भारत में इतनी बुरी सड़कें क्यों है क्या यह भ्रष्टाचार के कारण है?...


user

Ritu Shukla

Owner - Sarthak Foundation

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल भ्रष्टाचार के कारण नहीं है यह हमारी और आप जैसी जनता की ना समझ एवं अवैध ने जिसको कर जागरूकता कैसे उसकी कमी के कारण है यदि हम अपने एरिया के सड़क की बात करें और यदि हमें लगता है कि वह खराब हो रही है तो हमें अपने सभासद से बात करनी चाहिए इसके बजट पर बात करनी चाहिए थी वहां तक बात नहीं पहुंचती है और हम सफल भी होते हैं तो हर महा के मंगल पहले मंगलवार और आखिरी मंगलवार को तहसील दिवस लगता है वहां पर जाकर हम अपनी समस्या को रख सकते हैं उनकी बात कर सकते हैं यह तो हमारी अवेयरनेस को दिखाता है और हम कितने जानते हैं अपने कि हमारी सरकार हमारे लिए क्या कर रही है

bilkul bhrashtachar ke karan nahi hai yah hamari aur aap jaisi janta ki na samajh evam awaidh ne jisko kar jagrukta kaise uski kami ke karan hai yadi hum apne area ke sadak ki baat kare aur yadi hamein lagta hai ki vaah kharab ho rahi hai toh hamein apne sabhasad se baat karni chahiye iske budget par baat karni chahiye thi wahan tak baat nahi pohchti hai aur hum safal bhi hote hain toh har maha ke mangal pehle mangalwaar aur aakhiri mangalwaar ko tehsil divas lagta hai wahan par jaakar hum apni samasya ko rakh sakte hain unki baat kar sakte hain yah toh hamari awareness ko dikhaata hai aur hum kitne jante hain apne ki hamari sarkar hamare liye kya kar rahi hai

बिल्कुल भ्रष्टाचार के कारण नहीं है यह हमारी और आप जैसी जनता की ना समझ एवं अवैध ने जिसको कर

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kishan Kumar

Motivational speaker

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों आपका क्वेश्चन भारत में इतनी बुरी सड़कें क्यों है क्या या भ्रष्टाचार के कहां है दो तो बिल्कुल कि हमारी सरकार यहां पर है दिल्ली में दिल्ली के रोड जितने हैं बहुत मेन रोड है वह सही है तो मान लिया हमारे नेता जी को लगता है कि दिल्ली के रोड अगर सही है तो हम चलते हैं तो सारे गाड़ियां हटा दी जाते हैं मेरा ही गाड़ियां केवल को ऑफ फीलिंग अच्छा होता है तू लेकिन वही फीलिंग उनको हर एक गांव में हर एक कस्बे में हमें होना चाहिए उनको खुद जाकर चलते देखना चाहिए अगर ऐसा करते तो जब भारत देश का सबसे नंबर वन प्रदूषण मुक्त देश होता है और बहुत ही शक्तिशाली देशों पर जहां से अगर स्टेट में कहीं जा रहा है कोई बजट पोस्ट इटवा ले ले ले रहे हैं स्टेट से डिस्टिक में जाना डिस्ट्रिक्ट कर लेते हैं उसके बाद ठेकेदार के पास पहुंचता है तो जो रोड बनता है वह बहुत ही खराब रोड बनता है और कुछ ही दिन में वह गिट्टी सभी टूट कर बिखर जाते हैं भ्रष्टाचार ही सबसे बड़ा वजह है देश का जो कोई भी रोड आधा ही बनकर रह जाता है तो मेरी रिक्वेस्ट करेंगे हर एक राजनेता से माननीय लोगों से इसकी जरूर काम करें कि अगर रोड से ही रहेगा तो व्यक्ति कहीं भी आ जा सकता है तो प्लीज सबसे ज्यादा खराब करोड़ है तो भट्टाचार्य है उस नीचे से लेकर ऊपर तक भ्रष्टाचार

