भारत के पड़ोसी देश भारत से इतनी नफ़रत क्यों करते है?...


user

Pankaj Vasuja

Cinematographer

3:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम राम भाइयों भारत के पड़ोसी देश भारत से इतनी नफरत क्यों करते हैं भारत के 2 पड़ोसी देश है ना पाकिस्तान में जो नफरत करता है बांग्लादेश श्रीलंका नेपाल भूटान से कोई नफरत नहीं करते आंकड़े उठाइए देखिए पाकिस्तान सभी सऊदी देशों की बोला था ना जिसका डीएनए इस्लाम भी नहीं है इसलिए पाकिस्तान भारत से नफरत करता पाकिस्तान का डीएनए हिंदू विरोधी है सिर्फ बांग्लादेश का डीएनए इस्लाम है बाकी सारे देशों का कोई न कोई रिलीजन है पाकिस्तान बनने का ही कुछ चंद बहुत से अमीर लोगों जो इस्लाम को मानने का नाटक करते थे उनसे पाकिस्तान बन गया वहीं भारत से नफरत करता है और उन्हीं का मीडिया और हिंदुस्तान में भी अच्छी पर्सेंट हिंदू है आखिर उनकी भी आत्मा बोलती है सदियों से खूब सारे मुसलमानों का बहुत आपने भी देखा जो राजा रहे हैं पुरानी रंजिश से हिंदू मुसलमान विरोधी से देखो कानून में भगवान करता है वह चीज बाकी अभी भी देखो करो ना के चलते मद्देनजर पाकिस्तान में इस महीने रमजान शुरू हो रहा है तो वह ऐसे हैं कि नमाज पढ़ने की अनुमति है वहां हिंदू जो मुसलमान भाई हैं वह तो देखो कितना को ऑपरेट कर रहे हैं फिर भी थोड़ा बहुत हो रहा है जो भी हो रहा है उनकी उम्र में धार जमात में जाना दिल्ली उनको पढ़ाई मदरसों में जाता था तो विचारों को जा रहे थे किसी को नहीं पता था ऐसी बीमारी चल जाएगी तो भारत के पड़ोसी देशों की मुझसे इतनी नफरत भारत के मित्रता संबंधी आठवीं क्लास नौवीं क्लास में पढ़ोगे जो पड़ोसी देश से रिश्ते हैं लंका से कोई लिट्टे के विरोध में भारत बहुत बड़ा देश है इसके अंदर छत्तीसगढ़ में भी आप देखो बहुत ज्यादा वह कश्मीर में भी आतंकवाद होता है दुश्मनों से मिलकर बना हुआ क्या करें होती है बड़ी-बड़ी सुपर पावर की ओर ले जाती है अब भारत की तो आप देखो चाइना भी दुश्मनी करता है चाइना का मुद्दा यानी बीच में चाइना जो दुश्मनी करते ना हो पता है हमारा माल लेना बंद करके ना काम करना शुरू कर दिया तो अगली सुपर पावर जो पूरा वर्ल्ड खिलाएगा हिंदुस्तानी चलाएगा चाइना इसीलिए देखो क्या किया उसने यूएसए तक सब को नहीं छोड़ा मानव जो सबसे कीमती चीज होती है जिसके अंग भी इतने महंगे बिकते हैं आपको पता ही होगा अब मैं कोई भेजता हूं ऐसा सच है तो इसी रीजन से पड़ोसी देश हुआ थोड़ा सा मुद्दा है बाकी यूएसए सभी रसिया बहुत मित्र देश है हमारे पुराने इंदिरा गांधी का टाइम से मित्रता चलती है और हमारे देश के नौजवान बहुत मेहनती है किसान भी बहुत मेहनती है इंशाल्लाह तरक्की करेंगे राम-राम सभी

