हमारा महत्व क्या होता है?...


user

Norang sharma

Social Worker

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल है हमारा महत्व या हमारी वैल्यू क्या होती है दोस्तों हमारा मूल हमारी वैल्यू या हमारा महत्व उतना ही होता है जितना हम मानते हैं दोस्तों आप अपनी महत्व को अपने कर्मों से ही बढ़ा सकते हैं क्योंकि जैसे आप कर्म करते हैं वैसा ही आपका एक सामूहिक और सामाजिक प्रभाव लोगों के जीवन पर पड़ता है जब आप अपने स्वार्थों से ऊपर उठकर चीजों को सोचते हैं और लोगों की मदद करते हैं तो अपने आप ही आपका जो महत्व है आपका जो इंपॉर्टेंट है उस समाज के लिए भी बढ़ जाती है देश के लिए भी बढ़ जाती है और वह परिवार के लिए भी बढ़ जाती है तो दोस्तों महत्व हमें बढ़ाना होता है जो इंपॉर्टेंट है वह क्रिएट करनी पड़ती है वह अपने आप नहीं बन जाती आप जितनी भी सेलिब्रिटी की लाइफ देखेंगे या जितने भी महान लोग दुनिया में हुए हैं उन्होंने मानवता के लिए ऐसे काम किए जिसके चलते उन्हें आज भी याद किया जाता है उनके उन कार्यों को स्मरण रखा जाता है वह आज भी लोगों के दिलों में जिंदा रहते हैं तो दोस्तों यह महत्व हमें गणना होता है अपने पूरे जीवन में अपने पूरे जीवन को एक साधना की तरह हमें जीना होता है तब हमारा महत्व बनता भी है और बढ़ता भी है धन्यवाद

hello doston vaah kal par sun rahe mere sabhi buddhijeevi shrotaon ko mera pyar bhara namaskar aaj ka sawaal hai hamara mahatva ya hamari value kya hoti hai doston hamara mul hamari value ya hamara mahatva utana hi hota hai jitna hum maante hain doston aap apni mahatva ko apne karmon se hi badha sakte hain kyonki jaise aap karm karte hain waisa hi aapka ek samuhik aur samajik prabhav logo ke jeevan par padta hai jab aap apne swarthon se upar uthakar chijon ko sochte hain aur logo ki madad karte hain toh apne aap hi aapka jo mahatva hai aapka jo important hai us samaj ke liye bhi badh jaati hai desh ke liye bhi badh jaati hai aur vaah parivar ke liye bhi badh jaati hai toh doston mahatva hamein badhana hota hai jo important hai vaah create karni padti hai vaah apne aap nahi ban jaati aap jitni bhi celebrity ki life dekhenge ya jitne bhi mahaan log duniya me hue hain unhone manavta ke liye aise kaam kiye jiske chalte unhe aaj bhi yaad kiya jata hai unke un karyo ko smaran rakha jata hai vaah aaj bhi logo ke dilon me zinda rehte hain toh doston yah mahatva hamein ganana hota hai apne poore jeevan me apne poore jeevan ko ek sadhna ki tarah hamein jeena hota hai tab hamara mahatva banta bhi hai aur badhta bhi hai dhanyavad

हेलो दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का

Romanized Version
Likes  103  Dislikes    views  2374
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

सुरेन्द्र पाल गुप्ता

रिटायर्ड प्रधानाचार्य

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि हमारा महत्व क्या होता है देखिए इस संसार में इंसान आता है तो बिना किसी महत्व के नहीं आता है जन्म दिया उसका निश्चित रूप से कोई ना कोई महत्व है हमारे परिवार में हमारे समाज में हमारे कार्य स्थान पर हमारे मित्रों में हमारे रिश्तेदारों में हमारा निश्चित रूप से महत्व हां उसको हम देख नहीं सकते हैं यह तभी हमें पता चलता है जब हम लोगों के संपर्क में आती है उदाहरण आपको बता देता हूं कि आप का महत्व को पता चलता का महत्व से चलता है जिसकी आंखें नहीं है जिस चीज की कमी शान में होती है उसके महत्व का उसमें पता चल जाता है परिवार में हमारा भर्ती परिवार में आज घूमने नहीं गए परिवार वालों को भारी मतों का पता चलेगा पति और पत्नी दोनों अलग-अलग रहते तो मैं तो का पता नहीं चलता है मां-बाप हमारे नहीं होते हैं दुनिया में चले जाते हैं तब उनके जीवन का होता है और उसे हम आते हैं तो के कहानी हमारा वजूद है अपना बनाना इंसान का कीमत धन्यवाद

aapne poocha hai ki hamara mahatva kya hota hai dekhiye is sansar me insaan aata hai toh bina kisi mahatva ke nahi aata hai janam diya uska nishchit roop se koi na koi mahatva hai hamare parivar me hamare samaj me hamare karya sthan par hamare mitron me hamare rishtedaron me hamara nishchit roop se mahatva haan usko hum dekh nahi sakte hain yah tabhi hamein pata chalta hai jab hum logo ke sampark me aati hai udaharan aapko bata deta hoon ki aap ka mahatva ko pata chalta ka mahatva se chalta hai jiski aankhen nahi hai jis cheez ki kami shan me hoti hai uske mahatva ka usme pata chal jata hai parivar me hamara bharti parivar me aaj ghoomne nahi gaye parivar walon ko bhari maton ka pata chalega pati aur patni dono alag alag rehte toh main toh ka pata nahi chalta hai maa baap hamare nahi hote hain duniya me chale jaate hain tab unke jeevan ka hota hai aur use hum aate hain toh ke kahani hamara wajood hai apna banana insaan ka kimat dhanyavad

आपने पूछा है कि हमारा महत्व क्या होता है देखिए इस संसार में इंसान आता है तो बिना किसी महत्

Romanized Version
Likes  165  Dislikes    views  1468
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा भारतीय है कि प्रबंधन को इस शरीर दिया है कुछ कर्म करने के लिए ना तो हमारा तभी होगा जब हम कुछ अच्छे कर्म करेंगे समाज की सेवा करेंगे अध्यात्म करेंगे प्रकृति सेवा करेंगे जीव जंतुओं की सेवा करेंगे गरीबों की मदद करेंगे पढ़ाई लिखाई में आगे की ओर बढ़ेंगे अपने उद्देश्य होगा उस उद्देश्य में जब हम एक भावनाओं को उदास रखने के लिए अच्छे कर्म करेंगे जीवन को उच्च बनाने के लिए सब लोगों के संबंध में होगा वसुदेव कुटुंबकम की भावना होगा अपने धर्म जब आपको धर्म मानने पर तो बनता है तो सांप्रदायिकता की और कभी नहीं जाना आपको सांप्रदायिक सद्भाव बना करके मानव मात्र की सेवा करना है मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना हिंदी हैं पंक्तियों को लेकर क्या आप देखिए आप समाज के एक महत्वपूर्ण अंग है आप सब कुछ कर सकते हैं लेकिन भाई मनुष्यता फाइल ने तो वही आपका जीवन का उद्देश्य है आपको जीवन अच्छाइयों की ओर ले जाइए गरीबों की सेवा के लिए मदद कीजिए सबसे बड़ा महत्वपूर्ण अंग है आपको जीवन जीने के लिए यह बहुत अच्छे कला होगी आपका जीवन में बहुत महत्वपूर्ण रखें

hamara bharatiya hai ki prabandhan ko is sharir diya hai kuch karm karne ke liye na toh hamara tabhi hoga jab hum kuch acche karm karenge samaj ki seva karenge adhyaatm karenge prakriti seva karenge jeev jantuon ki seva karenge garibon ki madad karenge padhai likhai me aage ki aur badhenge apne uddeshya hoga us uddeshya me jab hum ek bhavnao ko udaas rakhne ke liye acche karm karenge jeevan ko ucch banane ke liye sab logo ke sambandh me hoga vasudev kutumbakam ki bhavna hoga apne dharm jab aapko dharm manne par toh banta hai toh saampradayikta ki aur kabhi nahi jana aapko sampradayik sadbhav bana karke manav matra ki seva karna hai majhab nahi sikhata aapas me bair rakhna hindi hain panktiyon ko lekar kya aap dekhiye aap samaj ke ek mahatvapurna ang hai aap sab kuch kar sakte hain lekin bhai manushyata file ne toh wahi aapka jeevan ka uddeshya hai aapko jeevan acchhaiyon ki aur le jaiye garibon ki seva ke liye madad kijiye sabse bada mahatvapurna ang hai aapko jeevan jeene ke liye yah bahut acche kala hogi aapka jeevan me bahut mahatvapurna rakhen

