खूबसूरत चित्र बना करके तैयार कर लें क्रिएट करने एक दृश्य कैसा सीन के जो आप बनना चाहते तो आप होना चाहते हैं कि वह हो चुका है वह होगा नहीं हो चुका है इतना निश्चित है आप मान लीजिए अपने अंदर क्या पाएंगे कि वह जो आपने संकल्प किया है भविष्य में उसकी सृष्टि हो रही है तो उसे भविष्य को वर्तमान में लाने के लिए आपको बार-बार वह संकल्प रचना पड़ेगा और शक्तिशाली रचना पड़ेगा बड़ी पावर से बड़े विश्वास के साथ यह मान लीजिए कि आपका कल्याण हुआ पड़ा है जो बीत गया उसको बिल्कुल भी विचार ही उसकी तरफ तो देखना ही नहीं वह भूतकाल सागर भूत को याद करेंगे तो फिर वापस आकर चिट्टे का भूत को भूत में भेज दीजिए उसको एक बॉक्स में बंद करके एक कागज में लिख कहानी लिखकर के जला दीजिए भस्म कर दीजिए और अब आगे के लिए अपने आप को बिल्कुल हिंदुस्तान कल्प भाव से बढ़ने के लिए तैयार हो जाइए ईश्वर आपके साथ है डरने की कोई बात नहीं भगवान हमारा साथी है यह मानकर के इस गीत को दोहराते रहिए भगवान हमारा साथी है हम उनके संग संग रहते वह अपने संग संग रहते हैं यह बात अपने चित्र के मानस पटल पर ऐसे अंकित कर दीजिए स्वर्ण अक्षरों से के भगवान हमारा साथी है ईश्वर अपने साथ है ठीक है इसको जितना बार बार पढ़ लीजिए और महसूस किए ईश्वर आपके साथ हैं ईश्वर मैं आपकी रक्षा की ईश्वर की छत्रछाया में आंखें तो फिर कौन आपका नुकसान कर सकता है कौन आपको दुख दे सकता है कौन आपको परेशान कर सकते हैं इस तरीके के डिप्रेशन आपका ही नहीं सकता आप खुश रहें आनंद में रहिए मौज मनाइए जो हिसाब किताब आपका था पुराना कोई पाप कट गया अभी कोई पाप नहीं है अभी पुणे पुणे पुणे के लिए हमेशा तैयार है तो आप देखेंगे क्या आपको वह कर जाएंगे आपके साथ बहुत जाएगा जिसके आप ने कल्पना भी नहीं की थी क्योंकि हमारे ही विचार हमारी हानि करते हमारा लाभ गढ़ आप अपने विचारों को परखिए उन पर दृष्टि डाली और उनका शुद्धीकरण कीजिए ठीक है और देखेगा क्या कितना ऊंचाई पर जा सकते हैं निश्चित मानी मेरा विश्वास है और इस विश्वास में आप विश्वास करिए और अपने विश्वास की ताकत के आगे बढ़ी क्योंकि विश्वास ही व्यक्ति का नेता होता है समझी आपका नेता ही अगर कमजोर हो गए मैं आपका विश्वास कमजोर हो गया तो फिर आप की सेना कुछ नहीं कर सकती आप की पार्टी कुछ नहीं कर सकते ठीक है और कुछ कर भी लिया तो एक्सेप्ट नहीं करेंगे कि मैं कुछ हुआ है इसलिए अपने नेता जी को यह ने अपने विश्वास को निश्चित मान लीजिए आपको वह पाना है जो आपके लिए भविष्य में ईश्वर नगर चरक का उसका वेट कीजिए वैकेंसी वैकेंसी और आने वाले अपॉर्चुनिटी को तुरंत एक्शन कीजिए आपके लिए ठीक है आपका कल्याण होगा

