क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए या सास-ससुर के अनुशासन का पालन करनी चाहिए?...


user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छपरा से नहीं क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए यह सास-ससुर के अनुशासन का पालन करना चाहिए देखा जाए तो सास-ससुर के अनुसार अनुशासन का पालन करना चाहिए अगर वह सही है तो अगर वह गलत है तो माता-पिता की भी सलाह ले सकते हैं लड़की जब शादी करके जाती है लड़की एक लड़की शादी करके जाती है उसके बाद वह औरत कहलाती है पत्नी कहलाते किसी की तो कभी ससुराल की बात अपने मायके में ना करें और मायके की बात अपने ससुराल में ना करें ससुराल में जो नीति नियम है वही उसे अपनाने चाहिए ताकि उसका ससुराल खुश रहे और उस लड़की को भी ससुरा के हिसाब से ही ढूंढना पड़ता है ओके यह एक नीति नियम है जिसका हर लड़की को पालन करना पड़ता है और वह अपनी मर्जी चलाने के आते हैं तो वह पति पत्नी के बीच का रिश्ता टूटने पर मजबूर होता है ठीक है तो लड़की को अपने सास-ससुर और वहां की फैमिली मेंबर का भी ध्यान रखना पड़ता है क्योंकि वह उस घर की बहू है उसको कर गिरी में सब को संभालना पड़ता है ठीक है और हो सके उतना अच्छे से संभालेंगे सामने भी संस्कृति संभाले के ठीक है दोनों को एक दूसरे को मैसेज करना होता है ओके सेट करना होता है तब जाकर कुछ अच्छा हो सकता और लड़की के मां-बाप अगर ससुराल में ज्यादा दिक्कत करते हैं तो लड़की के ससुराल से मायके आने के चांस ज्यादा बढ़ जाता है ओके

chapra se nahi kya ladki ko shadi ke baad apne mata pita ke anushasan ka palan karna chahiye yah saas sasur ke anushasan ka palan karna chahiye dekha jaaye toh saas sasur ke anusaar anushasan ka palan karna chahiye agar vaah sahi hai toh agar vaah galat hai toh mata pita ki bhi salah le sakte hain ladki jab shadi karke jaati hai ladki ek ladki shadi karke jaati hai uske baad vaah aurat kahalati hai patni kehlate kisi ki toh kabhi sasural ki baat apne mayke mein na kare aur mayke ki baat apne sasural mein na kare sasural mein jo niti niyam hai wahi use apnane chahiye taki uska sasural khush rahe aur us ladki ko bhi sasura ke hisab se hi dhundhana padta hai ok yah ek niti niyam hai jiska har ladki ko palan karna padta hai aur vaah apni marji chalane ke aate hain toh vaah pati patni ke beech ka rishta tutne par majboor hota hai theek hai toh ladki ko apne saas sasur aur wahan ki family member ka bhi dhyan rakhna padta hai kyonki vaah us ghar ki bahu hai usko kar giri mein sab ko sambhaalna padta hai theek hai aur ho sake utana acche se sambhalenge saamne bhi sanskriti sambhale ke theek hai dono ko ek dusre ko massage karna hota hai ok set karna hota hai tab jaakar kuch accha ho sakta aur ladki ke maa baap agar sasural mein zyada dikkat karte hain toh ladki ke sasural se mayke aane ke chance zyada badh jata hai ok

छपरा से नहीं क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए यह सास

Romanized Version
Likes  251  Dislikes    views  5845
WhatsApp_icon
20 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे क्या का प्रश्न क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए या सरसों के अनुशासन का पालन करना सही है तो आपको बताना चाहेंगे कि शादी के बाद तो जो लड़की है वह कभी बहू बन जाती है घर की तो उसको अपने सास-ससुर के द्वारा जो वहां पर जॉन शासन जो वहां पर परंपराएं हैं उनको फॉलो करना चाहिए और शादी से पहले अपने घर के अपने माता-पिता के जो परंपरा चल रहे हैं और जो ऐसा उनका अनुशासन है उसको फॉलो करना चाहिए धन्यवाद