हमारा भारतीय है कि प्रबंधन को इस शरीर दिया है कुछ कर्म करने के लिए ना तो हमारा तभी होगा जब

Romanized Version
Likes  187  Dislikes    views  1567
WhatsApp_icon
user

Sapna

Social Worker

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है हमारा महत्व क्या होता है तो हमारा बेहतर यह होता है कि हम ईश्वर के अंश हैं और हम संसार में ईश्वर का जो कार्य है उसको पूरा करने आए हैं और ईश्वर का कार्य क्या होता है ईश्वर का कार्य होता है कि हमने जो कर्म किए उसको ईश्वर ने देखा है और उसका जो फल है वह ईश्वर हमें प्राप्त करवाना चाहते हैं इसलिए ईश्वर ने हमें संसार में भेजा है कि हम अपने कर्मों का फल पूरा करें और कोई नया कर्म मंदनना बांधे और सब की सब की सहायता करें सबसे काम आए अपना जीवन भी बचाएं और सबका जीवन बचाएं और धर्म धर्म की जो स्थापना है उसका विरोध ना होने दें बल्कि धर्म को स्थापित रहने दे और धर्म का पालन करें और सबसे करवाएं यही हमारा महत्व होता है सपना शर्मा जय हिंद जय भारत आपका दिन शुभ हो

aapka prashna hai hamara mahatva kya hota hai toh hamara behtar yah hota hai ki hum ishwar ke ansh hain aur hum sansar me ishwar ka jo karya hai usko pura karne aaye hain aur ishwar ka karya kya hota hai ishwar ka karya hota hai ki humne jo karm kiye usko ishwar ne dekha hai aur uska jo fal hai vaah ishwar hamein prapt karwana chahte hain isliye ishwar ne hamein sansar me bheja hai ki hum apne karmon ka fal pura kare aur koi naya karm mandanana bandhe aur sab ki sab ki sahayta kare sabse kaam aaye apna jeevan bhi bachaen aur sabka jeevan bachaen aur dharm dharm ki jo sthapna hai uska virodh na hone de balki dharm ko sthapit rehne de aur dharm ka palan kare aur sabse karvaaein yahi hamara mahatva hota hai sapna sharma jai hind jai bharat aapka din shubha ho

आपका प्रश्न है हमारा महत्व क्या होता है तो हमारा बेहतर यह होता है कि हम ईश्वर के अंश हैं औ

Romanized Version
Likes  145  Dislikes    views  2582
WhatsApp_icon
user

Anand

Soft Skill Trainer & Life Coach

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ठीक है पहले तो अगर पॉजिटिव सोच तो भगवान ने हमें इस दुनिया में ऐसे तो नहीं भेजा किसी ना किसी परपस से भेजा है चाहे वह देश की सेवा करना और समाज की सेवा करना हो फैमिली की सेवा करना या खुद का डेवलपमेंट करना हो तो इतना महत्व हमारा है भगवान ने सब को एक जैसी शक्ति भी है जैसी 24 और सब की सांसे चलती है कोई पार पालिटी नहीं की है तो इंपॉर्टेंट बनाना महत्त्व अपना बनाना वह हमारे खुद के हाथ पर यदि बाजू में कोई है उसे हम हेल्प करते हैं या झगड़ा करना है वह हमारे ऊपर क्या मारना तो बनाना है इंपॉर्टेंट बनाना है कि नहीं बनाना है पूरी दुनिया से झगड़ा का नहीं है पूरी दुनिया को मदद करना फिर दुनिया क्या सोचती है नहीं देखना तो हम हम खुद अपना इंपॉर्टेंट बना सकते हैं और भगवान ने ऊपर कस के लिए भेजा है लेकिन क्या मोदी पाते हम नहीं देख पाते क्योंकि हम खुली आंखों से कोई नहीं दिखाई देता अगर हम शांत मन से सोचिए और उसके काम करें तो हमें अपने आप जवाब मिलता है कि हमारा महत्व क्या है इसके लिए हमें डीपी मेडिटेशन करना पड़ेगा तब आपको आपके सवाल का जवाब मिलेगा

theek hai pehle toh agar positive soch toh bhagwan ne hamein is duniya me aise toh nahi bheja kisi na kisi parpas se bheja hai chahen vaah desh ki seva karna aur samaj ki seva karna ho family ki seva karna ya khud ka development karna ho toh itna mahatva hamara hai bhagwan ne sab ko ek jaisi shakti bhi hai jaisi 24 aur sab ki sanse chalti hai koi par polity nahi ki hai toh important banana mahatva apna banana vaah hamare khud ke hath par yadi baju me koi hai use hum help karte hain ya jhagda karna hai vaah hamare upar kya marna toh banana hai important banana hai ki nahi banana hai puri duniya se jhagda ka nahi hai puri duniya ko madad karna phir duniya kya sochti hai nahi dekhna toh hum hum khud apna important bana sakte hain aur bhagwan ne upar cas ke liye bheja hai lekin kya modi paate hum nahi dekh paate kyonki hum khuli aakhon se koi nahi dikhai deta agar hum shaant man se sochiye aur uske kaam kare toh hamein apne aap jawab milta hai ki hamara mahatva kya hai iske liye hamein dipi meditation karna padega tab aapko aapke sawaal ka jawab milega

ठीक है पहले तो अगर पॉजिटिव सोच तो भगवान ने हमें इस दुनिया में ऐसे तो नहीं भेजा किसी ना किस

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  315
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निश्चित ही मानव का जीवन में महत्व और मम्मी महत्ता को बनाए रखने के लिए मृतक मानव की क्या इंपोर्टेंस है घर में कोई भी कार्य कर रहे हैं आपको जिम्मेदारी निभानी का निर्वहन कर रहा है और घर में आपकी एंबुलेंस रहेगी समाज में रहेगी सामाजिक कार्य अगर आप करेंगे तो आपकी एंबुलेंस रहेगी और जीवन है ही महत्वपूर्ण बाजपुर भगवान का दिया हुआ है शरीर है कई जन्मों के पश्चात मानव शरीर बनता मानव शरीर की महत्ता है कि आप परोपकार करें और लोगों का भला करें अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करें इस प्रकार से अगर आप जीवन व्यतीत करते तो लोगों की नजर में आपकी इंपोर्टेंस बनी है कि मैं उन्हें समाज सुधार के कार्य कर सकते हैं सोसाइटी जेतेश्वर एंबुलेंस मानव जीवन नेता से भरा हुआ और आप जो है अपने जीवन को व्यर्थ ना गवाएं भगवान का कार्य करें घर का कार्य करें समाज का कार्य करें और कुछ कार्य ऐसी भी है कि आपको वो लोग याद करेंगे आपको कि जो कल आने का था जो हर प्रकार की समस्याओं को सॉल्व कर देता था मानव जीवन बहुत महत्वपूर्ण है इसको व्यर्थ ना गवाएं धन्यवाद

nishchit hi manav ka jeevan me mahatva aur mummy mahatta ko banaye rakhne ke liye mritak manav ki kya importance hai ghar me koi bhi karya kar rahe hain aapko jimmedari nibhani ka nirvahan kar raha hai aur ghar me aapki ambulance rahegi samaj me rahegi samajik karya agar aap karenge toh aapki ambulance rahegi aur jeevan hai hi mahatvapurna bazpur bhagwan ka diya hua hai sharir hai kai janmon ke pashchat manav sharir banta manav sharir ki mahatta hai ki aap paropkaar kare aur logo ka bhala kare apni jimmedari ka nirvahan kare is prakar se agar aap jeevan vyatit karte toh logo ki nazar me aapki importance bani hai ki main unhe samaj sudhaar ke karya kar sakte hain society jeteshwar ambulance manav jeevan neta se bhara hua aur aap jo hai apne jeevan ko vyarth na gavaen bhagwan ka karya kare ghar ka karya kare samaj ka karya kare aur kuch karya aisi bhi hai ki aapko vo log yaad karenge aapko ki jo kal aane ka tha jo har prakar ki samasyaon ko solve kar deta tha manav jeevan bahut mahatvapurna hai isko vyarth na gavaen dhanyavad

