गरीब लोगों को क्यों कीड़ा मकोड़ा समझते हैं अमीर?...


user

RISHAV RAJ

Social Worker | Motivational Speaker | Life Coach | Young Politician | Corporate Trainer

1:57
Play

Likes  118  Dislikes    views  2097
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Mohammad Bilal

Accountant

1:45

Likes  67  Dislikes    views  1517
WhatsApp_icon
user

Dr. Shakeel Akhtar

Homeopathy Doctor

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह इंसान का अपना देश और होता है कि जरूर ज्यादा पैसा आ जाता है इंसान के पास ज्यादा दौलत आ जाती है तो दूसरों को अपने से कमतर समझने लगता है इनफीरियर समझने लगता है यह एक समझेगा किसान का नेचर होता है तो जो लोग कुछ लोग ऐसे होते हैं कि अमीर होने के बाद भी जो गरीब लोग होते हैं उनको अपने पास बैठ आते हैं अपने गले लगाते हैं पास बिठाकर खिलाते हैं वह अपने पिछले पिछले दिनों को भूल तो नहीं है पिछले दिनों को याद रखते हैं जो वह गरीब थे उस दौर को याद रखते हैं वह लोग सबसे अच्छे होते हैं बाकी पैसा आने के बाद इंसान में अकड़ भी आ जाती है घमंड भी आ जाता है और वह गरीबों को बहुत कुछ समझने लगता है आपकी बात बहुत अच्छी है यह थैंक यू

dekhiye yah insaan ka apna desh aur hota hai ki zaroor zyada paisa aa jata hai insaan ke paas zyada daulat aa jaati hai toh dusro ko apne se kamtar samjhne lagta hai inafiriyar samjhne lagta hai yah ek samjhega kisan ka nature hota hai toh jo log kuch log aise hote hain ki amir hone ke baad bhi jo garib log hote hain unko apne paas baith aate hain apne gale lagate hain paas bithakar khilaate hain vaah apne pichle pichle dino ko bhool toh nahi hai pichle dino ko yaad rakhte hain jo vaah garib the us daur ko yaad rakhte hain vaah log sabse acche hote hain baki paisa aane ke baad insaan me akad bhi aa jaati hai ghamand bhi aa jata hai aur vaah garibon ko bahut kuch samjhne lagta hai aapki baat bahut achi hai yah thank you

देखिए यह इंसान का अपना देश और होता है कि जरूर ज्यादा पैसा आ जाता है इंसान के पास ज्यादा दौ

Romanized Version
Likes  220  Dislikes    views  2242
WhatsApp_icon
user

Norang sharma

Social Worker

4:03
Play

Likes  89  Dislikes    views  2702
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमीर लोग गरीबों को कीड़े मकोड़े समझते हैं यह तो वहां सच्चाई नहीं लेकिन वह गरीबों से अपने को अलग दिखाना चाहती उनके हाल चाल चलन रहन-सहन सबूत सामान्य से अलग कब तक जो भी इस समय निर्भर करता है उसे वह अलग करते हैं ताकि उनकी पहचान बन सके उनको लोग जान सकें कि उच्च वर्ग से एक मानसिकता है जो ना पहले बंदी पीना आने वाले समय में बदलेगी यह मनुष्य के प्रवक्ता

amir log garibon ko keedein makode samajhte hain yah toh wahan sacchai nahi lekin vaah garibon se apne ko alag dikhana chahti unke haal chaal chalan rahan sahan sabut samanya se alag kab tak jo bhi is samay nirbhar karta hai use vaah alag karte hain taki unki pehchaan ban sake unko log jaan sake ki ucch varg se ek mansikta hai jo na pehle bandi peena aane waale samay me badalegi yah manushya ke pravakta

अमीर लोग गरीबों को कीड़े मकोड़े समझते हैं यह तो वहां सच्चाई नहीं लेकिन वह गरीबों से अपने क

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

0:38
Play

Likes  77  Dislikes    views  2559
WhatsApp_icon
play
user

Ranjeet Vishwakarma

Business Owner & Motivational Speaker

3:44

Likes  3  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!