क्या यह सच है कि ज़्यादा तर महिलाओं को ऑर्गैज़म या चरम सुख नहीं मिलता है?...


user

Bhagwan Dass

Sexologist

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोटा लैंड को नहीं मिल पाता निकालकर लेडीस रोशनी को फीलिंग को समझ में परीक्षा देते कम हो जाए चेकिंग पॉइंट जिसका किसी को नहीं पता आज का टाइम में हर चीज जो होती है और जेंट्स को बहुत जल्दी डिस्चार्ज हो रहा है उनको इतना टाइम नहीं लग रही और जो टाइमिंग ले रहे हैं पूजा करने पहुंचे थे घर में रखा करके अगर उसको पकड़ कर भी हम कोशिश कर रही इस कारण से लड़कों के बाल

mota land ko nahi mil pata nikalakar ladies roshni ko feeling ko samajh mein pariksha dete kam ho jaaye checking point jiska kisi ko nahi pata aaj ka time mein har cheez jo hoti hai aur gents ko bahut jaldi discharge ho raha hai unko itna time nahi lag rahi aur jo timing le rahe hain puja karne pahuche the ghar mein rakha karke agar usko pakad kar bhi hum koshish kar rahi is karan se ladko ke baal

मोटा लैंड को नहीं मिल पाता निकालकर लेडीस रोशनी को फीलिंग को समझ में परीक्षा देते कम हो जाए

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  481
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!