dekhen jo ho gaya so beet gaya beti ko bhi shaayari aage ki sudh le us par bindu laga dijiye peeche apne bhootkaal par kate chintan mat kijiye aur kadam badhaenge jab ishwar ne aapko usse depression se nikaal diya hai aap bhi maante hain toh vaah aage patni aapka misconduct karega parantu uske prati aapka prem aur nishchay nahi tutana chahiye jitna aap uske prati apna nishchay aur prem banaye rakhenge toh aap payenge ki kahin na ki aapke liye aage bahut kuch karne ke liye milega jo peeche chhut gaya usse bhi kahin zyada aap aage badh sakte hain basharte aap niyam anusaar aage badhe paramatma ke prati nishtha prem banaye rakhen aur iske saath saath ek apne bhavishya ka apne aane wali yojana ka ek sundar chitran karna apne bheetar yah maan le ki aane vala samay aapke liye bahut hi accha hai aap bahut unnati karne waale aapka jo bhi business tha aaj office job me the jo aap chahte hain yah maan lijiye ki vaah ho gaya aur din me uska ek bahut hi khoobsurat chitra bana karke taiyar kar le create karne ek drishya kaisa seen ke jo aap banna chahte toh aap hona chahte hain ki vaah ho chuka hai vaah hoga nahi ho chuka hai itna nishchit hai aap maan lijiye apne andar kya payenge ki vaah jo aapne sankalp kiya hai bhavishya me uski shrishti ho rahi hai toh use bhavishya ko vartaman me lane ke liye aapko baar baar vaah sankalp rachna padega aur shaktishali rachna padega badi power se bade vishwas ke saath yah maan lijiye ki aapka kalyan hua pada hai jo beet gaya usko bilkul bhi vichar hi uski taraf toh dekhna hi nahi vaah bhootkaal sagar bhoot ko yaad karenge toh phir wapas aakar chitte ka bhoot ko bhoot me bhej dijiye usko ek box me band karke ek kagaz me likh kahani likhkar ke jala dijiye bhasm kar dijiye aur ab aage ke liye apne aap ko bilkul Hindustan kalp bhav se badhne ke liye taiyar ho jaiye ishwar aapke saath hai darane ki koi baat nahi bhagwan hamara sathi hai yah maankar ke is geet ko dohrate rahiye bhagwan hamara sathi hai hum unke sang sang rehte vaah apne sang sang rehte hain yah baat apne chitra ke manas patal par aise ankit kar dijiye swarn aksharon se ke bhagwan hamara sathi hai ishwar apne saath hai theek hai isko jitna baar baar padh lijiye aur mehsus kiye ishwar aapke saath hain ishwar main aapki raksha ki ishwar ki chatrachaya me aankhen toh phir kaun aapka nuksan kar sakta hai kaun aapko dukh de sakta hai kaun aapko pareshan kar sakte hain is tarike ke depression aapka hi nahi sakta aap khush rahein anand me rahiye mauj manaiye jo hisab kitab aapka tha purana koi paap cut gaya abhi koi paap nahi hai abhi pune pune pune ke liye hamesha taiyar hai toh aap dekhenge kya aapko vaah kar jaenge aapke saath bahut jaega jiske aap ne kalpana bhi nahi ki thi kyonki hamare hi vichar hamari hani karte hamara labh garh aap apne vicharon ko parkhiye un par drishti dali aur unka shudhikaran kijiye theek hai aur dekhega kya kitna unchai par ja sakte hain nishchit maani mera vishwas hai aur is vishwas me aap vishwas kariye aur apne vishwas ki takat ke aage badhi kyonki vishwas hi vyakti ka neta hota hai samjhi aapka neta hi agar kamjor ho gaye main aapka vishwas kamjor ho gaya toh phir aap ki sena kuch nahi kar sakti aap ki party kuch nahi kar sakte theek hai aur kuch kar bhi liya toh except nahi karenge ki main kuch hua hai isliye apne neta ji ko yah ne apne vishwas ko nishchit maan lijiye aapko vaah paana hai jo aapke liye bhavishya me ishwar nagar charak ka uska wait kijiye vacancy vacancy aur aane waale opportunity ko turant action kijiye aapke liye theek hai aapka kalyan hoga

देखें जो हो गया सो बीत गया बेटी को भी शायरी आगे की सुध ले उस पर बिंदु लगा दीजिए पीछे अपने

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  41
WhatsApp_icon
user

Deepesh

Psychologist

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा आपको सिर्फ लग रहा है कि सब कुछ बर्बाद हो गया बट अगर आप ध्यान से सोचे तो आप उस चीज से बाहर निकल के आ गए बर्बादी तो खत्म हो चुकी है जो चल रही थी अब आपके पास सोचने समझने और उसके प्रति कर्म करने की शक्ति आ चुकी है कि जितनी भी बातें बिगड़ी थी उनको वापस से सुधार ले जाए तो शायद पहले होना मुमकिन नहीं था तो फिर आप ऐसा सोचने की सब कुछ बर्बाद हो गया था बहुत गलत सोच रहे हैं इससे अच्छी चीज कोई हो ही नहीं सकती थी कि आप डिप्रेशन से बाहर आ गए अब बस जरूरत है तो शांत मन से सारी चीजों को एनालाइज करके उनके पर विचार करके धीरे-धीरे करके उनका समाधान निकाला जाए

aisa aapko sirf lag raha hai ki sab kuch barbad ho gaya but agar aap dhyan se soche toh aap us cheez se bahar nikal ke aa gaye barbadi toh khatam ho chuki hai jo chal rahi thi ab aapke paas sochne samjhne aur uske prati karm karne ki shakti aa chuki hai ki jitni bhi batein bigadi thi unko wapas se sudhaar le jaaye toh shayad pehle hona mumkin nahi tha toh phir aap aisa sochne ki sab kuch barbad ho gaya tha bahut galat soch rahe hain isse achi cheez koi ho hi nahi sakti thi ki aap depression se bahar aa gaye ab bus zarurat hai toh shaant man se saari chijon ko analyse karke unke par vichar karke dhire dhire karke unka samadhan nikaala jaaye

