मैं कोई नए लोगो से मिलता हूँ तो नर्वस हो जाता हूँ, मुह से पूरी तरह से आवाज निकलती नहीं है कुछ सलाह दीजिए?...


play
user

Norang sharma

Social Worker

1:56

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों मैं नौरंग शर्मा आज बात करने जा रहा हूं उस नर्वसनेस कि जब लोगों से मिलते वक्त आपको हो जाती है और मुंह से टोटली आवाज नहीं निकलती हो सकती है उसके लिए आप नर्वस क्यों महसूस करते हैं पहले तो उसका रीजन आफ ढूंढी सेट करो कि आप में कोई इंफेरियारिटी है कहीं ना कहीं अपनी सोच रहती है कि पता नहीं लोग बुरा मान जाएंगे या मुझ पर हंसने के या मुझे तो कुछ बोलना ही नहीं आता हर तरीके से आप कहीं ना कहीं खुद को कुछ नेगेटिव मैसेज दे रहे होते हैं इसीलिए जो आपकी बॉडी लैंग्वेज है उसमें भी वह चीज नजर आती है तो आपकी नर्वसनेस कम हो सकती है कुछ छोटी-छोटी प्रैक्टिस इससे तो आप जब अकेली हूं जब कोई ना हो आपके आसपास तक शीशे में देखते हुए इसका अभ्यास शुरू कर सकते हैं और अपने आप से बातें करेंगे आधा घंटा 15 मिनट 20 मिनट अगर जितना भी आपको टाइम मिल जाता है दिन भर के दौरान आप शीशे के सामने बोलने की प्रैक्टिस से शुरुआत करें फिर देखेंगे कि 10 15 दिन में आप इतना सक्षम खुद को महसूस करेंगे कि फिर जब आप लोगों के साथ सामने जाएंगे तो फिर आप वहां भी अच्छा परफॉर्म कर पाएंगे वहां भी आप उनसे पूछ पाएंगे उन्हें कुछ बता पाएंगे अपने भी उनके साथ शेयर कर पाएंगे तो यह नर्वसनेस ऐसी नर्वसनेस है जो करीब करीब सभी को पहले पहले होती है लेकिन जब एक बार आप इस नर्वसनेस को पार कर जाएंगे तो फिर आपके सामने चाय हजारों लोग ऊंचे इलाकों में और आप अपना मैसेज इसीलिए उन तक कन्वे कर पाएंगे आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स पहले से बेहतर हो जाएंगे तो अपने आप को ही अपना दोस्त मान कर अपने आप से शुरुआत करें आप एक दिन बेस्ट बन जाएंगे धन्यवाद

namaskar doston main naurang sharma aaj baat karne ja raha hoon us nervousness ki jab logo se milte waqt aapko ho jaati hai aur mooh se totally awaaz nahi nikalti ho sakti hai uske liye aap nervous kyon mehsus karte hain pehle toh uska reason of dhundhi set karo ki aap mein koi imferiyariti hai kahin na kahin apni soch rehti hai ki pata nahi log bura maan jaenge ya mujhse par hasne ke ya mujhe toh kuch bolna hi nahi aata har tarike se aap kahin na kahin khud ko kuch Negative massage de rahe hote hain isliye jo aapki body language hai usme bhi vaah cheez nazar aati hai toh aapki nervousness kam ho sakti hai kuch choti choti practice isse toh aap jab akeli hoon jab koi na ho aapke aaspass tak shishe mein dekhte hue iska abhyas shuru kar sakte hain aur apne aap se batein karenge aadha ghanta 15 minute 20 minute agar jitna bhi aapko time mil jata hai din bhar ke dauran aap shishe ke saamne bolne ki practice se shuruat kare phir dekhenge ki 10 15 din mein aap itna saksham khud ko mehsus karenge ki phir jab aap logo ke saath saamne jaenge toh phir aap wahan bhi accha perform kar payenge wahan bhi aap unse puch payenge unhe kuch bata payenge apne bhi unke saath share kar payenge toh yah nervousness aisi nervousness hai jo kareeb kareeb sabhi ko pehle pehle hoti hai lekin jab ek baar aap is nervousness ko par kar jaenge toh phir aapke saamne chai hazaro log unche ilako mein aur aap apna massage isliye un tak convey kar payenge aapki communication skills pehle se behtar ho jaenge toh apne aap ko hi apna dost maan kar apne aap se shuruat kare aap ek din best ban jaenge dhanyavad

