क्या 2014 के बाद लोगों के लिए हिंदुत्व का महत्व बढ़ा है?...


play
user
0:47

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बढ़ा बिल्कुल बढ़ा इस सरकार ने हिंदुत्व को तो मान सम्मान देने का काम किया अपना फ्रीडम होके वॉइस राइट करके हिंदुओं को एक आस्था और विश्वास पर नरेंद्र मोदी सरकार के तो बताए कोई क्वेश्चन मार्क हिंदू राष्ट्र में तो हिंदू का तो होना भी चाहिए सबको साथ लेकर चले इसी के साथ एंड जस्टिफिकेशन हिंदुओं का मान सम्मान को बढ़ाएं

badha bilkul badha is sarkar ne hindutva ko toh maan sammaan dene ka kaam kiya apna freedom hoke voice right karke hinduon ko ek astha aur vishwas par narendra modi sarkar ke toh bataye koi question mark hindu rashtra mein toh hindu ka toh hona bhi chahiye sabko saath lekar chale isi ke saath end jastifikeshan hinduon ka maan sammaan ko badhayen

बढ़ा बिल्कुल बढ़ा इस सरकार ने हिंदुत्व को तो मान सम्मान देने का काम किया अपना फ्रीडम होके

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  259
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या 2014 के बाद लोगों के लिए हिंदुओं का महत्व बड़ा हिंदुत्व को महत्व को पहले भी दिया जाता रहा है जब सोमनाथ पर लालकृष्ण आडवाणी ने यात्रा निकाली थी और उस समय भी वह लगे हुए थे और काफी प्रयास किए थे लेकिन 2014 से दो हिंदुत्व को महत्व दिया है नरेंद्र मोदी जी के जो गवर्नमेंट में वह काफी मायने रखती है और हालांकि हमारे देश में बहुमत की प्रजा हिंदू है हिंदू संप्रदाय करीबन 75% के आसपास है लेकिन पहले की सरकारों ने हिंदुत्व को महत्व न देकर और वोटों की राजनीति करने के लिए तुष्टीकरण की नीति अपनाई थी और उसे वोट में कन्वर्ट करें लेकिन 2014 के बाद यह तुष्टीकरण की राजनीति बहुत सही मायने में तो बंद हो चुकी है लेकिन फिर भी कभी-कभी हर एक राजकीय पक्ष राजनीतिक पार्टियां इसका उपयोग करती जरूर किसी दूसरे तरीके से करेंगी लेकिन यह लोग तुष्टीकरण की राजनीति से बाज नहीं आते लेकिन हिंदुत्व का महत्व बढ़ा है राम मंदिर बनाने के लिए जो अभियान चल रहा था उसके लिए रिजल्ट आ गए हैं और अगर ठीक तरह से हिंदू को एक पहचान मिली है और योगी जी उत्तर प्रदेश की हर जगह पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री को साथ में रखकर और सभी धर्मों के बारे में संप्रदायों को साथ में रखकर चलना पड़ता है करना ही चाहिए इसलिए बहुत अच्छी बात है लेकिन हिंदुस्तान को

kya 2014 ke baad logo ke liye hinduon ka mahatva bada hindutv ko mahatva ko pehle bhi diya jata raha hai jab somnath par lalkrishna advani ne yatra nikali thi aur us samay bhi vaah lage hue the aur kaafi prayas kiye the lekin 2014 se do hindutv ko mahatva diya hai narendra modi ji ke jo government mein vaah kaafi maayne rakhti hai aur halaki hamare desh mein bahumat ki praja hindu hai hindu sampraday kariban 75 ke aaspass hai lekin pehle ki sarkaro ne hindutv ko mahatva na dekar aur voton ki raajneeti karne ke liye tushtikaran ki niti apnai thi aur use vote mein convert kare lekin 2014 ke baad yah tushtikaran ki raajneeti bahut sahi maayne mein toh band ho chuki hai lekin phir bhi kabhi kabhi har ek rajkiya paksh raajnitik partyian iska upyog karti zaroor kisi dusre tarike se karengi lekin yah log tushtikaran ki raajneeti se baaj nahi aate lekin hindutv ka mahatva badha hai ram mandir banane ke liye jo abhiyan chal raha tha uske liye result aa gaye hain aur agar theek tarah se hindu ko ek pehchaan mili hai aur yogi ji uttar pradesh ki har jagah pm modi ne pradhanmantri ko saath mein rakhakar aur sabhi dharmon ke bare mein sampradayon ko saath mein rakhakar chalna padta hai karna hi chahiye isliye bahut achi baat hai lekin Hindustan ko

