क्या यह सच है कि केरल और पश्चिम बंगाल जैसे गैर-बीजेपी शासित भारतीय राज्य हिंदुओं के लिए अविकसित और असुरक्षित हैं, या क्या यह सिर्फ इन क्षेत्रों में गढ़ पाने के लिए बीजेपी आईटी सेल द्वारा प्रचारित मिथक है?...


play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पश्चिम बंगाल और केरल दो ऐसे राज्य है जहां वामपंथियों का शासन रहा है या है केरल में तो अभी भी है और पश्चिम बंगाल में बहुत लंबे समय तक 25 वर्षों से ज्यादा ज्योति बसु का शासन रहा है वहां पर पीएम का शासन रहा और शिष्ट के शासनकाल में यह देखा गया है कि कम्युनिस्ट उसी प्रकार से व्यवहार करते हैं जैसे एक कट्टर वह भी स्वामी विचारधारा पर कार्य करती है या सोच रखती है औरों के प्रति जाने की किसी अन्य विचारधारा के लोगों को पनपने नहीं देना उसके लिए हिंसा का सहारा लेना और आप क्या करना ऐसा पश्चिम बंगाल से बड़े पैमाने पर हुआ बड़े पैमाने पर कत्लेआम हुए दूसरे दलों के कार्यकर्ताओं को मारा गया जो पश्चिम बंगाल की मूल संस्कृति थी जो सोनार बांग्ला कि जो मूल संस्कृति थी उसको भी नष्ट करने में बहुत बड़ा योगदान सीपीएम का रहा सीपीएमजी खुली छूट की पूर्वी बंगाल यानी जो वर्तमान का बंगला देश है वहां से मुसलमानों का खुला माइग्रेशन पश्चिम बंगाल में कराया गया उन्हें मां का नागरिक बनाया क्या उनकी जनसंख्या इतनी बढ़ गई कि वहां के जो मूल नागरिक थे उनके जो मूल संस्कृति थी जो उनका रहन-सहन था उसे पूरी तरह से प्रभावित हो गया और दुर्भाग्य से वहां की दूसरी शर्त सरकार बनी ममता बनर्जी की उसमें भी वही लोग हावी हुए और उसी नीति को ममता बनर्जी और तेजी से बढ़ाया केरल की अगर हम बात करें तो केरल में आप देख सकते हैं कि समय-समय पर जो संघ के कार्यकर्ता है भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता हैं उनकी हत्याएं होती है उनको मारा जाता है उस कारण यह है कि वह भी वहां किसी अन्य विचारधारा को पनपने नहीं देना चाहते हो ही जिम्मेदारी प्रशासन करता है उसके ऊपर जाती है उसका सीधा अर्थ यही है कि भारतीय जनता पार्टी प्रयास करती है कि केरल और पश्चिम बंगाल में भी भूल जो संस्कृति है वह वापस लाई जाए

paschim bengal aur kerala do aise rajya hai jaha vamapanthiyon ka shasan raha hai ya hai kerala mein toh abhi bhi hai aur paschim bengal mein bahut lambe samay tak 25 varshon se zyada jyoti basu ka shasan raha hai wahan par pm ka shasan raha aur shisht ke shasankal mein yeh dekha gaya hai ki communist usi prakar se vyavahar karte hai jaise ek kattar wah bhi swami vichardhara par karya karti hai ya soch rakhti hai auron ke prati jaane ki kisi anya vichardhara ke logo ko panapne nahi dena uske liye hinsa ka sahara lena aur aap kya karna aisa paschim bengal se bade paimane par hua bade paimane par katleam hue dusre dalon ke karyakartaon ko mara gaya jo paschim bengal ki mul sanskriti thi jo sonar bangla ki jo mul sanskriti thi usko bhi nasht karne mein bahut bada yogdan CPM ka raha CPMG khuli chhut ki purvi bengal yani jo vartaman ka bangla desh hai wahan se musalmanon ka khula migration paschim bengal mein karaya gaya unhein maa ka nagarik banaya kya unki jansankhya itni badh gayi ki wahan ke jo mul nagarik the unke jo mul sanskriti thi jo unka rahan sahan tha use puri tarah se prabhavit ho gaya aur durbhagya se wahan ki dusri sart sarkar bani mamata banerjee ki usme bhi wahi log havi hue aur usi niti ko mamata banerjee aur teji se badhaya kerala ki agar hum baat karein toh kerala mein aap dekh sakte hai ki samay samay par jo sangh ke karyakarta hai bharatiya janta party ke karyakarta hai unki hatyaain hoti hai unko mara jata hai us kaaran yeh hai ki wah bhi wahan kisi anya vichardhara ko panapne nahi dena chahte ho hi jimmedari prashasan karta hai uske upar jati hai uska seedha arth yahi hai ki bharatiya janta party prayas karti hai ki kerala aur paschim bengal mein bhi bhul jo sanskriti hai wah wapas lai jaye

पश्चिम बंगाल और केरल दो ऐसे राज्य है जहां वामपंथियों का शासन रहा है या है केरल में तो अभी

Romanized Version
Likes  421  Dislikes    views  4267
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!