नमस्कार दोस्तों मैं नौरंग शर्मा आज बात करने जा रहा हूं उस नर्वसनेस कि जब लोगों से मिलते वक

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  324
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है आप में आत्मविश्वास की बहुत ज्यादा कमी है और शायद आप किसी चीज से अपने आप को कम समझते हैं आप शायद किसी को नहीं बात करते हो सकती है लेकिन अगर आपको लगता है आपकी आप किसी चीज में और लोगों से कम है तो उसमें इंप्रूवमेंट चाहिए अपने आप को तैयार कीजिए और किसी से बात करें बात नहीं करेंगे परिवार वाले हैं उनसे खुलकर बात करने की कोशिश की तो फिर से अपने दोस्तों

mujhe lagta hai aap mein aatmvishvaas ki bahut zyada kami hai aur shayad aap kisi cheez se apne aap ko kam samajhte hain aap shayad kisi ko nahi baat karte ho sakti hai lekin agar aapko lagta hai aapki aap kisi cheez mein aur logo se kam hai toh usme improvement chahiye apne aap ko taiyar kijiye aur kisi se baat kare baat nahi karenge parivar waale hain unse khulkar baat karne ki koshish ki toh phir se apne doston

मुझे लगता है आप में आत्मविश्वास की बहुत ज्यादा कमी है और शायद आप किसी चीज से अपने आप को कम

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  236
WhatsApp_icon
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कभी भी अपने ही लोगों से मिलते ही तो आप बात नहीं कर पाते हैं आप कोई भी बहुत दूर नहीं पाते हैं मतलब बहुत ही ज्यादा लोगों से बात करनी है तो पूरे कॉन्फिडेंट होने के साथ अब फायदे हैं सामने में क्या आप हमसे बात करने की कोशिश करें क्योंकि जब तक आप कोशिश नहीं करेगा बात बिल्कुल नहीं कर पाएंगे

kabhi bhi apne hi logo se milte hi toh aap baat nahi kar paate hain aap koi bhi bahut dur nahi paate hain matlab bahut hi zyada logo se baat karni hai toh poore confident hone ke saath ab fayde saamne mein kya aap humse baat karne ki koshish kare kyonki jab tak aap koshish nahi karega baat bilkul nahi kar payenge

कभी भी अपने ही लोगों से मिलते ही तो आप बात नहीं कर पाते हैं आप कोई भी बहुत दूर नहीं पाते ह

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसकी आपने बोला कि आप कुछ भी नहीं लोगों से मिलते हैं तो मैं बस बताते हैं आवाज भी नहीं करती मुझसे बात नहीं करती थी उसे ठीक है थोड़ा हिचकी चाहते हैं किस से बात करनी तो यह समझ में आती है कि आप को दूर करने हैं तो जब भी आप कोई नए लोगों से मिलते हैं बहुत बात नहीं किसी से नहीं किसी लेकिन धीरे-धीरे जो है बातें करना स्टार्ट कीजिए ऐसा नहीं कि कल जो आपके ऑफिस में कोई मिल जाए तो आप इसलिए ऑफिस के बीच में बातें कर सकते हैं कोई दोस्त है तो दोस्त इस तरह के लिए बातें करते हैं स्टार्टिंग से कहां से हैं जान पहचान कर सकते हैं फिर धीरे कंफर्टेबल हो तो आगे बातें करते थे स्टार्ट लेना पड़ता है और इसलिए खुद आपको सॉल्व करना पड़ेगा खुद से आप दूर कर सकते अपने आप को फोन कीजिए पर बात कीजिए और जीवन समस्या जो अपने आप दूर हो जाए

