क्या हमें अन्य लोगों को यह बता देना चाहिए की हमारे पास कितने पैसे हैं?...


user

Dipika

Financial Strategist

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके पास कितने पैसे हैं यह काफी पर्सनल मैटर है मैं यह ऐलान नहीं दूंगी कि आप दूसरों को बताएं कि आपके पास कितने पैसे आते हैं हालांकि हमारे शामलि नंबर्स और माता-पिता हो हमारी बीवी भूपति हो इनको जाना जरूरी है अगर हमें कुछ हो जाए तो उन्हें पता होना चाहिए कि हमारे पास कितने पैसे हैं कितनी इन्वेस्टमेंट है और उनको वह पैसे कैसे एक्सेस करने चाहिए हालांकि काफी लोग ऐसे भी हैं जो दूसरों से पूछते हैं कि उनके पास कैसे और कितने पैसे हैं और दूसरे लोग उनको भोलेपन में बता देते हैं और यह लोग खुद अपने पैसे के बारे में छुपाते हैं अगर आप उस किस्म के इंसान हो जिससे दूसरे से पूछते हो कि उनके पास कितने पैसे हैं तो फिर आपको भी बताना चाहिए कि आपके पास कितने पैसे हैं हालांकि मैं खुद ऐसा नहीं करती हूं और इसलिए जो लोग मेरे करीब है उनके पता होगा यह कोई पब्लिक इनफार्मेशन नहीं है कि आपको लोगों को बताते जाना चाहिए

aapke paas kitne paise hain yah kaafi personal matter hai yah elaan nahi dungi ki aap dusro ko bataye ki aapke paas kitne paise aate hain halaki hamare shamli numbers aur mata pita ho hamari biwi bhoopati ho inko jana zaroori hai agar hamein kuch ho jaaye toh unhe pata hona chahiye ki hamare paas kitne paise hain kitni investment hai aur unko vaah paise kaise access karne chahiye halaki kaafi log aise bhi hain jo dusro se poochhte hain ki unke paas kaise aur kitne paise hain aur dusre log unko bholepan mein bata dete hain aur yah log khud apne paise ke bare mein chhupaate hain agar aap us kism ke insaan ho jisse dusre se poochhte ho ki unke paas kitne paise hain toh phir aapko bhi bataana chahiye ki aapke paas kitne paise hain halaki main khud aisa nahi karti hoon aur isliye jo log mere kareeb hai unke pata hoga yah koi public information nahi hai ki aapko logo ko batatey jana chahiye

आपके पास कितने पैसे हैं यह काफी पर्सनल मैटर है मैं यह ऐलान नहीं दूंगी कि आप दूसरों को बताए

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  395
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kavita

Writer

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए भारतीय मेंटालिटी में जंगली क्या देखा गया है कि हमारे मां-बाप हमारे चाहने वाले हमेशा मना करते हैं कि हम हम को कितना पैसा मिलता है हम क्या काम आते हैं यह लोगों को ना बताया जाए अब इनमें इसमें क्या साइकोलॉजिकल रीजन हो सकता है यह एक ही है कि आप दूसरों को बताएंगे तो इंडियन पैरंट्स के हिसाब से इंडियन मेंटालिटी के हिसाब से उनको लगेगा कि आपको जो है नजर लग जाएगी और पता नहीं कहीं आपका जॉब ना चला जाए यारो कोई दूसरा प्रॉब्लम ना आज आपके जॉब के अंदर या कोई भी ज्वाइन हो तो खैर जो है यह इंडियन मेंटालिटी ऐसी है अब बाहर के देशों में क्या होता है यह तो नहीं पता लेकिन जो है मैं भी आपको ही चला दूंगी जो है कि कुछ चीज है जो है हमारे पास ही सीमित रहना बेहतर है सब कुछ सब की जानने की विषय नहीं है तो आप कितना कमाते हैं या नहीं कमाते हैं इनसे लोगों को यह वह ज्यादा फर्क पड़ जाता है कि मुझे नहीं लगते हैं और गालियां बकने लगते हैं कि भैया इसकी तो औकात है नहीं लेकिन यह बड़े पैसे तुम्हारा तो यह जो है इंडियन मेंटालिटी हिसाब से यह चीज आपको झुक जाती है कहीं अब क्या कहें तो आप अगर कोई पूछे ऐसे सिचुएशन अगर आए कभी की मां को किसी ने पूछा कि आप कितना कमाते हो तो आप मुझे आप यह बताओ कि मैं अभी फ्रेशर हूं या अभी मैं इतने लेवल पर हूं तू मुझे खुजली फॉर एग्जांपल 20 से 25000 के बीच में मिलता है तो आप उनको एक परफेक्ट फिगर ना देखे आप उनको एक आईडिया दे दे मतलब मेरे चीज है जो है ऐसी है अब वह सब झूठ बोलेया सच बोली तो आपके ऊपर है