ऐसा आपको सिर्फ लग रहा है कि सब कुछ बर्बाद हो गया बट अगर आप ध्यान से सोचे तो आप उस चीज से

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह आप मन मंदिर में हूं कि कारण रहता है इसलिए हटानी हरकत करता है कंट्रोल करो उसको कंट्री नेम अनीता को युवा कराओ डिफरेंस किस में आता है कि मन एकाग्र जीत नहीं है मुझे क्या करना है क्या नहीं करना है कैसे मां-बाप से आना है बड़े कौन है छोटा कौन है इस बैक करना नहीं करना इसका मंगलत रहता है इसलिए उसको या उसकी कोई नशे की आदत होगी या पैसा ही कमी होगी या किसी प्रकार की समस्या होगी उसने दिखावे के लिए टाइप का व्यवहार करता है

yah aap man mandir me hoon ki karan rehta hai isliye hataani harkat karta hai control karo usko country name anita ko yuva karao difference kis me aata hai ki man ekagra jeet nahi hai mujhe kya karna hai kya nahi karna hai kaise maa baap se aana hai bade kaun hai chota kaun hai is back karna nahi karna iska mangalat rehta hai isliye usko ya uski koi nashe ki aadat hogi ya paisa hi kami hogi ya kisi prakar ki samasya hogi usne dikhaave ke liye type ka vyavhar karta hai

यह आप मन मंदिर में हूं कि कारण रहता है इसलिए हटानी हरकत करता है कंट्रोल करो उसको कंट्री ने

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Jitendra Gupta

Social Worker

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मित्र आपने लिखा है जब कोई इंसान रहता है आपकी बात थोड़ी है कि यहां सिर्फ आपके पास जब आप अंधेरे में होते हो तो आपको जरूर ज्यादा जरूर आप जो गीता में भी लिखा हुआ है बिछड़ने के बिखरने के लिए आपको भी करना जरूरी है आप देख रहे हैं इंसान हमें लगेगा समय-समय पर अपने परिवार के साथ आपके जीवन का अंधेरा खत्म हो जाएगा टेंशन

namaskar mitra aapne likha hai jab koi insaan rehta hai aapki baat thodi hai ki yahan sirf aapke paas jab aap andhere me hote ho toh aapko zaroor zyada zaroor aap jo geeta me bhi likha hua hai bichadane ke bikharane ke liye aapko bhi karna zaroori hai aap dekh rahe hain insaan hamein lagega samay samay par apne parivar ke saath aapke jeevan ka andhera khatam ho jaega tension

नमस्कार मित्र आपने लिखा है जब कोई इंसान रहता है आपकी बात थोड़ी है कि यहां सिर्फ आपके पास

