महागठबंधन मोदी को हराने के लिए है या देश के विकाश के लिए ,कांग्रेस अकेले चुनाव क्यों नहीं लड़ सकती?...


play
user

Saurabh Kumar

Biology student

0:34

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महागठबंधन किसी भी एंगल से देश के विकास के लिए नहीं बल्कि मोदी जी को हराने के लिए गठबंधन किया गया और जहां तक रही बात देश विकास करने की विशेष कविता सिल्क मनाने के महागठबंधन में कभी भी संभव नहीं है क्योंकि 10 आदमी जी समूह में रहेगा वहां द 100 आदमी का दसों दिमाग रहेगा प्रत्येक लोग अपना कानून अलग बनाना चाहिए की तरह से किसी मामले को हैंडल करना चाहिए तो संभव नहीं है कि 10 लोग मिलकर के देश का विकास कर सके इसके लिए किसी एक पार्टी का होना जरूरी है

mahagathbandhan kisi bhi Angle se desh ke vikas ke liye nahi balki modi ji ko harane ke liye gathbandhan kiya gaya aur jaha tak rahi baat desh vikas karne ki vishesh kavita silk manane ke mahagathbandhan mein kabhi bhi sambhav nahi hai kyonki 10 aadmi ji samuh mein rahega wahan the 100 aadmi ka deso dimag rahega pratyek log apna kanoon alag banana chahiye ki tarah se kisi mamle ko handle karna chahiye toh sambhav nahi hai ki 10 log milkar ke desh ka vikas kar sake iske liye kisi ek party ka hona zaroori hai

महागठबंधन किसी भी एंगल से देश के विकास के लिए नहीं बल्कि मोदी जी को हराने के लिए गठबंधन कि

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  401
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

काम पर सब पहले की तरह मजबूत स्थिति में नहीं है देश में कांग्रेस की लोकप्रियता का ग्राफ काफी नीचे चला गया है और कांग्रेस हमेशा अपना नीता गांधी परिवार में ठीक चलती है कांग्रेस का चेहरा हमेशा गांधी परिवार में से ही होता है और अब उनकी नजर राहुल गांधी पर है इसके बारे में जनता की यही तक राजनीति के लिए पूरी तरह से परिपक्व नहीं है और अगर कांग्रेस को बनाती है तो मुझे नहीं लगता है कि जनता कांग्रेस का पूरी तरह से गठबंधन की ज्योति दल आपस में मिल रहे हैं उनके विचार बिल्कुल कि नहीं मिलते हैं कि नहीं मिलते हैं देश के विकास के बारे में कैसे हो सकते हैं सबसे बड़ी कमी है कि हम सब मिलकर महागठबंधन की तरह से मोदी जी को प्रधानमंत्री नहीं बने तो देश की विकास के बारे में तो यह गठबंधन बिल्कुल भी नहीं सोच रहा है और जहां तक विचार करने योग्य बात यह है कि अगर एक मजबूत सरकार होती है अगर एक ही पार्टी की सरकार होती है तो उनके विचार आपस में मिलते हैं और एक साथ काम करने की कोशिश करते हैं लेकिन अलग अलग दलों की सरकार मिलकर कार्य नहीं कर सकती है देश का विकास नहीं कर

kaam par sab pehle ki tarah majboot sthiti mein nahi hai desh mein congress ki lokpriyata ka graph kaafi niche chala gaya hai aur congress hamesha apna neeta gandhi parivar mein theek chalti hai congress ka chehra hamesha gandhi parivar mein se hi hota hai aur ab unki nazar rahul gandhi par hai iske bare mein janta ki yahi tak raajneeti ke liye puri tarah se paripakva nahi hai aur agar congress ko banati hai toh mujhe nahi lagta hai ki janta congress ka puri tarah se gathbandhan ki jyoti dal aapas mein mil rahe hain unke vichar bilkul ki nahi milte hain ki nahi milte hain desh ke vikas ke bare mein kaise ho sakte hain sabse badi kami hai ki hum sab milkar mahagathbandhan ki tarah se modi ji ko pradhanmantri nahi bane toh desh ki vikas ke bare mein toh yah gathbandhan bilkul bhi nahi soch raha hai aur jaha tak vichar karne yogya baat yah hai ki agar ek majboot sarkar hoti hai agar ek hi party ki sarkar hoti hai toh unke vichar aapas mein milte hain aur ek saath kaam karne ki koshish karte hain lekin alag alag dalon ki sarkar milkar karya nahi kar sakti hai desh ka vikas nahi kar

काम पर सब पहले की तरह मजबूत स्थिति में नहीं है देश में कांग्रेस की लोकप्रियता का ग्राफ काफ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महागठबंधन जो किया जा रहा है तो वह दोनों ही चीजें हो सकती है हो सकता है कि उनको नहीं चाहिए कि मोदी सरकार वापस है उन्हीं की जो है सारी जगह पूछो तो इसरी कैसे हो जो है विपक्षी सोचा है और कांग्रेस अकेले चुनाव नहीं लड़ सकते हैं क्योंकि जो है अभी हम सबको पता है कि मोदी जी किस तरीके से काम करें वह भी करते हैं तो हमेशा के लिए जो है वह जीत नहीं अपनी जीत नहीं पा रही है वह महागठबंधन करना चाहते हैं जैसे कि मोदी को हरा भी सके और सब लोग मिलकर काम करेंगे तो यह देश के विकास के लिए भी ऐसे ही निर्णय होगा

mahagathbandhan jo kiya ja raha hai toh vaah dono hi cheezen ho sakti hai ho sakta hai ki unko nahi chahiye ki modi sarkar wapas hai unhi ki jo hai saree jagah pucho toh isri kaise ho jo hai vipakshi socha hai aur congress akele chunav nahi lad sakte hain kyonki jo hai abhi hum sabko pata hai ki modi ji kis tarike se kaam kare vaah bhi karte hain toh hamesha ke liye jo hai vaah jeet nahi apni jeet nahi paa rahi hai vaah mahagathbandhan karna chahte hain jaise ki modi ko hara bhi sake aur sab log milkar kaam karenge toh yah desh ke vikas ke liye bhi aise hi nirnay hoga

महागठबंधन जो किया जा रहा है तो वह दोनों ही चीजें हो सकती है हो सकता है कि उनको नहीं चाहिए

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  252
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!