dekhiye bharatiya mentalaity mein jungli kya dekha gaya hai ki hamare maa baap hamare chahne waale hamesha mana karte hain ki hum hum ko kitna paisa milta hai hum kya kaam aate hain yah logo ko na bataya jaaye ab inme isme kya saikolajikal reason ho sakta hai yah ek hi hai ki aap dusro ko batayenge toh indian Parents ke hisab se indian mentalaity ke hisab se unko lagega ki aapko jo hai nazar lag jayegi aur pata nahi kahin aapka job na chala jaaye yaro koi doosra problem na aaj aapke job ke andar ya koi bhi join ho toh khair jo hai yah indian mentalaity aisi hai ab bahar ke deshon mein kya hota hai yah toh nahi pata lekin jo hai bhi aapko hi chala dungi jo hai ki kuch cheez hai jo hai hamare paas hi simit rehna behtar hai sab kuch sab ki jaanne ki vishay nahi hai toh aap kitna kamate hain ya nahi kamate hain inse logo ko yah vaah zyada fark pad jata hai ki mujhe nahi lagte hain aur galiya bakane lagte hain ki bhaiya iski toh aukat hai nahi lekin yah bade paise tumhara toh yah jo hai indian mentalaity hisab se yah cheez aapko jhuk jaati hai kahin ab kya kahein toh aap agar koi pooche aise situation agar aaye kabhi ki maa ko kisi ne poocha ki aap kitna kamate ho toh aap mujhe aap yah batao ki main abhi fresher hoon ya abhi main itne level par hoon tu mujhe khujli for example 20 se 25000 ke beech mein milta hai toh aap unko ek perfect figure na dekhe aap unko ek idea de de matlab mere cheez hai jo hai aisi hai ab vaah sab jhuth boleya sach boli toh aapke upar hai

देखिए भारतीय मेंटालिटी में जंगली क्या देखा गया है कि हमारे मां-बाप हमारे चाहने वाले हमेशा

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  188
WhatsApp_icon
play
user

Aahil

Storyteller

0:48

Likes  1  Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
play
user

TS Bhanot

Teacher

1:18

Likes  8  Dislikes    views  324
WhatsApp_icon
play
user

Snehasish Gupta

Journalist / Traveller

0:50

Likes  31  Dislikes    views  573
WhatsApp_icon
user

Riya

Artist, Traveller

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको अन्य लोगों को यह बिल्कुल भी नहीं बताना चाहिए कि आपके पास कितने पैसे है क्योंकि इस दुनिया में आपके आसपास के कई लोग हैं जिनकी आपके ऊपर कड़ी नजर है तो वह आपको कभी भी लूट सकते हैं तो आपको यह बिल्कुल खुला तो नहीं करना चाहिए कि आपके पास कितने पैसे हैं

aapko anya logo ko yah bilkul bhi nahi bataana chahiye ki aapke paas kitne paise hai kyonki is duniya mein aapke aaspass ke kai log hain jinki aapke upar kadi nazar hai toh vaah aapko kabhi bhi loot sakte hain toh aapko yah bilkul khula toh nahi karna chahiye ki aapke paas kitne paise hain

आपको अन्य लोगों को यह बिल्कुल भी नहीं बताना चाहिए कि आपके पास कितने पैसे है क्योंकि इस दुन

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  27
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!