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user

bokka kamat

Bakwaas Karna

7:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो नमस्कार मैं प्रदीप कुमार आशा करते हैं आप सभी अच्छे होंगे देखिए सबसे पहले तो मैं आपको बता दूं डिप्रेशन एक पेज है जहां पर व्यक्ति अपने आप को बिल्कुल अकेला कर लेता है और यह वाकई बहुत खतरनाक फेज होता है लोग इसे समझ नहीं पाते हैं लेकिन डिप्रेशन एक ऐसी बीमारी है कैसी मानसिक बीमारी है कि लोगों को आत्महत्या करने को मजबूर कर देती है और उसे पता भी नहीं चलता मैं समझ सकता हूं डिप्रेशन से बाहर आए हो या नहीं आए हो या आप हो तो पहले आप अपने आप को समझो कि आप जब डिप्रेशन में गए किन कारणों से गए थे आपका लाइफ किस ओर जा रहा था अपने आप से प्यार करना सीखो जिंदगी में सबसे बड़ी जरूरी चीज क्या है कि लोग अपने आप को भूल जाते हैं कभी एकता अंत में बैठकर अपने आप से सोचो कि आप ने जन्म लिया है इस पृथ्वी पर आपको करना क्या है मनुष्य हो थोड़ी बहुत दिक्कतें आएंगी माइंड का प्रॉब्लम होता है और हर व्यक्ति को एक इमोशनल नीड होती है मैं समझ सकता हूं लोग प्यार चाहते हैं लेकिन अगर कोई व्यक्ति नहीं मिला कि आपकी गलती थोड़ी है तो सामने वाला तो गलती है कि आपको लोग ही पहचान पाते हैं दूसरों लोगों को गलती की सजा अपने आपको मत कीजिए आप सबसे बेहतर इंसान अपने आप को पहचाने अपने आप से प्यार करें और अपने आपको भी रखे डायल अपना काम करते रहिए अगर आप डिप्रेशन में है तो होता क्या कि डिप्रेशन में टाइम बर्बाद तो होता ही अपना लाइफ बर्बाद तो होता ही है और जो कुछ काम अच्छा होने वाला भी होता है वह भी बर्बाद हो जाता है अरे पैसे कमा कोई ऐसा चीज ढूंढो जैसे तुम कमा सकते वैसे अगर कम आते रहोगे अगर तुम्हारे पास बहुत अच्छी पाते हैं तो तुम देश विदेश घूम सकते हो अगर एप्लीकेशन में हो तो देखो एक काम करो डिप्रेशन में अगर हो आप देश विदेश के अंदर खत्म हो गई आप बिल्कुल शांत हो जाओगे दुनिया ऐसी चीज नहीं अपने आप को एक जगह बांधकर मत रखो दुनिया कोई ऐसी नहीं है कि बहुत खराब है घूमो तो सही देखो तो बाहर जाकर के क्या है पहाड़ घूमो नेचर में जाओ देखो आपका मन बिल्कुल बदल जाए हम अपने आप को क्या समझते हैं और यही संसार है अरे मेरे को मेरे ऊपर बहुत दिक्कत हुआ है मैं समझ सकता हूं डिप्रेशन कहती मानसिक स्थिति है जहां पर व्यक्ति अपने आप को भूल जाता है क्यों क्या कर सकता है बड़े-बड़े लोग डिप्रेशन में आए और इससे बचने का एक ही तरीका है अपने आप से प्यार करना अपने काम से खुश होना लोगों से अपेक्षाएं बंद कर दीजिए देखिए लोग तो हवा की तरह है आएंगे आपको अच्छे लगेंगे फिर चले जाएंगे लोगों का क्या है वह एक चीज होता है जब आप लोगों से कुछ बोलते हो तो लोग आपके लिए कुछ बोलते हैं और वह आपसे उस टाइम प्यार करते हैं फिर वह मस्तिष्क का जो फेस होता है आप फिर वही व्यक्ति को फिर दोबारा देखोगे तो आप आओगे उसके अंदर कितनी सारी बदलाव आ गई है जिससे आपको दुख होगा मानव जीवन ही पूरा बदलते रहते हैं तो मैं यही कहता हूं कि अपने आप से प्यार करें क्योंकि आप नहीं बदलने वाले अपने आप के लिए सबसे बड़ी जरूरी चीजें आप अपने आप से क्या करो भाई और अपना कोई लक्ष्य रखो टारगेट सेट करो कि कुछ करना है आपको जब वह टारगेट सेट करो वह पूरा होगा तो खुशियां सबसे ज्यादा अगर किसी को अच्छी लगी वापलाइक बदलेगा पैसे कमाए अपना टारगेट सेट करो करना क्या है क्या इसी दुख में अपनी जान गवा देनी है या इससे बाहर निकल कर एक पुरुषार्थ दिखाइएगा लिख सकती दिखाइएगा अपना अरे आप मनुष्य हैं कोई चुटिया कोई ऐसी जानवर नहीं है कि आप कुछ नहीं कर सकते आप को भगवान ने जन्म दिया है मनुष्य योनि में ताप को कुछ करने के लिए ही जन्म दिया होगा इस चीज का फायदा उठाएं और इश्वर के संदेश को समझें और ईश्वर ने एक सबसे बड़ी चीज दी है अज्ञात स्पिरिचुअलिज्म आफ मेडिटेशन करके अपने आप को बदल सकते अरे जब अंगुलिमाल जैसा डकैत खतरनाक गौतम बुद्ध की शरण में आने के बाद संत बनता है तो आप तो फिर भी मनुष्य हो दोस्त भगवान का सहारा लो मेरे भाई छोड़ो भगवान से प्यार करो छोड़ो इन सब मोह माया को उसका मोह माया है हम जानते हैं कहने में आसान लगता है बट सही बोलो तो यही करना होगा यही आपके पास ऑप्शन है याद दिला कर मरो या इससे बाहर निकलने के लिए रास्ता चुनो और अपने काम के प्रति प्यार करो अपने आप से प्यार करो अपने आप को टाइम दिया होगा दिन भर मोबाइल में दिनभर लोगों की बातें तरह की बातें लोग करते आप अपने आपको कब समय दिया हो तो भी सोचा है छत पर जाओ अकेले रात में अकेले बैठकर अपने आप पर टाइम दो कि आप अपनी लाइफ में अपने आप के लिए क्या करना चाहते कुछ करो मेरे दोस्त पैसे कमा घूमो फिरो लाइफ बहुत बड़ी है और तरह तरह के लोग मिलेंगे जीवन में कुछ चोर मिलेंगे तो कुछ डकैत मिलेंगे कोई ईमानदार व्यक्ति भी मिलेगा इस तरह घूमते रहोगे इस सर्कल में और एक ही जगह अटक के रह गए तो पीछे से जो आने वाले लोग होंगे वह धक्के मार के बाहर निकाल देंगे और सर कल से बाहर निकल जाओगे आप कुछ नहीं कर पाओगे कुछ करना है लाइफ में अपने आप को पहचानो अपने आपको टारगेट दो अपने आप को चैलेंज हो तब जाकर कुछ कर पाओगे नहीं तो यूं ही इस तरह जाओगे लाइफ में थोड़ा अपनी लाइफ को अच्छा बनाओ और उसके लिए अपने आप फोटो सेट करो मेडिटेशन करो अध्यात्म करो ईश्वर का सहारा लो बाकी सारी चीजें देखना सही हो जाएंगे और तुम विदीन 1 ईयर विदीन 1 ईयर मेडिटेशन करने के मात्र 10 दिन बाद बदलाव पाओगे और 1 साल में गडरिया तुम काम कर लिया तुम एक अलग लेवल पर चले जाओगे यह मेरा वादा है थैंक यू

