किसी के कुंडली में रा हूँ और केतु के प्रभाव क्या होते हैं?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेटी दोनों ओर 18 साल की है और राहु की महादशा राहु और केतु जीवन में उतार-चढ़ाव देते हैं और बहुत महत्वपूर्ण रहे हैं कि राहुल को ग्रहण योग बधाइयां का बड़ा ही महत्व जन्म कुंडली में राहु और केतु की दशा अंतर्दशा में निश्चित रूप से फल नहीं मिलता है प्रतिपूर्ति है संघर्ष करना पड़ता है तलाक हो जाता है जीवनसाथी का सहयोग नहीं मिल पाता है घर परिवार में अशांति रहती है तो राहु केतु बड़ा महत्व राहु केतु की स्थिति को अपार नहीं सकते

beti dono aur 18 saal ki hai aur rahu ki Mahadasha rahu aur Ketu jeevan mein utar chadhav dete hain aur bahut mahatvapurna rahe hain ki rahul ko grahan yog badhaiyan ka bada hi mahatva janam kundali mein rahu aur Ketu ki dasha antardasha mein nishchit roop se fal nahi milta hai pratipoorti hai sangharsh karna padta hai talak ho jata hai jeevansathi ka sahyog nahi mil pata hai ghar parivar mein ashanti rehti hai toh rahu Ketu bada mahatva rahu Ketu ki sthiti ko apaar nahi sakte

बेटी दोनों ओर 18 साल की है और राहु की महादशा राहु और केतु जीवन में उतार-चढ़ाव देते हैं और

Romanized Version
Likes  132  Dislikes    views  3239
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तू दोनों ग्रह नहीं है जिस भाव में भी यह कह सकता हूं कि तू जहां भी बैठता है जिस हाउस में भी बैठता है वहां के फलों में कमी लाता है डीजे का सप्तम भाव में है तो वैवाहिक जीवन में परेशानी लाता है यदि ग्यारहवें भाव में है कि तू तू जो आज से संबंधित काम है उसमें परेशानियां लाता है पहुंच संघर्ष के बाद में उसकी आय होती है क्योंकि राहु और केतु स्वतंत्र चुनाव का छाया ग्रह हैं तो उनके लिए इनको मनाने के लिए इनके दुष्प्रभाव को कम करने के लिए पूजा पाठ को मंत्रों का सहारा लेना चाहिए यह राहु केतु से आएंगे आकस्मिक रूप से फल प्रदान करते हैं ज्यादातर एक्सपेक्ट भी नहीं करता है और उनका नाम के चुका एकदम से चला जाता है तो किस हाउस में बैठे इसके ऊपर बहुत जरूरी है सप्तम भाव में राहु हो तो इंटर कास्ट मैरिज कर आता है ट्रक भाव में या छठे आठवें या बारहवें भाव में हो तो यह और उनके अशुभ फलों को और गद्दी करा देता है यदि अष्टम भाव में राहु हो तो आकस्मिक बीमारी कराता है इस तरीके की बीमारी देता है कि जो डायग्नोसिस नहीं हो पाती है सारी रिपोर्ट नॉर्मल आती है लेकिन आदमी को लगता है कि वह बहुत बीमार है तो इन के उपाय के लिए तंत्र मंत्र और मंत्रों का सहारा लेना चाहिए

tu dono grah nahi hai jis bhav mein bhi yah keh sakta hoon ki tu jaha bhi baithta hai jis house mein bhi baithta hai wahan ke falon mein kami lata hai DJ ka saptam bhav mein hai toh vaivahik jeevan mein pareshani lata hai yadi gyarahaven bhav mein hai ki tu tu jo aaj se sambandhit kaam hai usme pareshaniya lata hai pohch sangharsh ke baad mein uski aay hoti hai kyonki rahu aur Ketu swatantra chunav ka chhaya grah hai toh unke liye inko manane ke liye inke dushprabhav ko kam karne ke liye puja path ko mantron ka sahara lena chahiye yah rahu Ketu se aayenge aakasmik roop se fal pradan karte hai jyadatar expect bhi nahi karta hai aur unka naam ke chuka ekdam se chala jata hai toh kis house mein baithe iske upar bahut zaroori hai saptam bhav mein rahu ho toh inter caste marriage kar aata hai truck bhav mein ya chhathe aathven ya barahaven bhav mein ho toh yah aur unke ashubh falon ko aur gaddi kara deta hai yadi ashtam bhav mein rahu ho toh aakasmik bimari karata hai is tarike ki bimari deta hai ki jo diagnosis nahi ho pati hai saree report normal aati hai lekin aadmi ko lagta hai ki vaah bahut bimar hai toh in ke upay ke liye tantra mantra aur mantron ka sahara lena chahiye