निश्चित ही मानव का जीवन में महत्व और मम्मी महत्ता को बनाए रखने के लिए मृतक मानव की क्या

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  458
WhatsApp_icon
user
0:20
Play

Likes  45  Dislikes    views  731
WhatsApp_icon
user
1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी व्यक्ति का महत्व संसार नहीं वह व्यक्ति स्वयं ही तय करता है यदि आप अपनी नजरों में उठे हुए हैं उत्कृष्ट है स्वयं को अच्छे नैतिक मूल्यों के साथ जानते हैं आपको विश्वास से भरपूर पाते हैं और स्वयं के नजरों में मूल्यवान पाते हैं तो निश्चित ही संसार में आपका मॉल है दुनिया भी आप अपनी नजरों से देखेगी जैसा आप स्वयं को देखते हैं इसलिए होगा क्योंकि जब आप की कद्र अपनी नजरों में अच्छी होगी तो वर रिफ्लेक्ट करते बाहर आपका आत्मविश्वास बाहर जल करेगा आपका गौरव बाहर जाएगा और इसी से दुनिया जानती पहचानती है आपको और आपकी कीमत कीमत का अंदाजा लगाती है कीमत न शरीर की होती है नमन की होती है कीमत आपके आदर्शों की आपकी समझ कि आपके अच्छे गुणों की होती है

kisi bhi vyakti ka mahatva sansar nahi vaah vyakti swayam hi tay karta hai yadi aap apni nazro me uthe hue hain utkrasht hai swayam ko acche naitik mulyon ke saath jante hain aapko vishwas se bharpur paate hain aur swayam ke nazro me mulyavan paate hain toh nishchit hi sansar me aapka mall hai duniya bhi aap apni nazro se dekhenge jaisa aap swayam ko dekhte hain isliye hoga kyonki jab aap ki kadra apni nazro me achi hogi toh var reflect karte bahar aapka aatmvishvaas bahar jal karega aapka gaurav bahar jaega aur isi se duniya jaanti pahachaanati hai aapko aur aapki kimat kimat ka andaja lagati hai kimat na sharir ki hoti hai naman ki hoti hai kimat aapke aadarshon ki aapki samajh ki aapke acche gunon ki hoti hai

किसी भी व्यक्ति का महत्व संसार नहीं वह व्यक्ति स्वयं ही तय करता है यदि आप अपनी नजरों में

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
user

Kiran

career Counselling ,Meditation Expert

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है हमारा महत्व क्या होता है हमारा महत्व जब होता है जब मैं अच्छे इंसान बनते हैं दूसरों की मदद करने वाले हमेशा हमारे दिल में दूसरों को लेकर की उदारता रहती है सबकी मदद करना सबके लिए अपने स्वार्थ के लिए कोई भी चीज नहीं करना साथ ही नहीं बनना परोपकारी दोनों कृपालु दयालु और इमानदार तो हमारा महत्व होता है और दूसरों की नजर में भी हमारा महत्व है परमेश्वर जी का नाम को और माता पिता की सेवा करना पत्नी बच्चों के साथ अच्छे से व्यवहार करना उनको सुख देना किसी भी प्रकार का ऐसा कार्य नहीं करना कि आपके कार्य से किसी को परेशानी हो तो तू किसी प्रकार की किसी भी बुरे विचारों को अपने अंदर नहीं ना हमारा महत्व होता है आप लोगों के बीच में हमारे अंदर और सब जगह हमारा महत्व है

aapka sawaal hai hamara mahatva kya hota hai hamara mahatva jab hota hai jab main acche insaan bante hain dusro ki madad karne waale hamesha hamare dil me dusro ko lekar ki udarata rehti hai sabki madad karna sabke liye apne swarth ke liye koi bhi cheez nahi karna saath hi nahi banna paropakaaree dono kripalu dayalu aur imaandaar toh hamara mahatva hota hai aur dusro ki nazar me bhi hamara mahatva hai parmeshwar ji ka naam ko aur mata pita ki seva karna patni baccho ke saath acche se vyavhar karna unko sukh dena kisi bhi prakar ka aisa karya nahi karna ki aapke karya se kisi ko pareshani ho toh tu kisi prakar ki kisi bhi bure vicharon ko apne andar nahi na hamara mahatva hota hai aap logo ke beech me hamare andar aur sab jagah hamara mahatva hai

आपका सवाल है हमारा महत्व क्या होता है हमारा महत्व जब होता है जब मैं अच्छे इंसान बनते हैं द

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user

BK Vishal

Rajyoga Trainer

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक इंसान के तौर पर आप का बड़ा महत्व आप बहुत महत्वपूर्ण है इस जगत में जगत के नियंता कि आप सर्वश्रेष्ठ रचना आप समाज के लिए बड़े हितकारी हो सकते हैं आपके प्रयासों से बहुतों को फायदे हो सकते हैं आपकी होने से कईयों को हिम्मत और हौसला मिलता है तो एक इंसान का होना बड़ा महत्वपूर्ण होता है इसलिए आपको अपने महत्व को समझेंगे तो बहुत महत्वपूर्ण अगर आप स्वयं अपने आप को महत्वहीन समझेंगे और कुछ दिखाई नहीं देगा हमारी कोई वैल्यू नहीं है अगर आपको ऐसा लग रहा है तो आप अपने अंदर जरा झांक कर देखें आपके भीतर बहुत सारी कलाएं और बहुत सारी गुणवत्ता ईश्वर ने विकसित किया है लेकिन आपने उनकी तरफ नजर नहीं लगती आप दूसरों से अपनी तुलना करते हैं इसलिए आपको अपना महत्व देखना है तो आप अपने आप का अनुसंधान अपने अंदर झांके जो आपको भगवान ने दिया है वह सबसे यूनिक है और वह आपकी संपत्ति है आप उसका तलाश के लिए आपने कोई ना कोई खूबी जरूर मस्त कोई जरूरत है उसको देखने की निहारने की और तराशने की और उसको अवसर मिलने पर इस्तेमाल करने की बिल्कुल

ek insaan ke taur par aap ka bada mahatva aap bahut mahatvapurna hai is jagat me jagat ke niyanta ki aap sarvashreshtha rachna aap samaj ke liye bade hitkari ho sakte hain aapke prayaso se bahuton ko fayde ho sakte hain aapki hone se kaiyon ko himmat aur hausla milta hai toh ek insaan ka hona bada mahatvapurna hota hai isliye aapko apne mahatva ko samjhenge toh bahut mahatvapurna agar aap swayam apne aap ko mahatwahin samjhenge aur kuch dikhai nahi dega hamari koi value nahi hai agar aapko aisa lag raha hai toh aap apne andar zara jhank kar dekhen aapke bheetar bahut saari kalaen aur bahut saari gunavatta ishwar ne viksit kiya hai lekin aapne unki taraf nazar nahi lagti aap dusro se apni tulna karte hain isliye aapko apna mahatva dekhna hai toh aap apne aap ka anusandhan apne andar jhanke jo aapko bhagwan ne diya hai vaah sabse Unique hai aur vaah aapki sampatti hai aap uska talash ke liye aapne koi na koi khoobi zaroor mast koi zarurat hai usko dekhne ki niharane ki aur tarashane ki aur usko avsar milne par istemal karne ki bilkul

एक इंसान के तौर पर आप का बड़ा महत्व आप बहुत महत्वपूर्ण है इस जगत में जगत के नियंता कि आप स

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  1150
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक मनुष्य का महत्व यह है कि आप इस संसार के सबसे सारे जीवो में जीव जंतु दूसरे प्राणी ऐसा नहीं कर सकते रूप में जन्म होना ही सबसे बड़ी और यह अन्यथा ही नहीं मिला है यह भी किसी विशेष कारणों से मिला इन सब चीजों को पाकर हम उन चीजों को कितना समझ पाते हैं और अपनी स्थिति कर कितना विचार कर पाते हैं यह महत्वपूर्ण है

ek manushya ka mahatva yah hai ki aap is sansar ke sabse saare jeevo me jeev jantu dusre prani aisa nahi kar sakte roop me janam hona hi sabse badi aur yah anyatha hi nahi mila hai yah bhi kisi vishesh karanon se mila in sab chijon ko pakar hum un chijon ko kitna samajh paate hain aur apni sthiti kar kitna vichar kar paate hain yah mahatvapurna hai

एक मनुष्य का महत्व यह है कि आप इस संसार के सबसे सारे जीवो में जीव जंतु दूसरे प्राणी ऐसा नह

Romanized Version
Likes  103  Dislikes    views  1136
WhatsApp_icon
user

Rambriksh

Retired.Engineer.Civilengr.