ram ram bhaiyo bharat ke padosi desh bharat se itni nafrat kyon karte hain bharat ke 2 padosi desh hai na pakistan me jo nafrat karta hai bangladesh sri lanka nepal bhutan se koi nafrat nahi karte aankade uthaiye dekhiye pakistan sabhi saudi deshon ki bola tha na jiska DNA islam bhi nahi hai isliye pakistan bharat se nafrat karta pakistan ka DNA hindu virodhi hai sirf bangladesh ka DNA islam hai baki saare deshon ka koi na koi religion hai pakistan banne ka hi kuch chand bahut se amir logo jo islam ko manne ka natak karte the unse pakistan ban gaya wahi bharat se nafrat karta hai aur unhi ka media aur Hindustan me bhi achi percent hindu hai aakhir unki bhi aatma bolti hai sadiyon se khoob saare musalmanon ka bahut aapne bhi dekha jo raja rahe hain purani Ranjish se hindu musalman virodhi se dekho kanoon me bhagwan karta hai vaah cheez baki abhi bhi dekho karo na ke chalte maddenajar pakistan me is mahine ramjaan shuru ho raha hai toh vaah aise hain ki namaz padhne ki anumati hai wahan hindu jo musalman bhai hain vaah toh dekho kitna ko operate kar rahe hain phir bhi thoda bahut ho raha hai jo bhi ho raha hai unki umar me dhar jamaat me jana delhi unko padhai madarson me jata tha toh vicharon ko ja rahe the kisi ko nahi pata tha aisi bimari chal jayegi toh bharat ke padosi deshon ki mujhse itni nafrat bharat ke mitrata sambandhi aatthvi class nauveen class me padhoge jo padosi desh se rishte hain lanka se koi litte ke virodh me bharat bahut bada desh hai iske andar chattisgarh me bhi aap dekho bahut zyada vaah kashmir me bhi aatankwad hota hai dushmano se milkar bana hua kya kare hoti hai badi badi super power ki aur le jaati hai ab bharat ki toh aap dekho china bhi dushmani karta hai china ka mudda yani beech me china jo dushmani karte na ho pata hai hamara maal lena band karke na kaam karna shuru kar diya toh agli super power jo pura world khilaega hindustani chalayega china isliye dekho kya kiya usne usa tak sab ko nahi choda manav jo sabse kimti cheez hoti hai jiske ang bhi itne mehnge bikate hain aapko pata hi hoga ab main koi bhejta hoon aisa sach hai toh isi reason se padosi desh hua thoda sa mudda hai baki usa sabhi rasiya bahut mitra desh hai hamare purane indira gandhi ka time se mitrata chalti hai aur hamare desh ke naujawan bahut mehanati hai kisan bhi bahut mehanati hai inshallah tarakki karenge ram ram sabhi

राम राम भाइयों भारत के पड़ोसी देश भारत से इतनी नफरत क्यों करते हैं भारत के 2 पड़ोसी देश है

Romanized Version
Likes  203  Dislikes    views  1134
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Govind Saraf

Entrepreneur

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी चिल्ड्रन सी बात है जब आपका पड़ोसी आपसे ज्यादा ताकतवर हो रहा है तीरे तीरे आपसे तो स्ट्रांग बराबर देखने के लिए नंबर से बातें की आपको तकलीफ होगी कि आप लोग चिंतित हो गई थी मेरा पर उसमें सफलता नहीं पढ़ा पा रहा हूं सेपरेट तालुका पाकिस्तान पाकिस्तान के साथ बढ़ गई

vicky children si baat hai jab aapka padosi aapse zyada takatwar ho raha hai tire tire aapse toh strong barabar dekhne ke liye number se batein ki aapko takleef hogi ki aap log chintit ho gayi thi mera par usme safalta nahi padha paa raha hoon separate Taluka pakistan pakistan ke saath badh gayi

विकी चिल्ड्रन सी बात है जब आपका पड़ोसी आपसे ज्यादा ताकतवर हो रहा है तीरे तीरे आपसे तो स्ट्

