हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास क्या था?...


user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संस्कारों प्रश्न हिंदी के प्रथम मौलिक उपन्यास का नाम लिखिए तो बोधा परीक्षा ग्रुप जो है आचार्य रामचंद्र शुक्ल ने लिखा था ध्यान से सुनिए गा प्रथम मौलिक उपन्यास अंगिका परीक्षा गुरु था

sanskaron prashna hindi ke pratham maulik upanyas ka naam likhiye toh bodha pariksha group jo hai aacharya ramachandra shukla ne likha tha dhyan se suniye ga pratham maulik upanyas ANGIKA pariksha guru tha

संस्कारों प्रश्न हिंदी के प्रथम मौलिक उपन्यास का नाम लिखिए तो बोधा परीक्षा ग्रुप जो है आचा

Romanized Version
Likes  79  Dislikes    views  1920
WhatsApp_icon
18 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user
0:15

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी का प्रथम उपन्यास बेसिकली परीक्षा गुरु 12 माना जाता है इसी क्रम में श्रद्धा राम फिल्लौरी का भाग्यवती देवकीनंदन खत्री का चंद्रकांता संतति और भी कृतिया है

hindi ka pratham upanyas BA sically pariksha guru 12 mana jata hai isi kram mein shraddha ram fillauri ka bhagyawati devakinandan khatri ka chandrakanta santhati aur bhi kritiya hai

हिंदी का प्रथम उपन्यास बेसिकली परीक्षा गुरु 12 माना जाता है इसी क्रम में श्रद्धा राम फिल्ल

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  55
WhatsApp_icon
user

Prabhat Kumar

Teacher at Oxford English High School 7 year experience

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि हिंदी का पहला मौलिक उपन्यास कौन है तो हिंदी का पहला मौलिक उपन्यास परीक्षा गुरु है अंग्रेजी नवल शैली का समावेश पहली बार इसी उपन्यास में किया गया है

aapka prashna hai ki hindi ka pehla maulik upanyas kaun hai toh hindi ka pehla maulik upanyas pariksha guru hai angrezi Naval shaili ka samavesh pehli BA ar isi upanyas mein kiya gaya hai

आपका प्रश्न है कि हिंदी का पहला मौलिक उपन्यास कौन है तो हिंदी का पहला मौलिक उपन्यास परीक्ष

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  452
WhatsApp_icon
user

कमलेश कुमार पांचाल

शिक्षक और सलाहकार

0:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास परीक्षा ग्रुप में जिसके लेखक किशोरी लाल गोस्वामी है

hindi ka pratham maulik upanyas pariksha group mein jiske lekhak kishori laal goswami hai

हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास परीक्षा ग्रुप में जिसके लेखक किशोरी लाल गोस्वामी है

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  484
WhatsApp_icon
user

SAPNA RANA

Teacher of Biology( Msc. Zoology .3time Ctet . 1time Htet Qualify)

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास पूछ रहे तो हिंदी का जो प्रथम मौलिक उपन्यास है वह प्रेमचंद जी ने लिखा था दो बैलों की कथा उसके बाद फिर बहुत सारे उपन्यास लिखे गए और जो उपन्यास के ज्ञाता है ना वह हमारे प्रेमचंद जी को ही माना जाता है उसके बाद बोल सारे फिर उपन्यास निकले जिन्होंने अपने रोल प्ले किया

aap hindi ka pratham maulik upanyas puch rahe toh hindi ka jo pratham maulik upanyas hai vaah Premchand ji ne likha tha do BA ilon ki katha uske BA ad phir BA hut saare upanyas likhe gaye aur jo upanyas ke gyaata hai na vaah hamare Premchand ji ko hi mana jata hai uske BA ad bol saare phir upanyas nikle jinhone apne roll play kiya

आप हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास पूछ रहे तो हिंदी का जो प्रथम मौलिक उपन्यास है वह प्रेमचंद