क्या 2014 के बाद लोगों के लिए हिंदुओं का महत्व बड़ा हिंदुत्व को महत्व को पहले भी दिया जाता

Romanized Version
Likes  60  Dislikes    views  962
WhatsApp_icon
user

Ankur Bharti

B.tech and Health coach

0:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं बल्कि हिंदुत्व की विचारधारा बहुत ही कम हुई है

nahi balki hindutv ki vichardhara bahut hi kam hui hai

नहीं बल्कि हिंदुत्व की विचारधारा बहुत ही कम हुई है

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  284
WhatsApp_icon
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या 2014 के बाद लोगों में हिंदुत्व का महत्व बढ़ाए पहली बात अगर हम भारत में हिंदू हिंदू रिलिजन को देखें 79 पॉइंट एक पति से पूरे भारत में 2011 की जनगणना के हिसाब से हिंदू हैं मतलब क्या बोल सकते हैं कि बाकी जो है अलग धर्मों की जो है परसेंटेज बहुत ही कम है हिंदुत्व के सामने तो ऐसा नहीं है कि हिंदुत्व का जो है महत्वपूर्ण था आज ज्यादा हो गया है यह लोग को लोगों का कहना कि बीजेपी जो कि हिंदू हिंदुत्व की पार्टी है जो कि हिंदुत्व को सपोर्ट करती है उनके आने के बाद जो है हिंदुत्व काफी ज्यादा आगे आगे पीछे धार्मिक जूही मतभेद आती है अब किसी धर्म को ऊंचा नीचा ना माने हिंदुत्व भी हमारे देश में सबसे ज्यादा हिंदू तो आगे है या मुस्लिम सिख धर्म से इस्लाम धर्म न सोचें हमारी भारत में हिंदुत्व पहले भी ज्यादा महत्वपूर्ण था आज भी महत्वपूर्ण है इसका जय मां तो कभी कम नहीं हुआ हमारे देश से

kya 2014 ke baad logo mein hindutv ka mahatva badhae pehli baat agar hum bharat mein hindu hindu religion ko dekhen 79 point ek pati se poore bharat mein 2011 ki janganana ke hisab se hindu hain matlab kya bol sakte hain ki baki jo hai alag dharmon ki jo hai percentage bahut hi kam hai hindutv ke saamne toh aisa nahi hai ki hindutv ka jo hai mahatvapurna tha aaj zyada ho gaya hai yah log ko logo ka kehna ki bjp jo ki hindu hindutv ki party hai jo ki hindutv ko support karti hai unke aane ke baad jo hai hindutv kaafi zyada aage aage peeche dharmik juhi matbhed aati hai ab kisi dharm ko uncha nicha na maane hindutv bhi hamare desh mein sabse zyada hindu toh aage hai ya muslim sikh dharm se islam dharm na sochen hamari bharat mein hindutv pehle bhi zyada mahatvapurna tha aaj bhi mahatvapurna hai iska jai maa toh kabhi kam nahi hua hamare desh se

क्या 2014 के बाद लोगों में हिंदुत्व का महत्व बढ़ाए पहली बात अगर हम भारत में हिंदू हिंदू रि

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!