Romanized Version
Likes  79  Dislikes    views  1495
WhatsApp_icon
user

साकेत कुमार

Senior Software Developer

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मैं पहले भी कहता हूं कि जब कभी आप प्रश्न पूछते हैं तो अपनी अवधारणा अपने भाई से सपने द्वंद को बाहर रखे भारत के सारे पड़ोसी भारत से नफरत नहीं करते और यह बात मैं आपको भी प्रमाणित कर दूंगा भारत 2 तरीके के सीमाओं को साझा करता है अन्य देशों के साथ एक समुद्री सीमा है और थल सीमा सीमा की बात करूं तो फिर पाकिस्तान से हमारे रिश्ते बुरे हैं पाकिस्तान को छोड़कर हमारे किसी के साथ बुरा नहीं लगा दे हमारे बहुत अच्छे संबंध है आप पर बांग्लादेशी शरणार्थियों की बात करते हैं कोई भी बड़ा देश अमेरिका हो इंडिया हो चाइना हो अगल-बगल के जो गरीब देश होते हैं वहां से माइग्रेशन होती है लेकिन इसको दोनों देशों के बीच में कटुता के रूप में नहीं लिखा जाता है एक पकी रितिक रितिक रोशन 1962 के बाद एक गोली नहीं चली नोटिफिकेशन के बाद एक गोली तक नहीं चली आप कैसे कह सकते हैं कि हमारे संबंध खराब है टीटी का स्तर पर दोनों देश का कंप्यूटर है तो चलता रहता है थोड़ा रिश्ते खराब है रिश्ते खराब है तो 70 बिलियन डॉलर का और 80 मिलियन डॉलर का एनुअल ट्रेडर कैसे जस्टिफाई करेंगे फिर बात आ जाती है श्रीलंका के साथ श्रीलंका के साथ राजीव गांधी का दिया हुआ थोड़ा सा कैंसर है धीरे-धीरे चाट रहे हैं काफी हद तक खबर रिश्ते सब सामान्य हो चुके हैं और अब जो मछुआरों से रिलेटेड जो तमिलनाडु में समस्या है उसे धीरे-धीरे करके हम लोग रोक लेंगे फिर से हमारे खराब नहीं है वहां भी अगर आप समझ ही समय की बात करते हैं तो इन रेशों सेवर संबंध खराब नहीं है थाईलैंड सेवर संबंध खराब नहीं है तो संबंध किसके साथ खराब है अफगानिस्तान है वो इतना पसंद करता है अगर आप पीओके को इंडिया का पाकिस्तान आपका और इसी वक्त

dekhiye main pehle bhi kahata hoon ki jab kabhi aap prashna poochhte hain toh apni avdharna apne bhai se sapne dwand ko bahar rakhe bharat ke saare padosi bharat se nafrat nahi karte aur yah baat main aapko bhi pramanit kar dunga bharat 2 tarike ke seemaon ko sajha karta hai anya deshon ke saath ek samudri seema hai aur thal seema seema ki baat karu toh phir pakistan se hamare rishte bure hain pakistan ko chhodkar hamare kisi ke saath bura nahi laga de hamare bahut acche sambandh hai aap par bangladeshi sharnarthiyon ki baat karte hain koi bhi bada desh america ho india ho china ho agal bagal ke jo garib desh hote hain wahan se migration hoti hai lekin isko dono deshon ke beech mein katuta ke roop mein nahi likha jata hai ek paki hrithik hrithik roshan 1962 ke baad ek goli nahi chali notification ke baad ek goli tak nahi chali aap kaise keh sakte hain ki hamare sambandh kharab hai tt ka sthar par dono desh ka computer hai toh chalta rehta hai thoda rishte kharab hai rishte kharab hai toh 70 billion dollar ka aur 80 million dollar ka annual trader kaise justify karenge phir baat aa jaati hai sri lanka ke saath sri lanka ke saath rajeev gandhi ka diya hua thoda sa cancer hai dhire dhire chat rahe hain kaafi had tak khabar rishte sab samanya ho chuke hain aur ab jo machhuaron se related jo tamil nadu mein samasya hai use dhire dhire karke hum log rok lenge phir se hamare kharab nahi hai wahan bhi agar aap samajh hi samay ki baat karte hain toh in reshon sevar sambandh kharab nahi hai thailand sevar sambandh kharab nahi hai toh sambandh kiske saath kharab hai afghanistan hai vo itna pasand karta hai agar aap POK ko india ka pakistan aapka aur isi waqt

देखिए मैं पहले भी कहता हूं कि जब कभी आप प्रश्न पूछते हैं तो अपनी अवधारणा अपने भाई से सपने

Romanized Version
Likes  81  Dislikes    views  1469
WhatsApp_icon
user

Vimal Srivastav

Journalist

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बहुत ही पॉजिटिव और बहुत ही अच्छा का रात में परिवार में तो कहूंगा अपने विचार थे जब कोई किसी से जलने लगे या पड़ोसियों से जलन करने लगे तो मान लीजिए कि हमारी उम्मीद नहीं रखते कि अगर हम आगे बढ़ रहे हैं तो पड़ोसियों को जलन हो रही है या गलत कर रहा है तो वह तो करना ही चाहिए मांग करना भी चाहिए तो करेंगे नहीं तो वह भी पिक्चर कव्वाली पूछा था मुझसे ऐसी के मुद्दे पर तो मैंने कहा था कि वह इस समय के लिए किया गया था अब पता बदलना होगा उसी प्रकार से अगर हमारे पड़ोसी दूध हमसे ना कर रहे हैं तो मुझे भी लगता है कि हमसे ज्यादा तेज बोलना होगा

