आपके अनुसार नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच क्या अंतर है?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नरेंद्र मोदी जी की और राहुल गांधी जी की तुलना कभी हो ही नहीं सकती है क्योंकि नरेंद्र मोदी जी नरेंद्र मोदी हैं और राहुल गांधी राहुल गांधी हैं 2014 के बाद इस देश में देखा है कि नरेंद्र मोदी जी ने किस तरीके से राष्ट्र हित में हर वह कार्य किया जो उनको करना चाहिए प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठकर वह अपने आप को कभी भी प्रधानमंत्री नहीं करें सिर्फ प्रधान सेवक और चौकीदार कहते रहे 130 करोड़ देशवासियों को अपना परिवार मानते रहें अपना परिवार त्याग कर और एक तरफ राहुल गांधी जो कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे और वह अपनी कुर्सी तक नहीं संभाल सके अपने कर्तव्य को अपने पार्टी के प्रति उनका कर्तव्य था उसका निर्माण नहीं कर सके तो उनसे क्या उम्मीद की जा सकती है कि वह देश के प्रधानमंत्री बनेंगे अगर तो देश के लिए क्या कर सकते हैं जो अपनी पार्टी के हित में काम नहीं कर पा रहा है वह देश के हित में क्या काम करेगा मोदी जी और राहुल गांधी में बहुत अंतर है

narendra modi ji ki aur rahul gandhi ji ki tulna kabhi ho hi nahi sakti hai kyonki narendra modi ji narendra modi hain aur rahul gandhi rahul gandhi hain 2014 ke baad is desh me dekha hai ki narendra modi ji ne kis tarike se rashtra hit me har vaah karya kiya jo unko karna chahiye pradhanmantri ki kursi par baithkar vaah apne aap ko kabhi bhi pradhanmantri nahi kare sirf pradhan sevak aur chaukidaar kehte rahe 130 crore deshvasiyon ko apna parivar maante rahein apna parivar tyag kar aur ek taraf rahul gandhi jo congress ke rashtriya adhyaksh the aur vaah apni kursi tak nahi sambhaal sake apne kartavya ko apne party ke prati unka kartavya tha uska nirmaan nahi kar sake toh unse kya ummid ki ja sakti hai ki vaah desh ke pradhanmantri banenge agar toh desh ke liye kya kar sakte hain jo apni party ke hit me kaam nahi kar paa raha hai vaah desh ke hit me kya kaam karega modi ji aur rahul gandhi me bahut antar hai

नरेंद्र मोदी जी की और राहुल गांधी जी की तुलना कभी हो ही नहीं सकती है क्योंकि नरेंद्र मोदी

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
21 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

Likes  4  Dislikes    views  90
WhatsApp_icon
play
user

Bhuvi Jain

Engineer, Educator, Writer

1:58

Likes  104  Dislikes    views  2543
WhatsApp_icon
user

Rani Silotia

Indian Politician

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी बच्चे हैं ब्लू में क्या कमी है लेकिन हमारे मोदी जी मानते हैं बच्चे देती है

rahul gandhi bacche hain blue mein kya kami hai lekin hamare modi ji maante hain bacche deti hai

राहुल गांधी बच्चे हैं ब्लू में क्या कमी है लेकिन हमारे मोदी जी मानते हैं बच्चे देती है

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  1173
WhatsApp_icon
user

Mainpal Kashyap

Journalist

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नरेंद्र मोदी की राहुल गांधी की अगर बात करें तो उसमें काफी अंतर है क्योंकि राहुल गांधी का और नरेंद्र मोदी का एक्टर का बहुत फर्क पड़ता है क्योंकि राहुल गांधी अभी युवा हैं कई जो फैसले बिना सोचे यह जाते हैं तो कई जो बयान बाजी होती है बिना उसके तो समझते हैं लेकिन जिस तरीके से आप भी एक सरप्राइज पर उन्होंने राजनीति की है वह भी गलत है सैनिक सैनिक देश की रक्षा कर रहे थे तो सही तभी और सैनिक जो करो सेना के ऊपर कभी भी राजनीति इस तरह की राजनीति नहीं करनी चाहिए और जो नरेंद्र मोदी है बिल्कुल सोच समझकर कदम उठाते हैं बोलते तो कभी बड़ा मन करता है