तू दोनों ग्रह नहीं है जिस भाव में भी यह कह सकता हूं कि तू जहां भी बैठता है जिस हाउस में भी

Romanized Version
Likes  145  Dislikes    views  3748
WhatsApp_icon
user

Manju Maharaj

Astrologer

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ ना कर पाए राहु केतु किस अवस्था में है किस राशि पर है उसके अनुसार वह अपना फल देता है जन्म होता है यह एक नियम है इस समय ही रहेगा एक नियम है कि यदि सप्तम है तो ऐसे व्यक्ति की इंटर कास्ट मैरिज होती है प्रेम विवाह होता है यह कथन बहुत अधिक होता है गर्ल क्राय का जितना परेशान करना है व्यक्ति उतना नाम मिले इस तरीके का परिणाम देखने को मिलते हैं

kuch na kar paye rahu Ketu kis avastha mein hai kis rashi par hai uske anusaar vaah apna fal deta hai janam hota hai yah ek niyam hai is samay hi rahega ek niyam hai ki yadi saptam hai toh aise vyakti ki inter caste marriage hoti hai prem vivah hota hai yah kathan bahut adhik hota hai girl cry ka jitna pareshan karna hai vyakti utana naam mile is tarike ka parinam dekhne ko milte hain

कुछ ना कर पाए राहु केतु किस अवस्था में है किस राशि पर है उसके अनुसार वह अपना फल देता है जन

Romanized Version
Likes  175  Dislikes    views  2874
WhatsApp_icon
user

Daivagya Krishna Shastri

Astrologer, Ved, Bhagvat Mahapuran

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय श्री राधे कृष्णा राहु और केतु के प्रभाव जानने के लिए कुंडली में राहु का कौन से भाव पर होना आवश्यक है और केतु का कौन से भाव और कौन से स्थान पर होना और किस राशि पर होना तब जाकर के हम उसके प्रभाव पहुंच पाएंगे और प्राय है राहु और केतु का कार्य कोई विशेष कार्य निर्धारित नहीं है वह किस ग्रह के साथ बैठ जाते हैं या किस राशि के साथ बैठ जाते हैं वैसा ही ग्रहण कर लेते हैं अर्थात जैसे राहु सूर्य के साथ बैठा है तो सूर्य के गुणों को ग्रहण कर लेगा आत्मीयता को आत्मशक्ति को बढ़ाएगा चंद्रमा के साथ बैठा चंद्रमा का ग्रहण करेगा अर्थात इनका खुद का कोई स्वरूप नहीं होता खुद का कोई प्रभाव नहीं होता यह जिस ग्रह के साथ किस राशि के साथ बैठते हैं उसी के अनुसार फल देने लगते हैं जय श्री राधे कृष्णा

jai shri radhe krishna rahu aur Ketu ke prabhav jaanne ke liye kundali mein rahu ka kaun se bhav par hona aavashyak hai aur Ketu ka kaun se bhav aur kaun se sthan par hona aur kis rashi par hona tab jaakar ke hum uske prabhav pohch payenge aur paraya hai rahu aur Ketu ka karya koi vishesh karya nirdharit nahi hai vaah kis grah ke saath baith jaate hain ya kis rashi ke saath baith jaate hain waisa hi grahan kar lete hain arthat jaise rahu surya ke saath baitha hai toh surya ke gunon ko grahan kar lega atmiyata ko atmashakti ko badhayega chandrama ke saath baitha chandrama ka grahan karega arthat inka khud ka koi swaroop nahi hota khud ka koi prabhav nahi hota yah jis grah ke saath kis rashi ke saath baithate hain usi ke anusaar fal dene lagte hain jai shri radhe krishna

जय श्री राधे कृष्णा राहु और केतु के प्रभाव जानने के लिए कुंडली में राहु का कौन से भाव पर ह

Romanized Version
Likes  120  Dislikes    views  2183
WhatsApp_icon
user

Chinta Haran Tripathi

Astrologer/Vastu Shastra

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको बताएं कि यह राहु और केतु ऐसे पापी ग्रह हैं राहु और केतु पापी तेरे ना ही कोई रात नहीं होती लेकिन केंद्र और राज्यों में बैठते हैं और आज योगकारक ग्रहों के साथ बैठते हैं अपनी दशा में महान राज्य की प्राप्ति कराते हैं नहीं तो कसाई होते हैं पैदा होगा ही होगा

aapko batayen ki yah rahu aur Ketu aise papi grah hain rahu aur Ketu papi tere na hi koi raat nahi hoti lekin kendra aur rajyo mein baithate hain aur aaj yogkarak grahon ke saath baithate hain apni dasha mein mahaan rajya ki prapti karate hain nahi toh kasai hote hain paida hoga hi hoga

