मैं और मेरे पति, दोनों ही नौकरी करते हैं। हम एक मिडल कक्षा परिवार से आते है। मेरी अभी सैलरी बढ़ी हैं और मैंने उससे ज़्यादा कामना सुरु कर दिया हैं। पहले वो इस बात से ख़ुश थे लेकिन अब वो इसी बात से उखड़े उखड़े रहते हैं। एक दो बार उन्होंने मुझ पर चिल्लाया भी हैं और कहा है की मैं घर का ध्यान नहीं रखती। मैं उन्हें कैसे समझाऊँ की ये छोटी सी बात है और इससे हमारा रिश्ता नहीं बदलेगा?...


play
user

Kavita

Writer

2:00

Likes  10  Dislikes    views  322
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप और आपके पति दोनों सर्विस में नौकरी में अभी-अभी आपकी सैलरी बढ़ गई इससे पुरुष जो है एक अहंकारी होता है और शंकर जी को बोल सकते हैं पुरुष प्रधान देश है तो असली पुरुष अहंकार भी होता है उनको कहने कहीं चोट लगी इससे उनके मन में एक नकारात्मक ऊर्जा पैदा हुई उनके द्वारा प्रारंभ में इस प्रकार की प्रतिक्रिया कराना उनकी मानसिक स्थिति को दर्शाता है कि वह पसंद नहीं करते कि आपकी नौकरी में आपका वेतन बढ़ने धीरे से कद भर गई है कि अगर मुझे घर पर ध्यान देना है तो मैं घर पर ध्यान देती हूं और अपनी नौकरी छोड़ देते हैं इससे उनको एक झटका लगेगा और वह इस बात को समझने की कोशिश करेंगे कि उनके अकेले की वेतन से घर नहीं चल सकता उन्हें समझाइए की तनखा महत्वपूर्ण महत्वपूर्ण हमारा संबंध है वही हमारे काम आएगा हमारे बच्चों के काम आएगा ऐसे बहुत सारे परिवारों को जानता हूं जहां पत्नियां जो है पति से अधिक न केवल तनखा पाती वरन कई बड़े पदों पर भी परंतु पत्नियां बहुत विलंब और नंबर भेजते हो सकता है आपके किसी व्यवहार से उनको चोट भी लगी हो श्वाबे के कि आपने जाने अनजाने में सपरिवार किया हो परंतु मेरा मानना है कि ऐसा मन में विचार लाने से कष्ट तो होता ही है तो आपने समझाइए और बताइए कि आप की तनखा बनने न बनने से मैं तो आपकी पत्नी ही रहूंगा और हम दोनों को मिलकर ही घर चलाना है और यदि आप नहीं चाहे तो फिर मैं नौकरी छोड़ सकते हैं इसको सुनने के बाद उनको एक इस बात का एहसास होगा कि आप क्या कह रहे हैं और क्या जरूरी तो मुझे पूरा विश्वास है कि समस्या आ रही होगी धीरे-धीरे आपको यह उत्तर मिलने तक हल हो चुकी होगी और नहीं हुई है तो मेरे लिए सुझाव पर अमल करें उन्हें समझाइए कि हमारे संबंध ज्यादा महत्वपूर्ण है घर भी महत्वपूर्ण है और हम दोनों को कमाना भी जरूरी है धन्यवाद

aap aur aapke pati dono service me naukri me abhi abhi aapki salary badh gayi isse purush jo hai ek ahankari hota hai aur shankar ji ko bol sakte hain purush pradhan desh hai toh asli purush ahankar bhi hota hai unko kehne kahin chot lagi isse unke man me ek nakaratmak urja paida hui unke dwara prarambh me is prakar ki pratikriya krana unki mansik sthiti ko darshata hai ki vaah pasand nahi karte ki aapki naukri me aapka vetan badhne dhire se kad bhar gayi hai ki agar mujhe ghar par dhyan dena hai toh main ghar par dhyan deti hoon aur apni naukri chhod dete hain isse unko ek jhatka lagega aur vaah is baat ko samjhne ki koshish karenge ki unke akele ki vetan se ghar nahi chal sakta unhe samjhaiye ki tankha mahatvapurna mahatvapurna hamara sambandh hai wahi hamare kaam aayega hamare baccho ke kaam aayega aise bahut saare parivaron ko jaanta hoon jaha patniya jo hai pati se adhik na keval tankha pati WREN kai bade padon par bhi parantu patniya bahut vilamb aur number bhejate ho sakta hai aapke kisi vyavhar se unko chot bhi lagi ho shwabe ke ki aapne jaane anjaane me saparivar kiya ho parantu mera manana hai ki aisa man me vichar lane se kasht toh hota hi hai toh aapne samjhaiye aur bataiye ki aap ki tankha banne na banne se main toh aapki patni hi rahunga aur hum dono ko milkar hi ghar chalana hai aur yadi aap nahi chahen toh phir main naukri chhod sakte hain isko sunne ke baad unko ek is baat ka ehsaas hoga ki aap kya keh rahe hain aur kya zaroori toh mujhe pura vishwas hai ki samasya aa rahi hogi dhire dhire aapko yah uttar milne tak hal ho chuki hogi aur nahi hui hai toh mere liye sujhaav par amal kare unhe samjhaiye ki hamare sambandh zyada mahatvapurna hai ghar bhi mahatvapurna hai aur hum dono ko kamana bhi zaroori hai dhanyavad

आप और आपके पति दोनों सर्विस में नौकरी में अभी-अभी आपकी सैलरी बढ़ गई इससे पुरुष जो है एक

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  170
WhatsApp_icon
play
user

Dilsh Sheikh

Journalist

0:50

Likes  10  Dislikes    views  294
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!