narendra modi ki rahul gandhi ki agar baat karein toh usme kaafi antar hai kyonki rahul gandhi ka aur narendra modi ka actor ka bahut fark padta hai kyonki rahul gandhi abhi yuva hain kai jo faisle bina soche yeh jaate hain toh kai jo bayan busy hoti hai bina uske toh samajhte hain lekin jis tarike se aap bhi ek surprise par unhone rajneeti ki hai wah bhi galat hai sainik sainik desh ki raksha kar rahe the toh sahi tabhi aur sainik jo karo sena ke upar kabhi bhi rajneeti is tarah ki rajneeti nahi karni chahiye aur jo narendra modi hai bilkul soch samajhkar kadam uthate hain bolte toh kabhi bada man karta hai

नरेंद्र मोदी की राहुल गांधी की अगर बात करें तो उसमें काफी अंतर है क्योंकि राहुल गांधी का औ

Romanized Version
Likes  83  Dislikes    views  1655
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच में क्या अंतर है मैं आपको बताना चाहता हूं नरेंद्र मोदी जी एक गरीब माता-पिता के बेटे हैं राहुल गांधी जी सोने की चम्मच लेकर पैदा होने वाले पूंजीपति बाप के लड़के हैं नरेंद्र मोदी जी गरीबों के हित के लिए कार्य करते हैं देश हित के लिए कार्य करते हैं परिवारवाद की राजनीति नहीं करते हैं जातिवाद की राजनीति नहीं करते हैं भ्रष्टाचार की राजनीति नहीं करते हैं कांग्रेस पार्टी सांप्रदायिकता का जहर फैल आती है प्रदूषण को बढ़ावा देती है बेरोजगारी को बढ़ावा देती है किसानों को के ऊपर लाठी चार्ज करवा दी है और गरीबों को तड़पाती है सताती है इशारा काफी माननीय राहुल गांधी जी भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री मोदी जी कभी भी आतंकवाद का समर्थन नहीं करते हैं कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी हमेशा आतंकवादियों का समर्थन करते हैं बीजेपी वंदे मातरम भारत माता की जय का नारा लगा दी है कांग्रेस पार्टी वंदे मातरम भारत माता भारत माता की जय का नारा नहीं लगाती है कांग्रेस पार्टी तीन तलाक के मुद्दे के खिलाफ है तीन तलाक का बिल पास नहीं होने दे रही है बीजेपी चाहती है कि मुस्लिम महिलाओं को उनका अधिकार मिले कांग्रेस पार्टी चाहती है कि हिंदुस्तान गरीब देश बना रहे बीजेपी चाहती है कि हमारा देश शक्तिशाली बन सके हमारे देश में समृद्धि आ सके कांग्रेस पार्टी चाहती है कि गंगा गंगा जी फिर से प्रदूषित हो भारतीय जनता पार्टी चाहती है कि गंगा नदी साफ पक्षों बिजली की व्यवस्था पूरी देवी गांव गांव में पहुंचाई जाए रोड सड़क सारी जगह की दुरुस्त की जाए तो यही सब अंतर है अपना महत्वपूर्ण वोट बीजेपी को दें ताकि देश तरक्की कर सके धन्यवाद

aap ka sawal hai ki narendra modi aur rahul gandhi ke beech mein kya antar hai aapko batana chahta hoon narendra modi ji ek garib mata pita ke bete hain rahul gandhi ji sone ki chammach lekar paida hone wale poonjipati baap ke ladke hain narendra modi ji garibon ke hit ke liye karya karte hain desh hit ke liye karya karte hain parivaarvaad ki rajneeti nahi karte hain jaatiwad ki rajneeti nahi karte hain bhrashtachar ki rajneeti nahi karte hain congress party saampradayikta ka zehar fail aati hai pradushan ko badhawa deti hai berojgari ko badhawa deti hai kisano ko ke upar lathi charge karva di hai aur garibon ko tadpati hai satati hai ishara kaafi mananiya rahul gandhi ji bharatiya janta party aur Pradhanmantri modi ji kabhi bhi aatankwad ka samarthan nahi karte hain congress party aur rahul gandhi hamesha aatankwadion ka samarthan karte hain bjp vande mataram bharat mata ki jai ka naara laga di hai congress party vande mataram bharat mata bharat mata ki jai ka naara nahi lagati hai congress party teen talak ke mudde ke khilaf hai teen talak ka bill paas nahi hone de rahi hai bjp chahti hai ki muslim mahilaon ko unka adhikaar mile congress party chahti hai ki Hindustan garib desh bana rahe bjp chahti hai ki hamara desh shaktishali ban sake hamare desh mein samridhi aa sake congress party chahti hai ki ganga ganga ji phir se pradushit ho bharatiya janta party chahti hai ki ganga nadi saaf pakshon bijli ki vyavastha puri devi gaon gaon mein pahunchai jaye road sadak saree jagah ki durast ki jaye toh yahi sab antar hai apna mahatvapurna vote bjp ko de taki desh tarakki kar sake dhanyavad

