एक वास्तविक ज्योतिषी का कहना है कि हमें अपने कुंडली चार्ट को हर किसी को नहीं दिखाना चाहिए? क्यों?...


play
user

Daivagya Krishna Shastri

Astrologer, Ved, Bhagvat Mahapuran

0:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुंडे मुंडे मत रखना हमारे जो शास्त्र कहते हैं कि सारे लोगों की है कहना चाहिए कि ग्रह गोचर तो एक ही रहते हैं लेकिन उनको बताने का तरीका अलग अलग है जैसे आम है तो अन्य शिव शिव को हम देखेंगे तो एक वृद्ध व्यक्ति देखेगा तो समझेगा कि फल खाने की चीज है एक छोटा भी देखेगा तो सोचेगा यह गेम है उसको गेम समझकर खेलने लगेगा तो चीज है लेकिन देखने का अलग अलग नजरिया होता है अलग अलग दृष्टि होती है इसलिए बताते हैं कि किसी लोगों पर विश्वास करो और एक ही लोगों का अनुसरण करो क्योंकि वह आपको एक बार एक व्यक्ति से आप दिखाएंगे तो आपको सही दिशा निर्देश बता सकता है और उसके सारे देश पर चल कर के आप अपने देश के लिए जो दोस्त हैं उनका समाधान कर सकते हैं

munde munde mat rakhna hamare jo shastra kehte hain ki saare logo ki hai kehna chahiye ki grah gochar toh ek hi rehte hain lekin unko batane ka tarika alag alag hai jaise aam hai toh anya shiv shiv ko hum dekhenge toh ek vriddh vyakti dekhega toh samjhega ki fal khane ki cheez hai ek chota bhi dekhega toh sochega yah game hai usko game samajhkar khelne lagega toh cheez hai lekin dekhne ka alag alag najariya hota hai alag alag drishti hoti hai isliye batatey hain ki kisi logo par vishwas karo aur ek hi logo ka anusaran karo kyonki vaah aapko ek baar ek vyakti se aap dikhayenge toh aapko sahi disha nirdesh bata sakta hai aur uske saare desh par chal kar ke aap apne desh ke liye jo dost hain unka samadhan kar sakte hain

मुंडे मुंडे मत रखना हमारे जो शास्त्र कहते हैं कि सारे लोगों की है कहना चाहिए कि ग्रह गोचर

Romanized Version
Likes  151  Dislikes    views  2305
WhatsApp_icon
22 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pandit Sanjay Bhargava

श्रीनिवास ज्योतिष एवं कुण्डली समाधान

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो आपने किया है यह बिल्कुल गलत है यह क्यों मूर्ख है क्योंकि भैया जी कुंडली आप दिखाओगे नहीं तो कोई उसका जानकारी कैसे लगाएगा चल रहा है

jo aapne kiya hai yah bilkul galat hai yah kyon murkh hai kyonki bhaiya ji kundali aap dikhaoge nahi toh koi uska jaankari kaise lagaega chal raha hai

जो आपने किया है यह बिल्कुल गलत है यह क्यों मूर्ख है क्योंकि भैया जी कुंडली आप दिखाओगे नहीं

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  572
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ज्योतिष के पास से दो तरीके से जाता है एक तो जिज्ञासा बन जाता है कि वह जाने उसके जीवन में क्या लिखा है क्या नहीं और दूसरा यह होता है कि जब तो परेशानी में रहता है तो उस परेशानी का हल निकालने के लिए ज्योतिष के पास जाता है दोनों का संयोग की बात है कि उसको कौन सा जाता है उसको 13036 ज्योतिष मिल जाता है जो उसके जीवन में उसको लाभदायक रहता है

jyotish ke paas se do tarike se jata hai ek toh jigyasa ban jata hai ki vaah jaane uske jeevan mein kya likha hai kya nahi aur doosra yah hota hai ki jab toh pareshani mein rehta hai toh us pareshani ka hal nikalne ke liye jyotish ke paas jata hai dono ka sanyog ki baat hai ki usko kaun sa jata hai usko 13036 jyotish mil jata hai jo uske jeevan mein usko labhdayak rehta hai

ज्योतिष के पास से दो तरीके से जाता है एक तो जिज्ञासा बन जाता है कि वह जाने उसके जीवन में क

Romanized Version
Likes  332  Dislikes    views  3515
WhatsApp_icon
user
1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं दिखाना चाहिए नहीं खाना चाहिए नई दिखाने को दिखाने से थोड़ी ना कोई फर्क पड़ेगा एक चीज है कि आप जो है उसका यूज़ करो कुंडली दिखाने से केवल हमें पता लग पाता कि हम हम आगे क्या कर सकते हैं क्या क्या संभावना है लेकिन आप इसे गलत बोला दूसरे के पास जाओ उसने अच्छा बोल दिया तो उसका अच्छे बोलने से हो जा काम होने लगेगा ऐसा नहीं है उसके पास जा रहे हैं वह पूर्व पूर्व ज्ञानी ज्ञानी से मतलब यह है कि जरूरी नहीं है कि जो एस्ट्रोलॉजी प्रिडिक्शन उसकी टेक्निक से किया वह सेटिंग को एस्ट्रोलॉजी में जितने भी ज्ञानी आए हुए हैं सब ने कुछ कुछ क्लोज करें हैं और कुछ लिखा है फिर कुछ सोच करें कुछ लिखा है लेकिन यह जो स्रोत हैं यह सीट चेंज होता है थोड़ा थोड़ा थोड़ा उससे अंतर अंतर आ जाता है क्योंकि एक की रेट कैलकुलेशन नहीं हो पाती है उसका कारण थोड़ा थोड़ा थोड़ा थोड़ा अभी से 23 डिग्री का है थोड़ा टाइम हो रहा है होना चाहिए तब जाकर एडिशन ओं अच्छे-अच्छे सॉफ्टवेयर है जिस समय कैलकुलेशन मिल पाए तो ऐसे कई बार आकर के मिल जाता है जिसकी प्रिडिक्शन बहुत सटीक जाती है उसकी फिर फास्ट मीटिंग होने की संभावना ज्यादा रहेगी तो हम