waise kya ka prashna kya ladki ko shadi ke baad apne mata pita ke anushasan ka palan karna chahiye ya sarso ke anushasan ka palan karna sahi hai toh aapko bataana chahenge ki shadi ke baad toh jo ladki hai vaah kabhi bahu ban jaati hai ghar ki toh usko apne saas sasur ke dwara jo wahan par john shasan jo wahan par paramparayen hai unko follow karna chahiye aur shadi se pehle apne ghar ke apne mata pita ke jo parampara chal rahe hai aur jo aisa unka anushasan hai usko follow karna chahiye dhanyavad

वैसे क्या का प्रश्न क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए

Romanized Version
Likes  518  Dislikes    views  6394
WhatsApp_icon
user
0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विवाह के पश्चात लड़की शादी होकर जब अपने सास-ससुर के घर आ जाती है तो फिर उसे अनुशासन का पालन करना चाहिए माता पिता के द्वारा सिखाई गई अच्छी बातों का भी उसे बोलना नहीं चाहिए उसको अभी उसे पढ़ते रहना चाहिए लेकिन अनिवार्य हो जाता है कि उसके साथ ससुर क्या चाहते हैं किस प्रकार करते हैं उसका अनुसरण करना चाहिए ताकि आपके घर सुखी संपन्न बन सके और आपके साथ अपने माता पिता की

vivah ke pashchat ladki shadi hokar jab apne saas sasur ke ghar aa jaati hai toh phir use anushasan ka palan karna chahiye mata pita ke dwara sikhai gayi achi baaton ka bhi use bolna nahi chahiye usko abhi use padhte rehna chahiye lekin anivarya ho jata hai ki uske saath sasur kya chahte hain kis prakar karte hain uska anusaran karna chahiye taki aapke ghar sukhi sampann ban sake aur aapke saath apne mata pita ki

विवाह के पश्चात लड़की शादी होकर जब अपने सास-ससुर के घर आ जाती है तो फिर उसे अनुशासन का पाल

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  1676
WhatsApp_icon
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए या सास-ससुर के अनुशासन का पालन करना चाहिए कोई भी जो लड़की होती है उसकी शादी हो जाती है तो वह ससुराल में जाती है ससुराल में उसके पति के जो मां-बाप होते हैं उसको भी हो माता पिता के रूप में ही देखती है और मम्मी जी और पापा जी करते उनके भी चरण स्पर्श वही करती है और ससुराल में जाकर अपने लोग राष्ट्र पशु जो है उनके अनशन का उसको पालन करना चाहिए यही ठीक रहेगा लेकिन अनुशासन का पालन आप अवश्य के लिए क्योंकि वह अनुशासन का पालन में करके आप अपने जो मैं के का जो है आप मान बढ़ा रही हैं और आप दो परिवारों की इज्जत को आगे अच्छे से कर रही हैं इसका यही अच्छा रूप है और आपको साल में माता पिता का नाम चेक करना चाहिए और वहां के अनुसार पालक करना चाहिए

kya ladki ko shadi ke baad apne mata pita ke anushasan ka palan karna chahiye ya saas sasur ke anushasan ka palan karna chahiye koi bhi jo ladki hoti hai uski shadi ho jaati hai toh vaah sasural mein jaati hai sasural mein uske pati ke jo maa baap hote hain usko bhi ho mata pita ke roop mein hi dekhti hai aur mummy ji aur papa ji karte unke bhi charan sparsh wahi karti hai aur sasural mein jaakar apne log rashtra pashu jo hai unke anshan ka usko palan karna chahiye yahi theek rahega lekin anushasan ka palan aap avashya ke liye kyonki vaah anushasan ka palan mein karke aap apne jo main ke ka jo hai aap maan badha rahi hain aur aap do parivaron ki izzat ko aage acche se kar rahi hain iska yahi accha roop hai aur aapko saal mein mata pita ka naam check karna chahiye aur wahan ke anusaar paalak karna chahiye

