क्या बिना दवाई के रोग ठीक हो सकते हैं?...


play
user

꧁༺Dℛ.LATA PATHAK༻꧂

Founder & Director - Real Lifetime Yoga Foundation

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पृष्ठ है क्या बिना दवाई के रोग ठीक हो सकते हैं हां जी यह तो आपके रूप के पर डिपेंड करता है कि आप उर्दू कौन सा है दुनिया को बहुत ही गंभीर रोग है तो इसके लिए आपको दवाई अवश्य करानी होगी लेकिन यदि आपको कोई मामूली रुप है छोटा-मोटा रोग है तो यह आप अपनी इच्छाशक्ति से अपने स्नेह की शक्ति को ठीक कर सकते हैं यदि आप सोचते हैं कि मैं ठीक हो सकता हूं और मैं ठीक हूं तुझे मैसेज कर दी नहीं दीदी आप अपने आप से कहेंगे कि मैं ठीक हूं मैं ठीक हूं तो यह मैसेज आपके सबकॉन्शियस माइंड में चाहता है और आपके दिल में कोई अद्भुत ऊर्जा मिलती है राष्ट्रीय पक्षी मोर में आकर आपको हर रोग से बचाने की कोशिश करता है आतिश सोच ही आती बीमारी का कारण बनती है मैक्सिमम टाइम तो आप भी अपनी सोच में यह चीज सीख कर देते हैं यह विचार आप फिट कर देते कि मैं ठीक हूं मैं स्वस्थ हूं तो आप देखेंगे कि आप स्वस्थ यही है तो बिना दवाई के आप को ठीक होने में मदद मिल जाती है इसीलिए आप अपने स्व की शक्ति को भी जागृत रखिए अपना ग्रुप और स्ट्रांग रखी है तो आप देखेंगे कि आप बिना दवाई के भी ठीक हो सकते हैं छोटे-मोटे लोगों ने मैं बार-बार कह दी छोटे-मोटे लोगों में जैसे कि सर दर्द सर्दी बुखार छोटे-मोटे जो भी कई रूप होते हैं उनमें शिवा की शक्ति इच्छाशक्ति प्रबल कीजिए और अपने आपको ठीक कीजिए आपके अंदर भी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में स्वदेशी बहुत मदद करती है तो चल फीलिंग पावर को डिवेलप कीजिए तो आप बिना दवाई के भी ठीक हो सकते हैं थैंक यू सो मच

aapka prishth hai kya bina dawai ke rog theek ho sakte hain haan ji yah toh aapke roop ke par depend karta hai ki aap urdu kaun sa hai duniya ko bahut hi gambhir rog hai toh iske liye aapko dawai avashya karani hogi lekin yadi aapko koi mamuli roop hai chota mota rog hai toh yah aap apni ichchhaashakti se apne sneh ki shakti ko theek kar sakte hain yadi aap sochte hain ki main theek ho sakta hoon aur main theek hoon tujhe massage kar di nahi didi aap apne aap se kahenge ki main theek hoon main theek hoon toh yah massage aapke subconscious mind mein chahta hai aur aapke dil mein koi adbhut urja milti hai rashtriya pakshi mor mein aakar aapko har rog se bachane ki koshish karta hai atish soch hi aati bimari ka karan banti hai maximum time toh aap bhi apni soch mein yah cheez seekh kar dete hain yah vichar aap fit kar dete ki main theek hoon main swasthya hoon toh aap dekhenge ki aap swasthya yahi hai toh bina dawai ke aap ko theek hone mein madad mil jaati hai isliye aap apne swa ki shakti ko bhi jagrit rakhiye apna group aur strong rakhi hai toh aap dekhenge ki aap bina dawai ke bhi theek ho sakte hain chhote mote logo ne main baar baar keh di chhote mote logo mein jaise ki sir dard sardi bukhar chhote mote jo bhi kai roop hote hain unmen shiva ki shakti ichchhaashakti prabal kijiye aur apne aapko theek kijiye aapke andar bhi rog pratirodhak kshamta badhane mein swadeshi bahut madad karti hai toh chal feeling power ko develop kijiye toh aap bina dawai ke bhi theek ho sakte hain thank you so match

आपका पृष्ठ है क्या बिना दवाई के रोग ठीक हो सकते हैं हां जी यह तो आपके रूप के पर डिपेंड करत

Romanized Version
Likes  110  Dislikes    views  1395
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
bina dawai ; bina dawai ke ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!