आप का सवाल है कि नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच में क्या अंतर है मैं आपको बताना चाहता

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  481
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिसाब से जो दोनों के बीच का जो अंतर है वह पहले तो मैं बोलूं बानू को दिया तो चलाने के लिए जो एक बहुत होती है वह अभी तक तो कई बार और राहुल गांधी की सोच कहीं पर दिखाई नहीं दे रही है जो निर्णय लेने की क्षमता है उसके पास नहीं है वह मिलेगा तो देखने की कोशिश की है वहां तक तो राहुल जी दूसरों की छत पर चलते हैं और हमारे जो पीएम नरेंद्र मोदी का वह अपनी खुद की सोच पर ज्यादा जलते हैं सियासत चलाने के लिए सबसे पहले तो जो उनके जो सरवन है सरवन मिल्क आईएस से लेकर जून तक जो किया था चला रहा है वह उसे उधर देगा नहीं कि कोई दुआ मां का नाटक हमें यह करना है उसके अलावा दिया तो चला रहा है वह करो मोदी जी के पास खुद की टैलेंट है और उसको राहुल जी का भाषण

hisab se jo dono ke beech ka jo antar hai wah pehle toh main bolu banu ko diya toh chalane ke liye jo ek bahut hoti hai wah abhi tak toh kai baar aur rahul gandhi ki soch kahin par dikhai nahi de rahi hai jo nirnay lene ki kshamta hai uske paas nahi hai wah milega toh dekhne ki koshish ki hai wahan tak toh rahul ji dusro ki chhat par chalte hain aur hamare jo pm narendra modi ka wah apni khud ki soch par zyada jalte hain siyasat chalane ke liye sabse pehle toh jo unke jo sarvan hai sarvan milk ias se lekar june tak jo kiya tha chala raha hai wah use udhar dega nahi ki koi dua maa ka natak humein yeh karna hai uske alava diya toh chala raha hai wah karo modi ji ke paas khud ki talent hai aur usko rahul ji ka bhashan

हिसाब से जो दोनों के बीच का जो अंतर है वह पहले तो मैं बोलूं बानू को दिया तो चलाने के लिए ज

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1523
WhatsApp_icon
user

S.R.PARDESHI

History spoken specialist | Motivational Speaker

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच क्या अंतर है राहुल गांधी को इलेक्शन में आना ही नहीं था मतलब ने राजनीतिक करना ही नहीं है राहुल गांधी लेकिन उन्हें राजनीति में लोगों ने लाया है उन्हें खुद को कोई इंटरेस्ट नहीं राजनीति में और मोदी जी की बात है जो 1 नेशनल लीडर मतलब उन्हें खुद नेशनल लीडर होने की वजह से राहुल गांधी और मोदी में बहुत फर्क है कि राहुल गांधी को इन बातों से कोई लेना-देना ही कांग्रेस पार्टी जीती है हालांकि उन्हें तो ऐसी वह जवाबदारी दे दी है मतलब उन्हें फिल्म पसंद नहीं है फिर भी उन्हें करना पड़ रही अपनी मां के वजह से वह तो कोई पर्सनल होगा वह उसके वजह से राहुल गांधी की तो कोई बिजनेसमैन ऐसा कुछ बनते थे तो कहां से आ गई जाते थे और उनके बातों में राहुल गांधी के बातों में दम नहीं होता है उनकी बात एक बचकानी के जैसे होती है इंसान की जैसी होती है और वह एक ही मुद्दा लगाकर फिर तेरा फिर कोई मुद्दा उनके लिए ऐसा लगता है रिफिल मतलब देश में से बहुत से मुद्दे वह मुद्दे पर बात ही नहीं करते राहुल गांधी उठे छूटे कभी भी आते हैं राफेल राफेल मोदी के सामने राहुल गांधी एक छछूंदर है बाकी कुछ मोतीलाल लेटर है एक कूटनीति राजनीति जानती है मोदी को जो राहुल को कभी नहीं जमीन राहुल गांधी ने शादी भी नहीं करना कहीं जाकर बच्चे पैदा करना और आराम से जिंदगी बिताना यही मेरी सलाह है एग्जिट में ना पड़े