क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए या सास-ससुर के अनुश

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1379
WhatsApp_icon
user

Suraj Shaw

Entrepreneur, Career Counsellor

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो प्रिंस है तो रिलेशनशिप धर्म पढ़े-लिखे जानू लगता है हमारे माता-पिता संदर्भ गूगल एंड परिवार की

hello prince hai toh Relationship dharm padhe likhe janu lagta hai hamare mata pita sandarbh google and parivar ki

हेलो प्रिंस है तो रिलेशनशिप धर्म पढ़े-लिखे जानू लगता है हमारे माता-पिता संदर्भ गूगल एंड पर

Romanized Version
Likes  80  Dislikes    views  796
WhatsApp_icon
user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल यह होना चाहिए था कि क्या एक नए जुड़े को शादी के बाद अपने घर वालों का या अपने सास-ससुर का ऐसा दोनों का किस का जो है रिचुअल से फिर जो उनके वे ऑफ लाइफ है क्या फॉलो करना चाहिए था जब दिनचर्या वगैरह सिर्फ लड़की को ही उनके बारे में पूछा तो आपको क्या लगता है कि लड़कों को नहीं करना चाहिए क्योंकि हर चीज के लिए क्यों इस तरह पर देनी पड़ती है परीक्षाएं बगैरा लड़की जो है जब बड़ी होती है अपने घर में तो काफी रिस्पांसिबिलिटी ऑलरेडी रहता है उसके ऊपर तो पूछा भी करके आती है तो वह यह सोच कर आती है कि अब वह अपने घर जा रही है और वहां पर वह अपने बलबूते अपने पति के साथ खुश रहेगी एक प्यार भरे रिश्ते में अगर वहां भी उसके लिए अन्य अनुशासन वेट कर रहा होता है कुछ रिक्रूट वेट कर रहे होते हैं तो यह डेफिनटली प्रॉब्लम वाली बात हो जाती है तो ऐसे में पति को चाहिए कि अगर जॉइंट फैमिली है तो अपने बाप को समझा दे कि थोड़ा टाइम दे ताकि वह घर में सेट हो जाए और उसके बाद जो वह कर सकती हैं वह करने दे और जो नहीं कर सकती उस पर इन से जबरदस्ती ना किया जाए शादी का अल्टीमेटम क्या होता है कि सब लोग मिलकर खुश रहे तनाव नो टेंशन नो झगड़े ना हो और कोई ब्रेकअप ना हो अगर समझदारी के साथ आप काम लेंगे तो खुशी खुशी लड़की जो है वह तो कुछ करेगी और आप भी इसी खुशी में उसके पेरेंट्स के लिए भी वही करेंगे जो वह आपके पैरेंट्स के लिए कर रही है तो प्लीज किसी को फोर्स मत कीजिए जबरदस्ती मत कीजिए जो जितना कर सकती और सब लोग मिलकर खुश रहिए

aapka sawaal yah hona chahiye tha ki kya ek naye jude ko shadi ke baad apne ghar walon ka ya apne saas sasur ka aisa dono ka kis ka jo hai ritual se phir jo unke ve of life hai kya follow karna chahiye tha jab dincharya vagera sirf ladki ko hi unke bare mein poocha toh aapko kya lagta hai ki ladko ko nahi karna chahiye kyonki har cheez ke liye kyon is tarah par deni padti hai parikshaen bagaira ladki jo hai jab baadi hoti hai apne ghar mein toh kaafi responsibility already rehta hai uske upar toh poocha bhi karke aati hai toh vaah yah soch kar aati hai ki ab vaah apne ghar ja rahi hai aur wahan par vaah apne balbute apne pati ke saath khush rahegi ek pyar bhare rishte mein agar wahan bhi uske liye anya anushasan wait kar raha hota hai kuch recruit wait kar rahe hote hai toh yah definatali problem wali baat ho jaati hai toh aise mein pati ko chahiye ki agar joint family hai toh apne baap ko samjha de ki thoda time de taki vaah ghar mein set ho jaaye aur uske baad jo vaah kar sakti hai vaah karne de aur jo nahi kar sakti us par in se jabardasti na kiya jaaye shadi ka ultimatum kya hota hai ki sab log milkar khush rahe tanaav no tension no jhagde na ho aur koi breakup na ho agar samajhdari ke saath aap kaam lenge toh khushi khushi ladki jo hai vaah toh kuch karegi aur aap bhi isi khushi mein uske parents ke liye bhi wahi karenge jo vaah aapke pairents ke liye kar rahi hai toh please kisi ko force mat kijiye jabardasti mat kijiye jo jitna kar sakti aur sab log milkar khush rahiye