hello namaskar main pradeep kumar asha karte hain aap sabhi acche honge dekhiye sabse pehle toh main aapko bata doon depression ek page hai jaha par vyakti apne aap ko bilkul akela kar leta hai aur yah vaakai bahut khataranaak phase hota hai log ise samajh nahi paate hain lekin depression ek aisi bimari hai kaisi mansik bimari hai ki logo ko atmahatya karne ko majboor kar deti hai aur use pata bhi nahi chalta main samajh sakta hoon depression se bahar aaye ho ya nahi aaye ho ya aap ho toh pehle aap apne aap ko samjho ki aap jab depression me gaye kin karanon se gaye the aapka life kis aur ja raha tha apne aap se pyar karna sikho zindagi me sabse badi zaroori cheez kya hai ki log apne aap ko bhool jaate hain kabhi ekta ant me baithkar apne aap se socho ki aap ne janam liya hai is prithvi par aapko karna kya hai manushya ho thodi bahut dikkaten aayengi mind ka problem hota hai aur har vyakti ko ek emotional need hoti hai main samajh sakta hoon log pyar chahte hain lekin agar koi vyakti nahi mila ki aapki galti thodi hai toh saamne vala toh galti hai ki aapko log hi pehchaan paate hain dusro logo ko galti ki saza apne aapko mat kijiye aap sabse behtar insaan apne aap ko pehchane apne aap se pyar kare aur apne aapko bhi rakhe dial apna kaam karte rahiye agar aap depression me hai toh hota kya ki depression me time barbad toh hota hi apna life barbad toh hota hi hai aur jo kuch kaam accha hone vala bhi hota hai vaah bhi barbad ho jata hai are paise kama koi aisa cheez dhundho jaise tum kama sakte waise agar kam aate rahoge agar tumhare paas bahut achi paate hain toh tum desh videsh ghum sakte ho agar application me ho toh dekho ek kaam karo depression me agar ho aap desh videsh ke andar khatam ho gayi aap bilkul shaant ho jaoge duniya aisi cheez nahi apne aap ko ek jagah bandhkar mat rakho duniya koi aisi nahi hai ki bahut kharab hai ghumo toh sahi dekho toh bahar jaakar ke kya hai pahad ghumo nature me jao dekho aapka man bilkul badal jaaye hum apne aap ko kya samajhte hain aur yahi sansar hai are mere ko mere upar bahut dikkat hua hai main samajh sakta hoon depression kehti mansik sthiti hai jaha par vyakti apne aap ko bhool jata hai kyon kya kar sakta hai bade bade log depression me aaye aur isse bachne ka ek hi tarika hai apne aap se pyar karna apne kaam se khush hona logo se apekshayen band kar dijiye dekhiye log toh hawa ki tarah hai aayenge aapko acche lagenge phir chale jaenge logo ka kya hai vaah ek cheez hota hai jab aap logo se kuch bolte ho toh log aapke liye kuch bolte hain aur vaah aapse us time pyar karte hain phir vaah mastishk ka jo face hota hai aap phir wahi vyakti ko phir dobara dekhoge toh aap aaoge uske andar kitni saari badlav aa gayi hai jisse aapko dukh hoga manav jeevan hi pura badalte rehte hain toh main yahi kahata hoon ki apne aap se pyar kare kyonki aap nahi badalne waale apne aap ke liye sabse badi zaroori cheezen aap apne aap se kya karo bhai aur apna koi lakshya rakho target set karo ki kuch karna hai aapko jab vaah target set karo vaah pura hoga toh khushiya sabse zyada agar kisi ko achi lagi vaplaik badlega paise kamaye apna target set karo karna kya hai kya isi dukh me apni jaan gawa deni hai ya isse bahar nikal kar ek purusharth dikhaiega likh sakti dikhaiega apna are aap manushya hain koi chutiya koi aisi janwar nahi hai ki aap kuch nahi kar sakte aap ko bhagwan ne janam diya hai manushya yoni me taap ko kuch karne ke liye hi janam diya hoga is cheez ka fayda uthaye aur ishvar ke sandesh ko samajhe aur ishwar ne ek sabse badi cheez di hai agyaat spirichualijm of meditation karke apne aap ko badal sakte are jab angulimal jaisa dacoit khataranaak gautam buddha ki sharan me aane ke baad sant banta hai toh aap toh phir bhi manushya ho dost bhagwan ka sahara lo mere bhai chodo bhagwan se pyar karo chodo in sab moh maya ko uska moh maya hai hum jante hain kehne me aasaan lagta hai but sahi bolo toh yahi karna hoga yahi aapke paas option hai yaad dila kar maro ya isse bahar nikalne ke liye rasta chuno aur apne kaam ke prati pyar karo apne aap se pyar karo apne aap ko time diya hoga din bhar mobile me dinbhar logo ki batein tarah ki batein log karte aap apne aapko kab samay diya ho toh bhi socha hai chhat par jao akele raat me akele baithkar apne aap par time do ki aap apni life me apne aap ke liye kya karna chahte kuch karo mere dost paise kama ghumo firo life bahut badi hai aur tarah tarah ke log milenge jeevan me kuch chor milenge toh kuch dacoit milenge koi imaandaar vyakti bhi milega is tarah ghumte rahoge is circle me aur ek hi jagah atak ke reh gaye toh peeche se jo aane waale log honge vaah dhakke maar ke bahar nikaal denge aur sir kal se bahar nikal jaoge aap kuch nahi kar paoge kuch karna hai life me apne aap ko pehchano apne aapko target do apne aap ko challenge ho tab jaakar kuch kar paoge nahi toh yun hi is tarah jaoge life me thoda apni life ko accha banao aur uske liye apne aap photo set karo meditation karo adhyaatm karo ishwar ka sahara lo baki saari cheezen dekhna sahi ho jaenge aur tum vidin 1 year vidin 1 year meditation karne ke matra 10 din baad badlav paoge aur 1 saal me gadariya tum kaam kar liya tum ek alag level par chale jaoge yah mera vada hai thank you