namaste narendra modi aur rahul gandhi ke beech kya antar hai rahul gandhi ko election mein aana hi nahi tha matlab ne raajnitik karna hi nahi hai rahul gandhi lekin unhe raajneeti mein logo ne laya hai unhe khud ko koi interest nahi raajneeti mein aur modi ji ki baat hai jo 1 national leader matlab unhe khud national leader hone ki wajah se rahul gandhi aur modi mein bahut fark hai ki rahul gandhi ko in baaton se koi lena dena hi congress party jeeti hai halaki unhe toh aisi vaah javabdari de di hai matlab unhe film pasand nahi hai phir bhi unhe karna pad rahi apni maa ke wajah se vaah toh koi personal hoga vaah uske wajah se rahul gandhi ki toh koi bussinessmen aisa kuch bante the toh kahaan se aa gayi jaate the aur unke baaton mein rahul gandhi ke baaton mein dum nahi hota hai unki baat ek bachkani ke jaise hoti hai insaan ki jaisi hoti hai aur vaah ek hi mudda lagakar phir tera phir koi mudda unke liye aisa lagta hai refill matlab desh mein se bahut se mudde vaah mudde par baat hi nahi karte rahul gandhi uthe chhoote kabhi bhi aate hain rafael rafael modi ke saamne rahul gandhi ek chhachhundar hai baki kuch motilal letter hai ek kootneeti raajneeti jaanti hai modi ko jo rahul ko kabhi nahi jameen rahul gandhi ne shadi bhi nahi karna kahin jaakar bacche paida karna aur aaram se zindagi bitana yahi meri salah hai exit mein na pade

नमस्ते नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच क्या अंतर है राहुल गांधी को इलेक्शन में आना ही न

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  437
WhatsApp_icon
user

Vimal Srivastav

Journalist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी जी की आज तक समझ नहीं पाया कि वो क्या कहना चाहते हैं प्रधानमंत्री मोदी जी की शिकायत करने का माद्दा रखता हूं कि राहुल गांधी जी कब तक लाइनों में होता है मुझे अभी तक नहीं पता क्योंकि उनके बारे में गांधीजी के बारे में

rahul gandhi ji ki aaj tak samajh nahi paya ki vo kya kehna chahte hain Pradhanmantri modi ji ki shikayat karne ka madda rakhta hoon ki rahul gandhi ji kab tak lineon mein hota hai mujhe abhi tak nahi pata kyonki unke bare mein gandhiji ke bare mein

राहुल गांधी जी की आज तक समझ नहीं पाया कि वो क्या कहना चाहते हैं प्रधानमंत्री मोदी जी की शि

Romanized Version
Likes  58  Dislikes    views  627
WhatsApp_icon
play
user

धर्मदेव सिंह भाटी

कुश्ती प्रशिक्षक

0:00

Likes  20  Dislikes    views  524
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

6:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके अनुसार नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच क्या अंतर नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच से हमें भूलना कैसे कर सकते हैं क्योंकि एक तो उम्र का बहुत अंतर है रमेश जी अभी राहुल गांधी जी 50 के अंदर हैं और नरेंद्र मोदी जी संस्थान यानी की उम्र में करीब 1 अट्ठारह 20 साल का अंतर लेकिन उम्र का अंतर मायने नहीं रखता है जो इतिहास का जो ज्ञान होना चाहिए जो अनुभव होना चाहिए वह नरेंद्र मोदी जी ने ज्यादा क्योंकि वह बचपन से ही जो उनके में देशभक्ति की जो भावना की आदत से से जुड़े और जंक्शन में रहे और कार्यालय में अहमदाबाद के कालूपुर कार्यालय में कार्य किया है वहीं पर रहते थे और के बाद दिल्ली में जाकर वहां भाजप के कार्यालय में जो काम करते रहे और सब देव रथयात्रा निकलती थी चाहे जो अडवाणी जी हो या अटल बिहारी बाजपेई हूं या दो तिरंगा लहराने के लिए गए थे श्रीनगर में लाल चौक में तिरंगा लहराए थे अनुभव जो देश के इतिहास पर दोनों ने सीखा है तो जाना है और जो काम किए वह अनुभव उनको बहुत ही सहायता करता है नरेंद्र मोदी और उसके बाद 11 साल उन्होंने इंटर गुजरात के चीफ मिनिस्टर के रूप में जन्म लिया है वह भी लंबा अनुभव था और गुजरात में कहते थे कि 5 साल तक कोई चीफ मिनिस्टर अपना काम पूरा नहीं करता तो उन्होंने दो बार करके दिखाओ तीसरी बार भी उसे और जो इतना नॉलेज और जितना अनुभव उनको जो मिला शुरुआत से ही राहुल गांधी जी ने नहीं राहुल गांधी जी का एक ही प्लस पॉइंट है सबसे बड़ा प्लस प्वाइंट है कि वह गांधी सरनेम की है कांग्रेस में जो परिवारवाद चल रहा है उसके वह राजकुमार ने कहा कि कांग्रेस नेता उनकी एंट्री क्योंकि वह गांधी तमिल से बिलॉन्ग करते हैं इसलिए वह राजनेता बन गए कांग्रेस के महामंत्री बन गया प्रमुख बन गए इस समय भी वही बातें कर जाते हैं ऐसा नहीं है कि कांग्रेस में और नेता उनसे ज्यादा अनुभव रखने वाले नहीं हैं लेकिन वह सब गांधी नहीं है इसलिए बस तो यही इनका एक सबसे बड़ा प्लस पहुंचे कि नहीं प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी में अंतर स्पष्ट के सामने स्पष्ट नरेंद्र मोदी जी ने तो एकदम भारत के प्रधानमंत्री के रूप में बहुत कुछ नया करके दिखाया है और आम जनता को जो फायदा पहुंचता है जो वह सवाल होते से जो उनको जमीनी स्तर पर जो सुधार करना था वह कर रहे हैं और नई दिशा में भारत को ले जा रहा है जो लोगों को फायदा पहुंचाने का काम करते हो करना चाहिए था गरीबों की हालत सुधारने का आज तक 70 साल में हुआ ही नहीं था और उन्होंने ऐसा करके दिखाया है कि बुद्धि होना अनुभव होना और उसे जमीनी स्तर पर इंप्लीमेंट करना वह सब उन्होंने करके दिखा के साथ किस तरह से काम लेना वह भी नरेंद्र मोदी जी कर रहे हैं और उनको अनुभव भी हो चुका है बहुत पैकेट मिस्टर के रूप में भी और प्रधानमंत्री के और जो बहुत कमियां नरेंद्र मोदी जी के कामों में नजर आती है तो वह अपनी भूल पर सीखते हैं और राहुल गांधी जी अपनी भूल से तैयार नहीं होते हैं कभी-कभी वह बात अपनी बात पर कभी वालों में से सोना निकालने के बाद करते हैं तो कभी वह क्या-क्या स्टेटमेंट देते हैं कि एक तरफ लोगों में मजाक बन जाते हैं ऐसा उनको नहीं करना चाहिए इतिहास पहले पढ़ना चाहिए और गांधी फैमिली का कम से कम इतिहास पढ़ ले कि उनके जो दादा है जहांगीर फिरोज गांधी की कब्र पर जाते और उनकी बहुत सी बातें हैं कि उन्हें ज्ञान और अनुभव काफी वर्ष लग सकते हैं और तब भी वह भारत के प्रधानमंत्री बन पाएंगे या नहीं बन पाएंगे यह कहना बहुत ही मुश्किल है बहुत-बहुत शुभकामनाएं धन्यवाद

