भाजपा अपनी मोरल वैल्यू को क्यों खो रही है?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:38

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज मोरल वैल्यू आप किस पार्टी के मानते हैं मुझे तो नहीं लगता कि इंडिया में कोई भी पॉलीटिकल पार्टीज है और उसकी मूरत भेजने को अर्थात सभी पार्टियों छल कपट झूठ फरेब हम सभी का सहारा लेंगे सभी स्वार्थी खुदगर्ज नेताओं से भरी हुई है जिनका काम केवल जनता से झूठे वायदे करना है तो कर देना है और एक बार चीज जाने के बाद में अपनी पेंशन प्राप्त करना है और 5 साल तक एस करना है मुझे किसी का भी हालत ऐसी नहीं लगती जो मोदी जैसा हो या योगी जैसा हो या अमित शाह जैसा क्योंकि हमेशा तो वैसे ही बहुत धन आदि करके हैं और मोदी जी खुद बॉटम से उठे हैं और योगी जी भी बोतल से उठे हैं लेकिन योगी जी और मोदी जी जितनी देश के प्रति निष्ठा है जितनी देशभक्ति है जितना दया धर्म है जितनी उतारता है जितनी भारतीयों के लिए कुछ करने की इच्छा है जी भारत का विकास चाहते हैं कि देश भक्ति है ऐसे साइज इंडिया में आपको लेटर बहुत कम देखने को मिलेंगे भाजपा में भी ऐसे कम है क्योंकि भाजपा में भी तो दलबदलू है बहुत सारे जो अवसरवादी हैं मौका देकर के रंग बदल कर दो इधर आ गए हैं और जब कांग्रेस की सरकार देगी दूध जाएंगे तो भारत के नेताओं की हालत है मौर्य वैल्यू तो इंडिया में पॉलीटिकल पार्टीज किसी की नहीं है वह जमाने गए जब राजनीति जनता के लिए होती थी जनहित के लिए होती थी जनसेवा के लिए होती थी आज तो घर बनने के लिए होती है कमाने खाने के लिए होती है राजनीतिक व्यवसाय बन चुका है

aaj moral value aap kis party ke maante hain mujhe toh nahi lagta ki india me koi bhi political parties hai aur uski murat bhejne ko arthat sabhi partiyon chhal kapat jhuth fareb hum sabhi ka sahara lenge sabhi swaarthi khudagarj netaon se bhari hui hai jinka kaam keval janta se jhuthe vaade karna hai toh kar dena hai aur ek baar cheez jaane ke baad me apni pension prapt karna hai aur 5 saal tak S karna hai mujhe kisi ka bhi halat aisi nahi lagti jo modi jaisa ho ya yogi jaisa ho ya amit shah jaisa kyonki hamesha toh waise hi bahut dhan aadi karke hain aur modi ji khud bottom se uthe hain aur yogi ji bhi bottle se uthe hain lekin yogi ji aur modi ji jitni desh ke prati nishtha hai jitni deshbhakti hai jitna daya dharm hai jitni utarata hai jitni bharatiyon ke liye kuch karne ki iccha hai ji bharat ka vikas chahte hain ki desh bhakti hai aise size india me aapko letter bahut kam dekhne ko milenge bhajpa me bhi aise kam hai kyonki bhajpa me bhi toh dalabadalu hai bahut saare jo avasaravadi hain mauka dekar ke rang badal kar do idhar aa gaye hain aur jab congress ki sarkar degi doodh jaenge toh bharat ke netaon ki halat hai maurya value toh india me political parties kisi ki nahi hai vaah jamane gaye jab raajneeti janta ke liye hoti thi janhit ke liye hoti thi jansewa ke liye hoti thi aaj toh ghar banne ke liye hoti hai kamane khane ke liye hoti hai raajnitik vyavasaya ban chuka hai

आज मोरल वैल्यू आप किस पार्टी के मानते हैं मुझे तो नहीं लगता कि इंडिया में कोई भी पॉलीटिकल

Romanized Version
Likes  417  Dislikes    views  4989
KooApp_icon
WhatsApp_icon
26 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!