yeh bahut hi positive aur bahut hi accha ka raat mein parivar mein toh kahunga apne vichar the jab koi kisi se jalne lage ya padoshiyon se jalan karne lage toh maan lijiye ki hamari ummid nahi rakhte ki agar hum aage badh rahe hain toh padoshiyon ko jalan ho rahi hai ya galat kar raha hai toh wah toh karna hi chahiye maang karna bhi chahiye toh karenge nahi toh wah bhi picture qawwali puchha tha mujhse aisi ke mudde par toh maine kaha tha ki wah is samay ke liye kiya gaya tha ab pata badalna hoga usi prakar se agar hamare padosi doodh humse na kar rahe hain toh mujhe bhi lagta hai ki humse zyada tez bolna hoga

यह बहुत ही पॉजिटिव और बहुत ही अच्छा का रात में परिवार में तो कहूंगा अपने विचार थे जब कोई क

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  629
WhatsApp_icon
user

Manoj Aligadi

Freelance Photo Journalist

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक सवाल बिल्कुल सीधा है जो ताकतवर होते हैं उससे कमजोर लोग नाराज होते चढ़ते हैं जो जलन भावना रखते हैं उसके लिए बता दूं भारत के पास बहुत प्राकृतिक संसाधन है आप प्राकृतिक संसाधन नदी पहाड़ जंगल की बहुत सारे ग्रुप हमारे देश में पैदा होते हैं उनकी उत्पत्ति होती है भारत और हम राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय लेवल पर सपना चौहान के भक्ति करोड़ की आबादी में अभी बात करी जाए विश्व की तो भारत में युवा सबसे ज्यादा है पावर ने हमारे इस सबसे ज्यादा हमारे देश में युवाओं की संख्या है और हमारा देश लोकतांत्रिक देश है और यहां पर हमें पूरा ग्राम प्रधान से लेकर राष्ट्रपति जनता के माध्यम से जाते हैं लोग और आज हमारे व्यापक दृष्टि से जो अपने आप हमारे भारत में इंट्री लेना चाहते हैं व्यापार की दृष्टि से भारत के जवान और भारत की सरकार व्यापारिक दृष्टि से हम लोग संसाधनों को सैया बना रहे अंतरराष्ट्रीय लेवल पर भेज रहे हैं भाजपा के लिए समर्पित

ek sawaal bilkul seedha hai jo takatwar hote hain usse kamjor log naaraj hote chadhte hain jo jalan bhavna rakhte hain uske liye bata doon bharat ke paas bahut prakirtik sansadhan hai aap prakirtik sansadhan nadi pahad jungle ki bahut saare group hamare desh mein paida hote hain unki utpatti hoti hai bharat aur hum rashtriya antararashtriya level par sapna Chauhan ke bhakti crore ki aabadi mein abhi baat kari jaaye vishwa ki toh bharat mein yuva sabse zyada hai power ne hamare is sabse zyada hamare desh mein yuvaon ki sankhya hai aur hamara desh loktantrik desh hai aur yahan par hamein pura gram pradhan se lekar rashtrapati janta ke madhyam se jaate hain log aur aaj hamare vyapak drishti se jo apne aap hamare bharat mein intri lena chahte hain vyapar ki drishti se bharat ke jawaan aur bharat ki sarkar vyaparik drishti se hum log sansadhano ko saiya bana rahe antararashtriya level par bhej rahe hain bhajpa ke liye samarpit

एक सवाल बिल्कुल सीधा है जो ताकतवर होते हैं उससे कमजोर लोग नाराज होते चढ़ते हैं जो जलन भावन