aapke anusaar narendra modi aur rahul gandhi ke beech kya antar narendra modi aur rahul gandhi ke beech se hamein bhoolna kaise kar sakte hai kyonki ek toh umar ka bahut antar hai ramesh ji abhi rahul gandhi ji 50 ke andar hai aur narendra modi ji sansthan yani ki umar mein kareeb 1 attharah 20 saal ka antar lekin umar ka antar maayne nahi rakhta hai jo itihas ka jo gyaan hona chahiye jo anubhav hona chahiye vaah narendra modi ji ne zyada kyonki vaah bachpan se hi jo unke mein deshbhakti ki jo bhavna ki aadat se se jude aur junction mein rahe aur karyalay mein ahmedabad ke kalupur karyalay mein karya kiya hai wahi par rehte the aur ke baad delhi mein jaakar wahan bhajap ke karyalay mein jo kaam karte rahe aur sab dev rathyatra nikalti thi chahen jo adwani ji ho ya atal bihari baajpayee hoon ya do tiranga lahrane ke liye gaye the srinagar mein laal chauk mein tiranga lahraye the anubhav jo desh ke itihas par dono ne seekha hai toh jana hai aur jo kaam kiye vaah anubhav unko bahut hi sahayta karta hai narendra modi aur uske baad 11 saal unhone inter gujarat ke chief minister ke roop mein janam liya hai vaah bhi lamba anubhav tha aur gujarat mein kehte the ki 5 saal tak koi chief minister apna kaam pura nahi karta toh unhone do baar karke dikhaao teesri baar bhi use aur jo itna knowledge aur jitna anubhav unko jo mila shuruat se hi rahul gandhi ji ne nahi rahul gandhi ji ka ek hi plus point hai sabse bada plus point hai ki vaah gandhi surname ki hai congress mein jo parivaarvaad chal raha hai uske vaah rajkumar ne kaha ki congress neta unki entry kyonki vaah gandhi tamil se Belong karte hai isliye vaah raajneta ban gaye congress ke mahamantri ban gaya pramukh ban gaye is samay bhi wahi batein kar jaate hai aisa nahi hai ki congress mein aur neta unse zyada anubhav rakhne waale nahi hai lekin vaah sab gandhi nahi hai isliye bus toh yahi inka ek sabse bada plus pahuche ki nahi pradhanmantri banne ke baad narendra modi aur rahul gandhi mein antar spasht ke saamne spasht narendra modi ji ne toh ekdam bharat ke pradhanmantri ke roop mein bahut kuch naya karke dikhaya hai aur aam janta ko jo fayda pahuchta hai jo vaah sawaal hote se jo unko zameeni sthar par jo sudhaar karna tha vaah kar rahe hai aur nayi disha mein bharat ko le ja raha hai jo logo ko fayda pahunchane ka kaam karte ho karna chahiye tha garibon ki halat sudhaarne ka aaj tak 70 saal mein hua hi nahi tha aur unhone aisa karke dikhaya hai ki buddhi hona anubhav hona aur use zameeni sthar par implement karna vaah sab unhone karke dikha ke saath kis tarah se kaam lena vaah bhi narendra modi ji kar rahe hai aur unko anubhav bhi ho chuka hai bahut packet mister ke roop mein bhi aur pradhanmantri ke aur jo bahut kamiyan narendra modi ji ke kaamo mein nazar aati hai toh vaah apni bhool par sikhate hai aur rahul gandhi ji apni bhool se taiyar nahi hote hai kabhi kabhi vaah baat apni baat par kabhi walon mein se sona nikalne ke baad karte hai toh kabhi vaah kya kya statement dete hai ki ek taraf logo mein mazak ban jaate hai aisa unko nahi karna chahiye itihas pehle padhna chahiye aur gandhi family ka kam se kam itihas padh le ki unke jo dada hai jahangir firoz gandhi ki kabr par jaate aur unki bahut si batein hai ki unhe gyaan aur anubhav kaafi varsh lag sakte hai aur tab bhi vaah bharat ke pradhanmantri ban payenge ya nahi ban payenge yah kehna bahut hi mushkil hai bahut bahut subhkamnaayain dhanyavad

आपके अनुसार नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच क्या अंतर नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के ब

Romanized Version
Likes  224  Dislikes    views  3539
WhatsApp_icon
user
0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच देश के एक महान नेता है आप इसे समझ सकते हैं कि नरेंद्र मोदी आसमान राहुल गांधी चोर है नरेंद्र मोदी की बराबरी की तुलना राहुल गांधी से

narendra modi aur rahul gandhi ke beech desh ke ek mahaan neta hai aap ise samajh sakte hain ki narendra modi aasman rahul gandhi chor hai narendra modi ki barabari ki tulna rahul gandhi se

नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच देश के एक महान नेता है आप इसे समझ सकते हैं कि नरेंद्र म