nahi dikhana chahiye nahi khana chahiye nayi dikhane ko dikhane se thodi na koi fark padega ek cheez hai ki aap jo hai uska use karo kundali dikhane se keval hamein pata lag pata ki hum hum aage kya kar sakte kya kya sambhavna hai lekin aap ise galat bola dusre ke paas jao usne accha bol diya toh uska acche bolne se ho ja kaam hone lagega aisa nahi hai uske paas ja rahe hain vaah purv purv gyani gyani se matlab yah hai ki zaroori nahi hai ki jo astrology prediction uski technique se kiya vaah setting ko astrology mein jitne bhi gyani aaye hue hain sab ne kuch kuch close kare hain aur kuch likha hai phir kuch soch kare kuch likha hai lekin yah jo srot hain yah seat change hota hai thoda thoda thoda usse antar antar aa jata hai kyonki ek ki rate calculation nahi ho pati hai uska karan thoda thoda thoda thoda abhi se 23 degree ka hai thoda time ho raha hai hona chahiye tab jaakar edition on acche acche software hai jis samay calculation mil paye toh aise kai baar aakar ke mil jata hai jiski prediction bahut sateek jaati hai uski phir fast meeting hone ki sambhavna zyada rahegi toh hum

नहीं दिखाना चाहिए नहीं खाना चाहिए नई दिखाने को दिखाने से थोड़ी ना कोई फर्क पड़ेगा एक चीज ह

Romanized Version
Likes  355  Dislikes    views  4135
WhatsApp_icon
user

Anchal Gupta

Astrologer

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदमी को दिखाओ

aadmi ko dikhaao

आदमी को दिखाओ

Romanized Version
Likes  117  Dislikes    views  1493
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तो समझ में आएगा कि कौन सी दशा चल रही है क्या समय चल रहा है क्या आने वाला है क्या बार-बार कुंडली में लिख आना चाहिए बार-बार कुंडली दिखाने से क्रम में और आता है ऐसा माना जाता है तंत्र शास्त्र में लिखा नहीं है किंतु कुंडली दिखाने के बाद ही समझ में आएगा कि आप की भाषा कौन सी है आपकी कौन से ग्रह शुभ और अशुभ है क्या काम कर सकते हैं आपकी एजुकेशन ले सकते हैं कितना पैसा कमा सकते हैं व्यापार कर सकते हैं नौकरी कर सकते हैं बिजनेस के लिए एजुकेशन ले सकते हैं

toh samajh mein aayega ki kaun si dasha chal rahi hai kya samay chal raha hai kya aane vala hai kya baar baar kundali mein likh aana chahiye baar baar kundali dikhane se kram mein aur aata hai aisa mana jata hai tantra shastra mein likha nahi hai kintu kundali dikhane ke baad hi samajh mein aayega ki aap ki bhasha kaun si hai aapki kaun se grah shubha aur ashubh hai kya kaam kar sakte hain aapki education le sakte hain kitna paisa kama sakte hain vyapar kar sakte hain naukri kar sakte hain business ke liye education le sakte hain

तो समझ में आएगा कि कौन सी दशा चल रही है क्या समय चल रहा है क्या आने वाला है क्या बार-बार क

Romanized Version
Likes  132  Dislikes    views  3202
WhatsApp_icon
user
1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले देख लेना चाहिए कुली का मतलब होता है किसी प्रकार की परेशानी है जीवन से जुड़ी समस्याओं उसी क्रिकेट

sabse pehle dekh lena chahiye kuli ka matlab hota hai kisi prakar ki pareshani hai jeevan se judi samasyaon usi cricket

सबसे पहले देख लेना चाहिए कुली का मतलब होता है किसी प्रकार की परेशानी है जीवन से जुड़ी समस्