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा महत्व क्या होता है हमारा में बता रहा हूं पूरे ब्रह्मांड में सबसे बढ़िया अगर बनाई सबसे अच्छी कलाकृति बनाई है तो भगवान ने मनुष्य और हम उसके मानस पुत्र भी है भगवान सब जगह नहीं हो सकता अवस्थित स्थूल रूप है इसलिए उसने हमें बनाया तो यह महत्व क्या कम है भगवान का मानस पुत्र

hamara mahatva kya hota hai hamara me bata raha hoon poore brahmaand me sabse badhiya agar banai sabse achi kalakriti banai hai toh bhagwan ne manushya aur hum uske manas putra bhi hai bhagwan sab jagah nahi ho sakta avasthit sthool roop hai isliye usne hamein banaya toh yah mahatva kya kam hai bhagwan ka manas putra

हमारा महत्व क्या होता है हमारा में बता रहा हूं पूरे ब्रह्मांड में सबसे बढ़िया अगर बनाई सबस

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  211
WhatsApp_icon
user

Pramod Kushwaha

famous Motivational Guru N Painter

0:17
Play

Likes  72  Dislikes    views  1898
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं तो अपनी आंखों से अपनी अच्छाइयों से अच्छे कर्मों से अच्छे विचारों से अच्छी सोच से अच्छे काम से बनता है मैं तो बिना बात के नहीं बनता उसे मेहर करनी पड़ती है सच बोलना पड़ता है सेवा करनी पड़ती है अच्छाई का नहीं बनती है

main toh apni aakhon se apni acchhaiyon se acche karmon se acche vicharon se achi soch se acche kaam se banta hai main toh bina baat ke nahi banta use mehar karni padti hai sach bolna padta hai seva karni padti hai acchai ka nahi banti hai

मैं तो अपनी आंखों से अपनी अच्छाइयों से अच्छे कर्मों से अच्छे विचारों से अच्छी सोच से अच्छे

Romanized Version
Likes  133  Dislikes    views  4043
WhatsApp_icon
user

Anjana Baliga

Counselor

4:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने प्रश्न क्या है हमारा महत्व क्या है इसके लिए मैं आपको बहुत अच्छी है कहानी सुन आऊंगी आप का महत्व आपके ऊपर ही निर्भर करता है कि आप क्या एक बार एक व्यक्ति बहुत परेशान था और वह भगवान से लड़ता है आप मुझे दुख पर दुख दिए जा रहे हो मेरा जीवन ऐसे नहीं चल रहा हे भगवान मुझे मेरी महत्व बताओ कि मेरा जन्म क्यों हुआ मेरा क्या जीवन का लक्ष्य है क्या मेरा संदर्भ है और कहते हैं इस पत्थर को बाजार में बेचने की कोशिश करना परंतु बेचना मत और उसकी कीमत पूछ कर आना जाओ कीमती पत्थर लेकर सब्जी वाले के पास जाकर सब्जी वाला कहता है इस पत्थर के बदले में आपको एक बोरी आलू दे सकता हूं उससे ज्यादा मैं नहीं देख सकता भोपाल वाले के पास देता है तो पल वाला कहता है मैं इसके बदले में आपको 100 किलो स्टेट दे सकता हूं इस से ज्यादा अधिक मैं आपको कुछ नहीं दे सकता तो फिर वह पत्थर है पत्थर की प्रखरता उसके पास जाता हूं एक दूसरी जो है उसके पास जाता है तो जरूरी जो है वह क्या करता है उस पत्थर को मूल्यवान आता है और कहते ही बहुत कीमती पत्थर और मैं इसको रख लूंगा मैं तुम्हें उसके ₹5000000 दूंगा तू व्यक्ति कहता है ना तो नहीं है तुम ज्यादा सोच विचार कर रहे हो तो तुम्हें एक करोड़ दे सकता हूं इससे ज्यादा मैं नहीं दे सकता इतने मेरे पास है उसके बाद वह सोचता है अगर जो हरीश का एक करोड़ दे सकता है तो मैं जो हीरे बेटा उसके पास जाता हूं उसको उसकी ज्यादा फर्क होगी तो वह हीरे वाले के पास जाता और हीरो वाला उसको यह कहता है कि दुनिया का सबसे मूल पत्थर है मेरे पास जितनी संपत्ति है 50 करोड़ वह मैं तुम्हें दे सकता हूं इससे अधिक मैं नहीं देख सकता है उसको भेज नहीं सकता बस कम मूल्य सकता हूं तो ज्यादा से जब तुमने बेचना ही नहीं तो मेरा समय क्यों बर्बाद कर तुम यहां से जाओ और वह मेरे का व्यापार उसे लौटा देता है तो भगवान के पास जाता है और कहता है भगवान मैंने इसको बहुत जगह लेकर गया और सबने अलग-अलग कीमत बताएं कोई प्यारा है इसके 1 किलो आलू एक बोरी आलू देगा कोई चेहरा शौकीन उसे देगा कोई कह रहा है इसके एक करोड़ देगा कोई कहे मैं 50 करोड़ दूंगा इस पत्थर का मूल्य क्या है तो भगवान उसको बताते हैं कि यह पत्थर तुम्हारा जीवन है यह तुम्हारे ऊपर निर्भर करता है तुम इस जीवन का कितना मूल्यवान बनाते हो और इसको मूल्यवान वही लोग बना सकते हैं अगर तुम इसको सही जगह पर लेकर जाओ और सही समय पर लेकर जाओ तभी उसका मूल्य है तो यही आप का महत्व है आपको सृष्टिकर्ता नहीं जो यह मन दिया है इसमें असीम को टेंशन मतलब 80 वह है काबिलियत आप में बस यह आपको तराशना है कि आप किसके लिए कितने महत्व रखते हो क्या आप की वैल्यू एक करोड़ की है 50 करोड़ की है तो आप अपने मन से बहुत कुछ कर सकते हो तो यह आपके ऊपर है देखिए अब दुनिया में सब तरह के लोग हैं सबसे कीमती वाला भी जो है वह बहुत रहिस आदमी भी है जो रानी महारानी जितने आप कह सकते हैं या विदेश में सबसे मल्टीमिलेनियर बिल देना है और भारत में बीच इतने सारे पैसे वाले आपके ऊपर है तो आप चार्ज का सोचते हैं आपके जीवन को और उसकी खूब वैल्यू देते कि मैं ऐसा क्या कर सकता हूं कि मेरे मन से मैं इतना कमा सकता हूं जितने ज्यादा लोगों से आप प्यार करेंगे यही लोग आप की वैल्यू करेंगे जीवन में यह याद रखेगा थैंक यू गॉड ब्लेस यू