आपका सवाल यह होना चाहिए था कि क्या एक नए जुड़े को शादी के बाद अपने घर वालों का या अपने सास

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  443
WhatsApp_icon
user

Neeraj Shukla

Philosopher || Avid Reader.

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न बहुत अच्छा है कि क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन करना चाहिए यह सास-ससुर के अनुशासन का देश सदैव आपको उन नियमों का पालन करना चाहिए जो उचित हो अनुचित अनुशासन का पालन आपको नहीं करना चाहिए जैसे अनुचित आपसे कोई अनुचित कार्य करा रहे हैं चाय आपके माता-पिता या उनके माता-पिता सास-ससुर माता-पिता कोई देर है अधिकार की बात तो जैसे आपको उनके यहां रहना और माता-पिता तो वहां पर आग रात मम्मी उनके साथ ससुर के साथ वहां पर आपको उनके अनुशासन के साथ रहना होगा लेकिन अगर आप अपने मम्मी पापा के पास आते हैं उनको पैसा अनुशासन है जो आपको उचित मार्ग पर ले जाता है आपकी समृद्धि के लिए हुए आपकी खुशी के लिए तो आपको उनके अनुसार सुनो को भी मानना चाहिए कि जो उचित हो जो आपको समृद्धि की ओर ले जाता हो अगर ऐसा कोई अनुशासन हो तो चाहे वह सास ससुर का हो चाहे माता-पिता को आपको दोनों मारने चाहिए

aapka prashna bahut accha hai ki kya ladki ko shadi ke baad apne mata pita ke anushasan ka palan karna chahiye yah saas sasur ke anushasan ka desh sadaiv aapko un niyamon ka palan karna chahiye jo uchit ho anuchit anushasan ka palan aapko nahi karna chahiye jaise anuchit aapse koi anuchit karya kara rahe hain chai aapke mata pita ya unke mata pita saas sasur mata pita koi der hai adhikaar ki baat toh jaise aapko unke yahan rehna aur mata pita toh wahan par aag raat mummy unke saath sasur ke saath wahan par aapko unke anushasan ke saath rehna hoga lekin agar aap apne mummy papa ke paas aate hain unko paisa anushasan hai jo aapko uchit marg par le jata hai aapki samridhi ke liye hue aapki khushi ke liye toh aapko unke anusaar suno ko bhi manana chahiye ki jo uchit ho jo aapko samridhi ki aur le jata ho agar aisa koi anushasan ho toh chahen vaah saas sasur ka ho chahen mata pita ko aapko dono maarne chahiye

आपका प्रश्न बहुत अच्छा है कि क्या लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता के अनुशासन का पालन क

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  612
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए दोस्तों शादीशुदा भी कोई भी लड़की को अपने ससुर का आज्ञा का पालन करना चाहिए उस पर माता-पिता को कोई अधिकार नहीं होता है क्योंकि इससे हनुमान जी किसी को आप आपको दरवाजा पर कोई भी भिखारी आया उसे आप अगर दान में कुछ रहता नहीं आप उससे मांग सकते हैं नहीं इसीलिए वही होता है जिसे आपने दान कर दी तो उसे पर उस पर आपका अधिकार नहीं होता इसलिए लड़कियों को भी समझना चाहिए कि मुझे दान कर दिया गया किसी के हाथ में अपना सा ससुर का ही आगे आना चाहिए

dekhiye doston shaadishuda bhi koi bhi ladki ko apne sasur ka aagya ka palan karna chahiye us par mata pita ko koi adhikaar nahi hota hai kyonki isse hanuman ji kisi ko aap aapko darwaja par koi bhi bhikhari aaya use aap agar daan mein kuch rehta nahi aap usse maang sakte hain nahi isliye wahi hota hai jise aapne daan kar di toh use par us par aapka adhikaar nahi hota isliye ladkiyon ko bhi samajhna chahiye ki mujhe daan kar diya gaya kisi ke hath mein apna sa sasur ka hi aage aana chahiye

