शादी में अभी तक जातिवाद क्यों देखा जाता है इसे काम कैसे किया जाये?...


play
user

सुरेश चंद आचार्य

Social Worker ( Self employed )

1:54

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों विवाह में जातिवाद देखा जाता है इसके पीछे एक सांस्कृतिक और वैज्ञानिक दोनों ही प्रकार के कारण है वैज्ञानिकों ने भी यह सिद्ध कर दिया है कि मनुष्य का जो डीएनए है वंशानुगत जो ग्रुप है वह उसके अवश्य आता है और मनुष्य के वंशानुगत जो जातीय गुण हैं जो सोच है वह अवश्य ही पीढ़ी दर पीढ़ी चलती रहती है जिन्हें कोई बिल में मनुष्य ही कर्म के द्वारा बदलते सामान्य मनुष्य सूची धाराप्रवाह में चलते रहते हैं और जब दो अलग-अलग विचारों का मिलन होगा उनके मिश्रण से जो संतान उत्पत्ति होगी वह मिक्स विचारों वाली होगी जिसका पता नहीं वो क्या कर दे क्या नहीं पढ़ते यह दुनिया को कैसे प्रभावित करें इसलिए आज भी कुछ लोग इन चीजों में यकीन रखते हैं और सजातीय युवा ही करते हैं परंतु आदमी ग्रुप में बहुत परिवर्तन हो गया है लोग अंतरजातीय विवाह को करने लगे हैं मान्यता देने लगे हैं सरकार देश के लिए प्रयास कर रही है

namaskar doston vivah me jaatiwad dekha jata hai iske peeche ek sanskritik aur vaigyanik dono hi prakar ke karan hai vaigyaniko ne bhi yah siddh kar diya hai ki manushya ka jo DNA hai vanshanugat jo group hai vaah uske avashya aata hai aur manushya ke vanshanugat jo jatiye gun hain jo soch hai vaah avashya hi peedhi dar peedhi chalti rehti hai jinhen koi bill me manushya hi karm ke dwara badalte samanya manushya suchi dharaprawah me chalte rehte hain aur jab do alag alag vicharon ka milan hoga unke mishran se jo santan utpatti hogi vaah mix vicharon wali hogi jiska pata nahi vo kya kar de kya nahi padhte yah duniya ko kaise prabhavit kare isliye aaj bhi kuch log in chijon me yakin rakhte hain aur sajatiye yuva hi karte hain parantu aadmi group me bahut parivartan ho gaya hai log antarjaatiye vivah ko karne lage hain manyata dene lage hain sarkar desh ke liye prayas kar rahi hai

नमस्कार दोस्तों विवाह में जातिवाद देखा जाता है इसके पीछे एक सांस्कृतिक और वैज्ञानिक दोनों

Romanized Version
Likes  108  Dislikes    views  1676
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!