aapne prashna kya hai hamara mahatva kya hai iske liye main aapko bahut achi hai kahani sun aaungi aap ka mahatva aapke upar hi nirbhar karta hai ki aap kya ek baar ek vyakti bahut pareshan tha aur vaah bhagwan se ladata hai aap mujhe dukh par dukh diye ja rahe ho mera jeevan aise nahi chal raha hai bhagwan mujhe meri mahatva batao ki mera janam kyon hua mera kya jeevan ka lakshya hai kya mera sandarbh hai aur kehte hain is patthar ko bazaar me bechne ki koshish karna parantu bechna mat aur uski kimat puch kar aana jao kimti patthar lekar sabzi waale ke paas jaakar sabzi vala kahata hai is patthar ke badle me aapko ek bori aalu de sakta hoon usse zyada main nahi dekh sakta bhopal waale ke paas deta hai toh pal vala kahata hai main iske badle me aapko 100 kilo state de sakta hoon is se zyada adhik main aapko kuch nahi de sakta toh phir vaah patthar hai patthar ki prakharata uske paas jata hoon ek dusri jo hai uske paas jata hai toh zaroori jo hai vaah kya karta hai us patthar ko mulyavan aata hai aur kehte hi bahut kimti patthar aur main isko rakh lunga main tumhe uske Rs dunga tu vyakti kahata hai na toh nahi hai tum zyada soch vichar kar rahe ho toh tumhe ek crore de sakta hoon isse zyada main nahi de sakta itne mere paas hai uske baad vaah sochta hai agar jo harish ka ek crore de sakta hai toh main jo heere beta uske paas jata hoon usko uski zyada fark hogi toh vaah heere waale ke paas jata aur hero vala usko yah kahata hai ki duniya ka sabse mul patthar hai mere paas jitni sampatti hai 50 crore vaah main tumhe de sakta hoon isse adhik main nahi dekh sakta hai usko bhej nahi sakta bus kam mulya sakta hoon toh zyada se jab tumne bechna hi nahi toh mera samay kyon barbad kar tum yahan se jao aur vaah mere ka vyapar use lauta deta hai toh bhagwan ke paas jata hai aur kahata hai bhagwan maine isko bahut jagah lekar gaya aur sabane alag alag kimat bataye koi pyara hai iske 1 kilo aalu ek bori aalu dega koi chehra shaukin use dega koi keh raha hai iske ek crore dega koi kahe main 50 crore dunga is patthar ka mulya kya hai toh bhagwan usko batatey hain ki yah patthar tumhara jeevan hai yah tumhare upar nirbhar karta hai tum is jeevan ka kitna mulyavan banate ho aur isko mulyavan wahi log bana sakte hain agar tum isko sahi jagah par lekar jao aur sahi samay par lekar jao tabhi uska mulya hai toh yahi aap ka mahatva hai aapko srishtikarta nahi jo yah man diya hai isme asim ko tension matlab 80 vaah hai kabiliyat aap me bus yah aapko tarashana hai ki aap kiske liye kitne mahatva rakhte ho kya aap ki value ek crore ki hai 50 crore ki hai toh aap apne man se bahut kuch kar sakte ho toh yah aapke upar hai dekhiye ab duniya me sab tarah ke log hain sabse kimti vala bhi jo hai vaah bahut rahis aadmi bhi hai jo rani maharani jitne aap keh sakte hain ya videsh me sabse maltimileniyar bill dena hai aur bharat me beech itne saare paise waale aapke upar hai toh aap charge ka sochte hain aapke jeevan ko aur uski khoob value dete ki main aisa kya kar sakta hoon ki mere man se main itna kama sakta hoon jitne zyada logo se aap pyar karenge yahi log aap ki value karenge jeevan me yah yaad rakhega thank you god bless you

आपने प्रश्न क्या है हमारा महत्व क्या है इसके लिए मैं आपको बहुत अच्छी है कहानी सुन आऊंगी आप

Romanized Version
Likes  425  Dislikes    views  6880
WhatsApp_icon
user

Anand Kumar

EVANGELIST

1:42
Play

Likes  77  Dislikes    views  1375
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा मित्र क्या होता है अगर हम औरों की नहीं तो और हमारे लिए हम तुम्हारे लिए तुम हमारे लिए दोनों हैं एक दूजे के लिए हम तुम्हारे लिए तुम हमारे लिए यह बताना चाहता हूं कि इंसान को संकट की घड़ी में मन बहलाने के लिए काव्य भाव या भगवान के प्रति भाव या भजन भाव से समय कट जाता है और मत बोलिए कि अगर हमारा समाज नहीं तो हमारा कोई महत्व नहीं और हम नहीं हैं तो समाज का कोई महत्व नहीं क्योंकि समाज हम आपसे मिलकर ही बनता है

hamara mitra kya hota hai agar hum auron ki nahi toh aur hamare liye hum tumhare liye tum hamare liye dono hain ek dooje ke liye hum tumhare liye tum hamare liye yah batana chahta hoon ki insaan ko sankat ki ghadi me man bahlane ke liye kavya bhav ya bhagwan ke prati bhav ya bhajan bhav se samay cut jata hai aur mat bolie ki agar hamara samaj nahi toh hamara koi mahatva nahi aur hum nahi hain toh samaj ka koi mahatva nahi kyonki samaj hum aapse milkar hi banta hai

हमारा मित्र क्या होता है अगर हम औरों की नहीं तो और हमारे लिए हम तुम्हारे लिए तुम हमारे ल

Romanized Version
Likes  474  Dislikes    views  6546
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा मतलब क्या होता है हमारा महत्त्व में आपके हसीना की आप के अस्तित्व की आपके वजूद की पहचान उसके सम्मान और गरिमा यह आपका महत्व है लेकिन आपको यह भी सोचना चाहिए कि वास्तव में आप स्वयं कौन है क्या आप बेकार मांस के पुतले एक व्यक्ति हैं क्या आप भावनाओं का जंजाल हैं ठीक है आप विचारों का समझते हैं या शरीर भावना और विचार जिसके कारण संदीप होते हैं वह चैनल पर तुम उसके बारे में भी कोई आपका संज्ञान है कोई आपका अनुभव या अंतर्ज्ञान है आपको इस तरफ भी ध्यान रखना चाहिए महत्त्व का मतलब यह है कि हमारे अंदर अहंकार पूछ परख की एक चींटी हुई भावना छिपी हुई है और अहंकार एक विकृति है जो प्रशंसा चाहता है सम्मान चाहता है वाहवाही चाहता है लेकिन एक मानसिक रोग है उसने हर जगह महत्व की चार हर जगह महत्वाकांक्षा हर जगह यह कौन सा सामान है

hamara matlab kya hota hai hamara mahatva me aapke hasina ki aap ke astitva ki aapke wajood ki pehchaan uske sammaan aur garima yah aapka mahatva hai lekin aapko yah bhi sochna chahiye ki vaastav me aap swayam kaun hai kya aap bekar maas ke putale ek vyakti hain kya aap bhavnao ka janjal hain theek hai aap vicharon ka samajhte hain ya sharir bhavna aur vichar jiske karan sandeep hote hain vaah channel par tum uske bare me bhi koi aapka sangyaan hai koi aapka anubhav ya antargyan hai aapko is taraf bhi dhyan rakhna chahiye mahatva ka matlab yah hai ki hamare andar ahankar puch parakh ki ek chinti hui bhavna chipi hui hai aur ahankar ek vikriti hai jo prashansa chahta hai sammaan chahta hai vahvahi chahta hai lekin ek mansik rog hai usne har jagah mahatva ki char har jagah mahatwakanksha har jagah yah kaun sa saamaan hai

हमारा मतलब क्या होता है हमारा महत्त्व में आपके हसीना की आप के अस्तित्व की आपके वजूद की पह

Romanized Version
Likes  314  Dislikes    views  3100
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा बहुत महत्व है आप जिस परिवार से जुड़े हैं उस परिवार के आप दीपक हैं या उस परिवार की आन बान शान है जिन लोगों से आप जुड़े उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण है और स्वयं के लिए आपका बहुत बड़ा महत्व है अगर आप स्वयं ही स्वयं की वैल्यू समझ ले एक बार अपने स्वयं का महत्व समझ में तो आप समझ जाएंगे कि आप कितने महत्वपूर्ण हैं

hamara bahut mahatva hai aap jis parivar se jude hain us parivar ke aap deepak hain ya us parivar ki Aan Baan shan hai jin logo se aap jude unke liye bahut mahatvapurna hai aur swayam ke liye aapka bahut bada mahatva hai agar aap swayam hi swayam ki value samajh le ek baar apne swayam ka mahatva samajh me toh aap samajh jaenge ki aap kitne mahatvapurna hain

हमारा बहुत महत्व है आप जिस परिवार से जुड़े हैं उस परिवार के आप दीपक हैं या उस परिवार की आन

Romanized Version
Likes  333  Dislikes    views  3717
WhatsApp_icon
user

Swami Umesh Yogi

Peace-Guru (Global Peace Education)

2:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें महत्व की बात है बिल्कुल सिंपल समझ लीजिए कि जिस प्रकार से ₹100 में ₹1 और हर एक रुपए में हर एक पैसे का महत्व है उसको ₹100 बनाने का यदि एक भी पैसा उस पर क्लिक कर दीजिए वह सब नहीं रहेगा इसी तरह से पूरे ब्रह्मांड में देखकर राजकरण उसको पूर्ण करता है एक भी राजकरण को आप उसे अलग कर दीजिए ब्रह्मांड से तो ब्रह्मांड अधूरा हो जाएगा पूर्ण हो जाएगा तो एक व्यक्ति समाज की पूर्णता का महत्वपूर्ण अंग है इसलिए उतना ही महत्व है प्रत्येक व्यक्ति का प्रत्येक वस्तु का प्रत्येक यूनिट का की पूर्णता का कारण नहीं है तो उठता नहीं आ सकती समाज में परिवार में विश्व में आप उस अपना जो योगदान है उस पूर्णता में पैसा देना चाहते हैं आप भले ही छोटी सी यूनिट है अब उत्कृष्ट यूनिट पनीर और पूर्णता को उत्कृष्ट यूनिट का योगदान मिलेगा तो पूर्णता में उत्कृष्टता आएगी ऐसी मेरी शुभकामना है इसीलिए हमने वेदिक कल्चर सेंटर डॉट कॉम हरिद्वार में स्थापित किया भारत में कि कम से कम जितने लोग आए उतने यूनिट उत्कृष्ट हो और समाज को पूर्णता देने का एक हमारा छोटा सा प्रयास हमारे उससे हमारी सेवा समाज के लिए हम समाज के काम आ सके देश के काम आ सके लोगों के काम आ सके ऐसा हमने सोचा कि हम मदद करना चाहते हैं यदि आप ऐसा लगे कि आपको आना चाहिए ताकि अवश्य संपर्क करें जय गुरुदेव

dekhen mahatva ki baat hai bilkul simple samajh lijiye ki jis prakar se Rs me Rs aur har ek rupaye me har ek paise ka mahatva hai usko Rs banane ka yadi ek bhi paisa us par click kar dijiye vaah sab nahi rahega isi tarah se poore brahmaand me dekhkar rajyakaran usko purn karta hai ek bhi rajyakaran ko aap use alag kar dijiye brahmaand se toh brahmaand adhura ho jaega purn ho jaega toh ek vyakti samaj ki purnata ka mahatvapurna ang hai isliye utana hi mahatva hai pratyek vyakti ka pratyek vastu ka pratyek unit ka ki purnata ka karan nahi hai toh uthata nahi aa sakti samaj me parivar me vishwa me aap us apna jo yogdan hai us purnata me paisa dena chahte hain aap bhale hi choti si unit hai ab utkrasht unit paneer aur purnata ko utkrasht unit ka yogdan milega toh purnata me utkrishtata aayegi aisi meri shubhkamna hai isliye humne vedic culture center dot com haridwar me sthapit kiya bharat me ki kam se kam jitne log aaye utne unit utkrasht ho aur samaj ko purnata dene ka ek hamara chota sa prayas hamare usse hamari seva samaj ke liye hum samaj ke kaam aa sake desh ke kaam aa sake logo ke kaam aa sake aisa humne socha ki hum madad karna chahte hain yadi aap aisa lage ki aapko aana chahiye taki avashya sampark kare jai gurudev

देखें महत्व की बात है बिल्कुल सिंपल समझ लीजिए कि जिस प्रकार से ₹100 में ₹1 और हर एक रुपए म

Romanized Version
Likes  380  Dislikes    views  3274
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा महत्व हमारा सबका अपना मानते हैं कि सबके अपने-अपने अदृश्य होती है और उससे हम किस तरह से करते हैं पावर और इसके माध्यम से अपनी वैल्यू नहीं जानेंगे

hamara mahatva hamara sabka apna maante hain ki sabke apne apne adrishya hoti hai aur usse hum kis tarah se karte hain power aur iske madhyam se apni value nahi jaanege

हमारा महत्व हमारा सबका अपना मानते हैं कि सबके अपने-अपने अदृश्य होती है और उससे हम किस तरह

Romanized Version
Likes  383  Dislikes    views  3320
WhatsApp_icon
user

Kishan Kumar

Motivational speaker

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों इस बुक अलाइव पर आपका स्वागत है और मैं आशा करता हूं और यही भगवान से निवेदन और वंदन करता हूं कि आप जहां भी रहे खुश रहें और स्वस्थ रहें और आपका प्यारा सा क्वेश्चन है हमारा महत्व क्या होता है दोस्तों आप का महत्व बहुत ज्यादा है बस इस बात को आप को खुद से पूछिए और थोड़ा टाइम दीजिए तो जरूर आपको अपने आपको पता लग जाएगा इसलिए इस दुनिया में इस संसार में हर एक व्यक्ति का महत्व है तो जरूर अपने महत्व को समझाइए और आप का महत्व बहुत ज्यादा है इस दुनिया में और इस दुनिया में हर एक इंसान को अपना महत्व बनाना पड़ता है अपना एक इमेज बनाना पड़ता है उसके लिए मेहनत करके एक इतिहास रखना पड़ता है यहां कुछ ना कुछ करना पड़ता है क्योंकि बहुत सारी इंसान इस पृथ्वी पर हैं और जी रहे हैं उस इंसानो में से आपको अलग कुछ पढ़ना पड़ेगा इसलिए इंसान का महत्व आप काम बहुत ज्यादा है तो आप अपना महत्व बनाइए हेल्प करिए लोगों की मदद चाहिए तो जरूर आपका बनेगा अपनी फैमिली के केयर करिए थैंक यू

namaskar doston is book alive par aapka swaagat hai aur main asha karta hoon aur yahi bhagwan se nivedan aur vandan karta hoon ki aap jaha bhi rahe khush rahein aur swasth rahein aur aapka pyara sa question hai hamara mahatva kya hota hai doston aap ka mahatva bahut zyada hai bus is baat ko aap ko khud se puchiye aur thoda time dijiye toh zaroor aapko apne aapko pata lag jaega isliye is duniya me is sansar me har ek vyakti ka mahatva hai toh zaroor apne mahatva ko samjhaiye aur aap ka mahatva bahut zyada hai is duniya me aur is duniya me har ek insaan ko apna mahatva banana padta hai apna ek image banana padta hai uske liye mehnat karke ek itihas rakhna padta hai yahan kuch na kuch karna padta hai kyonki bahut saari insaan is prithvi par hain aur ji rahe hain us insano me se aapko alag kuch padhna padega isliye insaan ka mahatva aap kaam bahut zyada hai toh aap apna mahatva banaiye help kariye logo ki madad chahiye toh zaroor aapka banega apni family ke care kariye thank you

नमस्कार दोस्तों इस बुक अलाइव पर आपका स्वागत है और मैं आशा करता हूं और यही भगवान से निवेदन

Romanized Version
Likes  160  Dislikes    views  1329
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप मानता की बीवी की एक कड़ी कीमतों है सारे जो मानव सारे जो इंसान हैं मिलकर सारे क्यों मुझ से मना रहे

aap maanta ki biwi ki ek kadi kimton hai saare jo manav saare jo insaan hain milkar saare kyon mujhse se mana rahe

आप मानता की बीवी की एक कड़ी कीमतों है सारे जो मानव सारे जो इंसान हैं मिलकर सारे क्यों मुझ

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  240
WhatsApp_icon
user

Md Naushad

Aamil Dharm Guru

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि हमारा महत्व क्या है आपको बता दें कि इंसान का महत्व जो है दो चीज से अगर वो इंसान है पूरी तरीके से अच्छा काम करता है तो फरिश्तों से बढ़कर है अगर वह बुरा काम करता है तो वह जानवर से बदतर है मतलब इंसान में दो चीज बताई गई अगर वह सच में अच्छा काम करता है बनिया रास्ता चुने हुआ है सही काम करता है दान पूर्ण करता है तो परसों से बढ़कर है क्योंकि वह इंसान है अगर वह गंदा काम करता है मार्केट लड़ाई झगड़ा होता बात करता है तो वह जानवर से बदतर है इसलिए इंसान को अश्रुपूर्ण मखलूक कहा जाता है फर्स्ट पेपर करंसी को बुला लिया हुआ है मतलब है दुनिया में जो भी इंसान है जो भी जानवर हो इंसान हो जिन हो जीना तो करते हो सबसे बेहतर इंसान नहीं को बताया गया अब आप समझ सकते हैं कि इंसान क्या है

aapka sawaal hai ki hamara mahatva kya hai aapko bata de ki insaan ka mahatva jo hai do cheez se agar vo insaan hai puri tarike se accha kaam karta hai toh farishton se badhkar hai agar vaah bura kaam karta hai toh vaah janwar se badataar hai matlab insaan me do cheez batai gayi agar vaah sach me accha kaam karta hai baniya rasta chune hua hai sahi kaam karta hai daan purn karta hai toh parso se badhkar hai kyonki vaah insaan hai agar vaah ganda kaam karta hai market ladai jhagda hota baat karta hai toh vaah janwar se badataar hai isliye insaan ko ashrupurn makhaluk kaha jata hai first paper currency ko bula liya hua hai matlab hai duniya me jo bhi insaan hai jo bhi janwar ho insaan ho jin ho jeena toh karte ho sabse behtar insaan nahi ko bataya gaya ab aap samajh sakte hain ki insaan kya hai