Romanized Version
Likes  160  Dislikes    views  3104
WhatsApp_icon
user

Vimal Kishor

Astrologer

0:26
Play

Likes  146  Dislikes    views  2569
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संस्था से लेते हैं और यह विषय बहुत गंभीर है कि आपकी जीवन की ज्योति जोड़ी है जो मैंने आपका लॉकर है तो वह तो आपकी कुंडली है पर आप चाहे जिस के सामने खोल के रख देंगे तो उसमें आपके धनराशि मणिरत्न क्या-क्या रखें दूसरे को तो दिख रहा दूसरा जब भी अगर आप के प्रति प्रतिकूल उसके विचारों में तू कहीं भी हो किसी हद तक भी आपको न पहुंचाने का प्रयास कर सकता है तो वह देखने कौन से ग्रुप में और कौन से शुरू को प्रमोट करके और आपको किसी प्रकार की क्षति पहुंचा सकता है इसलिए यह बात बहुत ठीक है कि हर व्यक्ति को अपने फ्रेंड है और सब जन्मपत्री नहीं दिखाना चाहिए हमें पुरानी परिवार के अलावा किसी को जानकारी नहीं होने पाती थी और घर के लोग जानते थे और जिस दिन नामकरण संस्कार होता था तो लड़के की जो हुआ है एक बार आके उसको उस नाम से पुकार लेती थी उसके बाद ही उसके नाम पर नाम पर विचार होता था तब तक उसका दूसरा कोई ऐसा नाम जो सूटेबल रहता था मिल जाता था छोटा बच्चा छोटा बच्चा है उसका ओरिजिनल नाम से उसका अशोक नाम रखा है तो तुरंत उसके ऊपर नजर लग जाएगी या हाय लग जाएगी या उसके ऊपर टोटका किसी जादू प्यार हो जाएगा लेकिन अभी उसी नाम से उसका बोस का जन्म का नाम है ही नहीं तो आप उसके लिए अशोक नाम से कुछ भी करते हैं तो कुछ नहीं होगा दूसरी तरफ से आप की जड़ों के बारे में किसी को ज्ञान नहीं है तो वह कुछ भी करता है उसका असर नहीं होगा और जिसने अगर आपकी पत्रिका देखी तो आंटी मिली तो उसके पास आज शाम की सब जानकारी नहीं है आप केवल और आपकी मेरे पास का दोनों का ज्ञान हो जाता है दोष और गुण दोनों की उसको जानकारी होती है प्रयास करना चाहिए क्या बात हर किसी को पत्रिका नाथ योगी देवा क्यों का ट्रैक्टर और नकारात्मक मिट्टी का नहीं होगा यदि उसमें नेगेटिव टेंडेंसीज जल्दी करो जीविका रजिस्ट्री करा लो परेशान नहीं करता किसी को अच्छा किसी का फ्रेंड बोलती किस तारीख को तुम्हारा एक्सीडेंट हो जाएगा तो आज 20 जुलाई को होगा लेकिन आप तो आप परेशान होने की बात को नहीं आएगा क्योंकि ज्योतिषियों के आचार्य सिंह का कंडक्टर कोड जो है वह संहिता नामक ग्रंथ आचार संहिता में कंडक्ट कोड है तो आपको ऐसे भाइयों उत्पादक भविष्यवाणी नहीं करना चाहिए जिससे मनुष्य बाय तो आप उसमें जहां पर कृपया कष्ट की स्थिति जान भी दे दे तो इसलिए जो चाहा किसी को तो जो बोलता है कि गलत काम नहीं करेगा वह आपको सही मार्गदर्शन नहीं करेगा

sanstha se lete hain aur yah vishay bahut gambhir hai ki aapki jeevan ki jyoti jodi hai jo maine aapka locker hai toh vaah toh aapki kundali hai par aap chahen jis ke saamne khol ke rakh denge toh usme aapke dhanrashi maniratn kya kya rakhen dusre ko toh dikh raha doosra jab bhi agar aap ke prati pratikul uske vicharon mein tu kahin bhi ho kisi had tak bhi aapko na pahunchane ka prayas kar sakta hai toh vaah dekhne kaunsi group mein aur kaunsi shuru ko promote karke aur aapko kisi prakar ki kshati pohcha sakta hai isliye yah baat bahut theek hai ki har vyakti ko apne friend hai aur sab janampatri nahi dikhana chahiye hamein purani parivar ke alava kisi ko jaankari nahi hone pati thi aur ghar ke log jante the aur jis din namakaran sanskar hota tha toh ladke ki jo hua hai ek baar aake usko us naam se pukaar leti thi uske baad hi uske naam par naam par vichar hota tha tab tak uska doosra koi aisa naam jo suitable rehta tha mil jata tha chota baccha chota baccha hai uska original naam se uska ashok naam rakha hai toh turant uske upar nazar lag jayegi ya hi lag jayegi ya uske upar totaka kisi jadu pyar ho jaega lekin abhi usi naam se uska bose ka janam ka naam hai hi nahi toh aap uske liye ashok naam se kuch bhi karte hain toh kuch nahi hoga dusri taraf se aap ki jadon ke bare mein kisi ko gyaan nahi hai toh vaah kuch bhi karta hai uska asar nahi hoga aur jisne agar aapki patrika dekhi toh aunty mili toh uske paas aaj shaam ki sab jaankari nahi hai aap keval aur aapki mere paas ka dono ka gyaan ho jata hai dosh aur gun dono ki usko jaankari hoti hai prayas karna chahiye kya baat har kisi ko patrika nath yogi deva kyon ka tractor aur nakaratmak mitti ka nahi hoga yadi usme Negative tendensij jaldi karo jeevika registry kara lo pareshan nahi karta kisi ko accha kisi ka friend bolti kis tarikh ko tumhara accident ho jaega toh aaj 20 july ko hoga lekin aap toh aap pareshan hone ki baat ko nahi aayega kyonki jyotishiyon ke aacharya Singh ka conductor code jo hai vaah sanhita namak granth aachar sanhita mein conduct code hai toh aapko aise bhaiyo utpadak bhavishyavani nahi karna chahiye jisse manushya bye toh aap usme jaha par kripya kasht ki sthiti jaan bhi de de toh isliye jo chaha kisi ko toh jo bolta hai ki galat kaam nahi karega vaah aapko sahi margdarshan nahi karega

संस्था से लेते हैं और यह विषय बहुत गंभीर है कि आपकी जीवन की ज्योति जोड़ी है जो मैंने आपका

Romanized Version
Likes  158  Dislikes    views  2578
WhatsApp_icon
user

Dr. Ravindra Kumar

Asrtologers & Numerologists.