देखिए दोस्तों शादीशुदा भी कोई भी लड़की को अपने ससुर का आज्ञा का पालन करना चाहिए उस पर माता

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
2:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

के लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता का अनुशासन का पालन करना चाहिए यह फसल के अनुशासन का पालन करना चाहिए अनुच्छेद अनुशासन अनुरूप अच्छे से प्रशासन करना इसे ही अनुशासन शब्द गेहम परिभाषा कर सकते हैं परिवार में माता-पिता से जो संस्कार सीखे गए वो एक अनुशासन के गिनती में हैं और उसका पालन करना सा सत्संग परिवार में या अपने ससुराल में तो वह एक अलग बात हो जाती है वहां पर जाने के प्रस्ताव शासन को जो मेरे वाल है अनुशासन है जो रीति रिवाज है उसे उस बच्चे को समझना चाहिए गा उसे पालन करना चाहिए गा और अनुशासन में कहीं रीति रिवाज की विवादित दिखाई देती है तो उसे बदलने का प्रयत्न करना चाहिए क्योंकि आगल आगे जाकर जो लड़की शादी में कहां जा रही है वह भविष्य में कुछ भी सफल बनाएंगे पुरानी परंपरा परिपाटी परिवार में चल रही है और उनका पालन हमारे साथ ससुर कर रहे हैं तो निश्चित परिपाटी को बदलने की स्थिति आएगी पंत बदलना कब जब आपका अधिकार पूर्णत्व परिवार में हो जाए आप पर विश्वास पूरी तरह से उस परिवार में बन जाए तब आप उस परिपाटी में परिवर्तन कर सकते हैं इसके बिना नहीं अन्यथा वहां पर नई परेशानियां उत्पन्न हो जाएगी तो पहले तो आप वहां ससुराल पक्ष में जाकर वहां के अनुशासन समझे उसे समझ के यह देखें कि वह अनुशासन सही है या गलत है यदि असत्य है या गलत है तो उसे धीरे-धीरे समय के साथ साथ में बदलने ऑपरेशन करें क्योंकि आगामी पीढ़ी जैसे वह इस आश्वासन के रूप में भूख भी बनेंगे और आप क्या पर भी बहू या आपकी बेटी बाहर जाएगी तो आप यदि पालन कर रहे हैं ससुराल पक्ष के सब बातों का और वह कुछ रानी परी पार्टी का है यह रूढ़िवादिता का है तो निश्चित ही आप में भी वह गलत चीज समावेश होगी और आप आगे की पीढ़ी को भी आप गलत दी है दिशा-निर्देश देंगे और सास-ससुर के अनुशासन का पालन करें पर दो जहां तक दे सही है उसी का करें धन्यवाद