हेलो नमस्कार मैं प्रदीप कुमार आशा करते हैं आप सभी अच्छे होंगे देखिए सबसे पहले तो मैं आपको

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user

Sonu kamra

Marketeer

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पहचान क्या है जब भी कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसे कुछ पता नहीं रहता तो ऐसे ना आप पहले तो आप यह सोचना बंद कर दीजिए कि आप डिप्रेशन में जिस चीज से तनाव हो उस चीज को ज्यादा मत सोचा करें और भगवान का नाम लिया करो अच्छी बुक पढ़ा करो कंपनी बाग वगैरा घूमने जाया करो और अगर आपको लगता है कि टेंशन है दीपेश में हर चीज का इलाज है दुनिया में हर चीज का इराक हॉस्पिटल है आज की डेट में आप अच्छे डॉक्टर से मिलो कोई प्रॉब्लम की बात नहीं है लोगों की बड़ी से बड़ी बीमारी डिप्रेशन वगैरह दूर हो जाती है अब टेंशन मत लो अच्छे डॉक्टर से बात करो और हो सके तो किसी ज्योतिष से भी आप संपर्क कर सकते हो कि ऐसी क्या गलत है ऐसे चलती है जिस कारण में परेशान हो रहा हूं जय श्री राम

aapne pehchaan kya hai jab bhi koi bhi insaan depression me rehta hai toh use kuch pata nahi rehta toh aise na aap pehle toh aap yah sochna band kar dijiye ki aap depression me jis cheez se tanaav ho us cheez ko zyada mat socha kare aur bhagwan ka naam liya karo achi book padha karo company bagh vagera ghoomne jaya karo aur agar aapko lagta hai ki tension hai dipesh me har cheez ka ilaj hai duniya me har cheez ka iraq hospital hai aaj ki date me aap acche doctor se milo koi problem ki baat nahi hai logo ki badi se badi bimari depression vagera dur ho jaati hai ab tension mat lo acche doctor se baat karo aur ho sake toh kisi jyotish se bhi aap sampark kar sakte ho ki aisi kya galat hai aise chalti hai jis karan me pareshan ho raha hoon jai shri ram