आपको बताएं कि यह राहु और केतु ऐसे पापी ग्रह हैं राहु और केतु पापी तेरे ना ही कोई रात नहीं

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  233
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दूध के लिए दवाई साथ में राहु का मंत्र ॐ राम राहवे नमः ॐ ब्रह्म और जब भी नहीं करा सकते हैं तो राहुकाल सामग्री होती जहाज चाकू और कुछ कुछ ना कुछ सामग्री उसको पता

doodh ke liye dawai saath mein rahu ka mantra om ram rahve namah om Brahma aur jab bhi nahi kara sakte hain toh rahukal samagri hoti jahaj chaku aur kuch kuch na kuch samagri usko pata

दूध के लिए दवाई साथ में राहु का मंत्र ॐ राम राहवे नमः ॐ ब्रह्म और जब भी नहीं करा सकते हैं

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  159
WhatsApp_icon
user

Shrinath Prapannacharya

Astrologer And Shrimadbhagwat Khata Vedacharya

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी कुंडली में राहु और केतु की स्थिति अच्छी और खराब दोनों होती है पहली बार होती है राहु केतु के साथ किसके साथ कैसी है संगत से गुण होत है संगत से गुण जात यही एक ज्योतिष शास्त्र में भी होता है यदि राहु अपने स्थान पर है तो वह बलवान होगा कहते हैं कि अपने घर में कुत्ता भी शेर होता है उसी प्रकार यदि राहु अपने घर पर है अपने स्थान पर है अपने राशि के साथ अत्यंत बलवान होकर के आपको अच्छा फल देगा अपने दुश्मन के घर पर बैठा है या 5270 प्रश्नपत्र स्थापित करना होगा और आप अपने बारे में संपूर्ण जानकारी

kisi kundali mein rahu aur Ketu ki sthiti achi aur kharab dono hoti hai pehli baar hoti hai rahu Ketu ke saath kiske saath kaisi hai sangat se gun hot hai sangat se gun jaat yahi ek jyotish shastra mein bhi hota hai yadi rahu apne sthan par hai toh vaah balwan hoga kehte hain ki apne ghar mein kutta bhi sher hota hai usi prakar yadi rahu apne ghar par hai apne sthan par hai apne rashi ke saath atyant balwan hokar ke aapko accha fal dega apne dushman ke ghar par baitha hai ya 5270 prashnapatra sthapit karna hoga aur aap apne bare mein sampurna jaankari

किसी कुंडली में राहु और केतु की स्थिति अच्छी और खराब दोनों होती है पहली बार होती है राहु क

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user
0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खराब से खराब होता है गुरुदेव बुद्धि बुद्धि विवेक नहीं होगा तो भागी क्या करेगा अकेला गुरु का प्रभाव खत्म हो जाता है मतलब खत्म हो जाता है

kharaab se kharab hota hai gurudev buddhi buddhi vivek nahi hoga toh bhaagi kya karega akela guru ka prabhav khatam ho jata hai matlab khatam ho jata hai

खराब से खराब होता है गुरुदेव बुद्धि बुद्धि विवेक नहीं होगा तो भागी क्या करेगा अकेला गुरु क

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  349
WhatsApp_icon
user
1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल जी छोड़कर करता है उसके साथ राहु माल दोस्त एक नंबर पर है ड्यूटी पास नंबर पर जाएगा ताकि आएगा तो आपके दांपत्य जीवन की साढ़ेसाती का प्रभाव रहता है तो आप तो लंबे लंबे कर सकते हैं अरण्यकम युद्ध नाटक सामाजिक पेपर आने वाला है तो कट जाता है दोनों

rahul ji chhodkar karta hai uske saath rahu maal dost ek number par hai duty paas number par jaega taki aayega toh aapke danpatya jeevan ki sade sati ka prabhav rehta hai toh aap toh lambe lambe kar sakte hain aranyakam yudh natak samajik paper aane vala hai toh cut jata hai dono

राहुल जी छोड़कर करता है उसके साथ राहु माल दोस्त एक नंबर पर है ड्यूटी पास नंबर पर जाएगा ताक

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  344
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!