हम ईश्वर पर विश्वास करें या साईं पर?...


play
user

Narendra Bhardwaj

Spirituality Reformer

2:11

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महोदय आपने पूछा हम ईश्वर पर विश्वास करें या साईं पर भैया आप जिस पर विश्वास कर लोगे वहीं भगवान बन जाएगा क्योंकि भगवान हमारे विश्वास से प्रकट होते हैं हम मूर्ति में विश्वास करते हैं तो मूर्ति में भगवान प्रकट हो जाता है भैया नामदेव जी को तो कुत्ते में भगवान दिख रहे थे आपका विश्वास है जिसमें हो आपकी दृष्टि जैसी हो सृष्टि आपकी वैसे रहे आप साईं में भगवान देख रहे तो साईं भगवान दिखाई देंगे साईं भगवान बन जाएंगे साईं भगवान आपकी श्रद्धा और विश्वास किस में है उस बात से फर्क पड़ता है आप पत्थर में जो विश्वास और श्रद्धा लगा देते हैं तो पत्थर में भगवान प्रकट हो जाता है साईं में लगा देते हैं तो साईं भगवान स्वरूप हो जाते हैं किसी वृक्ष में लगा दोगे वृक्ष भगवान बन जाएगा भैया प्रकृति में जो भी है जिसमें आपकी श्रद्धा और भाव हो गए क्योंकि भगवान भाव से प्रकट होते भगवान भाव के भूखे हैं आपके प्रेम के भूखे हैं आप के समर्पण के भगवान के प्रति हमारा भाव हो जाता है भाव बन जाता है प्रेम करुणा से भगवान जिस रूप में आप चाहे तो उसी रूप में प्रगट हो जाता है फिर गुसाईं का स्वरूप और गणेश का स्वरूप हनुमान का स्वरूप दुर्गा का रूप से उनका स्वरूप और राम का स्वरूप और कृष्ण का स्वरूप कोई भी स्वरूप हो सकता है आप किस रूप में उनको भरते हैं वह ग्रुप में आप को स्वीकार करते हैं कहते हैं किसी भी ग्रुप में आप हमें अपना के तो देखो तो आप यदि साईं पर भरोसा करते हैं तो साईं सच्चिदानंद पर भरोसा करते हैं तो उससे भी सच्चिदानंद राम पर भरोसा करते तो राम सच्चिदानंद भरोसा करते तो कृष्ण सच्चिदानंद आपका विश्वास और श्रद्धा जिस पर है सच्चिदानंद भैया जिस में भी लग जाए लगन लगा लो अपने भाव से जिसको भी मानते हो भानु सर्वत्र भगवान है धन्यवाद

mahoday aapne poocha hum ishwar par vishwas kare ya sai par bhaiya aap jis par vishwas kar loge wahi bhagwan ban jaega kyonki bhagwan hamare vishwas se prakat hote hain hum murti me vishwas karte hain toh murti me bhagwan prakat ho jata hai bhaiya namdev ji ko toh kutte me bhagwan dikh rahe the aapka vishwas hai jisme ho aapki drishti jaisi ho shrishti aapki waise rahe aap sai me bhagwan dekh rahe toh sai bhagwan dikhai denge sai bhagwan ban jaenge sai bhagwan aapki shraddha aur vishwas kis me hai us baat se fark padta hai aap patthar me jo vishwas aur shraddha laga dete hain toh patthar me bhagwan prakat ho jata hai sai me laga dete hain toh sai bhagwan swaroop ho jaate hain kisi vriksh me laga doge vriksh bhagwan ban jaega bhaiya prakriti me jo bhi hai jisme aapki shraddha aur bhav ho gaye kyonki bhagwan bhav se prakat hote bhagwan bhav ke bhukhe hain aapke prem ke bhukhe hain aap ke samarpan ke bhagwan ke prati hamara bhav ho jata hai bhav ban jata hai prem corona se bhagwan jis roop me aap chahen toh usi roop me pragat ho jata hai phir gusain ka swaroop aur ganesh ka swaroop hanuman ka swaroop durga ka roop se unka swaroop aur ram ka swaroop aur krishna ka swaroop koi bhi swaroop ho sakta hai aap kis roop me unko bharte hain vaah group me aap ko sweekar karte hain kehte hain kisi bhi group me aap hamein apna ke toh dekho toh aap yadi sai par bharosa karte hain toh sai sacchidanand par bharosa karte hain toh usse bhi sacchidanand ram par bharosa karte toh ram sacchidanand bharosa karte toh krishna sacchidanand aapka vishwas aur shraddha jis par hai sacchidanand bhaiya jis me bhi lag jaaye lagan laga lo apne bhav se jisko bhi maante ho bhanu sarvatra bhagwan hai dhanyavad

महोदय आपने पूछा हम ईश्वर पर विश्वास करें या साईं पर भैया आप जिस पर विश्वास कर लोगे वहीं भग

Romanized Version
Likes  121  Dislikes    views  809
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!