आपने पहचान क्या है जब भी कोई भी इंसान डिप्रेशन में रहता है तो उसे कुछ पता नहीं रहता तो ऐसे

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user

Ajay

Life line

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका कहना आप डिप्रेशन में थे और इस समय आप डिप्रेशन की वजह से बहुत कुछ अपना बर्बाद कर चुके हैं तो यह पिंकी आप निकाल दीजिए अपने मन से अगर यही आप सोचते रहेंगे तो फिर से डिप्रेशन में चले जाएंगे कि आपका सब कुछ बर्बाद हो गया बस यह सोचिए जब आप इस जमीन पर आए थे आप पैदा हुए थे कुछ आप लेकर आए थे सिर्फ अपना तन और यह आत्मा लेकर आए थे कुछ नहीं था आपके पास आपके मां-बाप ने आपको थोड़ा-थोड़ा करके जो भी कुछ दिया होगा दिया रिलेशन से मिला अगर आपकी शादी हो गई हो तो आपकी बीवी से कुछ मिला होगा मतलब अपना अंश लेकर ही आते हैं किसी ना किसी से मिलता रहता है तो कुछ भी ना बचा हो तो बस यह सोचिए एक सूर्य है जब को हमेशा रोशनी देता रहता है एकमात्र स्त्रोत है बड़ा स्त्रोत पृथ्वी पर ऊर्जा का क्या उसने कभी आपसे कुछ मांगा तो देता ही रह दिखावा है आप सीजन जो हमें मिलती रहती हो हम जिंदा रहते हैं इसके वजह से उस ऑक्सीजन ने आपसे कुछ मांगा नहीं मांगा यह पानी है जिसको देखकर बिना आप दिन भर दिन भर नहीं बता सकते हैं 1 दिन नहीं बता सकते पानी ऐसी चीज है मनुष्य हमेशा देखते रहता है चाहे वह कैसा भी मनुष्य और जानवर हो उस पानी को देखे बिना एक दिन नहीं कटता है क्या उस पानी ने आपसे कुछ मांगा नहीं मांगा ना तो बस इन्हीं सबके सहारे भी आप जिंदगी जी सकते हैं आप आगे बढ़िए अपनी सोच को मजबूत करिए और अपना टारगेट देखिए ओनली टारगेट एक रख लीजिए अपने सामने टारगेट तक मुझे पहुंचना है उस मंजिल तक पहुंचना और आपके कदम उस रास्ते पर अपने आप ही चलने लगेंगे

aapka kehna aap depression me the aur is samay aap depression ki wajah se bahut kuch apna barbad kar chuke hain toh yah pinki aap nikaal dijiye apne man se agar yahi aap sochte rahenge toh phir se depression me chale jaenge ki aapka sab kuch barbad ho gaya bus yah sochiye jab aap is jameen par aaye the aap paida hue the kuch aap lekar aaye the sirf apna tan aur yah aatma lekar aaye the kuch nahi tha aapke paas aapke maa baap ne aapko thoda thoda karke jo bhi kuch diya hoga diya relation se mila agar aapki shaadi ho gayi ho toh aapki biwi se kuch mila hoga matlab apna ansh lekar hi aate hain kisi na kisi se milta rehta hai toh kuch bhi na bacha ho toh bus yah sochiye ek surya hai jab ko hamesha roshni deta rehta hai ekmatra satrot hai bada satrot prithvi par urja ka kya usne kabhi aapse kuch manga toh deta hi reh dikhawa hai aap season jo hamein milti rehti ho hum zinda rehte hain iske wajah se us oxygen ne aapse kuch manga nahi manga yah paani hai jisko dekhkar bina aap din bhar din bhar nahi bata sakte hain 1 din nahi bata sakte paani aisi cheez hai manushya hamesha dekhte rehta hai chahen vaah kaisa bhi manushya aur janwar ho us paani ko dekhe bina ek din nahi katata hai kya us paani ne aapse kuch manga nahi manga na toh bus inhin sabke sahare bhi aap zindagi ji sakte hain aap aage badhiye apni soch ko majboot kariye aur apna target dekhiye only target ek rakh lijiye apne saamne target tak mujhe pahunchana hai us manjil tak pahunchana aur aapke kadam us raste par apne aap hi chalne lagenge

आपका कहना आप डिप्रेशन में थे और इस समय आप डिप्रेशन की वजह से बहुत कुछ अपना बर्बाद कर चुके

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Ankit Gusain

Business Owner (MD,Himalayan), IIM Kashipur, Cambridge University, Civil Services Aspirant