hello doston aapka question bharat mein itni buri sadaken kyon hai kya ya bhrashtachar ke kaha hai do toh bilkul ki hamari sarkar yahan par hai delhi mein delhi ke road jitne hai bahut main road hai vaah sahi hai toh maan liya hamare neta ji ko lagta hai ki delhi ke road agar sahi hai toh hum chalte hai toh saare gadiyan hata di jaate hai mera hi gadiyan keval ko of feeling accha hota hai tu lekin wahi feeling unko har ek gaon mein har ek kasbe mein hamein hona chahiye unko khud jaakar chalte dekhna chahiye agar aisa karte toh jab bharat desh ka sabse number van pradushan mukt desh hota hai aur bahut hi shaktishali deshon par jaha se agar state mein kahin ja raha hai koi budget post etawah le le le rahe hai state se district mein jana district kar lete hai uske baad thekedaar ke paas pahuchta hai toh jo road baata hai vaah bahut hi kharab road baata hai aur kuch hi din mein vaah gitti sabhi toot kar bikhar jaate hai bhrashtachar hi sabse bada wajah hai desh ka jo koi bhi road aadha hi bankar reh jata hai toh meri request karenge har ek raajneta se mananiya logo se iski zaroor kaam kare ki agar road se hi rahega toh vyakti kahin bhi aa ja sakta hai toh please sabse zyada kharab crore hai toh bhattacharya hai us niche se lekar upar tak bhrashtachar

हेलो दोस्तों आपका क्वेश्चन भारत में इतनी बुरी सड़कें क्यों है क्या या भ्रष्टाचार के कहां ह

Romanized Version
Likes  161  Dislikes    views  1610
WhatsApp_icon
user
0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां जो आप सोच रहे हो ना वही बात है क्योंकि हमारे देश के नेता ऐसे हैं ना जब इलेक्शन का टाइम होता है तब कोई काम शुरुआत करते हैं उसे एक डेढ़ साल पहले खत्म हो जाती है तब उसका 3 साल इंतजार करते रहो तो 3 साल इंतजार हो जब करना पड़ेगा तो यही हाल होगा बुरी सर के इधर नालागढ़ फोटो के फोटो इधर से पानी बहता पानी की कमी पर बिजली की कमी होती रहेगी इस भ्रष्टाचारी तो है क्योंकि जब नेता कोयला का टाइम होता है तभी सारा काम स्टार्टिंग करते हैं और उनसे पहले 3 साल रेस्ट करते हैं 3 साल के बाद ही सोकर जागते हैं उसके बाद देखते हैं क्या विलक्षण करीब आने वाला है अब कुछ शुरू किया जाए कि भ्रष्टाचारी है इसलिए सर के इतनी बुरी है

ji haan jo aap soch rahe ho na wahi baat hai kyonki hamare desh ke neta aise hain na jab election ka time hota hai tab koi kaam shuruat karte hain use ek dedh saal pehle khatam ho jaati hai tab uska 3 saal intejar karte raho toh 3 saal intejar ho jab karna padega toh yahi haal hoga buri sir ke idhar nalagadh photo ke photo idhar se paani bahta paani ki kami par bijli ki kami hoti rahegi is bhrashtachaari toh hai kyonki jab neta koyla ka time hota hai tabhi saara kaam starting karte hain aur unse pehle 3 saal rest karte hain 3 saal ke baad hi sokar jagte hain uske baad dekhte kya vilakshan kareeb aane vala hai ab kuch shuru kiya jaaye ki bhrashtachaari hai isliye sir ke itni buri hai

जी हां जो आप सोच रहे हो ना वही बात है क्योंकि हमारे देश के नेता ऐसे हैं ना जब इलेक्शन का ट