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  264
WhatsApp_icon
user

Deepa Misra

volunteers

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अप का क्वेश्चन हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास कौन सा तो हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास चंद्रकांता है चंद्रकांता हिंदी के शुरुआती उपन्यासों में है जिसके लेखक देवकीनंदन खत्री है इसकी रचना 19वीं सदी के आखिरी में हुई थी या उपन्यास अत्यधिक लोकप्रियता और कहा जाता है कि से पढ़ने के लिए कई लोगों ने देवनागरी सीखी थी या तिलिस्म और यारी पर आधारित है और इसका नाम नायिका के नाम पर रखा गया है देवकीनंदन खत्री जी का जन्म 29 जून 18 61 को पूसा मुजफ्फरपुर बिहार में हुआ था उनके पिता का नाम ईश्वर ईश्वर दाता उनके पूर्वज पंजाब के निवासी थे तथा मुगलों के राज्य काल में ऊंचे पदों पर कार्य करते थे

up ka question hindi ka pratham maulik upanyas kaun sa toh hindi ka pratham maulik upanyas chandrakanta hai chandrakanta hindi ke shuruati upanyaason mein hai jiske lekhak devakinandan khatri hai iski rachna vi sadi ke aakhiri mein hui thi ya upanyas atyadhik lokpriyata aur kaha jata hai ki se padhne ke liye kai logo ne devnagari sikhi thi ya tilism aur yaari par aadharit hai aur iska naam nayika ke naam par rakha gaya hai devakinandan khatri ji ka janam 29 june 18 61 ko pusha muzaffarpur bihar mein hua tha unke pita ka naam ishwar ishwar data unke purvaj punjab ke niwasi the tatha mugalon ke rajya kaal mein unche padon par karya karte the

अप का क्वेश्चन हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास कौन सा तो हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास चंद्रका

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  713
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पूछा गया प्रश्न है हिंदी के प्रथम मौलिक उपन्यास है जी आपको मैं बता देना चाहता हूं हिंदी के चारे रामचंद्र ने हिंदी का पहला मौलिक उपन्यास परीक्षा रुको माना था

aapka poocha gaya prashna hai hindi ke pratham maulik upanyas hai ji aapko main BA ta dena chahta hoon hindi ke chaare ramachandra ne hindi ka pehla maulik upanyas pariksha ruko mana tha

आपका पूछा गया प्रश्न है हिंदी के प्रथम मौलिक उपन्यास है जी आपको मैं बता देना चाहता हूं हिं

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  808
WhatsApp_icon
user

priya tiwari

Volunteer

0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने क्वेश्चन किया है हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास क्या है आचार्य रामचंद्र शुक्ल ने हिंदी का पहला मौलिक उपन्यास परीक्षा गुरु को मना अंगरेज अली का समावेश पहली बार इसी उपन्यास किया गया था

aapne question kiya hai hindi ka pratham maulik upanyas kya hai aacharya ramachandra shukla ne hindi ka pehla maulik upanyas pariksha guru ko mana angarej ali ka samavesh pehli BA ar isi upanyas kiya gaya tha

आपने क्वेश्चन किया है हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास क्या है आचार्य रामचंद्र शुक्ल ने हिंदी

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  555
WhatsApp_icon
user
0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी के प्रथम उपन्यास का नाम था भाग्यवती जो कि 1888 में श्रद्धा राम फिल्लौरी के द्वारा लिखी गई थी

hindi ke pratham upanyas ka naam tha bhagyawati jo ki 1888 mein shraddha ram fillauri ke dwara likhi gayi thi

हिंदी के प्रथम उपन्यास का नाम था भाग्यवती जो कि 1888 में श्रद्धा राम फिल्लौरी के द्वारा लि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  8
WhatsApp_icon
user

Kriti

Classical Dancer

0:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रथम मौलिक उपन्यास तो हिंदी का बुक किया था तो वह था परीक्षा गुरु

pratham maulik upanyas toh hindi ka book kiya tha toh vaah tha pariksha guru

प्रथम मौलिक उपन्यास तो हिंदी का बुक किया था तो वह था परीक्षा गुरु

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
user

Sohan Prasad

Junior Volunteer

0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास का इच्छा गुरु था जिसको की भर्ती युग में रचना की गई थी

hindi ka pratham maulik upanyas ka iccha guru tha jisko ki bharti yug mein rachna ki gayi thi

हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास का इच्छा गुरु था जिसको की भर्ती युग में रचना की गई थी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  9
WhatsApp_icon
user

Riya

Volunteer

0:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी उपन्यास के आलम के बात करें निवास के परीक्षा गुरु से हुआ था और यही हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास था

hindi upanyas ke aalam ke BA at kare niwas ke pariksha guru se hua tha aur yahi hindi ka pratham maulik upanyas tha

हिंदी उपन्यास के आलम के बात करें निवास के परीक्षा गुरु से हुआ था और यही हिंदी का प्रथम मौल

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लाला श्रीनिवास दास के द्वारा परीक्षा गुरु भारतेंदु युग के समय में सबसे पहला हिंदी का उपन्यास था उसकी रचना की गई थी

lala srinivas das ke dwara pariksha guru bharatendu yug ke samay mein sabse pehla hindi ka upanyas tha uski rachna ki gayi thi

लाला श्रीनिवास दास के द्वारा परीक्षा गुरु भारतेंदु युग के समय में सबसे पहला हिंदी का उपन्य

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  14
WhatsApp_icon
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

परीक्षा गुरु जो था वह हिंदी का प्रथम उपन्यास था जिसकी रचना भारतेंदु युग के प्रसिद्ध नाटककार लाला श्रीनिवास दास ने 25 नवंबर 22 को की थी

pariksha guru jo tha vaah hindi ka pratham upanyas tha jiski rachna bharatendu yug ke prasiddh natakakar lala srinivas das ne 25 november 22 ko ki thi

परीक्षा गुरु जो था वह हिंदी का प्रथम उपन्यास था जिसकी रचना भारतेंदु युग के प्रसिद्ध नाटकका

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  439
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:07
Play

Likes  14  Dislikes    views  408
WhatsApp_icon
user
0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी का प्रथम उपन्यास परीक्षा का हिंदी का प्रथम उपन्यास था जिसकी रचना भारतेंदु युग के प्रसिद्ध नाटककार लाल श्रीनिवास दास में 25 नवंबर अट्ठारह सौ बयासी को

hindi ka pratham upanyas pariksha ka hindi ka pratham upanyas tha jiski rachna bharatendu yug ke prasiddh natakakar laal srinivas das mein 25 november attharah sau BA yasi ko

हिंदी का प्रथम उपन्यास परीक्षा का हिंदी का प्रथम उपन्यास था जिसकी रचना भारतेंदु युग के प्र

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  424
WhatsApp_icon
user

shekhar11

Volunteer

0:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी की प्रथम मौलिक उपन्यास परीक्षा गुरु है जो आचार्य रामचंद्र शुक्ल के द्वारा माना गया है

hindi ki pratham maulik upanyas pariksha guru hai jo aacharya ramachandra shukla ke dwara mana gaya hai

हिंदी की प्रथम मौलिक उपन्यास परीक्षा गुरु है जो आचार्य रामचंद्र शुक्ल के द्वारा माना गया ह

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  413
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी की प्रथम मौलिक उपन्यास जैसे परीक्षा गुरु था जो कि निवास दास के द्वारा लिखा गया

hindi ki pratham maulik upanyas jaise pariksha guru tha jo ki niwas das ke dwara likha gaya

हिंदी की प्रथम मौलिक उपन्यास जैसे परीक्षा गुरु था जो कि निवास दास के द्वारा लिखा गया

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  424
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
hindi ka pratham maulik upanyas hai ; hindi ke pratham maulik upanyas ka naam likhiye ; hindi ka pratham maulik upanyas kaun sa hai ; hindi ka pratham maulik upanyas ; hindi ke pratham maulik upanyas ka naam ; pratham maulik upanyas ; हिंदी के प्रथम मौलिक उपन्यास का नाम लिखिए ; hindi ke pratham upanyas ka naam kya hai ; hindi ka pratham maulik upanyas kise mana jata hai ; hindi ke pratham upanyas ka naam ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!