1:31
Play

Likes  6  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
user

Ryan

(Prepression Of Pcsj) & Owner of R V Hot & Cool Point

2:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई ऊपर वाले का बहुत-बहुत शुक्रिया अदा करिए क्या डिप्रेशन से बाहर आ गए ठीक है ना क्योंकि बहुत सारे लोग होते हैं जो इस डिप्रेशन के कारण दुनिया को अलविदा कह जाते हैं तो क्या मैं बार-बार हमेशा लोगों से यह बात बोलता हूं कि डिप्रेशन से आने का बाहर आने का सिर्फ एक सिर्फ और सिर्फ एक ही रास्ता बचता है वह होता है आपकी पॉजिटिव सोच सकारात्मक था अब अगर सकारात्मक सोचेंगे आप में सोच को सकारात्मक रखेंगे पॉजिटिव में सोचेंगे जो पुरानी घटना घट गई जिसका कोई क्वेश्चन और उसको बदल नहीं सकते ठीक है और आपके साथ बहुत भगवान का एहसान रहा आप भगवान का एहसान माननीय कि आप डिप्रेशन से बाहर आ गए अब आपको क्या करना है अब आप सिर्फ और सिर्फ यह करें कि अपने आप को बिल्कुल सकारात्मक तरीके से चलाएं क्या को दोबारा डिप्रेशन में जाने जाने की जरूरत ना पड़े आप डिप्रेशन में दोबारा चले जाएंगे तो फिर परेशानी आ जाएंगे फिर आपको कौन निकालेगा आप किसी तरह हिम्मत करके आपने अपनी पहुंच बनाई होगी ना कि आप जो बीत गया सो बीत गया उसे छोड़ दो बात खत्म कर दो लोगों से बार-बार यह बात बोलता हूं अपना एक लक्ष्य निर्धारित करें और अपनी बात करें और सही तरीके से फोकस करें बिल्कुल एक तैयारी के साथ फोकस करें जो पूजा नहीं करता है जो भी गलतियां होगा उसको बिल्कुल भूल जाइए जो आगे करता है मैं जानता हूं क्या करना है उसको करना है उसको अजीत करता है भगवान ने आपको बाबा दिया है ठीक है मिलेगा अब दोबारा डिप्रेशन में कहीं नहीं जाएंगे कुछ भी हो जाए गाना शुक्रिया

bhai upar waale ka bahut bahut shukriya ada kariye kya depression se bahar aa gaye theek hai na kyonki bahut saare log hote hain jo is depression ke karan duniya ko alvida keh jaate hain toh kya main baar baar hamesha logo se yah baat bolta hoon ki depression se aane ka bahar aane ka sirf ek sirf aur sirf ek hi rasta bachta hai vaah hota hai aapki positive soch sakaratmak tha ab agar sakaratmak sochenge aap me soch ko sakaratmak rakhenge positive me sochenge jo purani ghatna ghat gayi jiska koi question aur usko badal nahi sakte theek hai aur aapke saath bahut bhagwan ka ehsaan raha aap bhagwan ka ehsaan mananiya ki aap depression se bahar aa gaye ab aapko kya karna hai ab aap sirf aur sirf yah kare ki apne aap ko bilkul sakaratmak tarike se chalaye kya ko dobara depression me jaane jaane ki zarurat na pade aap depression me dobara chale jaenge toh phir pareshani aa jaenge phir aapko kaun nikalega aap kisi tarah himmat karke aapne apni pohch banai hogi na ki aap jo beet gaya so beet gaya use chhod do baat khatam kar do logo se baar baar yah baat bolta hoon apna ek lakshya nirdharit kare aur apni baat kare aur sahi tarike se focus kare bilkul ek taiyari ke saath focus kare jo puja nahi karta hai jo bhi galtiya hoga usko bilkul bhool jaiye jo aage karta hai main jaanta hoon kya karna hai usko karna hai usko ajit karta hai bhagwan ne aapko baba diya hai theek hai milega ab dobara depression me kahin nahi jaenge kuch bhi ho jaaye gaana shukriya

भाई ऊपर वाले का बहुत-बहुत शुक्रिया अदा करिए क्या डिप्रेशन से बाहर आ गए ठीक है ना क्योंकि ब

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user
0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसके लिए अच्छे डॉक्टर जो मनोचिकित्सक है उनसे मिलकर बराबर ट्रीटमेंट लेना चाहिए जिससे डिप्रेशन की प्रॉब्लम खत्म हो जाती है

iske liye acche doctor jo manochikitsak hai unse milkar barabar treatment lena chahiye jisse depression ki problem khatam ho jaati hai

इसके लिए अच्छे डॉक्टर जो मनोचिकित्सक है उनसे मिलकर बराबर ट्रीटमेंट लेना चाहिए जिससे डिप्रे

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  39
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  3  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!