Romanized Version
Likes  296  Dislikes    views  3498
WhatsApp_icon
user
0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच यही अंतर है कि इनमें से एक व्यक्ति है जो काम करता है एक व्यक्ति है जो काम करता है और लोगों से वोट लेकर ही जाता है उसमें एक व्यक्ति है जो केवल बातें करता है और वह काम करता ही नहीं इस वजह से वह हार जाता है यही कारण है कोई चुटिया बना कर काम करता है तो कोई काम करके दिखाता है जो काम करेगा वही जीतेगा यह सत्य है चाहे वो जनता के लिए काम करते हैं तो उनका जीतना तोता है

narendra modi aur rahul gandhi ke beech yahi antar hai ki inmein se ek vyakti hai jo kaam karta hai ek vyakti hai jo kaam karta hai aur logo se vote lekar hi jata hai usme ek vyakti hai jo keval batein karta hai aur vaah kaam karta hi nahi is wajah se vaah haar jata hai yahi karan hai koi chutiya bana kar kaam karta hai toh koi kaam karke dikhaata hai jo kaam karega wahi jitega yah satya hai chahen vo janta ke liye kaam karte hain toh unka jeetna tota hai

नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच यही अंतर है कि इनमें से एक व्यक्ति है जो काम करता है एक

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  642
WhatsApp_icon
user

Chetan Singh

Journalist and Reporter

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बचपन और जवानी का अंतर मंद बुद्धि और ज्ञान का अंतर हिम्मत कॉन्फिडेंस का अंतर राजनीतिक ज्ञान का अभाव जमीन से जुड़े हुए व्यक्ति

bachpan aur jawaani ka antar mand buddhi aur gyaan ka antar himmat confidence ka antar raajnitik gyaan ka abhaav jameen se jude hue vyakti

बचपन और जवानी का अंतर मंद बुद्धि और ज्ञान का अंतर हिम्मत कॉन्फिडेंस का अंतर राजनीतिक ज्ञान

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  59
WhatsApp_icon
user

Mehmood Alum

Law Student

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच में काफी अंतर है इसे सरकार चलाने की बात जहां तक आती है तो राहुल गांधी अभी तक किसी राज्य सरकार या केंद्र सरकार का हिस्सा नहीं बने हैं जो कि मोदी जी 15 सालों तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे थे फिर उसके बाद में प्रधानमंत्री बने तो दोनों के बीच में अनुभव का काफी अंतर है और उम्र के लिहाज से भी नरेंद्र मोदी राहुल गांधी से बड़े हैं उनकी भाषा शैली और उनका भाषणों में शब्दों का चुनाव काफी अच्छा है जबकि राहुल गांधी जी की जमानत सरल ही जाती है तो कहीं नरेंद्र मोदी राहुल गांधी जी की तुलना में काफी ज्यादा मशहूर हैं और उन को प्रभावित करने और शासन चलाने की क्षमता काफी अच्छी है

dekhie narendra modi aur rahul gandhi ke beech mein kaafi antar hai ise sarkar chalane ki baat jaha tak aati hai toh rahul gandhi abhi tak kisi rajya sarkar ya kendra sarkar ka hissa nahi bane hain jo ki modi ji 15 salon tak gujarat ke mukhyamantri rahe the phir uske baad mein Pradhanmantri bane toh dono ke beech mein anubhav ka kaafi antar hai aur umar ke lihaj se bhi narendra modi rahul gandhi se bade hain unki bhasha shaili aur unka bhashano mein shabdo ka chunav kaafi accha hai jabki rahul gandhi ji ki jamanat saral hi jati hai toh kahin narendra modi rahul gandhi ji ki tulna mein kaafi zyada mashoor hain aur un ko prabhavit karne aur shasan chalane ki kshamta kaafi acchi hai

देखिए नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच में काफी अंतर है इसे सरकार चलाने की बात जहां तक आ

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  560
WhatsApp_icon
play
user