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1103
WhatsApp_icon
user

Vinod Tiwari

Journalist

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मैं आपको सबसे बड़ी बात यह है यह नफरत के पीछे का कारण यह है कि हम जब देखते हैं यही है कि आप एक छोटी सी उसको समझने के लिए एक छोटी सी कहानी समझ लीजिए कि हमारे स्कूल में जब 2 बच्चे एक साथ पढ़ते हैं अगर एक बच्चा बहुत पढ़ने में तेज है तो जो कमजोर है वह यह समझता मुझसे आगे ना निकल जाए लेकिन सवाल उठता है कि अगर घोड़ा तेज भागता है तो गधे को जिताने के लिए घोड़े के पैर में जंजीर में नहीं बन सकते सवाल उठता है क्या गधे घोड़े की बराबरी करना है उसके साथ तेज भागना होगा नफरत वाला काम किया मुझको पसंद नहीं करता यह सिर्फ अपनी कमजोरी बता रहे हैं तो क्या हमें मालूम है कि हम घोड़े से आगे नहीं बढ़ सकते इसलिए हमने आरोप लगा दिए कि उसके पैर में जंजीर बांधा हमारे देश का हमारे प्रदेश का आदमी कहीं जाकर अच्छा काम करता है तो वहां के लोग उसको उत्साहित करने की जगह उसको किस तरह से व्यवहार करते हैं कि तुमने दूसरे देश से आकर जादू कविता क्या हमारे माहौल प्रदेश का खराब कर दिया लेकिन मेहनत मेहनत होती है अगर कोई भी जाएगा एक साउथ इंडियन जा कर अगर कहीं चाय की दुकान खुलेगा और अगर अच्छा चाय और अच्छी व्यवहार है उसको सफलता मिलेगी लोग उसका सम्मान करेंगे लेकिन अगर कोई उसी प्रदेश का भी आकर बोलता है कि तुमने हमारे प्रदेश में आकर कब्जा कर लिया इसकी कमी है कि उसके त्याग बलिदान और ट्रेन को समझ नहीं पाया इस कारण से उसने आरोप लगाना शुरू कर दिए कि इनको बाहर निकालो जब से यह लोग आए हमारे प्रदेश की या हमारे क्षेत्र में तरक्की रुक गई लेकिन सवाल वही आता है कि गधे को जिताने के लिए घोड़े के पैरों में जंजीर नहीं बोल सकते अगर हमको थोड़े से जीतना है तो मैं घोड़े की बारात में आकर रेट लगाना पड़ेगी तभी निर्णय होगा चिंता है और कौन पीछे रहता है

dekhiye main aapko sabse badi baat yah hai yah nafrat ke peeche ka karan yah hai ki hum jab dekhte hain yahi hai ki aap ek choti si usko samjhne ke liye ek choti si kahani samajh lijiye ki hamare school mein jab 2 bacche ek saath padhte hain agar ek baccha bahut padhne mein tez hai toh jo kamjor hai vaah yah samajhata mujhse aage na nikal jaaye lekin sawaal uthata hai ki agar ghoda tez bhagta hai toh gadhe ko jitaane ke liye ghode ke pair mein zanjeer mein nahi ban sakte sawaal uthata hai kya gadhe ghode ki barabari karna hai uske saath tez bhaagna hoga nafrat vala kaam kiya mujhko pasand nahi karta yah sirf apni kamzori bata rahe hain toh kya hamein maloom hai ki hum ghode se aage nahi badh sakte isliye humne aarop laga diye ki uske pair mein zanjeer bandha hamare desh ka hamare pradesh ka aadmi kahin jaakar accha kaam karta hai toh wahan ke log usko utsaahit karne ki jagah usko kis tarah se vyavhar karte hain ki tumne dusre desh se aakar jadu kavita kya hamare maahaul pradesh ka kharab kar diya lekin mehnat mehnat hoti hai agar koi bhi jaega ek south indian ja kar agar kahin chai ki dukaan khulega aur agar accha chai aur achi vyavhar hai usko safalta milegi log uska sammaan karenge lekin agar koi usi pradesh ka bhi aakar bolta hai ki tumne hamare pradesh mein aakar kabza kar liya iski kami hai ki uske tyag balidaan aur train ko samajh nahi paya is karan se usne aarop lagana shuru kar diye ki inko bahar nikalo jab se yah log aaye hamare pradesh ki ya hamare kshetra mein tarakki ruk gayi lekin sawaal wahi aata hai ki gadhe ko jitaane ke liye ghode ke pairon mein zanjeer nahi bol sakte agar hamko thode se jeetna hai toh main ghode ki baraat mein aakar rate lagana padegi tabhi nirnay hoga chinta hai aur kaun peeche rehta hai

देखिए मैं आपको सबसे बड़ी बात यह है यह नफरत के पीछे का कारण यह है कि हम जब देखते हैं यही है

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  381
WhatsApp_icon
play
user

Aahil

Storyteller

1:37

Likes  11  Dislikes    views  317
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!