आपका सवाल है कि हमारा महत्व क्या है आपको बता दें कि इंसान का महत्व जो है दो चीज से अगर वो

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  89
WhatsApp_icon
user
3:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सवाल आपका सबके लिए बहुत ही उपयोगी है क्या कि अक्सर लोग मन ही तो यह सोच नहीं पाता कि मेरा की मौत से क्या मोहब्बत वह क्यों मसूड़े में क्यों है कोई सोच बस यह जाता है जो मन में आता है वही अपने महत्त्व को समझता ही नहीं और इसी वजह से वह कहीं अपने आप को अपमानित करता है कोई रिप्लाई आपको बोलता मिली सफलता नहीं मिली थी कि वह अपने भाइयों को समझता ही नहीं तो मेरे ख्याल से हमारी वैल्यू हमारी खुद की भी उतना ही है इतना की सूची में भगवान का जो शृष्टि भगवान ने बनाया है जो भी उनका है वही वैल्यू हमारा है अपनी जगह से क्योंकि हम यह सब बात सही है कि सब कुछ रिश्ते में भगवान भगवान ने सृष्टि को बनाया मुंह में भी बनाया लेकिन इस टाइम अगर हम खुद को देखो तो हर आदमी को अलग-अलग कोई भी यहां पर बहुत सारी भीड़ लगी कोई सा कि हर आदमी अकेला ही है और जो अकेली जगह जहां खड़ा होता है यह जो उसका शरीर है जो उसका ब्रहमांड है वह उसका मास्टिक की है और तस्वीरें पूरी दुनिया है वह अपने कर्मों द्वारा ही एक दुनिया की रस्ता है जैसे भगवान अपना एक दुनिया अलग से रखते हैं सब कुछ बनाते ऐसे ही हम अपने कर्मों द्वारा एक अलग से वाटर मोबाइल बनाते हैं एक दुनिया अलग ही बनाते हैं तो हम अपनी दुनिया के भगवान खुद ठीक है तो हमारा इतना ही महत्व है हमारा ही महत्व है हम सिर्फ सब कुछ से ज्यादा हम नहीं हैं अगर हूं तो सब कुछ है मेरे द्वारा ही सारे वातावरण बनाए जाते हैं मैं ही हर जगह घूम घूम के लोगों से बीएफ बनाता हूं प्राकृतिक से अपना संबंध बनाता हूं इंसानों से अपना संबंध बनाता हूं जानवर से संबंध बनाता है इस बात को लोग समझने लगे तो शायद यही तो मुश्किल है कि हर बात करूं समझ नहीं सकता इस बात को हर आदमी समझने लगे तो कभी निराश नहीं हुआ हताश नहीं होगा अपने वैल्यू को देख के चलता रहेगा कभी दूसरे को ब्लेम नहीं करेगा फिर से भी बात करें जब अपनी भाइयों पता लग जाती है तो आदमी होता है क्या कि अपने नाक कामयाबी का ठीकरा दूसरे के सर पर पड़ता है इसलिए के तरफ उंगली करता है जिसकी वजह से हो गया इसमें मदद नहीं किया उसने मध्य दी क्या उसने अपनी बहन जी अगर वो दूसरों को ब्लेम नहीं करेगा दूसरों के हिसाब से अपने हिसाब से वह अपना भाषण आएगा अपना एक बार मत बनाएगा अपनी दुनिया बनाएगा और हर इंसान को अपनी दुनिया बनाना ही पड़ता है वह हो सकता है अच्छा हो सकता है बुरा हूं उसके मानसिकता पर निर्भर है तू क्या सोचता है कि टिप्स का अपोजिट मरम्मत अपनी दुनिया में उठ नहीं है जितना कि सृष्टि में भगवान का पेट्रोल टंकी

yah sawaal aapka sabke liye bahut hi upyogi hai kya ki aksar log man hi toh yah soch nahi pata ki mera ki maut se kya mohabbat vaah kyon masude me kyon hai koi soch bus yah jata hai jo man me aata hai wahi apne mahatva ko samajhata hi nahi aur isi wajah se vaah kahin apne aap ko apmanit karta hai koi reply aapko bolta mili safalta nahi mili thi ki vaah apne bhaiyo ko samajhata hi nahi toh mere khayal se hamari value hamari khud ki bhi utana hi hai itna ki suchi me bhagwan ka jo shrishti bhagwan ne banaya hai jo bhi unka hai wahi value hamara hai apni jagah se kyonki hum yah sab baat sahi hai ki sab kuch rishte me bhagwan bhagwan ne shrishti ko banaya mooh me bhi banaya lekin is time agar hum khud ko dekho toh har aadmi ko alag alag koi bhi yahan par bahut saari bheed lagi koi sa ki har aadmi akela hi hai aur jo akeli jagah jaha khada hota hai yah jo uska sharir hai jo uska brahamand hai vaah uska mastik ki hai aur tasveeren puri duniya hai vaah apne karmon dwara hi ek duniya ki rasta hai jaise bhagwan apna ek duniya alag se rakhte hain sab kuch banate aise hi hum apne karmon dwara ek alag se water mobile banate hain ek duniya alag hi banate hain toh hum apni duniya ke bhagwan khud theek hai toh hamara itna hi mahatva hai hamara hi mahatva hai hum sirf sab kuch se zyada hum nahi hain agar hoon toh sab kuch hai mere dwara hi saare vatavaran banaye jaate hain main hi har jagah ghum ghum ke logo se bf banata hoon prakirtik se apna sambandh banata hoon insano se apna sambandh banata hoon janwar se sambandh banata hai is baat ko log samjhne lage toh shayad yahi toh mushkil hai ki har baat karu samajh nahi sakta is baat ko har aadmi samjhne lage toh kabhi nirash nahi hua hathaash nahi hoga apne value ko dekh ke chalta rahega kabhi dusre ko blame nahi karega phir se bhi baat kare jab apni bhaiyo pata lag jaati hai toh aadmi hota hai kya ki apne nak kamyabi ka theekaraa dusre ke sir par padta hai isliye ke taraf ungli karta hai jiski wajah se ho gaya isme madad nahi kiya usne madhya di kya usne apni behen ji agar vo dusro ko blame nahi karega dusro ke hisab se apne hisab se vaah apna bhashan aayega apna ek baar mat banayega apni duniya banayega aur har insaan ko apni duniya banana hi padta hai vaah ho sakta hai accha ho sakta hai bura hoon uske mansikta par nirbhar hai tu kya sochta hai ki tips ka opposite marammat apni duniya me uth nahi hai jitna ki shrishti me bhagwan ka petrol tanki

यह सवाल आपका सबके लिए बहुत ही उपयोगी है क्या कि अक्सर लोग मन ही तो यह सोच नहीं पाता कि मेर