ke ladki ko shadi ke baad apne mata pita ka anushasan ka palan karna chahiye yah fasal ke anushasan ka palan karna chahiye anuched anushasan anurup acche se prashasan karna ise hi anushasan shabd geham paribhasha kar sakte hai parivar mein mata pita se jo sanskar sikhe gaye vo ek anushasan ke ginti mein hai aur uska palan karna sa satsang parivar mein ya apne sasural mein toh vaah ek alag baat ho jaati hai wahan par jaane ke prastaav shasan ko jo mere val hai anushasan hai jo riti rivaaj hai use us bacche ko samajhna chahiye jaayega use palan karna chahiye jaayega aur anushasan mein kahin riti rivaaj ki vivaadit dikhai deti hai toh use badalne ka prayatn karna chahiye kyonki agal aage jaakar jo ladki shadi mein kahaan ja rahi hai vaah bhavishya mein kuch bhi safal banayenge purani parampara paripati parivar mein chal rahi hai aur unka palan hamare saath sasur kar rahe hai toh nishchit paripati ko badalne ki sthiti aayegi pant badalna kab jab aapka adhikaar purnatwa parivar mein ho jaaye aap par vishwas puri tarah se us parivar mein ban jaaye tab aap us paripati mein parivartan kar sakte hai iske bina nahi anyatha wahan par nayi pareshaniya utpann ho jayegi toh pehle toh aap wahan sasural paksh mein jaakar wahan ke anushasan samjhe use samajh ke yah dekhen ki vaah anushasan sahi hai ya galat hai yadi asatya hai ya galat hai toh use dhire dhire samay ke saath saath mein badalne operation kare kyonki aagaami peedhi jaise vaah is ashwasan ke roop mein bhukh bhi banenge aur aap kya par bhi bahu ya aapki beti bahar jayegi toh aap yadi palan kar rahe hai sasural paksh ke sab baaton ka aur vaah kuch rani pari party ka hai yah rudhivadita ka hai toh nishchit hi aap mein bhi vaah galat cheez samavesh hogi aur aap aage ki peedhi ko bhi aap galat di hai disha nirdesh denge aur saas sasur ke anushasan ka palan kare par do jaha tak de sahi hai usi ka kare dhanyavad

के लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता का अनुशासन का पालन करना चाहिए यह फसल के अनुशासन का

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
user

sanjay bhargav

जय परशुराम

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए शादी के बाद लड़की को अपने सास-ससुर का अनुशासन का पालन करना चाहिए क्योंकि माता-पिता का अनुशासन कुछ अलग होता है बच्चों को बहुत छूट रहती हो ससुराल में क्या होता है कि अपने हिसाब से अपने रिवाज के हिसाब से मर्यादा होती हैं तो वह सासु सॉरी बता देगी हमारे यहां पर ऐसा ऐसा होता है तो वहां पर घर का अनुशासन कैसे चलेगा एक बात और है जो उचित है उसको करना चाहिए अनुचित को नहीं करना चाहिए आपको देखना चाहिए क्या उचित है क्या नीचे क्योंकि जो अनुचित है उसका तो कोई विरोध कर सकता है और आप की विजय हुई क्योंकि सत्यमेव जयते इसलिए रिया को कोई प्रथा ऐसी लगती है जो अनुचित है इसका विरोध करना चाहते हैं तो आप उसको मत कीजिए और बताइए कि यह गलत है तो आपकी जरूर सुनी जाएगी यदि आप कोई अनुच्छेद कुछ भी है और आप उसको अनुच्छेद ठहरा रहे हैं और आपके हिसाब से वह सही है और बाकी लोगों के साथ तुम्हें गलत ही होगा क्योंकि सभी लोगों के हित में अपना हक समझना चाहिए

dekhiye shadi ke baad ladki ko apne saas sasur ka anushasan ka palan karna chahiye kyonki mata pita ka anushasan kuch alag hota hai baccho ko bahut chhut rehti ho sasural mein kya hota hai ki apne hisab se apne rivaaj ke hisab se maryada hoti hain toh vaah sasu sorry bata degi hamare yahan par aisa aisa hota hai toh wahan par ghar ka anushasan kaise chalega ek baat aur hai jo uchit hai usko karna chahiye anuchit ko nahi karna chahiye aapko dekhna chahiye kya uchit hai kya niche kyonki jo anuchit hai uska toh koi virodh kar sakta hai aur aap ki vijay hui kyonki satyamev jayate isliye riya ko koi pratha aisi lagti hai jo anuchit hai iska virodh karna chahte hain toh aap usko mat kijiye aur bataye ki yah galat hai toh aapki zaroor suni jayegi yadi aap koi anuched kuch bhi hai aur aap usko anuched thahara rahe hain aur aapke hisab se vaah sahi hai aur baki logo ke saath tumhe galat hi hoga kyonki sabhi logo ke hit mein apna haq samajhna chahiye

