वर्तमान में मनोविज्ञान किस स्वरूप में इसका श्रेय जाता है?...


user

Dharamvir singh

Serviceman Indian Army

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न मनोविज्ञान के पक्ष में हैं प्रारंभ में मनोविज्ञान को मन का विज्ञान माना गया उसके बाद उसको हाथ में चेतना का विज्ञान माना गया लेकिन अभी वर्तमान समय में इसको बिहार का विज्ञान माना जाता है मनोविज्ञान से तात्पर्य की चेतना आत्मा तथा बिहार का संयुक्त मिलाजुला रूप भी मनोविज्ञान है यानी कि मानव की स्वार्थी क्षमता उसकी सूचना और उसको कि लंबे करने का तरीका है यानि कि एक तरीका का मनुष्य का व्यवहार ही हुआ सब चीजें मिलाकर हुआ व्यवहार बिहेवियर में शामिल होता है इसलिए मनुष्य के व्यवहार को मनोचिकित्सक रुप से बरसाना या उसके मन का उसके व्यवहार का अध्ययन करना ही मनोविज्ञान कहलाता है थैंक यू सो मच

aapka prashna manovigyan ke paksh me hain prarambh me manovigyan ko man ka vigyan mana gaya uske baad usko hath me chetna ka vigyan mana gaya lekin abhi vartaman samay me isko bihar ka vigyan mana jata hai manovigyan se tatparya ki chetna aatma tatha bihar ka sanyukt milajula roop bhi manovigyan hai yani ki manav ki swaarthi kshamta uski soochna aur usko ki lambe karne ka tarika hai yani ki ek tarika ka manushya ka vyavhar hi hua sab cheezen milakar hua vyavhar behaviour me shaamil hota hai isliye manushya ke vyavhar ko manochikitsak roop se barsana ya uske man ka uske vyavhar ka adhyayan karna hi manovigyan kehlata hai thank you so match

आपका प्रश्न मनोविज्ञान के पक्ष में हैं प्रारंभ में मनोविज्ञान को मन का विज्ञान माना गया उस

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1500
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

POOJA ( Psychologist )

Education Counselor

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वर्तमान में मनोविज्ञान किसका रूप में इसका क्या मिलता है आपको एक ही कहा जाए गुड बट की परिभाषा के अकॉर्डिंग बता दूंगी आपको ठीक है सबसे पहले यह जो कहा जाए साइकोलॉजी मनोविज्ञान स्टार्ट हुआ सप्तमी से 18 वीं शताब्दी में जोधा अकबर क्लोज पर है ना वगैरा-वगैरा एंड आईटी सेक्टर में परिभाषा बताऊंगी आपको बुडबक पढ़ना जिसमें आपको पूरा क्लियर हो जाएगा वर्तमान में मनोविज्ञान की स्वरूप में इसका शहर इसको शेयर कसम मनोविज्ञान में अपनी आत्मा ने की आत्मा को माना फिर उसको त्याग करें फिर इसने अपने मन का त्याग किया कि पहले आत्मा का निर्माण का त्याग किया प्यार करता है मनोविज्ञान व्यवहार करते हैं वह आजा मनोविज्ञान के अंदर आता है अरे बात उसको कहा जा अपना का त्याग करते धड़के फिर मन और मन का त्याग करके फिर हम इस चेतना हमारी चेतना होती और उसके बाद वह हमारा व्यवहार बन गया ठीक है बहुत सारे मनोविज्ञान मनोविज्ञान की जैसा व्यवहार करते हैं उसकी विधि को स्वीकार करता है

vartaman me manovigyan kiska roop me iska kya milta hai aapko ek hi kaha jaaye good but ki paribhasha ke according bata dungi aapko theek hai sabse pehle yah jo kaha jaaye psychology manovigyan start hua saptami se 18 vi shatabdi me jodha akbar close par hai na vagera vagera and it sector me paribhasha bataungi aapko budabak padhna jisme aapko pura clear ho jaega vartaman me manovigyan ki swaroop me iska shehar isko share kasam manovigyan me apni aatma ne ki aatma ko mana phir usko tyag kare phir isne apne man ka tyag kiya ki pehle aatma ka nirmaan ka tyag kiya pyar karta hai manovigyan vyavhar karte hain vaah aajad manovigyan ke andar aata hai are baat usko kaha ja apna ka tyag karte dhadake phir man aur man ka tyag karke phir hum is chetna hamari chetna hoti aur uske baad vaah hamara vyavhar ban gaya theek hai bahut saare manovigyan manovigyan ki jaisa vyavhar karte hain uski vidhi ko sweekar karta hai

वर्तमान में मनोविज्ञान किसका रूप में इसका क्या मिलता है आपको एक ही कहा जाए गुड बट की परिभा

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  795
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!