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जाता है कि आपके जो सीक्रेट है दूसरे लोगों को पता लग सकते हैं जिसका फायदा उठा लेते हैं उद्योगपति हैं आम आदमी को पता लग जाए जो कि वहां उपस्थित है या पता लगता है उसका एक दुरुपयोग लोग कर सकते हैं इसलिए कहा जाता है कि ना बताएं

jata hai ki aapke jo secret hai dusre logo ko pata lag sakte hain jiska fayda utha lete hain udyogpati hain aam aadmi ko pata lag jaaye jo ki wahan upasthit hai ya pata lagta hai uska ek durupyog log kar sakte hain isliye kaha jata hai ki na batayen

जाता है कि आपके जो सीक्रेट है दूसरे लोगों को पता लग सकते हैं जिसका फायदा उठा लेते हैं उद्य

Romanized Version
Likes  86  Dislikes    views  1344
WhatsApp_icon
user
1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसका उसका कारण यह होता है सर कि आप बार-बार बार-बार किसी को दिखाओगे तो उसका मंजू है डायरो रहेगा बार-बार बार-बार ज्योतिष को एक डॉक्टर रखो एक गुरुजी रखो माता पिता होते हैं एक भगवान रखिए साथ रहता है कि एक पार्षद लीजिए आपको सारे काली उछल पड़ी थी उसको पता रहता है आजकल खराब था कल गुरु कथा पूरी हिस्ट्री बता देती है रिपोर्ट कब आएगा फिर वो कंफ्यूज मत दो एक ब्राह्मण रहते एक ज्योतिषी की सलाह लेने से कुछ दिन बाद में पूरे ग्रहों को पढ़ लेता है और ढंग से उपाय करता है अच्छे बुरे बार-बार को दिखाओ परेशान रहेंगे

uska uska karan yah hota hai sir ki aap baar baar baar baar kisi ko dikhaoge toh uska manju hai dayro rahega baar baar baar baar jyotish ko ek doctor rakho ek guruji rakho mata pita hote hain ek bhagwan rakhiye saath rehta hai ki ek parshad lijiye aapko saare kali uchhal padi thi usko pata rehta hai aajkal kharab tha kal guru katha puri history bata deti hai report kab aayega phir vo confuse mat do ek brahman rehte ek jyotishi ki salah lene se kuch din baad mein poore grahon ko padh leta hai aur dhang se upay karta hai acche bure baar baar ko dikhaao pareshan rahenge

उसका उसका कारण यह होता है सर कि आप बार-बार बार-बार किसी को दिखाओगे तो उसका मंजू है डायरो र

Romanized Version
Likes  166  Dislikes    views  2676
WhatsApp_icon
user
1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरिजन दिन हम तो यही कहेंगे कि जगह-जगह दिखाने से होता है कि अगर आज के टाइम में हम बात करें चाहे कोई भी लाइन है चाहे डॉक्टरों की बात करेगी बात करें ठीक है आवश्यक नहीं है कि हर फील्ड में हमें अच्छे ही प्रसन्न मिले आजकल जमाना चला हुआ है जगह-जगह लोग जो एजुकेशन होता भी नहीं है या कुछ लोग थोड़ा-बहुत एजुकेशन किए होते हैं थोड़ा बहुत एजुकेशन के बीच में ही ज्योतिष करना शुरू कर देते हैं पूरा नॉलेज उनको होता नहीं है और वही बात है कि 8:00 बजे लग्जरी छलकता जाती पूरा नॉलेज नहीं है और फिर भी परीक्षण कर रहे हैं तो लोगों को घुमाते ही रहते हैं और उस पर चल और ज्यादा परेशान हो जाते हैं तो सुन सुन कर के मैंने आपको यही कहा कि अच्छे के पास जाओगे एक ही बार में जाओगे पटना पड़ेगा ही नहीं बिल्कुल भी नहीं पड़ेगा और अगर हमें प्रश्न अच्छा नहीं मिला तो हमारी अली ने हमें 10 लोगों को हम ढूंढते हैं कि हम कहां दिखाएं कहां दिखाएं कहां दिखाएं तो हम तो रिटर्न में भी देते हैं क्या हुआ है ऐसे देखने को मिलेंगे

harijan din hum toh yahi kahenge ki jagah jagah dikhane se hota hai ki agar aaj ke time mein hum baat kare chahen koi bhi line hai chahen doctoron ki baat karegi baat kare theek hai aavashyak nahi hai ki har field mein hamein acche hi prasann mile aajkal jamana chala hua hai jagah jagah log jo education hota bhi nahi hai ya kuch log thoda bahut education kiye hote hain thoda bahut education ke beech mein hi jyotish karna shuru kar dete hain pura knowledge unko hota nahi hai aur wahi baat hai ki 8 00 baje luxury chhalakata jaati pura knowledge nahi hai aur phir bhi parikshan kar rahe hain toh logo ko ghumate hi rehte hain aur us par chal aur zyada pareshan ho jaate hain toh sun sun kar ke maine aapko yahi kaha ki acche ke paas jaoge ek hi baar mein jaoge patna padega hi nahi bilkul bhi nahi padega aur agar hamein prashna accha nahi mila toh hamari ali ne hamein 10 logo ko hum dhoondhate hain ki hum kahaan dikhaen kahaan dikhaen kahaan dikhaen toh hum toh return mein bhi dete kya hua hai aise dekhne ko milenge