देखिए शादी के बाद लड़की को अपने सास-ससुर का अनुशासन का पालन करना चाहिए क्योंकि माता-पिता क

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  642
WhatsApp_icon
user

Saurabh Kumar

Biology student

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी लड़की का शादी होने के बाद क्या करना चाहिए जिससे अनुशासन अनुशासन होता है वो माता-पिता का इलाज नहीं होता है कि कुछ एक बातों में भी नेता हो सकती है उसमें आपको दोनों के लिए मेहनत करके चलना होगा कि नहीं सास-ससुर को तकलीफ हो नहीं माता पिता को तकलीफ आप बीच का रास्ता निकाली दोनों को मैसेज कीजिए कि आपके लिए बेहतर है

kisi ladki ka shadi hone ke baad kya karna chahiye jisse anushasan anushasan hota hai vo mata pita ka ilaj nahi hota hai ki kuch ek baaton mein bhi neta ho sakti hai usme aapko dono ke liye mehnat karke chalna hoga ki nahi saas sasur ko takleef ho nahi mata pita ko takleef aap beech ka rasta nikali dono ko massage kijiye ki aapke liye behtar hai

किसी लड़की का शादी होने के बाद क्या करना चाहिए जिससे अनुशासन अनुशासन होता है वो माता-पिता

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  478
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के बाद आपको शासन-प्रशासन का पाठ करना चाहिए लेकिन उनकी बात मानी तो सही आपको अपने ससुराल में सास ससुर का सम्मान करना चाहिए

shadi ke baad aapko shasan prashasan ka path karna chahiye lekin unki baat maani toh sahi aapko apne sasural mein saas sasur ka sammaan karna chahiye

शादी के बाद आपको शासन-प्रशासन का पाठ करना चाहिए लेकिन उनकी बात मानी तो सही आपको अपने ससुरा

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  354
WhatsApp_icon
user
0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

होता है अपना माता-पिता का बाद भी सुनना चाहिए और सासू मा का बात भी करना चाहिए कई बार ऐसा होता है की सासू मां के साथ झगड़ा हो गया और बहुत इमोशन होकर घर पर तो बहुत नेगेटिव इमोशन में आ गया हूं लेकिन उस टाइम में अगर उनका माता पिता पिता से अगर कुछ डिसीजन लेता है तो मेरे ख्याल से लगता है कहीं ना कहीं वह सलूशन निकल जाता है और अगर के लाइफ में बहुत तो पॉजिटिव एनर्जी रहेगा थैंक यू सो मच

hota hai apna mata pita ka baad bhi sunana chahiye aur sasu ma ka baat bhi karna chahiye kai baar aisa hota hai ki sasu maa ke saath jhagda ho gaya aur bahut emotion hokar ghar par toh bahut Negative emotion mein aa gaya hoon lekin us time mein agar unka mata pita pita se agar kuch decision leta hai toh mere khayal se lagta hai kahin na kahin vaah salution nikal jata hai aur agar ke life mein bahut toh positive energy rahega thank you so match

होता है अपना माता-पिता का बाद भी सुनना चाहिए और सासू मा का बात भी करना चाहिए कई बार ऐसा हो

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के बाद हमने अपनी संस्कृति अनुशासन पर चलना चाहिए क्योंकि शादी के बाद वही हमारी माता पिता होते हैं वह अपने बच्चों को कभी गलत बताएं

shadi ke baad humne apni sanskriti anushasan par chalna chahiye kyonki shadi ke baad wahi hamari mata pita hote hain vaah apne baccho ko kabhi galat batayen

शादी के बाद हमने अपनी संस्कृति अनुशासन पर चलना चाहिए क्योंकि शादी के बाद वही हमारी माता पि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लड़की पहले अपने मां बाप की सुनती है और इसके बाद अपने ससुराल साथ सुपर का अनुशासन रहना चाहिए

ladki pehle apne maa baap ki sunti hai aur iske baad apne sasural saath super ka anushasan rehna chahiye

