IBPS आरआरबी कार्यालय सहायक परीक्षा में कटऑफ इतना अधिक क्यों होता है?...


play
user

Sashank Agarwal

Director - TOPPERS CLASSES (flying brains edu. inst. pvt. ltd)

0:45

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश में अनइंप्लॉयमेंट बहुत ज्यादा है और बहुत सारे विद्यार्थी अपनी ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के बाद डबल कंपलीट करने के बाद इन परीक्षाओं की तैयारी में जुड़ जाते हैं और सभी लोग एक अच्छे एजुकेशन संस्थानों में बैठ कर पढ़ाई करते हैं तो जब हो तैयारी करते हैं वह सारे क्वेश्चन सॉल्व करते हैं तो जब पेपर में पोस्ट निकल कर आती है तो बहुत सारे कैंडिस का फॉर्म भरते हैं जबकि तीसरी कैंडिडेट फॉर्म भर रहे हैं सभी के साथ तैयारी कर रहे हैं तो सभी लोग अच्छा देने की प्रयास करते हैं और जब सब अच्छा देने का प्रयास करेंगे तो अच्छा पेपर करेंगे और उसमें कटऑफ याद आएगी तो आपको अगर सिलेक्शन की तो आपको और ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी अपना टाइम ज्यादा कि बोर्ड करना पड़ेगा पढ़ाई के लिए और फिर उस कट ऑफ में आपका नाम आप आएगा

hamare desh mein anaimplayament bahut zyada hai aur bahut saare vidyarthi apni graduation complete karne ke baad double complete karne ke baad in parikshao ki taiyari mein jud jaate hain aur sabhi log ek acche education sansthano mein baith kar padhai karte hain toh jab ho taiyari karte hain vaah saare question solve karte hain toh jab paper mein post nikal kar aati hai toh bahut saare kaindis ka form bharte hain jabki teesri candidate form bhar rahe hain sabhi ke saath taiyari kar rahe hain toh sabhi log accha dene ki prayas karte hain aur jab sab accha dene ka prayas karenge toh accha paper karenge aur usme cutoff yaad aayegi toh aapko agar selection ki toh aapko aur zyada mehnat karni padegi apna time zyada ki board karna padega padhai ke liye aur phir us cut of mein aapka naam aap aayega

हमारे देश में अनइंप्लॉयमेंट बहुत ज्यादा है और बहुत सारे विद्यार्थी अपनी ग्रेजुएशन कंप्लीट

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  1061
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ambuj Tiwari

Director, Swadesh Academy

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छे बच्चे होते नाम होता है कि हम खेलेंगे तिवारी करा देता है कि जला देता है मैं तेरी हो गई तो हम निकाल लेंगे कती पाटन हो गया क्या हो गया जो बच्चे को कॉल करना ही तो अमिताभ लगता है कि दबंग से कम होता है अगर जाते हैं और चंदा की चांदनी का विमोचन करवाया

acche bacche hote naam hota hai ki hum khelenge tiwari kara deta hai ki jala deta hai teri ho gayi toh hum nikaal lenge kati patan ho gaya kya ho gaya jo bacche ko call karna hi toh amitabh lagta hai ki dabang se kam hota hai agar jaate hain aur chanda ki chandni ka vimochan karvaya

अच्छे बच्चे होते नाम होता है कि हम खेलेंगे तिवारी करा देता है कि जला देता है मैं तेरी हो ग

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  196
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!