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Dr. Hemanth Kumar Nepal

Assistant Professor Government Sanskrit College Samdong

3:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छा आप का प्रश्न है कि हमारा महत्व क्या है हमारा महत्व क्या है वह मौत वह तो आप महत्व तो खुद को समझने वाली बात है महत्व आप क्या आप क्या दे सकते हो दूसरे को अपने परिवार को समाज को दिशा दे सकते हो यह मोह तो उस पर निर्भर करता है कि आप क्या देख सकते हो आप क्या कर सकते हो यह मोह को जो है मानो का भी मुकर नहीं करनी वैल्यूएशन करनी विषय करता है समाज 20 परिवार परिवार के लिए आप क्या दे सकते हो समाज के अपनों के लिए क्या दे सकते हो क्या कर सकते हो इसके लिए क्या कर सकते हो वह वेट करेंगे तब तब आपका मौत वह आप खुद को पता नहीं चलेगा मेरा ही महत्व है आपको कहना भी नहीं चाहिए कि यह मेरा यह महत्व है अब खुद को पता नहीं चलेगा आपका दूसरे दूसरे करें एक तरफ से दिखे व्यवहारिक पक्ष से देखा जाए तो अपना महत्व समझना वह रिस्पांसिबिलिटीज लेना है अपना महत्व लाइफ का रेस्पॉन्सिविटी से लेना है खुद की जीवन का वैल्यूएशन पूछना हां मैं भी कुछ हूं मेरा भी इसमें कुछ अस्तित्व है मुझे भी कुछ करना चाहिए खुद के लिए अपने के लिए समाज के लिए देश के लिए इस तरह से देखा जाए तो प्रत्येक व्यक्ति का अपना-अपना एक प्रतिभा होता है जो दूसरे व्यक्ति में नहीं होता है प्रत्येक व्यक्ति के पास अपना-अपना प्रतिभा होते हैं जो दूसरे के पास नहीं होता है इसीलिए इस प्रतिभा के कारण से एक दूसरे से भिन्न रहते हैं हम तुझे वहीं प्रतिभा के कारण आपका मौत को स्थापित होता है घर पर समाज पर देश की महत्वता दिए जो है दूसरे में नहीं है आपने जो मुंह है वह दूसरे दिन खींचे खींचे इसलिए हमारा हम सबका सबका व्यक्तिगत वैसा ही होता है इसलिए परिवार को समाज को देश को विकसित करना या विकास के पत्ते लाना या उसके विपरीत ले जाना यह हमारा कर्तव्य यह हमारे ऊपर ऊपर डिपेंड करता है व्यक्ति के प्रति व्यक्ति के अपना-अपना दूर होने से के कारण यह पता लग जाता है कि प्रत्येक व्यक्ति का महत्व है इसलिए हमारा महत्व नितांत रहता है

accha aap ka prashna hai ki hamara mahatva kya hai hamara mahatva kya hai vaah maut vaah toh aap mahatva toh khud ko samjhne wali baat hai mahatva aap kya aap kya de sakte ho dusre ko apne parivar ko samaj ko disha de sakte ho yah moh toh us par nirbhar karta hai ki aap kya dekh sakte ho aap kya kar sakte ho yah moh ko jo hai maano ka bhi mukar nahi karni vailyueshan karni vishay karta hai samaj 20 parivar parivar ke liye aap kya de sakte ho samaj ke apnon ke liye kya de sakte ho kya kar sakte ho iske liye kya kar sakte ho vaah wait karenge tab tab aapka maut vaah aap khud ko pata nahi chalega mera hi mahatva hai aapko kehna bhi nahi chahiye ki yah mera yah mahatva hai ab khud ko pata nahi chalega aapka dusre dusre kare ek taraf se dikhe vyavaharik paksh se dekha jaaye toh apna mahatva samajhna vaah rispansibilitij lena hai apna mahatva life ka respansiviti se lena hai khud ki jeevan ka vailyueshan poochna haan main bhi kuch hoon mera bhi isme kuch astitva hai mujhe bhi kuch karna chahiye khud ke liye apne ke liye samaj ke liye desh ke liye is tarah se dekha jaaye toh pratyek vyakti ka apna apna ek pratibha hota hai jo dusre vyakti me nahi hota hai pratyek vyakti ke paas apna apna pratibha hote hain jo dusre ke paas nahi hota hai isliye is pratibha ke karan se ek dusre se bhinn rehte hain hum tujhe wahi pratibha ke karan aapka maut ko sthapit hota hai ghar par samaj par desh ki mahatvata diye jo hai dusre me nahi hai aapne jo mooh hai vaah dusre din khinche khinche isliye hamara hum sabka sabka vyaktigat waisa hi hota hai isliye parivar ko samaj ko desh ko viksit karna ya vikas ke patte lana ya uske viprit le jana yah hamara kartavya yah hamare upar upar depend karta hai vyakti ke prati vyakti ke apna apna dur hone se ke karan yah pata lag jata hai ki pratyek vyakti ka mahatva hai isliye hamara mahatva nitant rehta hai

अच्छा आप का प्रश्न है कि हमारा महत्व क्या है हमारा महत्व क्या है वह मौत वह तो आप महत्व तो

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
user

Dinesh Kumar Tiwari

Teacher,Storyteller,Motivational Speaker

2:19
Play

Likes  15  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
user
1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप जानना चाहते हैं कि हमारा महत्व क्या है मेवाड़ महोत्सव के सबसे बड़ा महत्व है कि भगवान ने आपको कीड़ा मकोड़ा नहीं बनाया कोई जानवर नहीं बनाया के साथ नहीं बनाया कछु नहीं बनाया कुछ भी नहीं बनाया तो क्या फायदा नहीं बनाया आप को इंसान बनाया इंसान को शुरू करते हैं जिसने पैदा किया सबसे अच्छा के सबसे बड़ा है तो सबसे बड़ा महत्व तो यही है कि भगवान ने आकर्षक बनाया है अब आपका फर्ज बनता है कि आप इंसान बनाया है तो इंसान बन के दिखाइए जो कुछ इंसान को करना चाहिए वह करके दिखाइए आप ज्यादा इस बात पर कंसंट्रेट कीजिए भगवान को जो हिसाब को देनी थी जो ब्लेसिंग देनी थी आपके उस में था अच्छा सा था वह कर दिया वह अपने अपने लोगों के काम आएगी लोगों को पता है किसी को धोखा मत दीजिए वह चोरी मत कीजिए कनेक्शन की तरह मत जाएगी अच्छे काम कीजिए सबको अच्छे काम के लिए वह कीजिए मदद पाठ पढ़ाइए सिखाइए हमको और एक इंसान और क्या

aap janana chahte hain ki hamara mahatva kya hai mewad mahotsav ke sabse bada mahatva hai ki bhagwan ne aapko kida makoda nahi banaya koi janwar nahi banaya ke saath nahi banaya kachu nahi banaya kuch bhi nahi banaya toh kya fayda nahi banaya aap ko insaan banaya insaan ko shuru karte hain jisne paida kiya sabse accha ke sabse bada hai toh sabse bada mahatva toh yahi hai ki bhagwan ne aakarshak banaya hai ab aapka farz banta hai ki aap insaan banaya hai toh insaan ban ke dikhaiye jo kuch insaan ko karna chahiye vaah karke dikhaiye aap zyada is baat par concentrate kijiye bhagwan ko jo hisab ko deni thi jo blessing deni thi aapke us me tha accha sa tha vaah kar diya vaah apne apne logo ke kaam aayegi logo ko pata hai kisi ko dhokha mat dijiye vaah chori mat kijiye connection ki tarah mat jayegi acche kaam kijiye sabko acche kaam ke liye vaah kijiye madad path padhaiye sikhaiye hamko aur ek insaan aur kya

आप जानना चाहते हैं कि हमारा महत्व क्या है मेवाड़ महोत्सव के सबसे बड़ा महत्व है कि भगवान ने

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  258
WhatsApp_icon
user
0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत बड़ा महत्व क्यों महत्व है क्योंकि हमारे ऊपर एक कर्ज अपनी मां-बाप अपनी बहनों का अपने भाइयों का सेवा करना यह बहुत बड़ा हमारे ऊपर कर दें हम जो लोग भी हैं इसलिए हमारा जिंदगी का बहुत बड़ा महत्व है कि हम अपने पूरे विवाह पूरे परिवार को अपने लिए नहीं अपने पूरे परिवार के लिए जिए और पूरा महत्व अपना जितना भी हो सके अपने जीवन का एक के खून का खर्चा उस परिवार के लिए पहाड़ जिन्होंने हमें खिला पिला कर पढ़ा लिखा कर आज इस मुकाम तक पहुंचाया है

bahut bada mahatva kyon mahatva hai kyonki hamare upar ek karj apni maa baap apni bahnon ka apne bhaiyo ka seva karna yah bahut bada hamare upar kar de hum jo log bhi hain isliye hamara zindagi ka bahut bada mahatva hai ki hum apne poore vivah poore parivar ko apne liye nahi apne poore parivar ke liye jiye aur pura mahatva apna jitna bhi ho sake apne jeevan ka ek ke khoon ka kharcha us parivar ke liye pahad jinhone hamein khila pila kar padha likha kar aaj is mukam tak pahunchaya hai

बहुत बड़ा महत्व क्यों महत्व है क्योंकि हमारे ऊपर एक कर्ज अपनी मां-बाप अपनी बहनों का अपने भ

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  77
WhatsApp_icon
user

अनिल कुमार मिश्रा

पुजारी,, जन सेवा ,देशी जड़ी द्वारा

2:25
Play

Likes  56  Dislikes    views  880
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!