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
user

Omkar Vishwakarma

Human Right Defendr

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में इतनी बुरी लड़की क्यों है या भ्रष्टाचार का कारण है जी जरूर है क्योंकि भारत में जो अधिकारी हैं और जो भी है जो सड़क बनाते हैं जो टेंडर लेते हैं वह भी चाहते हैं कि हम कुछ बचत करें और बचत करने के अलावा मतलब जो ऊपर के अधिकारी हैं उनका सीधा सीधी कमीशन बना होता है जिस कारण इस तरह से भ्रष्टाचार होता अगर वह कमीशन एक उदाहरण देखा हुआ कि दिल्ली में अभी मुख्यमंत्री सरकार ने मतलब कितने करोड़ के पुल बनने से उसको कम लागत में बनाया और अपने निदान एक बेहतर था कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनका कदम था इस तरह अगर हमारी सरकारें कदम उठाने लगे और काम करने लगे तो स्वाभाविक है भ्रष्टाचार खत्म होगा लेकिन उसके लिए सरकार को मानसिक रूप से तैयार होना जरूरी है

bharat mein itni buri ladki kyon hai ya bhrashtachar ka karan hai ji zaroor hai kyonki bharat mein jo adhikari hain aur jo bhi hai jo sadak banate hain jo tender lete hain vaah bhi chahte hain ki hum kuch bachat kare aur bachat karne ke alava matlab jo upar ke adhikari hain unka seedha seedhi commision bana hota hai jis karan is tarah se bhrashtachar hota agar vaah commision ek udaharan dekha hua ki delhi mein abhi mukhyamantri sarkar ne matlab kitne crore ke pool banne se usko kam laagat mein banaya aur apne nidan ek behtar tha ki bhrashtachar ke khilaf unka kadam tha is tarah agar hamari sarkaren kadam uthane lage aur kaam karne lage toh swabhavik hai bhrashtachar khatam hoga lekin uske liye sarkar ko mansik roop se taiyar hona zaroori hai

भारत में इतनी बुरी लड़की क्यों है या भ्रष्टाचार का कारण है जी जरूर है क्योंकि भारत में जो

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

Chaitny Kalki

Social Worker

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में इतनी बुरी लड़की की में क्या यह भ्रष्टाचार का कारण जांच अधिकारी काम करने की कार्यशैली में सुधार आ रहा है लेकिन अब से पहले की कार्यशैली काम करने की विधि विधान से ठीक-ठाक नहीं थे इसलिए हालत ठीक है

bharat me itni buri ladki ki me kya yah bhrashtachar ka karan jaanch adhikari kaam karne ki karyashaili me sudhaar aa raha hai lekin ab se pehle ki karyashaili kaam karne ki vidhi vidhan se theek thak nahi the isliye halat theek hai

भारत में इतनी बुरी लड़की की में क्या यह भ्रष्टाचार का कारण जांच अधिकारी काम करने की कार्यश

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user
2:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां बिल्कुल यह भ्रष्टाचार के कारण विकास उसकी क्वालिटी क्या क्वॉलिटी मेंटेन नहीं होती कॉन्टिटी में काम हो जाता है कम पैसे में ज्यादा ज्यादा काम होने का ज्यादा ज्यादा किलोमीटर मैडम करने का काम है जहां कंक्रीट की गरज नहीं है वहां पर भी कॉमरेड का रास्ता चालू है बहुत सारी बातें यह छोटी-छोटी इतनी है कि एक बार सफलमी को उसके जो कांट्रेक्टर है उसे एक कायदे में बांधना चाहिए कि वह कम से कम एक सड़क बनने के बाद 245 5 साल तक उसको कुछ भी हुआ उसका मेंटेनेंस खर्चा जो है वह कांटेक्ट को जब टेंडर वेंडर क्रिएट होता है तभी उसको टर्म्स एंड कंडीशन में देना चाहिए तभी जाकर वह क्वॉलिटी का बनाएंगे उसके बाद उसका जो वैल्यूएशन है वह सही है उसमें उसको दे देना चाहिए उसके ना ही कोई मंत्री नहीं कोई ऑफिसर ना ही कोई उसका जो पेमेंट है बिल प्रोसेस है वह भी जल्दी-जल्दी होनी होनी चाहिए अगर हुआ तो भ्रष्टाचार सच्ची में कम हो जाएगा अभी इतना भ्रष्टाचार है उसमें एक सौ परसेंट का काम उसमें 10 परसेंट ऑफिसर के 5 पद से वहां के मेले के 10 उसमें नब्बे परसेंट 90 पर्सन उसको काम में लगने वाले मुझे भी बढ़ गई है आदमी बढ़ गए हैं नई संयंत्र सामग्री लाना है तो वह भी कॉस्टिंग उसमें जोड़ना पड़ता है यह सब वह कांटेक्ट नहीं कर पाता उसकी भी कुछ जरूरत होती है एक काम में कम से कम उसको बीस से पच्चीस परसेंट पर बचने को होना वह नहीं बसते इसके लिए वहां से एक कहीं ना कहीं पर मटके मटेरियल और जो मन है उसमें वह कहीं ना कहीं कहा था ना कहा से शिकायत है तू स्माल यूज करता है उसके कारण क्वालिटी कैसे जाती है इसके कारण उसमें बहुत बहुत बड़ा भ्रष्टाचार हो गया है

