राजनीति से एक इंसान को कैसा होना चाहिए?...


user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

द की राजनीति में एक व्यक्ति को ईमानदार होना चाहिए क्योंकि अगर आप राजनीतिक एक अच्छा राजनीतिक करियर चाहते तो कहीं न कहीं आपको के पास जनता का सपोर्ट करना चाहिए और जनता का सपोर्ट तभी आपको मिलेगा जब जनता की भावनाओं को आप समझेंगे फॉर एग्जांपल अगर आप कोई चुनाव लड़ते हो जनता आपको चिंता ती है तो जो भी वादे अपने जनता से किए कम से कम उस में कुछ बातें तो पूरा कीजिए ताकि जब दोबारा चुनाव तो आपके सामने जाओ आंखों से आंख मिला सकूं लेकिन आजकल ऐसा नहीं होता लोग जनता से वादे तो करते हैं कि एक कर्मठ सुशील और पता नहीं क्या किस प्रकार का उम्मीदवार ईमानदार उम्मीदवार लेकिन ईमानदारी सब की धरी धरी रह जाती है तब मैं अपने यहां का एक वाक्य बताओ हमारे यहां की जो अभी विधायक के भजन सॉरी भारतीय जनता पार्टी से वह पहले स्कूटर चलते थे आज फॉर्चूनर पर चल रहे हैं और अभी भारतीय जनता पार्टी के लिए दो ही चालू है उत्तर प्रदेश में लखनऊ में वह अपना होटल बना रहे हैं 1 नोएडा में अपना होटल बना रहे तो कहीं ना कि आदमी इज्जत इस प्रकार के कार्य करने लगता है जो पैसा जनता की भलाई किताब उसको अपने यूज में लगाने लगता है तो जनता का विश्वास टूटता है और आप एक लंबा राजनीतिक पारी नहीं खेल सकते

the ki raajneeti mein ek vyakti ko imaandaar hona chahiye kyonki agar aap raajnitik ek accha raajnitik career chahte toh kahin na kahin aapko ke paas janta ka support karna chahiye aur janta ka support tabhi aapko milega jab janta ki bhavnao ko aap samjhenge for example agar aap koi chunav ladte ho janta aapko chinta ti hai toh jo bhi waade apne janta se kiye kam se kam us mein kuch batein toh pura kijiye taki jab dobara chunav toh aapke saamne jao aankho se aankh mila sakun lekin aajkal aisa nahi hota log janta se waade toh karte hai ki ek karmath sushil aur pata nahi kya kis prakar ka ummidvar imaandaar ummidvar lekin imaandaari sab ki dharee dharee reh jaati hai tab main apne yahan ka ek vakya batao hamare yahan ki jo abhi vidhayak ke bhajan sorry bharatiya janta party se vaah pehle scooter chalte the aaj farchunar par chal rahe hai aur abhi bharatiya janta party ke liye do hi chaalu hai uttar pradesh mein lucknow mein vaah apna hotel bana rahe hai 1 noida mein apna hotel bana rahe toh kahin na ki aadmi izzat is prakar ke karya karne lagta hai jo paisa janta ki bhalai kitab usko apne use mein lagane lagta hai toh janta ka vishwas tootata hai aur aap ek lamba raajnitik paari nahi khel sakte

द की राजनीति में एक व्यक्ति को ईमानदार होना चाहिए क्योंकि अगर आप राजनीतिक एक अच्छा राजनीति

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  282
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!