नोकिया कंपनी क्यों डूबी थी?...


play
user

शशांक पाण्डेय

इंकलाब जिंदाबाद

0:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो भाई नोकिया कंपनी क्यों डूबी इसका कारण में नही लगे समय के साथ उसमें परिवर्तन नहीं किया समय के साथ नोकिया नहीं बदल पाई जैसे अंबेस्टर आपकी जो है बंद हो गई बन्ना ठीक उसी प्रकार नोकिया कंपनी भी डूब गई अगर समय के साथ चेंज होती रहती तो यह भी चलती रहती है भाई यही कारण है समय के साथ आदमी हमेशा नए चीज की उम्मीद करता यही एक कारण था जो वह डूब अच्छा लगा हो तो लाइक करिए शेयर करिए कमेंट करिए जय हिंद जय भारत वंदे मातरम

dekho bhai nokia company kio duby iska karan mein nahi lage samay K sathe usme parivartan nahin kiya samay K sathe nokia nahin badal pai jaise ambestar aapki joe hai band ho gi banna thik ussi prakar nokia company bhi doob gi agar samay K sathe change hoti rehti to yeh bhi chalti rehti hai bhai yahi karan hai samay K sathe aadmi hamesha neay chij ki ummeed karata yahi ek karan thaa joe wah doob accha laga ho to like kariye share kariye comment kariye jai hind jai bharat vande matram

देखो भाई नोकिया कंपनी क्यों डूबी इसका कारण में नही लगे समय के साथ उसमें परिवर्तन नहीं किया

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  381
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!