हरिजन दिन हम तो यही कहेंगे कि जगह-जगह दिखाने से होता है कि अगर आज के टाइम में हम बात करें

Romanized Version
Likes  70  Dislikes    views  1527
WhatsApp_icon
user
5:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई नहीं होता है हम लोग बोलते हैं मैं नहीं मानता हूं आपको इसको बताइए अगर आपके भाग्य में कुछ लिखा हुआ है तो दुनिया की कोई भी ताकत उसको नीचे कपड़े से पढ़े लिखे लोग अंधविश्वास पर नहीं बढ़ावा देते यह अंधविश्वास अंधविश्वास को बढ़ावा देने वाले लोग हैं उनको हम नहीं मानते हाथ के लिए जरूर मैं मना करता हूं मेरी पर्सनल रहा है कोई हाथ बताता तो मैं उसको मना करता हूं कि साथ में चाहिए क्योंकि मेरा भी यही है कि आप किसी के साथ में क्यों हाथ से मेहनत करेंगे ना कुछ प्रॉब्लम है कुछ कर्म तो करने पड़ेंगे ना जो टी-शर्ट अपना रिजल्ट बताएगा ही बताएगा ज्योतिष के लिए थोड़ी ना है कि गरीब को अमीर बना देगा ऐसा कोई अपने अपने कर्मों का प्रारूप नहीं पड़ेगा यह बताता है कि आपके दुखों को करेंगे आप के सुखों को कारणों से बचने के उपाय टेंशन निकाल के डायबिटीज डाल देगा डायबिटीज निकालते कैसे बनाना है क्योंकि ज्योतिष तो कर्म कब प्रारंभ करें आप जैसे कर्म कर रहे हो क्या आप लोगों को भी अच्छे-अच्छे दान क्यों नहीं करते दिखाओ हाथी की तरफ खाने के और दिखाने के और दिखाने के लिए तो आजकल बहुत सारे हैं इतना सारा मंदिरों में सोना चढ़ाते 5 महीने मंदिर में 2 किलो सोना चढ़ा तारापुर में चढ़ा सकते क्या सोच रहे हैं कि हम अच्छे हो जाएंगे फिर यह ग्रुप भगवान की यात्रा को बुला ले अपने पास बच्चू कडू की बात है ना आप जैसे कर्म ज्योतिष को यह चीज नहीं करता है बस लोगों में ज्योति से ना कहीं ना कहीं लोगों की नजरों में गिर गिरता जा रहा है तो उसका रीजन क्या बन रहा है आप आराम कर आपको किसी के पास समय तो हम तो कर नहीं सकते पंडित 5002 आप कर देना कर्म तो आप करते नहीं तो कह रहा 15 दिन करम कर दो तो कुछ खर्चा होने लगता आपके पास इधर भी देती है और कुछ भी नहीं होता उसने भी अगर कोई अच्छा हुआ तो बहुत अच्छी बात है क्योंकि आजकल ज्योतिष क्या हो गई चुल में एक ब्राह्मण होता है ब्राह्मणों को ₹2 दे रहे हो तो ब्राह्मण में गर्म कर निभा सकते अब ज्योतिष क्या हो गया आजकल गुप्ता जी कर रहे हैं खंडेलवाल भी कर रहे हैं जल्दी कर रहे हैं मुसलमान भी कर रहे हैं जो चीज कर रहे हैं दाल और दक्षिणा भी अलग होती है ना ₹5000 दक्षिणा के रूप में देखिए घर पर जाकर भी बच्चों को मारता क्या किया भांगड़ा किया जाता है उसकी आवश्यकता है अगर दान का पैसा अगर कलाली में जा रहा है खराब खाने में जा रहा मैं खाने में जा रहा है या मेरा माता की दुकान पर जा रहा तू दारू पीना भी नहीं तो पाप के भागीदार यह सब सोचने वाली बात पर रहना है नाम भी करा दूंगा