iski aapne bola ki aap kuch bhi nahi logo se milte hain toh main bus batatey hain awaaz bhi nahi karti mujhse baat nahi karti thi use theek hai thoda hichki chahte hain kis se baat karni toh yah samajh mein aati hai ki aap ko dur karne hain toh jab bhi aap koi naye logo se milte hain bahut baat nahi kisi se nahi kisi lekin dhire dhire jo hai batein karna start kijiye aisa nahi ki kal jo aapke office mein koi mil jaaye toh aap isliye office ke beech mein batein kar sakte hain koi dost hai toh dost is tarah ke liye batein karte hain starting se kahaan se hain jaan pehchaan kar sakte hain phir dhire Comfortable ho toh aage batein karte the start lena padta hai aur isliye khud aapko solve karna padega khud se aap dur kar sakte apne aap ko phone kijiye par baat kijiye aur jeevan samasya jo apne aap dur ho jaaye

इसकी आपने बोला कि आप कुछ भी नहीं लोगों से मिलते हैं तो मैं बस बताते हैं आवाज भी नहीं करती

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
user

Suyash Ram Pandey

Computer Science Engineer

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देख ऐसा नाराज तब होता है जब वह किसी दूसरे इंसान से फैमिलियर नहीं होता इसका तो यह है कि अधिक आप अपने घर वालों के समय कभी वापस नहीं आता है इसके इसके पीछे नहीं है क्या आप उनसे बातचीत करते हम को जानते हैं तो किसी भी डेंजर से अगर आप कभी मिले तो उनकी रसाई के बारे में पूछें कि वह करते क्या है और जैसे व्यवसाय आएगा तो उसने बोला कि आप एक शिक्षक है ठीक है तो उनकी तुरंत याद तारीख की चेक यहां आपको बहुत अच्छा काम करते हैं शादी में तो वह भी आपसे पूछेंगे क्या करते हैं फिर आप बताइए आप क्या करते हैं ठीक है थोड़ी बहुत जोरो से हो जाएगी क्या कम से कम निकेटर शुरू करेंगे आपको फील होगा कि उनका फ्रेंडली ऑर्गेनाइजेशन की कोई बात ही नहीं है आपके आपके अपने अंदर एक के पोस्टिंग इमेज रखें दूसरे के दूसरे को लेकर के यहां मैं जिससे बात करने जा रहा हूं ऐसे में अच्छे से बात करो यह भी मुझसे अच्छे से बात करे घरवाली से अच्छे से बात करूंगा ठीक है तो पहली बात यह क्या चीज कभी किसी से मिली किसी से भी तो उसे कम्युनिकेट करने की कोशिश कीजिए और उसे जनरल क्वेश्चन किया पूछ सकते हैं कि आप क्या करते हैं क्या नहीं करते और दूसरा था एक पोस्ट इमेज बनाकर चली हमेशा

dekh aisa naaraj tab hota hai jab vaah kisi dusre insaan se faimiliyar nahi hota iska toh yah hai ki adhik aap apne ghar walon ke samay kabhi wapas nahi aata hai iske iske peeche nahi hai kya aap unse batchit karte hum ko jante hain toh kisi bhi danger se agar aap kabhi mile toh unki rasaai ke bare mein puchen ki vaah karte kya hai aur jaise vyavasaya aayega toh usne bola ki aap ek shikshak hai theek hai toh unki turant yaad tarikh ki check yahan aapko bahut accha kaam karte hain shadi mein toh vaah bhi aapse puchenge kya karte hain phir aap bataiye aap kya karte hain theek hai thodi bahut joro se ho jayegi kya kam se kam niketar shuru karenge aapko feel hoga ki unka friendly organization ki koi baat hi nahi hai aapke aapke apne andar ek ke posting image rakhen dusre ke dusre ko lekar ke yahan main jisse baat karne ja raha hoon aise mein acche se baat karo yah bhi mujhse acche se baat kare gharwali se acche se baat karunga theek hai toh pehli baat yah kya cheez kabhi kisi se mili kisi se bhi toh use kamyuniket karne ki koshish kijiye aur use general question kiya puch sakte hain ki aap kya karte kya nahi karte aur doosra tha ek post image banakar chali hamesha

देख ऐसा नाराज तब होता है जब वह किसी दूसरे इंसान से फैमिलियर नहीं होता इसका तो यह है कि अधि

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!