Likes  10  Dislikes    views  401
WhatsApp_icon
user

Bikki

Aluminium Work Glass Work

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि हमने देखा है कि राहुल गांधी जो है उस शुरू से कांग्रेसमें रहे और उनके पास उनकी पुरखों का पैसा है कोई वॉइस तेमाल कर रही है और अगर नरेंद्र मोदी का देखा जाए कि वह जीरो लेवल से है और उन्हें देश के लिए अच्छे कार्य की और खुद के लिए उन्हें कुछ भी नहीं जोड़ा है अभी आपके लिए तौर पर देख सकते हैं उनका बैंक बैलेंस उनके परिवार वाले घरवाली उनके पास भी उतनी ज्यादा संपत्ति नहीं है नहीं तो आजकल कोई सरपंची मंत्र की सरपंची बनता है तो कोई ऐसी वाली ए घूमता है कि मोदी जी के साथ में साईं नाथ उनके परिवार वालों के पास कोई बंग्लोज प्रॉपर्टी हैं कंपनियां हैं नक्कारे हैं सिर्फ देश के हित के बारे में सोच रहे हैं तो हमें भी उनको सपोर्ट करना कि यह नहीं किया रे नहीं मोदी मोदी मोदी हर हर मोदी ने कुछ वह करा है चोरी की है तो फिर पैसा भी तो होगा कहां गया बैंक बैलेंस देख लो आप रिश्तेदारों को देखना उनके घर परिवार वालों को देख लो किसी ना किसी को तो दिया हो तो पैसा ऐसा तो है नहीं कि ने चोरी करी और कुछ तो प्रूफ हो तो हम लोग लगातार बोल या राउंड चोर है चोर है चोर है अरे चोरी की तो पैसा गया कहां भाई वह भी तो सबूत दिखाओ खाली बोलने से क्या होगा कि चोरा चोरा चोर

jaisa ki humne dekha hai ki rahul gandhi jo hai us shuru se congress me rahe aur unke paas unki purkhon ka paisa hai koi voice temal kar rahi hai aur agar narendra modi ka dekha jaye ki wah zero level se hai aur unhein desh ke liye acche karya ki aur khud ke liye unhein kuch bhi nahi joda hai abhi aapke liye taur par dekh sakte hain unka bank balance unke parivar wale gharwali unke paas bhi utani zyada sampatti nahi hai nahi toh aajkal koi sarpanchi mantra ki sarpanchi banta hai toh koi aisi wali a ghoomta hai ki modi ji ke saath mein sai nath unke parivar walon ke paas koi bangloj property hain companiya hain nakkare hain sirf desh ke hit ke bare mein soch rahe hain toh humein bhi unko support karna ki yeh nahi kiya ray nahi modi modi modi har har modi ne kuch wah kara hai chori ki hai toh phir paisa bhi toh hoga kahaan gaya bank balance dekh lo aap rishtedaron ko dekhna unke ghar parivar walon ko dekh lo kisi na kisi ko toh diya ho toh paisa aisa toh hai nahi ki ne chori kari aur kuch toh proof ho toh hum log lagatar bol ya round chor hai chor hai chor hai are chori ki toh paisa gaya kahaan bhai wah bhi toh sabut dikhaao khaali bolne se kya hoga ki chora chora chor

जैसा कि हमने देखा है कि राहुल गांधी जो है उस शुरू से कांग्रेसमें रहे और उनके पास उनकी प

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  391
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आप के अनुसार नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच क्या अंतर है तो मैं आपको बताना चाहता हूं नरेंद्र मोदी ने वह खासियत है लेकिन के पास काला है और राहुल गांधी जी के पास बोलने की कला नहीं है वह कब क्या बोलते हैं हमें खुद नहीं पता रहता है तो मेरे हिसाब से नरेंद्र मोदी जी ने आगामी अगर चुनाव 2019 का जीता है तो अपने दम पे जीते हैं क्योंकि उनके पास बोलने की कला है लेकिन उसमें उनकी उम्र में एक कमी भी है एक कमी है तो बहुत झूठ बोलते हैं और उन्हें कोई कमी नहीं है

dekhie aap ke anusaar narendra modi aur rahul gandhi ke beech kya antar hai toh main aapko batana chahta hoon narendra modi ne wah khasiyat hai lekin ke paas kala hai aur rahul gandhi ji ke paas bolne ki kala nahi hai wah kab kya bolte hain humein khud nahi pata rehta hai toh mere hisab se narendra modi ji ne aagaami agar chunav 2019 ka jita hai toh apne dum pe jeete hain kyonki unke paas bolne ki kala hai lekin usme unki umar mein ek kami bhi hai ek kami hai toh bahut jhuth bolte hain aur unhein koi kami nahi hai

देखिए आप के अनुसार नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के बीच क्या अंतर है तो मैं आपको बताना चाहता

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
user
0:18
Play

Likes  12  Dislikes    views  359
WhatsApp_icon
play
user

Aahil

Storyteller

1:14

Likes  10  Dislikes    views  334
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!