koi nahi hota hai hum log bolte hain main nahi manata hoon aapko isko bataye agar aapke bhagya mein kuch likha hua hai toh duniya ki koi bhi takat usko niche kapde se padhe likhe log andhavishvas par nahi badhawa dete yah andhavishvas andhavishvas ko badhawa dene waale log hain unko hum nahi maante hath ke liye zaroor main mana karta hoon meri personal raha hai koi hath batata toh main usko mana karta hoon ki saath mein chahiye kyonki mera bhi yahi hai ki aap kisi ke saath mein kyon hath se mehnat karenge na kuch problem hai kuch karm toh karne padenge na jo T shirt apna result batayega hi batayega jyotish ke liye thodi na hai ki garib ko amir bana dega aisa koi apne apne karmon ka prarup nahi padega yah batata hai ki aapke dukhon ko karenge aap ke sukho ko karanon se bachne ke upay tension nikaal ke diabetes daal dega diabetes nikalate kaise banana hai kyonki jyotish toh karm kab prarambh kare aap jaise karm kar rahe ho kya aap logo ko bhi acche acche daan kyon nahi karte dikhaao haathi ki taraf khane ke aur dikhane ke aur dikhane ke liye toh aajkal bahut saare hain itna saara mandiro mein sona chadhate 5 mahine mandir mein 2 kilo sona chadha tarapur mein chadha sakte kya soch rahe hain ki hum acche ho jaenge phir yah group bhagwan ki yatra ko bula le apne paas bacchu kadu ki baat hai na aap jaise karm jyotish ko yah cheez nahi karta hai bus logo mein jyoti se na kahin na kahin logo ki nazro mein gir girta ja raha hai toh uska reason kya ban raha hai aap aaram kar aapko kisi ke paas samay toh hum toh kar nahi sakte pandit 5002 aap kar dena karm toh aap karte nahi toh keh raha 15 din karam kar do toh kuch kharcha hone lagta aapke paas idhar bhi deti hai aur kuch bhi nahi hota usne bhi agar koi accha hua toh bahut achi baat hai kyonki aajkal jyotish kya ho gayi chul mein ek brahman hota hai brahmanon ko Rs de rahe ho toh brahman mein garam kar nibha sakte ab jyotish kya ho gaya aajkal gupta ji kar rahe hain khandelval bhi kar rahe hain jaldi kar rahe hain muslim bhi kar rahe hain jo cheez kar rahe hain daal aur dakshina bhi alag hoti hai na Rs dakshina ke roop mein dekhiye ghar par jaakar bhi baccho ko maarta kya kiya bhangra kiya jata hai uski avashyakta hai agar daan ka paisa agar kalali mein ja raha hai kharab khane mein ja raha main khane mein ja raha hai ya mera mata ki dukaan par ja raha tu daaru peena bhi nahi toh paap ke bhagidaar yah sab sochne wali baat par rehna hai naam bhi kara dunga

कोई नहीं होता है हम लोग बोलते हैं मैं नहीं मानता हूं आपको इसको बताइए अगर आपके भाग्य में क

Romanized Version
Likes  54  Dislikes    views  696
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे इसके पीछे कारण यह है कि अगर आप एक दो तीन बार मना लेंगे फिर उंगली रोज दिखाते रहेंगे तब तक करेंगे कुंडली तो एक मात्र है और वह हाथियों के ज्योति को दिखाइए जो पढ़ा लिखा हो इतने किसी अच्छी अच्छी सी डिग्री प्राप्त करी हो जितने अच्छे ट्राई करियो क्यों आते 7:00 बजे श्रेष्ठ को इसके पिता पर हो और अच्छा विद्वान हो तो जानने वाले गांधी किसको कहते हो कि हां यह जानकार है विद्वान है जिसकी सदुपयोग आदित्य कॉलेज जाने लगे क्योंकि कैसे डॉक्टर के पास रहने वाला काम भी थोड़े दिन में थोड़ी बहुत ही जीत लेता है झोलाछाप डॉक्टर बन के क्यों लेता है क्या अपने गांव में अरे कारणों के चलते यात्रा आप मेरे गुरु की सेवा कर रहे हो किसके लिए उपयोग जोशी बताते हैं जो ज्ञानी है विद्वानों को कहते ही देखे सब को आप देख रहे हैं नहीं तो तेरी मां को आटा नहीं मिलती चावल नहीं मिलता दान नहीं मिलता कुछ भी फ्री में गवर्नमेंट बिजली भी नहीं दे रही है आप सोचें आवाटी कराते तभी आप को आप तक भरना पड़ता है व्हाट्सएप करना पड़ता है जो ईश्वर काजल है उसका पैसा दे रहे हैं आप कर रहे हैं कहीं ना कहीं उनके सुधार के लिए भी किसी रूप में इसी रूप में बकरीद वादे अपने से बना कर देख उल्टी-सीधी की से आपको किसी और से भी कट रहा है और उसकी कोई और कहीं नौकरी कर रहा है जॉब करते समय निकाल भी रहा है तो वह आप देखिए कि कैसे निकालना क्या करा अपने विवेक का प्रयोग करिए और सबको हर चीज चिली मिली मत लगाइए पहले शादी है कि हां अपना प्यार कितना है कि नहीं जान है कि नहीं है ज्योतिष के प्रति समर्पण भाव है कि नहीं कल्याण से मतलब नहीं ऐसा नहीं होने दिया जाए तो लगा लिया भाई कोट पहन लिया ऑफ इंडिया के बाद क्या किया कुछ नया करते हुए दिखाइए दवाई दीजिए तो आपकी सही है सब के चक्कर में ना करते हैं उसकी विधि बता दीजिए और उसके बाद में क्या करना है