लड़की पहले अपने मां बाप की सुनती है और इसके बाद अपने ससुराल साथ सुपर का अनुशासन रहना चाहिए

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लड़की को तो पहली बात यह है कि लड़की को तो पहले मां-बाप का अनुशासन करना चाहिए बट यह अलग बात है कि शादी के बाद लड़की को सत सा ससुर का अनुशासन अनुशासन को पूरा करना चाहिए मगर ऐसा नहीं कि किसी एक ही तरफ देखना चाहिए उसकी जिम्मेदारी दोनों तरह के दोस्त को रोकना नहीं चाहिए उसे मां-बाप की तरफ भी देखना चाहिए और सास-ससुर की तरफ भी और उसे उसे इस बात के लिए रुकना नहीं चाहिए अगर मां-बाप को कोई हेल्प की जरूरत होती है बेटी के बेटी को करना चाहिए आगे बढ़कर ना कि उसके साथ उसने उसे रोकना चाहिए कि बहुत गलत है

ladki ko toh pehli baat yah hai ki ladki ko toh pehle maa baap ka anushasan karna chahiye but yah alag baat hai ki shadi ke baad ladki ko sat sa sasur ka anushasan anushasan ko pura karna chahiye magar aisa nahi ki kisi ek hi taraf dekhna chahiye uski jimmedari dono tarah ke dost ko rokna nahi chahiye use maa baap ki taraf bhi dekhna chahiye aur saas sasur ki taraf bhi aur use use is baat ke liye rukna nahi chahiye agar maa baap ko koi help ki zarurat hoti hai beti ke beti ko karna chahiye aage badhkar na ki uske saath usne use rokna chahiye ki bahut galat hai

लड़की को तो पहली बात यह है कि लड़की को तो पहले मां-बाप का अनुशासन करना चाहिए बट यह अलग बात

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सास ससुर का पालन करने की आज्ञा का पालन करना चाहिए

saas sasur ka palan karne ki aagya ka palan karna chahiye

सास ससुर का पालन करने की आज्ञा का पालन करना चाहिए

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user
0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सास ससुर और माता-पिता एक ही समान समझा जाता है और मां-बाप का कहना सर्व मान सही होता है और सास-ससुर का भी कहना सही होता है तो दोनों में दोनों ही सही है

saas sasur aur mata pita ek hi saman samjha jata hai aur maa baap ka kehna surv maan sahi hota hai aur saas sasur ka bhi kehna sahi hota hai toh dono mein dono hi sahi hai

सास ससुर और माता-पिता एक ही समान समझा जाता है और मां-बाप का कहना सर्व मान सही होता है और स

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता क्या है अनुशासन का पालन करने के साथ-साथ ससुर के अनुशासन का पालन भी करना चाहिए क्योंकि क्योंकि सभी के परिवार एक समान होते हैं

har ladki ko shadi ke baad apne mata pita kya hai anushasan ka palan karne ke saath saath sasur ke anushasan ka palan bhi karna chahiye kyonki kyonki sabhi ke parivar ek saman hote hain

हर लड़की को शादी के बाद अपने माता-पिता क्या है अनुशासन का पालन करने के साथ-साथ ससुर के अनु

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अनुशासन तो हर जगह हर एक इंसान के लिए एक ही होता है अलग तो अनुशासन तब होता है जब इंसान की अपनी बात मनवाने होती है जिद्दी पन पर जाता है तो ऐसे हालात में तो सास-ससुर का अनुशासन का पालन करनी चाहिए थैंक्स

anushasan toh har jagah har ek insaan ke liye ek hi hota hai alag toh anushasan tab hota hai jab insaan ki apni baat manvane hoti hai jiddi pan par jata hai toh aise haalaat mein toh saas sasur ka anushasan ka palan karni chahiye thanks

अनुशासन तो हर जगह हर एक इंसान के लिए एक ही होता है अलग तो अनुशासन तब होता है जब इंसान की अ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
apne sasur ke aage ; अपने ससुराल के आगे गूगल कैसे चलेगी ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!