क्या बिहार में चलाए जा र है "सात निश्चय" नामक कार्यक्रम स्मार्ट गांव के दिशा में व्यावहारिक पहल है?...


play
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:26

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखी बिल्कुल कम चलाया जा रहा है बिहार के अंदर स्मार्ट स्मार्ट स्मार्ट स्मार्ट गांव के रास्ते में नया पहल है जिसे जो गांव है उसमें इंटरनेट की कनेक्शन पहुंचेगी ना गांव जो है वह डेवलप होगा मुसली एजुकेटेड होंगे ऑनलाइन पेमेंट इंटरनेट की सुविधा समझा पहुंचेगी तो बिल्कुल एक अच्छा पहले जो कि बिहार में चलाया जा रहा है

likhi bilkul kam chalaya ja raha hai bihar ke andar smart smart smart smart gaon ke raste mein naya pahal hai jise jo gaon hai usme internet ki connection pahunchegi na gaon jo hai vaah develop hoga musali educated honge online payment internet ki suvidha samjha pahunchegi toh bilkul ek accha pehle jo ki bihar mein chalaya ja raha hai

लिखी बिल्कुल कम चलाया जा रहा है बिहार के अंदर स्मार्ट स्मार्ट स्मार्ट स्मार्ट गांव के रास्

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  275
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Rajnish Kumar

Writer, Researcher & Educator

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिलकुल और सही बात है विकसित बिहार के लिए सात निश्चय कार्यक्रम गांव के लिए काफी कारगर है और स्मार्ट गांव की दिशा में ठोस और व्यावहारिक पहल भी बिजली शौचालय सड़क संपर्क का कच्ची गली नालियां शुद्ध पेयजल आदि गांव की बड़ी समस्याएं रही है सात निश्चय इन समस्याओं का समाधान प्रस्तुत करता है कल्पना कीजिए कि हर गांव में 400 घंटे बिजली रहे पक्की सड़कें बन जाए और सफलता सुलभ हो जाए तो खुले खुले शौच से मुक्त हो जाए पक्की गली दानिया बन जाए और पाइप के माध्यम से घरों में शुद्ध पेयजल मिलने लगे तो गांव कैसा होगा यह निश्चित रूप से सपने जैसा लगता है ना लेकिन सात निश्चय के माध्यम से अपने पूरे होने वाले हैं वह भी 5 वर्षों के नियत समय सीमा में आप सकता सिर्फ इस बात की है कि इसके कार्यान्वयन में सरकार और प्रशासन किस किस स्तर से निचले स्तर तक तथा इसे लागू करने वाले सभी इकाई न्यू को कटिबद्ध का तत्परता और आर्थिक शुचिता का पैशन करना होगा

ji haan bilkul aur sahi baat hai viksit bihar ke liye saat nishchay karyakram gaon ke liye kaafi kargar hai aur smart gaon ki disha mein thos aur vyavaharik pahal bhi bijli shauchalay sadak sampark ka kachhi gali naliyan shudh paijaal aadi gaon ki badi samasyaen rahi hai saat nishchay in samasyaon ka samadhan prastut karta hai kalpana kijiye ki har gaon mein 400 ghante bijli rahe pakki sadaken ban jaaye aur safalta sulabh ho jaaye toh khule khule sauch se mukt ho jaaye pakki gali daniya ban jaaye aur pipe ke madhyam se gharon mein shudh paijaal milne lage toh gaon kaisa hoga yah nishchit roop se sapne jaisa lagta hai na lekin saat nishchay ke madhyam se apne poore hone waale hain vaah bhi 5 varshon ke niyat samay seema mein aap sakta sirf is baat ki hai ki iske karyanvayan mein sarkar aur prashasan kis kis sthar se nichle sthar tak tatha ise laagu karne waale sabhi ikai new ko katibddh ka tatparata aur aarthik shuchita ka passion karna hoga

जी हां बिलकुल और सही बात है विकसित बिहार के लिए सात निश्चय कार्यक्रम गांव के लिए काफी कारग

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  280
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!