dekhe iske peeche karan yah hai ki agar aap ek do teen baar mana lenge phir ungli roj dikhate rahenge tab tak karenge kundali toh ek matra hai aur vaah haathiyo ke jyoti ko dikhaaiye jo padha likha ho itne kisi achi achi si degree prapt kari ho jitne acche try kariyo kyon aate 7 00 baje shreshtha ko iske pita par ho aur accha vidhwaan ho toh jaanne waale gandhi kisko kehte ho ki haan yah janakar hai vidhwaan hai jiski sadupyog aditya college jaane lage kyonki kaise doctor ke paas rehne vala kaam bhi thode din mein thodi bahut hi jeet leta hai jholachhap doctor ban ke kyon leta hai kya apne gaon mein are karanon ke chalte yatra aap mere guru ki seva kar rahe ho kiske liye upyog joshi batatey hain jo gyani hai vidvaano ko kehte hi dekhe sab ko aap dekh rahe hain nahi toh teri maa ko atta nahi milti chawal nahi milta daan nahi milta kuch bhi free mein government bijli bhi nahi de rahi hai aap sochen avati karate tabhi aap ko aap tak bharna padta hai whatsapp karna padta hai jo ishwar kajal hai uska paisa de rahe hain aap kar rahe hain kahin na kahin unke sudhaar ke liye bhi kisi roop mein isi roop mein bakri eid waade apne se bana kar dekh ulti seedhi ki se aapko kisi aur se bhi cut raha hai aur uski koi aur kahin naukri kar raha hai job karte samay nikaal bhi raha hai toh vaah aap dekhiye ki kaise nikalna kya kara apne vivek ka prayog kariye aur sabko har cheez chili mili mat lagaaiye pehle shadi hai ki haan apna pyar kitna hai ki nahi jaan hai ki nahi hai jyotish ke prati samarpan bhav hai ki nahi kalyan se matlab nahi aisa nahi hone diya jaaye toh laga liya bhai coat pahan liya of india ke baad kya kiya kuch naya karte hue dikhaaiye dawai dijiye toh aapki sahi hai sab ke chakkar mein na karte hain uski vidhi bata dijiye aur uske baad mein kya karna hai

देखे इसके पीछे कारण यह है कि अगर आप एक दो तीन बार मना लेंगे फिर उंगली रोज दिखाते रहेंगे तब

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  165
WhatsApp_icon
user

Dr Shiv Trivedi

Astrologer.

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसलिए ना क्योंकि पैट्रिक लोग बैठे हुए हैं मार्केट में हो तो कमाने की दिनेश लोधी करते हैं तो हम लोगों की कमाने के लिए करते हैं लेकिन हम लोगों ने किसी को डरा धमका कर के दिखा कर लो कोई परेशानी है तो ज्ञानी नहीं बैठे हुए हैं वह तो बनाएंगे बनाएंगे बनाएंगे साधु महात्मा थोड़ी कुछ ऐसे लोग आ गए हैं साधु महात्मा के भेष में जो काम करते हैं तो पकड़े जाते हैं बदनाम

isliye na kyonki patrick log baithe hue hain market mein ho toh kamane ki dinesh lodhi karte hain toh hum logo ki kamane ke liye karte hain lekin hum logo ne kisi ko dara dhamka kar ke dikha kar lo koi pareshani hai toh gyani nahi baithe hue hain vaah toh banayenge banayenge banayenge sadhu mahatma thodi kuch aise log aa gaye hain sadhu mahatma ke bhesh mein jo kaam karte hain toh pakde jaate hain badnaam

इसलिए ना क्योंकि पैट्रिक लोग बैठे हुए हैं मार्केट में हो तो कमाने की दिनेश लोधी करते हैं त

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  261
WhatsApp_icon
user

Dr Ravindra kumar

Ayurvedic Doctor

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जाता है कि आपके जो सीक्रेट है दूसरे लोगों को पता लग सकते हैं जिसका फायदा उठा लेते हैं उद्योगपति हैं आम आदमी को पता लग जाए जो कि वहां उपस्थित है या पता लगता है उसका एक दुरुपयोग लोग कर सकते हैं इसलिए कहा जाता है कि ना बताएं

jata hai ki aapke jo secret hai dusre logo ko pata lag sakte hain jiska fayda utha lete hain udyogpati hain aam aadmi ko pata lag jaaye jo ki wahan upasthit hai ya pata lagta hai uska ek durupyog log kar sakte hain isliye kaha jata hai ki na batayen

जाता है कि आपके जो सीक्रेट है दूसरे लोगों को पता लग सकते हैं जिसका फायदा उठा लेते हैं उद्य

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  234
WhatsApp_icon
user

Viveck Goel

Astrologer & Vaastu Adviser

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

होता है हर डॉक्टर की और हर ज्योतिषी की सोच का नजरिया अलग होता है लेकिन पर्सेंट होता है गीता में श्रीकृष्ण ने कहा कि कर्म पोटेंट है हमारा ज्योतिष जो है वह भाग्य है जो हमें मिला जिसमें हम नहीं कर सकते तो वास्तु उपलब्ध ज्योतिष मिलाकर व्यक्ति को हम मैक्सिमम सुखी कर सकते हैं उसको पर्सनल प्रॉब्लम से नहीं आ सकती जी मान लीजिए कोई बंदा कहना कि मेरा कैश फ्लो नहीं हो रहा है कैसे बंद हो गया तुमने उसकी अगली जनोट्स तो हम सफर उपाय बताएंगे कि सजनी का जो न्यूज़

hota hai har doctor ki aur har jyotishi ki soch ka najariya alag hota hai lekin percent hota hai geeta mein shrikrishna ne kaha ki karm potent hai hamara jyotish jo hai vaah bhagya hai jo hamein mila jisme hum nahi kar sakte toh vastu uplabdh jyotish milakar vyakti ko hum maximum sukhi kar sakte hain usko personal problem se nahi aa sakti ji maan lijiye koi banda kehna ki mera cash flow nahi ho raha hai kaise band ho gaya tumne uski agli janots toh hum safar upay batayenge ki sajni ka jo news

होता है हर डॉक्टर की और हर ज्योतिषी की सोच का नजरिया अलग होता है लेकिन पर्सेंट होता है गीत

