बार-बार नाक में कुछ भी होता है तो छींक आती है, और इन्फेक्शन होता है, खासी आ रही है, आँखों में पानी आ जाता है, क्या करें?...


user

Anshu Sarkar

Founder & Director, Sarkar Yog Academy

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तुम्हें अपना नमस्कार मेरा आप का सवाल है बार बार नाक में कुछ भी होता है तो सिखाती है और इंफेक्शन होता है हंसी आ रही है आंखों में पानी आता है क्या करें सबसे पहले आपका रोग प्रतिरोधक क्षमता जो है NH10 शक्ति मंत्रालय का ताकत टीवी रोटी इसका जो सुनने के बाद सवाल मैं जवाब दे रहा हूं 36 साल के शादी के व मानसिक रूप से कमजोर कपूर का प्रॉब्लम रहता हमेशा सर्दी खांसी दक्षिण होने से तकलीफ होती है इस सब अंदरूनी शक्ति का कमजोरी की निशानी है अगर आप उसे हमेशा के लिए छुटकारा पाना चातक बिना दवा के उदावत मेडिसिन दवा होम्योपैथी आयुर्वेदिक एलोपैथिक यूनानी दवा दवा दवा दवा तो निश्चिंत रहना चाहते हैं अपना जीवन में योग एवं ध्यान योग के माध्यम से अपने सर्वांगीण विकास होगा तारिक मानसिक नैतिक आध्यात्मिक संपूर्ण विकास अगर एक इंसान में संपूर्ण विकास होता है शारीरिक रूप से मजबूत हो जाएंगे मानसिक रूप से आप तैयार हो जाएंगे कुछ इंताप समझ में आएगा नहीं तू चिंता ता दिलो दिमाग में कुछ कुछ भरा रहेगा आने वाला भविष्य सुनहरा बन जाए सुंदर निरोग एवं शिल्प जीवन के लिए योग अपनाएं धन्यवाद

sabse pehle tumhe apna namaskar mera aap ka sawaal hai baar baar nak me kuch bhi hota hai toh sikhati hai aur infection hota hai hansi aa rahi hai aakhon me paani aata hai kya kare sabse pehle aapka rog pratirodhak kshamta jo hai NH10 shakti mantralay ka takat TV roti iska jo sunne ke baad sawaal main jawab de raha hoon 36 saal ke shaadi ke va mansik roop se kamjor kapur ka problem rehta hamesha sardi khansi dakshin hone se takleef hoti hai is sab andaruni shakti ka kamzori ki nishani hai agar aap use hamesha ke liye chhutkara paana chatak bina dawa ke udavat medicine dawa homeopathy ayurvedic allopathic unani dawa dawa dawa dawa toh nishchint rehna chahte hain apna jeevan me yog evam dhyan yog ke madhyam se apne Sarvangiṇa vikas hoga tarik mansik naitik aadhyatmik sampurna vikas agar ek insaan me sampurna vikas hota hai sharirik roop se majboot ho jaenge mansik roop se aap taiyar ho jaenge kuch intap samajh me aayega nahi tu chinta ta dilo dimag me kuch kuch bhara rahega aane vala bhavishya sunehra ban jaaye sundar nirog evam shilp jeevan ke liye yog apanaen dhanyavad

सबसे पहले तुम्हें अपना नमस्कार मेरा आप का सवाल है बार बार नाक में कुछ भी होता है तो सिखाती

Romanized Version
Likes  365  Dislikes    views  2244
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!