haan bilkul yah bhrashtachar ke karan vikas uski quality kya quality maintain nahi hoti kantiti mein kaam ho jata hai kam paise mein zyada zyada kaam hone ka zyada zyada kilometre madam karne ka kaam hai jaha kankrit ki garaj nahi hai wahan par bhi kamred ka rasta chaalu hai bahut saari batein yah choti choti itni hai ki ek baar saflami ko uske jo contractor hai use ek kayade mein bandhana chahiye ki vaah kam se kam ek sadak banne ke baad 245 5 saal tak usko kuch bhi hua uska Maintenance kharcha jo hai vaah Contact ko jab tender vendor create hota hai tabhi usko terms and condition mein dena chahiye tabhi jaakar vaah quality ka banayenge uske baad uska jo vailyueshan hai vaah sahi hai usme usko de dena chahiye uske na hi koi mantri nahi koi officer na hi koi uska jo payment hai bill process hai vaah bhi jaldi jaldi honi honi chahiye agar hua toh bhrashtachar sachi mein kam ho jaega abhi itna bhrashtachar hai usme ek sau percent ka kaam usme 10 percent officer ke 5 pad se wahan ke mele ke 10 usme nabbe percent 90 person usko kaam mein lagne waale mujhe bhi badh gayi hai aadmi badh gaye hain nayi sanyantra samagri lana hai toh vaah bhi costing usme jodna padta hai yah sab vaah Contact nahi kar pata uski bhi kuch zarurat hoti hai ek kaam mein kam se kam usko bis se pachchis percent par bachne ko hona vaah nahi baste iske liye wahan se ek kahin na kahin par matke material aur jo man hai usme vaah kahin na kahin kaha tha na kaha se shikayat hai tu small use karta hai uske karan quality kaise jaati hai iske karan usme bahut bahut bada bhrashtachar ho gaya hai

हां बिल्कुल यह भ्रष्टाचार के कारण विकास उसकी क्वालिटी क्या क्वॉलिटी मेंटेन नहीं होती कॉन्ट

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  77
WhatsApp_icon
play
user

Dilsh Sheikh

Journalist

1:51

Likes  9  Dislikes    views  270
WhatsApp_icon
play
user

Kavita

Writer

1:57

Likes  8  Dislikes    views  223
WhatsApp_icon
user

Riya

Artist, Traveller

0:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां भारत कितनी बुरी सड़के भ्रष्टाचार का कारण बन सकते हैं

ji haan bharat kitni buri sadake bhrashtachar ka karan ban sakte hain

जी हां भारत कितनी बुरी सड़के भ्रष्टाचार का कारण बन सकते हैं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  82
WhatsApp_icon
play
user

TS Bhanot

Teacher

0:00

Likes    Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!