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  132
WhatsApp_icon
user
0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोखंडी होती है ना वह आपकी पूरी लाइफ टाइम फ्री करती आपके बारे में एक एक चीज बता दूं आपसे कोई पर्सनल लाइफ पर पर्सनल लाइफ के बारे में बता दे अगर मैं आपकी कुंडली से आपके बारे में सब कुछ जान लो जो आपको भी नहीं पता तो आपके लिए विशेष ही रहेगा सुरक्षित ही रहेगा अगर मुझे पता लग गया कि आपका टाइम खराब है अगर आपको नहीं पता है अगर मैं आप को नहीं बताना चाहिए

lokhandi hoti hai na vaah aapki puri life time free karti aapke bare mein ek ek cheez bata doon aapse koi personal life par personal life ke bare mein bata de agar main aapki kundali se aapke bare mein sab kuch jaan lo jo aapko bhi nahi pata toh aapke liye vishesh hi rahega surakshit hi rahega agar mujhe pata lag gaya ki aapka time kharab hai agar aapko nahi pata hai agar main aap ko nahi bataana chahiye

लोखंडी होती है ना वह आपकी पूरी लाइफ टाइम फ्री करती आपके बारे में एक एक चीज बता दूं आपसे को

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  403
WhatsApp_icon
user
1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब दुपहरिया पुराना पुराना जब ऋषि मुनि ने उसके बाद जो कर दिया अपने पास में जाने दिया आगे नहीं बढ़ने दिया अपने ज्ञान को ज्योतिष एक विज्ञान है जो प्रत्यक्ष रूप में देखा जा सकता क्योंकि इसका कोई संबंध नहीं चाहिए ब्राह्मणी का वशीकरण करना चाहिए कोई भी कर सकता है उनको जाता है कि अपना ध्यान कहीं दूर ज्ञान का प्रसारण क्यों क्योंकि ज्ञान है यह विज्ञान है ऐसा समय है जब तू अधिकार पढ़ लेता मैं उसको अच्छा नहीं करता हूं

jab dupahriya purana purana jab rishi muni ne uske baad jo kar diya apne paas mein jaane diya aage nahi badhne diya apne gyaan ko jyotish ek vigyan hai jo pratyaksh roop mein dekha ja sakta kyonki iska koi sambandh nahi chahiye brahmani ka vashikaran karna chahiye koi bhi kar sakta hai unko jata hai ki apna dhyan kahin dur gyaan ka prasaran kyon kyonki gyaan hai yah vigyan hai aisa samay hai jab tu adhikaar padh leta main usko accha nahi karta hoon

जब दुपहरिया पुराना पुराना जब ऋषि मुनि ने उसके बाद जो कर दिया अपने पास में जाने दिया आगे नह

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  318
WhatsApp_icon
user

Anil Chotrani

Astrologer

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तोड़ दो मेरे पास

tod do mere paas

तोड़ दो मेरे पास

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  499
WhatsApp_icon
user
1:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक कारण का कुछ नहीं है यह तो अपनी बात है जब तक आप कुंडली का दर्शन नहीं करोगे उससे अध्ययन नहीं करोगे तो आपको पता लगेगा इटली का ज्ञाता और तू ही होता है होता है किसी का हो या कुछ तो मानते नहीं हो उनको गोपी के दिखा देते हैं उसमें मान लो कुछ रहता है तो कभी रहता बैठने का स्थान होता वह मृत्यु का स्थान होता है तो आपको आने की संभावना है आप नहीं दिखाएंगे तो आपको अपने आप से ज्यादा है उसमें कष्ट होगा आपको परेशान नहीं करेंगे आप आएंगे तो जो भी जानता है जो आपको बताएगा सुप्रभात

ek karan ka kuch nahi hai yah toh apni baat hai jab tak aap kundali ka darshan nahi karoge usse adhyayan nahi karoge toh aapko pata lagega italy ka gyaata aur tu hi hota hai hota hai kisi ka ho ya kuch toh maante nahi ho unko gopi ke dikha dete hain usme maan lo kuch rehta hai toh kabhi rehta baithne ka sthan hota vaah mrityu ka sthan hota hai toh aapko aane ki sambhavna hai aap nahi dikhayenge toh aapko apne aap se zyada hai usme kasht hoga aapko pareshan nahi karenge aap aayenge toh jo bhi jaanta hai jo aapko batayega suprabhat

एक कारण का कुछ नहीं है यह तो अपनी बात है जब तक आप कुंडली का दर्शन नहीं करोगे उससे अध्ययन न

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  323
WhatsApp_icon
user
0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कारण यह है कि मैं बहुत से लोग हैं जो पेस्टोलॉजी ठीक से नहीं जानते हैं या प्रॉपर जिन्होंने अध्ययन नहीं किया है केवल ऐसे ही थोड़ी बहुत जानकारी लेकर के जो है वह कुछ भी बता देते हैं और फिर उससे लोगों को जो है तकलीफ हो जाया करती है

karan yah hai ki main bahut se log hain jo pestolaji theek se nahi jante hain ya proper jinhone adhyayan nahi kiya hai keval aise hi thodi bahut jaankari lekar ke jo hai vaah kuch bhi bata dete hain aur phir usse logo ko jo hai takleef ho jaya karti hai

कारण यह है कि मैं बहुत से लोग हैं जो पेस्टोलॉजी ठीक से नहीं जानते हैं या प्रॉपर जिन्होंने

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  423
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
nahin kalyani chart ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!